विज्ञापन
विज्ञापन
घर बैठें बनवाएं फ्री जन्मकुंडली, जानें बनते काम बिगड़ने का कारण
Kundali

घर बैठें बनवाएं फ्री जन्मकुंडली, जानें बनते काम बिगड़ने का कारण

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

पश्चिमी यूपी में नहीं थम रहा अपराध, बागपत में खेत की रखवाली करने गए किसान की निर्मम हत्या

उत्तर प्रदेश के बिजनौर में बिनौली थानाक्षेत्र में किसान की निर्मम हत्या कर दी गई। किसान का शव उसके ही खेत में पड़ा मिला। हत्या से परिजनों में कोहराम मच गया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 

बिनौली थाना क्षेत्र के बड़ावद गांव में किसान रामफल कश्यप 54 ने अपने खेत में सब्जी की फसल लगा रखी है। मंगलवार सुबह खेत में उसका शव पड़ा मिला। आसपास के किसानों ने उसके परिवार और पुलिस को जानकारी दी। 

यह भी पढ़ें: 
यूपी के बिजनौर में भीषण हादसा, ट्रक व पिकअप की जबरदस्त भिड़ंत में दो की मौत, आधा दर्जन घायल

सीओ सदर ओमपाल सिंह और बिनौली इंस्पेक्टर रवेंद्र यादव घटनास्थल पर पहुंचे। मृतक किसान के सिर और चेहरे पर चोट के निशान मिले हैं। सीओ का कहना है कि जांच की जा रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें

https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

आईपीएल पर ऑनलाइन सट्टा लगाते मेरठ से दो गिरफ्तार, 2.13 लाख बरामद, दिल्ली का आरोपी फरार

मेरठ के परतापुर में महिला की अपहरण के बाद हत्या, दुष्कर्म का अंदेशा, आरोपी गिरफ्तार 

मेरठ के परतापुर थानाक्षेत्र में रविवार रात महिला की घर से अपहरण करने के बाद हत्या कर दी गई। सोमवार सुबह ईख के खेत में शव मिलने पर हड़कंप मच गया। पुलिस ने हत्या से पहले दुष्कर्म का भी अंदेशा जताया है। पुलिस ने महिला के जेठ के बेटे को गिरफ्तार किया है, जिससे पूछताछ की जा रही है।

पुलिस के अनुसार कार पर पेंट का काम करने वाले एक व्यक्ति का परिवार परतापुर क्षेत्र में रहता है। परिवार में पत्नी और चार बच्चे हैं। रविवार रात करीब 10:30 बजे तक महिला ने टीवी पर मूवी देखी। उसके बाद बच्चे सो गए थे। सोमवार सुबह महिला गायब मिली तो शोर मच गया।

परिजनों और ग्रामीणों ने तलाश की तो महिला का शव ईख के खेत में पड़ा मिला। महिला की हत्या की सूचना पर इंस्पेक्टर परतापुर एपी मिश्रा मौके पर पहुंचे। मामला तूल पकड़ने से पहले ही पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। महिला के मायके वालों ने जेठ और उसके बेटों पर हत्या करने का आरोप लगाकर तहरीर दी।

पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए जेठ के बेटे को गिरफ्तार कर लिया है। एसपी सिटी डॉ. एएन सिंह का कहना है कि मायके वालों ने परतापुर बाईपास स्थित दो बीघा जमीन को लेकर जेठ व उसके बेटों से विवाद होने की बात कही है। जांच के बाद आगे की कार्रवाई होगी।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें

https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

बागपतः बिना अनुमति दाढ़ी रखने पर दरोगा निलंबित, चेतावनी के बावजूद सुधार न होने पर कार्रवाई

