विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

अयोध्या प्रकरणः कल्याण सिंह बतौर आरोपी 27 को अदालत में तलब, विशेष न्यायाधीश ने दिया आदेश

अयोध्या प्रकरण के विशेष न्यायाधीश सुरेंद्र कुमार यादव ने पूर्व मुख्यमंत्री व राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह को बतौर आरोपी तलब किया है।

22 सितंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

शामली

रविवार, 22 सितंबर 2019

यूपी: बाइक सवार बदमाशों ने फाइनेंस कर्मी से लूटा एक लाख कैश, गोली मारकर हुए फरार, कर्मचारी गंभीर

यूपी के बागपत में शुक्रवार को दिनदहाड़े बाइक सवार दो बदमाशों ने लूट की घटना को अंजाम दे डाला। लोनी की एक फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी से तमंचे के बल पर एक लाख रुपये लूट लिए और विरोध करने पर गोली मारकर फरार हो गए।

लूट की सूचना पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। पुलिस ने घायल को सीएचसी पर भर्ती कराया। यहां से उसे हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया। उसकी हालत चिंताजनक बनी है। एसपी ने घटनास्थल पर पहुंचकर जानकारी ली।

आगरा के नंगला मुलपुरा निवासी मनीष पुत्र दीवान सिंह लोनी की एक फाइनेंस कंपनी में नौकरी करता है। उसने बताया कि दोपहर करीब दो बजे वह बाइक पर सवार होकर फखरपुर गांव में स्वयं सहायता समूह केंद्र से एक लाख रुपये की नगदी लेकर लोनी लौट रहा था। जब वह फखरपुर मार्ग पर रेलवे अंडरपास के समीप पहुंचा तो बाइक सवार दो बदमाशों ने तमंचे के बल पर उसे रोक लिया। दोनों बदमाश हेलमेट लगाए हुए थे। बदमाशों ने उससे एक लाख रुपये की नगदी लूट ली।
... और पढ़ें

यूपी: भाजपा महिला मोर्चा की उपाध्यक्ष को थप्पड़ मारा, फिर मांगी माफी, पुलिस बनी रही तमाशबीन  

भाजपा महिला मोर्चा में ब्रह्मपुरी मंडल उपाध्यक्ष नीतू शर्मा को शुक्रवार दोपहर कचहरी में पार्किंग ठेकेदार ने थप्पड़ मार दिया। इस पर कचहरी में बखेड़ा हो गया। घंटों गहमागहमी के बाद माफी मंगवाकर आरोपी को क्लीनचिट दे दी गई। पीड़ित महिला चिल्लाती रही और पुलिस तमाशबीन बनी रही।  

शास्त्रीनगर निवासी नीतू शर्मा अपने बेटे हर्षित शर्मा के साथ भाजपा के एक कार्यक्रम में शामिल होने जा रही थीं। कचहरी स्थित हनुमान मंदिर के पास हर्षित की स्कूटी में साइड लग गई। इस पर हर्षित और युवक के बीच कहासुनी और फिर मारपीट हो गई। इसी दौरान वहां पार्किंग ठेकेदार अनु पहुंचा। उसने बीच बचाव कराया। अनु और हर्षित में विवाद हो गया।
... और पढ़ें

बड़ी कार्रवाई: मेरठ-दिल्ली हाईवे पर बना ये आलीशान होटल होगा जमींदोज, एमडीएम ने 7 दिन में मांगा जवाब

मेरठ-दिल्ली हाईवे पर बने होटल दोआब विलास को ध्वस्त किया जाएगा। मेरठ प्रशासन ने तेल का खेल उजागर होने के बाद निशाने पर आए तेल माफियाओं पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। इन्हीं माफियों में एक बड़ा नाम है होटल दोआब विलास के मालिक ज्ञानेंद्र चौधरी का। अब प्रशासन ने ज्ञानेंद्र के अवैध रूप से बनाए गए इस होटल को जमींदोज करने के निर्देश दे दिए हैं।

 प्रशासन के मुताबिक एक तो होटल का कुछ हिस्सा नाले पर बना है, दूसरे होटल के अंदर भी नक्शे के विपरीत जमकर अवैध निर्माण किया गया। क्लब का नक्शा पास कराया और बना दिए 32 कमरे। डायनिंग एरिया, बेसमेंट और अन्य निर्माण पर भी नियमों की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं। एमडीए सचिव प्रवीणा अग्रवाल ने बताया कि होटल मालिक को एमडीएम की ओर से नोटिस दिया गया है। जिसमें सात दिन के भीतर जवाब मांगा गया है। बताया गया कि यह एमडीए की तरफ से तीसरा नोटिस है। 
... और पढ़ें

भाजपा नेत्री ने देवबंद विधायक पर लगाए गंभीर आरोप, आवास पर किया आत्मदाह का प्रयास

देवबंद में भाजपा नेता एवं जिला पंचायत सदस्य शशी त्यागी ने क्षेत्रीय विधायक ब्रिजेश सिंह पर गंभीर आरोप लगाते हुए शनिवार को विधायक आवास पर जाकर आत्मदाह करने का प्रयास किया। 

मौके पर मौजूद लोगों ने बमुश्किल नेत्री को बचाया और सीएचसी उपचार के लिए भेजा। नेत्री ने आरोप लगाया कि विधायक  उनके परिवार और रिश्तेदारों को झूठे मामलों में फंसा रहे हैं। जबकि विधायक ने शशी त्यागी के सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया है। 

यह भी पढ़ें: 
यूपी: भाजपा महिला मोर्चा की उपाध्यक्ष को थप्पड़ मारा, फिर मांगी माफी, पुलिस बनी रही तमाशबीन

शुक्रवार को भाजपा नेत्री  शशी त्यागी ने पत्रकारों के समक्ष विधायक ब्रिजेश सिंह पर परिवार व रिश्तेदारों को झूठे मामलों में फंसाकर जेल भिजवाने का आरोप लगाया। कहा कि विधायक उनके पिता, चाचा और अब उनके कुलसत निवासी रिश्तेदारों के खिलाफ झूठे मुकदमे दर्ज करा चुके हैं। विधायक के दवाब में पुलिस उनके घरों पर लगातार दबिश दे रही है। जिससे परिवार में भय बना हुआ है। 
... और पढ़ें
आत्मदाह का  प्रयास करती नेत्री को बचाते लोग आत्मदाह का प्रयास करती नेत्री को बचाते लोग

बुरे फंसे सपा विधायक नाहिद हसन, अब गिरफ्तारी के लिए ताबड़तोड़ दबिश, ये है पूरा मामला

जिले में डेंगू मच्छर की दस्तक, जरा सी लापरवाही सेहत पर पड़ सकती है भारी

शामली। स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम द्वारा की गई जांच में डेंगू व मलेरिया के लार्वा मिलने से स्वास्थ्य विभाग में हलचल मची हुई है। लार्वा मिलने के बाद यह माना जा रहा है कि जिले में डेंगू मच्छर दस्तक दे रहा है। ऐसे में अगर सावधानी नहीं बरती गई तो डेंगू का डंक सेहत पर भारी पड़ सकता है। स्वास्थ्य विभाग ने बचाव के लिए लोगों को जागरूक करने की कवायद शुरू कर दी है।
राष्ट्रीय वैक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत स्वास्थ्य मंत्रालय दिल्ली की टीम ने शुक्रवार को शामली पहुंचकर जांच की थी। जांच के दौरान सीएचसी और इसकी आवासीय कालोनी, रेलवे स्टेशन और रेलवे कालोनी समेत कई स्थानों पर कूलर व प्लास्टिक के कंटेनर आदि की जांच की थी। जांच के बाद टीम ने अधिकतर कूलर में डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया के लार्वा मिलना बताया था। एक कूलर में प्यूपा भी पाया जाना बताया था। जांच टीम के इस खुलासे के बाद स्वास्थ्य विभाग की कार्यशैली भी सवालों के घेरे में आ गई है। यह हालत तब है जबकि दो सितंबर से 30 सितंबर तक संचारी रोग नियंत्रण माह अभियान चलाया जा रहा है। टीम ने शहर के कुछ ही स्थानों पर जांच की है, लेकिन शहर से लेकर गांवों तक जहां जांच नहीं हुई तो वहां भी लार्वा मिलने की संभावना बन गई है। ऐसे में माना जा रहा है कि जिले में डेंगू मच्छर पनप रहा है। डेंगू मच्छर पैदा होने का समय जुलाई से नवंबर माह तक होता है। अगर इसे समय रहते सावधानी नहीं बरती गई तो यह सेहत पर भारी पड़ सकता है। स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि लार्वा मिलने को गंभीरता से लिया जा रहा है। इससे बचाव के साथ लोगों को जागरूक करने का अभियान चलाया जाएगा।
सीएचसी में कूलर की साफ-सफाई कराई
दिल्ली की टीम द्वारा की जांच में सीएचसी के कूलर में लार्वा मिलने के अगले दिन कूलर की साफ-सफाई कराई गई। जिला मलेरिया अधिकारी डा. विनय कुमार ने बताया कि शनिवार को सीएचसी में लगे कूलर में भरा पानी निकलवाकर साफ-सफाई कराई गई। रविवार को सीएचसी परिसर में एंटी लार्वा का छिड़काव कराया जाएगा।
डेंगू बुखार के के लक्षण
- ठंड लगने के साथ तेज बुखार होना।
- सिर, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द होना।
- आंखों के पिछले हिस्से में दर्द होना, जो आंखों को दबाने या हिलाने से और बढ़ता है।
- कमजोरी आना, भूूख न लगना।
- जी मिचलाना और मुंह का स्वाद खराब होना।
- शरीर पर विशेष रूप से चेहरे, गर्दन और छाती पर लाल गुलाबी रंग के चकते होना।
सावधानियां
- ठंडा पानी न पीएं, मैदा और बासी खाना न खाएं।
- खाने में हल्दी, अजवाइन, अदरक व हींग का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करे।
- हरी पत्तेवाली सब्जी का सेवन करें।
- अच्छी नींद ले और साफ पानी ज्यादा से ज्यादा पिएं।
- मिर्च मसाले और तला हुआ खाना न खाएं, कम खाएं, पेट भरकर न खाएं।
- मच्छर से बचाव के लिए शरीर को अधिक से अधिक ढकने वाले कपड़े पहने।
- डेंगू की पुष्टि के लिए ब्लड सैंपल मेरठ या दिल्ली भेजा जाता है।
जिला मलेरिया अधिकारी डा. विनय ने बताया कि जिले के सभी सरकारी अस्पतालों में एनएस-1 कार्ड उपलब्ध है। अगर कोई संदिग्ध लगता है तो इस कार्ड से जांच की जाती है। पॉजिटिव आने पर इसकी पुष्टि के लिए मरीज का ब्लड सेंपल मेरठ या दिल्ली भेजा जाता है। वहां से जांच रिपोर्ट आने के बाद ही डेंगू की सही पुष्टि होती है। जिला मलेरिया अधिकारी ने बताया कि जिले में अभी तक डेंगू का कोई केस नहीं आया है।
सीएमओ ने दिया कारण बताओ नोटिस
शामली। सीएमओ डा. संजय भटनागर ने बताया कि शुक्रवार को दिल्ली की टीम द्वारा की गई जांच में कूलर में डेंगू व मलेरिया आदि के लार्वा मिलना गंभीर मामला है। जिला मलेरिया विभाग की लापरवाही मानते हुए कारण बताओ नोटिस जारी कर तीन दिन में जवाब देने के निर्देश दिए गए है। साथ ही सीएचसी शामली के चिकित्साधीक्षक डा. रमेश चंद्रा को भी नोटिस भेजा जा रहा है कि उनके अस्पताल में कूलर की साफ-सफाई क्यों नहीं कराई गई, जिसकी वजह से उनमें लार्वा मिला है। सीएमओ ने बताया कि इनके अलावा रेलवे विभाग, पीडब्लूडी विभाग व जिन घरों के कूलर में लार्वा मिला है, उन्हें भी चेतावनी पत्र जारी किया जा रहा है। उन्हें चेतावनी दी जाएगी कि अगर दोबारा जांच में लार्वा मिलता है तो उनसे नियमानुसार जुर्माना वसूलने की कार्रवाई की जाएगी। इस तरह से करीब 16 लोगों को चेतावनी पत्र जारी किए जा रहे हैं।
... और पढ़ें

धार्मिक मेला गुघाल में हुआ फूहड़ नृत्य

थानाभवन (बिजनौर)। धार्मिक आस्था के प्रतीक कस्बे के ऐतिहासिक मेला गुघाल में शुक्रवार रात आयोजित म्यूजिकल नाइट में जमकर फूहड़ नृत्य चला। हैरत की बात यह है कि गन्ना मंत्री ने नगर पंचायत को साफ धार्मिक आयोजन में इस तरह नृत्य न कराने की हिदायत दी थी। इससे खफा गोगा म्हाड़ी समिति ने सीओ के नाम शिकायती पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है।
कस्बे के मेला ग्राउंड में गोगा जी महाराज म्हाड़ी पर मेला गुघाल का आयोजन किया जा रहा है। शुक्रवार रात को नगर पंचायत की ओर से मेला ग्राउंड के समीप स्थित किसान इंटर कॉलेज के मैदान में म्यूजिकल नाइट का आयोजन किया गया। सैकड़ों की संख्या में लोग टिकट पर म्यूजिकल नाइट का आनंद लेने के लिए पहुंचे। लेकिन, यहां म्यूजिक के नाम पर फूहड़ नृत्य देखने को मिला। कुछ महिलाएं फूहड़ नृत्य कर रही थी। यह जानकारी जब गोगा म्हाड़ी समिति को लगी तो उन्होंने इस पर आपत्ति जताई। म्हाड़ी समिति के पदाधिकारी अमित सैनी ने बताया कि उन्होंने रात के समय ही इस संबंध में नगर पंचायत अधिशासी अधिकारी को फोन कर शिकायत की थी, लेकिन इसमें कोई कार्रवाई नहीं हुई। शनिवार को उन्होंने सीओ कार्यालय में शिकायत करते हुए बताया कि मेला गुघाल हिंदू धर्म का एक पवित्र उत्सव है। लेकिन, इस उत्सव में नगर पंचायत की ओर से फूहड़ता परोसी जा रही है। इससे यहां दूर-दराज से म्हाड़ी पर प्रसाद चढ़ाने के लिए आने वाले श्रद्घालुओं की धार्मिक भावना को ठेस पहुंच रही है। उन्होंने मामले कार्रवाई की मांग की है। शिकायत करने वालों में विनोद कुमार, हिम्मत सिंह, पंकज सैनी, राजेश कुमार आदि पदाधिकारी मौजूद रहे।
म्यूजिकल नाइट में हंगामा, मारपीट
थानाभवन। म्यूजिकल नाइट में बिना टिकट शो देखने को लेकर हंगामा हो गया। इस दौरान दो पक्षों में मारपीट तक हो गई। मामला बढ़ने पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों पक्षों को समझा बुझाकर शांत किया।
म्यूजिकल नाइट के नाम फूहड़ नृत्य के संबंध में उन्हें कोई जानकारी नहीं है। इसके अलावा गोगा म्हाड़ी समिति की ओर से भी उनके पास फिलहाल कोई शिकायत नहीं आई है। यदि शिकायत आती है तो उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। - मेघा गुप्ता, अधिशासी अधिकारी।
... और पढ़ें

भाकियू भी मौन, नहीं आई आगे

थानाभवन में मेला गुघाल में आयोजित म्यूजिकल नाइट में डांसर पर नोट उडाता युवक।
भाकियू भी मौन, नहीं आई आगे
शामली। भाकियू सुप्रीमो नरेश टिकैत की मध्यस्थता से ही 16 सितंबर को पुलिस प्रशासन ने विधायक पक्ष को गाड़ी और उसके कागजात दिलाने को पांच दिन का समय दिया था, लेकिन तय समय सीमा में विधायक पक्ष ऐसा नहीं कर सका, लिहाजा भाकियू भी इसमें आगे नहीं आई।
इस मसले पर 16 सितंबर को कैराना की पूर्व सांसद तबस्सुम हसन सिसौली जाकर भाकियू सुप्रीमो नरेश टिकैत से मिली थीं। इसके बाद टिकैत ने इस मामले में मध्यस्थता कर डीएम और एसपी से वार्ता की, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें गाड़ी के कागजात दिखाने को पांच दिन का समय और दिया था। डीएम ने बताया था कि चौधरी नरेश टिकैत ने ये भी कहा कि यदि पांच दिन में कागजात और गाड़ी नहीं दी जाती तो वे भी इस मसले में कुछ नहीं कहेंगे।
शुक्रवार शाम पांच बजे दी गई समय सीमा बीतने के बाद शनिवार को पुलिस एक्शन मोड में आ गई। ऐसे में सबकी निगाहें भाकियू के रुख पर टिकी थी, लेकिन भाकियू इस मामले में शांत नजर आई। भाकियू सुप्रीमो नरेश टिकैत ने कहा कि इस मसले पर ना कोई उनसे मिला और ना ही किसी से बात हुई है। उधर, भाकियू जिलाध्यक्ष कपिल खाटियान ने बताया कि चौधरी साहब ने समाज हित को ध्यान में रखकर मध्यस्थता की थी, ताकि किसी धरने प्रदर्शन से किसी तरह का माहौल खराब ना हो, लेकिन किसी को कानून को भी हाथ में लेने का अधिकार नहीं है। पुलिस इस मामले में दुर्भावना से काम करने की बजाय कानून के दायरे में रहकर संयम से काम करे, पुलिस की कार्रवाई पूरी तरह कानूनी होनी चाहिए।
... और पढ़ें

नए पात्रों के लिए आवेदन करने का नहीं कोई मौका

शामली। सरकार की आयुष्मान योजना में जिले के 46092 गरीब परिवार शामिल है। इन परिवारों के सभी सदस्यों के गोल्डन कार्ड बनाए जाने है। मगर, अभी तक लगभग एक चौथाई कार्ड ही बन सके है। गोल्डन कार्ड बनाने की यह प्रक्रिया काफी धीमी गति से चल रही है। यही वजह है कि पात्र होेते हुए ही लोगों को योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। इसके अलावा जिले के कई हजार लोग योजना के पात्रता की सभी शर्तें पूरी करते है, लेकिन उन्हें आवेदन करने का मौका भी नसीब नहीं हो रहा है। वर्ष 2018 में योजना में शामिल होने वाले पात्रों के लिए आवेदन फार्म उपलब्ध थे, लेकिन नवंबर माह में ही आवेदन पत्र खत्म हो गए थे। इसके बाद से कोई आवेदन पत्र शासन की तरफ से उपलब्ध नहीं कराए गए है। यहीं कारण है कि पात्र लोग भी आयुष्मान केंद्रों के चक्कर काटने का मजबूर है। गांव मालैंडी निवासी राजू ने बताया कि वह आयुष्मान योजना का पात्र होने की शर्तें पूरी कर रहा है। कार्ड बनवाने के लिए आयुष्मान केंद्र पर कई बार जा चुका है, लेकिन उसे बताया जाता है कि नए पात्रों के लिए अभी न तो शासन के निर्देश है और न ही कोई आवेदन फार्म है। शनिवार को गांव रामड़ा निवासी मोहसिन सीएचसी में आयुष्मान केंद्र पर गोल्डन कार्ड बनवाने के संबंध में जानकारी लेने पहुंचे, लेकिन प्रधानमंत्री पत्र न होने व सूची में नाम न होने पर उनका कार्ड नहीं बन सका।
गोल्डन कार्ड बनाने के नाम पर अवैध वसूली
शामली। मोहल्ला रेलपार, दयानंद नगर और गौशाला रोड पर फर्जी तरीक से आयुष्मान योजना के गोल्डन कार्ड बनाने के लिए 100 रुपये तक की वसूली करने की शिकायतें मिल चुकी है। स्वास्थ्य अधिकारियों ने मौके पर जाकर जांच की तो कुछ लोगों द्वारा अवैध वसूली किए जाने की शिकायत सही पाई गई थी। पुलिस तक भी इस तरह की शिकायतें पहुंची, लेकिन इन मामलों में कोई कार्रवाई नहीं हुई। अगस्त में कुछ गांवों में आयुष्मान के कार्ड बनवाने के लिए फार्म भरवाने और इसके बदले 100 रुपये अवैध तरीके से वसूलने का भी मामला सामने आने पर सीएमओ डा. संजय भटनागर को बयान जारी करना पड़ा था। सीएमओ ने कहा था कि आयुष्मान के नाम पर किसी तरह के फार्म नहीं भरे जा रहे है और न ही शासन की तरफ से इस तरह की गाइड लाइन जारी हुई है।
आयुष्मान योजना की शहरी क्षेत्र के लिए पात्रता
भिखारी, कूड़ा बीनने वाले, घरेेलू कामकाज करने वाले, रेहड़ी-पटरी दुकानदार, मोची, फेरी वाले, सड़क पर कामकाज करने वाले, कंस्ट्रक्शन साइट पर काम करने वाले मजदूर, प्लंबर, राजमिस्त्री, मजदूर, पेंटर, वेल्डर, सिक्योरिटी गार्ड, कुली, भार ढोने वाले सफाई कर्मी, घरेलू काम करने वाले हैंडीक्राफ्ट का काम करने वाले, दर्जी, ड्राइवर, रिक्शा चालक, दुकान पर काम करने वाले लोग आदि आयुष्मान भारत योजना में शामिल होंगे।
आयुष्मान योजना की ग्रामीण क्षेत्र के लिए पात्रता
एक कमरे वाला कच्चे मकान में रहने वाले लोग, जिस घर में कोई व्यस्क 18 से 59 उम्र का सदस्य न हो, महिला मुखिया वाला घर, जिसमें कोई व्यस्क पुरुष सदस्य न हो, दिव्यांग व्यक्ति, अनुसूचित जाति या जनजाति से संबंधित लोग, भूमिहीन लोग जिनकी आमदनी का मुख्य जरिया हाथ से किए जाने वाले काम हो।
आयुष्मान में नए पात्र व्यक्तियों के जोड़े जाने की अभी कोई योजना नहीं है और न ही किसी तरह के फार्म भरे जा रहे है। शासन की तरफ से इस तरह की अभी कोई गाइड लाइन नहीं है। अगर कोई गोल्डन कार्ड बनाने की बात कहकर पैसे की वसूली करता है तो उसकी सूचना तत्काल संबंधित अधिकारी को दें। - डा. रूशी फातिमा, जिला प्रोग्राम कोआर्डिनेटर।
... और पढ़ें

तस्वीरें: इतनी पुलिसफोर्स देख सहम गए लोग, फिर इलाके में मच गया हड़कंप, सपा विधायक से जुड़ा है मामला

जाम का नहीं कोई समाधान

शामली। शहर में जाम की समस्या लाइलाज बनी हुई है। शहर में चौराहों और सड़कों पर जाम लगा रहने से वाहन चालक और राहगीर परेशान रहते हैं। अगले महीने गन्ना सीजन शुरू होने से जाम की समस्या और विकट हो जाने से लोगों की परेशानी बढ़ेगी, मगर पुलिस-प्रशासन ने जाम के समाधान के लिए अभी तक कोई कार्य योजना तैयार नहीं की है।
शहर में आए दिन लगने वाले जाम में लोग फंसने को मजबूर रहते हैं। शहर के हर मार्ग से लेकर चौराहे और बाजारों में जाम लगा रहता है। हल्के व भारी वाहनों से मुख्य मार्गों पर जाम लगता है तो बाजारों में ई-रिक्शाओं के कारण लोगों को जाम में फंसने को मजबूर होना पड़ता है। शनिवार को भी शहर में कई स्थानों पर जाम की स्थिति बनी रही।
एमएसके हनुमान रोड समय दोपहर एक बजे
शहर के बीच से गुजरने वाले एमएसके रोड हनुमान रोड पर दोनों तरफ दो पहिया और चार पहिया वाहनों के साथ प्राइवेट बस भी जाम में फंसी हुई थी। दुपहिया वाहन सवार लोग ऊपर नीचे होकर जाम से निकलने की कोशिश में लगे थे। कुछ देर बाद वाहन रेंग-रेंगकर चलने शुरू हुए। इसके बाद धीरे-धीरे जाम खुल सका। इसी तरह धीमानपुरा में भी जाम की स्थिति बनी रही।
मेरठ-करनाल हाईवे बुढ़ाना मोड़ समय डेढ़ बजे
शहर के बीच में बुढ़ाना मोड़ पर मेरठ की तरफ से आने व जाने वाले भारी वाहनों ट्रकों की लाइन लगी हुई थी। इनके बीच में रोडवेज बसें व कारें भी फंसी थी। जाम के कारण मेरठ की तरफ से आई बस से उतरकर पैदल शहर की तरफ जाते हुए दिखाई दिए। भारी वाहनों के बराबर से दोपहिया वाहन जैसे तैसे निकलकर जा रहे थे। राहगीरों जान जोखिम में डालकर वाहनों के बीच से निकल रहे थे। ऐसी हालत शहर मे विजय चौक, फव्वारा चौक, रेलपार बाईपास आदि स्थानों पर बनी रहती है।
गन्ना मंत्री ने जाम का समाधान करने के दिए निर्देश
शामली। प्रदेेश के कैबिनेट गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने शुक्रवार को कलक्ट्रेट में अधिकारियों की बैठक में शहर की जाम की समस्या को उठाया। गन्ना मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि अगले महीने गन्ने का सीजन शुरू हो रहा है। ऐसी व्यवस्था बनाई जाए, जिससे शहर में जाम न लगे और लोगों को किसी तरह की परेशानी न उठानी पड़े।
शहर में यातायात व्यवस्था को संचालन के लिए सभी प्रमुख चौराहों पर ट्रैफिक पुलिसकर्मी और प्रशिक्षित होमगार्ड की ड्यूटी रहती है। इसके अलावा कहीं भी वाहनों का जाम लगता है तो ट्रैफिक पुलिसकर्मी तत्काल मौके पर पहुंचकर यातायात संचालित कराते हैं।
-भंवर सिंह, यातायात प्रभारी।
... और पढ़ें

कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा बोले- समय से नहीं हुआ गन्ना भुगतान, तो शुगर मिलों के खिलाफ जारी होगी आरसी

उत्तर प्रदेश गन्ना विकास और चीनी उद्योग के कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा ने नए पेराई सत्र की चीनी मिलों की तैयारियों की समीक्षा करते हुए कड़े तेवर दिखाए। उन्होंने कहा कि 30 अक्तूबर से पहले चीनी मिलों का पेराई सत्र शुरू हो जाए। चीनी मिलों के पेराई सत्र शुरू होने से ही पिछले सत्र का किसानों का गन्ने का बकाया भुगतान साफ कर दिया जाए। निर्धारित समय पर भुगतान न करने वाली चीनी मिलों की आरसी जारी करके चीनी नीलाम की जाएगी।

शुक्रवार को कलक्ट्रेट सभाकक्ष में कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा ने पेराई सत्र 2018-19 के अवशेष गन्ना मूल्य चीनी मिलवार समीक्षा की। कहा कि पिछले पेराई सत्र वर्ष 2018-19 का बकाया गन्ना भुुगतान चीनी मिलों को शीघ्र भुगतान करने के निर्देश दिए। चीनी मिलों का पेराई सत्र 2019-20 हेतु 30 अक्तूबर से पहले समय से चलाई जाए। बकाया गन्ना भुगतान न करने वाली चीनी मिलों की विरुद्ध आरसी जारी करके दंडात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

यह भी पढ़ें: 
बर्तन, कपडे़ और चक्की लेकर कलक्ट्रेट पहुंचे किसान, आर-पार की लड़ाई का एलान, ये रहीं प्रमुख मांगें

गन्ना विकास मंत्री द्वारा यह भी निर्देश दिए गए हैं कि प्रत्येक चीनी मिल अपने सामाजिक दायित्व के तहत गन्ना कृषकों एवं जन सामान्य हेतु गन्ना यार्ड में किसानों की सुविधा के लिए चीनी मिल यार्ड में स्वच्छ पेयजल, बैठने की छायादार व्यवस्था शैड एवं जाडे में अलाव की सुविधा उपलब्ध कराए।

यह भी पढ़ें: यूपी: बकाया भुगतान को लेकर आर-पार के मूड में किसान, गन्ना भवन परिसर में चूल्हा-चौका लेकर डाला डेरा

डीएम शामली अखिलेश कुमार सिंह की मौजूदगी में हुई बैठक में सहारनपुर के तीन सहकारी चीनी मिलों एवं 14 निजी क्षेत्र के चीनी के उपगन्ना आयुक्त दिनेश्वर मिश्रा सहारनपुर, जिला गन्ना अधिकारी, सहारनपुर, जिला गन्ना अधिकारी, मुजफ्फरनगर, जिला गन्ना अधिकारी, शामली एवं परिक्षेत्र की चीनी मिलों के यूनिट हेड आदि मौजूद रहे।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree