विज्ञापन

बस्ती

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

बस्ती: लापता युवती का तालाब में मिला शव, सहेली के घर जाने की बात कहकर निकली थी लड़की

बस्ती जिले में 24 घंटे पहले घर से लापता युवती का थाना क्षेत्र के पुरसिया गांव के पश्चिम तरफ तालाब में शव मिला। जिसे देख ग्रामीणों में सनसनी फैल गई। कुछ देर में ही आसपास के लोगों की भीड़ जुट गयी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर घटना की जानकारी उच्च अधिकारियों को दिया। सूचना पर पहुंची फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल पर नमूने एकत्र किए।

शव की पहचान पुरसिया निवासिनी 18 वर्षीय सोनाली सिंह पुत्री अवधेश सिंह के रूप में हुई। पुलिस की पूछताछ में परिजनों ने बताया कि वह बृहस्पतिवार को सहेली के घर जाने की बात कहकर दोपहर बाद घर से निकली थी। लेकिन वह कब और कैसे तालाब में पहुंच गई, इसकी जानकारी किसी को नहीं है।

मौत की खबर से घर में कोहराम मच गया। मृतका की मां उषा देवी बहन चांदनी, भाई आलोक, मनोज, सहित परिवार के सभी लोगों का रो रोकर बुरा हाल है। थानाध्यक्ष दुर्विजय ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। युवती की मौत कैसे हुई यह पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट किया जा सकता है।
... और पढ़ें

बस्ती: 15 हजार रुपये का इनामी अस्पताल संचालक गिरफ्तार, पांच महीने से थी पुलिस को तलाश

बस्ती जिले के कोतवाली पुलिस ने 15 हजार के इनामी वांछित आरोपी को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया है। प्रभारी निरीक्षक कोतवाली शिवाकांत मिश्र के नेतृत्व में चौकी प्रभारी पटेल चौक सर्वेश कुमार थाना कोतवाली मय पुलिस टीम ने बड़ेवन के पटेल चौक के पास स्थित बांबे गैरेज के पास से सुबह साढ़े दस बजे सोनहा थाने के शाहपुर निवासी अनिरुद्ध पटेल को गिरफ्तार किया। पुलिस के मुताबिक उसके विरुद्ध इंडियन मेडिकल काउंसिल एक्ट, आपदा प्रबंधन अधिनियम, औषधि एवं प्रसाधन अधिनियम एवं महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

पुलिस के अनुसार कोतवाली थाना क्षेत्र के पचपेड़िया रोड पर बिना रजिस्ट्रेशन के अवैध रूप से आस्था हॉस्पिटल संचालित किया जा रहा था। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान इस हॉस्पिटल की ओर से ऑक्सीजन सिलिंडर की मनमानी कीमत वसूलने की शिकायत के बाद एसडीएम सदर और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छापा मारा था।

मौके पर ऑक्सीजन सिलिंडर की बरामदगी की गई थी। अस्पताल में मरीज भर्ती मिले थे। जांच में अस्पताल के बिना रजिस्ट्रेशन संचालित होना पाए जाने के बाद सील करने की कार्रवाई की गई थी।

19 मई 2021 को हुई कार्रवाई के दौरान मौके से एक की गिरफ्तारी की गई थी, जबकि अस्पताल का मुख्य संचालक सोनहा क्षेत्र के शाहपुर गांव निवासी अनिरुद्ध पटेल उर्फ विधायक मौके से फरार हो गया था।
... और पढ़ें

बस्ती : डंडे से पीटकर सास की हत्या, बहू का इनकार, जांच में जुटी पुलिस

थाना क्षेत्र के बरहुआ गांव में सास-बहू के झगड़े में हुई मारपीट के दौरान 55 वर्षीय महिला की मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने आरोपित बहू को हिरासत में ले लिया है। घटना बुधवार देर रात सवा 10 बजे की बताई जा रही है। घटना के वक्त परिवार के बाकी लोग कहीं गए हुए थे। 

पुलिस के अनुसार गांव की 55 बर्षीय इंद्रवती पत्नी स्व हरिराम को उसकी बहू ने मारा पीटा जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गयी। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस घायल इंद्रावती को जिला अस्पताल ले गई जहाँ पर उसे मृत घोषित कर दिया गया। थानाध्यक्ष दुर्विजय ने बताया कि घटना के सम्बंध में आरोपित 26 वर्षीय माधुरी पत्नी सिंटू को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। 

शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। क्षेत्राधिकारी सदर शक्ति सिंह एवं थानाध्यक्ष वाल्टरगंज मौके पर पहुंचे एवं दोनों के बीच हुए विवाद की वजह के बारे में अगल-बगल के लोगों से पूछताछ कर रहे हैं।

पुलिस की पूछताछ में बहू ने बताया कि आम के पेड़ से टकराकर सिर में  चोट लगी है जबकि पुलिस की पूछताछ में  ग्रामीणों का कहना है कि बहु ने उसे लाठी डंडे से मारकर घायल किया जिससे उसकी मौत हो गई। 
... और पढ़ें

Police Encounter: ट्रैक्टर चोरों के गिरोह से पुलिस की मुठभेड़, तीन गिरफ्तार

बस्ती जिले के थाना कोतवाली पुलिस व एंटी व्हीकल थेफ्ट टीम की संयुक्त टीम के साथ कोतवाली क्षेत्र के हरदिया बरगदवां के पास शुक्रवार तड़के करीब तीन बजे हुई मुठभेड़ में अंतर्जनपदीय ट्रैक्टर-ट्राली चोरी करने वाले गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को देख चोरों ने फायर कर दिया। जिसकी गोली एक सिपाही के हाथ को छीलते गुजर गई। पुलिस की जवाबी फायरिंग में एक बदमाश देवेश के पैर में गोली लगी है। जिसे इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा गया। बदमाशों के कब्जे से पुलिस ने चोरी के दो ट्रैक्टर, तमंचा कारतूस व खोखा बरामद किया गया है।

गिरफ्तार बदमाशों में देवेश उर्फ नारायण निवासी भलेंद्री नगमा थाना खजनी जनपद गोरखपुर, आत्मा साहनी निवासी जौहरी थाना सिकरीगंज जनपद गोरखपुर और कन्हैया उर्फ वकील निवासी ग्राम सिंगापुर अयोध्या थाना पुरंदरपुर जनपद महाराजगंज शामिल है।

पूछताछ करने पर आरोपी देवेश उर्फ नारायण व आत्मा साहनी ने बताया गया कि 10-12 दिन पहले बड़ेवन हाईवे पर स्थित गिट्टी-बालू की दुकान से स्वराज ट्रैक्टर ट्राली हम लोगों ने अतुल उर्फ़ अवध के साथ मिलकर चुराया था। जिसे कन्हैया उर्फ़ वकील को रुपये 60 हज़ार में बेच दिए थे। जिसमें से रुपये 30 हज़ार हम लोगों को मिल गया है। कन्हैया उर्फ वकील ने बताया कि खरीदे हुए ट्रैक्टर को उसने 80 हजार रुपये में अशोक यादव निवासी ग्राम भगतापुरवा थाना बरगदवां जनपद महाराजगंज को बेच दिया, जिसमें से रुपये 30 हजार रुपये नहीं मिले हैं।

दूसरे ट्रैक्टर के संबंध में देवेश उर्फ नारायण व आत्मा साहनी ने बताया कि कुसौरा बाज़ार थाना कलवारी से अतुल उर्फ़ अवध के साथ मिलकर चुरा कर छिपाया था। जिसे बेचने के लिए जाते समय पकड़ लिया गया। अतुल उर्फ़ अवध ट्रैक्टर चला रहा था जो ट्रैक्टर खड़ा करके भाग गया। जिसकी पुलिस को तलाश है। बताया कि चोरी की हुई गाड़ियों को नेपाल बॉर्डर के आस-पास जनपद महाराजगंज में बेचता है।

 
... और पढ़ें
बस्ती समाचार बस्ती समाचार

बस्ती अपहरण मामला: खुद के बुने जाल में उलझे किडनैपर, एक गलती से खुल गई पूरी कहानी

कपड़ा व्यापारी के बेटे का अपहरण करने वाले आदित्य सिंह व सूरज सिंह खुद के बुने जाल में उलझ गए। अखंड के अपहरण के बाद आरोपियों ने रुधौली के एक चाय दुकानदार से फोन मांगा और कहा कि घर बात करनी है। चाय विक्रेता के मोबाइल नंबर से ही आरोपियों ने कपड़ा व्यवसायी को फोन लगाया और 50 लाख रुपये की फिरौती मांग ली। फिरौती की धनराशि लेने के लिए दूसरा फोन एक जूस विक्रेता के मोबाइल नंबर से किया था। तीसरा फोन लूट के मोबाइल से किया था। एसटीएफ ने इन सभी मोबाइल नंबरों को सर्विलांस पर लिया और गहनता से छानबीन करके आरोपियों तक पहुंच गई।

सामान पैक करने में इस्तेमाल टेप से बांधा चेहरा

अपहर्ताओं ने बालक के साथ बर्बरता भी की थी। आंख, सिर और चेहरे को सामान पैक करने में इस्तेमाल किए जाने वाले टेप से बांध दिया था। दोनों हाथ पीछे करके कपड़े से बांधे थे। इसी हालत में बालक अखंड आठ दिनों तक पड़ा रहा। बरामदगी के समय जब एसटीएफ गोरखपुर इकाई के प्रभारी निरीक्षक सत्य प्रकाश सिंह कमरे में दाखिल हुए तो बालक डर गया।

कांपते हुए कहा कि मुझे मत मारिए। इस पर प्रभारी निरीक्षक ने ढांढस बंधाया और कहा कि बेटा पुलिस आई है। आपको छुड़ा लिया है। प्रभारी निरीक्षक व उनकी टीम के सदस्यों ने बालक के सिर व चेहरे से टेप हटाया, फिर काले व सफेद कपड़े से बंधे हाथों को मुक्त किया। बालक के कान के पास बंधे टेप को ब्लेड से काटना पड़ा।  

 
... और पढ़ें

बस्ती: संदिग्ध परिस्थिति में युवक की मौत, बाग में मिला शव

बस्ती जिले के छावनी थाना क्षेत्र के रामगढ़ निवासी 32 वर्षीय युवक की शुक्रवार रात संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उसका शव शनिवार को अमोलीपुर गांव के करीब नहर किनारे बाग में पड़ा मिला। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत के कारण का पता चलेगा। परिजनों से पूछताछ कर जानकारी जुटाई जा रही है।

शनिवार सुबह नहर के किनारे घूमने गए स्थानीय लोगों ने युवक का शव पड़ा देखा तो पुलिस को खबर दी। जब तक पुलिस मौके पर पहुंचती, आसपास के लोग भी एकत्र हो गए। थानाध्यक्ष छावनी रोहित उपाध्याय ने बताया कि जांच पड़ताल के दौरान शव के पास मिले एक कपड़े के झोले में कपड़ा व एक आईडी मिली। जिसके आधार पर युवक की पहचान थाना क्षेत्र के रामगढ़ निवासी जय प्रकाश सैनी पुत्र शिवशंकर सैनी के रूप में हुई।

थाने पहुंचे युवक के भाई ओम प्रकाश सैनी ने बताया कि जय प्रकाश खेती-बाड़ी नहीं होने से आसपास के क्षेत्रों में मेहनत मजदूरी करके अपना जीवन यापन करता था। परिजनों ने बताया कि जयप्रकाश सैनी की शादी कुछ साल पहले फूलडीह गांव में हुई थी। उसके दो लड़के एक लड़की भी है। पत्नी मायके फूलडीह में रहती है। जयप्रकाश तीन भाइयों मे दूसरे नंबर पर था। जिसमें शिव प्रकाश अपने परिवार के साथ बंगलुरू में रहता है। वहीं, ओमप्रकाश अमोढ़ा कस्बे में एक कबाड़ी की दुकान पर काम करते हैं।

 
... और पढ़ें

बस्ती: हर्रैया ब्लॉक प्रमुख अगवा, नशे का इंजेक्शन लगाकर छोड़ा

बस्ती जिले के ब्लॉक प्रमुख हर्रैया के रहस्यमय ढंग से कार में अपहरण का मामला सामने आया है, जिन्हें थोड़ी ही देर बाद नशे का इंजेक्शन लगाकर नकाब पहनाकर छोड़ भदावल पेट्रोलपंप के पास छोड़ दिया गया। चार जनवरी की घटना में 13 जनवरी को थाने पर तहरीर दी गई।

सीओ हर्रैया शेषमणि उपाध्याय ने बताया कि तीन अज्ञात कार सवार लोगों के खिलाफ अपहरण के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है। हर्रैया थाना क्षेत्र के भदावल खुर्द निवासी ब्लॉक प्रमुख विकास कुमार निषाद ने तहरीर में बताया है कि चार जनवरी शाम करीब सात बजे सावित्री सिंह स्मारक इंटर कॉलेज भदावल के पास खड़े थे। उसी समय काले रंग की कार से कुछ लोग आए और उन्हें जबरदस्ती खींच कर बैठा लिया।

 आरोप है कि अंदर बैठे तीन लोगों ने मिलकर उन्हें इंजेक्शन लगा दिया जिससे वह बेहोश हो गए। करीब आधे घंटे बाद भदावल बाजार के पास लोगों ने नकाब पहने एक व्यक्ति को लड़खड़ाते हुए देखा। पहले महिला समझकर लोगों ने नजरअंदाज किया लेकिन लड़खड़ाने की वजह से कुछ लोगों ने नकाब उठाया तो हैरान रह गए।

उन्हें एक स्थानीय चिकित्सक के पास ले गए। प्रमुख का कहना है कि थोड़ी देर बाद जब होश आया तो खुद को भदावल के एक बंगाली डॉक्टर के यहां थे। उस समय घबराहट में तहरीर नहीं दी लेकिन, बृहस्पतिवार को थाने में तहरीर दी। तहरीर में यह नहीं बताया गया कि गाड़ी में सवार लोग कौन थे और किस मकसद से ऐसा किया। पुलिस प्रकरण की छानबीन कर रही है।
... और पढ़ें

बस्ती: हारमोनियम वादक का घर में मिला शव, जांच में जुटी पुलिस

सांकेतिक तस्वीर।
बस्ती जिले के राम जानकी मार्ग पर स्थित कलवारी थाना क्षेत्र के पाऊं कस्बे में हारमोनियम वादक मो. इद्रीश (80) की संदिगध परिस्थितियों में मौत हो गई। उनका शव उनके घर से लावारिश हालात में मिला। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। इद्रीश के बेटे रईस ने कलवारी पुलिस को तहरीर देकर मौत को संदिग्ध बताते हुए जांच की मांग की है।

मोहम्मद इद्रीश हारमोनियम बजाने के साथ साथ भजन भी गाते थे। उनको लोग रामयाण, भजन, रामलीला सहित अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए बुलाते थे। उनसे मिलने वाली बख्शीस से अपना जीविकोपार्जन करते थे। दो बेटो में बड़ा बेटा फिरोज काफी पहले गायब हो गया था। जिसका आज तक पता नहीं चला। जबकि छोटा बेटा रईस रसूलपुर थाना टांडा अंबेडकर नगर में अपने परिवार के साथ रहता है।

लोगों ने बताया कि मोहम्मद इद्रीश गांव के बाहर घर बनाकर रहते थे। बृहस्पतिवार सुबह पाऊं निवासी युसुफ उनके घर के पास गया तो उसे दुर्गन्ध लगा। इस बारे में उसने गांव में लोगों को बताया। कुछ ही देर में लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लिया।

मृतक के बेटे रईस ने पुलिस को तहरीर देकर लिखा है कि उसके पिता का पोस्टमार्टम कराकर मौत का कारण पता लगाया जाय। थानाध्यक्ष अरविंद कुमार शाही ने बताया कि शव निरीक्षण से लगता है कि मौत कुछ दिन पूर्व हुई है। शव में कीड़े पड़ गये है। मौत का सही कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा।

 
... और पढ़ें

बस्ती: शादी का झांसा देकर महिला शारीरिक शोषण करने का आरोप, मामला दर्ज

एक महिला को शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण करने के आरोप में गौर पुलिस ने मुकदमा कायम किया है। महिला का आरोप है कि उनके पति का स्वर्गवास हो चुका है। पति की मौत के बाद इसी थाना क्षेत्र का एक व्यक्ति उसके संपर्क में आया।  शादी करने का झांसा देकर शारीरिक संबंध बनाया। बाद में शादी से मुकर गया। इधर उनके खाते में जमा करीब साढ़े तीन लाख रुपया भी धोखे से निकाल लिया।

महिला का आरोप है कि शादी के लिए दबाव बनाने पर अपशब्दों का प्रयोग करते हुए जानमाल की धमकी दी जाने लगी। थानाध्यक्ष गौर संजय कुमार ने बताया कि आरोपी अमित शर्मा समेत दो के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच-पड़ताल शुरू कर दी है। उधर हर्रैया पुलिस ने छेड़खानी व पॉक्सो एक्ट के आरोपी रमेश उर्फ भोलू निवासी बलुआ थाना परशुरामपुर को गिरफ्तार कर लिया है।

किशोरी को भगाने में तीन पर मुकदमा

सोनहा पुलिस ने एक किशोरी को बहला-फुसलाकर भगा ले जाने के आरोप में तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। सोलह वर्षीय किशोरी की मां का आरोप है कि गांव के युवकों ने पांच जनवरी को उनकी बेटी को गलत नीयत से बहला-फुसलाकर अगवा कर लिया। पुलिस ने तीनों आरोपितों पर पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर खोजबीन शुरू कर दी है।

 
... और पढ़ें

बस्ती: पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़, दो शातिर असलहा सप्लायर गिरफ्तार

बस्ती जिले की छावनी पुलिस व एसओजी टीम ने शनिवार की भोर में दो शातिर असलहा सप्लायर को मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया। मुठभेड़ में एक बदमाश के पैर में गोली लगी है। इलाज के लिए उसे जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। एक गोली वरिष्ठ उपनिरीक्षक श्याम मोहन त्रिपाठी के सीने पर लगी, लेकिन बुलेट प्रूफ जैकेट के चलते वह बच गए।

थानाध्यक्ष रोहित उपाध्याय ने बताया कि रात्रि गश्त के दौरान शनिवार की भोर में करीब तीन बजे एसओजी के जरिए सूचना मिली कि क्षेत्र के रामजानकी मार्ग से हाइवे को जोड़ने वाले संपर्क मार्ग से दो बदमाश निकल रहे हैं। सूचना मिलते ही मय पुलिस फोर्स के साथ नाल्हीपुर गांव के पास बने शमशान घाट पर घेराबंदी कर दी।

बदमाशों को आता देख रोकने की कोशिश की, जिस पर बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायर झोंक दिया। एक गोली वरिष्ठ उपनिरीक्षक श्याम मोहन त्रिपाठी के सीने पर लगी गनीमत रही बुलेट प्रूफ जाकेट के चलते वह बच गए। जवाबी फायरिंग में पुलिस की गोली लगने से प्रद्युमन चौहान घायल हो गया।

बदमाशों की पहचान थाना क्षेत्र के ढोलवापुर अकला निवासी प्रद्युम्न चौहान व नाल्हीपुर निवासी करामत अली के रूप में हुई। दोनों के पास से एक पिस्टल 32 बोर, कारतूस एक जिंदा व एक खोखा, तमंचा 315 बोर, तमंचा 12 बोर और 820 रुपये नगद बरामद किया गया।

थानाध्यक्ष ने बताया कि दोनों ही अपराधी शातिर किस्म के हैं और अवैध असलहों के सप्लायर हैं। दोनों पर अयोध्या और बस्ती जनपद को मिलाकर आधा दर्जन से अधिक मुकदमे पंजीकृत हैं। पुलिस टीम में चौकी प्रभारी विक्रमजोत पवन कुमार मौर्य, उप निरीक्षक दुर्ग विजय सिंह, हेड कांस्टेबल कृष्णानंद तिवारी, कांस्टेबल अनिल कुमार यादव, बालेंदु पांडेय, सुदीप गुप्ता, आनंद राय, एसओजी टीम के कांस्टेबल अभिषेक तिवारी, अजय कुमार यादव , विजय यादव भी शामिल रहे।

 
... और पढ़ें

बस्ती: विवाहिता की संदिग्ध मौत में दहेज हत्या का मुकदमा, 29 दिसंबर को हुई थी घटना

पांच दिन पहले पुरानी बस्ती थाने के सोनहटी बुजुर्ग में विवाहिता की संदिग्ध हालात में झुलस कर मौत के मामले में पुलिस ने चार ससुरालियों के विरुद्ध दहेज हत्या के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया है। जिसमें मृतका सुनीता की मां ज्ञानमती देवी ने तहरीर दी।

एसओ आलोक श्रीवास्तव ने बताया कि मृतका के ससुर राममूरत, सास मीना देवी, देवर राजेश समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई है।

वाल्टरगंज थाना क्षेत्र के बभनगावां की रहने वाली सुनीता (28) की चार साल पहले पुरानी बस्ती के सोनहटी बुजुर्ग में शादी हुई थी। काम के सिलसिले में सुनीता का पति हैदराबाद में रहता है। गांव में सुनीता अपने सास-ससुर व तीन देवरों के साथ रह रहती थी।

ससुराल के लोगों ने पुलिस पूछताछ में बताया था कि 29 दिसंबर 2021 बुधवार को परिवार के बाकी लोग किसी न किसी काम से बाहर गए हुए थे। सास गांव में ही एक व्यक्ति की मौत की सूचना पर संबंधित के घर गई थी। अकेले घर पर अलाव तापते समय सुनीता की साड़ी में आग लग गई। जिससे वह गंभीर रूप से झुलस गई थी।

पड़ोसियों की सूचना पर भागती हुई सास घर पर पहुंची और ग्रामीणों की मदद से जिला अस्पताल ले गई। डाक्टर ने हालत बेहद गंभीर देख मेडिकल कॉलेज गोरखपुर रेफर कर दिया, जहां उसकी मौत हो गई थी। शव को घर पर लाने के बाद सूचना पुलिस को दी गई थी। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया था।


 
... और पढ़ें

बस्ती: अवैध असलहा फैक्टरी का खुलासा, हिस्ट्रीशीटर गिरफ्तार

बस्ती जिले के थाना हर्रैया पुलिस व एसओजी टीम की संयुक्त कार्रवाई में बृहस्पतिवार-शुक्रवार रात अवैध तमंचा बनाने की फैक्टरी पकड़ी गई है। जबकि इसे संचालित करने वाले अपराधी को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के अनुसार, हर्रैया के महुघाट अमारी बाजार मार्ग पर मुरादीपुर मनोरमा नदी के किनारे चल रही इस फैक्टरी से 315 और 12 बोर के छह निर्मित, तीन अर्ध निर्मित तमंचों के अलावा तीन जोड़ी पिस्टल की ग्रिप व इसे बनाने का उपकरण बरामद किया गया है।

पकड़ा आरोपी इससे पहले लालगंज थानाक्षेत्र में असलहा बनाने की फैक्टरी संचालित करते पकड़ा जा चुका है। वह नगर पंचायत हर्रैया की सभासद का पुत्र है।  गिरफ्तार किया गया राम शंकर उर्फ शंकर निवासी वार्ड नंबर चार हनुमानगढी कस्बा हर्रैया थाने का हिस्ट्रीशीटर है। जिस पर मारपीट, आर्म्स एक्ट, लूट, गुंडा एक्ट, जाब्ता फौजदारी, विस्फोटक अधिनियम सहित 16 मुकदमे दर्ज हैं।

बरामद असलहों में तीन तमंचे 315 बोर व कारतूस, दो  तमंचे 12 बोर ओर 32 बोर डबल नाल तमंचा शामिल है। प्रभारी निरीक्षक विजय कुमार सिंह ने बताया कि पकड़े गए हिस्ट्रीशीटर से पूछताछ की जा रही है कि उसने अपने बनाए असलहे किसे बेचे हैं।  

बानपुर से हुई थी बरामदगी

पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान 29 मार्च 2019 की रात करीब सवा आठ बजे लालगंज क्षेत्र के बानपुर स्थित अड़बगवा बाग से पुलिस की स्वाट टीम व लालगंज पुलिस ने आरोपी रामशंकर सोनकर निवासी वार्ड चार हनुमानगढी थाना हरैया को पकड़ा था। जहां चार कट्टा 12 बोर, दो कट्टा 315 बोर, 12 बोर के दो और 315 बोर का एक अर्द्धनिर्मित कट्टा, छह लोहे की नाल 12 बोर, अवैध असलहा की बनाने की भट्ठी, औजार बरामद हुआ था।

 
... और पढ़ें

यूपी: बस्ती में पुलिस के साथ हुई मुठभेड़, गोंडा के तीन शातिर चोर गिरफ्तार

बस्ती जिले के छावनी थाना व एसओजी की संयुक्त टीम ने मुठभेड़ में तीन शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है। एसपी आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि चोरी व ठगी की घटनाओं को अंजाम देने में माहिर गैंग ने पुलिस घेराबंदी के दौरान फायरिंग कर कार से भागने की कोशिश की। लेकिन पकड़े गए।

आरोपियों के कब्जे से कट्टा-कारतूस के साथ जिले के रुधौली व नगर थाने में दर्ज चोरी व धोखाधड़ी के मुकदमे से संबंधित नगदी व कागजात और एक कार बरामद हुई है।
 
एसपी के अनुसार, मुठभेड़ में सुनील कश्यप, उत्तम कश्यप निवासी बाबाभर भटौरा थाना करनैलगंज जिला गोंडा और अरमान अली उर्फ बबलू निवासी धुसवा चतरौली थाना करनैलगंज जिला गोंडा के खिलाफ बस्ती के रुधौली थाने में चोरी और नगर थाने में धोखाधड़ी के मुकदमों में वांछित थे। थानाध्यक्ष छावनी रोहित उपाध्याय व एसओजी प्रभारी की टीम को शुक्रवार की रात सूचना मिली कि छावनी के देवकली नहर पुलिया के पास तीनों अंतरजनपदीय अपराधी चोरी की योजना बना रहे हैं।

युक्त टीम ने घेराबंदी की तो बदमाशों ने असलहे से फायरिंग कर दी। लेकिन पुलिस टीम ने चारों तरफ से घेरकर कर तीनों को गिरफ्तार कर लिया। एसपी के अनुसार अन्य जिलों में इनके आपराधिक इतिहास के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। चोरी व ठगी की घटना में प्रयुक्त कार को सीज कर दिया गया है। पुलिस टीम पर फायरिंग करने व चोरी-ठगी के माल बरामदगी के आरोप में छावनी थाने में तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।
... और पढ़ें
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00