विज्ञापन
विज्ञापन
आर्थिक वृद्धि हेतु शरद पूर्णिमा पर कराएं माँ लक्ष्मी का श्री सूक्त पाठ एवं 700 आहुतियों के साथ विशेष हवन - 31 अक्टूबर 2020 - महालक्ष्मी मंदिर, कोल्हापुर
astrology

आर्थिक वृद्धि हेतु शरद पूर्णिमा पर कराएं माँ लक्ष्मी का श्री सूक्त पाठ एवं 700 आहुतियों के साथ विशेष हवन - 31 अक्टूबर 2020 - महालक्ष्मी मंदिर, कोल्हापुर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

कानपुर: बेकरी संचालक के 3 साल के अपह्रत मासूम बेटे को पुलिस ने 2 घंटे के अंदर किया बरामद

गैस रिसाव से 14 मजदूरों की बिगड़ी तबीयत, एक की मौत, मुआवजे के लिए परिजनों ने फैक्टरी के गेट पर रखा शव

हरदोई के संडीला कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत औद्योगिक क्षेत्र में स्थित कीटनाशक बनाने वाली फैक्ट्री में रखरखाव के दौरान गैस का रिसाव हो गया। इससे फैक्टरी में काम कर रहे 14 मजदूरों की तबीयत बिगड़ गई। हालत गंभीर होने पर दो का उपचार कराया गया, इनमें से एक की मौत हो गई। घटना से नाराज मृतक के परिजनों ने फैक्टरी गेट पर शव रखकर हंगामा शुरू कर दिया।

प्रशासन के हस्तक्षेप से फैक्टरी प्रबंधन ने मृतक आश्रितों को नौ लाख रुपये की सहायता की घोषणा की। इसके बाद शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा सका। सूत्रों के मुताबिक पोस्टमार्टम में मौत का कारण स्पष्ट नहीं हुआ है। संडीला के औद्योगिक क्षेत्र स्थित एक फैक्टरी में कीटनाशक (पेस्टीसाइड्स) बनाए जाते हैं। गुरुवार की शाम वहां साफ-सफाई का कार्य चल रहा था।

परिसर में लगे विभिन्न पाइप्स की भी सफाई हो रही थी। इन्हीं में से एक पाइप से गैस रिसाव हुआ और चपेट में आकर 14 मजदूरों की तबीयत बिगड़ गई। कुछ देर बाद 12 मजदूरों को तो राहत मिल गई, लेकिन बघौली थाना क्षेत्र के ग्राम गनेशपुर निवासी रामौतार (40) पुत्र बोधराज और कासिमपुर थाना क्षेत्र के ग्राम रिठवे निवासी राजू पुत्र सहजराम की स्थिति गंभीर हो गई।

 
... और पढ़ें

बिकरू कांड में आरोपी तत्कालीन चौबेपुर एसओ विनय तिवारी की दूसरी जमानत याचिका खारिज, जानिए क्या बोले जज...

फतेहपुर: तमंचा फैक्टरी का भंडाफोड़, शातिर गिरफ्तार, आठ तमंचे और उपकरण बरामद

फतेहपुर जिले में मलवां थाना क्षेत्र के उमरगहना गांव में शुक्रवार को तमंचा फैक्टरी का भंडाफोड़ कर पुलिस ने एक शातिर को दबोचा। आठ तमंचे और तमंचे बनाने के उपकरण बरामद किए गए हैं।

एसपी की ओर से टीम को 15 हजार का इनाम दिया गया है। मलवां थाने में अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने बताया कि स्वॉट टीम को उमरगहना में टीम को तमंचा फैक्टरी की सूचना मिली थी।

थाना प्रभारी शेर सिंह और स्वॉट प्रभारी विनोद मिश्रा की संयुक्त टीम ने रात को जंगल में छापा मारा। तालाब के पास संतोष विश्वकर्मा निवासी उमरगहना को गिरफ्तार किया। कुछ दूरी पर बांस की कोठी के बीच में छिपाकर रखे शस्त्रों और उपकरणों को बरामद किया।

अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आठ तमंचे निर्मित एक अधबना तमंचा बरामद किया है। आरोपी जिले में शातिर अपराधियों और पड़ोसी जिलों बांदा, रायबरेली, कौशांबी में तमंचे की सप्लाई देता है।
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

यूपी: मुंडन संस्कार से लौट रही ट्रॉली पलटी, 32 घायल

चित्रकूट जनपद के सिजवारा बरम बाबा धाम से मुंडन संस्कार से लौट रहे लोगों से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली यहां राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज के हाईवे पर बाइक सवारों को बचाने में पलट गई। ट्रॉली पर सवार 32 यात्री गिरकर घायल हो गए।

10 को गंभीर चोटें आने पर जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। अन्य घायलों को सीएचसी से मरहम पट्टी के बाद छुट्टी दे दी गई। घटना शुक्रवार की रात करीब 10 बजे की है। यहां इंजीनियरिंग कॉलेज के पास हाईवे पर तेज रफ्तार ट्रॉली के सामने बाइक सवार आ जाने पर चालक स्टेयरिंग पर नियंत्रण खो बैठा और ट्रॉली सड़क किनारे पलट गई।

ट्रॉली सवार सभी यात्री दूर-दूर जा गिरे। घायल सभी यात्री शहर कोतवाली क्षेत्र के झंझरा पुरवा के बताए गए हैं। घायलों को 108 व 102 एंबुलेंस से अतर्रा सीएचसी पहुंचाया। यहां प्राथमिक उपचार के बाद कुलदीप (12) पुत्र श्रीपाल, राजा भैया (40) पुत्र रामकृपाल, रज्जन (40) पुत्र देवी दयाल, चुनबाद (50) पुत्र शिवरतन, विनोद (28) पुत्र देवीदयाल, रामबाबू (26) पुत्र सदाशिव, गोरेलाल (27) पुत्र लखनलाल, घंसौर (18) पुत्र फल्गु, चंद्रपाल (50) पुत्र हरिदास, सुमन (25) पत्नी विनोद को जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। अन्य को मरहम-पट्टी के बाद छुट्टी दे दी गई।

उधर, जिला अस्पताल में सिटी मजिस्ट्रेट सुरेंद्र सिंह और नगर क्षेत्राधिकारी आलोक मिश्र ने घायलों से मिले और उनके इलाज की व्यवस्था कराई। अतर्रा सीएचसी में एसडीएम जेपी यादव और सीओ सत्यप्रकाश शर्मा ने घायलों का हालचाल लिया। यह सभी झंझरा पुरवा निवासी विनोद के एक वर्षीय पुत्र के मुंडन संस्कार में गए थे।

 
... और पढ़ें

हरदोई: पुरानी रंजिश में किशोर की गोली मारकर हत्या, वारदात खुलासे को तीन टीमें गठित

हरदोई जिले के पिहानी में साल भर पुरानी रंजिश में आरोपियों ने एक घर पर चढ़ाई कर दी। छत पर मौजूद किशोर की गोली मारकर हत्या कर आरोपी फरार हो गए। सूचना पर पुलिस अधीक्षक अनुराग वत्स मौके पर पहुंच गए और फील्ड यूनिट की टीम ने भी नमूने जुटाए।

हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए एसपी ने तीन टीमें गठित की हैं। पिहानी कोतवाली क्षेत्र के ग्राम निपानिया निवासी संतराम यादव शुक्रवार शाम पिहानी से वापस निपानिया जा रहे थे। रास्ते में निपानिया तिराहे पर कुछ लोगों ने संतराम को घेरकर मारने का प्रयास किया।

संतराम बाइक छोड़कर मौके से भाग निकला और गांव पहुंचकर परिजनों को इसकी जानकारी दी। इस पर संतराम का भतीजा अनुराग यादव (16)पुत्र परशुराम छत पर चढ़कर देखने चला गया।

इसी दौरान गांव निवासी विमलेश, अखिलेश पुत्र अनिरुद्ध ,अनूप पुत्र प्रताप सिंह यादव और बबलू पुत्र ठाकुर यादव दीवारों के सहारे अनुराग की छत पर चढ़ गए और वहीं उसे गोली मार दी।

मौके पर ही उसकी मौत हो गई। घटना से परिजनों में कोहराम मच गया। सूचना पर एसपी अनुराग वत्स मौके पर पहुंच गए और घटना की जांच शुरू की गई । एसपी ने बताया कि आरोपियों के परिवार की एक युवती के साथ मृतक के बड़े भाई ने करीब साल भर पहले दिल्ली जाकर प्रेम विवाह कर लिया था।  

वह अपनी पत्नी के साथ वहीं (दिल्ली) रहता है। इसी को लेकर दोनों परिवारों के बीच रंजिश चल रही थी। एसपी ने हत्यारोपियों की गिरफ्तारी के लिए तीन टीमें गठित की हैं।
... और पढ़ें

बिकरू कांड: उमाशंकर और विपुल पर अलग से दर्ज होगा गैंगस्टर का मुकदमा

बिकरू कांड में शामिल दो अन्य आरोपियों के खिलाफ पुलिस अलग से गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करेगी। इनके खिलाफ अब तक पुलिस ने चार्जशीट दाखिल नहीं की है।

गैंगस्टर एक्ट लगाने के लिए चार्जशीट दायर करना जरूरी है। वर्तमान में विपुल दुबे फरार है और उमाशंकर यादव ने कोर्ट में सरेंडर कर दिया था, जो जेल में बंद है। बिकरू कांड में पुलिस ने चार्जशीट दाखिल करने के बाद 30 आरोपियों पर गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई की है।

इसमें महिला आरोपियों तथा दो अन्य आरोपी उमाशंकर यादव और विपुल दुबे को शामिल नहीं किया गया था। एसपी ग्रामीण ने बताया कि दोनों के खिलाफ पुलिस ने अभी कोर्ट में चार्जशीट दाखिल नहीं की है।

उमाशंकर की चार्जशीट पर काम चल रहा है। उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी। वहीं फरार विपुल दुबे की तलाश में टीमें दबिश दे रही हैं। आरोपियों के बयान लेने के दौरान विपुल और उमाशंकर का नाम आने की पूरी संभावनाएं हैं। चार्जशीट के बाद दोनों पर गैंगस्टर लगेगा। इनके गिरोह को हीरू दुबे के गैंग में शामिल कराने के लिए प्रार्थना पत्र दिया जाएगा।
... और पढ़ें

यूपी में दर्दनाक हादसा, आमने-सामने बाइकें टकराईं, दो ने गंवाई जान

कानपुर एनकाउंटर
जालौन जिले के माधौगढ़ में रात के अंधेरे में दो बाइकों की आमने-सामने टक्कर हो गई। जिससे एक बाइक पर सवार युवक की अस्पताल जाते वक्त मौत हो गई, जबकि दूसरी बाइक पर सवार अधेड़ ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

रेंढर पुलिस ने दोनों के घरों में घटना की जानकारी दी तो रोते बिलखते परिजन अस्पताल पहुंचे। पुलिस ने बताया कि दोनों बाइक सवार हेलमेट भी नहीं लगाए थे। रामपुरा थाना क्षेत्र के गांव मई निवासी राजवीर कुशवाहा (30) पुत्र छोटे नावली देवी मंदिर से दर्शन कर शुक्रवार रात घर लौट रहे थे।

अभी वह कुठौंदा के पास पहुंचे थे कि बंगरा की ओर से तेज रफ्तार से आ रहे बाइक सवार कुर्रा निवासी कल्लू पाल (50) पुत्र मंगली की बाइक से आमने-सामने टक्कर हो गई। टक्कर इतनी तेज थी कि दोनों बाइकों पर सवार रोड के दूसरी ओर जा गिरे।

हेलमेट न होने से दोनों के सिर में गहरी चोट आई। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को जिला अस्पताल भेजा लेकिन रास्ते में ही राजवीर कुशवाहा की मौत हो गई। जबकि कल्लू पाल ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। परिजनों को सूचना मिलते ही रोती बिलखती महिलाएं अस्पताल पहुंच गई। पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
... और पढ़ें

यूपी में भीषण सड़क हादसा, अनियंत्रित बाइक खाई में गिरी, दो दोस्तों की मौत

उन्नाव जिले में जाजमऊ पुलिस चौकी अंतर्गत त्रिभुवनखेड़ा पुलिया के निकट एक बाइक अनियंत्रित होकर बीस फि ट गहरी खाई में गिर गई । बाइक सवार दोनों दोस्तों की मौत हो गई। कानपुर के सफीपुर हरजेंदर नगर निवासी ओंकार सिंह (36) पुत्र जगतार सिंह अपने दोस्त जेके कालोनी जाजमऊ निवासी रमेंद्र श्रेष्ठ (21) पुत्र योगेंद्र प्रसाद के साथ बाइक से शुक्रवार सुबह रायबरेली गए थे।

रायबरेली में ओंकार की बहन रहती है। दोनों दोस्त रात आठ बजे एक बाइक से कानपुर के लिए निकले। रात एक बजे त्रिभुवनखेड़ा पुलिया के निकट बाइक अनियंत्रित होकर पुलिया के नीचे खाई में गिर गई।

पुलिस ने प्राइवेट वाहन से दोनों को जिला अस्पताल भेजा। डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। दोनों के पास से मिले ड्राइविंग लाइसेंस से शिनाख्त कर परिजनों को जानकारी दी गई। बाइक ओंकार चला रहा था। वह हेलमेट पहने था।

आशंका है कि ओंकार को झपकी लगने से बाइक अनियंत्रित हो गई। ओंकार के भाई चरनजीत ने बताया कि किसी वाहन की टक्कर लगने से बाइक अनियंत्रित हो गई होगी। इससे बाइक खाई में गिर गई। कोतवाली पुलिस ने बताया कि तहरीर मिलने पर रिपोर्ट दर्ज की जाएगी।
... और पढ़ें

कानपुर देहात: बासी खीर खाने से वृद्धा की मौत, 21 की हालत बिगड़ी

कानपुर देहात में रसूलाबाद कस्बे के रतनपुर गांव में बासी खीर खाने से शुक्रवार की रात अचानक 22 लोगों को उल्टी दस्त होने लगे। हालत बिगड़ने के बाद एक वृद्धा की शनिवार की सुबह मौत हो गई, जबकि अन्य 21 बीमार लोगों को सीएचसी रसूलाबाद में भर्ती कराया।

जानकारी पाकर अकबरपुर सांसद देवेंद्र सिंह भोले, एसडीएम अंजू वर्मा, सीओ रामशरण अस्पताल पहुंचे और मरीजों का हाल जाना। रसूलाबाद के रतनपुर गांव निवासी रजमोहन के बेटे गोविंद सिंह ने शुक्लन निवादा के पास नया मकान बनवाया है।

22 अक्तूबर को गृह प्रवेश के दौरान कथा हुई थी। गोविंद ने भंडारा खिलाया था। भंडारे में बची खीर को स्टील की टंकी में रखवा दिया था। शुक्रवार को यही खीर परिवारियों में बांटी गई थी। बासी खीर खाने के बाद गोविंद की चाची शिवकुमारी (65) व अन्य 21 लोगों की तबीयत बिगड़ गई।
... और पढ़ें

कानपुर: शूटिंग रेंज की जमीन कब्जाने के मामले में रामदास को मिली जमानत

कानपुर में कटरी शंकरपुर सराय स्थित पुलिस की शूटिंग रेंज की जमीन पर कब्जा करने और रियल इस्टेट कंपनी के साथ मिलकर जमीनों की बिक्री करने के मामले में मुख्य आरोपी रामदास को भी अपर जिला जज प्रथम विनोद कुमार सिंह की कोर्ट से जमानत मिल गई है।

कोर्ट ने डेढ़-डेढ़ लाख की दो जमानतों व निजी बंधपत्र अदा करने पर सशर्त जमानत दी है। कटरी की जमीनों पर कब्जे के मामले में कोहना थाने में 29 सितंबर को राजेंद्र निषाद, रामदास, सुरेश पाल, राजू पाल व अन्य के खिलाफ कूटरचित दस्तावेज तैयार कर फर्जी तरीके से जमीनों की बिक्री करके अवैध रूप से नींव भरवाकर कब्जा करने के मामले में रिपोर्ट दर्ज की गई थी।

शासकीय अधिवक्ता ने तर्क रखा कि रामदास ने षड़यंत्र करके व अवैध लाभ कमाने के उद्देश्य से पुलिस की शूटिंग रेंज की जमीनों को खरीदारों को दिखाया और बिकवाया। वहीं, अधिवक्ता कपिलदीप सचान ने तर्क रखा कि रामदास पूर्व में प्रधान रहे हैं और विपक्षियों ने साजिश के तहत उन्हें फंसाया है।

उन्होंने न तो किसी जमीन पर कब्जा किया और न ही कोई अनैतिक लाभ लिया। पुलिस जिसे शूटिंग रेंज की जमीन बता रही है, विभाग के पास उसकी चौहद्दी तक नहीं है। कोर्ट ने पाया कि केस डायरी में जिन चार रजिस्ट्रियों का जिक्र किया गया, उनमें रामदास न तो क्रेता थे, न विक्रेता और न ही गवाह।

ऐसे में कूटरचित दस्तावेज तैयार करने या जमीन बेचकर लाभ लेने का आरोप साबित नहीं हो सका और रामदास को जमानत मिल गई। इससे पहले रामदास के बेटे राजेंद्र को भी जमानत मिल चुकी है।
... और पढ़ें

चुनाव ड्यूटी कटवाने को मदरसा प्रधानाचार्य का फर्जी लेटर दिया

कानपुर में मदरसा अहसानुल मदारिस कदीम के एक शिक्षक ने अपनी चुनावी ड्यूटी कटवाने के लिए करीब साढ़े सात महीने पहले सेवानिवृत्त हुए प्रधानाचार्य के फर्जी दस्तखत बनाकर प्रशासन को चिट्ठी भेज दी।

राज तब खुला जब दूसरा शिक्षक ड्यूटी ज्वाइन करने पहुंचा। उसने संबंधित अधिकारी से पूछा कि ड्यूटी तो किसी और की लगी थी, फिर उसके नाम से पत्र क्यों भेजा गया। इसके बाद एसीएम ने इस संबंध में प्रधानाचार्य से बात की।

प्रधानाचार्य ने प्रशासन को पत्र भेजकर फर्जीवाड़े का खुलासा किया है। घाटमपुर उप चुनाव में मदरसा के एक शिक्षक को बीएलओ बनाया गया था। इस शिक्षक ने जुकाम, बुखार और खांसी का बहाना कर मदरसा के लेटर पैड पर सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य मुफ्ती शहबाज अनवर के दस्तखत सेे प्रशासन को पत्र भेजा और दूसरे शिक्षक का नाम सुझा दिया।

इससे दूसरे शिक्षक की ड्यूटी लग गई। शिक्षक ने पत्र देखा तो उस पर मौजूदा कार्यवाहक प्रधानाचार्य मौलाना महमूदुल हसन के दस्तखत नहीं थे। तब मामले का खुलासा हुआ। कार्यवाहक प्रधानाचार्य मौलाना हसन ने कहा कि उन्होंने एसीएम को सारी बात लिखकर दे दी है। वहीं मुफ्ती शहबाज अनवर का कहना है कि पत्र से उनका कोई ताल्लुक नहीं है।
... और पढ़ें

हरदोई: किसान को पागल कहने वाले एसडीएम को नोटिस, वायरल ऑडियो का प्रशासन ने लिया संज्ञान

हरदोई जिले में एसडीएम शाहाबाद और किसान के बीच बातचीत का ऑडियो वायरल होने और इसमें एसडीएम के बोल को लेकर मामला तूल पकड़ गया है। एडीएम ने पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है।

एसडीएम शाहाबाद से जवाब तलब भी किया गया है। एसडीएम शाहाबाद एपी श्रीवास्तव और एक किसान की बातचीत का ऑडियो शुक्रवार को वायरल हुआ था। इस ऑडियो में एसडीएम शाहाबाद ने किसान से अमर्यादित शब्दों का इस्तेमाल किया था।

ऑडियो में किसान को एसडीएम ने पागल कह दिया था। ऑडियो वायरल होने के बाद जिला प्रशासन भी हरकत में आ गया। ऑडियो का संज्ञान लेते हुए अपर जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह ने पूरे मामले की जांच शुरू कर दी और बताया कि ऑडियो के संबंध में एसडीएम शाहाबाद अतुल प्रकाश श्रीवास्तव को कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब तलब किया गया है।

उन्होंने कहा कि एसडीएम का स्पष्टीकरण मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। एडीएम ने कहा कि किसानों की समस्याओं को निस्तारित करने के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X