विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को
Astrology Services

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

यहां देखें, योगी के 56 सदस्यीय मंत्रिमंडल का जातीय गणित, किस जाति को कितना प्रतिनिधित्व

लगभग 28 महीने बाद योगी सरकार के पहले मंत्रिमंडल विस्तार के जरिये कहीं न कहीं जातीय समीकरणों को दुरुस्त करने के साथ उन्हें संदेश देकर साधे रखने की भी कोशिश की गई है।

22 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

अलीगढ़

गुरूवार, 22 अगस्त 2019

स्वीमिंग पूल में गिरकर एएमयू छात्र घायल, हालत गंभीर

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के स्वीमिंग पूल में स्वीमिंग करने गया बीएससी का छात्र पूल में गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गया है। उपचार के लिए उसे जेएन मेडिकल कॉलेज के आईसीयू में भर्ती कराया गया है।
पश्चिम बंगाल निवासी बीएससी प्रथम वर्ष का छात्र मो. सुहैल अख्तर दोदपुर में रहता है। उसने हॉस्टल के लिए आवेदन किया है। सुहैल सोमवार को विश्वविद्यालय के स्वीमिंग पूल में स्वीमिंग करने गया था। करीब तीन साल पहले पांच करोड़ की लागत से स्वीमिंग पुल का निर्माण हुआ था। स्वीमिंग पूल के कर्मचारियों का कहना है कि छात्र अचानक तीन फीट वाले पूल में गिर गया। कैसे गिरा, यह पूरी तरह स्पष्ट नहीं है। वहां मौजूद छात्रों ने सुहैल को पूल से बाहर निकाला। प्रॉक्टर ऑफिस की एंबुलेंस से सुहैल को आनन-फानन में जेएन मेडिकल कॉलेज पहुंचाया गया। चिकित्सकों ने उसकी गंभीर हालत को देखते हुए आईसीयू में वेंटिलेटर पर रखा है।
चिकित्सक कार्डियक अरेस्ट की वजह से पूल में गिरने की भी आशंका जता रहे हैं। जेएन मेडिकल कॉलेज इमरजेंसी एवं ट्रॉमा सेंटर के सीएमओ इंचार्ज डॉ. नरेश ने बताया कि छात्र की हालत चिंताजनक है। उसे आईसीयू में वेंटिलेटर पर रखकर उपचार चल रहा है। बेहतर उपचार के लिए छात्र को दिल्ली भी रेफर किया जा सकता है। एएमयू प्रवक्ता प्रो. शाफे किदवई ने गेम्स कमेटी के सचिव प्रो. अमजद अली रिजवी के हवाले से बताया कि यह एक दुर्घटना है। ... और पढ़ें

खैर सीएचसी में भर्ती नवजात ने उपचार के अभाव में दम तोड़ा

सरकारी एंबुलेंस सेवा की संवेदनहीनता के चलते खैर सीएचसी में भर्ती एक नवजात की जान चली गई। समय से नवजात को समुचित इलाज नहीं मिल सका। हालत गंभीर होने पर उसे खैर सीएचसी से अलीगढ़ रेफर किया गया था लेकिन सीएचसी में खड़े एंबुलेंस चालक ने नवजात को अलीगढ़ ले जाने से मना कर दिया। पीड़ित पिता ने पिता ने एंबुलेंस चालक व सीएचसी स्टाफ पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कोतवाली में तहरीर दी है।
रविवार को अपराह्न करीब साढे तीन बजे कस्बे के मोहल्ला शिकरवार निवासी छोटू ने अपनी पत्नी संतोष देवी को प्रसव पीड़ा होने पर खैर सीएचसी में भर्ती कराया गया था। एक घंटे बाद सामान्य प्रसव से बालिका का जन्म हुआ। सोमवार की सुबह डॉ. आरवी सिंह राउंड पर पहुंचे तो उन्हें नवजात की हालत खराब लगी। उसे सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। इस पर उन्होंने नवजात को मलखान सिंह जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। छोटू ने इस पर सरकारी एंबुलेंस सेवा को कई बार फोन किया लेकिन कॉल रिसीव नहीं हुई। कॉल रिसीव होने पर सभी एंबुलेंस व्यस्त बताई गईं। वह काफी देर परेशान रहे। इसी बीच सीएचसी में खड़ी एक एंबुलेंस के चालक से समस्या बताते हुए जिला अस्पताल चलने का अनुरोध किया लेकिन उसके चालक ने कंट्रोल रूम के आदेश के बगैर जाने से इंकार कर दिया। पिता दो घंटे तक वाहन का इंतजाम नहीं कर सका।
तमाम मिन्नतों पर भी एंबुलेंस चालक तैयार नहीं हुआ। करीब 11 बजे नवजात ने दम तोड़ दिया। उसकी मौत से मां, पिता व दादी आदि परिवार वाले बिलखते रहे। उधर तहरीर पर इंस्पेक्टर खैर विनोद कुमार मिश्रा ने जांच कर कार्रवाई की बात कही है।
एंबुलेंस के बारे में परिवार ने कुछ नहीं बताया। हालांकि एंबुलेंस हमारे आदेश नहीं जाती लेकिन परिजन समस्या बताते तो अपने स्तर पर नवजात को जिला अस्पताल भेजने के लिए कुछ इंतजाम जरूर करते। -डॉ. राहुल शर्मा, सीएचसी अधीक्षक। ... और पढ़ें