 बिना अनुमति लंबी दाढ़ी रखने  पर रमाला थाने में तैनात उप निरीक्षक इंतसार अली को निलंबित कर दिया गया है। सहारनपुर निवासी इंतसार अली यूपी पुलिस में एसआई के पद पर भर्ती हुए थे। पिछले तीन साल से वह जिले में कार्यरत हैं। लॉकडाउन से पहले उन्हें रमाला थाने में तैनाती दी गई थी। पुलिस विभाग के नियमों के विपरीत लंबी दाढ़ी रखने को लेकर चर्चा में आए हैं। 

एसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि विभाग में मूंछ बिना अनुमति रख सकते हैं, लेकिन सिख समुदाय के पुलिसकर्मियों को छोडकर अन्य सभी को दाढ़ी रखने के लिए विभागीय अनुमति लेनी होती है। एसआई इंतसार अली को दो बार विभागीय अनुमति लेने के निर्देश दिए गए थे, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया गया। लगातार विभागीय नियमों की अनदेखी के चलते एसआई को सस्पेंड कर दिया गया है। 

एसआई इंतसार अली का कहना है कि वह नवंबर 2019 से ही अनुमति के प्रयास में लगा हुआ है, लेकिन अभी तक विभाग से अनुमति नहीं मिल सकी है। जल्द ही विभागीय प्रक्रिया पूरी की जाएगी।
... और पढ़ें
इंतसार अली इंतसार अली

तस्वीरें: कोल्हू में खोई झोंक रहे थे मासूम, अचानक आग ने बनाया निवाला, पल भर में बुझे दो घरों के चिराग

मुजफ्फरनगर के मोरना में गांव जटवाड़ा स्थित कोल्हू पर खोई झोंकते समय अचानक सूखी खोई का ढेर गिरने से उसमें दबे दो मासूम बच्चों की आग में झुलसने से मौत हो गई, जबकि उनकी बड़ी बहन ने किसी तरह जान बचाई। दमकल विभाग ने करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाकर बच्चों के शव निकाले।  आगे तस्वीरों में जानें इस दर्दनाक हादसे की पूरी कहानी :-

ककरौली थाना क्षेत्र के गांव जटवाड़ा में बस स्टैंड के पास गांव के जावेद उर्फ जानू ने कोल्हू लगाया हुआ है। कोल्हू में खोई झोंकने का ठेका गांव बेहड़ा सादात निवासी सगे भाइयों अख्तर व नफीस ने लिया हुआ है, जो पिछले 25 सितंबर से परिवार के साथ कोल्हू पर काम कर रहे हैं।
... और पढ़ें

बागपत: भतीजों ने दिन निकलते ही ताऊ को गोलियों से भूना, वारदात के बाद फरार हुए आरोपी

उत्तर प्रदेश के बागपत जनपद में चांदीनगर थाना क्षेत्र के पांची गावं मे दिन निकलते ही भतीजों ने अपने ताऊ की गोली मारकर हत्या कर दी ।  पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पारिवारिक विवाद के चलते हत्या की गई है।

पांची निवासी 60 वर्षीय इनामुलहक बुधवार सुबह सात बजे अपने पुत्र जुबैर के साथ बस स्टैंड स्थित अपने  मेडिकल स्टोर पर जाने के लिए घर से निकला था।  पूर्व प्रधान नासिर के घर के समीप  इनामुलहक के दो भतीजे मिले तो दोनों पक्षों में गाली-गलौज हो गई।

विवाद बढ़ने पर भतीजों ने  ताऊ इनामुलहक की गोली मारकर हत्या कर दी। जुबैर ने किसी तरह जान बचाई। वारदात के बाद हमलावर फरार हो गए। हत्या का कारण पुराना पारिवारिक विवाद बताया जा रहा है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें

https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/ ... और पढ़ें

बाॅडी बनाने के लिए दिए जा रहे थे पशुओं की दवा के इंजेक्शन, चार जिम संचालक गिरफ्तार, प्रतिबंधित दवाएं बरामद

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर शहर में चलाए जा रहे जिम में युवाओं को बॉडी बनाने के लिए स्टेरॉयड व पशुओं की दवा के प्रतिबंधित इंजेक्शन देने का बड़ा खुलासा हुआ है। पुलिस ने शहर के विभिन्न क्षेत्रों में छापा मारकर चार जिम संचालकों सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनके कब्जे से बड़ी मात्रा में प्रतिबंधित दवाएं बरामद की गईं हैं।

पुलिस लाइन स्थित सभागार में प्रेसवार्ता करते हुए एसएसपी अभिषेक यादव ने बताया कि सूचना के आधार पर शहर क्षेत्र के पचेंडा रोड स्थित फिटनेस फैक्टरी जिम, सिटी सेंटर स्थित वॉरियर जिम, रामपुरी स्थित ग्लोबल जिम, लद्दावाला स्थित फिट फैक्टरी जिम के साथ ही अहिल्याबाई चौक स्थित अर्श फूड सप्लीमेंट पर छापा मारे गए।
... और पढ़ें

कोरोना काल में आधे से भी ज्यादा घटा रावण के पुतले का कद, 70 से 15 फीट घटी कुंभकरण-मेघनाद की लंबाई

मुजफ्फरनगर मेरठ में जिम ट्रेनर
कोरोना काल में रावण के पुतले का भी कद घट गया है। हर वर्ष दशहरे पर 60 से 70 फीट के रावण, मेघनाद और कुंभकरण के पुतलों का दहन किया जाता था, लेकिन इस बार 10 से 15 फीट के रावण का ही पुतला तैैयार किया जा रहा है।

सहारनपुर में प्राचीन श्री रामलीला कमेटी के तत्वावधान में बेहट अड्डा रामलीला मैदान पर हर वर्ष 60 से 70 फीट के रावण, मेघनाथ और कुंभकरण के पुतले फूंके जाते थे, लेकिन इस बार 15 फीट का एक ही पुतला तैयार किया जा रहा है, जिसे रामलीला भवन में फूंका जाएगा।

कमेटी के प्रधान अनिल अग्रवाल और मंत्री माईदयाल सिंह मित्तल का कहना है कि कोरोना को लेकर सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन का पालन करते हुए ऐसा किया जा रहा है। रामलीला मैदान बेहट बस अड्डा पर आयोजन करेंगे तो भीड़ हो जाएगी, जिससे कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा है।
... और पढ़ें

मेरठ: सोतीगंज में खुलेआम काटे जा रहे चोरी के वाहन, कबाड़ियों को पुलिस का संरक्षण, सीएम तक पहुंची बात

मेरठ शहर के सोतीगंज में वाहन कमेला चलाने वाले कबाड़ियों पर शिकंजा कसवाने के लिए मेरठ-हापुड़ सीट से भाजपा सांसद राजेंद्र अग्रवाल को भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को चिट्ठी लिखनी पड़ रही है। इससे पता चलता है कि मेरठ पुलिस को लेकर सांसद की राय क्या है। जाहिर है कि इसस पहले उनके द्वारा किए गए प्रयासों से जिला पुलिस की नींद कायदे से नहीं टूट रही है। बस दिखाने के लिए कुछ कार्रवाई जरूर शुरू हो गई है।

सोतीगंज में दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान व यूपी के जिलों से चोरी होने वाले वाहन काटे जा रहे हैं। इसका खुलासा दूसरे जनपद की पुलिस कई बार कर चुकी है। मेरठ पुलिस भी वाहन चोरों को मुठभेड़ में गोली मार चुकी है लेकिन सोतीगंज के शातिर कबाड़ियों पर आज तक पुलिस शिकंजा नहीं कस पाई।
... और पढ़ें

मेरठ: खरखौदा में अवैध रूप से चल रही पेंट फैक्टरी में लगी भीषण आग, छह दमकल गाड़ियां मौके पर 

मेरठ से सटे खरखौदा में मंगलवार को अवैध रूप से चल रही पेंट बनाने की फैक्टरी में भीषण आग लग गई। आग लगने से मौके पर अफरा-तफरी मच गई। सूचना पर फायर ब्रिगेड की गाड़ियां मौके पर पहुंची और आग पर काबू पाने की कोशिश की।

जानकारी के अनुसार दमकल की छह गाड़ियां तीन घंटे से आग पर काबू पाने की कोशिश कर रही हैं लेकिन अभी आग पर काबू नहीं पाया जा सका है। आग से किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।  चीफ फायर ऑफिसर संतोष राय के नेतृत्व में फायर बिग्रेड की टीम आग पर काबू पाने की मशक्कत कर रही है। 

गौरतलब है कि क्षेत्र में पिछले वर्ष 21 अक्टूबर को हाजीपुर के सामने स्थित मेडिकल निवासी अंकुश शर्मा की पेंट व थिनर की अवैध फैक्टरी में भी इसी तरह भीषण आग लगी थी। इस दौरान 200 से ज्यादा ड्रम फटे थे। 

बता दें कि मेरठ में कई फैक्टरियां अवैध रूप से चलती पाई जाती हैं, जबकि प्रशासन की नजर इन पर नहीं जाती, जब कोई आग लगने जैसी घटना हो जाती है। तब जाकर प्रशासन इन पर कार्रवाई करता है। 

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें

https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/ ... और पढ़ें

मुजफ्फरनगरः प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने 24 फैक्टरियों पर लगाया एक करोड़ का जुर्माना

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के लखनऊ मुख्यालय ने जिले की 24 पेपर मिलों के सामने पड़े प्लास्टिक वेस्ट पाए जाने पर पर्यावरणीय क्षतिपूर्ति के लिए एक करोड़ का जुर्माना लगा दिया है। जब तक औद्योगिक इकाइयों के सामने से प्लास्टिक वेस्ट, राख और कूड़े के ढेर नहीं हटेंगे, उन्हें रोजाना के हिसाब से हर्जाना देना होगा।

रविवार को पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) अध्यक्ष डा. भूरे लाल के मुआयने में शहर की जानसठ रोड़, भोपा रोड और जोली रोड़ पर स्थित पेपर मिलों के सामने प्लास्टिक वेस्ट के ढेर पाए गए थे। इस संबंध में क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी अंकित सिंह ने उनसे पहले जांच के बाद 24 फैक्टरियों पर जुर्माना लगाने की संस्तुति बोर्ड मुख्यालय लखनऊ को भेजी थी। 

जिले में फैलने वाले वायु प्रदूषण के मद्देजनर लखनऊ से मुख्य पर्यावरणीय अधिकारी एनके चौहान ने भोपा रोड, जौली रोड और जानसठ रोड की अलग-अलग 24 इकाइयों पर करीब एक करोड़ रुपये कर जुर्माना निर्धारित कर दिया। इसके अलावा प्लास्टिक वेस्ट और कूड़े के ढेर हटने तक प्रतिदिन के हिसाब से जुर्माना निर्धारित करने का आदेश दिया है। 

जट मुझेड़ा और धंधेडा नाले में पेपर मिलों के अलावा अन्य 12 फैक्टरियों का गंदा पानी बहता है। इन मिलों का प्रदूषण स्तर में कमी आई है, लेकिन अपेक्षित सुधार नहीं हो पाया। इस सभी बिंदुओं पर जांच के बाद क्षेत्रीय अधिकारी ने रिपोर्ट लखनऊ को भेजी थी। प्रदूषण के मुद्दों पर गंभीरता से लेते हुए बोर्ड ने करीब एक करोड़ रूपये का जुर्माना लगा दिया है। 

रोजाना बढ़ेगा जुर्माना
प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड अधिकारी अंकित सिंह ने बताया जब तक गंदगी के ढेर नहीं हटेंगे, तब तक उन पर जुर्माना लगता रहेगा। हर फैक्टरी पर चार से पांच लाख रुपये के करीब पर्यावरण क्षतिपूर्ति जुर्माना लगाया गया है। जुर्माना नहीं दिए जाने पर राजस्व विभाग रिकवरी करेगा। नाला सफाई की जिम्मेदारी कॉरपोरेट सोशल रेस्पोंसबिलिटी (सीएसआर) के अनुसार फैक्टरी स्वामियों की है, जिनका गंदा पानी इन नालों में बहता है।

निगरानी के लिए इंजीनियरों की टीम गठित
 ईपीसीए के अध्यक्ष डा. भूरेलाल के गुपचुप निरीक्षण के बाद जिला प्रशासन हरकत में आया। डीएम सेल्वा कुमारी जे ने औद्योगिक इकाईयों के सामने पड़े कचरें, कूड़े के ढेर और प्लास्टिक वेस्ट को तत्काल हटाने के निर्देश दिए है। इस संबंध में विभिन्न विभागों के तकनीकी इंजीनियरों की टीम की ड्यूटी लगाई है। फैक्टरियों के सामने कितना कूड़ा हटा और सफाई हुई? नियमित रिपोर्ट रोजाना डीएम को की जाएगी। 

एक्यूआई में हुआ सुधार
प्रशासन और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के हरकत में आने पर जनपद के वायु प्रदूषण में सुधार हुआ है। सोमवार को जिले का एक्यूआई 321 था, जो मंगलवार को सुधार होने पर 267 दर्ज किया गया।
... और पढ़ें

मेरठ के कंकरखेड़ा में गोतस्करों की पुलिस से मुठभेड़, कार से बरामद किया छह क्विंटल गोमांस

मेरठ के कंकरखेड़ा पुलिस की मंगलवार दोपहर कार सवार दो गोतस्करों से से मुठभेड़ हो गई। बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग की। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी बदमाशों पर फायरिंग की। जिसमें एक गोतस्कर पैर में गोली लगने से घायल हो गया। जबकि दूसरा गोतस्कर भागने में सफल रहा। पुलिस ने आरोपी की कार से छह क्विंटल गोमांस भी बरामद किया है।

मंगलवार दोपहर कंकरखेड़ा पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि मुजफ्फरनगर की ओर से एक वैगनार कार में दो गोतस्कर गोमांस लेकर मेरठ की ओर जा रहे है। इस पर पुलिस ने चेकिंग अभियान शुरू कर दिया। हाइवे पर चेकिंग के दौरान पुलिस ने एक वैगनार कार को देखकर रुकने का इशारा किया, परंतु पुलिस को देखकर कार चालक ने कार को दौड़ा लिया। जिस पर पुलिस ने कार का पीछा किया।
... और पढ़ें

Exclusive: मेरठ में तैयार हो रहा हाथियों का पसंदीदा भोजन, संजय वन में बनाया गया मंदर प्लांट

पहाड़ी क्षेत्र में चटकारे लेकर खाई जाने वाली बांस की सब्जी हो या फिर हाथियों का सबसे पसंदीदा भोजन हाथी बांस, अब मेरठ के संजय वन में उगाया जा रहा है। राष्ट्रीय बैंबू मिशन के तहत बांस की प्रजातियों को बाहर से लाकर इनकी पौध तैयार की जा रही है। पॉली हाउस और नेट ग्रीन हाउस के खास वातावरण में बांस की पौध खूब फल-फूल रही है।

अगले महीने तक यहां पर मिस्ट चैंबर भी शुरू हो जाएगा। जिसके बाद बर्फ वाले इलाकों में पैदा होने वाले बांस की प्रजातियों की पौध भी यहीं पर विकसित की जा सकेंगी। यहां से न सिर्फ इन पौधों को देश में तमाम जगहों पर भेजा जाएगा, बल्कि किसानों को भी बांस की खेती के लिए जागरूक किया जाएगा। संजय वन में मदर प्लांट बनाया गया है, इसमें पौधे तैयार हो रहे हैं।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X