विज्ञापन
विज्ञापन
गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें
Myjyotish

गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Digital Edition

जाम से मिलेगी राहत: मेरठ में बनेंगी 50 पार्किंग, 34 के लिए जगह फाइनल, तीन जोन में बांटा शहर 

मेरठ नगर निगम ने शहर के प्रमुख बाजारों के आसपास लगभग 50 वाहन पार्किंग शुरू करने का निर्णय लिया है। 34 स्थानों का चयन कर लिया है। एमडीए और आवास विकास से भी चयनित पार्किंग स्थलों की सूची मांगी है। 

सभी पार्किंग पर पेयजल, शौचालय, प्रकाश और टीनशेड की व्यवस्था होगी। दीपावली से पहले निगम चार स्थानों पर वाहन पार्किंग का ठेका छोड़ देगा। नगर निगम ने वाहन पार्किंग स्थलों का चयन करने के लिए महानगर को तीन जोन में बांटा है। पार्किंग शुरू होने पर महानगर की जनता को जाम से राहत मिल सकेगी।

शास्त्रीनगर जोन में इन सहित 13 स्थान चयनित
-पशु चिकित्सालय परिसर, सूरजकुंड रोड  : 25 वाहन
-गढ़ रोड स्थित मधु नर्सिंग होम के निगम सरकारी भूमि :  200 वाहन
-तेजगढ़ी चौराहा के निकट सरकारी भूमि  : 200 वाहन
-गढ़ रोड स्थित मंशादेवी मंदिर के निकट निगम की भूमि : 250 वाहन
-सूरजकुंड पार्क परिसर में : 200 वाहन

यह भी पढ़ें : 
नियमों की अनदेखी: मेरठ में मोदी रबड़ ने बेच डाली सीलिंग की 117 एकड़ जमीन, तीन आईएएस करेंगे जांच
... और पढ़ें

सांसों पर संकट: बारिश के बाद फिर प्रदूषित हुई मेरठ की हवा, एक्यूआई 48 घंटे में 50 से 250 पर पहुंचा

मेरठ शहर की हवा में एक बार फिर प्रदूषण बढ़ गया है। सिर्फ 48 घंटे में ही एक्यूआई 50 से 250 पर पहुंच गया है। गुरुवार सुबह भी धुंध छाई रही। विशेषज्ञों का कहना है कि दिवाली तक प्रदूषण और बढ़ सकता है। इसलिए सतर्कता जरूरी है।
 
बारिश के बाद 18 अक्तूबर की शाम शहर का औसत एक्यूआई 50 रिकॉर्ड किया गया था। 20 तारीख की शाम को एक्यूआई पांच गुना बढ़ गया। उधर, मौसम में नमी बढ़ रही है। इससे रात के तापमान में गिरावट आ रही है। पिछले 24 से 48 घंटे में तापमान में भी लगातार बढ़ोतरी हुई है। बुधवार को अधिकतम आर्द्रता 78 व न्यूनतम 50 प्रतिशत दर्ज की गई।
 
मौसम वैज्ञानिक डॉ. यूपी शाही का कहना है कि आगामी तीन-चार दिन तक मौसम साफ रहेगा। दिन के तापमान में बढ़ोतरी होगी व रात का तापमान गिरेगा। 

यह भी पढ़ें: 
जाम से मिलेगी राहत: मेरठ में बनेंगी 50 पार्किंग, 34 के लिए जगह फाइनल, तीन जोन में बांटा शहर 
... और पढ़ें

मेरठ: लखीमपुर खीरी में शहीद हुए किसानों को सिवाया टोल प्लाजा पर दी श्रद्धांजलि  

लखीमपुर खीरी हिंसा में शहीद हुए किसानों को गुरुवार को सिवाया टोल प्लाजा पर श्रद्धांजलि दी गई। दरअसल, हिंसा में शहीद हुए किसानों की अस्थियों को लेकर किसान 11 बजे हरिद्वारा के लिए निकले।

इस दौरान किसान एनएच-58 से निकलते हुए सिवाया टोल प्लाजा पर पहुंचे। यहां पहले से धरनारत किसानों ने फूलमालाओं के साथ किसानों का स्वागत किया और शहीद किसानों को श्रद्धांजलि दी। किसानों ने दो मिनट का मौन रखकर शहीद किसानों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। 

जानकारी के अनुसार लखीमपुर खीरी में आंदोलन के दौरान शहीद हुए किसानों की अस्थियां गुरुवार की सुबह सिवाया टोल प्लाजा पहुंची। टोल प्लाजा पर किसानों ने अस्थि कलश पर फूल मालाएं अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। 

किसानों ने दो मिनट का मौन रखकर कर शहीद किसानों की आत्मा के लिए प्रार्थना की, सिवाया टोल प्लाजा से भारतीय किसान यूनियन के नेता विजयपाल घोपला कार्यकर्ताओं के साथ अस्थि विसर्जन के लिए अस्थि कलश लेकर निकले। किसानों की अस्थि कलश आने की सूचना पर दौराला पुलिस भी पहले ही पहुंच गई थी।
... और पढ़ें

ग्राउंड रिपोर्ट: बारिश और बाढ़ ने मचाई तबाही, जिले में हुआ भारी नुकसान, लोगों ने छतों पर बनाया ठिकाना, देखिए तस्वीरें

दो दिन तक हुई बारिश और उसके बाद नदियों में आई बाढ़ ने किसानों को भारी नुकसान पहुंचाया है। सबसे ज्यादा धान, अगेते बोये गए आलू, दलहनी फसलों और सब्जियों की फसल बर्बाद हो गई है। लगातार पानी में डूबे रहने से गन्ने की फसल को भी नुकसान पहुंचेगा। कृषि विभाग ने फसलों के नुकसान का आकलन करना शुरू कर दिया है। 

खादर हो या बांगर, हर जगह खेतों में भरा पानी
आमतौर पर अक्तूबर में बिजनौर जिले में करीब 30 एमएम ही बारिश होती है, लेकिन रविवार और सोमवार को दो ही दिन में 230 एमएम पानी बरस गया। पहाड़ों पर बारिश हुई तो नदियों का जलस्तर बढ़ गया और बाढ़ के हालात बन गए। खादर हो या बांगर, हर जगह खेतों में पानी भर गया।  

खेतों में इस समय धान और उड़द की फसल की कटाई चल रही थी। कटी हुई और हवा से गिरी पड़ी फसल पर पानी भरा रहने से फसल को बहुत नुकसान हुआ है। इससे फसल की गुणवत्ता पर भी असर पड़ेगा। सब्जियों की फसलों खासकर आलू को भी नुकसान हुआ है। बारिश से हुए नुकसान के आकलन के लिए डीएम उमेश मिश्रा ने टीम गठित कर दी है, जो गांवों में जाकर सर्वे करेगी और उसकी रिपोर्ट शासन को भेजी जाएगी। टीम में संबंधित ग्राम पंचायत के लेखपाल को अध्यक्ष, प्राविधिक सहायक व फसल बीमा कंपनी इफ्को टोकियो के प्रतिनिधि को सदस्य बनाया गया है। जिला कृषि अधिकारी डॉ. अवधेश मिश्र के अनुसार किसानों फसलों के नुकसान का सर्वे कराया जा रहा है। बीमित किसानों को मुआवजा दिलाया जाएगा। बाकी किसानों को राजस्व विभाग से मुआवजा मिलता है। कृषि वैज्ञानिक डॉ. केके सिंह के अनुसार बारिश से धान, उड़द व सब्जियों को नुकसान हुआ है। जिन किसानों ने सरसों व आलू बो दिया था उन्हें भी नुकसान होगा। फसलों की गुणवत्ता पर भी असर पड़ेगा। बाकी फसलों की बुवाई भी कम से कम 15 दिन देरी से होगी।
... और पढ़ें
जिले में हुआ पानी-पानी। जिले में हुआ पानी-पानी।

धर्मांतरण प्रकरण: साध्वी ने नितिन और निपुण के खिलाफ एसएसपी को दी तहरीर, मामले में जल्द होगी बड़ी कार्रवाई

सहारनपुर जनपद में धर्मांतरण के मामले में सरकारी गवाह बने नितिन पंत को धमकी देने का मामला लगातार सुर्खियों में है। नितिन पंत ने साध्वी सविता जमुनादास पर धमकाने का आरोप लगाया था। अब साध्वी ने एसएसपी को तहरीर देकर नितिन पंत और निपुण भारद्वाज के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। साध्वी का आरोप है कि निपुण ने उनसे ठगी की और रुपये वापस मांगने पर झूठे आरोप लगाकर बदनाम किया है। 

शहर में श्री बालाजी घाट पर रह रहे नैनीताल निवासी नितिन पंत ने विश्व अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय सचिव निपुण भारद्वाज के साथ एसएसपी को तहरीर दी थी। आरोप लगाया था कि मौलाना कलीम के खिलाफ गवाही देने से रोकने के लिए साध्वी सविता दबाव डाल रही हैं। उसे रुपयों का लालच दिया जा रहा है। ऐसा न करने पर जान से मारने की धमकी दी गई। 

गुरुवार को बेरीबाग निवासी साध्वी सविता जमुनादास ने एसएसपी से मुलाकात कर नितिन पंत और निपुण भारद्वाज के खिलाफ तहरीर दी। साध्वी सविता जमुनादास ने कहा कि निपुण भारद्वाज ने विश्व अखाड़ा परिषद का पश्चिम क्षेत्र का अध्यक्ष बनाने के नाम पर उनसे 31 हजार रुपये लिए थे। इसके बाद उन्हें फर्जी प्रमाणपत्र दिया गया। निपुण से अपने रुपये वापस मांगे तो उसने नितिन के जरिए झूठी शिकायत कराई है। साध्वी सविता ने ठगी से संबंधित दस्तावेज भी एसएसपी को दिए। मामले में कार्रवाई की मांग की। साध्वी ने कहा कि कोर्ट के माध्यम से भी वह नितिन व निपुण के खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज कराएंगी।

यह भी पढ़ें: 
बड़ी कार्रवाई: कबाड़ी हाजी गल्ला की पांच करोड़ की संपत्ति जब्त, मुनादी के बाद अफसरों ने लगाई मकान-गोदाम पर सील
... और पढ़ें

बागपत: सैनिक के परिवार को बंधक बनाकर डाली डकैती, सोने-चांदी के जेवरात समेत 63 हजार रुपये लूटकर बदमाश फरार

बागपत जनपद के अमीनगर सराय के कमाला गांव में बुधवार रात बदमाशों ने सैनिक के परिवार को तमंचे के बल पर बंधक बनाकर डकैती डाली। बदमाश सोने-चांदी के जेवरात व 47 हजार रुपये लूटकर ले गए। वे जाते समय परिजनों को कमरे में बंद कर गए। उन्हें दूधिया ने गुरुवार सुबह बाहर निकाला। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर छानबीन की। वहीं, मामले को चोरी में दर्ज किया है। 

ग्राम कमाला के अजयपाल पुत्र धनपाल ने बताया कि वे मेरठ डिपो में टीआई के पद पर कार्यरत हैं। उनके भाई कृष्णपाल सेना में हवलदार हैं। वह असम में तैनात हैं। दोनों के परिवार एक ही मकान में रहते हैं। वे सभी मकान में छत पर बने कमरों में सोए हुए थे। उसने बताया कि बुधवार रात तीन बदमाश मकान में घुस गए, जबकि तीन नीचे खड़े रहे। बदमाशों ने मुंह पर कपड़ा बांधा हुआ था और तमंचे लिए थे। तमंचे के बल पर बदमाशों ने पहले बच्चों को बंधक बनाया और इसके बाद अजयपाल के कमरे में पहुंचकर उसके हाथ-पैर बांधकर सोफे पर डाल दिया। 

यह भी पढ़ें: 
बड़ी कार्रवाई: कबाड़ी हाजी गल्ला की पांच करोड़ की संपत्ति जब्त, मुनादी के बाद अफसरों ने लगाई मकान-गोदाम पर सील

इसके बाद बदमाशों ने संदूक व अलमारी से सोने-चांदी के जेवरात समेत 47 हजार रुपये लूट लिये। बदमाश जाते वक्त अजयपाल, उनकी पत्नी व तीन बच्चों के अतिरिक्त भाई कृष्णपाल की पत्नी ललिता व दो बच्चों को कमरे में बंद कर गए। 

यह भी पढ़ें: पति-पत्नी की मौत: घर से एक साथ उठीं अर्थी तो हर किसी की आंखें हुईं नम, बेटे ने एक ही चिता पर दी मुखाग्नि, तस्वीरें

वहीं गुरुवार सुबह दूधिया आया तो वे उसकी मदद से कमरे से बाहर आए। इसके बाद एसपी, सिंघावली अहीर पुलिस को फोन करके घटना की जानकारी दी गई। पुलिस ने वहां पहुंचकर छानबीन की और इसके बाद चोरी का मुकदमा दर्ज कर लिया। सीओ अनुज मिश्रा के अनुसार परिजनों को कमरे में बंद करके चोरी की गई है। इसलिए मामला चोरी में दर्ज किया गया है। इस घटना का जल्द खुलासा कर दिया जाएगा।
... और पढ़ें

नेशनल खिलाड़ी हत्याकांड: बिजनौर पहुंची एसआईटी की टीम, हत्यारोपी से की पूछताछ, जल्द खुलेगा असली राज

बिजनौर में खो-खो की नेशनल खिलाड़ी हत्याकांड की जांच कर रही एसआईटी की टीम गुरुवार को बिजनौर पहुंची। एसआईटी ने जेल में बंद हत्यारोपी से पूछताछ की। वहीं मृतका के परिवार वालों और सहेलियों से भी पूछताछ की गई। 

स्पेशल जांच टीम में शामिल स्वार रामपुर के सीओ धर्म सिंह ने बिजनौर जेल में बंद हत्यारोपी खादिम से काफी देर तक पूछताछ की। उन्होंने हत्या की वजह से लेकर अन्य तमाम पहलुओं पर सवाल किए। इसके बाद मृतका के परिवार वालों से बातचीत की। सहेलियों से पूछताछ की गई। 

दस सितंबर को रेलवे स्टेशन के यार्ड में खो-खो की नेशनल खिलाड़ी की दिनदहाड़े हत्या कर दी गई थी। दुष्कर्म में विफल रहने पर आरोपी ने खिलाड़ी को मौत के घाट उतार दिया था। पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए हत्यारोपी आदोपुर के रहने वाले शहजाद उर्फ खादिम को जेल भेज दिया था। 

यह भी पढ़ें: 
पति-पत्नी की मौत: घर से एक साथ उठीं अर्थी तो हर किसी की आंखें हुईं नम, बेटे ने एक ही चिता पर दी मुखाग्नि, तस्वीरें

उधर, परिवार वाले इस खुलासे संतुष्ट नहीं थे। परिजन सीबीआई जांच की मांग कर रहे थे। अब सीएम योगी बिजनौर आए तो उन्होंने जांच का भरोसा दिलाया था। जिसके चलते डीआईजी शलभ माथुर ने 21 सितंबर को ही एसपी ट्रैफिक मुरादाबाद अशोक कुमार के नेतृत्व में पांच सदस्यीय स्पेशल जांच टीम का गठन किया। गुरुवार को एसआईटी हत्यारोपी और अन्य लोगों से पूछताछ कर लौट गई।

यह भी पढ़ें: बड़ी कार्रवाई: कबाड़ी हाजी गल्ला की पांच करोड़ की संपत्ति जब्त, मुनादी के बाद अफसरों ने लगाई मकान-गोदाम पर सील
... और पढ़ें

कोरोना टीकाकरण: मेरठ में 35 फीसदी लोगों ने नहीं लगवाया टीका, 14 नवंबर तक लक्ष्य पूरा करने की तैयारी और...

नेशनल खिलाड़ी मर्डर केस।
मेरठ में कोरोनारोधी टीका लगवाने का लोगों में उत्साह कम होता जा रहा है। जिले में अभी नौ लाख, 1182 लोग ऐसे हैं, जिन्होंने एक भी डोज नहीं लगवाई है। यह कुल लक्ष्य का 35 प्रतिशत है। इन्हें 14 नवंबर तक पहला टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

स्वास्थ्य विभाग ने जिले में 26,26,057 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा है। इनमें से अभी तक 65.7 प्रतिशत लोग ही टीका लगवा पाए हैं। दूसरी डोज सिर्फ 44.6 प्रतिशत ने ही लगवाई है। दोनों डोज लगने के बाद ही टीकाकरण पूरा माना जाता है। इस लिहाज से देखें तो करीब 29.3 प्रतिशत लोगों का ही टीकाकरण पूर्ण हो सका है। अभी भी करीब 35 फीसदी लोग ऐसे हैं जिन्होंने समय खत्म होने के बाद भी दूसरी डोज  नहीं लगवाई है। 

टीकाकरण में छठे नंबर पर मेरठ, 14 नवंबर से बच्चों के टीकाकरण की तैयारी 
टीकाकरण में मेरठ सूबे में छठे नंबर पर आया है। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. प्रवीण गौतम ने बताया कि बाकी बचे लोगों को 14 नवंबर तक पहला टीका लगाने का लक्ष्य है। इसके बाद बच्चों और किशोरों का टीकाकरण किया जाएगा। तीसरी लहर का खतरा कम होने की वजह से लोग टीकाकरण कराने में लापरवाही कर रहे हैं। यह ठीक नहीं है। सभी टीका जरूर लगवाएं। 

यह भी पढ़ें: 
बड़ी कार्रवाई: कबाड़ी हाजी गल्ला की पांच करोड़ की संपत्ति जब्त, मुनादी के बाद अफसरों ने लगाई मकान-गोदाम पर सील
... और पढ़ें

डेंगू का कहर: किशोर की मौत से मचा कोहराम, गमगीन माहौल में हुआ अंतिम संस्कार, फॉगिंग कराने की मांग

बागपत जिले के चांदीनगर क्षेत्र में डेंगू का प्रकोप बढ़ रहा है। बुखार को लेकर लोगों में दहशत है। डेंगू से गुरुवार को एक किशोर की मौत हो गई। परिजनों ने गमगीन माहौल में उसका अंतिम संस्कार किया। वहीं, ग्राम प्रधान व यूपी पुलिस के सिपाही में भी डेंगू की पुष्टि हुई है। इनके अतिरिक्त गांव के 12 से अधिक लोग बुखार से पीड़ित हैं। ग्रामीणों ने गांव में स्वास्थ्य शिविर लगाने व फॉगिंग कराने की मांग की है।

विनयपुर निवासी शिवम (16 वर्ष) पुत्र रणपाल पिछले तीन दिन से बुखार से पीड़ित था। उसका निजी चिकित्सक से उपचार कराया जा रहा था। उसे बुधवार शाम अचानक खून की उल्टी हुई और तबीयत बिगड़ गई। परिजनों ने किशोर को गाजियाबाद के एक अस्पताल में भर्ती कराया। उसकी गुरुवार सुबह उपचार के दौरान मौत हो गई। इससे परिजनों में कोहराम मच गया। उन्होंने देर शाम गमगीन माहौल में उसका अंतिम संस्कार कर दिया। 

यह भी पढ़ें: 
बड़ी कार्रवाई: कबाड़ी हाजी गल्ला की पांच करोड़ की संपत्ति जब्त, मुनादी के बाद अफसरों ने लगाई मकान-गोदाम पर सील

इसके अतिरिक्त गांव निवासी विपिन बंसल यूपी पुलिस में सिपाही के पद पर तैनात है। वह तीन दिन से डेंगू से पीड़ित है। उसका इलाज भी गाजियाबाद के एक अस्पताल में चल रहा है। ग्राम प्रधान डॉ. आदेश नंबरदार पंद्रह दिन से डेंगू से पीड़ित थे। उनका इलाज गाजियाबाद के अस्पताल में किया जा रहा था। गांव में श्याम, शिवी, गार्गी, रेशा, हैप्पी, विपिन, बृजपाल आदि करीब 12 से अधिक लोग वायरल से पीड़ित हैं। प्रधान आदेश नंबरदार, सतीश, अजित बैंसला, रिंकू, कपिल, रघुवीर ने गांव में स्वास्थ्य शिविर व फॉगिंग की मांग की है।

यह भी पढ़ें: पति-पत्नी की मौत: घर से एक साथ उठीं अर्थी तो हर किसी की आंखें हुईं नम, बेटे ने एक ही चिता पर दी मुखाग्नि, तस्वीरें
... और पढ़ें

एडमिशन को लेकर कॉलेज में जमकर हंगामा: फिर जाम लगाने का प्रयास, मौके पर पहुंचे पुलिस अफसर

मुजफ्फरनगर में भोपा रोड स्थित एसडी डिग्री कॉलेज में एडमिशन न होने से गुस्साए छात्र-छात्राओं ने रालोद छात्र विंग के नेतृत्व में जमकर हंगामा किया। छात्रों ने कॉलेज परिसर में धरना देते हुए भोपा रोड पर भी जाम लगाने का प्रयास करते हुए कॉलेज प्रबंधन पर सेल्फ फाइनेंस कॉलेज में एडमिशन का दबाव बनाने का प्रयास किया। फोर्स के साथ पहुंचे सीओ मंडी ने छात्रों को समझा-बुझाकर शांत किया।

चौधरी चरणसिंह विश्वविद्यालय से संबद्ध एसडी डिग्री कॉलेज में चल रही एडमिशन प्रक्रिया के तहत दो दिन पूर्व मेरिट लिस्ट जारी की गई थी। मेरिट के बाद बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं कॉलेज में प्रवेश से वंचित रह गए। गुरुवार सुबह रालोद छात्र सभा के जिलाध्यक्ष सार्थक लाटियान के नेतृत्व में छात्र-छात्राएं कॉलेज पहुंचे और प्रबंधन पर सेल्फ फाइनेंस कॉलेज में प्रवेश लेने का दबाव बनाने का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। आरोप है कि सेल्फ फाइनेंस कॉलेज में प्रवेश दिलाने के लिए ही जान-बूझकर मेरिट को हाई रखा गया है। गुस्साए छात्र कॉलेज परिसर में ही धरने पर बैठ गए। इसके बावजूद कॉलेज प्राचार्य पीके श्रीवास्तव छात्रों के बीच नहीं पहुंचे तो कुछ छात्रों ने तोड़फोड़ का प्रयास किया और जाम लगाने के लिए भोपा रोड पर जा पहुंचे। 

यह भी पढ़ें: 
उफान पर गंगा: हस्तिनापुर में नाजुक हो रहे खादर क्षेत्र के हालात, फसलें व सड़कें जलमग्न, कई गांवों से टूटा संपर्क

सूचना पर सीओ मंडी हिमांशु गौरव तत्काल सिविल लाइंस व नई मंडी थाना पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और छात्रों को समझा-बुझाकर शांत कर कॉलेज में ले गए। वहां छात्रों और प्राचार्य के बीच हुई वार्ता के बाद प्राचार्य ने कॉलेज में सीट बढ़ाए जाने के लिए यूनिवर्सिटी को पत्र लिखने का आश्वासन दिया। एडमिशन के लिए पंजीकरण की तारीख भी 21 से बढ़ाकर 25 अक्तूबर कर दिए जाने की जानकारी दी, जिसके बाद छात्र शांत हुए। इस मौके पर हर्ष राठी, सिद्धार्थ राठी, मानसु पचेंडा, काजी फैज, आकाश चौधरी, अमन राज मौजूद रहे।

विश्वविद्यालय के नियमों के अनुरूप ही कॉलेज में एडमिशन किए गए हैं। मेरिट लिस्ट जारी होने के बाद कॉलेज में सीट बढ़ाए जाने पर ही मेरिट से रह गए छात्रों का एडमिशन संभव है। इसके लिए यूनिवर्सिटी को पत्र लिखा जा रहा है। - डॉ. पीके श्रीवास्तव, प्राचार्य 

यह भी पढ़ें: 
यूपी: मेरठ-करनाल हाईवे पर किसानों का जोरदार प्रदर्शन, धान से लदे वाहन सीमा पर वाहन रोकने पर लगाया जाम

सीओ मंडी हिमांशु गौरव का कहना है कि कॉलेज में मेरिट जारी होने के बाद एडमिशन से रह गए छात्र-छात्राओं ने एडमिशन की मांग को लेकर हंगामा किया था। समझा-बुझाकर शांत करते हुए छात्रों की प्राचार्य से वार्ता करा दी गई है, जिसमें सीट बढ़ाने के लिए विश्वविद्यालय को पत्र लिखने का आश्वासन दिया गया है। - हिमांशु गौरव, सीओ मंडी
 
... और पढ़ें

मुजफ्फनगर में गिरोह का पर्दाफाश: सात वाहन चोर दबोचे, चोरी की 14 बाइक और स्कूटर बरामद

मुजफ्फरनगर में नई मंडी और शहर कोतवाली पुलिस ने गुरुवार को वाहन चेकिंग अभियान के दौरान पांच वाहन चोरों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से चोरी की 11 बाइक, स्कूटर बरामद किए हैं। आरोपियों से पूछताछ के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया है।

नई मंडी कोतवाली पुलिस ने पचेंडा रोड पर वाहन चेकिंग अभियान के दौरान संदिग्ध बाइक सवार तीन युवकों को रोका। सीओ मंडी हिमांशु गौरव ने बताया कि जांच में युवकों के पास मौजूद बाइक चोरी की पाई गई, जिस पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपियों में गांव सरवट के हाजीपुरा निवासी दीन मोहम्मद, हुसैनिया कॉलोनी निवासी सरताज मोहम्मद और बचनसिंह कॉलोनी निवासी मोहित शर्मा शामिल हैं। उनसे पूछताछ के बाद चोरी की छिपाकर रखी गई छह अन्य बाइक भी बरामद की गईं। 

इंस्पेक्टर ने बताया कि बरामद बाइकों में नई मंडी क्षेत्र से चोरी हुई बाइकों में गांव गढ़ी बहादरपुर निवासी अजीत कुमार और शांतिनगर निवासी आकाश की बाइक भी हैं, जिन्हें चिह्नित कर लिया है। अन्य बाइकों को भी चिह्नित करने का प्रयास किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: 
पति-पत्नी की मौत: घर से एक साथ उठीं अर्थी तो हर किसी की आंखें हुईं नम, बेटे ने एक ही चिता पर दी मुखाग्नि, तस्वीरें

उधर, शहर कोतवाली पुलिस ने भी मेरठ रोड स्थित अंबा विहार से चेकिंग के दौरान दो वाहन चोरों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों में मेरठ जनपद के सदर बाजार थाना क्षेत्र के मोहल्ला रनसार निवासी सिद्धार्थ उर्फ सिद्धू और लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र के मोहल्ला तारापुरी निवासी सिराजुद्दीन उर्फ मिट्ठन शामिल हैं। आरोपियों की निशानदेही पर चोरी की तीन बाइक व एक स्कूटर बरामद किया गया है। 

यह भी पढ़ें: बड़ी कार्रवाई: कबाड़ी हाजी गल्ला की पांच करोड़ की संपत्ति जब्त, मुनादी के बाद अफसरों ने लगाई मकान-गोदाम पर सील

इंस्पेक्टर ने बताया कि बरामद किया गया एक स्कूटर तीन दिन पूर्व खालापार चौकी के पास से चोरी किया गया था। पकड़े गए दोनों आरोपियों को पूछताछ के बाद जेल भेज दिया गया है।
... और पढ़ें

रैपिड रेल निर्माण: दिल्ली रोड पर बड़ा हादसा टला, बाल-बाल बची यात्रियों से भरी रोडवेज बस

दिल्ली से मेरठ तक रैपिड रेल कॉरिडोर निर्माण के चलते गुरुवार को बड़ी दुर्घटना होने से बच गई। मोहिउद्दीनपुर स्थित खरखौदा तिराहे के पास इंडियन ऑयल पेट्रोल पंप के पास पांच टन सरिये का ढांचा ढह गया। सड़क पर ढांचा गिरते ही अफरा-तफरी का माहौल बन गया। गाजियाबाद से आ रही रोडवेज बस और कार बाल-बाल बच गईं। एनसीआरटीसी ट्रैफिक मार्शल ने यातायात को रोककर क्रेन बुला ली। कड़ी मशक्कत के बाद चार क्रेन की मदद से ढांचे को खड़ा किया गया। 

रैपिड रेल के पिलर खड़ा करने से पहले सरिये का ढांचा खड़ा किया जाता है। एनसीआरटीसी अधिकारियों का कहना है कि एक शटरिंग स्थापित करने के दौरान एक केज रिन्फोर्मेंट फिसल कर सड़क के एक तरफ गिर पड़ा। इसके बाद क्रेन से उठाकर बैरिकेडिंग जोन में वापस लाया गया। 22 फीट ऊंचे ढांचे को स्टील प्लेट की सहायता से खड़ा किया जा रहा था। उसी दौरान स्टील प्लेट गिर जाने से सरिये का ढांचा सड़क पर जा गिरा। कार्यदायी कंपनी एलएंडटी के कर्मचारी भी बाल-बाल बचे। स्थानीय पुलिस ने पहुंचकर यातायात को रोककर कार्य शुरू कराया। दिल्ली रोड पर घटना होने के चलते यातायात भी बाधित हुआ। 

यह भी पढ़ें: 
यूपी: मेरठ-करनाल हाईवे पर किसानों का जोरदार प्रदर्शन, धान से लदे वाहन सीमा पर वाहन रोकने पर लगाया जाम

पलभर में लग जाता एनसीआरटीसी पर दाग
दो वर्ष से रैपिड रेल का कार्य दिल्ली से लेकर मेरठ तक बीच सड़क पर किया जा रहा है। 82 किमी की साइट पर एक भी दिन निर्माण के समय कोई हादसा नहीं हुआ है। रैपिड रेल का निर्माण बिना किसी यातायात को बाधित किए किया जा रहा है। रात के समय डायवर्जन के लिए लाइट रिफ्लेक्टर का उपयोग किया जा रहा है। रात के समय सड़क के एक तरफ डायवर्जन भी कर दिया जाता है। अगर ये ढांचा किसी वाहन के ऊपर गिर जाता, तो एनसीआरटीसी पर भी सवाल उठ जाते। 

यह भी पढ़ें: उफान पर गंगा: हस्तिनापुर में नाजुक हो रहे खादर क्षेत्र के हालात, फसलें व सड़कें जलमग्न, कई गांवों से टूटा संपर्क

सरिये का ढांचा गिरने पर तुरंत साइट इंजीनियरों से वार्ता की गई। उनके द्वारा बताया गया है कि कोई बड़ी बात नहीं हुई है। एक तरफ से ढांचा बंधा हुआ था। धीरे-धीरे ये नीचे की तरफ झुकता चला गया। हालांकि, इसका वजन पांच टन के आसपास है। - पुनीत वत्स, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, एनसीआरटीसी
... और पढ़ें

मेरठ: पंक्चर लगाने वाले बुजुर्ग दुकानदार की पीट-पीटकर हत्या, बेटे व नौकर से पूछताछ

मेरठ में मेडिकल थाना क्षेत्र के गढ़ रोड पर पंक्चर की दुकान चलाने वाले एक शख्स की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। सूचना पाकर मेडिकल पुलिस मौके पर पहुंची और शव को मोर्चरी भिजवा दिया। पुलिस ने इस मामले में मृतक के पुत्र और दुकान पर काम करने वाले नौकर को हिरासत में लिया है।

इंस्पेक्टर संत शरण सिंह ने बताया कि शास्त्री नगर निवासी लटूरी सिंह उम्र 60 वर्ष गढ़ रोड पर पेट्रोल पंप के बाहर पंक्चर की दुकान चलाता है। सुबह करीब सात बजे कंट्रोल रूम को उसकी हत्या की सूचना मिली। पुलिस ने शव को मोर्चरी भिजवाया।
 
बताया गया कि लटूर सिंह का अक्सर अपने बेटे प्रशांत से विवाद होता था। पांच दिन पूर्व उसने अपने बेटे को घर से भगा दिया था। यह भी पता चला है कि बुधवार रात पिता-पुत्र में एक बार फिर विवाद हुआ था। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि हत्या किसने की है।
 
इस मामले में प्रशांत और दुकान पर काम करने वाले कर्मचारी बबलू को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मृतक की पत्नी की ओर से अज्ञात के खिलाफ हत्या की तहरीर दी गई है, जिस पर मुकदमा दर्ज किया जा रहा है।
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00