विज्ञापन
विज्ञापन
आज ही बनवाएं फ्री जन्म कुंडली और पाएं समस्त परेशानियों के ज्योतिष्य समाधान
Kundali

आज ही बनवाएं फ्री जन्म कुंडली और पाएं समस्त परेशानियों के ज्योतिष्य समाधान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

राम मंदिर के लिए 10 करोड़ परिवारों से आर्थिक सहयोग लेगा विहिप

श्रीरामजन्मभूमि मंदिर का भूमि पूजन होने के साथ ही राममंदिर निर्माण की प्रक्रिया भी अब गति पकड़ने लगी है। इसी क्रम में विहिप ने राममंदिर निर्माण के लिए एक बड़ी योजना बनाई है। 

विहिप शिलापूजन अभियान के तर्ज पर देश के चार लाख गांवों में जनसंपर्क अभियान चलाकर प्रत्येक परिवार से राममंदिर निर्माण के लिए आर्थिक सहयोग लेगी। माना जा रहा है कि विहिप यह अभियान दिसंबर से शुरू कर सकती है।

विहिप की योजना देश में चार लाख स्थानों पर कार्यक्रम आयोजित करने की है। इस कार्यक्रम के जरिये संगठन देश के दस करोड़ से अधिक परिवारों तक अपना संदेश पहुंचायेगा। विहिप के केंद्रीय मंत्री अशोक तिवारी ने बताया कि राममंदिर निर्माण के लिए पूरे देश के चार लाख गांवों में जनसंपर्क अभियान चलाया जाएगा। 

इस संपर्क अभियान के जरिए लोगों से उनकी क्षमता के मुताबिक राम मंदिर के लिए आर्थिक सहयोग करने की अपील की जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए विहिप की अभी कोई बैठक नहीं होगी। 

माहौल सामान्य होने पर राम मंदिर के लिए व्यापक संपर्क अभियान चलाएंगे। बताया कि अब राम मंदिर निर्माण के लिए विहिप देश के 4 लाख गांवों के 10 करोड़ परिवारों से संपर्क साधा जाएगा। 

हर परिवार से आर्थिक सहयोग करने की अपील की जाएगी। लोगों को राममंदिर की महत्ता और मंदिर आंदोलन की स्मृतियों से रूबरू कराया जाएगा। राममंदिर का भूमिपूजन होने के बाद मंदिर निर्माण की मुहिम से जुड़ने की इच्छा देश दुनिया के हर रामभक्त के मन में मचल रही है। ऐसे में विहिप का यह आयोजन उनकी इच्छा पूरी करने के लिए बेहतर माध्यम होगा। 

इस आयोजन को लेकर अभी संगठन में शीर्ष स्तर पर मंथन चल रहा है। आगामी नौ से 16 अगस्त के बीच संपन्न होने वाले विहिप के स्थापना दिवस कार्यक्रम के उपरांत इसकी वास्तविक रूपरेखा सामने आ सकती है

1989 में चला था शिलापूजन अभियान 
-अशोक तिवारी ने बताया कि 1989 में चले शिलापूजन अभियान के तर्ज पर यह जनसंपर्क अभियान चलाया जाएगा। उस समय विहिप ने देश के पौने तीन लाख गांवों में यह अभियान चलाकर सवा रूपए व एक ईंट दान में ले थी। तब देश के कोने-कोने सहित विश्व के 55देशों से रामशिलाएं व दान अयोध्या आया था। करीब तीन लाख राम शिलाएं एकत्र हुईं थी जो वर्तमान में रामघाट स्थित न्यास कार्यशाला में सुरक्षित रखी हैं।
... और पढ़ें
राम मंदिर राम मंदिर

अगस्त क्रांति के दौरान धधक उठी थी ताजनगरी, क्रांतिकारियों ने फूंक दिए थे अंग्रेजों के दफ्तर

अगस्त क्रांति के दौरान ताजनगरी धधक उठी थी। उस समय यहां कई ऐसी घटनाएं हुई थीं, जिससे अंग्रेज अफसर दहशत में आ गए थे। उनमें सबसे ज्यादा हलचल आयकर दफ्तर फूंके जाने से मची थी। यह काम बहुत मुश्किल था, लेकिन क्रांति की मशाल थाम आजादी के दीवाने कहां रुकने वाले थे। पुलिस का सख्त पहरा होने के बावजूद दफ्तर को आग लगाई गई थी।

अगस्त क्रांति आंदोलन की शुरुआत 9 अगस्त, 1942 को हुई थी। आगरा में उस समय आयकर दफ्तर उड़ेसर हाउस के पास एक कोठी में था। दफ्तर फूंकने में क्रांतिकारी प्रेमदत्त्त पालीवाल, पंडित श्रीराम शर्मा के दल से मनोहर लाल शर्मा, बसंत लाल झा, गोपीनाथ शर्मा, रामशरण सिंह, विजय शरण चौधरी, रामानंदाचार्य, पीतांबर पंत, रवि वर्मा शामिल थे। 


तारा सिंह धाकरे दल से रामबाबू पाठक, इंद्रपाल सिंह, शेख इनाम और पुरुषोत्तम गौतम थे। क्रांतिकारियों ने आयकर दफ्तर फूंकने के लिए तीन बार रात में प्रयास किया गया, लेकिन कामयाबी नहीं मिली। इसके बाद पुलिस का कड़ा पहरा लगा दिया गया। लेकिन क्रांतिकारियों ने पहरेदारों को काबू कर लिया गया। 

विजयशरण चौधरी ने माचिस खोलकर तारा सिंह धाकरे को दी, उन्होंने अग्नि प्रज्ज्वलित कर दी। अन्य साथियों ने रजिस्टर और अन्य कागज आग में डाल दिए। इसके बाद सभी क्रांतिकारी महाराजा अवागढ़ के बाग से लगी बाउंड्री के पास इकट्ठे होकर जलते आयकर दफ्तर की लपटों को देखते रहे। पूरा दफ्तर जल गया था। 
... और पढ़ें

Varanasi Corona News Updates: भाजपा विधायक सौरभ श्रीवास्तव समेत 197 लोग मिले कोरोना पॉजिटिव, दो की मौत

वाराणसी कैंट विधायक सौरभ श्रीवास्तव की कोरोना रिपोर्ट शनिवार को पॉजिटिव आई। इसके अलावा एसीएम तृतीय सिद्धार्थ यादव भी संक्रमित हुए हैं। सौरभ श्रीवास्तव ने अपनी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने की जानकारी देते हुए लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते रहने की अपील की है।

उन्होंने अपनेे फेसबुक अकाउंट पोस्ट में लिखा " संपर्क में आने वाले लोग खुद को क्वारंटीन कर लें और आवश्यकतानुसार अपनी जांच भी करा लें। लक्षण रहित होने के कारण चिकित्सकों की राय पर मैं वर्तमान में अपने आवास पर ही क्वारंटीन हूं। "  शनिवार को विधायक का जन्मदिन भी था।

इनके अलावा शनिवार को भी दो मरीजों की मौत हो गई और 196 नए मरीज मिले हैं। इसमे सात बच्चों, ईएसआई में दो, ज्ञानवापी इलाके में छह, हुकुलगंज में पांच मरीज मिले हैं।

स्वास्थ्य विभाग को बीएचयू से शनिवार को 2250 सैंपल की रिपोर्ट मिली है। जिसमें स्वास्थ्य केंद्रों द्वारा लिए गए सैम्पल के साथ ही अलग-अलग कालोनियों से भी संक्रमित मरीज मिले हैं। सीएमओ डॉक्टर वीबी सिंह ने बताया कि बीएचयू में भर्ती रानीपुर महमूरगंज निवासी 35 वर्षीय महिला और एपेक्स हॉस्पिटल में भर्ती सिगरा नेहरू नगर निवासी 51 वर्षीय पुरुष की मौत हो गई है।

इसके बाद कुल मरने वालों की संख्या 79 पहुंच गई है। नए मरीजों में चंद्रा रेजिडेंसी हुकुलगंज में 3 साल के बच्चे के साथ तीन, बुद्ध विहार कॉलोनी, शुकुलपुरा महमूरगंज, कोनिया, बड़ी गैबी, अस्सी, शिवपुर में एक-एक मरीज मिलने के साथ ही पुराना पान दरीबा, सोनकर बस्ती जगतगंज में तीन, सिकरौल कैंट में तीन, माधोपुर में तीन हुकूलगंज में 3 मरीज मिले हैं।
... और पढ़ें

exclusive: फ्लाइट से कंपनियां बुला रहीं प्रवासी कामगार, माह भर में दोगुना हुए हवाई सफर के यात्री

जेठवारा प्रतापगढ़ के रहने वाले प्रवीण शुक्ला सूरत की एक टेक्सटाइल्स कंपनी में काम करते हैं। लॉकडाउन के दौरान कंपनी बंद हो गई तो वह अप्रैल माह के आखिरी सप्ताह में वापस आ गए। तकनीकी जानकार होने की वजह से पिछले माह से ही उन्हें उनकी कंपनी द्वारा बुलाया जा रहा है। सूरत के लिए सीधी ट्रेन न होने पर होने पर कंपनी ने उनकी हवाई टिकट वाया मुंबई भेज दी। अब प्रवीण मुंबई के लिए रवाना हो गए। इसी तरह कर्नाटक के बंगलुरु की एक केमिकल फैक्ट्री में काम करने वाले श्याम सुंदर मिश्र, जो झूंसी के रहने वाले हैं, उन्हें भी उनकी कंपनी की ओर से बंगलूरू की हवाई टिकट भेजकर बुलवा लिया है।

प्रयागराज एयरपोर्ट पर प्रवीण और श्याम सुंदर जैसे लोग मिल जाएंगे। लॉकडाउन की वजह से गुजरात, महाराष्ट्र एवं अन्य राज्यों की जो कंपनियां बंद हुई थीं, वह अब अपने तकनीकी रूप से दक्ष कर्मचारियों को वापस बुलाने लगी हैं। आलम ये है कि तमाम कंपनियां अपने कर्मचारियों को हवाई टिकट भी मुहैया करवा रही हैं। इसमें से कुछ ऐसे भी कामगार हैं, जो लॉकडाउन के पूर्व पहले कभी भी हवाई जहाज पर नहीं बैठे। प्रयागराज आने के लिए वह ट्रेन आदि का ही प्रयोग करते रहे। अब जब अनलॉक होने के बाद कंपनियां खुली हैं और प्रोडक्शन बढ़ाना है तो हुनरमंद कर्मचारियों को वापस बुलाने की पूरी जोर आजमाइश की जा रही है। 

एयरपोर्ट प्रशासन ने भी माना है कि जुलाई माह के दौरान काफी संख्या में कामगार प्रयागराज से पुणे, मुंबई, बंगलूरू एवं दिल्ली आदि के लिए रवाना हुए। जून माह की ही बात करें तो प्रयागराज एयरपोर्ट पर कुल 126 फ्लाइट का आवागमन हुआ। इस दौरान प्रयागराज से विभिन्न शहरों के लिए कुल 5142 यात्री रवाना हुए। जबकि बाहर से आने वालों की संख्या 12696 रही। जबकि जुलाई 2020 में एकाएक प्रयागराज से सफर करने वाले यात्रियों की संख्या में दोगुनी वृद्धि हो गई। इस दौरान 10041 यात्री प्रयागराज से पुणे, मुंबई, बंगलूरू, दिल्ली आदि शहरों की ओर गए। एयरपोर्ट प्रशासन भी यह मान कर चल रहा है कि अगस्त माह में यात्रियों की संख्या में जुलाई माह के मुकाबले ज्यादा वृद्धि होगी।

जून में 17 तो जुलाई में 26 हजार यात्रियों का हुआ आवागमन

अनलॉक होने के बाद प्रयागराज एयरपोर्ट में यात्री आवागमन की संख्या में भी इजाफा हो रहा है। जून माह के दौरान प्रयागराज एयरपोर्ट में कुल 17838 यात्रियों का आवागमन हुआ। जुलाई माह में यह आंकड़ा बढ़कर 26010 यात्री पर पहुंच गया।  जुलाई में जहां 10041 यात्रियों ने प्रयागराज से पुणे, दिल्ली, गोरखपुर, मुंबई, बंगलूरू एवं कोलकाता के लिए उडान भरी तो वहीं इन शहरों से आने वालों की संख्या 15969 रही। इसी तरह मई माह  में कुल 36 फ्लाइट का आवागमन हुआ। इससे 2403 यात्रियों की आवाजाही हुई। दरअसल 26 मई से ही लॉकडाउन के बाद प्रयागराज एयरपोर्ट से हवाई सेवा शुरू हुई। इस तरह से तीन माह के दौरान 46251 यात्रियों का विमान द्वारा प्रयागराज में आवागमन हुआ।

प्रयागराज एयरपोर्ट में मई, जून, जुलाई में हवाई सफर करने वालों की संख्या
माह   प्रयागराज से जाने वाले   प्रयागराज में आने वाले   कुल फ्लाइट
जून     5142     12696     226
जुलाई   10041   15969   324
... और पढ़ें

गांजा तस्करी मामले में चौकी इंचार्ज और दो सिपाही लाइन हाजिर

हवाई यात्रा
गुराना रोड पर पहले रक्षाबंधन पर सांप्रदायिक झगड़े और इसके बाद गांजा तस्करों के खिलाफ हंगामे ने तूल पकड़ा। अब एसपी अजय कुमार सिंह ने बड़ौत की बस स्टैंड चौकी प्रभारी कन्छिद सिंह, सिपाही महेश और रामबक्स को लाइन हाजिर कर दिया है। वहीं, पुलिस चौकी बोहला पर तैनात सिपाही उदित चौधरी को लगातार मिल रही शिकायतों पर लाइन हाजिर किया गया है।

एसपी अजय कुमार सिंह ने बताया कि बड़ौत के गुराना रोड पर तीन अगस्त की रात दो पक्षों के बीच झगड़ा हो गया था। प्रकरण में पुलिस चौकी इंचार्ज और अन्य पुलिसकर्मियों ने लापरवाही बरती, जिस कारण मामला बढ़ता गया। अधिकारियों को सही जानकारियां नहीं दी गई। लापरवाही बरतने वाले बस स्टैंड चौकी प्रभारी कन्छिद सिंह को लाइन हाजिर कर दिया है। 

पुलिस लाइन से उपनिरीक्षक अमोल कुमार शर्मा को चौकी बस स्टैंड प्रभारी बनाया गया है। इसके अलावा सिपाही महेश, रामबक्स को लाइन हाजिर कर दिया है। अधिकारियों को रोजाना मिल रही शिकायतों के बाद पुलिस चौकी बोहला पर नियुक्त सिपाही उदित चौधरी को लाइन हाजिर किया है।

शराब, गांजा और नशीले पदार्थों की तस्करी की शिकायतें
बस स्टैंड चौकी और बोहला चौकी क्षेत्र में शराब, गांजा और नशीले पदार्थों की तस्करी की शिकायतें अधिकारियों को मिल रही थीं। महिलाओं ने हंगामा किया, लेकिन स्थानीय पुलिस नहीं जागी। इसी कारण अब पुलिसकर्मियों पर यह कार्रवाई की गई है।

इंस्पेक्टर और एसआई किए गए थे निलंबित
गाधी गांव में हुए झगड़े के मामले में भी पुलिस लापरवाही बनी रही। रक्षाबंधन के दिन गांव में हत्या हो गई। इंस्पेक्टर और हल्का इंचार्ज को निलंबित कर दिया गया था।
... और पढ़ें

यूपी में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने का नया रिकॉर्ड बना, प्रदेश में 46177 सक्रिय मामले

यूपी में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने का नया रिकॉर्ड बन गया। शनिवार को एक दिन में सर्वाधिक 4800 मरीज सामने आए हैं। इससे पहले 06 अगस्त को 4658, 03 अगस्त को 4473 और 31 जुलाई को 4453 मरीज मिले थे। एक दिन में सर्वाधिक मरीजों के रिकॉर्ड के साथ ही प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 46177 हो गई है। अब तक कुल 69833 मरीजों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। मरने वाले मरीजों का आंकड़ा भी 2028 हो गया है। अब तक प्रदेश में कुल 119199 पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं। 

