बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
मदर्स डे पर अपनी माता की लम्बी आयु के लिए कराएं सामूहिक महामृत्युंजय मंत्रों का पाठ
Myjyotish

मदर्स डे पर अपनी माता की लम्बी आयु के लिए कराएं सामूहिक महामृत्युंजय मंत्रों का पाठ

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

यूपी: बीएचयू कोविड अस्पताल का आज सीएम करेंगे निरीक्षण, कोरोना पर समीक्षा बैठक भी होगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

मेरठ : कोरोना संक्रमित 7342 लोग हाे गए ‘लापता’, न अस्पताल में, न ही होम आइसोलेशन में 

मेरठ जिले में कोरोना संक्रमित पाए गए 7342 लोग ‘लापता’ हैं। लापता इसलिए, क्योंकि स्वास्थ्य विभाग की सक्रिय केसों की सूची में ये शामिल हैं, मगर न अस्पताल में हैं और न होम आइसोलेशन वाली सूची में। इसकी सबसे बड़ी वजह कोरोना मरीजों की सही से निगरानी न होना माना जा रहा है। 

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक जिले में शुक्रवार तक 14673 एक्टिव केस थे। अस्पतालों में 1865 और 5466 होम आइसोलेशन में हैं, लेकिन इन रिकॉर्ड में 7342 लोग नहीं हैं। कुछ लोग पहचान छिपाकर कोरोना की जांच कराने वाले हैं, जो स्वास्थ्य विभाग के लिए मुसीबत बने हैं।

रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद स्वास्थ्य विभाग उनका पता नहीं लगा पा रहा है। ऐसे में संक्रमण की चेन को रोक पाना विभाग के लिए मुश्किल हो रहा है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार, भर्ती और आइसोलेट मरीजों की कुल संख्या सक्रिय मरीजों से बहुत कम है। इन लापता मरीजों के बारे में विभाग को कोई जानकारी नहीं मिल पा रही है।

कई लोगों ने नाम बदलकर कोरोना जांच कराई और रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद गायब हो गए। इसके बाद आधार कार्ड लेकर टेस्ट किए जाने लगे। इसके बावजूद लापता मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। 
... और पढ़ें

अलीगढ़ : मालिक की हो गई कोरोना से मौत... उसके कुत्ते को ले लिया गोद

कोरोना वायरस संक्रमण के चलते एक व्यक्ति की मौत होने के बाद उसके अनाथ हुए पालतू कुत्ते को नौरंगाबाद की रहने वाली एनिमल एक्टिविस्ट प्रीत शर्मा ने गोद लिया है। इस तरह महामारी के दौरान इस युवा लड़की ने परोपकार की मिसाल पेश की है।

नौरंगाबाद की रहने वाली प्रीत शर्मा संगीत से एमए कर रही हैं। प्रीत शर्मा कहती हैं कि उन्हें कुछ दिन पहले जानकारी मिली थी कि पामेलियन ब्रीड के एक डॉग की देखभाल करने वाला अब कोई नहीं रह गया है क्योंकि जिन बुजुर्ग के साथ वह डॉग रहता था, उनकी कोरोना वायरस संक्रमण के चलते मृत्यु हो गई है। इसके बाद उन्होंने उस डॉग को गोद लेने का फैसला किया। 

प्रीत शर्मा कहती हैं कि वह निराश्रित गोवंश को जितना संभव हो सकता है, भोजन उपलब्ध कराने की दिशा में काम करती हैं। इसके अलावा, सड़कों पर घूमने वाले कुत्तों को भी उपलब्ध कराती हैं।  

वे कहती हैं कि संकट के समय में मनुष्य की सहायता करने के लिए तो बहुत व्यक्ति और संस्थाएं मौजूद हैं, लेकिन इन बेजुबान जानवरों की ओर लोगों का ध्यान कम है। जबकि इनकी आवश्यकताएं भी वैसी है जैसी मनुष्यों की होती है।
... और पढ़ें

लापरवाही: कोरोना संक्रमित महिला को रेफर कर अस्पताल से बाहर निकाला, एंबुलेंस के इंतजार में एक घंटे परेशान रही

ऑक्सीजन प्लांट पर अपनी बारी का इंतजार करते तीमारदार
मैनपुरी जिले में कोरोना संक्रमितों के जीवन के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। जिस मरीज को गंभीर हालत में रेफर किया जा रहा है। उसे एंबुलेंस आने से पहले ही बिना किसी ऑक्सीजन आदि की सुविधा के अस्पताल से बाहर कर दिया गया। करीब एक घंटे तक कोरोना संक्रमित महिला मरीज अस्पताल के बाहर तड़पती रही। एक घंटे बाद उसे एंबुलेंस मिली तो परिजन उसे फिरोजाबाद ले गए। 

थाना बेवर क्षेत्र के गांव पहरामऊ निवासी रमेश चंद्र की 55 वर्षीय पत्नी रासमती देवी को कोरोना संक्रमित होने पर परिजनों ने शुक्रवार शाम कोविड लेवल टू अस्पताल में भर्ती कराया था। शनिवार सुबह साढ़े 11 बजे महिला को गंभीर हालत में कोविड लेवल टू अस्पताल से रेफर करते हुए बाहर कर दिया गया। 

जिस महिला को गंभीर हालत के कारण रेफर किया गया था, उसे कोविड अस्पताल के स्टाफ ने बिना किसी ऑक्सीजन आदि के ही व्हील चेयर पर अस्पताल से बाहर कर दिया। अस्पताल के बाहर आने पर उन्हें करीब एक घंटे तक एंबुलेंस नहीं मिली। इससे परिजन परेशान रहे। एक घंटे तक महिला अस्पताल के बाहर तड़पती रही। करीब साढ़े 12 बजे उसके लिए सरकारी एंबुलेंस उपलब्ध हो सकी। 
... और पढ़ें

कोरोना काल : कानपुर में बिना अनुमति हो रही थी शूटिंग, नौ गिरफ्तार, थाने से जमानत

कानपुर की बिठूर पुलिस ने बिना अनुमति लवकुश वाटिका में शूटिंग कर रही टीम के हेड समेत नौ लोगों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। हालांकि देररात सभी को थाने से जमानत पर रिहा कर दिया गया। 

बिठूर थाना प्रभारी अमित मिश्रा ने बताया कि शुक्रवार दोपहर बिना अनुमति के लवकुश वाटिका में एक पत्रिका की शूटिंग की सूचना मिली थी। फोर्स संग मौके पर पहुंचे एसआई राम किशन मिश्रा ने शूटिंग हेड कुमार अभिषेक से सक्षम अधिकारी से अनुमति प्रमाणपत्र मांगा, जिसे वह नहीं दिखा सके।

अभिषेक ने बताया कि वह एक पत्रिका के लिए शूटिंग करने आए थे, जिसमें लखनऊ और मुंबई के कलाकार हैं। इस पर पुलिस ने महामारी अधिनियम, कर्फ्यू और धारा-144 का हवाला देते हुए शूटिंग बंद करा दी। साथ ही शूटिंग देखने जुटे लोगों को भगा दिया।

मामले में पुलिस ने शूटिंग यूनिट के असिस्टेंट फजलगंज निवासी विकास चतुर्वेदी, शूटिंग हेड कुमार अभिषेक, शूटिंग टेलिकास्ट अमजद हुसैन, आलोक श्रीवास्तव, रवि श्रीवास्तव, कलीम, आसिफ वेग, आशीष मिश्रा, संजय अवस्थी और 15-20  अज्ञात लोगों के खिलाफ आपदा प्रबंधन व महामारी अधिनियम की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया था। हालांकि देररात उन्हें निजी मुचलके पर थाने से रिहा कर दिया गया।
... और पढ़ें

तीसरी लहर का मुकाबला करने को तैयार रहें अफसर: मुख्यमंत्री योगी ने कोविड अस्पतालों में तेजी से जरूरी संसाधन बढ़ाने के निर्देश दिए

यूपी में कोरोना : प्रदेश में कम हो रही संक्रमितों की संख्या, शनिवार को सामने आए 26847 नए मामले

यूपी में दिन प्रति दिन कोरोना मरीजों की संख्या में कमी आती जा रही है। बीते 24 घंटे में प्रदेश में कोरोना के नए 26,847 मामले सामने आए हैं। वहीं, अस्पताल से 34,731 लोगों को डिस्चार्ज किया गया है।

प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने बताया कि कल प्रदेश में 2,23,155 सैंपल्स की जांच की गई, टेस्ट की संख्या लगातार बढ़ाई जा रही है। पिछले एक सप्ताह में सक्रिय मामलों में लगभग 60 हज़ार मामलों की कमी आई है।
 
बीते शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 28076 नए मामले सामने आए थे। हालांकि, 33117 मरीज स्वस्थ भी हुए जिनकी संख्या नए मरीजों से करीब पांच हजार ज्यादा है। शुक्रवार को प्रदेश में रिकॉर्ड 372 मौतें हुई हैं। इसके पहले पांच मई को 357 लोगों की मौत हुई थी। प्रदेश में बीते शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 28076 नए मामले सामने आए थे।


प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विशेषज्ञों का एक पैनल बनाया है जो कोविड वायरस के म्यूटेंट को ध्यान में रखते हुए रिपोर्ट तैयार कर रहे हैं। रिपोर्ट हमें एक-दो दिन में प्राप्त होगी। मृत्यु के मामलों में कुछ बढ़ोतरी हुई है पर संक्रमित कम हो रहे हैं।



वहीं, पूरे देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के कहर से हाहाकार मचा है। कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी से देश की स्वास्थ्य प्रणाली चरमरा गई। देश में जहां पिछले तीन दिन से हर रोज 4 लाख से अधिक नए कोरोना मरीज मिल रहे हैं। वहीं देश में पहली बार 24 घंटे में रिकॉर्ड 4,187 लोगों की कोरोना से मौत हो गई जोकि एक दिन में दर्ज की गई मौतों की अब तक की सबसे अधिक संख्या है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को यह जानकारी दी।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X