मरी मछलियां अभी भी सतह पर, सड़ने का खतरा

जहरीले हो चुके पानी की समस्या का सामना कर रहे अचल तालाब में मछलियां मरने का मामला प्रकाश में आने के चौथे दिन भी मरी हुई मछलियां सतह और किरानों पर देखी गईं। अब मछलियों के सड़ने से अन्य मछलियों और मेंढकों के लिए वहां खतरा पैदा हो गया है। इसके अलावा सरोवर की मुख्य समस्या उसमें खुले नालों का स्रोत और आसपास की आबादी व कारखानों का आ रहा गंदा पानी है। स्थिति को देखते हुए अब नगर निगम मंगलवार से सरोवर में नाव डालकर पूरे क्षेत्र की पेट्रोलिंग करेगा।
जानकारों का कहना है कि जब तक गंदे और दूषित पानी के इन स्रोतों को बंद नहीं किया जाएगा, तब तक यहां सरोवर में जल जीवन का बने रहना संभव नहीं है। जबकि हकीकत यह है कि सरोवर में गंदे पानी के इन स्रोतों को बंद नहीं किया गया है। यहां पर एक इंटर कालेज का गंदा पानी सीधे सरोवर में आ रहा है। इसके अलावा मंदिर और उनके परिसर में जो परिवार रह रहे हैं उनका पानी भी सीधे सरोवर में गिर रहा है। सबसे बड़ी समस्या ब्राह्मन पुरी की ओर नाली का मुहाना सीधे सरोवर में गिर रहा है। यही यहां की समस्या है।
‘मछलियों के मरने से समझा जा सकता है कि यहां पर स्थिति किस प्रकार खतरनाक स्तर तक पहुंच गई है। शहर की एक पुरानी धरोहर है और उसका भी संरक्षण नहीं हो पा रहा है। यह बेहद निराशाजनक है’
- सुबोध नंदन शर्मा, पर्यावरणविद्
‘मछलियां जो पहले मर गई वही हैं। मछलियों के मरने की ताजा सूचना नहीं है। सोमवार को मैंने व अन्य अधिकारियों ने सरोवर का निरीक्षण किया था। पोटेशियम परमैंगनेट दवा डाली गई है। मंगलवार को यहां पर नाव डाल दी जाएगी जिससे पूरे सरोवर की पेट्रोलिंग की जाएगी। सरोवर में आसपास की आबादी का जो पानी गिर रहा है, उसे भी बंद कराया जाएगा’
- डॉ. शिव कुमार, नगर स्वास्थ्य अधिकारी
मछलियों को बचाने के लिए एयर रेटर मशीन मंगाई
सोमवार के अंक में अचल सरोवर के पानी में आक्सीजन जीरो होने और मछलियां मरने का समाचार प्रकाशित होने के बाद सरोवर की मछलियों को जीवित बचाने के लिए नगर निगम ने वाटर एयर रेटर मशीन मंगाई है। नगर आयुक्त सत्य प्रकाश पटेल ने कहा इस मशीन के प्रयोग से अचल सरोवर में आक्सीजन की मात्रा में वृद्धि होगी और मछलियां को लाभ मिलेगा। अचल सरोवर पर प्रभारी अधिकारी वर्कशाप अजीत कुमार राय, वर्कशाप सहायक धर्मवीर सिंह, मीडिया सहायक एहसान रब ने मौके पर मौजूद रहकर इस मशीन को अचल सरोवर में लगवाया। प्रभारी अधिकारी वर्कशाप अजीत कुमार राय ने बताया एयर रेट मशीन की मदद से अचल सरोवर में शेष बची मछलियों को जीवन मिलेगा और साथ ही सरोवर में सफाई व्यवस्था को और प्रभावी बनाने के लिए मथुरा से किराए पर नाव मंगवाए जाने के साथ साथ अतिरिक्त कर्मचारियों की तैनाती भी की जा रही है। अचल सरोवर के आसपास की क्षेत्रीय जनता द्वारा नगर आयुक्त द्वारा तत्काल संज्ञान लेकर एयर रेट मशीन मंगवाई जाने की सराहना करते हुए उनका आभार व्यक्त किया है। ... और पढ़ें

मैडम पति ने पीट कर निकाल दिया है

मैडम पति ने मारपीट कर घर से निकाल दिया है। पुलिस भी मदद नहीं कर रही है। आप ही कुछ करो। ऐसी ही कई शिकायतें बुधवार को पीडब्लूडी गेस्ट हाउस में जन सुनवाई के दौरान उत्तर प्रदेश महिला आयोग की सदस्य मीना कुमारी के सामने आई। कुल मिलाकर 12 उत्पीड़न के मामले आए।
इगलास थाना क्षेत्र की मुस्कान अग्रवाल ने बताया कि उनके पति निखिल ने मारपीट कर घर से भगा दिया है। 2016 में एफआईआर दर्ज कराई गयी थी। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। न्यायालय में प्रकरण विचाराधीन है। थाना गांधी पार्क की महेंद्र नगर रतन कालोनी निवासी रागिनी रायजादा ने बताया कि उनके पति अजीत रायजादा द्वारा मारपीट करते हुए घर से निकाल दिया है और वह अक्सर शराब पीकर मारपीट करते रहे हैं। उन्होंने गांधी पार्क थाना प्रभारी पर दूरभाष पर वार्ता कर मामले के निस्तारण करने के आदेश दिये।
क्वारसी क्षेत्र की पूनम शर्मा ने बताया कि टेली ला योजना के तहत मैं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में पीएलवी पद पर कार्यरत हूं। मास्टर ट्रेनर के रूप में मुझे पुरस्कृत भी किया गया है, लेकिन राज्य महिला आयोग के निर्देश के बावजूद भी मेरा लगभग 18 माह के वेतन का भुगतान नहीं किया गया है।
उसे दिलाया जाए। टीकाराम इंटर कालेज की अध्यापक नम्रता जायसवाल ने कहा कि मेरे 4 वर्ष के बच्चे को कभी-कभी विद्यालय ले जाने पर आपत्ति जताई जाती है। इसकी देख.रेख की पूरी जिम्मेदारी मेरे ऊपर है। आवश्यकतानुसार विद्यालय में बच्चे को ले जाने की अनुमति प्रदान की जाए।
टप्पल थाना क्षेत्र की सरिता देवी पत्नी रामप्रकाश ने कहा कि सास द्वारा मुझे प्राय: परेशान किया जा रहा है। मारपीट भी की जाती है। अतरौली क्षेत्र की प्रिया पत्नी धर्मेंद्र ने कहा कि ताऊ के बेटे-मेरे जेठ पवन द्वारा विगत तीन वर्षों से प्रताड़ित किया जा रहा है। थाने में इसकी शिकायत भी की गयी है लेकिन कोई ठोस कार्यवाही नहीं हो पाई है।
खैर थाना क्षेत्र की सोनम ने बताया कि उनकी राहुल से दूसरी शादी हुई है। एक वर्ष पूर्व मुझे मारपीट कर घर से निकाल दिया गया, तब से मैं अपने मायके में रह रही हूं। इनके द्वारा भरण पोषण हेतु कुछ नहीं दिया जाता है। थाना दादों क्षेत्र की नगला उदित दादों की भूदेवी पत्नी जगमोहन ने पड़ौसी द्वारा बार.बार उत्पीड़न करने की शिकायत की।
सिविल लाइन थाना क्षेत्र की अनम पत्नी गुलफाम ने कहा कि दो माह से मैं अपने मायके में रह रही हूं। ससुराल पक्ष से सास एवं पति द्वारा बार.बार प्रताड़ित किया जा रहा है। कुल मिलाकर जनसुनवाई के 12 प्रकरणों में 6 घरेलू हिंसा, 1 बलात्कार, 5 न्यायालय से संबंधित प्राप्त हुये। इस अवसर पर जिला प्रोबेशन अधिकारी स्मिता सिंह, महिला थाना प्रभारी सुनीता सिंह, 181 महिला हैल्प लाइन से सीमा अब्बास के अतिरिक्त महिला शिकायतकर्ता शामिल थीं। ... और पढ़ें

बच्ची अपहरणः शातिर महिला द्वारा छोड़े बैग में मिले फोटो, तलाश जारी

रेलवे जंक्शन से एक साल की मासूम लक्ष्मी के अपहरण के मामले में जीआरपी और आरपीएफ की टीमों ने कई ठिकानों पर मंगलवार रात को दबिश दी। हालांकि बच्ची का सुराग नहीं लगा। मगर, इस मामले में जांच टीमों को शातिर महिला द्वारा छोड़े बैग से एक अहम सुराग मिला है। बैग से एक पुुरुष और एक महिला का पासपोर्ट साइज फोटो मिला है।
अपह्त बच्ची की मां ने फोटो में दिख रही महिला को ही अपहरणकर्ता बताया है। हालांकि जांच टीमें अभी भी संदेह की स्थिति में है। फिर भी एहतियातन फोटो को जोन स्तर पर जारी कर सभी जिलों में अलर्ट जारी कर महिला की तलाशी को निर्देश दिए हैं। जीआरपी और आरपीएफ की टीमों के इस घटना ने होश उड़ा दिए हैं।
बुधवार को जनपद में पिछले दिनों हुई बच्चा चोरी, अपहरण की वारदातों में शामिल अपराधियों का रिकार्ड खंगाला जा रहा है। उनकी वर्तमान स्थिति का पता लगाया जा रहा है। मंगलवार रात को पुलिस को कुछ स्थानों पर बच्ची के होने के इनपुट मिले तो टीमों ने ताबड़तोड़ दबिश मारी।
मगर, सफलता हाथ नहीं लगी। गुरुवार को जीआरपी और आरपीएफ और आरपीएफ क्राइम ब्रांच की टीम बच्ची की तलाश में आसपास के जिलों में दबिश देने की तैयारी में है।
मेरी लाडो भूखी होगी, साहब उसे वापस ला दो
लक्ष्मी के अपहरण के बाद से उसकी दिव्यांग मां मालती बदहवाश हालत में है। मंगलवार के बाद बुधवार का दिन भी मालती और उसके पति झम्मन ने स्टेशन पर ही बच्ची की तलाश करते हुए गुजारी। बुधवार की दोपहर को महिला जीआरपी थाने पर पहुंची तो थाने पर मौजूद स्टाफ के सामने महिला के आंसू छलक उठे। महिला रुंधे गले से बच्ची को याद करते हुए जीआरपी के सामने कहने लगी कि साहब मेरी लाडो भूखी होगी उसे जल्दी वापस ला दो। उसे अपने आंचल से दूध पिलाकर अपने सीने से लगाना है।
प्लेटफार्म सात बना अपराधियों का अड्डा, अधिकारी मूंदे बैठे आंख
प्लेटफार्म नंबर सात एक बार फिर से सुर्खियों में आ गया है। आमतौर पर यह प्लेटफार्म जेब कतरों, चोरों, लुटेरों का अड्डा बना रहता है। यहां यात्रियों के साथ लूट, चोरी होना कोई नई बात नहीं है। मगर, इसका अधिकारियों पर कोई असर नहीं पड़ रहा है। इलाहाबाद मंडल में बैठे अधिकारियों का यहां की समस्याओं की ओर ध्यान नहीं है। कई बार स्थानीय अधिकारियों ने यहां सीसीटीवी कैमरों को लेकर पत्र जारी किया है। इसके बाद भी यहां सीसीटीवी कैमरों को लगाने की मंजूरी नहीं दी गई है। इतना ही नहीं यहां से अवैध रूप से माल ढुलाई का कारोबार भी जोरों से हो रहा है। इसकी खबर पिछले ही दिनों एक ट्विटर हैंडल से रेलवे बोर्ड के संज्ञान में लाई गई थी। इसके बाद भी अधिकारी खामोश रहे। भविष्य में इस बात का फायदा उठाकर यहां कोई भी अपराधी असामाजिक गतिविधि को बड़े स्तर पर अंजाम देकर आसानी से फरार हो सकता है। ... और पढ़ें

शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन के खिलाफ तहरीर

पैगंबर मोहम्मद साहब की बीवी हजरत आयशा (र.ज.) पर शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी फिल्म बना रहे हैं, जिसका ट्रेलर लांच हो गया है। इस ट्रेलर से मुस्लिमों में खासा गुस्सा है। इस मामले में ऑल इंडिया मजलिस
-ए-इत्तिहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) ने वसीम रिजवी के खिलाफ थाना सिविल लाइन में तहरीर दी है। साथ ही एसएसपी आकाश कुलहरि से भी मुलाकात कर कार्रवाई की मांग की।
बुधवार को एआईएमआईएम के प्रदेश युवा महासचिव सैयद नाजिम अली के नेतृत्व में शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी के खिलाफ तहरीर दी गई। नाजिम ने कहा कि वसीम रिजवी लगातार मुस्लिम की भावनाओं को आहत कर रहे हैं। यह फिल्म आपत्तिजनक है। अगर इस फिल्म पर रोक नहीं लगायी गई तो प्रदेश व देश का माहौल खराब होने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है। उन्होंने वसीम रिजवी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।
ट्रेलर में अश्लील सीन
फिल्म ‘आयशा द मदर ऑफ द बिलीवर्स : ए ट्रू स्टोरी ऑफ्टर डेथ ऑफ प्राफेट मोहम्मद (सअ)’ के 36 सेकेंड में ट्रेलर में अश्लील सीन है, जबकि हजरत आयशा का प्रतीकात्मक स्वरूप भी दिखाया गया है। ... और पढ़ें

मोदी के विवादित पोस्टर एएमयू में नहीं लगे : पुलिस

पीएम नरेंद्र मोदी के विवादित पोस्टर कथित तौर पर एएमयू में लगने का मुद्दा ट्वीटर पर चर्चित हो रहा है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के फैंस क्लब ने ट्विटर पर इसे गंभीर मसला मानते हुए यूपी के मुख्यमंत्री से कार्रवाई के लिए कहा है। इस पर अलीगढ़ पुलिस ने ट्वीट कर जवाब दिया है कि यह पोस्टर एएमयू में नहीं लगे। इसकी जांच में पुष्टि हो गई है। हां, एक छात्र ने अपने स्टेटस पर फोटो लगाया था, जिस पर कार्रवाई की गई है।
एएमयू को लेकर मंगलवार को ट्विटर पर यह शिकायत की गई थी कि पीएम मोदी के विवादित पोस्टर कैंपस में लगाये गए हैं। इस पर पुलिस कप्तान स्तर से जांच कराई गई। जिसकी जांच में कोई पोस्टर लगना तो नहीं पाया गया। मगर एक छात्र की स्टेटस पोस्ट जरूर वायरल मिली। जिस पर मुकदमा आदि कार्रवाई की गई है।
इधर इस पोस्टर को टेग करते हुए एनएसए अजित डोभाल फैंस क्लब ने ट्विटर पर कहा है कि ऐसे लोगों को एएमयू दमें पढ़ाने का क्या फायदा जिनकी सोच जघन्य हो और उन्होंने यूपी के सीएम से कार्रवाई का निवेदन किया है। इस ट्वीट पर अलीगढ़ पुलिस की सोशल मीडिया सेल ने जवाब दिया है कि एआलाईयू जांच में पाया है कि पीएम महोदय का यह पोस्टर कैम्पस में नहीं लगे।
इनका अलीगढ़ पुलिस खंडन करती है। यह पोस्टर अन्यत्र स्थान से है जिसे एएमयू से जोड़कर पोस्ट को वायरल किया है। पुलिस प्रवक्ता ने सोशल मीडिया सेल के जवाब की पुष्टि की है। ... और पढ़ें

रेलवे स्टेशन से बच्ची को लेकर शातिर महिला फरार, जांच में जुटी पुलिस

रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म सात से मंगलवार को एक शातिर महिला दूसरी दिव्यांग महिला से उसकी एक साल की मासूम बच्ची को खिलाने के बहाने लेकर फरार हो गई। काफी देर तक महिला नहीं लौटी तो बच्ची की मां ने जीआरपी थाने में शिकायत की। शिकायत पर हड़कंप मच गया। सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए। मगर, महिला और बच्ची की सुराग नहीं लगा। महिला की तहरीर पर जीआरपी ने मुकदमा दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है। जोन स्तर पर अलर्ट जारी किया गया है। 

ये भी पढ़ें- घर में घुसकर किशोरी से दुष्कर्म का प्रयास, विरोध करने पर किया अपहरण

दिव्यांग मालती पत्नी झम्मन लाल निवासी नया बांस, सुरीर, मथुरा तीन बेटियों और एक बेटे की मां है। हाल में महिला अपने पति के साथ दिल्ली के शाहदरा थाना क्षेत्र के मीत नगर में रहती है। पति ई-रिक्शा चलाकर परिवार को पालन-पोषण करता है। रक्षाबंधन पर मालती गंगीरी निवासी अपने भाई को राखी बांधने के आई थी। मंगलवार को महिला गोमती एक्सप्रेस से वापस दिल्ली जाने के लिए स्टेशन पर आई। बस स्टैंड से ही उसके पीछे शातिर महिला लग गई।

मालती के अनुसार प्लेटफॉर्म सात पर दूसरी बेटी ने खाने के लिए खाना मांगा। इसी दौरान महिला ने खिलाने के बहाने से छोटी बेटी लक्ष्मी (एक साल) को गोद में ले लिया। महिला उसे खिलाते-खिलाते आंखों से ओझल हो गई। काफी देर उसकी तलाश की। मगर सुराग नहीं लगा।

मालती ने जीआरपी थाने पहुंच यहां पूरा वाकया बताया। मामला जान जीआरपी में खलबली मच गई। जीआरपी और आरपीएफ की टीमें तलाश में जुट गई। महिला को सीसीटीवी फुटेज भी दिखाए गए। मगर, उनका सुराग नहीं लगा। जीआरपी इंस्पेक्टर यशपाल सिंह के अनुसार बच्ची की मां की तहरीर पर अपहरण का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जोन स्तर पर अलर्ट जारी कर दिया गया है। 
 
यह है बच्ची की पहचान

मासूम बच्ची का नाम लक्ष्मी है। बच्ची की मां के अनुसार बेटी गुलाबी रंग की बनियान और आसमानी कच्छी पहने है। बच्ची का रंग सांवला है। अपहरणकर्ता महिला साड़ी पहने थी। उसकी आंखों में काजल लगा था।
... और पढ़ें

सिपाही पर भाभी ने लगाया दुष्कर्म कर जबरन शादी करने का आरोप

अपहृत बच्ची और पुलिस को जानकारी देती मां
सिपाही पर चचेरी भाभी ने लगाया दुष्कर्म कर जबरन शादी करने का आरोप
आगरा के एक थाने में तैनात है इगलास की महिला का आरोपी देवर
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अलीगढ़
अलीगढ़। इगलास थाना क्षेत्र के एक गांव की महिला ने आगरा के एक थाने में तैनात अपने देवर पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। महिला का देवर सिपाही है। आरोप है कि उसने महिला से जबरन विवाह भी रचा लिया। इसके बाद महिला को उसके तीन बच्चों सहित पति ने घर से निकाल दिया है। महिला मंगलवार को एसपी क्राइम डा. अरविंद कुमार से शिकायत करने पहुंची। शिकायत के आधार पर इगसाल पुलिस को मामले की जांच सौंप रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई के निर्देश जारी किए गए हैं।
शिकायतकर्ता महिला ने बताया कि आरोपी उसके चचिया ससुर का बेटा है। गत होली पर वह घर आया था। कोल्डड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाने के बाद उसने दुष्कर्म किया। इसकी वीडियो भी बना ली। बाद में वीडियो दिखाकर पांच माह से बलात्कार कर रहा है। विरोध करने पर वायरल करने की धमकी दे रहा है। पिछले दिनों इस बात की जानकारी पति को हो गई। पति ने बिना कोई बात सुने बच्चों सहित घर से निकालकर रिश्ता खत्म कर लिया।
इसके बाद आरोपी देवर ने अपने एक साथी सिपाही निवासी अलीगढ़ की मदद से आगरा बुलवाया। बलूगंज इलाके के एक होटल में ले जाकर दुष्कर्म किया। फिर जबरन विवाह रचाया। महिला का आरोप है कि आरोपी सिपाही विरोध करने पर बच्चों सहित जान से मारने की धमकी दे रहा है। एसपी क्राइम के अनुसार मामले की जांच इगलास पुलिस को सौंप दी है। रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। ... और पढ़ें

मोदी के वीभत्स पोस्टर पर भूचाल, सीओ को सौंपी गई जांच

मोदी के वीभत्स पोस्टर पर भूचाल, सीओ को सौंपी गई जांच
मोदी को ‘द ड्रैकुला ऑफ कश्मीर’ के रूप में दर्शाया गया है
मामला पुलिस तक पहुंचा, एएमयू के अधिकारी भी कराएंगे एफआईआर
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अलीगढ़
अलीगढ़। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय ही नहीं बल्कि महानगर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आपत्तिजनक पोस्टर को लेकर भूचाल की स्थिति है। दिल्ली में रह रहे एएमयू के ही एक पूर्व छात्र ने एएमयू कैंपस में आपत्तिजनक पोस्टर लगने की शिकायत ट्विटर पर अलीगढ़ पुलिस एवं एसएसपी से की है। दूसरी तरफ एएमयू के अधिकारी आरोप को बेबुनियाद बताते हुए पूर्व छात्र के खिलाफ थाने में तहरीर देने की तैयारी में है।
दिल्ली में रह रहे एएमयू के पूर्व छात्र राजेश्वर सिंह ने ट्विटर पर एसएसपी से एएमयू के अंदर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आपत्तिजनक पोस्टर लगाने की शिकायत कर कार्रवाई का आग्रह किया है। पूर्व छात्र ने रक्त रंजित वीभत्स पोस्टर भी पोस्ट किया है। एसएसपी अलीगढ़ एवं अलीगढ़ पुलिस के अतिरिक्त प्रधानमंत्री, मानव संसाधन विकास मंत्रालय एवं उत्तर प्रदेश के सीएम ऑफिस से भी पूर्व छात्र ने शिकायत की है।
एसएसपी आकाश कुलहरि ने इस मामले की जांच सीओ एलआईयू प्रज्ञान को सौंप दी है। सीओ की सहायता के लिए साइबर सेल को भी लगाया गया है। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधिकारी हरकत में आ गए हैं। इसकी सूचना एएमयू में पहुंचने के बाद खलबली मच गई है। एएमयू प्रवक्ता प्रो. शाफे किदवई का कहना है कि हमारा कोई छात्र इसमें संलिप्त नहीं है। राजेश्वर सिंह के खिलाफ एफआईआर कराई जाएगी।
उन्होंने बताया कि जिस फोटो को शेयर करने की बात हो रही है, दरअसल वह कुछ दिन पहले लंदन में प्रदर्शन के दौरान इस्तेमाल किया गया था। एएमयू में कुछ नहीं हुआ है। तस्वीर को फोटो शाप करके एएमयू को बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है। इस संबंध में पूर्व छात्र राजेश्वर सिंह ने फोन पर बताया कि इस मामले में गलतफहमी हुई है। आपत्तिजनक पोस्ट को एएमयू के बीएससी के जैद नामक छात्र ने अपने वाट्सएप स्टेटस पर शेयर किया है। उसके बाद उन्होंने शिकायत की है।
भाजपा नेताओं में आक्रोश
अलीगढ़। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रक्तरंजित वीभत्स पोस्टर को लेकर भाजपा युवा मोर्चा के नेताओं में आक्रोश है। युवा नेता मामले को गहराई से समझने की कोशिश कर रहे हैं। अभी इस बात को समझने का प्रयास कर रहे हैं कि इस पोस्टर को किसने शेयर किया है। भाजयुमो के जिला अध्यक्ष मुकेश सिंह लोधी ने कहा कि पोस्टर शेयर करने वालों के खिलाफ कड़ी काईवाई होनी चाहिए। ... और पढ़ें

पति-पत्नी के आपसी विवाद में पत्नी ने पति की गला दबाकर की हत्या

सोते समय पति को गला दबाकर मार डाला
मृतक की मां ने बहू के खिलाफ दर्ज कराई हत्या की रिपोर्ट
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जट्टारी (अलीगढ़)
जट्टारी (अलीगढ़)। टप्पल क्षेत्र के गांव निगुना-सिगुना में सोमवार की रात करीब 11 बजे एक युवक की घर पर सोते समय गला दबाकर हत्या कर दी गई। मृतक की मां की ओर से अपनी बहू के खिलाफ हत्या करने की रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। उधर पुलिस ने पूछताछ के लिए कुछ परिवार वालों को उठाया है।
गांव के 30 वर्षीय दौलतराम उर्फ कल्लू पुत्र नौरंगी लाल प्रजापति ईट भट्टों पर मजदूरी करते थे। बताते हैं कि उनका अपनी पत्नी से कई दिन से झगड़ा चल रहा था। सोमवार की रात दौलत उर्फ कल्लू परिवार के साथ सो गया था। आरोप है कि उसकी पत्नी ने मथानी से सोते समय पति का गला दबा दिया। दम घुटने से उसकी मौत हो गई। पत्नी ने ही कल्लू की मौत की जानकारी परिवार के अन्य सदस्यों को दी।
परिजनों के साथ ही गांव वालों की मौके पर भीड़ लग गई। लोगों की नजर कल्लू की गर्दन पर पड़े निशान पर गई। पति की मौत पर परिवार वालों के साथ ही पत्नी विलाप कर रही थी लेकिन परिवार वालों ने उसी पर हत्या करने का आरोप लगाया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।
थानाध्यक्ष संजय जायसवाल के अनुसार पोस्टमार्टम रिपोर्ट पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही पता चल सकेगा कि हत्या किस तरह से हुई है। मृतक की मां की तहरीर पर पत्नी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज हुई है। आठ मार्च 2014 को कल्लू की शादी औरग मीरपुर जनपद बुलंदशहर निवासी रतन सिंह की बेटी मिथलेश के साथ हुई थी। उसके चार साल का एक बेटा और दस माह की एक बेटी है। पांच भाई-बहनों में कल्लू दूसरे नंबर का था। कल्लू के एक भाई की भी पूर्व में गला रेतकर हत्या कर दी गई थी।
फोटो परिचय
20जेएटीपी01 ृतक दौलतराम का फाईल फोटो
20जेएटीपी02 मृतक दौलतराम की शादी का फोटो पत्नी के साथ
20जेएटीपी03 वूिलाप करते हुए परिजन
20जेएटीपी04 विलाप करते हुए परिजन ... और पढ़ें

बरेली की किशोरी के अपहरण मामले में पत्नी और बेटी पति के समर्थन में उतरी

बरेली की किशोरी के अपहरण मामले में पत्नी और बेटी पति के समर्थन में उतरी
एसपी क्राइम से मिले तीनों, कहा बेटी को बरगलाकर अपने पक्ष में किया, पुलिस भी बेटी से नहीं करने दे रही मुलाकात
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अलीगढ़
अलीगढ़। बरेली की किशोरी को ननिहाल पक्ष द्वारा बेचे जाने के मामले में हर दिन नया मोड़ आ रहा है। अब किशोरी की मां और बड़ी बहन भी अपने किशोरी के समर्थन में उतर आई है। किशोरी की मां भी अपने मायके वालों पर बेटी को बरगलाकर उसका अपहरण कर शादी के नाम पर बेचने का आरोप लगा रही है। बडी़ बेटी ने भी ननिहाल पक्ष को ही आरोपी ठहराया है। तीनों मंगलवार को एसपी क्राइम डा. अरविंद कुमार से मिले।
उन्होंने आरोप लगाया कि बेटी से पुलिस मिलने तक नहीं दे रही है। तीन दिन से उसे हिरासत में रखा हुआ है। बेटी अपने ननिहाल पक्ष के बहकावे में आकर बयान दे रही है। उसके साथ गलत हुआ है। मगर, वह डर या किसी प्रलोभन के कारण सच्चाई को सामने नहीं ला रही है। डा. अरविंद कुमार ने शिकायतकर्ता पक्ष को आश्वासन दिया कि वह मामले की जांच करा रहे हैं। जांच रिपोर्ट के आधार पर ही कार्रवाई होगी।
बता दें कि नवल किशोर गुप्ता निवासी सुभाष नगर, बदायूं रोड ने आरोप लगाया था कि उसकी दो बेटी पल्लवी और शालू अलीगढ़ के गांधी पार्क थाने के नगला मानसिंह स्थित नानी-मामा के घर पर घूमने आई थीं। नानी मूलरूप से बरेली की रहने वाली हैं। वादी का आरोप है कि उसकी बेटी शालू को वह रक्षाबंधन पर बुलाने आए तो बेटी घर पर नहीं मिली। पूछताछ करने पर मारपीट, अभद्रता कर दी।
इस मामले में वादी ने दस लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा कराया था। इसके बाद पुलिस ने तलाश शुरू की तो शालू बरेली स्थित नानी के घर से ही बरामद हुई। उसने उल्टा पिता पर ही उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए भविष्य में बेचे जाने का संदेह जताया। उसने पिता के साथ जाने से भी इंकार कर दिया। इसके बाद से पुलिस इस मामले को लेकर उलझन में फंसी हुई है। बच्ची महिला थाना पुलिस की सुपुर्दगी में है। ... और पढ़ें

एसओजी ने उठाया युवक, अपहरण की अफवाह फैली

एसओजी ने उठाया युवक, अपहरण की अफवाह फैली
पिस्टल बनाने व सप्लाई करने का लगा है आरोप, गाजियाबाद एसओजी ने दी थी दबिश
न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अलीगढ़
अलीगढ़। महानगर के देहली गेट थाना क्षेत्र के जलालपुर मोहल्ला में एक पीएसी कर्मी के मकान में किराए पर रहने वाले युवक को सोमवार की शाम एसओजी की टीम ने उठा लिया। घर में बंद कर उससे पूछताछ करने के बाद टीम अपने साथ ले गई। इधर, परिवार वालों ने अपहरण की सूचना पुलिस को दे दी। थाना पुलिस ने मामले की तफ्तीश की तो युवक को पिस्टल बनाने एवं सप्लाई करने के आरोप में गाजियाबाद एसओजी द्वारा उठानेे का पर्दाफाश हुआ।
प्रवीण वर्मा निवासी सासनी, हाथरस वर्तमान में अपनी पत्नी और उसकी बहन के साथ जलालपुर मोहल्ले में एक पीएसी कर्मी के मकान में रहता है। सोमवार की शाम को इलाके से उठाकर गाजियाबाद की एसओजी टीम की प्रवीण को लेकर उसके किराए के मकान पर पहुंची। यहां उससे पूछताछ की गई।
इसके बाद टीम उसे अपने साथ ले गई। इसके बाद पत्नी सहित साली ने पुलिस को बुला लिया। मौके पर जलालपुर चौकी इंचार्ज पहुंचे। उन्होंने मामले की तफ्तीश की तो पूरा पर्दाफाश हो गया। इसके थाना पुलिस ने आरोपी के परिवार को गाजियाबाद एसओजी से संपर्क करने की सलाह देक र घर भेज दिया। ... और पढ़ें

कासगंज: बच्चे को अगवा करने की कोशिश, ग्रामीणों ने बदमाशों को पीटा, कार फूंकी

ढोलना के ग्राम अथैया में सोमवार की देर शाम एक बच्चे को अगवा करने की कोशिश की गई। जिससे ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया। आक्रोशित ग्रामीणों ने दो अपहृताओं के साथ मारपीट की। इसके बाद अपहृताओं की कार को भी फूंक दिया। दमकल ने कार में लगी आग को बुझाया। अभी इस मामले में प्राथमिक दर्ज की कार्रवाई नहीं की गई है।

मुकेश (10) पुत्र राजू निवासी अथैया गांव में ही एक खोखे पर बैठा हुआ था। इसी बीच एक युवक खोखे के पास पहुंचा और मुकेश को मिठाई का डिब्बा देते हुए बोला कि हम तुम्हारे रिश्तेदार हैं, चलो तुम्हारी मां बुला रहीं है। 

यह सुनकर बच्चे ने मिठाई का डिब्बा ले लिया। तभी युवक ने बच्चे को पकड़ लिया, इसी बीच उसके पिता वहां आ गए। बच्चे को युवक द्वारा ले जाते देख उन्होंने शोर मचा दिया। जिससे लोग एकत्रित हो गए। लोगों ने उस युवक को पकड़ लिया।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree