विज्ञापन
विज्ञापन
क्या वर्ष 2021 में मिलेगा नौकरी में प्रमोशन ? अनुभवी ज्योतिषियों से जानें विस्तृत करियर रिपोर्ट
astrology

क्या वर्ष 2021 में मिलेगा नौकरी में प्रमोशन ? अनुभवी ज्योतिषियों से जानें विस्तृत करियर रिपोर्ट

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

अमेरिका में रिसर्च छोड़कर वापस आए डॉ संदीप, बच्चों को विज्ञान के प्रति कर रहे जागरूक

डॉ. संदीप सिंह अमेरिका में पोस्ट डॉक्टरल रिसर्च छोड़कर वापस अपने देश आ गए हैं और ग्रामीण बच्चों को विज्ञान और तकनीक के प्रति जागरूक कर रहे हैं।

13 अक्टूबर 2020

विज्ञापन
Digital Edition

प्रियंका गांधी ने मुख्यमंत्री योगी को बुनकरों की समस्याओं पर लिखा पत्र, सामने रखीं तीन मांगें

कांग्रेस की यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर उनकी समस्याओं का तत्काल समाधान करने की मांग की है।

उन्होंने पत्र में लिखा है कि पिछले कुछ समय से वाराणसी के बुनकर बहुत ही परेशान और हताश हैं। पूरी दुनिया में मशहूर बनारसी साड़ियों के बुनकरों के परिवार दाने-दाने को मोहताज हो गए हैं। कोरोना महामारी और सरकारी नीतियों के चलते उनका पूरा कारोबार चौपट हो गया है जबकि उनकी हस्तकला द्वारा सदियों से उत्तर प्रदेश का नाम रौशन हुआ है। उत्तर प्रदेश सरकार को इस कठिन दौर में उनकी पूरी सहायता करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार ने 2006 में बुनकरों के लिए फ्लैट रेट पर बिजली देने की योजना लागू की थी। मगर आपकी सरकार यह योजना खत्म करके बुनकरों के साथ बहुत नाइंसाफी कर रही है। सिर्फ इतना ही नहीं बुनकरों ने मुझे बताया कि मनमाने बिजली बिल के खिलाफ जब वे हड़ताल पर गए तो सरकार ने उन्हें वार्ता के लिए बुलाया। सरकार के प्रतिनिधि ने उन्हें भरोसा भी दिलाया कि उनकी मांगे मान ली जाएंगी लेकिन इसके बावजूद उनकी समस्याओं का समाधान नहीं हुआ।

उन्होंने बुनकरों की तीन मांगें रखी:
1. फ्लैट रेट पर बिजली देने की योजना बहाल की जाए।
2. फर्जी बकाया के नाम पर बुनकरों का उत्पीड़न तत्काल प्रभाव से रोका जाए।
3. बुनकरों के बिजली कनेक्शन न काटे जाएं। जो बिजली के कनेक्शन कट गए हैं उन्हें तत्काल जोड़ा जाए।

... और पढ़ें
कांग्रेस की यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। कांग्रेस की यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

बसपा से बागी हुए इन सात विधायकों को मायावती ने पार्टी से किया निलंबित, सपा पर किए वार

बलरामपुर: विवाहिता को लिफ्ट देने के बहाने पर बाइक पर बिठाया और गोदाम ले जाकर दुष्कर्म किया

श्रावस्ती के एक गांव में दशहरा मेला देखने गई एक विवाहिता को बाइक सवार युवक ने लिफ्ट देने के बहाने बैठा लिया और एक गोदाम में बंधक बनाकर रात भर दुष्कर्म किया। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा गया है।

एसपी को दिए गए प्रार्थना पत्र में पीड़िता ने कहा कि बीते दिन वह दशहरा मेला देखने श्रावस्ती के थाना क्षेत्र सिरसिया स्थित एक गांव में गई थी। वापसी में उसे हरैया थाना क्षेत्र के बाइक सवार युवक ने लिफ्ट देने के बहाने अपनी बाइक पर बैठा लिया।

युवक उसे इसी थाना क्षेत्र में स्थित अपने गोदाम पर ले गया। गोदाम में ही विवाहिता को युवक ने रातभर बंधक बनाए रखा और दुष्कर्म किया। आरोपी के चंगुल से छूटकर विवाहिता अपने घर पहुंची और मामले की शिकायत पुलिस से की।
... और पढ़ें

लखनऊ में डिवाइडर पार कर कंटेनर से भिड़ी बोलेरो, तीन भाइयों की मौत

सरोजनीनगर के दरोगाखेड़ा में मंगलवार देर रात अचानक सामने आए जानवर से बचने के चक्कर में बोलेरो डिवाइडर पार कर दूसरी दिशा से आ रहे कंटेनर से जा भिड़ी। हादसे में दो सगे भाइयों अनवारुल हक (48) और अकबारुल हक (32) के अलावा चचेरे भाई मो. हलीम (32) की मौत हो गई। चालक गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस के मुताबिक, अनवारूल सउदी अरब से लौटा था। उसे लेने के लिए उसके भाई एयरपोर्ट गए थे। वापस आते समय हादसा हो गया।

प्रभारी निरीक्षक सरोजनीनगर आनंद कुमार शाही के मुताबिक, कौशांबी के गौरिया निवासी अनवारुल हक सउदी अरब में रहते हैं। मंगलवार को वे वहां से वापस आ रहे थे। अनवारुल को लेने उनका सगा भाई अकबारुल हक और चचेरा भाई हलीम अमौसी आए थे। गांव से ही उन्होंने एक बोलेरो बुक की थी। चालक वसीम के साथ सभी शाम को लखनऊ पहुंचे। देर रात फ्लाइट आने के बाद अनवारुल को लेकर वापस गांव जाने के लिए निकले।

दरोगाखेड़ा के पास बोलेरो के सामने अचानक कोई जानवर आ गया। चालक ने उससे बचने के लिए स्टेयरिंग दूसरी दिशा में मोड़ा। इसी बीच रफ्तार बढ़ गई। बोलेरो डिवाइडर पार कर कानपुर की तरफ से आ रही कंटेनर में जा टकराई। हादसे में बोलेरो सवार चारों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

पुलिस ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया जहां अनवारुल, अकबारुल और हलीम को मृत घोषित कर दिया गया। वहीं वसीम का इलाज चल रहा है। पुलिस के मुताबिक, अनवारुल के परिवार में पत्नी शमां परवीन, बेटियां शना सिद्दीकी और आफरीन है। वहीं अकबारुल के परिवार में पत्नी शबनम, बेटा यूसुफ, बेटी हुमैरा, हलीम के घर में पत्नी किताबुन निशा, बेटे आसिफ, ईजान व बेटी चांदनी बानो हैं।
... और पढ़ें

त्योहारी उल्लास: टू-पीस साड़ी के साथ इंडो वेस्टर्न का जबरदस्त क्रेज, युवाओं पर चला इस रंग का जादू

प्रतीकात्मक तस्वीर
करवा चौथ, दीपावली और सहालग के लिए बेहतरीन कलेक्शन के साथ कपड़ा बाजार पूरी तरह तैयार है। ग्राहकों की पसंद और लेटेस्ट ट्रेंड का ध्यान रखते हुए कारोबारियों ने हर वो डिजाइन और रंग के परिधान तैयार करवाए हैं, जो मौसम और वक्त के हिसाब से ग्राहकों को पसंद आएंगे। कारोबारियों का कहना है कि हमने लॉकडाउन हटते ही दीपावली तक के ऑर्डर दे दिए थे, क्योंकि इस बार पितृपक्ष में भी कपड़े बिके हैं और अभी तो सहालग तक खूब खरीदारी होनी है। कारोबारियों का कहना है कि हम नहीं चाहते कि लॉकडाउन की बोरियत झेलकर घर के बाहर खरीदारी करने निकला ग्राहक शो रूम से खाली हाथ लौटे। जहां तक ट्रेंड की बात है तो कारोबारियों का कहना है कि इस बार युवाओं में इंडोवेस्टर्न के साथ-साथ सदर-कुर्ता पायजामा का क्रेज है तो महिलाओं को टू-पीस व रेडीमेड साड़ी खूब पसंद आ रही है। 

 
... और पढ़ें

बसपा के छह विधायकों के बागी होने से यूपी में एक और सियासी उठापटक की सुगबुगाहट तेज, सपा की बढ़ेगी ताकत

राज्यसभा चुनाव के पहले बसपा के 6 विधायकों के बगावती तेवर के बाद उत्तर प्रदेश में जल्द ही एक और सियासी उठापटक की सुगबुगाहट तेज हो गई है। चर्चा है कि दूसरे दलों के एक दर्जन से ज्यादा विधायक साइकिल की सवारी कर सकते हैं। ये विधायक सपा नेतृत्व के संपर्क में बताए जा रहे हैं।

दरअसल, राज्यसभा चुनाव में भाजपा ने बसपा को वॉकओवर देने की तैयारी की तो सपा एकाएक सक्रिय हो गई। आनन फानन निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में प्रकाश बजाज का नामांकन पत्र दाखिल कराया। उसकी रणनीति बसपा को भाजपा के पाले में खड़ा करने की थी। बसपा के आधा दर्जन विधायकों की बगावत से उसकी रणनीति कुछ हद तक कारगर भी रही।

संख्या बल को देखते हुए राज्यसभा चुनाव में सपा ने सिर्फ रामगोपाल यादव को उम्मीदवार बनाया था। ऐसी संभावना थी कि भाजपा 9 प्रत्याशी उतारेगी। नामांकन की आखिरी तिथि 27 अक्तूबर थी। भाजपा ने 26 अक्तूबर की रात को 8 उम्मीदवारों का एलान किया। नौवें प्रत्याशी पर सस्पेंस कायम रखा। सपा के हलकों में चर्चा शुरू हो गई थी कि भाजपा नौवां प्रत्याशी नहीं उतारेगी। वह बसपा प्रत्याशी को वॉकओवर देकर राज्यसभा पहुंचाएगी।
... और पढ़ें

लखनऊ की हवा दिल्ली, नोएडा से ज्यादा जहरीली, वायु प्रदूषण में देश में मिला ये स्थान

लखनऊ की हवा दिल्ली और नोएडा से भी ज्यादा प्रदूषित हो चुकी है। बुधवार को यह 326 के वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) के साथ लाल निशान पर पहुंच गई। हालांकि, इसके बावजूद यूपीपीसीबी से लेकर एलडीए तक के अधिकारी मौके पर जाकर कार्रवाई करते नहीं दिखाई दे रहे हैं।

सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड (सीपीसीबी) के रिकॉर्ड मुताबिक 297 के एक्यूआई के साथ दिल्ली की हवा बुधवार को खराब श्रेणी में रही। हालांकि, लखनऊ की हवा बहुत खराब बनी हुई है। लगातार चार दिन से राजधानी में ऐसे हालात बने हैं। गाजियाबाद, कानपुर तक में यहां से कम वायु प्रदूषण मिल रहा है।

हो रहा छिड़काव
नगर निगम के पर्यावरण अभियंता पंकज भूषण ने बताया कि लगातार पानी का छिड़काव किया जा रहा है। बुधवार को तालकटोरा, लालबाग, खुर्रमनगर और गोमती नगर में पानी का छिड़काव हुआ।
 
... और पढ़ें

स्मार्ट मीटर के नाम पर जनता को लूटा जा रहा है, अभियान चलाएगी आप : सांसद संजय सिंह

आम आदमी पार्टी के सांसद और प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने कहा कि प्रदेश में स्मार्ट मीटर के नाम पर लूट हो रही है। उपभोक्ताओं से 30 प्रतिशत अधिक बिल वसूला जा रहा है। हम इसके खिलाफ अभियान चलाएंगे।

वहीं, महोबा में क्रशर कारोबारी इंद्रकांत त्रिपाठी हत्याकांड में शामिल पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई न होने को लेकर सवाल उठाए हैं।

उन्होंने आरोप लगाया कि जाति विशेष के होने के कारण त्रिपाठी के परिजनों को न्याय नहीं मिल रहा है। उन्होंने सरकार से पूछा कि इस मामले में आरोपी महोबा के तत्कालीन एसपी मणिलाल पाटीदार की गिरफ्तारी कब होगी? संजय सिंह ने जाति विशेष के लोगों की हो रही हत्याओं का हवाला देते हुए सरकार को आड़े हाथों लिया।

उन्होंने किसानों के मुद्दे पर केंद्र सरकार की नीतियों की आलोचना की। कोविड वैक्सीन के नाम पर बिहार चुनाव में वोट मांगने की आलोचना करते हुए कहा कि जिस बीमारी की कोई दवाई नहीं, उसके नाम पर वोट मांगे जा रहे हैं।
... और पढ़ें

तनाव और हाई ब्लड प्रेशर से बढ़ता है इस बीमारी का खतरा, कम खाएं चीनी-नमक

Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X