विज्ञापन
विज्ञापन
यदि करना चाहते है शनि देव को प्रसन्न, तो शनि त्रयोदशी पर जरूर करें यह काम !
astrology

यदि करना चाहते है शनि देव को प्रसन्न, तो शनि त्रयोदशी पर जरूर करें यह काम !

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

यूपी: भाजपा के मंडल अध्यक्ष को पीटा, लेखपाल निलंबित, ये है पूरा मामला

जाति प्रमाणपत्र बनवाने तहसील पहुंचे भाजपा के बागपत देहात मंडल अध्यक्ष ओमबीर सिंह के साथ हल्का लेखपाल की कहासुनी हो गई। आरोप है कि लेखपाल ने तीन साथियों के साथ मिलकर भाजपा नेता को बंधक बना लिया और फिर पीटा। विरोध में भाजपा जिलाध्यक्ष सूरजपाल गुर्जर कार्यकर्ताओं के साथ तहसील पहुंचे और हंगामा किया, जिसके बाद लेखपाल को निलंबित कर दिया गया। 

निबाली गांव निवासी भाजपा के बागपत देहात मंडल अध्यक्ष ओमबीर सिंह ने बताया कि वह अपने परिचित संघ के पदाधिकारी की बेटी का जाति प्रमाणपत्र बनवाने के लिए तहसील पहुंचे थे। आरोप है कि हल्का लेखपाल सुरेंद्र ने उन्हें एक लड़के के पास भेज दिया, जो कि निजी तौर पर रख रखा था। लड़के ने उनसे एक हजार रुपये मांगे। विरोध किया तो कहासुनी हो गई। लेखपाल भी मौके पर पहुंच गए। अपने सहयोगी अमित और दो अन्य लोगों के साथ मिलकर ओमबीर सिंह को नायब तहसीलदार के कमरे में खींच लिया और मारपीट की। उनकी जेब से मोबाइल और 1900 रुपये भी निकाल लिए। 

वहीं तहसील में मौजूद एक कार्यकर्ता ने भाजपा जिलाध्यक्ष सूरजपाल गुर्जर को जानकारी दी। जिलाध्यक्ष, बड़ौत चेयरमैन अमित राणा, विधि प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष नरेंद्र पंवार समेत अन्य पदाधिकारी और कार्यकर्ता तहसील पहुंचे और हंगामा किया। पुलिस के साथ भाजपा कार्यकर्ताओं की नोकझोंक हुई। एडीएम अमित कुमार सिंह, एसडीएम अनुभव कुमार से कार्यकर्ताओं ने लेखपाल के निलंबन की मांग रखी। करीब दो घंटे तक बातचीत चलती रही। 

यह भी पढ़ें: 
मेरठ के हर्षित ने एक अंगूठी में जड़ दिए 12638 हीरे, गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज कराया नाम

एडीएम अमित कुमार सिंह ने बताया कि लेखपाल को निलंबित कर दिया गया है। प्रकरण की विस्तृत जांच तहसीलदार को सौंपी गई है।
... और पढ़ें

भाकियू अध्यक्ष नरेश टिकैत की दो टूक, कहा-बातचीत से समस्या का समाधान करे सरकार

नए कृषि कानूनों को लेकर चल रहे किसान आंदोलन को उत्तर प्रदेश के विभिन्न किसान संगठनों को समर्थन मिला है। वहीं पश्चिमी से भाकियू, रालोद व अन्य किसान संगठनों ने आंदोलन के समर्थन में दिल्ली कूच किया है। गुरुवार को भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत भी किसान महापंचायत में शामिल होने पहुंचे। उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्य है कि किसान सड़कों पर है, सरकार को बातचीत कर किसानों की समस्या का समाधान करना चाहिए। 

उन्होंने कहा कि सरकार को किसानों की समस्याओं को सुनना चाहिए। सरकार बातचीत करके समस्या का समाधान करें। अन्नदाता किसान अपने खेत खलियान और घर को छोड़कर सड़कों पर पड़ा है इससे बड़ा और दुर्भाग्य किसान का और क्या हो सकता है। 

