बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

गाजीपुर ऑनर किलिंग: पहले अपनी बेटी को दफनाया, फिर जिस सिपाही से कोर्ट में शादी की शादी, उसे भी मारकर फेंका

अमेठी में तैनात बभनौली गांव निवासी पुलिसकर्मी ही नहीं, उसकी प्रेमिका की भी हत्या की गई थी। प्रेमिका के घरवालों ने ही दोनों को गोली मारी थी। वारदात के बाद युवती के शव को घर के पास खेत में दफना दिया था। पुलिस ने युवती का शव बरामद कर लिया। मामले में छह लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। चचेरी बहन की सगाई पर अमेठी से छुट्टी लेकर गाजीपुर जिले के खानपुर थाना क्षेत्र के बभनौली गांव आया पुलिसकर्मी अजय यादव 22 फरवरी को रामपुर गांव के बाहर सिवान में गोली लगने से घायल मिला था। इलाज के दौरान वाराणसी में उसकी मौत हो गई थी। पुलिस टीम ने उसके दो साथियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की थी। उनसे मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने इचवल गांव में एक मकान पर छापा मारकर पुलिस ने छह लोगों को उठाया तो मामला खुल गया। पुलिस के अनुसार, अजय यादव और इचवल निवासी सोनाली सिंह(25) में कईं वर्षों से प्रेम संबंध था। दोनों ने 2018 में कोर्ट मैरिज कर ली थी, लेकिन युवती के परिवार वाले इसे मानने को तैयार नहीं थे। देखें अगली स्लाइड्स...।
... और पढ़ें

तस्वीरें: ऑनर किलिंग की ये कहानी जानकर हो जाएंगे हैरान, पहले पिता ने बेटी को दफनाया फिर उसके प्रेमी के सिर में मार दी गोली

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में सोमवार को हुई पुलिसकर्मी की मौत के मामले में पुलिस ने एक खुलासा किया है। जिसमें उसकी हत्या प्रेम-प्रसंग में की गई थी। सोमवार को पुलिसकर्मी घायल अवस्था में मिला था, जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया था। वहां उसकी मौत हो गई। पुलिसकर्मी अमेठी जिले के थाने में तैनात था। दो साल पहले उसने अपने पड़ोस के गांव की ही युवती से कोर्ट मैरेज की थी। सोमवार की सुबह युवती के परिजनों ने पुलिसकर्मी को फोनकर घर पर बुलाया था। इसके बाद दोनों की गोली मार दी। जिसमे युवती की मौके पर ही मौत हो गई और उसके शव को घर के पास खेत में दफन कर दिया। जबकि पुलिसकर्मी को घायला अवस्था में रामपुर गांव के सिवान में छोड़कर चले गए थे। पुलिस टीम ने मृतक पुलिसकर्मी के स्मार्ट फोन से छानबीन के बाद  खेत में दफन किए गए युवती के शव को भी बरामद कर लिया। साथ ही हत्यारोपी पिता को हिरासत में लेकर छानबीन शुरू कर दी। देखें अगली स्लाइड्स...।
... और पढ़ें

Tandav वेबसीरीज के विवादित दृश्यों का मामला, अमेजन प्राइम इंडिया की कंटेंट हेड से हुई पूछताछ

अमेजन प्राइम इंडिया की कंटेंट हेड अपर्णा पुरोहित मंगलवार को तांडव वेब सीरीज के संबंध में बयान दर्ज कराने हजरतगंज थाने पहुंची। वहां से एसआईटी टीम उन्हें विवेचना सेल के कार्यालय ले गई और साढ़े तीन घंटे तक पूछताछ की। इस दौरान डीसीपी मध्य सोमेन वर्मा, एडीसीपी मध्य चिरंजीव नाथ सिन्हा, एसीपी हजरतगंज राघवेंद्र मिश्रा व इंस्पेक्टर श्याम बाबू शुक्ला ने भी सवाल किए। शाम 5.45 बजे तक अपर्णा से पूछताछ की गई।

गौरतलब है कि जनवरी में रिलीज हुई तांडव वेबसीरीज में कई विवादित दृश्य दिखाए गए थे। इसे लेकर हजरतगंज थाने में तैनात एसएसआई अमरनाथ यादव ने जनवरी में एक मुकदमा दर्ज कराया था। इसमें अपर्णा पुरोहित के अलावा वेबसीरीज के निर्देशक अली अब्बास, निर्माता हिमांशु कृष्ण मेहरा और लेखक गौरव सोलंकी समेत पांच लोगों पर समाज में दुर्भावना फैलाने का आरोप लगाया गया था। इस मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित की गई। एक टीम इनकी तलाश करने के लिए मुंबई भेजी गई। इस टीम ने उनके घरों व कार्यालयों में नोटिस चस्पा किया।

इसके बाद अली अब्बास, हिमांशु व गौरव ने बयान दर्ज कराए। मगर अपर्णा का बयान दर्ज नहीं हो सका था। वहीं, सभी आरोपियों ने कोर्ट से गिरफ्तारी पर रोक लगाने का आदेश हासिल कर लिया। पर, हाईकोर्ट में न्यायमूर्ति दिनेश कुमार सिंह की पीठ ने अपर्णा को बयान दर्ज कराने का आदेश दिया था। एसआईटी ने अपर्णा से पूछताछ के लिए लगभग 100 सवाल तैयार किए थे। इसमें वेब सीरीज तांडव के कंटेंट और वीडियो से जुड़े सवाल थे। पूछताछ में कई बार अपर्णा असहज हुईं। इस दौरान उनके वकील ने कई बार कार्यालय में जाने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने उन्हें बाहर ही रोक दिया।

मीडिया से बचने में गमले से टकराकर गिरीं अपर्णा
हजरतगंज कोतवाली में बयान दर्ज कराने पहुंचीं अपर्णा पुरोहित मीडिया से बचती दिखीं। वह बयान दर्ज कराने के लिए सीधे कार्यालय गईं। जब लौटीं तो मीडियाकर्मियों ने कई सवाल किए, लेकिन वह जवाब देने के बजाय वहां से जाने लगीं। इसी हड़बड़ाहट वह गमले टकराकर गिर पड़ीं। बाद में वह सीधे होटल चली गईं।

अपर्णा बोलीं, अंदाजा नहीं था कि जनभावनाएं होंगी आहत
डीसीपी मध्य सोमेन वर्मा ने बताया कि पूछताछ में अपर्णा ने कहा कि उन्हें इस बात का जरा भी अंदाजा नहीं था कि तांडव वेब सीरीज में जो भी दिखाया जा रहा है, उससे जन भावनाएं आहत होंगी। जैसे ही पता चला तो माफीनामा भी जारी किया। सीरीज के जिस दृश्य पर लोगों की आपत्ति थी। उसे संपादित कर दिया गया। गौरतलब है कि इस वेबसीरीज के पहले एपिसोड में हिंदू देवी-देवताओं को गलत तरीके से रूप धारण करके अमर्यादित भाषा में प्रस्तुत करने के साथ ही जातिगत विद्वेष दर्शाया गया था। इसके विरोध में लखनऊ के अलावा मुजफ्फरनगर, बागपत, हाथरस और कानपुर समेत कई शहरों में प्रदर्शन हुए। लखनऊ, जौनपुर, नोएडा आदि कई जगहों पर मुकदमे दर्ज किए गए थे।

जारी हो सकती है सैफ अली, डिंपल व जीशान को नोटिस
पुलिस के मुताबिक इस विवादित वेब सीरीज में मुख्य किरदार निभाने वाले सैफ अली खान, डिंपल कपाड़िया और जीशान सहित कई अन्य कलाकारों से भी पूछताछ की जा सकती है। इन सबको नोटिस जारी की जा सकती है। हालांकि अभी पुलिस टीम सीरीज के निर्माण में लगी यूनिट से ही पूछताछ कर जानकारी हासिल कर रही है।
... और पढ़ें

बड़ा खुलासा: एसएसबी के जवान ने रची थी खौफनाक साजिश, फिर चाचा-भतीजे का कत्ल, राज खुला तो सामने आई ये वजह

बिजनौर के गांव धौकलपुर में चाचा-भतीजे की हत्या के मामले में सनसनीखेज खुलासा हुआ है। पुलिस के अनुसार हत्या करने की सारी पटकथा ग्राम पंचायत चुनाव के दौरान आरोपी सशस्त्र सीमा बल के जवान नितिन ने लिखी थी। एक माह से ज्यादा समय तक वह गांव में रहा और हत्या का ताना बाना बुनता रहा। नितिन का मकसद अपने पिता की हत्या का बदला लेना था। इसी कारण से वह गांव आया था। हत्या के लिए उसने अपने दोनों भाइयों को पहले ही तैयार कर लिया था।

नितिन बिहार के दानापुर में सशस्त्र सीमा बल में तैनात है। एक माह पहले वह छुट्टी पर गांव आया था। अपनी मां केलो देवी को चुनाव के लिए तैयार किया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, नितिन अपनी मां को चुनाव लड़ाने नहीं आया था, बल्कि पिता की हत्या का बदला लेने के लिए आया था। इसके लिए उसने अपने छोटे भाई कृष्णा कुमार व अनुज को तैयार किया।
... और पढ़ें
जांच करती पुलिस। जांच करती पुलिस।

रिश्ता कलंकित: बहन को घायल कर भाई ने किया दुष्कर्म, फिर गला दबा कर मार डाला

उत्तर प्रदेश में दुष्कर्म का ऐसा मामला सामने आया है कि भाई-बहन का रिश्ता कलंकित हो उठा है। कलयुगी भाई की इस हैवानियत से लोगों की रूह कांप उठी। मामला प्रदेश के आजमगढ़ जनपद का है। गंभीरपुर थाना क्षेत्र में मंगलवार को एक युवती को उसके भाई ने ही मारपीट कर घायल करने के बाद दुष्कर्म किया और फिर गला दबा कर हत्या कर दी। इसके बाद शव को बेड बाक्स में छुपा कर फरार हो गया।

घटना के समय घर में युवती की छोटी बहन मौजूद थी। भाई ने छोटी बहन को कोल्ड ड्रिंक लाने के लिए चट्टी पर भेज कर घटना को अंजाम दिया। शाम को परिजन घर पहुंचे तो घटना की जानकारी हुई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। पिता की तहरीर पर मृतका के भाई के खिलाफ केस दर्ज कर बुधवार की रात पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

गंभीरपुर थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली युवती मंगलवार को घर पर अपनी छोटी बहन के साथ थी। परिवार के अन्य लोग कहीं गए थे। दोपहर में भाई घर पहुंचा तो बहन को किसी से फोन पर बात करते देखा। उसने बहन से पूछा कि किससे बात कर रही हो तो बहन ने नहीं बताया। इस पर उसने बहन को डांट फटकार भी लगाई। इसके बाद उसने छोटी बहन को पैसा देकर कोल्ड ड्रिंक लाने के लिए चट्टी पर भेज दिया फिर बहन की पिटाई शुरू कर दी। 

मसाला पीसने वाले बट्टे से सिर पर किया प्रहार
... और पढ़ें

बलिया में लगातार तीसरे दिन मासूम बनी हैवानियत का शिकार, दो रुपये का लालच देकर हैवान ले गया था घर

बलिया जिले के रेवती थाना क्षेत्र के एक गांव में युवक पड़ोस के घर के बाहर खेल रही चार साल की बच्ची को दो रुपये देने का लालच देकर अपने घर में ले गया तथा उसके साथ कथित रूप से बलात्कार किया। पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

इसके पहले बीते 16 मार्च को इसी थाना क्षेत्र के एक गांव में 13 वर्षीय किशोर ने ढाई साल की मासूम से दुष्कर्म किया था, जिसे 18 मार्च को पुलिस ने गिरफ्तार कर बाल सुधार गृह में भेजा है। 18 मार्च को बांसडीहरोड थाना क्षेत्र के एक गांव में पांच साल के बालक के साथ 15 वर्षीय किशोर द्वारा अप्राकृतिक दुष्कर्म का मामला सामने आया। पुलिस ने बालक को मेडिकल कराने के लिए जिला अस्पताल भेजा है।

रेवती थाना प्रभारी यादवेंद्र पांडेय ने बताया कि थाना क्षेत्र के एक ग्राम में भीम साहनी(20) शुक्रवार को दिन में साढ़े दस बजे पड़ोस के घर के बाहर खेल रही चार साल की बच्ची को दो रुपये देने का लालच देकर अपने घर में ले गया। आरोप है कि वहां उसने बच्ची के साथ दुष्कर्म किया।
... और पढ़ें

यूपी: फांसी के फंदे से लटके मिले नेपाली प्रेमी युगल, कारपेट कंपनी में की आत्महत्या

उत्तर प्रदेश के भदोही जिले में एक नेपाली प्रेमी जोड़े की लाश पेड़ पर फांसी के फंदे से लटकती मिली है। इस घटना से इलाके में हड़कंप मच गया है। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों के शव पेड़ से उतारे और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए। पुलिस इस मामले में आगे की जांच और कार्रवाई में जुट गई है।

पुलिस के अनुसार, गोपीगंज थाना क्षेत्र के सोनखरी स्थित दीप कारपेट के कालीन कंपनी के अहाते में स्थित पेड़ पर नेपाली प्रेमी युगल फांसी के फंदे पर झूलते मिले। सोनखरी गांव में कालीन कारखाना स्थित है, जहां नॉटेड गलीचे का काम चलता है। इसमें बड़ी संख्या में नेपाल के लोग काम करते हैं।

नेपाल के बकैया मकवानपुर के रहने वाले मृतक विक्रम लामा(25) पुत्र पूर्ण बहादुर के भाई अविनाश ने बताया कि वह पांच भाई और तीन बहन हैं। सभी निजी कंपनी में काम करते हैं। पिछले दिनों विक्रम गांव गया था, वहां से गांव की ही विवाहित युवती उर्मिला घलान को साथ लेकर आया था। इस बारे में महिला के पति ईमान सिंह घालान को इसकी सूचना यहां पहुंचने के बाद दे दी थी। जब महिला का पति उसे यहां बुलाने आया तो दोनों को समझा-बुझाकर वापस भेज दिया था।
... और पढ़ें

यूपी: शादी के चार महीने बाद ही फंदे से लटकती मिली विवाहिता, दहेज हत्या का आरोप

पेड़ से लटका मिला प्रेमी युगल।
उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में रविवार की सुबह एक विवाहिता शव फांसी के फंदे से लटका हुआ मिला। मृतका के मायके वालों ने ससुरालियों पर दहेज के लिए हत्या का आरोप लगाया है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना रेवती थाना के सुरेमनपुर दीयरांचल के मानगढ़ गांव की है।

पुलिस के अनुसार, बिहार के छपरा सारण जिले के भगवान बाजार थाना क्षेत्र के अजायबगंज की रहने वाली प्रियंका(20) उर्फ तारा पुत्री लक्ष्मण चौधरी की शादी 29 नवंबर 2020 को मानगढ़ निवासी सूबेदार साहनी के पुत्र पप्पू चौधरी से हुई थी। आरोप है कि दहेज में एक लाख रुपया तय था।

प्रियंका के पिता आर्थिक तंगी के कारण तय दहेज की राशि नहीं दे पाए थे। मंडप में शादी के समय पप्पू चौधरी सीकरी के लिए अड़ गया था, हालांकि आसपास के लोगों ने समझा-बुझाकर शादी करा दी। प्रियंका अपने पति के साथ ससुराल आ गई। आरोप है कि दहेज में पलंग व एक और सोने के सीकरी के लिए प्रियंका को ससुराली प्रताड़ित करते थे।
... और पढ़ें

तस्वीरें: बिहार के तीन लोगों की धारदार हथियार से हत्या, मिर्जापुर में खून से लथपथ मिली लाशें

मिर्जापुर जिले में सड़क किनारे बिहार के तीन लोगों की लाश मिलने से इलाके में हड़कंप मच गया। तीनों की किसी धारदार हथियार से हत्या की गई, इसके बाद उनके शव मिर्जापुर-वाराणसी बॉर्डर पर स्थित चुनार थाना क्षेत्र के नंदूपुर गांव में सड़क किनारे फेंके गए थे। खून से लथपथ मिले शवों को देखकर सनसनी फैल गई थी। स्थानीय लोग तरह-तरह के कयास लगाने लगे। किसी ने घटना के बारे में पुलिस को सूचना दी।

पुलिस मौके पर पहुंच गई और शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मौके पर डॉग स्क्वॉयड की टीम भी पहुंची और जांच कर आगे की कार्रवाई में जुट गई है। वहीं पुलिस आसपास के लोगों से पूछताछ कर जानकारी जुटा रही है। देखें अगली स्लाइ्डस...।
... और पढ़ें

बाइक बोट घोटाला: बीएन तिवारी ने दो साल में खड़ी कर ली अरबों की संपत्ति, मास्टरमाइंड से पूछताछ में उगले कई राज

बहुचर्चित बाइक बोट घोटाले के मास्टरमाइंड बीएन तिवारी ने महज दो साल में अरबों रुपये की संपत्ति बना ली है। उसके पास लखनऊ के गोमती नगर समेत कई पॉश इलाकों में चार बड़े मकान हैं। वह एक न्यूज चैनल समेत और कई कंपनियां का मालिक भी है। 

इसका खुलासा उसने रिमांड के दौरान पूछताछ में ईओडब्ल्यू से किया है। पुलिस से पूछताछ में तिवारी ने बताया कि वह मार्स ग्रुप ऑफ कंपनीज का मालिक है और इसी कंपनी के अधीन संचालित न्यूज चैनल लाइव टूडे का भी संचालक है। 

इसके अलावा वह उसने बिजेंद्र सिंह हुड्डा की डीटीएच कंपनी इंडिपेंडेंट टीवी लि. (पूर्व की रिलायंस बिग टीवी) को भी सेवा देता था। उसने बताया कि बिजेंद्र हुड्डा ने ही उसकी मुलाकात संजय भाटी से कराई थी। इसके बाद वह भाटी के बाइक बोट पावर्ड बाई जीआईपीएल स्कीम से जुड़ गया। 

इसमें निवेशकों को एक वर्ष में दोगुनी रकम भुगतान करने का भरोसा दिया जाता था। वह स्कीम में हो रही कमाई को देखकर लालच में आ गया और वह भी कंपनी में हिस्सेदार बन गया। उसने बताया कि संजय भाटी निवेशकों से जीआईपीएल व आईटीवी आदि कंपनियों के खाते में पैसा जमा कराता था। 
... और पढ़ें

यूपी एटीएस की कार्रवाई: देश विरोधी गतिविधियों में संलिप्त दो बंग्लादेशी गिरफ्तार, कूटरचित दस्तावेज बरामद

उत्तर प्रदेश की एटीएस की टीम ने अवैध में रूप से देश में रहकर भारत विरोधी कार्यों लिप्त दो बंग्लादेशियों को गिरफ्तार किया है। दोनों पिता-पुत्र हैं। पुत्र का नाम तनवीर जबकि पिता उमर मुहम्मद उस्मानी है। दोनों को शुक्रवार को सहारनपुर के मंडी थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है। 

दोनों के पास के भारत का वोटर कार्ड, बंग्लादेशी नेशनल कार्ड, आधार कार्ड समेत अन्य कागजात भी बरामद हुए हैं। एटीएस की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक टीम को सूचना मिली थी कि एक बंग्लादेशी युवक अवैध रूप से भारत में रह रहा है और देश विरोधी गतिविधियों का संचालन कर रहा है। 

इस सूचना के आधार पर टीम ने छानबीन शुरू की तो पता चला कि तनवीर नाम का एक युवक अपने अन्य साथियों के साथ सहारनपुर में रहकर यह काम कर रहा है। एटीएस को पड़ताल में यह भी जानकारी मिली कि वह जल्द ही बांग्लादेश भागने के फिराक में हैं। 

उसके भागने की जानकारी मिलने पर एटीएस ने फौरी कार्रवाई करते हुए अपनी टीम को सहारनपुर भेजा था। वहां पहुंचकर टीम ने तनवीर और उसके पिता उमर मुहम्मद उस्मान को गिरफ्तार कर लिया। 
... और पढ़ें

भाजपा कार्यकर्ता की हत्या: बीजेपी नेताओं के कार्यक्रम में बढ़चढ़ कर लेता था हिस्सा, परिजनों ने लगाए ये आरोप

वाराणसी के सारनाथ थाना क्षेत्र के पुराना पुल चौकी से लगभग 500 मीटर दूर पुलकोहना में कमीशन लेकर बैंक से लोन पास कराने का काम करने वाले भाजपा कार्यकर्ता धनंजय राय(35) की गला रेतकर हत्या कर दी। मंगलवार की सुबह यह सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई, और शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

इसके बाद धनंजय के परिजन भड़क गए। सभी ने पुराना पुल चौकी के समीप वाराणसी-गाजीपुर मार्ग पर जाम लगा दिया। उनका कहना था कि लेनदेन के विवाद में धनंजय के दोस्तों ने ही उसकी हत्या की है। तकरीबन पांच घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद शाम चार बजे पुलिस ने ठोस कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम खत्म कराया। परिजनों ने जिन पर हत्या की आशंका जताई है उनमें से दो लोगों को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। देखें अगली स्लाइड्स...।
... और पढ़ें

वाराणसी: दुष्कर्म सहित अन्य आरोपों में दो भाइयों पर मुकदमा, फेसबुक पर हुई दोस्ती 

आजमगढ़ जिले की एक छात्रा ने वाराणसी के लालपुर पांडेयपुर थाने में एक युवक पर दुष्कर्म और उसके भाई पर धमकाने के आरोप में मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस प्रकरण की जांच कर रही है। आजमगढ़ के मेहनाजपुर क्षेत्र की एलएलबी की छात्रा पांडेयपुर क्षेत्र में रहती है।

छात्रा के अनुसार कुछ साल पहले फेसबुक के जरिये गोरखपुर के गोला थाने के वारानगर निवासी अनिल मौर्य से उसकी दोस्ती हुई। अनिल ने उसे नेटवर्किंग कंपनी में काम दिलाया। फिर अधिक रुपये दिलाने का लालच देकर उससे निकटता बढ़ाई। इसके बाद शादी का झांसा देकर बीती जनवरी में पांडेयपुर में दुष्कर्म किया और वीडियो भी बना लिया। शादी की बात करने पर वह इंकार करता रहा।

साथ ही वीडियो वायरल करने की धमकी देकर दुष्कर्म भी करता रहा। छात्रा जब अनिल का पता लगाते हुए उसके गांव गई तो उसे जानकारी हुई कि वह पहले से ही शादीशुदा है। अनिल के गांव में उसके भाई अनूप ने दुर्व्यवहार करते हुए उसे जानमाल की धमकी दी।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन