विज्ञापन
विज्ञापन
कुंडली में स्थित मंगल और शनि का सम्बन्ध किस प्रकार करेगा आपको प्रभावित !
astrology

कुंडली में स्थित मंगल और शनि का सम्बन्ध किस प्रकार करेगा आपको प्रभावित !

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

दो दिवसीय दौरे पर आज वाराणसी आ रहे सीएम योगी, विकास कार्यों की समीक्षा के साथ करेंगे स्थलीय निरीक्षण 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दौरे पर आज वाराणसी आएंगे। शाम को मुख्यमंत्री विकास कार्यों और कानून व्यवस्था की समीक्षा करेंगे। इसके अलावा विकास परियोजनाओं का स्थल निरीक्षण भी करेंगे। वे सेवापुरी इलाके में नीति आयोग की योजना की विस्तृत रिपोर्ट देखेंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शाम को ही वाराणसी पहुंचेंगे। सर्किट हाउस में समीक्षा बैठक के बाद देर रात काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन के साथ ही परियोजनाओं का स्थलीय निरीक्षण करेंगे।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि सीएम कुछ परियोजनाओं का उद्घाटन भी करेंगे। इसके अलावा कोरोना काल में स्वास्थ्य सुविधाओं की हकीकत जानने के लिए मुख्यमंत्री अस्पताल का भी दौरा कर सकते हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से इसकी तैयारी भी चल रही है।
... और पढ़ें
सीएम योगी आदित्यनाथ। सीएम योगी आदित्यनाथ।

तीर्थ का बहाना बनाकर पाकिस्तान से भारत लौटे छह हिंदू परिवार, यूपी के इस जिले में मिला आसरा

पाकिस्तान के लोगों से परेशान होकर छह हिन्दू परिवार तीर्थ का बहाना बनाकर हिंदुस्तान चले आए। पाकिस्तान से आए हिंदुओं को मुजफ्फरनगर के मोरना में ग्राम शुक्रताल के पूर्व प्रधान नीरज रॉयल शास्त्री ने दिल्ली से लाकर खेती करने के लिए जमीन दी है जिससे उनका व उनके परिवार का गुजारा हो सके। वहीं भाजपा के कार्यकर्ताओं ने पाकिस्तान से आए हिंदुओं का स्वागत किया तथा हर संभव मदद करने की बात कही है।

तीर्थ नगरी शुकतीर्थ के पूर्व प्रधान नीरज रॉयल शास्त्री ने बताया कि उनको पता चला था कि पाकिस्तान से कुछ हिंदू परिवार जुल्म के कारण पाकिस्तान को छोड़कर हिंदुस्तान में चले आए हैं। पाकिस्तान से छह परिवार तीर्थ करने का बहाना बनाकर वहां से निकल आए और हिंदुस्तान में आकर मेहनत मजदूरी करने लगे।

नीरज रॉयल, सुनील चौधरी, राजेंद्र सिंह वीरपाल सहरावत सोनू कुमार, महक सिंह, सत्य कुमार, सोनवीर आदि लोग पाकिस्तान से आए लोगों को दिल्ली लेने के लिए पहुंच गए और इन लोगों को रहने व खाने की व्यवस्था कराई।
... और पढ़ें

अमर उजाला की पहलः इस बार झांसी में 19 नवंबर को भी मनेगी दिवाली

इस बार दिवाली 14 नवंबर को है। महानगर में दीप मालाएं सजेंगी और सभी पर्व की खुशियां मनाएंगे। खास बात यह है कि ठीक पांच दिन बाद ऐसा ही उत्साह और नजारा 19 नवंबर को भी रहेगा क्योंकि इस दिन रानी लक्ष्मीबाई जिन्हें स्थानीय जन  प्यार से बाई सा के नाम से पुकारते हैं का जन्मोत्सव है।

इस खुशी में एक बार फिर शहर में दीपावली सा नजारा होगा। घर-घर दीप जलेंगे, बिजली की झालरों से चौराहे, बाजार, प्रमुख स्थल जगमगाएंगे। मिठाइयां बटेंगी, बधाई गीत बजेंगे। चहुंओर खुशियां ही खुशियां होंगी...।

शहर के तमाम सांस्कृतिक, सामाजिक संगठन अमर उजाला की इस पहल पर महोत्सव में चार चांद लगाने के लिए आगे बढ़ कर आ रहे हैं। 

रानी लक्ष्मीबाई केवल झांसी ही नहीं, बल्कि समूचे भारत का गौरव हैं। उनका जन्मोत्सव धूमधाम के साथ मनाया
जाएगा। अधिवक्ता भी रानी के जन्मोत्सव पर अपने घर में दीप जलाएंगे।
- प्रणय श्रीवास्तव, सचिव - जिला अधिवक्ता संघ

वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई ने भारत की नारी का मस्तक पूरी दुनिया में ऊंचा करने का काम किया था। उनकी जयंती झांसी के लिए किसी पर्व से कम नहीं है। इसे धूमधाम से मनाया जाएगा।
- कंचन आहूजा, प्रदेश उपाध्यक्ष - महिला उद्योग व्यापार मंडल

रानी की जयंती झांसी ही नहीं, बल्कि पूरे देश की नारी शक्ति के लिए सबसे महत्वपूर्ण दिन है। उनके जन्मोत्सव पर संस्था की ओर से कई कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।
- वैशाली पुंशी, अध्यक्ष - कोहिनूर आलवेज ब्राइट

रानी के जन्मोत्सव पर केवल घरों में ही नहीं, बल्कि महानगर की सड़कों और चौराहों को भी रोशन किया जाएगा। आयोजन की रूपरेखा तैयार की जाने लगी है।
- दिलीप पांडेय, अध्यक्ष - ब्राह्मण समाज

वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई की जयंती झांसी के लिए सबसे खास और सबसे बड़ा दिन है। इस दिन झांसी दूसरी दीपावली मनाएगा। हर चौराहे और सड़क को रोशन किया जाएगा।
- जगमोहन बड़ौनिया, अध्यक्ष - बुंदेलखंड साउंड एसोसिएशन

प्रेमनगर क्षेत्र में समिति के माध्यम से विशेष आयोजन किए जाएंगे। आज की पीढ़ी को रानी के गौरवपूर्ण इतिहास से परिचित कराने के लिए स्कूली बच्चों के साथ मिलकर विविध आयोजन होंगे।
- तरुण अरोड़ा, अध्यक्ष - बुंदेलखंड जन शिक्षा उत्थान समिति

करणी सेना का हर सदस्य वीरांगना का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाएगा। संस्था के सदस्य अपने घरों में दीप जलाएंगे ही, दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित कर रहे हैं।
- डॉ. दीपिका त्रिपाठी, मंडल प्रभारी - करणी सेना

संस्था के तत्वावधान में हर साल रानी की जयंती पर दीपांजलि का आयोजन होता है। इस बार कार्यक्रम को और भी भव्यता के साथ किया जाएगा। इसकी तैयारियां शुरू कर दी गईं हैं।
- स्वप्निल मोदी, अध्यक्ष - भारत विकास परिषद (मणिकर्णिका)
... और पढ़ें

प्रदेश में 16वां सबसे प्रदूषित शहर है मेरठ, लगातार बिगड़ रही हवा की सेहत, सांस लेना मुश्किल 

कन्नौज: जज के फर्जी हस्ताक्षर और मोहर लगाकर बना दिया रिलीज ऑर्डर, ऐसे खुला मामला

pollution in meerut
कन्नौज जिले में भारी रकम लेकर जज के फर्जी हस्ताक्षर और मोहर लगा वाहन रिलीज ऑर्डर खुद जारी करने वाले लोगों का पता चला है। इंदरगढ़ पुलिस को इसकी भनक तब लगी जब उसके सामने एक ट्रैक्टर को छोड़ने के लिए रिलीज आर्डर लेकर किसान पहुंच गया।

रिलीज ऑर्डर फर्जी होने की आशंका पर थाना प्रभारी ने छानबीन की तो इसकी पुष्टि भी हो गई। पुलिस ने फिलहाल ट्रैक्टर मालिक किसान को गिरफ्तार कर मुकदमा दर्ज किया है। इसी के सहारे व गैंग तक पहुंचने की जुगत कर रही है। इस मामले में कुछ वकील भी फंस सकते हैं।

इटावा जनपद के थाना बसरेर के गांव दरौल निवासी जन्मेद सिंह ने पत्नी आजाद कुमारी के नाम से ट्रैक्टर खरीदा था। करीब एक माह पूर्व एआरटीओ ने इंदरगढ़ थाना क्षेत्र में ट्रैक्टर को ओवरलोडिंग में सीज कर थाने में खड़ा करा दिया था।

कोर्ट से रिलीज ऑर्डर लेने के प्रयास के दौरान जन्मेद की कुछ वकीलों से जान-पहचान हो गई। वकीलों ने उससे 53 हजार रुपये लेकर स्वयं सीजेएम के फर्जी हस्ताक्षर और मोहर लगाकर रिलीज ऑर्डर तैयार कर दिया। बीते गुरुवार को इंदरगढ़ निवासी एक वकील के साथ रिलीज ऑर्डर लेकर जन्मेद सिंह इंदरगढ़ थाने पहुंचा।
... और पढ़ें

शर्मसारः शराबी बेटे ने बुजुर्ग मां को बनाया हवस का शिकार, पुलिस ने किया गिरफ्तार

मोहम्मदी कोतवाली क्षेत्र में मां-बेटे का पवित्र रिश्ता कलंकित करने का मामला सामने आया है। 40 वर्षीय कलुयुगी बेटे ने मंगलवार की रात घर में सो रही 80 वर्षीय बुजुर्ग मां को अपनी हवस का शिकार बना डाला। जानकारी मिलने पर नोएडा से आए पौत्र की तहरीर पुलिस ने गुरुवार को आरोपी बेटे के खिलाफ दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

कोतवाली मोहम्मदी क्षेत्र निवासी बुजुर्ग महिला के पौत्र ने बताया कि वह नोएडा में प्राइवेट काम करता है। बाबा की मौत होने के बाद उसकी 80 वर्षीय दादी घर पर अपने 40 वर्षीय छोटे बेटे के साथ रहती हैं। मंगलवार की रात दादी घर के अंदर चारपाई पर सो रही थी, जबकि आरोपी की 12 वर्षीय बेटी दादी के पास दूसरी चारपाई पर सो रही थी। आरोपी बेटा रात एक बजे नशे की हालत में घर आया और उसने दादी को चारपाई पर दबोचकर दुष्कर्म किया।

विरोध करने पर जान से मार देने की धमकी दी। शोरशराबा होने पर आरोपी की बेटी जाग गई। वह चीखकर वहां से भागी।आसपास के लोगों ने घटना की सूचना उसे दी। सूचना पाकर पहुंचे पौत्र ने पुलिस को आरोपी बेटे (चाचा) के खिलाफ तहरीर दी है। प्रभारी निरीक्षक बृजेश सिंह ने बताया कि पुलिस ने पौत्र की तहरीर पर दुष्कर्म पीड़िता के आरोपी बेटे के खिलाफ दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

एसपी विज ढुल ने बताया कि महिला के पोते की तहरीर पर दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। पुलिस ने आरोपी बेटे को गिरफ्तार कर लिया है। आगे की विधि कार्रवाई की जा रही है।
... और पढ़ें

बरेली शिक्षक हत्याकांड में सनसनीखेज खुलासा, पत्नी ने सुपारी में वही रकम दी, जो पति ने उसे कार...

प्रियंका गांधी ने मुख्यमंत्री योगी को बुनकरों की समस्याओं पर लिखा पत्र, सामने रखीं तीन मांगें

कांग्रेस की यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर उनकी समस्याओं का तत्काल समाधान करने की मांग की है।

उन्होंने पत्र में लिखा है कि पिछले कुछ समय से वाराणसी के बुनकर बहुत ही परेशान और हताश हैं। पूरी दुनिया में मशहूर बनारसी साड़ियों के बुनकरों के परिवार दाने-दाने को मोहताज हो गए हैं। कोरोना महामारी और सरकारी नीतियों के चलते उनका पूरा कारोबार चौपट हो गया है जबकि उनकी हस्तकला द्वारा सदियों से उत्तर प्रदेश का नाम रौशन हुआ है। उत्तर प्रदेश सरकार को इस कठिन दौर में उनकी पूरी सहायता करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार ने 2006 में बुनकरों के लिए फ्लैट रेट पर बिजली देने की योजना लागू की थी। मगर आपकी सरकार यह योजना खत्म करके बुनकरों के साथ बहुत नाइंसाफी कर रही है। सिर्फ इतना ही नहीं बुनकरों ने मुझे बताया कि मनमाने बिजली बिल के खिलाफ जब वे हड़ताल पर गए तो सरकार ने उन्हें वार्ता के लिए बुलाया। सरकार के प्रतिनिधि ने उन्हें भरोसा भी दिलाया कि उनकी मांगे मान ली जाएंगी लेकिन इसके बावजूद उनकी समस्याओं का समाधान नहीं हुआ।

उन्होंने बुनकरों की तीन मांगें रखी:
1. फ्लैट रेट पर बिजली देने की योजना बहाल की जाए।
2. फर्जी बकाया के नाम पर बुनकरों का उत्पीड़न तत्काल प्रभाव से रोका जाए।
3. बुनकरों के बिजली कनेक्शन न काटे जाएं। जो बिजली के कनेक्शन कट गए हैं उन्हें तत्काल जोड़ा जाए।

... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X