विज्ञापन
विज्ञापन
पर्सनलाइज्ड रिपोर्ट से जानें क्या वर्ष 2021 में आपको मिलेगा मनचाहा साथी ?
astrology

पर्सनलाइज्ड रिपोर्ट से जानें क्या वर्ष 2021 में आपको मिलेगा मनचाहा साथी ?

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

बसपा से निलंबन पर बोलीं विधायक वंदना सिंह, मैं बेकसूर, सपा में शामिल होने को लेकर भी दिया बयान

अनुशासनहीनता और पार्टी विरोधी गतिविधियों के मामले में बड़े और कड़े फैसले लेने के लिए चर्चित बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने गुरुवार को फिर बड़ा एक्शन लिया है। राज्यसभा सदस्य चुनाव में पार्टी विरोधी कार्यों पर उन्होंने सात विधायकों को निलंबित कर दिया है। इसके साथ ही इन सभी की विधानसभा से सदस्यता समाप्त करने की कार्यवाही भी की जा रही है।

सात विधायकों में आजमगढ़ जिले के सगड़ी विधानसभा से बसपा विधायक वंदना सिंह भी शामिल हैं। हालांकि उन्होंने अपने आप को बेकसूर बताते हुए कहा कि उन्होंने हमेशा पार्टी के हित के लिए कार्य किया है। उनकी आस्था अब भी बसपा के साथ है।

सगड़ी विधायक वंदना सिंह को बसपा से निलंबित किए जाने पर चर्चाओं का बाजार गरम है। विधायक वंदना सिंह ने इसे सरासर गलत बताया है। कार्रवाई से बसपा समर्थको में हड़कंप मचा हुआ है। विधायक वंदना सिंह ने बताया कि मुझे क्यों निकाला गया, मुझे समझ में नहीं आ रहा है। मैं अपने आवास पर हूं।

बसपा के बड़े नेताओं से भी बात हो रही थी। वहीं, बुधवार रात उन्होंने सपा में शामिल होने की बातों से इंकार किया था। एक न्यूज चैनल पर इस तरीके की अफवाह फैलाने का ठीकरा फोड़ा था। उनके प्रतिनिधि संतोष सिंह उर्फ टीपू ने भी इसे अफवाह बताया था।
... और पढ़ें

वाराणसी: गंगा में मछली पकड़ रहे थे मछुआरे, अचानक जाल में फंसी डॉल्फिन, और फिर...

वाराणसी में गंगा में मछली पकड़ते समय जाल में डॉल्फिन फंस गई। इस दौरान मछुआरों ने गंगा प्रहरी दर्शन निषाद को फोन कर सूचना दी। इसके बाद डॉल्फिन को गंगा में छोड़ दिया।
वाराणसी में गुरुवार को दोपहर 12 बजे चहनिया के ग्राम सभा सोनबरसा टांडाकला वन क्षेत्र में मछली पकड़ते समय जाल में डॉल्फिन फंस गई थी। जाल में डॉल्फिन को फंसा देख मछुआरों ने डॉल्फिन संरक्षण को लेकर जागरूक करने वाले दर्शन निषाद गंगा प्रहरी को फोन करके सूचना दी।


उन्होंने फोन पर बताया कि मछली को सही से लोकनी रख दें। दर्शन निषाद ने इस दौरान जिला वन अधिकारी और भारतीय वन्यजीव संस्थान देहरादून संबंधित वैज्ञानिक को सूचना दी। इसके बाद मौके पर दर्शन निषाद भी पहुंच गए।
... और पढ़ें

पिता ने भी लड़ा था राज्यसभा का चुनाव, लेकिन करना पड़ा था हार का सामना, बेटे प्रकाश बजाज का भी पर्चा खारिज