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार शनिवार को लखनऊ में 663, कानपुर में 253, नोएडा 65, गाजियाबाद 103, वाराणसी 221, प्रयागराज 256, बरेली 132, गोरखपुर 226, झांसी 55, जौनपुर 71, मेरठ 50, मुरादाबाद 60, बलिया 103, आगरा 35, अलीगढ़ 101, देवरिया 111, गाजीपुर 92, आजमगढ़ 113, रामपुर 81, अयोध्या 62, शाहजहांपुर 80, बाराबंकी 17, बुलंदशहर 25, सहारनपुर 58, हापुड़ 10, हरदोई 22, संतकबीर नगर 43, कुशीनगर 155, चंदौली 37, गोंडा 58, मथुरा 19, बस्ती 42, महाराजगंज 47, संभल 13, सिद्धार्थ नगर 70, उन्नाव 48, कन्नौज 29, सुल्तानपुर 64, पीलीभीत 46, मुजफ्फर नगर 60, मिर्जापुर 49, इटावा 35, बहराइच 47, बिजनौर 48, मैनपुरी 46, फिरोजाबाद 26, अमरोहा 50, सोनभद्र 38, रायबरेली 17, सीतापुर 86, जालौन 20, प्रतापगढ़ 71, लखीमपुर खीरी 61, फतेहपुर 53, मऊ 27, भदोही 14, बागपत 05, बदायूं 10, अमेठी 38, औरैया 14, शामली 12, ललितपुर 21, कासगंज 21, एटा 16, कौशांबी 22, कानपुर देहात 14, बलरामपुर 38, हमीरपुर 11, आंबेडकर नगर 28, बांदा 08, हाथरस 07, चित्रकूट 07 और श्रावस्ती में 11 मरीज मिले हैं। इसके अलावा 47 मरीजों की मौत हुई है और 2999 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है।  एक लाख से अधिक नमूने जांचे यूपी ने एक दिन में 102982 नमूने जांच करके फिर से रिकार्ड बनाया है। अब तक प्रदेश में 2996406 नमूने जांचे जांचे जा चुके हैं। उतर प्रदेश से जांच के मामले में सिर्फ तमिलनाडु लगभग दो लाख जांच ज्यादा करके आगे हैं। प्रदेश में अब 15678 मरीज होम आइसोलेशन और सेमी पेड में 178 लोग हैं।
... और पढ़ें

हॉटस्पॉट घर से निकलने न दे... बिजली कटौती रहने न दे

डा. दीप्ति की दहेज हत्या में पति डा. सुमित गिरफ्तार , क्राइम सीन री कंस्ट्रक्ट करेगी एफएसएल की टीम 

थाना ताजगंज के विभव वैली व्यू अपार्टमेंट में डा. दीप्ति अग्रवाल की दहेज के लिए हत्या के केस में आरोपी पति डा. सुमित अग्रवाल को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। उधर, एसएसपी बबलू कुमार ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। पुलिस टीम ने एक बार फिर फ्लैट में तलाशी ली। एसएसपी ने तमाम बिंदुओं पर जांच के लिए थाना पुलिस को निर्देशित किया है। डा. सुमित के बयानों में विरोधाभास को लेकर नौकरानी और पड़ोसियों से भी पूछताछ हुई। अब पुलिस क्राइम सीन को री कंस्ट्रक्ट कराएगी। 

शहर के प्रताप पुरा निवासी वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ डा. एससी अग्रवाल के बेटे डा. सुमित की पत्नी डा. दीप्ति अग्रवाल की मौत के मामले में दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया गया है। डा. दीप्ति के पिता डा. नरेश मंगला ने मुकदमे में ससुर डा. एससी अग्रवाल, पति डा. सुमित, सास अनीता, जेठ डा. अमित और जिठानी तुलिका को नामजद किया था। 
शनिवार दोपहर दो बजे एसएसपी बबलू कुमार फ्लैट पर पहुंचे। 

इस दौरान सीओ सदर प्रभात कुमार और थाना ताजगंज के प्रभारी निरीक्षक नरेंद्र कुमार भी मौजूद रहे। पुलिस टीम ने फ्लैट की तलाशी ली। एसएसपी ने बताया कि डा. सुमित अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया गया। उनसे पूछताछ की जा रही है। 
... और पढ़ें
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन