बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव
Myjyotish

बुध का तुला राशि गोचर, जानें क्या होगा आपके जीवन पर प्रभाव

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Digital Edition

बनारस का मोस्ट वांटेड मुंबई में गिरफ्तार: सैम्स निदेशक आरके सिंह और मनीषा कोइराला के सचिव की हत्या की थी, पेशी पर जाते समय हुआ था फरार

वाराणसी में दशक पूर्व बाबतपुर रोड स्थित सैम्स के निदेशक आरके सिंह और अभिनेत्री मनीषा कोइराला के सचिव अजीत देवानी की हत्या कर सनसनी फैलाने वाले बनारस के मोस्ट वांटेड 50 हजार के इनामी बदमाश मनीष सिंह को महाराष्ट्र में अहमदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जंसा निवासी मनीष सिंह के ऊपर वाराणसी के विभिन्न थानों में हत्या, लूट, रंगदारी और आर्म्स एक्ट के 11 मुकदमे दर्ज हैं।

महाराष्ट्र के बकोला थाने में भी मनीष पर हत्या के प्रयास सहित मकोका एक्ट में मुकदमे दर्ज हैं। पेशी पर जाते समय पुलिसकर्मियों को चकमा देकर कचहरी से फरार हुआ मनीष सिंह फिर वाराणसी पुलिस के हाथ नहीं लगा। माफिया सुभाष ठाकुर का खास कहा जाने वाला मनीष सिंह ने पिछले डेढ़ दशक से मुंबई में ठिकाना बना रखा था। उसकी गिरफ्तारी किए जाने के बाद एसटीएफ और वाराणसी पुलिस भी फास्ट हो गई है। माना जा रहा है कि जल्द ही पुलिस की एक टीम अहमदाबाद रवाना होगी।

30 जून 2001 में की थी हत्या
जंसा के दीनदासपुर के रहने वाले मनीष सिंह ने युवावस्था में ही अपराध का दामन थाम लिया था। 30 जून 2001 में फिल्म अभिनेत्री मनीषा कोइराला के सचिव अजीत देवानी की रंगदारी नहीं देने पर हत्या कर दी थी। इस हत्या में शूटर के तौर पर मनीष सिंह का नाम सामने आया था। हालांकि इस हत्याकांड में अबू सलेम और चोलापुर के इमलिया गांव निवासी दीपक सिंह दीपू का भी नाम सामने आया था। दीपू को वर्ष 2009 में बिहार पुलिस ने सासाराम में मार गिराया था। उधर, इस चर्चित हत्याकांड के बाद से मनीष की पहचान हुई और महाराष्ट्र के बकोला थाने में मुकदमा दर्ज हुआ था।
... और पढ़ें

BHU Entrance Exam 2021: बीएचयू ने जारी किए एडमिट कार्ड, पूरे देश में 185 परीक्षा केंद्र, जानें पूरा कार्यक्रम

काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में यूजी (ग्रेजुएट, स्नातक), पीजी (पोस्ट ग्रेजुएट, स्नातकोत्तर) में दाखिले की प्रवेश परीक्षा के एडमिट कार्ड रविवार को जारी हो गए। एनटीए यानी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (bhuet.nta.nic.in) की ओर वेबसाइट पर एडमिट कार्ड जारी कर दिए गए। अभ्यर्थी इस वेबसाइट पर जाकर डाउनलोड कर सकते हैं।

एनटीए यानी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की ओर से 28 सितंबर से चार अक्तूबर तक कराई जाने वाली परीक्षा में पहले दिन यूजी, पीजी के 48 पाठ्यक्रमों की परीक्षा कराई जाएगी। इसके लिए सभी जरूरी तैयारियां भी अंतिम चरण में हैं। 

ये भी पढ़ें- वाराणसी: राजकीय आयुर्वेदिक कॉलेज में स्वास्थ्य मेले में डॉक्टर को पीटा, भाजपा कार्यकर्ताओं पर लगा आरोप, भारी हंगामा

ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट
विश्वविद्यालय में इस बार यूजी में 23 और पीजी में 94 कोर्स के लिए 14 अगस्त से ही आवेदन की प्रक्रिया शुरू हुई। 12 सितंबर को आवेदन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद अब परीक्षा संबंधी तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। इसमें केंद्रों की सूची तो पहले ही फाइनल हो चुकी है, अब कोर्स वार तिथि में परीक्षा कराने की सूची भी एनटीए ने जारी कर दी है। रविवार से एडमिट कार्ड भी जारी हो गए।
... और पढ़ें

आजमगढ़: सठियांव चीनी मिल परिसर में फंदे पर लटकता मिला रसोईया का शव, परिजनों में कोहराम

आजमगढ़ के सठियांव चीनी मिल परिसर में सोमवार सुबह रसोईया का शव संदिग्ध परिस्थितियों में रस्सी के सहारे लटकता मिला। मिल कर्मियों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 

कप्तानगंज थाना क्षेत्र के देवरिया गांव निवासी 38 वर्षीय कमलेश राजभर पुत्र राम अजोर दी किसान सहकारी चीनी मिल सठियांव में बतौर रसोईया तैनात था। वह मिल परिसर स्थित कर्मचारी आवास में ही रहता था। रविवार रात भी उसने रोज की भांति भोजन आदि बनाया था।

सोमवार सुबह परिसर में रहने वाले कर्मचारियों ने शव को बरामदे में रस्सी के सहारे लटका देखा तो हड़कंप मच गया। सूचना पर पहुंची मुबारकपुर थाने की पुलिस ने शव को फंदे से नीचे उतारा और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक दो पुत्र और दो पुत्रियों का पिता था। घटना से परिजनों में कोहराम मचा  है। 
... और पढ़ें

गैंगस्टर कोर्ट में मुख्तार की पेशी: चार्जशीट और रिमांड पर हुई सुनवाई, एमपी-एमएलए कोर्ट में भेजा जाएगा मुकदमा

मऊ जिले के सदर विधायक और माफिया मुख्तार अंसारी समेत उसके साथियों के खिलाफ आजमगढ़ जिले के तरवां थाने में दर्ज गैंगस्टर मामले में सोमवार को सुनवाई थी। वर्चुअल माध्यम से माफिया मुख्तार कोर्ट में हाजिर भी हुआ। इस दौरान चार्जशीट व रिमांड को लेकर पूरी कार्रवाई करते हुए न्यायालय ने मुकदमे को एमपी-एमएलए कोर्ट में भेजने का निर्देश जारी किया। 

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी समेत 11 साथियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत तरवां थाने में मुकदमा पंजीकृत है। जिसकी सुनवाई जिला गैंगस्टर कोर्ट में चल रही है। इस मामले में विवेचक प्रशांत श्रीवास्तव द्वारा चार्जशीट भी दाखिल कर दिया गया है। सोमवार को कोर्ट में सुनवाई थी। जिसमें माफिया मुख्तार बांदा जेल से वीसी के माध्यम से उपस्थित हुआ।

ये भी पढ़ें- 
विश्व पर्यटन दिवस: दुनिया को अपनी ओर खींचते हैं काशी के ये पर्यटन स्थल, जहां घूमकर नहीं भरेगा आपका मन

11 अक्तूबर को होगी अगली सुनवाई
सोमवार को हुई पेशी के दौरान मुख्तार ने कुछ भी नहीं कहा और सिर्फ कोर्ट की कार्रवाई को देखता व सुनता रहा। कोर्ट में रिमांड व चार्जशीट पर कार्रवाई पूरी करते हुए अपर सत्र न्यायाधीश गैंगस्टर कोर्ट जितेंद्र कुमार ने मुकदमे की सारी पत्रावली एमपी-एमएलए कोर्ट प्रयागराज स्थानांतरित करने का निर्देश जारी कर दिया। इसके साथ ही पेशी की अलगी तारीख 11 अक्तूबर निर्धारित किया है। कोर्ट में मुख्तार की पैरवी उसके अधिवक्ता विनय मिश्रा व संजय द्विवेदी ने किया।
... और पढ़ें
मुख्तार अंसारी मुख्तार अंसारी

यूपी: बाहुबली विधायक विजय मिश्र के बेटे पर एक और मुकदमा दर्ज, न्यायालय के आदेश की अवहेलना पर हुई कार्रवाई 

भदोही जिले के ज्ञानपुर के बाहुबली विधायक विजय मिश्र के फरार चल रहे पुत्र विष्णु मिश्र की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। सोमवार को गोपीगंज कोतवाली में न्यायालय की अवहेलना करने के आरोप में मुकदमा दर्ज हुआ है। यह कार्रवाई पुलिस ने एसटीएफ के इंस्पेक्टर की तहरीर पर की। 

एक साल पूर्व विधायक विजय मिश्र और उनके कुनबे पर कसा शिकंजा दिन प्रतिदिन सख्त होता जा रहा है। विधायक और उनके बेटे के खिलाफ एक साल के अंदर करीब 10 मुकदमे दर्ज हो चुके हैं। विधायक आगरा जेल में बंद हैं जबकि एमएलसी रामलली मिश्र जमानत पर बाहर हैं। बेटा विष्णु मिश्र फरार चल रहा है।

दो माह पूर्व विधायक से जुड़े मुकदमे की विवेचना एसटीएफ को दे दी गई। गोपीगंज पुलिस ने 22 अगस्त 2021 को उनके खपटिहा और कौलापुर आवास पर नोटिस चस्पा करते हुए गांव में मुनादी कराई। जिसमें न्यायालय में हाजिर होने का फरमान सुनाया गया था।
... और पढ़ें

यूपी: वाराणसी-बलिया रोडवेज बस सेवा पर संकट, सप्ताह में तीन दिन सिर्फ एक ही बस चल रही

वाराणसी के कैंट रोडवेज से बलिया के लिए बस सेवा बंद होने की कगार पर है। एक सप्ताह में मात्र दो से तीन दिन ही बलिया के लिए बस चलाई जा रही है। कोरोना की दूसरी लहर के समय रोजाना तीन बसें संचालित की जाती थीं। यह सेवा गाजीपुर से इसूपुर, मोहम्मदाबाद होते हुए बलिया जाती थी। बीते तीन माह से अब सिर्फ एक बस ही संचालित हो रही है। बस के अभाव में यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

रोडवेज के पास कुल 521 बसें हैं। जिसमें से 85 बसें खराबी की वजह से सरेंडर की गई हैं। इनमें से 25 बसों को इसी माह के अंत तक ऑन रोड किए जाने का दावा किया गया है। व्यवस्थाओं के अभाव में बसों का संचालन बाधित हो रहा है। फिट बसों की कमी की वजह से कई रूटों पर परिचालन बाधित हो रहा है। दूसरी ओर बसों के परिचालन के सवाल पर यात्रियों की मांग और आय में कमी का हवाला देकर बात टाल दी जाती है।

रोडवेज के क्षेत्रीय प्रबंधक कमलाकांत तिवारी ने बताया कि 85 बस सरेंडर हैं। जरूरत के हिसाब से बलिया रूट पर बसें लगाई जा रही हैं। मरम्मत के बाद नियमित सेवा दी जाएगी।
... और पढ़ें

बीएचयू: परीक्षा कराने की मांग को लेकर धरने पर बैठे नर्सिंग छात्र, अस्पताल में ठप रखा कामकाज

आईएमएस बीएचयू में बीएससी नर्सिंग की परीक्षा न होने के विरोध में नर्सिंग के विद्यार्थी सोमवार को सड़क पर उतर आए। बीएचयू अस्पताल में कामकाज ठप रखकर नर्सिंग महाविद्यालय के बाहर छात्रों ने धरना दिया। इससे अस्पताल में वार्ड, लैब सहित अन्य जगहों पर कामकाज प्रभावित रहा।

परीक्षा कराए जाने, हॉस्टल न दिए जाने आदि मांगों के न होने पर आईएमएस निदेशक समेत अन्य अधिकारियों पर अनदेखी का आरोप लगाया। उन्होंने चेतावनी दी कि जब तक मांगों के पूरा होने का आदेश जारी नहीं हो जाता, तब तक विरोध जारी रहेगा।

बीएचयू में बीएससी नर्सिंग के 200 से अधिक विद्यार्थी हैं। छात्रों ने बताया कि 2018 से इसी मांग को लेकर धरना, प्रदर्शन करना पड़ता है। हर बार केवल आश्वासन मिलता है। मई में आईएमएस निदेशक को पत्र भेजकर मांगों से अवगत कराया था, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। 
... और पढ़ें

विश्व पर्यटन दिवस: दुनिया को अपनी ओर खींचते हैं काशी के ये पर्यटन स्थल, जहां घूमकर नहीं भरेगा आपका मन

धरने पर बैठे नर्सिंग छात्र
सांस्कृतिक और पर्यटन नगरी के रूप में प्रसिद्ध काशी की आभा निहारने देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर के पर्यटक खिंचे चले आते हैं। चाहे वह भगवान बुद्ध की प्रथम उपदेश स्थली सारनाथ हो या फिर गंगा की लहरों पर चलने वाले क्रूज और नावें। गंगा की लहरों के बीच नाव पर सवार होकर सैलानी सभी 84 घाटों का नजारा लेते हैं और उनके पौराणिक महत्व को समझते हैं। नाव, मोटर बोट व बजड़ा हर समय गंगा घाट किनारे रहते हैं।

काशी में तो हर माह सैलानी सात समुंदर पार से खिंचे चले आते हैं। प्राचीन देवालयों व कला कौशल को संजोए काशी में कई ऐसे मनोरम स्थल हैं, जहां पर्यटक अपनी उपस्थिति दर्ज कराने से नहीं चूकते। अब प्राचीन मंदिरों का स्वरूप भी निखरा है। श्रीकाशी विश्वनाथ कॉरिडोर जब स्वरूप में होगा तो निश्चित ही पर्यटकों की आवाजाही और रफ्तार पकड़ेगी। हालांकि कोरोना संक्रमण काल में अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों की आवाजाही डेढ़ साल से बंद है, लेकिन घरेलू पर्यटकों की आवाजाही बनी हुई है। 
... और पढ़ें

सोनभद्रः बालिका से सामूहिक दुष्कर्म, 14 माह बाद सगे भाइयों समेत तीन के खिलाफ केस दर्ज

सोनभद्र के घोरावल क्षेत्र के एक गांव की बालिका से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। घटना के 14 महीने बाद उच्चाधिकारियों के आदेश पर कोतवाली पुलिस ने केस दर्ज किया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है। पीड़िता के पिता ने तहरीर में आरोप लगाया है कि एक जुलाई 2020 को उसकी 12 वर्षीय बेटी शौच के लिए खेत की ओर गई थी।

रास्ते में घात लगाए गांव के ही दो सगे भाइयों समेत तीन आरोपियों ने उसे दबोच लिया। मुंह बांधकर एक घर में ले गए और उसके साथ बारी-बारी दुष्कर्म किया। काफी देर तक बेटी के घर नहीं लौटने पर परिजनों ने तलाश शुरू की तो आरोपी के घर पर निर्वस्त्र हाल में बेसुध मिली। किसी तरह उसे वहां से लेकर घर पहुंचे।

आरोपियों ने पुलिस में शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी दी। बावजूद पीड़ित परिवार ने कोतवाली में तहरीर दी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। पीड़ित पिता का आरोप है कि थक हार कर उन्होंने मुख्यमंत्री कार्यालय, मानवाधिकार आयोग, एसपी सहित अन्य अधिकारियों को शिकायती पत्र भेजा।
... और पढ़ें

बनारस में निजी स्कूल की मनमानी: नियमों को ताक पर रखकर हो रही थी परीक्षा, बीएसए ने थमाया नोटिस

वाराणसी में सरकार के आदेशों कों ताक पर रखकर एक निजी स्कूल की मनमानी सामने आई है। जिले के सभी कक्षा एक से आठ तक के विद्यालयों को अर्धवार्षिक परीक्षा नहीं लेने के निर्देश दिए हैं। बावजूद इसके सोमवार को वाराणसी के मढौली स्थित सेंट जॉन्स स्कूल में परीक्षा हो रही थी। इसका खुलासा तब हुआ जब जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी राकेश सिंह  निरीक्षण के लिए सेंट जॉन्स स्कूल पहुंचे।

सरकारी आदेश जारी होने के बाद स्कूल में परीक्षा संचालित करने को लेकर बीएसए ने स्कूल के खिलाफ कार्रवाई की। स्कूल प्रबंधन को तीन दिन के अंदर जवाब देने को कहा है। जवाब संतोषजनक नहीं होने पर मुकदमा दर्ज करने की बात कही। डीएलडब्लू स्थित सेंट जॉन्स स्कूल में भी मनमानी तरीके से परीक्षाएं हो रही थी। 

विद्यालय की मान्यता भी हो सकती है  समाप्त
गौरतलब है कि बीएसए राकेश सिंह जिले के सभी कक्षा एक से आठ तक के विद्यालयों को अर्धवार्षिक परीक्षा नहीं लेने के निर्देश दिए हैं। अगर विद्यालय परीक्षाएं कराते हैं कि उनके खिलाफ विधिक कार्रवाई की जाएंगी। इसके साथ ही विद्यालय की मान्यता भी समाप्त की जा सकती है।

पढ़ेंः
आजमगढ़ में घाघरा की बाढ़ में पलटी नाव, 12 स्कूली बच्चों को सुरक्षित निकाला गया
बीएसए ने परिषदीय विद्यालय के बच्चों को कक्षा शिक्षण में रोचक गतिविधियों के आधार पर ही उनका मूल्यांकन करने का  निर्देश दिया है। इसमें कविताओं का पाठ, खेलों के जरिए रंगा व शब्दों, आकार, अक्षर को पहचाना जैसी अलग-अलग गतिविधियों के जरिए उनके भौतिक स्तर को जांचने की बात कही है।
... और पढ़ें

खाकी की हनक: बगैर हेलमेट और बिना नंबर की बाइक से चल रहे दरोगा ने खलासी को पीटा, छात्रों ने किया विरोध तो दिखाई दबंगई

यूपी के आजमगढ़ जिले के तहबरपुर थाना क्षेत्र में सोमवार सुबह एक दरोगा को खाकी की हनक दिखाना महंगा पड़ गया। मोती बाबा मंदिर के पास दरोगा ने प्राइवेट बस के परिचालक को पीट दिया। जिस पर बस में सवार छात्रों ने विरोध किया तो दरोगा दबंगई दिखाने लगा। इसके बाद छात्र मोबाइल कैमरे को ऑन कर परिचालक को पिटाई करने का का कारण पूछने लगे। दरोगा खुद बगैर हेलमेट  और बिना नंबर प्लेट लगी बाइक से सवारी कर रहे थे।

इस बाबत छात्रों ने सवाल दागा तो दरोगा को जवाब देते नहीं बना। छात्रों ने दरोगा की बौखलाहट का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया। घटना की चर्चा पूरे जिले में है।  एक प्राइवेट बस कंधरापुर से तहबरपुर होते हुए इलाहाबाद तक जाती है। सोमवार की सुबह बस तहबरपुर थाने से कुछ दूरी पर स्थित मोती बाबा मंदिर पर पहुंची।

यहां दीवान पद से प्रमोशन पाए एक दरोगा ने बस को रोका। परिचालक से अपना कुछ सामान लाद कर बरदह पहुंचाने को कहा। परिचालक ने भाड़ा मांग लिया तो दरोगा आक्रोशित हो उठा। देखते ही देखते परिचालक को चार-छह थप्पड़ रसीद कर दिया। इस पर बस में सवार छात्र भड़क उठे और दरोगा को घेर लिया।
... और पढ़ें

नवरात्र बाद पीएम मोदी देंगे काशी को सौगात: रोपवे प्रोजेक्ट के शिलान्यास की तैयारी, पीएमओ ने मांगी पूरी होने वाली परियोजनाओं की रिपोर्ट

नवरात्रि के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र की जनता को सौगात देने वाराणसी आ सकते हैं। इस दौरान वे जनसभा के जरिए काशीवासियों से दिल की बात भी करेंगे। परियोजनाओं के लोकार्पण शिलान्यास के साथ ही उनकी जनसभा भी होगी।

अक्तूबर के पहले पखवारे में पीएम के वाराणसी आगमन की सूचना पर प्रशासन सक्रिय हो गया है। जुलाई से सितंबर तक पूरी हुई तीन दर्जन परियोजनाओं को अंतिम स्वरूप देने का सिलसिला शुरू कर दिया गया है। उधर, प्रधानमंत्री कार्यालय भी सितंबर तक पूरी हुई परियोजनाओं की सूची तलब कर ली है।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने सभी विभागों से पूरी होने वाली परियोजनाओं से ब्यौरा तलब किया है। पिछले दिनों समीक्षा के बाद अब उन्होंने सभी मजिस्ट्रेट से वर्तमान स्थिति की रिपोर्ट मांगी है। इसमें सर्किट हाउस का मल्टीलेवल पार्किंग और बेनियाबाग पार्किंग के अलावा स्मार्ट सिटी योजना में पूर्ण होने वाली परियोजनाएं हैं।
... और पढ़ें

तस्वीरें: नीलगाय के बच्चे को जिंदा निगल गया विशालकाय अजगर, नजारा देख दंग रह गए लोग

दुनिया के सबसे जहरीले सांपों के कारण चर्चित यूपी के सोनभद्र के जंगलों में अजगर की दहशत भी बढ़ती जा रही है। पिछले दिनों म्योरपुर ब्लॉक में विशालकाय अजगर ने बकरे को निशाना बनाया था। अब सलखन में नीलगाय के बच्चे को जिंदा निगल गया है। सोमवार को हुई घटना को देख लोग सहम गए। उनकी आंखों के सामने अजगर नीलगाय के बच्चे को निगलता रहा, मगर कोई कुछ नहीं कर सका। 

अमूमन इस तरह की तस्वीरें आसानी से दिखती नहीं हैं। 10 फिट से ज्यादा लंबाई वाला अजगर देखते ही देखते नीलगाय बच्चे को निगल गया। इस घटना को जिसने भी देखा उसकी आंखें फटी की फटी रह गई। खेत की हरी घास के बीच जिंदगी बचाने और भूख मिटाने का संघर्ष नीलगाय के बच्चे और अजगर के बीच होता नजर आया। गुरमा वन रेंज अंतर्गत ग्राम पंचायत कुरहुल में एक धान के खेत में अजगर ने नीलगाय के बच्चे पर हमला बोला। आगे की स्लाइड्स में देखें...

सोनभद्र। नीलगाय के बच्चे को जिंदा निगल गया अजगर, देखते रह गए लोग। गुरमा वन रेंज के कुरहुल गांव की घटना। वन विभाग की टीम ने घंटों मशक्कत कर 12 फ़ीट लंबे अजगर को पकड़ा। #sonbhadra #Python pic.twitter.com/qaxznMZu7j

— Amar Ujala Varanasi (@AU_VaranasiNews) September 27, 2021 ">http://
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X