विज्ञापन
विज्ञापन
गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें
Myjyotish

गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Digital Edition

अलीगढ़ः सर सैयद गोल्ड कप अंडर-19 चैलेंजर्स ट्रॉफी 25 से

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के सौ साल पूरा होने पर सर सैयद गोल्ड कप अंडर-19 चैलेंजर्स ट्रॉफी का आयोजन 25 अक्तूबर से हो रहा है। चैलेंजर्स ट्रॉफी में दिल्ली, मेरठ, मुरादाबाद, लखनऊ, अलीगढ़ की टीम हिस्सा लेगी।
शुक्रवार को मैरिस रोड स्थित एसोसिएशन के कार्यालय पर अध्यक्ष विवेक बंसल व सचिव अब्दुल वहाब ने पत्रकारों को बताया कि महुआ खेड़ा स्थित अलीगढ़ स्पोर्ट्स एसोसिएशन के मैदान पर मैच खेले जाएंगे। मैच 45-45 ओवर का होगा। उन्होंने कहा कि हर टीम तीन-तीन लीग मैच खेलेगी। टॉप दो टीमों के बीच एक अक्तूबर को फाइनल खेला जाएगा। एसोसिएशन के सलाहकार व पूर्व रणजी खिलाड़ी फसाहत अली ने बताया कि इस टूर्नामेंट के ब्रांड एंबेसडर सुनील चतुर्वेदी होंगे, जो रणजी खिलाड़ी रहे हैं और बीसीसीआई मैच रेफरी हैं।
टूर्नामेंट सचिव अर्जुन सिंह फकीरा ने बताया कि विजेता टीम को 51 हजार व उप विजेता टीम को 31 हजार रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा। मैन ऑफ द टूर्नामेंट का पुरस्कार 51 सौ रुपये होगा। टूर्नामेंट के संयोजक हेमंत शर्मा, टूर्नामेंट सचिव मसूद अमीनी होंगे। पत्रकार वार्ता में सर्वेश कुमार, अमित कुमार मौजूद रहे।
... और पढ़ें

अलीगढ़ः 20 महीने में 22 लाख पशुओं का कटान हुआ

कोरोना संक्रमण के सबसे खतरनाक दौर में भी जिले की मीट एक्सपोर्ट यूनिटों में कामधंधा बेहतर रहा। पहली जनवरी 2020 से 31 अगस्त 2021 के बीच में इन मीट फैक्ट्रियों में लगभग 22 लाख पशुओं का कटान हुआ है। जिसमें छोटे बड़े सभी तरह के पशु शामिल थे। ये सिर्फ आठ मीट फैक्ट्रियों का लेखाजोखा है। एक बंद है। मैलरोज बाईपास निवासी पं. केशव देव शर्मा की ओर से आरटीआई के तहत मांगी गई जानकारी पर पशुपालन विभाग ने यह जानकारी सार्वजनिक की है।
उन्होंने जानकारी मांगी थी कि शहर की मीट फैक्ट्रियों में एक जनवरी 2020 से 31 अगस्त 2021 तक कितने पशुओं का कटान हुआ है। पशु कहां-कहां से खरीदे गए थे। इस पर मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी ने जानकारी दी है। जिसके अनुसार जिले में नौ मीट फैक्ट्रियां पंजीकृत हैं, इसमें आठ संचालित हैं। एक बीते दो साल से बंद है।
आठ संचालित मीट फैक्ट्रियों में 20 महीने में 20.80 लाख बड़े पशुओं का कटान हुआ है। इसमें भैंस व भैंसे शामिल हैं। वहीं, 1.55 लाख छोटे पशुओं का कटान हुआ है, जिसमें भेड़-बकरी शामिल हैं। विभाग ने पशुओं की खरीद बिक्री के संबंध में कोई जानकारी नहीं दी है। इसके चलते आटीआई कार्यकर्ता अब इसके खिलाफ जन सूचना आयोग में अपील करने की तैयारी में हैं ।
... और पढ़ें

अलीगढ़ः चित्रकारी के माध्यम से दिया स्वच्छता का संदेश

अमर उजाला व उत्तर प्रदेश खादी ग्रामोद्योग बोर्ड की संयुक्त तत्वावधान में ‘शहर स्वच्छ, हम स्वस्थ’ विषय पर मेगा चित्रकला प्रतियोगिता में पहले स्थान पर उपासना शर्मा चिरंजीलाल बालिका इंटर कॉलेज, दूसरे स्थान पर कुमकुम शर्मा राजकीय गर्ल्स इंटर कॉलेज व तीसरे स्थान पर नीशू गौतम अग्रसेन इंटर कॉलेज हरदुआगंज रहीं, जिन्हें पुरस्कृत किया गया। शेष प्रतिभागियों को प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। गांधी जयंती पर कई विद्यालयों में चित्रकला प्रतियोगिता हुई थी।
शुक्रवार को अग्रसेन इंटर कॉलेज के सभागार में विद्यार्थियों के चित्रों की प्रदर्शनी लगाई गई थी। निर्णायकों ने प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान के चित्रों का चयन किया। निर्णायकों में विजडम पब्लिक स्कूल की शिक्षिका पूनम सिंह, संध्या चौधरी, दिव्या बंसल रहीं। शिक्षिका पूनम सिंह ने कैनवस पर गणेश जी की आकृति बना दी, जिसमें संपूर्ण ब्रह्मांड रेखान्कित था। कॉलेज के प्राचार्य डॉ. शंभूदयाल रावत ने अमर उजाला की इस पहल की सराहना की। उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजन से विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन बढ़ता है। संचालन शिक्षक अनिल कुमार अग्रवाल ने किया। इस अवसर पर शिक्षक सुधीर कुमार गौतम, वीरेश कुमार, छात्र-छात्राएं, अभिभावक मौजूद रहे।
ये रहे कॉलेज में टॉप-थ्री
एसएमबी इंटर कॉलेज- सूजल वर्मा, अमन खान, कपिल शर्मा, डीएवी इंटर कॉलेज - अक्षय शर्मा, सोनू कुमार, नवीन शर्मा, धर्मसमाज इंटर कॉलेज -अभय सागर, शरद सिंह, पुष्पेंद्र वर्मा, गोपीराम पालीवाल इंटर कॉलेज - अमन कुमार प्रजापति, आकाश कुमार, दिनेश वर्मा, बाबूलाल जैन इंटर कॉलेज - धीरज कुमार, विजय अभिजीत, श्री टीकाराम कन्या इंटर कॉलेज -माधुरी, काजल, मधु गुप्ता, महेश्वर गर्ल्स इंटर कॉलेज - हिना, नंदिनी गुप्ता, अपूर्वा वार्ष्णेय, उदय सिंह जैन गर्ल्स इंटर कॉलेज -किरन, संध्या, सोनम कुमारी, चिरंजीलाल बालिका इंटर कॉलेज - उपासना शर्मा, संजना वर्मा, दृष्टि, राजकीय इंटर कॉलेज - कुमकुम शर्मा, अंशिका, गुनगुन, रतनप्रेम डीएवी इंटर कॉलेज - आशिका गुप्ता, हेमा, प्रिया, महर्षि गौतम इंटर कॉलेज - अर्चना, संध्या सिंह, करन कुमार, अग्रसेन इंटर कॉलेज - नीशू गौतम, शीतल रावल, मुस्कान, एसके इंटर कॉलेज जलाली - राखी, राजू कुमारी, मंदीप कुमार, मॉडर्न कान्वेंट कॉलेज - यश बघेल, वंशिका राघव, वर्षा, राजकीय कन्या इंटर कॉलेज - आरती, लवली, निधि भारद्वाज, राजकीय इंटर कॉलेज - मेघा शर्मा, मोहित कुमार, अमन कुमार, एसएसआरडी इंटर नेशनल स्कूल - नेहा, दीपक कुमार, लवकुश कुमार, श्री महर्षि गौतम इंटर कॉलेज - पंकज कुमार, निशांत चौधरी, धर्मेंद्र कुमार, ज्ञान कुंज इंटर कॉलेज - नम्रता सिंह, प्रतीक्षा सिंह, अभिषेक कुमार दीक्षित।
... और पढ़ें

अकराबाद कांडः सवालों में उलझा परिवार, नारको टेस्ट को नहीं तैयार

अभिषेक शर्मा
अकराबाद क्षेत्र में अनुसूचित जाति की युवती की हत्या के खुलासे में लगातार पेच फंस रहा है। अब न्यायालय ने पुलिस द्वारा चिह्नित पांच गवाहों के नारको टेस्ट की अनुमति दे दी है। ये चिह्नित संदिग्ध गवाह कोई और नहीं, बल्कि परिवार के ही सदस्य हैं। मगर, परिवार नारको परीक्षण के लिए तैयार नहीं हो रहा है। हालांकि, पुलिस द्वारा न्यायालय से अनुमति मिलने के बाद सीबीआई मुख्यालय से तारीख लेने से पहले उन सवालों की फेहरिस्त तैयार कर रही है, जिनके जवाबों पर पहले दिन से परिवार पुलिस को भटका रहा है ताकि घटना के सही खुलासे में आसानी हो सके। इधर, परिवार इस अनुमति के खिलाफ अपील करेगा।
वाकया 9 सितंबर का है, जब दोपहर में युवती शौच के लिए गई और गायब हो गई। इसके अगले दिन उसकी लाश घर से करीब 500 मीटर दूरी पर बाजरे के खेत में मिली थी। पहले ही दिन से परिवार हत्या कर शव फेंके जाने का आरोप लगा रहा है। इस मामले में आंबेडकर पार्क पर धरना दिया गया और चंद्रशेखर आजाद ने भी पहुंचकर परिवार का समर्थन किया। मगर, पुलिस की अब तक की जांच में शक की सुई परिवार के इर्द-गिर्द ही घूमती नजर आई। इसी क्रम में इंस्पेक्टर की समीक्षात्मक रिपोर्ट और विवेचक सीओ बरला की जांच के निर्णय के आधार पर परिवार के पांच उन संदिग्ध गवाहों का नारको परीक्षण कराना तय किया गया, जिनके बयानों में विरोधाभास है। इसके लिए एडीजे विशेष न्यायालय एससीएसटी की अदालत में विवेचक ने अनुमति आवेदन किया। विशेष लोक अभियोजन चमन प्रकाश शर्मा के अनुसार इस अनुमति पर बहस के दौरान इन गवाहों के अधिवक्ता ने इसे मानवाधिकारों का हनन बताकर आपत्ति दर्ज कराई। मगर, न्यायालय ने उनकी इस आपत्ति को खारिज करते हुए विवेचक को नियमानुसार किसी निष्पक्ष एजेंसी से नारको परीक्षण (पॉलीग्राफी जांच) कराने के आदेश दिए हैं। आदेश में यह भी कहा है कि यह एमआरआई या सिटी स्कैन जांच की तरह है, इससे किसी तरह का स्वास्थ्य पर प्रभाव नहीं पड़ता।
इधर, इस आदेश के मिलने के बाद पुलिस स्तर से सवालों की फेहरिस्त तैयार की जा रही है। इन सवालों की सूची सीबीआई मुख्यालय को भेजी जाएगी। साथ में न्यायालय का आदेश भी भेजा जाएगा। वहां से समय मिलने के बाद सभी को नियत समय पर जांच के लिए ले जाया जाएगा। हालांकि, इससे पहले नियमानुसार नारको परीक्षण के लिए परिवार की सहमति मिलना भी जरूरी है। इसके लिए पुलिस स्तर से प्रयास किए जा रहे हैं। अगर सहमति नहीं मिलती है तो विधिक राय लेकर आगे कोई निर्णय लिया जाएगा।
- इस मामले में न्यायालय से अनुमति तो मिल गई है। अभी परिवार नारको परीक्षण कराने के लिए तैयार नहीं है। अगर परिवार की सहमति नहीं मिलती है तो विधिक राय लेकर आगे कोई कदम उठाया जाएगा। अभी सवालों की फेहरिस्त भी तैयार की जा रही है।-सुमन कनौजिया, विवेचक/सीओ बरला
ये हैं प्रारंभिक सवाल, जिनके नहीं मिले सही जवाब--
- दोपहर तीन बजे घर से निकली युवती को गांव के किसी व्यक्ति ने घर से खेत पर जाते समय तक क्यों नहीं देखा? घटना के समय या उससे पहले तक युवती की मोबाइल पर बातचीत जारी, मगर लोकेशन घर में ही क्यों? परिवार का एक सदस्य क्यों कहता है कि वह डेढ़ बजे के बाद घर पर नहीं था, जबकि लोकेशन घर पर थी? परिवार की दूसरी महिला सदस्य क्यों कहती है कि वह भी घर में नहीं थी, जबकि दूसरा सदस्य उसे घर पर ही बताता है? अगले दिन तक पुलिस को सूचना क्यों नहीं दी गई? पुलिस को सूचना देने से पहले परिवार को ही युवती का शव उस स्थान पर कैसे मिल गया? परिवार के सभी सदस्यों के बयानों में एक दूसरे के बयानों को लेकर विरोधाभास? सहित एक दर्जन से अधिक सवाल हैं, जिनके सटीक जवाब पुलिस को नहीं मिल पा रहे हैं।
... और पढ़ें

जहरीली शराब कांड के दो और मुकदमों में माफिया पर आरोप तय

जहरीली शराब कांड के मुकदमों में ट्रायल की गति लगातार तेजी पकड़ रही है। इसी क्रम में गभाना व खैर से जुड़े दो मुकदमों में एडीजे-9 सुनील सिंह की अदालत में घोषित शराब माफिया पर आरोप तय किए गए हैं। इनमें न्यायालय ने अब ट्रायल की तारीखें नियत करते हुए पहले गवाह के रूप में वादी तलब किए हैं। बता दें कि इन दोनों मामलों में माफिया पक्ष के अधिवक्ता आरोप तय करने की प्रक्रिया पर लगातार विरोध कर रहे थे।
अभियोजन पक्ष के अधिवक्ता एडीजीसी जेपी राजपूत के अनुसार, गभाना में शराब से मौत से जुड़े मुकदमे में आरोपी अनिल चौधरी, ऋषि शर्मा, मुनीष शर्मा, विपिन यादव, गंगाराम प्रधान, दिगपाल, नरेंद्र, शिवकुमार आरोपी हैं। इसी तरह खैर के मुकदमे में अनिल चौधरी, सुधीर चौधरी, विपिन यादव, राजकुमार, कपिल देव आरोपी हैं। इनमें आरोप तय होने की प्रक्रिया पर अनिल चौधरी के अधिवक्ता की ओर से लगातार विरोध किया जा रहा था। जिसके कारण प्रक्रिया टल रही थी। शुक्रवार को अभियोजन पक्ष की पैरवी के दम पर न्यायालय ने आरोप तय कर दिए। इनमें से खैर के मुकदमे में 3 नवंबर व गभाना के मुकदमे में 9 नवंबर तारीख तय करते हुए पहले पहले गवाह के रूप में वादी तलब किए हैं।
... और पढ़ें

अलीगढ़ः सेंटर प्वाइंट पर व्यापारी नेता से मारपीट, हंगामा

महानगर के व्यापारी व भाजपा नेता भरत अग्रवाल संग शुक्रवार देर रात सेंटर प्वाइंट पर बाइक सवार तीन युवकों ने मारपीट कर दी। घटना उस समय हुई, जब वह कार में मैरिस रोड से अपने घर लौट रहे थे। तभी चौराहे पर सामने से बाइक निकालने के विवाद में बाइक सवारों ने उन्हें पीट दिया। इस खबर पर तमाम भाजपाई पहुंच गए और हंगामा हुआ। बाद में पुलिस ने तहरीर लेकर कार्रवाई का आश्वासन दिया। तब विवाद शांत हुआ।
बताया गया कि बारहद्वारी निवासी व्यापारी नेता भाजपा में सक्रिय भरत अग्रवाल देर रात अपनी कार से किसी काम से मैरिस रोड गए थे। देर रात वहां से जब वे लौट रहे थे, तभी सेंटर प्वाइंट चौराहे पर सामने से एक बाइक पर तीन युवक आए और चौराहे पर बाइक निकालने को लेकर उनका भरत से विवाद हो गया। उन्होंने बाइक से उतरते ही भरत को कार से खींचकर पीटना शुरू कर दिया। इसे लेकर वहां अफरा-तफरी का माहौल बन गया। बाद में चौराहे पर मौजूद पुलिसकर्मियों को आता देख हमलावर भाग गए। इस सूचना पर व्यापारी नेता सौरभ अग्रवाल सिक्ससंस, भाजपा नेता संजय गोयल आदि तमाम लोग वहां पहुंच गए। इंस्पेक्टर सिविल लाइंस भी आ गए। भरत ने आरोप लगाया कि जब वे पिट रहे थे तो चौराहे पर मौजूद पुलिसकर्मी देख रहे थे। इस पर वहां हंगामा भी हुआ। बाद में इंस्पेक्टर के कार्रवाई के आश्वासन पर विवाद शांत हुआ। भरत ने मामले में बाइक सवार तीन युवकों के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस सीसीटीवी के आधार पर आरोपियों की पहचान में जुटी है।
... और पढ़ें

अलीगढ़ः त्योहार पर हर छोटे विवाद को गंभीरता से लेना जरूरी

डीआईजी रेंज दीपक कुमार ने दीपावली को लेकर रेंज के चारों जिलों के पुलिस कप्तानों के साथ बैठक कर हर छोटी-छोटी घटना को गंभीरता से लेने के लिए कहा है। साथ ही पुलिस के मौके पर पहुंचकर त्वरित निस्तारण के निर्देश दिए ताकि कोई भी छोटी घटना त्योहार का माहौल बिगाड़ने का कारण न बन सके। इसके लिए उन्होंने अलीगढ़ के पुराने घटनाक्रमों के कारण और सांप्रदायिक दृष्टि से बेहद सतर्कता के निर्देश दिए। इसी तरह हाथरस व कासगंज में भी फोकस रखने के लिए कहा है।
डीआईजी दीपक कुमार ने अपने कार्यालय में बैठक की, जिसमें अलीगढ़ एसएसपी कलानिधि नैथानी, एसएसपी एटा उदयशंकर सिंह, एसपी हाथरस विनीत जायसवाल, एसपी कासगंज रोहन पी बोत्रे मौजूद रहे। उन्होंने कहा कि त्योहार को लेकर बाजारों व अन्य जरूरी स्थानों पर पुलिस प्रबंधन किया जाए। अवैध शराब सहित अन्य अवैध कारोबारों पर अंकुश लगाया जाए। इसके अलावा विवेचनाओं, पुलिस फाइलों आदि की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने आगरा की घटना को लेकर पुलिस अभिरक्षा में किसी को भी रखने पर नियमों के पालन की हिदायत दी।
अलीगढ़ में पिछले कुछ सालों में दीपावली के बाद गोवर्धन पूजा की शाम तुर्कमान गेट, इसी तरह भैया दूज की शाम बाबरी मंडी आदि इलाकों में हुए घटनाक्रमों का जिक्र किया। साथ ही पुराने शहर में त्योहार पर विशेष चौकसी के निर्देश दिए। हाथरस में पुरदिलनगर, सिकंदरराऊ व हाथरस शहर और कासगंज में विशेष चौकसी को लेकर कहा।
... और पढ़ें

अलीगढ़ः बुखार से डिबाई की महिला की मौत, 49 लोग डेंगू की चपेट में

पुलिस अधिकारियों के साथ मीटिंग करते डीआईजी दीपक कुमार।
जनपद में डेंगू एवं बुखार का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। दीनदयाल उपाध्याय संयुक्त चिकित्सालय के आईसीयू में भर्ती डिबाई की महिला की मौत हो गई। जबकि जनपद में डेंगू के 49 नए मरीज सामने आए हैं। अब तक डेंगू की चपेट में आए मरीजों की संख्या बढ़कर 650 से अधिक हो गई है।
बुलंदशहर जनपद की रामनगर निवासी 45 वर्षीय पवनेश पत्नी अजब सिंह 21 अक्टूबर को पं. दीनदयाल उपाध्याय संयुक्त चिकित्सालय में भर्ती हुई थी। वह बुखार एवं पीलिया से पीड़ित थी। उसे अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कर उपचार दिया जा रहा था। शुक्रवार दोपहर में उसकी मृत्यु हो गई। परिवार की महिलाओं का रो-रो कर बुरा हाल था। मलखान सिंह जिला अस्पताल के लैब में 276 लोगों की जांच में 49 डेंगू से पीड़ित पाए गए हैं, जिसमें 25 मरीज दीनदयाल अस्पताल में उपचार कराने आए थे। जबकि मलखान सिंह जिला अस्पताल में उपचार कराने पहुंचे 21 लोग डेंगू से पीड़ित पाए गए हैं।
... और पढ़ें

एएमयू: बीटेक प्रवेश परीक्षा का परिणाम जारी, श्रेष्ठ वत्सल शर्मा ने प्राप्त की पहली रैंक

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने शुक्रवार को बीटेक प्रवेश परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है। 

परिणाम एएमयू की वेबसाइट पर देखा जा सकता है। बीटेक की प्रवेश परीक्षा के लिए देश भर में  केंद्र बनाए गए थे। इसमें अलीगढ़, लखनऊ, कोलकाता, भोपाल, कोझीकोड, श्रीनगर में बनाए गए थे। शुक्रवार शाम परीक्षा नियंत्रक मुजीबुल्लाह जुबैरी की ओर से प्रवेश परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया गया। 

परीक्षा परिणाम जारी होते ही किसी के चेहरे पर मुस्कान तो किसी को निराशा हाथ लगी। छात्र श्रेष्ठ वत्सल शर्मा ने पहली रैंक प्राप्त की है। प्रियांजलि की 22वीं रैंक आई है। एएमयू एलुमनाई श्रेणी में चौथी रैंक प्राप्त की है। एएमयू के प्रवक्ता प्रोफेसर शाफे किदवई ने बताया कि बीटेक प्रवेश परीक्षा का परिणाम जारी हो चुका है। जल्द ही दाखिले किये जाएंगे। 
... और पढ़ें

अलीगढ़ः दादों में बनी सड़क की गुणवत्ता पर उठीं अंगुलियां

परफॉरमेंस ग्रांट से ग्राम पंचायत सांकरा में हुए सभी सात कार्यों को जिला पंचायतराज विभाग ने हरी झंडी दिखा दी है। लेकिन यहां ग्राम निधि से बन रही सीसी रोड व नाली निर्माण पर अभी भी अंगुलियां उठ रही हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि सड़क किनारे 50 मीटर हिस्से में गिट्टियां तक नहीं डाली गई हैं। नाली निर्माण में घटिया क्वालिटी की ईंटों का इस्तेमाल किया गया है। जिला पंचायत राज अधिकारी ने सड़क को पीडब्ल्यूडी की बताकर मामले से पल्ला झाड़ लिया है।
ग्राम पंचायत दादों में नाला पुलिया से कलियान सिंह के घर तक की गली में साढ़े सात लाख की लागत से सीसी रोड व नाली निर्माण कार्य तीन अक्तूबर से आरंभ हुआ है। इसमें नालियों का कुछ निर्माण तो हो चुका है। तीन दिन पहले हुई बारिश के चलते निर्माण बंद हो गया। सीसी रोड भी बन रही है। ग्रामीण सुगढ़ पाल सिंह व मानपाल ने बताया कि गली में हुई सीसी व नाली निर्माण कार्य में ठेकेदार द्वारा घटिया गुणवत्ता की सामग्री का प्रयोग किया जा रहा है। सीसी रोड निर्माण की शुरुआत के 50 मीटर के हिस्से में गिट्टियां तक नहीं डाली गई हैं। नाली निर्माण में भी घटिया क्वालिटी की पीला ईंटों का प्रयोग हो रहा है। इसकी शिकायत प्रधान व एसडीएम से की गई थी। ग्राम प्रधान रामेश्वर सिंह यादव ने बताया कि यह निर्माण कार्य करीब साढ़े सात लाख रुपये की लागत से ग्राम पंचायत की ग्रांट निधि से कराया जा रहा है। ग्रामीणों की शिकायत पर नाले से कलियान सिंह के घर तक सीसी व नाली निर्माण कार्य की जांच हो चुकी है। जांच में कोई कमी नहीं मिली। बारिश के कारण अभी काम बंद पड़ा है। जल्द ही निर्माण कार्य शुरू हो जायेगा। डीपीआरओ धनंजय जायसवाल ने बताया कि यह सड़क पीडब्लूडी बनवा रही है। इसका उनके विभाग से कोई लेना देना नहीं है।
... और पढ़ें

अलीगढ़ः निर्माण कार्य अधूरे छोड़ने पर जिलापंचायत ने 16 फर्मों को दिए नोटिस

जिला पंचायत ने निर्माण कार्य अधूरे छोड़ने पर 16 फर्मों को नोटिस जारी किए हैं, जिसमें कहा गया है कि अगर उन्होंने जल्द ही संबंधित निर्माण कार्य पूरे नहीं किए तो जमानत राशि जब्त कर दूसरी संस्था से कार्य पूरे कराए जाएंगे।
जिला पंचायत के अवर अभियंताओं ने लगभग दो दर्जन कार्यों के अपूर्ण होने की रिपोर्ट दी है, जिस पर जिला पंचायत ने सख्त रुख अपनाया है। जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी ने इस संबंध में फर्मों को नोटिस दिए हैं। इन फर्मों को ब्लैक लिस्ट करने और दूसरे विभागों से भी भविष्य में काम नहीं देने के लिए पत्र लिखा जाएगा। इन फर्मों में मैसर्स फारूख खां, आदया इंफोटेक, बालाजी इंटरप्राइजेज, तेवतिया बिल्डर्स, जितेंद्र पाल सिंह चौहान, उमाशंकर शर्मा, मुस्कान बिल्डर्स, भोले बाबा कंपनी, आरपी सिंह, आमिर एंड ब्रदर्स, दयाशंकर कांट्रेक्टर, दीप कंपनी, शिवानी बिल्डर्स, एसए कंस्ट्रक्शन, यादव कंपनी, पीहू इन्फोटेक शामिल हैं।
गौर हो कि राजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय के शिलान्यास के मौके पर जब लोधा के कार्यक्रम स्थल पर सड़क टूटी मिली तो पता चला कि वो जिला पंचायत से बनवाई जा चुकी है और पैसा भी खर्च हुआ है। इस पर जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे के निर्देश पर सड़क की जांच हुई तो पता चला कि सड़क बनी ही नहीं थी। इस पर अन्य कुछ कार्यों की जांच में पता चला कि वो भी आधे अधूरे छोड़ दिए गए हैं। अब इन सभी को नोटिस दिए जा रहे हैं। जिला पंचायत अध्यक्ष विजय सिंह ने बताया कि जिन फर्मों ने अपने कार्य अधूरे छोड़े हैं, उनको या तो कार्य पूरा करना होगा, अन्यथा नियमानुसार कार्रवाई होगी। बीती 15 सितंबर को इस संबंध में शासन स्तर से दिशा-निर्देश आ चुके हैं।
... और पढ़ें

आगरा कांड : अलीगढ़ रेंज में होगी जांच, आदेश का इंतजार

आगरा में पुलिस अभिरक्षा में अरुण वाल्मीकि की मौत के मुकदमे की विवेचना अलीगढ़ रेंज में होगी। यह विवेचना रेंज के किसी थाने से या रेंज मुख्यालय पर ही किसी विवेचक से कराई जा सकती है। देर रात यह आदेश डीआईजी रेंज दीपक कुमार को प्राप्त हो गए हैं। अब शनिवार को विवेचना आवंटन की प्रक्रिया पर निर्णय लिया जाएगा।
मानवाधिकार आयोग की गाइडलाइन के अनुसार किसी थाने या जिले की पुलिस पर अभिरक्षा में मौत के आरोप के मामले के मुकदमे की विवेचना उस थाने या जिले से बाहर कराई जानी चाहिए। इसी गाइडलाइन के अनुसार एडीजी जोन राजीव कृष्ण के स्तर से आगरा के इस प्रकरण के मुकदमे की विवेचना आगरा के बजाय अलीगढ़ रेंज से कराए जाने का निर्णय लिया गया है। बृहस्पतिवार को उन्होंने इस संबंध में मीडिया को जानकारी दी है।
इस विषय में यहां अलीगढ़ रेंज मुख्यालय और खुद डीआईजी दीपक कुमार को एडीजी के इस निर्णय व निर्देश की सूचना प्राप्त हो गई है। इधर, शुक्रवार देर शाम आदेश भी प्राप्त हो गए थे। चूंकि विवेचना बदले जाने संबंधी आदेश देर से प्राप्त हुए। इसलिए विवेचना आवंटन पर निर्णय नहीं हो पाया था। हालांकि चर्चा है कि यह विवचेना रेंज के अलीगढ़, हाथरस, कासगंज या एटा में से किसी भी जनपद को या फिर रेंज मुख्यालय पर भी तैनात किसी इंस्पेक्टर स्तर के किसी विवेचक को आवंटित की जा सकती है।
-एडीजी स्तर से आगरा प्रकरण की विवेचना हमारे रेंज को आवंटित करने का निर्णय लिया गया है। यह आदेश मिल गया है। यह विवेचना रेंज में किसी भी विवेचक या किसी भी जिले को आवंटित करने पर निर्णय लिया जाएगा।-दीपक कुमार डीआईजी रेंज
... और पढ़ें

अलीगढ़ः रिक्शा चालक की हत्या कर शव ट्रैक पर फेंका

क्वार्सी क्षेत्र के मौलाना आजाद नगर के रिक्शा चालक की चाकू के प्रहार से हत्या कर शव बरेली लाइन पर ट्रैक पर फेंक दिया गया। शुक्रवार तड़के शव मिलने पर अफरा-तफरी मच गई। देर शाम तक पुलिस को तहरीर नहीं मिली थी।
नगला पटवारी के शहंशाबाद निवासी 35 वर्षीय अशफाक पुत्र तुल्लन खान रिक्शा चलाता था। शुक्रवार तड़के पुलिस को मौलाना आजाद नगर के पास रेलवे ट्रैक पर शव पड़ा होने की सूचना मिली। मौके पर पहुंची पुलिस ने सुबह होने पर उसकी पहचान कराई। पुलिस जांच में पता चला कि छह दिन पहले किसी बात पर विवाद होने पर उसकी पत्नी नाराज होकर मायके मौलाना आजाद नगर आ गई थी। उसके बाद से वह अपनी पत्नी को मनाने का प्रयास कर रहा था। मगर सफल नहीं हुआ। बृहस्पतिवार रात भी वह उसे मनाने आया था। इस दौरान अपने बेटे को भी पत्नी के पास छोड़कर चला गया था। इधर, सुबह उसका शव मिला। उसके कलाई, गर्दन आदि पर चाकुओं व सिर में चोट के निशान हैं। सुबह फोरेंसिक टीम ने भी जांच की है। इंस्पेक्टर क्वार्सी विजय कुमार के अनुसार अभी जांच की जा रही है। युवक नशे का आदि भी बताया गया है। कई पहलुओं पर जांच जारी है। किसी ओर से तहरीर भी नहीं मिली है।
भुजपुरा में दर्जी ने फांसी लगाकर दी जान
महानगर के कोतवाली क्षेत्र के भुजपुरा टावर वाली गली में बृहस्पतिवार को दर्जी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बताया गया है कि 43 वर्षीय शाहबुद्दीन का किसी बात पर पत्नी से विवाद हुआ। इसके बाद पत्नी दवा लेने चली गई। पीछे से शाहबुद्दीन ने घर में फांसी लगा ली। देर शाम पत्नी के लौटने पर घर अंदर से बंद पाया गया। बाद में पुलिस बुलाकर दरवाजा तोड़कर अंदर प्रवेश किया तो उसका शव लटका पाया गया। शाहबुद्दीन तीन बच्चों का पिता था। पुलिस के अनुसार मामले में पोस्टमार्टम के बाद शव परिवार को सौंपा गया है।
-
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00