राज्यसभा चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी प्रकाश बजाज का पर्चा खारिज होने के बाद सपा के मंसूबे पर पानी फिर गया। प्रकाश बजाज को छोड़कर बाकी सभी 10 उम्मीद्वारों के पर्चे वैध पाए गए हैं। प्रकाश के पिता पहले राज्यसभा चुनाव हार चुके थे। अब बेटे का पर्चा खारिज हो गया है।
निर्दलीय मैदान में उतरे सपा समर्थित प्रकाश बजाज का पर्चा खारिज होने के पीछे कारण बताया गया कि प्रस्तावक में सपा विधायक नवाब जान के स्थान पर नवाब शाह लिख दिया गया था। इस नाम का कोई विधायक सदन की सूची में न होने के कारण प्रकाश बजाज के प्रस्तावकों के नाम गलत पाए गए।


ऐसी स्थिति में पर्चा खारिज कर दिया गया। अब भाजपा के 8, सपा के रामगोपाल और बसपा के रामजी गौतम का निर्विरोध निर्वाचन तय हो गया है। 
... और पढ़ें

वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम से बनाया फर्जी ट्रस्ट, 10 पर मुकदमा

वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदर दास मोदी जन कल्याणकारी ट्रस्ट बनाकर किए गए फर्जीवाड़े का भंडाफोड़ हुआ है। प्रकरण को लेकर उप निबंधक सदर द्वितीय हरीश चतुर्वेदी की तहरीर के आधार पर कैंट थाने में 10 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। मुकदमा दर्ज कर पुलिस चार लोगों से पूछताछ कर रही है।

उप निबंधक सदर द्वितीय के अनुसार दुर्गाकुंड क्षेत्र के कबीर नगर निवासी अजय पांडेय ने फर्जी दस्तावेज तैयार कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम से बीती 14 जुलाई को फर्जी ट्रस्ट पंजीकृत कराया था। कागजातों की जांच की गई तो अजय का फर्जीवाड़ा उजागर हुआ। इस ट्रस्ट के ट्रस्टी 10 लोग हैं। यह सभी प्रधानमंत्री के नाम से ट्रस्ट बनाकर समाज के सम्मानित लोगों से ठगी कर रहे हैं।

इसलिए सभी के खिलाफ धोखाधड़ी सहित अन्य आरोपों में मुकदमा दर्ज कराया गया है। जिनके खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है उनमें अजय पांडेय के अलावा वाराणसी का प्रदीप कुमार सिंह, नवलपुर बसही का सोनू कुमार गुप्ता, महागांव गरथमा का विकास मिश्रा, सरसौली कैंट की प्रिया श्रीवास्तव, हुकुलगंज कैंट का अनिल, अनेई की रंजीता सिंह, अर्दली बाजार का शाहबाज खान, बलिया जिले के बैरिया का रवींद्रनाथ पांडेय और बलिया के बेलहरी का अविनाश सिंह शामिल है।

इस संबंध में इंस्पेक्टर कैंट राकेश कुमार सिंह ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर तफ्तीश की जा रही है। जल्द ही नामजद आरोपियों और प्रकरण की साजिश में शामिल सभी लोगों को गिरफ्तार किया जाएगा।
... और पढ़ें
प्रधानमंंत्री नरेंद्र मोदी प्रधानमंंत्री नरेंद्र मोदी

दो दिवसीय दौरे पर आज वाराणसी आ रहे सीएम योगी, विकास कार्यों की समीक्षा के साथ करेंगे स्थलीय निरीक्षण 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दौरे पर आज वाराणसी आएंगे। शाम को मुख्यमंत्री विकास कार्यों और कानून व्यवस्था की समीक्षा करेंगे। इसके अलावा विकास परियोजनाओं का स्थल निरीक्षण भी करेंगे। वे सेवापुरी इलाके में नीति आयोग की योजना की विस्तृत रिपोर्ट देखेंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शाम को ही वाराणसी पहुंचेंगे। सर्किट हाउस में समीक्षा बैठक के बाद देर रात काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन के साथ ही परियोजनाओं का स्थलीय निरीक्षण करेंगे।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि सीएम कुछ परियोजनाओं का उद्घाटन भी करेंगे। इसके अलावा कोरोना काल में स्वास्थ्य सुविधाओं की हकीकत जानने के लिए मुख्यमंत्री अस्पताल का भी दौरा कर सकते हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से इसकी तैयारी भी चल रही है।
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़ से फिर सोनभद्र पहुंचा जंगली हाथियों का दल, मचा हड़कंप, एक महीने पहले भी मचाया था उत्पात

छत्तीसगढ़ की सीमा से सटे सोनभद्र के बभनी थाना क्षेत्र के रम्पाकुरर गांव में गुरुवार की रात अचानक करीब डेढ़ दर्जन हाथियों का झुण्ड पहुंच गया। झुंड पहुंचते ही गांव में हड़कंप मच गया और लोगों ने शोर मचाना शुरू कर दिया। सूचना मिलने पर ग्रामीणों ने इसकी जानकारी बभनी वन क्षेत्राधिकारी को दी।

वन क्षेत्राधिकारी की टीम गांव पहुंच कर हाथियों को जंगलों में खदेड़ने में जुट गई। हाथियों का चिंघाड़ सुनते ही ग्रामीण सहम गए। हाथियों ने रम्पाकुरर गांव में शंकर प्रसाद, हीरामन, शंकुतला देवी और चीतामन के धान की फसल को काफी नुकसान पहुंचाया। हाथियों के डर से गांव में हड़कंप मच गया है।

अगस्त माह में भी हाथियों के झुंड ने सीमावर्ती गांवों डूमरहर, रंपाकुरर, नवाटोला, महुआदोहर,मंगरमाड में ग्रामीणों की फसलों और घरों को नुकसान पहुंचाया था। काफी समय बाद वन विभाग की टीम हाथियों के झुंड को जगलों में खदेड़ने में कामयाब हो सकी।

लगातार दो वर्षों से हाथियों का झुण्ड सीमावर्ती गांवों में उत्पात मचाने के बाद वापस हो जा रहे हैं, लेकिन विभाग की तरफ से कोई ठोस कदम अब तक नहीं उठाया गया और न ही आज तक विभाग द्वारा किसानों को फसल की क्षतिपूर्ति ही दी गई।
वनक्षेत्राधिकारी अवध नारायण मिश्रा ने बताया कि रंपाकुरर गांव में हाथियों के होने की सूचना मिली है। वह स्वयं टीम के साथ निगरानी में लगे हैं। झुण्ड से ग्रामीणों की फसलों को नुकसान पहुंचने की सूचना भी मिली है।
... और पढ़ें

यूपी के बलिया में पुलिस चौकी में युवक को रातभर पीटा, सोशल मीडिया पर वायरल 

बलिया जिले के उभावं थाना क्षेत्र में महिला, बेटों और पति को पीटने का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ कि अब शहर कोतवाली पुलिस का एक और कारनामा चर्चा में हैं। इस बार कोतवाली की चौकी शिवपुर दियर की पुलिस पर आरोप है कि उसने एक पक्ष से पैसा लेकर दूसरे पक्ष के युवक की हाथ-पैर बांधकर रातभर पिटाई की। उसकी हालत बिगड़ने पर घर भेज दिया।

इसके बाद परिजनों ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। जब इसकी भनक मीडिया वालों को हुई तो देखते ही देखते मामला सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इसके बाद एसपी देवेंद्रनाथ ने मामले की जांच सीओ सिटी को सौंपी है।

शिवपुर निवासी सुनील यादव मकान का निर्माण करा रहा था। इसे दूसरे पक्ष के रामशंकर यादव ने रोकना चाहा। इससे दोनो पक्षों में विवाद हो गया। चौकी पुलिस को जैसे ही इसकी सूचना मिली, वह मौके पर पहुंची और दोनो पक्षों को चौकी ले आई।

चौकी पुलिस पर आरोप है कि निर्माण रुकवाने वाले रमाशंकर से रुपये लेकर छोड़ दिया गया तथा निर्माण कराने वाले सुनील यादव को हाथ-पैर बांधकर रात भर बेरहमी से पिटाई की गई और बेहोश होने पर घर भेज दिया। घर पर जब सुनील की तबीयत बिगड़ने लगी तो परिजनों ने जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया।
 
 
... और पढ़ें

सपा नेता ने मऊ पुलिस पर लगाया आरोप, कहा-साजिशन मुख्तार से नाम जोड़ कर लाइसेंस किए निरस्त 

अस्पताल में भर्ती कराते परिजन
मऊ शहर के भीटी मोहल्ला निवासी ठेकेदार और सपा नेता हजारी प्रसाद सिंह ने गुरुवार को कहा कि मुख्तार अंसारी से उनका नाम जोड़कर साजिश के तहत उनके ठेके का लाइसेंस निरस्त कराया गया है। कहा कि मैं शुरू से ही मुख्तार अंसारी का विरोधी रहा हूं।  

हजारी सिंह ने प्रेस नोट जारी कर कहा कि सपा की राजनीति में सक्रिय भूमिका अदा करते हुए वो समाज सेवा का काम करते हैं, अब दूसरे दल में रहने से ऐसी कार्रवाई कराना न्याय संगत नहीं है। बोले, लाइसेंस निरस्त करने में पुलिस ने जिन मुकदमों का हवाला दिया, वह पार्टी का जिला उपाध्यक्ष होने के कारण राजनीति से प्रेरित मामले हैं, न कि कोई चोरी और डकैती डाली है।

15 वर्ष पहले उनके खिलाफ मामले दर्ज हुए थे, कोर्ट में ट्रायल के दौरान सभी मामलों में वह दोष मुक्त हो चुके हैं। सपा प्रत्याशी के साथ चुनाव प्रचार के दौरान सदैव मुख्तार के विरुद्ध प्रचार करता रहा हूं, इसके चलते मुख्तार और उनके करीबी उनसे रंजिश भी रखते हैं।

कहा कि पत्रकार द्वारिका नाथ गुप्ता पर मुख्तार अंसारी और उनके गुर्गों द्वारा किए गए हमले की घटना में वह द्वारिका नाथ गुप्ता की तरफ से मुख्य गवाह रहे, तो ऐसे में उनका संबंध कैसे मुख्तार से हो सकता है। मेरी पत्नी माया सिंह पर वर्ष 2014 से अब तक पर कोई मुकदमा नहीं है।  बता दें, एसपी की रिपोर्ट पर डीएम अति सिंह बंसल ने बुधवार को भीटी निवासी हजारी प्रसाद की पत्नी माया सिंह और पिता के नाम से जारी लाइसेंस को निरस्त कर दिया था।
... और पढ़ें

यूपी: डिप्टी सीएम ने दिनेश चंद्र शर्मा ने विपक्ष पर साधा निशाना, बोले-जनता तय करे विकास चाहिए या गुंडाराज  

उप मुख्यमंत्री दिनेश चंद्र शर्मा ने गुरुवार को जौनपुर जिले के नौपेड़वा में मल्हनी सीट से भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित किया। केंद्र और प्रदेश सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होंने मल्हनी के विकास के लिए ट्रिपल इंजन लगाने की सरकार बनाने पर जोर दिया। कहा कि देश-प्रदेश में भाजपा की सरकार है और मल्हनी में भाजपा का कमल खिला तो विकास की गति तेज होगी। इस चुनाव से तय होगा कि मल्हनी की जनता विकास चाहती है या गुंडाराज। 

यादवेश इंटर कॉलेज में आयोजित सभा में उन्होंने जनता से भयमुक्त होकर मतदान की अपील की। कहा कि हमारे विधायक जहां भी हैं, विकास हुआ है। विकास चाहिए तो विधायक आपका होना चाहिए। हम परिवर्तन करके ही क्षेत्र का विकास कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि देश का वातावरण बदला है। कश्मीर में 70 साल की समस्या का निदान हुआ है। कश्मीर में आज भी आतंकी आते हैं, मगर वहां से सीधे जहन्नुम में जाते हैं।

सरकार जल्द ही तीन लाख नौकरियां देने जा रही है। निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय निषाद ने कहा कि मतदाता अब पौवा के लिए नहीं, बल्कि पावर के लिए मतदान करेगा। उन्होंने कहा कि निषादों को जो सम्मान मोदी योगी की सरकार ने दिया है, वह किसी ने नहीं दिया।

कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि मल्हनी चुनाव प्रदेश के विकास की दिशा तय करेगा। यह तय होगा कि मल्हनी की जनता विकास चाहती है या गुंडाराज। सभा में कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर, उपेंद्र तिवारी, गिरीशचंद यादव, सांसद बीपी सरोज, प्रवीण निषाद, सीमा द्विवेदी सहित सभी विधायक और पदाधिकारी मौजूद रहे।
... और पढ़ें

मुख्तार अंसारी के करीबी महेंद्र जायसवाल की संपत्ति कुर्क, भवन और भूमि को किया जब्त

मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के करीबी महेंद्र जायसवाल का घर गुरुवार को कुर्क कर दिया गया। गैंगस्टर एक्ट में वांछित महेंद्र के खिलाफ गाजीपुर जिलाधिकारी एमपी सिंह के निर्देश पर सीओ सिटी ओजस्वी चावला के नेतृत्व में पुलिस फोर्स व पीएसी की मौजूदगी में कार्रवाई की गई। महेंद्र के शहर कोतवाली क्षेत्र में स्थित मकान एवं जमीन के प्लाट को सील कर दिया गया है।

मुख्तार अंसारी पर शासन व प्रशासन का डंडा लगातार चल रहा है। मुख्तार के परिजन, करीबी, रिश्तेदार तथा गैंग से जुड़े लोगों की सूची जिला प्रशासन ने तैयार कर ली है। एक-एक कर कार्रवाई जारी है। पिछले छह महीने से चल रही कार्रवाई का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इससे अंसारी बंधु तथा उनके समर्थक भी चिंतित रहने लगे हैं। बहुतों ने जनपद, तो कुछ ने प्रदेश छोड़कर अन्यत्र शरण ली है।

इसी कड़ी में बृहस्पतिवार को सायंकाल शहर कोतवाली क्षेत्र के गोड़ा देहाती में जिला एवं पुलिस प्रशासन ने मुनादी के बीच मुख्तार अंसारी के करीबी महेंद्र जायसवाल के दो मकानों को डुगडुबी पिटवाते हुए कुर्क करने की कार्रवाई की। साथ ही दोनों मकानों को सील कर दिया। सीओ सदर ओजस्वी चावला ने बताया कि मुख्तार अंसारी आईएस-191 गैंग का महेंद्र जायसवाल सक्रिय सदस्य है। यह गैंगेस्टर एक्ट के तहत वांछित चल रहा था।
 
... और पढ़ें

डीरेका का बदला नाम, अब होगा बनारस रेल इंजन कारखाना, केंद्र सरकार ने जारी किया पत्र 

वाराणसी के मंडुवाडीह रेलवे स्टेशन के बाद अब डीजल रेल इंजन कारखाना का भी नाम बदलेगा। केंद्र सरकार ने डीरेका का नाम बदलकर बनारस रेल इंजन कारखाना करने का आदेश पत्र जारी किया है। गुरुवार को तत्काल प्रभाव से नामकरण किए जाने का निर्देश दिया गया है। दो माह पूर्व मंडुवाडीह रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर बनारस स्टेशन किया गया था। 

डीजल इंजन का उत्पादन कम होने के बाद से ही नामकरण को लेकर लगभग साल भर से ही यह कवायद चल रही थी। तीन नामों का प्रस्ताव साल भर पहले भेजा गया था। इसमें दीनदयाल लोको वर्क्स, बनारस लोकोमोटिव और काशी लोकोमोटिव था। डीरेका में अब इलेक्ट्रिक इंजन का उत्पादन अधिक है।

इसलिए नाम बदलकर बनारस किए जाने को लेकर डीरेका कर्मी भी उत्साहित हैं। कर्मियों के अनुसार डीजल इंजन और इलेक्ट्रिकल इंजन का भेद खत्म हो जाएगा। अब पूरे विश्व में बनारस लोको का ही नाम जाएगा। यह बनारस वालों के लिए और भी गर्व की बात है। केंद्र सरकार की अच्छी पहल है।

डीरेका की नींव देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने 23 अप्रैल 1956 में रखी थी। इसके लगभग पांच साल बाद अगस्त 1961 डीजल लोकोमोटिव वर्क्स प्रभाव में आया। जनवरी 1964 में प्रथम रेल इंजन राष्ट्र को समर्पित हुआ था।
... और पढ़ें

कांग्रेस नेता अजय राय ने केंद्र और प्रदेश सरकार पर किया कटाक्ष, बोले-चुनावी भीड़ को अनुमति, धार्मिक परंपराओं पर रोक  

कांग्रेस के पूर्व विधायक अजय राय ने केंद्र और प्रदेश सरकार पर हमला बोला। पूर्व विधायक ने सवाल उठाते हुए कहा कि कोरोना के भय से धार्मिक परंपराओं पर रोक लगा दी गई लेकिन चुनावी रैलियों में हजारों की भीड़ को अनुमति है। धर्म और संस्कृति की बात करने वाली भाजपा हर चीज राजनीतिक लाभ के लिए ही करती है।

गुरुुवार को कैंप कार्यालय पर प्रेसवार्ता में अजय राय ने केंद्र और प्रदेश सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि क्या राजनीतिक भीड़ महामारी रोकने वाली और सांस्कृतिक व धार्मिक भीड़ महामारी फैलाने वाली होती है। काशी में रामनगर की रामलीला, पंचक्रोशी परिक्रमा, नाटी इमली के मैदान का भरत मिलाप स्थगित कर दिया गया। परंपरा निभाने के लिए भरत मिलाप अयोध्या भवन में किया गया। 

पूर्व विधायक ने कहा कि हम सरकार के जनविरोधी फैसले का प्रतिवाद करते हैं। संविधान एवं लोकतंत्र से मिले स्वतंत्रता के अधिकार केवल राजनीति के दास नहीं बल्कि उनपर समाज का हक है। चुनाव प्रचार के लिए वर्चुअल माध्यम होने के बाद भी पीएम, सीएम प्रदेश में बड़ी चुनावी सभाएं कर रहे हैं।

दूसरी तरफ जनता की आस्था एवं सांस्कृतिक विरासत से जुड़ी ऐतिहासिक परंपराओं को महामारी के नाम पर ध्वस्त कर जनमानस की आस्था को रौंदा जा रहा है। लोकल फार वोकल की बात करने वाले बुनकरों को ही समाप्त करने पर तुले हुए हैं। बुनकरों के साथ वादाखिलाफी कर पीढि़यों के रोजगार और बनारसी साड़ी के कारोबार को खत्म करने पर उतारू हैं।
... और पढ़ें

वाराणसी के मिर्जामुराद में ₹200 के जाली नोट के साथ एक गिरफ्तार, दुकानदार को देते समय ग्रामीणों ने पकड़ा 

वाराणसी के मिर्जामुराद क्षेत्र की बेनीपुर सब्जी मंडी में गुरुवार को बाइक सवार एक युवक 200 का जाली नोट दुकानदार को देने के दौरान ग्रामीणों द्वारा पकड़ा गया। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने युवक को पकड़ कर उसके पास से 200 के चार जाली नोट बरामद किए। युवक से पुलिस की पूछताछ जारी है।

मिर्जापुर जिले के नेवढ़िया घाट निवासी लक्ष्मण प्रसाद कसेरा शाम के समय अपनी बाइक से बेनीपुर गांव स्थित सब्जी मंडी में आया। एक दुकान पर वह 20 रुपये की सब्जी खरीद कर 200 का नोट दुकानदार को दिया। दुकानदार ने नोट को देखा और बताया कि यह जाली है। जाली नोट की खबर सुनते ही बाजार में लोगों की भीड़ लग गई।

इस संबंध में मिर्जामुराद इंस्पेक्टर सुनील दत्त दुबे ने बताया कि आरोपी के पास से चार जाली नोट बरामद हुए हैं। प्रारंभिक पूछताछ में उसने बताया कि उसका ससुर विंध्याचल में काम करता है और उसने ही उसे 200 के छह जाली नोट दिए थे।

छह जाली नोट में से दो को यह बाजार चला चुका है और चार अन्य को चलाने के प्रयास में था। फिलहाल पूछताछ जारी है और पता लगाया जा रहा है कि उसके पास जाली नोट कहां से आए।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X