आंदोलन को लेकर उन्होंने कहा कि दिल्ली में बातचीत के बाद किसान संगठनों की निर्णायक कमेटी जो फैसला लेगी उसी के अनुसार आंदोलन की रणनीति बनाई जाएगी।
... और पढ़ें

बिजनौर: डकैती की योजना बनाते सात बदमाश दबोचे, खुला कई वारदातों का राज

बिजनौर में पुलिस ने लूट का खुलासा किया है। लूट में शामिल सात बदमाशों को डकैती की योजना बनाते समय लूटी गई रकम, तीन तमंचे व चाकू के साथ दबोचा है। गैंग ने कई घटनाओं में अपना हाथ होना स्वीकार किया है।

एसपी डॉ. धर्मवीर सिंह के मुताबिक, 27 नवंबर को चांदपुर में एयरटेल मनी ट्रांसफर की दुकान में तीन बदमाश एक बैैग लूटकर ले गए थे। बैग में एक लाख 45 हजार रुपये थे। मोहल्ला सरायरफी निवासी मो. शादाब ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

स्वाट व पुलिस टीम ने बास्टा मार्ग स्थित कुरैशी फार्म हाउस से डकैती की योजना बना रहे अमरोहा जिले के मंडी धनौरा के मोहल्ला गांधी नगर निवासी आसिफ, मोहल्ला कटरा निवासी सलमान, बछरायूं थाने के मोहल्ला शेखजादगान निवासी जुनैद, चांदपुर के मोहल्ला मुफ्ती सराय निवासी फैसल, मोहल्ला चाहसंग निवासी कामरान, मोहल्ला सरायरफी निवासी शाहिद व अमन को लूटे गए 17700 रुपये, दो तमंचे 315 बोर, एक तमंचा 12 बोर, दस कारतूस, चार चाकू, एक मोबाइल, एक बाइक व आधार कार्ड के साथ दबोचा है।

वहीं पकड़े गए बदमाशों से पूछताछ की गई तो आसिफ ने बताया कि सलामान, जुनैद ,फैसल, कामरान, शाहिद व आसिफ आपस में दोस्त हैं। उनका गैंग लूट चोरी की घटनाओं को अंजाम देता है। उन्हेें पता चला कि एयरटेल मनी ट्रांसर्फर की दुकान में खूब लेन-देन होता है। गैंग ने मिलकर लूट की योजना बनाई। 27 नवंबर को कामरान, फैसल व शाहिद ने पहले दुकान की रेकी की। गैंग ने मिलकर लूट की, जिसमें 36200 रुपये व मोबाइल मिला। आरोपियों ने लूट की रकम का आपस में बंटवारा कर लिया।

यह भी पढ़ें: 
किसान आंदोलन: बाबा टिकैत जैसा नहीं दिख रहा जोश, पश्चिमी यूपी शांत, दिल्ली में गर्मा रही किसान सियासत

फैसल ने पुलिस को बताया कि 15 दिन पहले शाहिद व अमन के साथ उसने हीमपुर थाने के गांव पीपलीजट के पास से एक बाइक लूटी थी। बाइक की नंबर प्लेट फेंक दी थी। एक माह पहले एक बाइक से बैग चोरी किया था। बैग व कागज जला दिए थे। आधार कार्ड का गलत प्रयोग करने के लिए अमन को दिया था। अन्य थाना क्षेत्रो मे भी गैंग ने कई घटना की हैं। गैंग डकैती डालने के इरादे से था तभी पुलिस ने दबोच लिया। एसपी ने बताया कि गैंग पर कई मुकदमे दर्ज हैं। गैंग को पंजीकृत करके गैंग के सदस्यों की हिस्ट्रीशीट खोली जाएगी।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

पश्चिमी यूपी में एक बार फिर निश्चिंत हुई भाजपा, कांड और आंदोलन से बेअसर रहा चुनाव

किसानों के आंदोलन के बीच हुए विधान परिषद की शिक्षक और स्नातक सीटों के नतीजों ने 2022 की तैयारी में जुटी भाजपा के लिए पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अच्छा संकेत दिया है। यहां का सामुदायिक ध्रुवीकरण फिलहाल भाजपा के पक्ष में बना हुआ है। ध्रुवीकरण, बूथ प्रबंधन और पन्ना प्रभारी की योजना के जरिए भाजपा ने मेरठ-सहारनपुर मंडल में माध्यमिक शिक्षक संघ के आधी सदी में बनाए गए किले को ध्वस्त कर दिया है। इस सीट के अलावा बरेली-मुरादाबाद के परिणाम/ रुझान के आधार पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भाजपा निश्चिंत हो सकती है। हालांकि बसपा के चुनाव मैदान से अलग रहने का भी भाजपा को लाभ मिला है।

नवंबर में छह विधानसभा की छह सीटों के लिए हुए उपचुनाव में इसी ध्रुवीकरण ने उसे जीत दिलाई थी। हाथरस कांड के बाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश को लेकर लगाई जा रही अटकलें तब धरी की धरी रह गईं, जब सहानुभूति लहर के बीच बुलंदशहर में बसपा दूसरे नंबर पर आ गई। फिरोजाबाद की टूंडला और अमरोहा की नौगावां सादात सीट पर सपा प्रत्याशी दूसरे स्थान पर रहे थे। किसान आंदोलन से इससे पहले हाथरस कांड को लेकर भी सियासत गर्माई थी और विपक्ष भी एकजुट था। 

मौके पर पहुंचे रालोद उपाध्यक्ष जयंत चौधरी के साथ पुलिस की बदसुलूकी की घटना के बाद मुजफ्फरनगर और मथुरा में महापंचायत हुई थी। इसमें जुटे नेताओं और भीड़ से एकबारगी लगा था कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश से सरकार को इसका जवाब मिलेगा लेकिन यह केवल जाट स्वाभिमान का आंदोलन का प्रतीक भर बनकर रह गया। बुलंदशहर सीट पर रालोद-सपा गठबंधन के प्रत्याशी प्रवीण कुमार से ज्यादा वोट तो कांग्रेस के सुशील चौधरी ने हासिल किए थे। इन नतीजों से साफ हो गया था कि भाजपा के समीकरण प्रभावित नहीं हुए हैं।

अब भाजपा ने 2020 के अंत में जो इबारत लिखी है, वह 2022की शुरुआत में 2017 की ही तरह दोहराए जाने के आसार हैं। जानकार मानते हैं कि सपा-रालोद के बीच पहले जैसी केमिस्ट्री नहीं रह गई है। मजबूत विपक्ष न होने के कारण पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भाजपा अपनी ताकत और चुनावी प्रबंधन के कौशल का जरूरत के हिसाब से इस्तेमाल कर सकेगी।

आसपा के असर पर भाजपा-बसपा की नजर
बुलंदशहर उपचुनाव में आजाद समाज पार्टी (आसपा) को मिले वोटों से तय हो गया है कि 2022 में चंद्रशेखर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में फोकस करेंगे। कहा जा रहा है कि आसपा ने कुछ सीटें चिह्नित करने के साथ ही मुस्लिम प्रत्याशी भी तय कर लिए हैं। सांप्रदायिक ध्रुवीकरण रोकने के लिए भाजपा और बसपा ने अंदरूनी रणनीति बनाई है। मुनकाद अली को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाना इसी का हिस्सा है।

मजबूती से नहीं उठ पाएंगे कर्मचारियों के मुद्दे
उच्च सदन में जिस तरह से माध्यमिक शिक्षक संघ के शर्मा गुट की संख्या कम हुई है, उससे जाहिर है कि शिक्षकों के साथ-साथ कर्मचारियों के मुद्दे भी मजबूती के साथ नहीं उठ सकेंगे। अभी तक शर्मा गुट कर्मचारियों की ढाल बनकर सरकार से मोर्चा लेता था। संभावना यह भी है कि प्रदेश में शिक्षा सुधार या सुविधाओं में कटौती के लंबित मामले पारित कराने के लिए सरकार को ज्यादा जद्दोजहद नहीं करनी पड़ेगी।
... और पढ़ें
विरोध के स्वर... विरोध के स्वर...

हवा की रफ्तार धीमी मेरठ महानगर का वातावरण और हुआ प्रदूषित, 400 के पार पहुंचा एक्यूआई

मेरठ में रफ्तार धीमी पड़ने से हवा और जहरीली हो गई है। वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 400 के पार पहुंच गया। शुक्रवार को महानगर का एक्यूआई 404 दर्ज किया गया। देश के सबसे प्रदूषित शहरों में गाजियाबाद 443 दूसरे स्थान पर और कानपुर पहले नंबर पर रहा। 

प्रदूषण फैला रहा रोडी मिक्स्चर प्लांट 
कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र के जंगेठी गांव में कुछ माह पहले लगा रोडी मिक्स्चर प्लांट प्रदूषण फैला रहा है। प्रशासन से शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। क्षेत्र के ग्रामीणों का कहना है कि प्रदूषण पर शिकंजा कसने के लिए पूरे एनसीआर में मिक्स्चर प्लांट और कोल्हू बंद कराए जा रहे हैं लेकिन जंगेठी में लगे रोडी मिक्स्चर प्लांट को उच्चाधिकारियों से शिकायत करने के बावजूद भी बंद नहीं कराया जा रहा है।

इस प्लांट से प्रदूषण फैलने के साथ ही ग्रामीणों को सांस लेने में भी दिक्कत हो रही है। क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी डॉ. योगेंद्र कुमार का कहना है कि शनिवार को प्लांट बंद कराया जाएगा। 

कोहरा छाया, पारा गिरा
मोदीपुरम।मौसम में आए बदलाव के साथ ही कड़ाके की ठंड का दौर शुरू होने जा रहा है। बृहस्पतिवार आधी रात के बाद और शुक्रवार सुबह 10 बजे तक घना कोहरा छाया रहा जो इस सीजन का पहला कोहरा रहा। दृश्यता शून्य रही। हाईवे और मुख्य मार्गों के अलावा कॉलोनियों में भी पास का दिखाई नहीं दे रहा था।

कृषि विश्वविद्यालय के मौसम विभाग के प्रभारी डॉ. यूपी शाही का कहना है कि मैदानी इलाकों में सर्द हवाएं चलने से तापमान में और गिरावट आएगी। शुक्रवार को रात के तापमान में 1.7 डिग्री व दिन के तापमान में 1 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई। हवा की रफ्तार चार किमी प्रतिघंटा रही। 
... और पढ़ें

यूपी: एमएलसी चुनाव में टूटा 48 साल का रिकॉर्ड, भाजपा प्रत्याशी श्रीचंद शर्मा जीते, जश्न शुरू

मेरठ-सहारनपुर शिक्षक खंड के विधान परिषद चुनाव में इस बार इतिहास रचा गया। भाजपा प्रत्याशी श्रीचंद शर्मा ने जीत हासिल कर पूरे 48 साल से कायम रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। वहीं जीत के बाद अपर आयुक्त रजनीश राय ने मेरठ खंड शिक्षक निर्वाचन के निर्वाचित घोषित श्रीचंद शर्मा को प्रमाण पत्र दे दिया है।

परतापुर स्थित कताई मील में स्नातक सीट को लेकर चल रही मतगणना में भाजपा प्रत्याशी दिनेश गोयल बढ़त बनाए हुए हैं। छह राउंड की मतगणना के बाद दिनेश गोयल 14687 मत प्राप्त कर पहले स्थान पर बने हैं। दूसरे स्थान पर शिक्षक नेता हेम सिंह पुंडीर है, जिन्होंने 5176 मत प्राप्त किए हैं। दोनों प्रत्याशियों के बीच के अंतर की बात करें तो दिनेश गोयल 9511 मतों से आगे हैं। हर राउंड के बाद बढ़त का आंकड़ा चढ़ता जा रहा है। अन्य प्रत्याशियों में डॉक्टर हरविंदर 2851 मत लेकर तीसरे, कांग्रेस प्रत्याशी जितेंद्र गौड़ 2542 मत हासिल कर चौथे, निर्दलीय प्रत्याशी अर्चना शर्मा 2322 मत प्राप्त कर पांचवें और सपा उम्मीदवार शमशाद अली 2151 मत लेकर छठे स्थान पर हैं। 

मतगणना स्थल पर सुरक्षा को लेकर कड़े इंतजाम किए गए हैं। दोपहर में मंडलायुक्त अनीता सी. मेश्राम और आईजी रेंज प्रवीण कुमार ने मतगणना स्थल का जायजा लिया और आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उनके अलावा जिलाधिकारी के. बालाजी, एसएसपी अजय साहनी, एडीएम सिटी अजय तिवारी, एडीएम वित्त एवं राजस्व सुभाष चंद प्रजापति, एसपी ट्रैफिक जितेंद्र कुमार श्रीवास्तव भी मतगणना स्थल पर मौजूद रहे।

मेरठ-सहारनपुर शिक्षक खंड के विधान परिषद सदस्य के लिए प्रथम वरीयता की मतगणना में भाजपा प्रत्याशी श्रीचंद शर्मा ने 7,186 वोट प्राप्त कर माध्यमिक शिक्षक संघ (शर्मा गुट) के ओम प्रकाश शर्मा से 4,232 वोटों की निर्णायक बढ़त बनाई। इसके बाद दूसरी वरीयता की मतगणना शुरू हो गई है। प्रकाश शर्मा 48 साल से लगातार विधान परिषद के सदस्य रहे हैं। स्नातक खंड की मतगणना गुरुवार रात तक शुरू नहीं हो पाई। मतपत्र खोलने का काम चल रहा था। 

शिक्षक सीट पर भाजपा की जीत तय हो चुकी है। यदि दूसरी वरीयता में भाजपा प्रत्याशी निर्धारित पचास प्रतिशत और उससे एक वोट ज्यादा नहीं भी ले पाते हैं तो सर्वाधिक वोट पाने पर उन्हें विजयी घोषित कर दिया जाएगा। प्रथम वरीयता की मतगणना में कुल मतदान 19,217 में से भाजपा प्रत्याशी ने 7,186 वोट प्राप्त किए, जबकि माध्यमिक शिक्षक संघ के ओम प्रकाश शर्मा ने 2954, माघ्यमिक शिक्षक संघ (ठकुराई गुट) के डॉ. उमेश त्यागी ने 1,962 वोट प्राप्त किए। 1,121 वोट निरस्त हो गए।  

अब दूसरी वरीयता की मतगणना में भाजपा प्रत्याशी को 9,049 वोट प्राप्त करने होंगे, लेकिन यदि इसे प्राप्त नहीं कर पाते हैं तो भी उनकी जीत तय है, क्योंकि वह अपने निकटतम प्रत्याशियों से बहुत आगे निकल चुके हैं। ऐसे में भाजपा प्रत्याशी की जीत तय हो चुकी है, लेकिन नियमानुसार दूसरी वरीयता की मतगणना की जा रही है।

यह भी पढ़ें: 
मेरठ के हर्षित ने एक अंगूठी में जड़ दिए 12638 हीरे, गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज कराया नाम

सपाइयों ने किया हंगामा 
मतगणना के बाद समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर अन्य प्रत्याशियों के समर्थकों ने फर्जी वोट बनवाने और सत्ता पक्ष के दबाव में चुनाव कराने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। वहीं शिक्षक संघ शर्मा गुट के अध्यक्ष और वर्तमान शिक्षक एमएलसी ओमप्रकाश शर्मा ने मतगणना के बाद कहा कि फर्जी वोट और फर्जी मतदान के जरिये भाजपा ने यह चुनाव जीता है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

यूपी: सामने आई हादसे की बड़ी वजह, बच्चों की मौत से तीन परिवारों में मचा कोहराम, तस्वीरें

प्रमाण पत्र देते हुए

मोस्ट वांटेड बद्दो के साथी पपीत बढ़ला ने कोर्ट में किया सरेंडर, भारी पुलिस बल तैनात

ढाई लाख के इनामी मोस्ट वांटेड बदन सिंह बद्दो के साथी पपीत बढ़ला ने शुक्रवार को कोर्ट में सरेंडर कर दिया। इस दौरान कचहरी में भारी पुलिस बल तैनात रहा। पपीत बढ़ला को कोर्ट से जेल भेज दिया गया है। 

यह भी पढ़ें: 
दर्दनाक हादसा: रोडवेज बस ने तीन बच्चों को कुचला, मौके पर मौत, परिवार में मचा कोहराम

वहीं पुलिस को आशंका थी कि गुरुवार को वह कोर्ट आ सकता है। इसको लेकर तैयारी की गई थी। सीओ ब्रह्मपुरी अमित कुमार राय का कहना था कि शुक्रवार को पपीत कोर्ट में सरेंडर कर सकता है।

होटल से फरार हुआ था बद्दो
28 मार्च, 2019 को बद्दो पुलिस कस्टडी से दिल्ली रोड स्थित मुकुट महल होटल से फरार हुआ था। बद्दो का बेटा सिकंदर भी साथ था। मामले में पुलिस ने होटल मालिक मुकेश गुप्ता, अनिल छाबड़ा, सोनू सहगल, लल्लू मककड़, एतेहशाम, भानू प्रताप सिंह समेत दो दर्जन से अधिक लोग जेल भेजे थे। पुलिस ने अब फिर इन्हें जेल भेजने की तैयारी कर ली है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

यूपी: गंगा सर्किट में शामिल होने से चमकेगा बिजनौर का पर्यटन, देखिए ये तस्वीरें

बिजनौर से बलिया तक गंगा सर्किट बनाने की कवायद चल रही है। बिजनौर के बालावाली, महात्मा विदुर की कुटी व गंगा बैराज को गंगा सर्किट में शामिल करने के बाद कॉरीडोर बनाने का बीड़ा उठाया गया है। ये आपस में जुड़े तो धार्मिक पर्यटन बढ़ने के साथ जिले में विकास की नई बयार बहेगी। पर्यटन के पटल पर बिजनौर अलग से चमकेगा। 

बिजनौर से बलिया तक गंगा किनारे के 27 शहरों व जिलों के धार्मिक स्थलों को गंगा सर्किट के रूप में विकसित करने की कवायद शुरू हो गई है। पर्यटन विभाग की ओर से इसका प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा गया है। बिजनौर के महात्मा विदुर की कुटी, बालावाली, व गंगा बैराज को गंगा सर्किट  में शामिल करने की कवायद चल रही हैं। जिले में धार्मिक स्थलों को गंगा से जुड़ने से जिले में पर्यटन केंद्र के रूप में ये विकसित होंगे। तमाम पर्यटकों की फिर यहां आने की संभावना है।
... और पढ़ें

यूपी: कार लूटने के इरादे से की गई थी चालक की हत्या, पुलिस ने ऐसे किया खुलासा

शामली में झिंझाना के गागोर में मिल रोड पर चालक की हत्या कार लूटने के इरादे से की गई थी। पुलिस ने केस का खुलासा करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से तमंचा और हत्या में इस्तेमाल की गई कार बरामद की है। इस मामले में दो आरोपी अभी फरार चल रहे है। 

शुक्रवार को एसपी सुकीर्ति माधव ने बताया कि दो दिन पहले बुधवार सुबह करीब आठ बजे एक व्यक्ति का गोली लगा शव गागोर के निकट मिल रोड पर ईंख के खेत से बरामद हुआ था। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर छानबीन की थी। मृतक की पहचान राजकुमार शर्मा निवासी मोहल्ला ब्राहमणान झिंझाना के रूप में हुई। मृतक के भाई रामकुमार ने थाना झिंझाना पर प्रदीप उर्फ टीनू निवासी गांव दरगाहपुर और रोहित निवासी गांव ताना उसके अज्ञात साथियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। गुरुवार रात को पुलिस ने हत्या में शामिल तीन आरोपी निरंकार निवासी गांव दरगाहपुर, दीपक उर्फ लीला निवासी गांव जिवाना थाना बिनौली जनपद बागपत और रोहित निवासी गांव ताना थाना गढ़ीपुख्ता को गिरफ्तार किया गया। उनके कब्जे से तमंचा, कारतूस और हत्या में इस्तेमाल कार बरामद की गई है। 

यह भी पढ़ें: 
खौफनाक हादसा: लाशों को देख कांप गई लोगों की रूह, मासूम बच्चों की मौत से मचा कोहराम, तस्वीरें

एसपी के मुताबिक, आरोपी रोहित ने पूछताछ में बताया कि एक दिसंबर की रात को उसने, प्रदीप उर्फ टीनू, दीपक उर्फ लीला और सचिन उर्फ जोंटी निवासी दरगाहपुर ने कार लूटने के इरादे से चालक राजकुमार की गोली मारकर हत्या की थी। हत्या के बाद आरोपी निरंकार ने अपनी कार से उन्हें लेकर गया था। घटना के दौरान कार खेत में फंस गई थी, जिसे वे बाहर नहीं निकाल पाए और मौके से फरार हो गए थे। इस हत्याकांड में अभी दो आरोपी प्रदीप उर्फ टीनू और सचिन उर्फ जोंटी फरार है, जिनकी तलाश में पुलिस टीमें लगी हुई है। गिरफ्तार दीपक उर्फ लीला पर बागपत और छपरौली थाने पर पूर्व में कई मुकदमे दर्ज हैं।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

एमएलसी चुनाव: ओम प्रकाश शर्मा की हार से शिक्षक संघों को बड़ा झटका, पढ़िए खास रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश की शिक्षक राजनीति के भीष्म पितामह माने जाने वाले ओम प्रकाश शर्मा ने पूरे पचास साल परचम लहराया। शिक्षक हितों के आंदोलन को लेकर वह माध्यमिक शिक्षक संघ (शर्मा गुट) के बैनर तले हर सरकार के लिए चुनौती भी बने रहे। शिक्षक संघ के अन्य गुटों ने शर्मा के वर्चस्व को चुनौती देने का प्रयास किया, लेकिन असफल रहे। इस बार भाजपा ने उनके वर्चस्व को तोड़ दिया, बल्कि आने वाले चुनावों में दूसरे शिक्षक संघों के लिए भी बड़ी चुनौती पेश कर दी है। 

ओम प्रकाश शर्मा ने विधान परिषद का पहला चुनाव 1970 में जीता था। इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। अंतिम चुनाव उन्होंने 2014 में जीता था। शर्मा की लोकप्रियता 90 के दशक में इतनी थी कि सुबह आठ बजे मतगणना शुरू हुई और साढ़े 10 बजे तक उन्हें प्रथम वरीयता के 50 प्रतिशत से ज्यादा वोट मिल गए थे। 

प्रबंध समिति की राजनीति का खामियाजा
भाजपा की जीत का सबसे बड़ा तथ्य उसके द्वारा शिक्षकों के वोट बनवाए जाने हैं। वहीं यह बात भी चर्चा में है कि शर्मा शिक्षकों की कम बल्कि प्रबंध समिति की राजनीति ज्यादा करने लगे थे। वित्त विहीन कॉलेज के शिक्षकों के लिए भी उन्होंने कोई सार्थक प्रयास नहीं किया, उल्टे शिक्षक-अभिभावक संघ का विरोध किया। जानकारों के मुताबिक जिस तरह भाजपा ने इस चुनाव में जीत हासिल की है, उससे भविष्य की पटकथा भी साफ नजर आ रही है।

उत्तराधिकारी की घोषणा कर पलट गए
इस बार शर्मा ने लगभग 80 साल की उम्र में नौवां चुनाव लड़ा। आठ बार लगातार जीतने और अपने गुट से स्नातक सीट पर भी प्रत्याशियों की जीत सुनिश्चित कराने वाले शर्मा उत्तराधिकारी तैयार नहीं कर पाए। 1990 का चुनाव जीतने के बाद शर्मा ने घोषणा की थी कि यह उनका अंतिम चुनाव है। हरिओम शर्मा उत्तराधिकारी होंगे। बावजूद इसके अगले चुनाव में वह खुद उतर आए। नतीजतन, हरिओम ने दूरी बना ली। यही नहीं, नरेंद्र करुण ने उनसे बगावत कर चुनाव भी लड़ा। नित्यानंद शर्मा भी उनसे दूर हो गए। तीनों की ही 1990 के दशक में शर्मा का उत्तराधिकारी माना जाता था।

यह भी पढ़ें: 
किसान आंदोलन: बाबा टिकैत जैसा नहीं दिख रहा जोश, पश्चिमी यूपी शांत, दिल्ली में गर्मा रही किसान सियासत
... और पढ़ें

मेरठ में कोरोना का कहर जारी, एक दिन में मिले 222 नए मरीज, एक महिला की मौत

मेरठ में कोरोना से गुरुवार को एक महिला की मौत हो गई, जबकि 222 नए मरीज मिले हैं। 34 वर्षीय महिला परतापुर की रहने वाली थी। अब तक 378 मरीजों की मौत हो चुकी है। नए मरीजों में मेडिकल स्टाफ समेत छह हेल्थ केयर वर्कर, शिक्षक-शिक्षिका, घरेलू महिलाएं, कारोबारी, स्टूडेंट्स और नौकरी पेशा आदि शामिल हैं।

सैंपलों के हिसाब से करीब 3.4 प्रतिशत मरीज पॉजिटिव आए हैं। अब मरीजों की संख्या 18371 हो गई है। 6559 सैंपलों की जांच हुई। 145 मरीजों की छुट्टी हुई है। इस तरह अब तक 15782 मरीजों की छुट्टी हो चुकी है। जनपद में अब 2211 एक्टिव मरीज हैं और 1128 लोग होम आइसोलेशन में हैं।

बता दें कि नए मरीज गंगानगर, शारदा रोड, मास्टर कॉलोनी, ब्रह्मपुरी, माधवपुरम, सिवाया, इस्लामाबाद, शास्त्री नगर, जागृति विहार, सोमदत्त विहार, संजय नगर, टीपी नगर, कंकरखेड़ा, रामनगर, कसेरूखेड़ा, कसेरू बक्सर, वेद व्यास पुरी, मानसरोवर, वैशाली कॉलोनी, पल्लवपुरम और विवेक विहार के रहने वाले हैं।

यह भी पढ़ें: 
यूपी: भाजपा के मंडल अध्यक्ष को पीटा, लेखपाल निलंबित, ये है पूरा मामला

‘सेंट थॉमस स्कूल में अब कोई संक्रमित नहीं’
गुरुवार को एक मैसेज वायरल हुआ कि सेंट थॉमस इंग्लिश मीडियम स्कूल के दो शिक्षक और अन्य स्टाफ के लोग कोरोना संक्रमित हो गए हैं, जबकि यहां का एक टीचर और दो स्टाफ अक्तूबर में संक्रमित हुए थे, जो अब निगेटिव हो चुके हैं। जब यह मामला सेंट थॉमस प्रबंधन को पता चली तो प्रिंसिपल की तरफ से एक पत्र जारी किया गया, जिसमें स्पष्ट किया गया कि अब कोई संक्रमित नहीं निकला है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X