विज्ञापन
विज्ञापन
शिक्षा, शादी, करियर, जॉब फ्री जन्मकुंडली से जानें कैसे रहेगा भविष्य
astrology

शिक्षा, शादी, करियर, जॉब फ्री जन्मकुंडली से जानें कैसे रहेगा भविष्य

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

शर्मसारः शराबी बेटे ने बुजुर्ग मां को बनाया हवस का शिकार, पुलिस ने किया गिरफ्तार

मोहम्मदी कोतवाली क्षेत्र में मां-बेटे का पवित्र रिश्ता कलंकित करने का मामला सामने आया है। 40 वर्षीय कलुयुगी बेटे ने मंगलवार की रात घर में सो रही 80 वर्षीय बुजुर्ग मां को अपनी हवस का शिकार बना डाला। जानकारी मिलने पर नोएडा से आए पौत्र की तहरीर पुलिस ने गुरुवार को आरोपी बेटे के खिलाफ दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

कोतवाली मोहम्मदी क्षेत्र निवासी बुजुर्ग महिला के पौत्र ने बताया कि वह नोएडा में प्राइवेट काम करता है। बाबा की मौत होने के बाद उसकी 80 वर्षीय दादी घर पर अपने 40 वर्षीय छोटे बेटे के साथ रहती हैं। मंगलवार की रात दादी घर के अंदर चारपाई पर सो रही थी, जबकि आरोपी की 12 वर्षीय बेटी दादी के पास दूसरी चारपाई पर सो रही थी। आरोपी बेटा रात एक बजे नशे की हालत में घर आया और उसने दादी को चारपाई पर दबोचकर दुष्कर्म किया।

विरोध करने पर जान से मार देने की धमकी दी। शोरशराबा होने पर आरोपी की बेटी जाग गई। वह चीखकर वहां से भागी।आसपास के लोगों ने घटना की सूचना उसे दी। सूचना पाकर पहुंचे पौत्र ने पुलिस को आरोपी बेटे (चाचा) के खिलाफ तहरीर दी है। प्रभारी निरीक्षक बृजेश सिंह ने बताया कि पुलिस ने पौत्र की तहरीर पर दुष्कर्म पीड़िता के आरोपी बेटे के खिलाफ दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

एसपी विज ढुल ने बताया कि महिला के पोते की तहरीर पर दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। पुलिस ने आरोपी बेटे को गिरफ्तार कर लिया है। आगे की विधि कार्रवाई की जा रही है।
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

प्रियंका गांधी ने मुख्यमंत्री योगी को बुनकरों की समस्याओं पर लिखा पत्र, सामने रखीं तीन मांगें

कांग्रेस की यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर उनकी समस्याओं का तत्काल समाधान करने की मांग की है।

उन्होंने पत्र में लिखा है कि पिछले कुछ समय से वाराणसी के बुनकर बहुत ही परेशान और हताश हैं। पूरी दुनिया में मशहूर बनारसी साड़ियों के बुनकरों के परिवार दाने-दाने को मोहताज हो गए हैं। कोरोना महामारी और सरकारी नीतियों के चलते उनका पूरा कारोबार चौपट हो गया है जबकि उनकी हस्तकला द्वारा सदियों से उत्तर प्रदेश का नाम रौशन हुआ है। उत्तर प्रदेश सरकार को इस कठिन दौर में उनकी पूरी सहायता करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार ने 2006 में बुनकरों के लिए फ्लैट रेट पर बिजली देने की योजना लागू की थी। मगर आपकी सरकार यह योजना खत्म करके बुनकरों के साथ बहुत नाइंसाफी कर रही है। सिर्फ इतना ही नहीं बुनकरों ने मुझे बताया कि मनमाने बिजली बिल के खिलाफ जब वे हड़ताल पर गए तो सरकार ने उन्हें वार्ता के लिए बुलाया। सरकार के प्रतिनिधि ने उन्हें भरोसा भी दिलाया कि उनकी मांगे मान ली जाएंगी लेकिन इसके बावजूद उनकी समस्याओं का समाधान नहीं हुआ।

उन्होंने बुनकरों की तीन मांगें रखी:
1. फ्लैट रेट पर बिजली देने की योजना बहाल की जाए।
2. फर्जी बकाया के नाम पर बुनकरों का उत्पीड़न तत्काल प्रभाव से रोका जाए।
3. बुनकरों के बिजली कनेक्शन न काटे जाएं। जो बिजली के कनेक्शन कट गए हैं उन्हें तत्काल जोड़ा जाए।

... और पढ़ें

जात-पात की पार्टी नहीं है भाजपा, हमारा लक्ष्य सबका साथ, सबका विकास: डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा

उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि भाजपा जात-पात वाली पार्टी नहीं है। हमारा लक्ष्य सबका साथ और सबका विकास करना है। मोदी और योगी सरकार सभी वर्गों के लिए काम कर रही है। कोरोना संकट काल में जब दुनिया पस्त थी, उन्हें कुछ सूझ नहीं रहा था, तब हमारे प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ने मजबूती के साथ इसका सामना किया।

उपमुख्यमंत्री गुरुवार को बैतालपुर के चीनी मिल ग्राउंड पर देवरिया विधानसभा उपचुनाव के प्रत्याशी डॉ. सत्यप्रकाश मणि त्रिपाठी के पक्ष में आयोजित चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि देवरिया के उप विधानसभा चुनाव में टिकट न मिलने पर हमारे ही एक कार्यकर्ता को ओमप्रकाश राजभर ने सपा की बी टीम के रुप में चुनाव मैदान में उतार दिया है, लेकिन जनता उनके भ्रमजाल में पड़ने वाली नहीं है।

वह उनके मंसूबे को भांप चुकी है। बसपा सुप्रीमो मायावती का आरोप है कि सपा गुंडों की पार्टी है और मेरी कभी भी हत्या करा देगी। मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि गुंडागर्दी खत्म कर हमने प्रदेश में अपराध मुक्त सरकार दिया है।

 
... और पढ़ें

कन्नौज: सात साल की दिव्यांग से युवक ने किया दुष्कर्म, पीड़िता के पिता ने पुलिस से लगाई मदद की गुहार

कन्नौज जिले के सौरिख में इलाके के एक गांव में रहने वाले युवक ने मोहल्ले की सात साल की दिव्यांग को झाड़ियों में ले जाकर दुष्कर्म किया। खून से लथपथ मासूम घर पहुंची तो परिजनों को वारदात की जानकारी हुई।

परिजन मासूम को लेकर थाने पहुंचे। पुलिस मामले की जांच कर रही है। परिजनों ने थाने में प्रभारी निरीक्षक विजय बहादुर वर्मा को बताया कि गांव का एक युवक गुरुवार सुबह उनकी दिव्यांग बेटी को बहला-फुसलाकर हाईवे के किनारे झाड़ियों में ले गया।

यहां उससे दुष्कर्म किया। इसके बाद भाग गया। खून से लथपथ बेटी घर पहुंची तो वारदात का पता चला। प्रभारी निरीक्षक ने मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का निरीक्षण किया। सकरावा चौकी पुलिस ने आरोपी युवक के पिता को हिरासत में ले लिया।

वह पूछताछ कर रही है। जानकारी पर सीओ शिव कुमार थापा मौके पर पहुंचे। उन्होंने मासूम से वारदात की जानकारी ली। घटनास्थल का निरीक्षण किया। मासूम के पिता ने बताया कि अभी तक पुलिस ने बेटी को मेडिकल परीक्षण के लिए नहीं भेजा है। न ही मामले की रिपोर्ट दर्ज की है। प्रभारी निरीक्षक का कहना है कि पुलिस छानबीन कर रही है।
... और पढ़ें

बसपा के बागी विधायकों का आरोप- भाजपा से मिल गई हैं मायावती, विरोध करने पर पार्टी से निकाला

सांकेतिक तस्वीर
बहुजन समाज पार्टी से निलंबित किए गए विधायकों ने पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह भाजपा से मिल गई हैं। जब हमने इसका विरोध किया तो उन्होंने हमें पार्टी से निकाल दिया।

बसपा विधायक असलम ने कहा कि मैंने भाजपा से हाथ मिलाने का विरोध किया तो पार्टी से निकाल दिया गया लेकिन मैं बसपा विधायक बना रहूंगा।

वहीं, एक अन्य बागी विधायक हाकिम लाल बिंद ने कहा कि हमने बसपा के भाजपा से हाथ मिलाने का विरोध किया था। हालांकि, उन्होंने अखिलेश यादव से मुलाकात करने की बात से इनकार किया है।

मैं बसपा में ही पूरी तरह निराधार
विधायक वंदना सिंह ने कहा कि वह कल से ही बसपा के वरिष्ठ नेताओं के संपर्क में हैं और सपा के किसी भी नेता से कभी मुलाकात नहीं की। उन्होंने बताया कि वह कल पूरे दिन घर पर ही थीं और उन्हें नहीं पता कि पूरा मामला कहां से शुरू हुआ है। उन्होंने बताया कि मैंने पूरी स्थिति से पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा, विधानमंडल दल के नेता लालजी वर्मा व उपनेता उमा शंकर सिंह को अवगत करवा दिया है और सपा से हाथ मिलाने जैसी किसी भी बात कर खंडन करती हूं।
... और पढ़ें

'...भाजपा को भी देंगे वोट' मायावती के बयान पर प्रियंका ने पूछा- इसके बाद भी कुछ बाकी है

बसपा प्रमुख मायावती ने गुरुवार को बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी ने लोकसभा चुनाव के दौरान सांप्रदायिक ताकतों से लड़ने के लिए सपा से हाथ मिलाया था। लेकिन उनके परिवारिक अंतरकलह के कारण बसपा के साथ गठबंधन कर भी वो ज्यादा लाभ नहीं उठा पाए। मायावती ने स्पष्ट कहा है कि राज्यसभा चुनावों में हम सपा प्रत्याशियों को बुरी तरह हराएंगे। इसके लिए हम अपनी पूरी ताकत झोंक देंगे। इसके लिए अगर हमें भाजपा या किसी अन्य पार्टी के प्रत्याशी को अपना वोट देना पड़े तो हम वो भी करेंगे।
 

इसके साथ ही मायावती ने राज्यसभा चुनाव में बगावत करने वाले सात विधायकों के निलंबन का भी एलान किया है। मायावती ने विधायक असलम राइनी ( भिनगा-श्रावस्ती), असलम अली (ढोलाना-हापुड़), मुजतबा सिद्दीकी (प्रतापपुर-इलाहाबाद), हाकिम लाल बिंद (हांडिया- प्रयागराज) , हरगोविंद भार्गव (सिधौली-सीतापुर), सुषमा पटेल( मुंगरा बादशाहपुर) और वंदना सिंह -( सगड़ी-आजमगढ़) को पार्टी से निलंबित कर दिया है।

मायावती ने कहा कि लोकसभा चुनाव के बाद सपा ने हमसे संपर्क बंद कर दिया और इसीलिए हमने अपने रास्ता बदल लिया है। उन्होंने कहा कि मैं इस बात का भी खुलासा करना चाहती हूं कि जब हमने यूपी में लोकसभा चुनाव के लिए सपा के साथ चुनाव लड़ने का फैसला किया तो हमने इसके लिए बहुत मेहनत की, लेकिन जब से यह गठबंधन हुआ था तब से सपा प्रमुख की मंशा दिखने लगी थी।  ... और पढ़ें

Prayagraj Corona Update: कोरोना संक्रमण का ग्राफ गिरा, सिर्फ 78 नए मरीज

Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X