विज्ञापन
विज्ञापन
आज ही बनवाएं फ्री जन्म कुंडली और पाएं समस्त परेशानियों के ज्योतिष्य समाधान
Kundali

आज ही बनवाएं फ्री जन्म कुंडली और पाएं समस्त परेशानियों के ज्योतिष्य समाधान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

राम मंदिर के लिए 10 करोड़ परिवारों से आर्थिक सहयोग लेगा विहिप

श्रीरामजन्मभूमि मंदिर का भूमि पूजन होने के साथ ही राममंदिर निर्माण की प्रक्रिया भी अब गति पकड़ने लगी है। इसी क्रम में विहिप ने राममंदिर निर्माण के लिए एक बड़ी योजना बनाई है। 

विहिप शिलापूजन अभियान के तर्ज पर देश के चार लाख गांवों में जनसंपर्क अभियान चलाकर प्रत्येक परिवार से राममंदिर निर्माण के लिए आर्थिक सहयोग लेगी। माना जा रहा है कि विहिप यह अभियान दिसंबर से शुरू कर सकती है।

विहिप की योजना देश में चार लाख स्थानों पर कार्यक्रम आयोजित करने की है। इस कार्यक्रम के जरिये संगठन देश के दस करोड़ से अधिक परिवारों तक अपना संदेश पहुंचायेगा। विहिप के केंद्रीय मंत्री अशोक तिवारी ने बताया कि राममंदिर निर्माण के लिए पूरे देश के चार लाख गांवों में जनसंपर्क अभियान चलाया जाएगा। 

इस संपर्क अभियान के जरिए लोगों से उनकी क्षमता के मुताबिक राम मंदिर के लिए आर्थिक सहयोग करने की अपील की जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए विहिप की अभी कोई बैठक नहीं होगी। 

माहौल सामान्य होने पर राम मंदिर के लिए व्यापक संपर्क अभियान चलाएंगे। बताया कि अब राम मंदिर निर्माण के लिए विहिप देश के 4 लाख गांवों के 10 करोड़ परिवारों से संपर्क साधा जाएगा। 

हर परिवार से आर्थिक सहयोग करने की अपील की जाएगी। लोगों को राममंदिर की महत्ता और मंदिर आंदोलन की स्मृतियों से रूबरू कराया जाएगा। राममंदिर का भूमिपूजन होने के बाद मंदिर निर्माण की मुहिम से जुड़ने की इच्छा देश दुनिया के हर रामभक्त के मन में मचल रही है। ऐसे में विहिप का यह आयोजन उनकी इच्छा पूरी करने के लिए बेहतर माध्यम होगा। 

इस आयोजन को लेकर अभी संगठन में शीर्ष स्तर पर मंथन चल रहा है। आगामी नौ से 16 अगस्त के बीच संपन्न होने वाले विहिप के स्थापना दिवस कार्यक्रम के उपरांत इसकी वास्तविक रूपरेखा सामने आ सकती है

1989 में चला था शिलापूजन अभियान 
-अशोक तिवारी ने बताया कि 1989 में चले शिलापूजन अभियान के तर्ज पर यह जनसंपर्क अभियान चलाया जाएगा। उस समय विहिप ने देश के पौने तीन लाख गांवों में यह अभियान चलाकर सवा रूपए व एक ईंट दान में ले थी। तब देश के कोने-कोने सहित विश्व के 55देशों से रामशिलाएं व दान अयोध्या आया था। करीब तीन लाख राम शिलाएं एकत्र हुईं थी जो वर्तमान में रामघाट स्थित न्यास कार्यशाला में सुरक्षित रखी हैं।
... और पढ़ें
राम मंदिर राम मंदिर

यूपी में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने का नया रिकॉर्ड बना, प्रदेश में 46177 सक्रिय मामले

यूपी में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने का नया रिकॉर्ड बन गया। शनिवार को एक दिन में सर्वाधिक 4800 मरीज सामने आए हैं। इससे पहले 06 अगस्त को 4658, 03 अगस्त को 4473 और 31 जुलाई को 4453 मरीज मिले थे। एक दिन में सर्वाधिक मरीजों के रिकॉर्ड के साथ ही प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 46177 हो गई है। अब तक कुल 69833 मरीजों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। मरने वाले मरीजों का आंकड़ा भी 2028 हो गया है। अब तक प्रदेश में कुल 119199 पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं। 

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार शनिवार को लखनऊ में 663, कानपुर में 253, नोएडा 65, गाजियाबाद 103, वाराणसी 221, प्रयागराज 256, बरेली 132, गोरखपुर 226, झांसी 55, जौनपुर 71, मेरठ 50, मुरादाबाद 60, बलिया 103, आगरा 35, अलीगढ़ 101, देवरिया 111, गाजीपुर 92, आजमगढ़ 113, रामपुर 81, अयोध्या 62, शाहजहांपुर 80, बाराबंकी 17, बुलंदशहर 25, सहारनपुर 58, हापुड़ 10, हरदोई 22, संतकबीर नगर 43, कुशीनगर 155, चंदौली 37, गोंडा 58, मथुरा 19, बस्ती 42, महाराजगंज 47, संभल 13, सिद्धार्थ नगर 70, उन्नाव 48, कन्नौज 29, सुल्तानपुर 64, पीलीभीत 46, मुजफ्फर नगर 60, मिर्जापुर 49, इटावा 35, बहराइच 47, बिजनौर 48, मैनपुरी 46, फिरोजाबाद 26, अमरोहा 50, सोनभद्र 38, रायबरेली 17, सीतापुर 86, जालौन 20, प्रतापगढ़ 71, लखीमपुर खीरी 61, फतेहपुर 53, मऊ 27, भदोही 14, बागपत 05, बदायूं 10, अमेठी 38, औरैया 14, शामली 12, ललितपुर 21, कासगंज 21, एटा 16, कौशांबी 22, कानपुर देहात 14, बलरामपुर 38, हमीरपुर 11, आंबेडकर नगर 28, बांदा 08, हाथरस 07, चित्रकूट 07 और श्रावस्ती में 11 मरीज मिले हैं। इसके अलावा 47 मरीजों की मौत हुई है और 2999 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है।  एक लाख से अधिक नमूने जांचे यूपी ने एक दिन में 102982 नमूने जांच करके फिर से रिकार्ड बनाया है। अब तक प्रदेश में 2996406 नमूने जांचे जांचे जा चुके हैं। उतर प्रदेश से जांच के मामले में सिर्फ तमिलनाडु लगभग दो लाख जांच ज्यादा करके आगे हैं। प्रदेश में अब 15678 मरीज होम आइसोलेशन और सेमी पेड में 178 लोग हैं।
... और पढ़ें

लखनऊ की टीम ने 12 दिन तक झारखंड में डाला था डेरा तब पकड़े गए नौ जालसाज

लोगों को झांसे में लेकर खाते से मोटी रकम उड़ाने वाले साइबर जालसाज ओके गिरोह का पर्दाफाश लखनऊ के साइबर क्राइम सेल ने किया है। साइबर क्राइम सेल की टीम ने जामताड़ा के तिलिस्म को दूसरी बार तोड़ा है।

करीब छह महीने पहले इसी टीम ने एक जालसाज को जामताड़ा से गिरफ्तार किया था। इस बार टीम के 14 सदस्यों ने 12 दिनों तक देवघर और दुमका में डेरा डाल दिया था।
तब पुलिस के हाथ नौ जालसाज हाथ लगे। एसीपी साइबर क्राइम सेल विवेक रंजन राय के मुताबिक, सचिवालय से रिटायर समीक्षा अधिकारी से 53 लाख की धोखाधड़ी करने वाले ठगों का जाल देशभर में फैला हुआ है।

गिरफ्तार नौ ठगों के खिलाफ छत्तीसगढ़ के पांच जिलों में धोखाधड़ी के कई मामले दर्ज हैं। वहीं, आरोपियों के पास से मिले मोबाइल से पुलिस को अहम सुराग मिले हैं। इन दस्तावेजों के आधार पर टीम ने जालसाजों के नेटवर्क को तोड़ने की तैयारी शुरू कर दी।
 
... और पढ़ें

सरायन नदी के किनारे अष्टधातु की तीन बेशकीमती मूर्तियां मिली, जांच पड़ताल में जुटी पुलिस

सीतापुर के कमलापुर थाना क्षेत्र में सरायन नदी के किनारे जयरामपुर पुल के नीचे शनिवार की सुबह अष्टधातु की तीन बेशकीमती मूर्तियां बरामद हुई हैं। बरामद मूर्तियों की अंतरराष्ट्रीय बाजार की कीमत एक करोड़ से अधिक बताई जा रही है। मूर्तियां राम, जानकी व लक्ष्मण की हैं। तीनों मूर्तियों का वजन तकरीबन 45 किलो है। पुलिस ने मूर्तियों को अपने कब्जे में लेकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

संदना इलाके में स्थित एक मंदिर के महंत ने इन मूर्तियों पर अपनी दावेदारी की है। पुलिस का कहना है कि जांच पड़ताल के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। कमलापुर थाना क्षेत्र के कुछ लोग शनिवार की सुबह जयरामपुर पुल के नीचे सरायन नदी के किनारे गए थे। यहां पर इन लोगों ने एक बोरी में कुछ सामान पड़ा देखा। नजदीक जाकर जांच की तो उसमें तीन अष्टधातु की बेशकीमती मूर्तियां पड़ी मिलीं।

जिसके बाद इन लोगों ने ग्राम प्रधान सुरेंद्र कश्यप व थानाध्यक्ष आरबी सुमन को सूचना दी। खबर पाकर प्रधान, पुलिस व काफी संख्या में ग्रामीण एकत्र हो गए। पुलिस ने तीनों मूर्तियों को कब्जे में ले लिया। यह मूर्तियां राम, जानकी व लक्ष्मण की बताई जा रही है। तीनों मूर्तियों का वजन 15-15 किलोग्राम कुल 45 किलोग्राम की वजन बताई जा रही है। इनकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत लगभग एक करोड़ रुपये आंकी जा रही है।

पुलिस मूर्तियां कब्जे में लेकर मामले की जांच पड़ताल कर रही है। हालांकि इस बीच मूर्तियां मिलने की सूचना पर संदना थाना क्षेत्र के धवार पारा स्थित राम जानकी मंदिर के महंत राम सेवक दास मौके पर पहुंचे। उन्होंने मूर्तियों को देखकर दावा किया कि यह मूर्तियां उनके राम जानकी मंदिर की हैं। ये मूर्तियां 27 जनवरी 2016 को चोरी हो गई थीं। इस मामले में थाने में मुकदमा भी दर्ज है।

महंत के दावे को लेकर भी पुलिस जांच पड़ताल कर रही है। महंत ने बताया कि यह मूर्तियां करीब 400 साल पुरानी हैं और इससे पहले भी एक बार चोरी होकर बरामद हो चुकी है। इस प्रकरण में थानाध्यक्षआरबी सुमन का कहना है की बरामद मूर्तियां बेशकीमती हैं। इनके बारे में जांच-पड़ताल की जा रही है। जांच के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

राम मंदिर निर्माण को लेकर धमकी भरा ऑडियो क्लिप वायरल, मामला दर्ज

सांकेतिक तस्वीर
लखनऊ में शनिवार को अलग-अलग इंटरनेशनल नंबर से मीडिया कर्मियों व अन्य लोगों को कॉल आए। कॉल करने वाले ने सभी को एक धमकी भरा ऑडियो क्लिप सुनाया। जिसमें राम मंदिर के निर्माण कराने के लिए सरकार विरोधी बातें कहीं गई हैं। दोपहर में सोशल मीडिया पर ऑडियो क्लिप वायरल हो गया इसके बाद पुलिस महकमा सकते में आ गया आनन-फानन में हजरतगंज थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया। 

पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय के मुताबिक अज्ञात नंबर से लोगों को फोन आ रहे हैं। फोन करने वाला व्यक्ति भड़काऊ बयान दे रहा है। मामले की पड़ताल की जा रही है। एसीपी हजरतगंज अभय कुमार मिश्र ने बताया कि दारोगा महेश दत्त शुक्ला की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है। यूसुफ अली नाम के युवक ने कई मीडियाकर्मियों के मोबाइल फोन पर वीआईओपी नंबर से कॉल किया था। फोन करने वाले ने राष्ट्र विरोधी और धार्मिक भावना भड़काने वाली बात कही है। इससे शांति व्यवस्था कभी भी भंग हो सकती है।

ऑडियो में कही गई बात...
ऑडियो में कहा कि ...मेरा नाम यूसुफ अली है। मेरा पैगाम भारत में रहने वाले मुस्लिम भाई बहनों के लिए है। राम मंदिर का निर्माण भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने की शुरुआत है। मेरी मुस्लिम भाई बहनों से अपील है कि आइए हम सब मिलकर 15 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ध्वजारोहण करने से रोकें। हमें सिख भाई बहनों से सबक सीखना चाहिए... हमें भी हिंदुस्तान के मुसलमानों के लिए अलग मुल्क बनाने के लिए काम करना चाहिए।

एसीपी हजरतगंज अभय कुमार मिश्रा के मुताबिक प्राथमिक पड़ताल में धमकी देने वाला नंबर विदेशी लग रहा है। इस मामले में जो भी व्यक्ति दोषी होगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पुलिस आयुक्त ने अपील है कि अगर किसी के पास ऐसी कॉल आती है तो वह 9454401508 पर उस संदेश को भेज दें।
... और पढ़ें

रामजन्म भूमि पूजन समारोह में राष्ट्रपति को न बुलाना दलितों का अपमान : संजय सिंह

आम आदमी पार्टी (आप) सांसद व प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने राम मंदिर भूमि पूजन समारोह में राष्ट्रपति को ना बुलाए जाने पर भाजपा पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति को कार्यक्रम में न बुलाकर भाजपा और प्रदेश सरकार ने दलितों का अपमान किया है। भाजपा का दलित विरोधी चेहरा सामने आ गया है।  

शुक्रवार को देर रात किए ट्वीट में आप सांसद ने कहा कि आज मुझे एक दलित नेता ने फोन करके कहा कि राष्ट्रपति दलित थे इसलिए कार्यक्रम में उन्हें नहीं बुलाया गया। इसी तरह पिछड़ा होने की वजह से उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या को भी नहीं बुलाया गया, ऐसा क्यों? भाजपा दलितों को मंदिर से बाहर क्यों रखना चाहती है। संजय सिंह ने कहा भाजपा दलित विरोधी है।  

राम मंदिर भूमि पूजन में प्रधानमंत्री स्वयं पहुंचते हैं पर राष्ट्रपति को नहीं बुलाते। उन्होंने कहा कि पिछड़ी जाति के कल्याण सिंह जैसे वरिष्ठ भाजपा नेताओं को भी कार्यक्रम में न बुलाये जाने पर सवाल उठाया है। उन्होंने राष्ट्रपति को जगन्नाथ पुरी मंदिर में भी प्रवेश नहीं करने देने पर आलोचना की है। 

आप सांसद ने कहा कि पिछले कई वर्षों के आंकड़े देखें तो दलितों के खिलाफ सबसे ज्यादा अपराध भाजपा के शासनकाल में हुए हैं। दलितों को प्रसाद बांटने पर उन्होंने कहा कि भाजपा सिर्फ दलित प्रेम का दिखावा करती है। दलितों को प्रसाद बांट सकते हैं, लेकिन राष्ट्रपति को पूजन में आमंत्रित नहीं किया। यह दलितों का घोर अपमान है।
... और पढ़ें

सपा संरक्षक मुलायम सिंह की हालत स्थिर, डॉक्टरों की कड़ी निगरानी में चल रहा इलाज

समाजवादी पार्टी (सपा) संरक्षक एवं पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव की हालत स्थिर बनी हुई है। शनिवार को जांच में पेशाब के रास्ते में संक्रमण पाया गया है। उन्हें देखने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व शिवपाल यादव और सैफई से भी परिवार के कई लोग अस्पताल पहुंचे। 

गौरतलब है कि मुलायम सिंह को बृहस्पतिवार को मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। हॉस्पिटल के मेडिकल डॉयरेक्टर डॉ. राकेश कपूर ने बताया कि मुलायम सिंह को अभी 2 से 3 दिन तक अस्पताल में रखा जाएगा। संक्रमण के कारणों का पता लगाया जा रहा है।

डॉ. कपूर का कहना है कि डॉक्टरों की कड़ी निगरानी में उनका इलाज चल रहा है। उनका अल्ट्रासाउंड, ब्लड टेस्ट और यूरिन टेस्ट किया गया है। उनका पेट दर्द कम है और हालत स्थिर है। मालूम हो कि मुलायम सिंह माह भर पहले भी मेदांता में भर्ती हुए थे। उस वक्त उन्हें आंत में समस्या थी। हालांकि, इलाज के बाद उन्हें आराम मिल गया और उन्हें घर भेज दिया गया था।

गुरुवार शाम जब उन्हें अस्पताल लाया गया तो सबसे पहले कोविड 19 की जांच के लिए सैंपल लिया गया था। उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी। मुलायम सिंह को डॉक्टरों की एक टीम की निगरानी में रखा गया है।

स्वास्थ्य कारणों से मुलायम राजनीतिक रूप से भी सक्रिय नहीं हैं। अब वह यदा-कदा ही सार्वजनिक समारोहों में दिखते हैं। उनकी पहचान एक जमीनी नेता के तौर पर रही है। अभी कुछ दिनों पहले ही उनके बेहद करीबी मित्र अमर सिंह का निधन हुआ। जिस पर मुलायम ने एक बयान जारी कर शोक प्रकट किया। वह मीडिया के सामने नहीं आए। वह लखनऊ में रहते हैं और उनके घर पर हर रोज उनसे मिलने वालों का तांता लगा रहता है। उनके अस्पताल में भर्ती होने पर बड़ी संख्या में समर्थक उनका हालचाल लेने के लिए आते हैं।
... और पढ़ें

कानपुर में अपहरण कर एक करोड़ की फिरौती मांगने वाला शातिर बदमाश गिरफ्तार

थाना मोतीपुर पुलिस द्वारा मूल रुप से बिहार के निवासी वर्तमान में परिवार के साथ बहराइच के करमोहना गांव में रह रहे शातिर अपराधी ज्योति प्रकाश सिंह पुत्र चन्द्र दीप सिंह को चोरी की मोटरसाइकिल व चाकू के साथ गिरफ्तार किया है।
 
थाना प्रभारी मोतीपुर जय नारायण शुक्ला ने बताया कि पुलिस टीम के गश्त के दौरान यह संदिग्ध युवक भागने लगा। जिसे पकड़ कर पूछताछ की गयी। पूछताछ के दौरान इसने कानपुर देहात जनपद में अपहरण कर एक करोड़ की फिरौती की घटना को स्वीकार कर थाना अकबरपुर जिला कानपुर देहात दर्ज मुकदमा के बारे में जानकारी दी। जिस पर कानपुर की पुलिस से संपर्क कर जानकारी प्राप्त की गयी। उसमें मध्यप्रदेश से एक तांत्रिक के शामिल होने की पुष्टि हुई है। पूरे मामले की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

यूपी के कई जिलों में बाढ़ का विकराल रूप, फसलें चौपट, मुआवजा दे सरकार: अजय कुमार लल्लू

उत्तर प्रदेश में बाढ़ दर्जनों जिलों में कहर मचाए हुए है। खेतों में धान और गन्ने की खेती डूब गई है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने मांग की है कि प्रदेश सरकार तत्काल प्रभाव से किसानों को मुआवजा दे ताकि इस विपदा में उनको थोड़ी राहत मिले। 

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि पिछले एक सप्ताह से वे बाढ़ पीड़ितों के बीच घूम रहा हूं। बहराइच से लेकर बलिया तक स्थिति बहुत भयानक है। जगह जगह तटबन्धों की दशा बहुत ही दयनीय हालत में है। उन्होंने कहा कि इससे साफ-साफ सरकार की लापरवाही उजागर होती है। 

प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि बाढ़ में अपार जन धन की हानि हुई है। सरकार को तत्काल प्रभाव से पीड़ित जनता की मदद करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि गोंडा, बहराइच, बाराबंकी, कुशीनगर, गोरखपुर, देवरिया, बलिया, मऊ, आज़मगढ़ समेत कई जिलों में गन्ना और धान की फसल डूब गई है। उन्होंने कहा कि कई जिलों में तेज बारिश से भी बहुत नुकसान हुआ है। वहां भी फसलें बर्बाद हो गई हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसान लगातार कई सालों से प्राकृतिक आपदा और किसान विरोधी सरकारी नीतियों के शिकार हो रहे हैं। उनके जेब में फूटी कौड़ी तक नहीं है। सरकार तत्काल प्रभाव बाढ़ को आपदा घोषित करे और जन-धन की हुई हानि का मुआवजा घोषित करे।
... और पढ़ें
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us