विज्ञापन
विज्ञापन
शरद पूर्णिमा पर कराएं श्री कृष्ण की विशेष पूजा, बांके बिहारी मंदिर, वृन्दावन 19 अक्टूबर 2021
Myjyotish

शरद पूर्णिमा पर कराएं श्री कृष्ण की विशेष पूजा, बांके बिहारी मंदिर, वृन्दावन 19 अक्टूबर 2021

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Digital Edition

यूपी: सीएम योगी ने सिद्धार्थनगर मेडिकल कॉलेज का किया निरीक्षण, बोले- 25 अक्तूबर को पीएम मोदी करेंगे उद्घाटन

सीएम योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को सिद्धार्थनगर का दौरा किया। उन्होंने पीएम मोदी के कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण किया। बता दें कि पीएम मोदी मेडिकल कॉलेज सिद्धार्थनगर का उद्घाटन करने के लिए आने वाले हैं। इस दौरान सीएम योगी ने प्रेसवार्ता करते कहा कि आज गोरखपुर में एम्स बनकर लगभग तैयार हो गया है। अगले एक-डेढ़ महीने में प्रधानमंत्री इसका उद्घाटन करेंगे।

उन्होंने कहा कि पीएम स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के अंतर्गत मेडिकल कॉलेज की शृंखला जोड़ी जा रही है। पहले पूर्वी यूपी में एक मात्र बीआरडी मेडिकल कॉलेज था।दो वर्ष पहले मैंने जनपद सिद्धार्थनगर में मेडिकल कॉलेज की घोषणा की थी। प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के अंतर्गत जनपद को मेडिकल कॉलेज प्राप्त हुआ है।

उन्होंने कहा कि मुझे बताते हुए प्रसन्नता है कि नेशनल मेडिकल कमीशन ने प्रदेश के सात मेडिकल कॉलेज को मान्यता दे दी है, जिसमें हर मेडिकल कॉलेज में 100 एडमिशन होंगे, इसमें सिद्धार्थनगर का मेडिकल कॉलेज भी शामिल है।

सीएम योगी ने कहा कि जनपद सिद्धार्थनगर का मेडिकल कॉलेज अपने पहले सत्र के लिए पूरी तरह तैयार है, यहां पर कक्षाएं प्रारंभ होंगी। प्रधानमंत्री मोदी 25 अक्तूबर को जनपद सिद्धार्थनगर से सात नए मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन करेंगे। जिनमें सिद्धार्थनगर के साथ ही एटा, हरदोई, गाजीपुर, मीरजापुर, देवरिया और प्रतापगढ़ शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि सिद्धार्थनगर प्रधानमंत्री मोदी के आगमन के लिए पूरी तरह तैयार है। यहां के मेडिकल कॉलेज का नामकरण 'माधव बाबू जी' के नाम पर किया है।
... और पढ़ें
गोरखपुर में सीएम योगी आदित्यनाथ। गोरखपुर में सीएम योगी आदित्यनाथ।

गोरखपुर: मनीष हत्याकांड में छठवां आरोपी गिरफ्तार, एक लाख का इनामी था दरोगा विजय यादव

कारोबारी मनीष गुप्ता की मौत मामले में छठवें हत्यारोपी निलंबित दरोगा विजय यादव को शनिवार को कैंट पुलिस ने रेल म्युजियम के पास से गिरफ्तार कर लिया। वह कोर्ट में सरेंडर करने के लिए आया था, इसी बीच मुखबिर की सूचना पर कैंट इंस्पेक्टर सुधीर सिंह की टीम ने आरोपी को पकड़ लिया। जौनपुर निवासी विजय पर भी एक लाख रुपये का इनाम था। पुलिस ने आरोपी को एसआईटी को सुपुर्द कर दिया है। रामगढ़ताल थाने में एसआईटी आरोपी दरोगा से पूछताछ कर रही है।

जानकारी के मुताबिक, मनीष की मौत मामले में पुलिस ने छह हत्यारोपी पुलिस वालों की तलाश में थी। जौनपुर जिले के बख्शा थानाक्षेत्र स्थित चितौड़ी गांव का रहने वाला दरोगा विजय यादव फरार चल रहा था। उसे पकड़ने के लिए क्राइम ब्रांच, रामगढ़ताल पुलिस के साथ ही एसआईटी कानपुर की टीम गाजीपुर, जौनपुर लखनऊ के साथ ही दोस्तों और रिश्तेदारों के घर के छापेमारी कर रही थी। लेकिन विजय यादव पकड़ से दूर था।

शनिवार की दोपहर विजय सीजेएम कोर्ट में सरेंडर करने के फिराक में गोरखपुर पहुंचा था। सूचना पर पहुंचे कैंट थाना प्रभारी सुधीर सिंह ने घेराबंदी कर दबोच लिया। एसएसपी डॉ. विपिन ताडा ने बताया कि फरार चल रहे दारोगा विजय यादव को कैंट पुलिस ने पकड़कर एसआइटी को सुपुर्द कर दिया है। कोर्ट में सरेंडर करने के इरादे से वह गोरखपुर आया था। मनीष गुप्ता हत्याकांड में रामगढ़ताल थाने में तैनात इंस्पेक्टर जेएन सिंह, दरोगा अक्षय मिश्रा, दरोगा राहुल दुबे, मुख्य आरक्षी कमलेश यादव, आरक्षी प्रशांत कुमार और दरोगा विजय यादव को आरोपी बनाया गया है।
... और पढ़ें

जनता दरबार: मुख्यमंत्री जी! 1962 के बाद से कभी नहीं हुई चकबंदी, गांव में हो रहा विवाद

गोरखनाथ मंदिर परिसर स्थित हिंदू सेवाश्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को जनता दर्शन में 200 से अधिक फरियादियों की समस्याएं सुनी और संबंधित अफसरों को जल्द निस्तारण का निर्देश दिया। इस दौरान कैम्पियरगंज के थवईपार ग्राम सभा से आए राम गिरीश सिंह, सुरेंद्र सिंह, उदय प्रताप सिंह, संतोष, कुशहर सिंह ने सीएम योगी आदित्यनाथ ने गुहार लगाई कि उनके ग्राम सभा में 1962 के बाद से अब तक कभी चकबंदी की प्रक्रिया नहीं हुई है।

इस वजह से आए दिन विवाद होता है। मुख्यमंत्री ने पास खड़े कमिश्नर रवि कुमार एनजी को इस मामले में जरुरी कार्रवाई के निर्देश दिए। गोरखनाथ थाना क्षेत्र आदित्यनगर नथमलपुर की रहने वाली उषा सिंह पत्नी पुरुषोत्तम ने मुख्यमंत्री को प्रार्थनापत्र देकर कहा कि उन्होंने अशोक कुमार श्रीवास्तव से 1500 वर्गफीट जमीन बैनामा लिया था। जमीन के दस्तावेजों पर उनका नाम भी दर्ज है। मगर 14 सितंबर से अमीरुननिशा पत्नी भरत अली और उनकी लड़की सायरा खातून ने विवाद किया।

आरोप लगाया कि इस मामले में हल्का दरोगा ने उनकी बैनामा की जमीन पर दूसरे पक्ष का सामान जबरन रखवा कर दिए। यही नहीं उल्टे उनके खिलाफ विभिन्न धाराओं में आपराधिक मामला भी दर्ज कर दिया। मुख्यमंत्री ने मामले की जांच कर कार्रवाई करने को कहा। आगे की स्लाइड्स में देखें तस्वीरें
... और पढ़ें

Petrol Diesel Price: गोरखपुर में आज फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए कितना है भाव

सरकारी तेल कंपनियों की ओर से आज पेट्रोल-डीजल के दामों में बदलाव किया गया है। गोरखपुर जिले में लगातार डीजल और पेट्रोल के दाम बढ़ रहे हैं। शनिवार को भी इनके दामों में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। इससे लोगों की मुश्किले बढ़ गई हैं।

गोरखपुर शहर में शनिवार को पेट्रोल 102.58 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। वहीं डीजल 94.73 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। पेट्रोल के दाम में 0.15 पैसे की बढ़त हुई है। वहीं डीजल के दाम में 0.17 पैसे बढ़ गए हैं। इससे वाहन चालकों को खासकर लंबी दूरी तय करने वाले लोगों की मुश्किले बढ़ गई हैं।

ऐसे में कोई महंगाई को कोसता नजर आया तो किसी ने इसे केंद्र सरकार की नाकामी करार दिया। पेट्रोलियम पदार्थों के दाम जीएसटी के दायरे में लाने की मांग भी उठी। दो पहिया वाहन चालक हों या कार मालिक, सभी ने पेट्रोल के दाम बढ़ने से बजट बिगड़ने की चिंता जताई। नौकरीपेशा, छोटे व्यापारी, कारोबारी, विद्यार्थी, गृहिणी, ट्रांसपोर्टर सभी पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने से बजट बिगड़ने और महंगाई बढ़ने की आशंका से ग्रस्त नजर आए।  

बता दें कि प्रतिदिन सुबह छह बजे पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव होता है। सुबह छह बजे से ही नई दरें लागू हो जाती हैं। पेट्रोल व डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन और अन्य चीजें जोड़ने के बाद इसका दाम लगभग दोगुना हो जाता है।

इन्हीं मानकों के आधार पर पर पेट्रोल रेट और डीजल रेट रोज तय करने का काम तेल कंपनियां करती हैं। डीलर पेट्रोल पंप चलाने वाले लोग हैं। वे खुद को खुदरा कीमतों पर उपभोक्ताओं के अंत में करों और अपने स्वयं के मार्जिन जोड़ने के बाद पेट्रोल बेचते हैं। पेट्रोल रेट और डीजल रेट में यह कॉस्ट भी जुड़ती है।
... और पढ़ें

नेपाल में बवाल: युवकों और पुलिस के बीच झड़प, सात पुलिसकर्मी घायल

पेट्रोल-डीजल
नेपाल के रुकम जिला मुख्यालय खलगा में पुलिस और स्थानीय युवकों के बीच हुई झड़प में सात पुलिसकर्मी घायल हो गए। घटना में शामिल छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जिला पुलिस कार्यालय सूचना अधिकारी निरीक्षक कपिल शाही ने बताया कि शुक्रवार रात बागबाजार में हुई झड़प में सहायक निरीक्षक कोमल राज बोहरा समेत सात पुलिसकर्मी घायल हो गए। घायल सहायक निरीक्षक बोहरा को काठमांडू ले जाया गया।

उन्होंने बताया कि कांस्टेबल काली बहादुर बोहरा को पीठ पर चोटें आईं, जबकि लक्ष्मण गुरुंग के सिर पर मामूली चोटें आईं। पुलिस ने बताया कि चार अन्य पुलिसकर्मियों को भी मामूली चोटें आई हैं। मुसिकोट नगर पालिका-1 में बागबाजार के पास खड़े एक ट्रक को पत्थर और बीयर के गिलास से शीशा तोड़ने की खबर के बाद जिला पुलिस कार्यालय और अस्थाई पुलिस चौकी बागबाजार की संयुक्त टीम को जुटाया गया। टीम ने काबू करने की कोशिश की तो युवकों ने पुलिस पर पथराव और बोतलें फेंकी।

गिरफ्तार लोगों में म्यूसिकोट नगर पालिका-5 के नरेश पुनमगर, वार्ड नंबर 1 के राजन प्रकाश गिरी और इसी वार्ड के आकाश परियार शामिल हैं। इसी तरह रुकुम पूर्व के भूम गांव के मरकुश, म्यूसिकोट नगर पालिका-10 के खदानंदा केसी और मुसिकोट नगर पालिका-1 के हरि बहादुर को भी गिरफ्तार किया गया है।

 
... और पढ़ें

महराजगंज: घर में चार करोड़ की चरस रखकर बेच रही थी युवती, छापेमारी में हुई गिरफ्तार

महराजगंज जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां ठूठीबारी कोतवाली क्षेत्र के एक घर से चरस बेचने की सूचना मिली। ऐसे में एसएसबी और कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम ने मौके पर छापा मारा। यहां से 10 किलो 370 ग्राम चरस बरामद हुआ। इसकी अंतराराष्ट्रीय बाजार में कीमत चार करोड़ 16 लाख रुपये बताई जा रही है। आरोपी युवती के खिलाफ केस दर्ज कर न्यायालय ने चालान कर दिया है।

ठूठीबारी एसएसबी के एसआई आशीष शर्मा को मुखबिर से सूचना मिली कि कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सभा किसुनपुर के टोला सोबड़ा में एक घर नेपाल से चरस लाकर उसकी बिक्री करता है। ऐसे में एसएसबी व ठूठीबारी कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम छापा डाला।

वहां घर से एक प्लास्टिक के बोरे में रखा हुआ 10 किलो 370 ग्राम चरस के साथ आरोपी पूजा भारती (20) को गिरफ्तार किया गया। ठूठीबारी कोतवाली प्रभारी संजय दुबे ने बताया कि आरोपी पूजा भारती के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर न्यायालय से चालान कर दिया गया है।
... और पढ़ें

Video: जनता दरबार में सीएम योगी ने सुनी फरियाद, बोले- हर हाल में मिलेगा न्याय

देवरिया: मूर्ति विसर्जन के दौरान पोखरे में डूबा युवक, मौत

देवरिया जिले के महुआडीह थानाक्षेत्र के धमउर गांव में मूर्ति विसर्जन के दौरान एक युवक की डूबकर मौत हो गई। इस बात की जानकारी होते ही घर में कोहराम मच गया। वहीं गांव में अफरा-तफरी मच गई। युवक के डूबने की जानकारी होते ही मौके पर कई गांवों के लोगों की भीड़ जुट गई।

ये है पूरा मामला
महुआडीह थानाक्षेत्र के धमउर गांव में मां दुर्गा की मूर्ति रखी गई थी। पर्व धूमधाम से मनाने के बाद शुक्रवार की शाम को गांव के लोग प्रतिमा को विसर्जन के लिए गांव के दक्षिण गांव के ही एक तालाब में ले गए। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, वहां प्रतिमा विसर्जन के दौरान संदीप यादव (20) पुत्र राजेश यादव तैरकर पोखरा के दूसरे छोर पर चला गया। उधर से वापस तैरकर अपने साथियों के पास आ रहा था कि बीच तालाब में डूबने लगा।

उसे डूबता देखकर उसके साथी उसे बचाने के लिए उसके पास पहुंचे, तब तक वह गहरे पानी में डूब गया था। काफी खोजबीन के बाद उसे बाहर निकाला गया। स्थानीय लोगों की मदद से उसे पिपरा दौलाकदम सीएचसी ले जाया गया। वहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

बताया जा रहा है कि मृतक बारहवीं का छात्र था। मौत की खबर मिलते ही घर में कोहराम मच गया। संदीप दो भाइयों में बड़ा था। मौत से पिता राजेश यादव, माता रंभा देवी, छोटे भाई गणेश, बहन प्रियंका, सुनैना और रीना का रो-रोकर बुरा हाल है। इस संबंध में एसओ कवींद्र नाथ सिंह ने बताया कि उन्हें मामले की जानकारी नहीं है।
... और पढ़ें

गोरखपुर: पुरानी रंजिश में युवक को मारी गोली, लखनऊ रेफर

गोरखपुर जिले के चिलुआताल क्षेत्र के भगवानपुर चौहान टोला के एक युवक को गोली मार दी गई है। बताया जा रहा है कि छह महीने पुराने रंजिश को लेकर इस घटना को मनबढ़ों ने गोली मार दी।

जानकारी के अनुसार, बीती रात मूर्ति विसर्जन के लिए संदीप अपने दोस्त अरविंद चौहान के साथ गया था। मूर्ति विसर्जन के बाद अपनी गाड़ी से वापस लौट रहा था कि अभी वह एचयूआरएल गेट के पास पहुंचा ही था कि पहले से अपने दोस्त से साथ मौजूद विक्की भारती ने गोली चला दी। यह गोली संदीप के पेट में जा लगी और आरोपी मौके से फरार हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस युवक को मेडिकल कालेज ले गई, जहां से उसे लखनऊ रेफर कर दिया गया।

जानकारी के अनुसार, विक्की भारती संदीप के मित्र अरविंद चौहान को मारने आया था लेकिन गोली संदीप को लग गई। लगभग छह महीने पहले अरविंद के छोटे भाई रंजीत ने विक्की से दस हजार रुपया उधार लिया था, उसी को लेकर विक्की से विवाद चल रहा था।

इसी विवाद को लेकर रंजीत के बड़े भाई अरविंद अपने साथियों के साथ जाकर विक्की को बुरी तरह से मारा पीटा था, जिसमें संदीप भी अरविंद के साथ गया था। इस मामले को लेकर दोनों पक्षों में सुलह हो गया था। इसके बावजूद भी विक्की अरविंद को मारने के फिराक में था।

 
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00