विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

अयोध्या प्रकरणः कल्याण सिंह बतौर आरोपी 27 को अदालत में तलब, विशेष न्यायाधीश ने दिया आदेश

अयोध्या प्रकरण के विशेष न्यायाधीश सुरेंद्र कुमार यादव ने पूर्व मुख्यमंत्री व राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह को बतौर आरोपी तलब किया है।

22 सितंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

बस्ती

रविवार, 22 सितंबर 2019

शोहदे घूरकर देखें तो तुरंत दर्ज कराएं एफआईआर%

शोहदे घूरकर देखें तो तुरंत दर्ज कराएं एफआईआर
बस्ती। अबला सिर्फ मन की सोच है। इससे उबर कर महिलाएं खुद में जागरूकता लाएं। समस्याओं का डटकर सामना करें। घर और बाहर, महिला हो या छात्रा सभी अन्याय के खिलाफ लड़ने में अपने को कमजोर न समझें। इससे अराजकतत्वों को बढ़ावा मिलेगा। स्वयं आत्मनिर्भर बनने पर मार्शल आर्ट जैसी ट्रेनिंग की जरूरत नहीं पड़ेगी। राह में शोहदे छेड़ें तो उसे वहीं बेइज्जत करें। भीड़ भी मदद में आ जाएगी। डायल 100, 1090, 181 हेल्पलाइन की भी मदद लें। ये कहना है प्रभारी निरीक्षक रामपाल यादव का। वह मंगलवार को रुधौली क्षेत्र के रामेंद्र विक्रम कृषि इंटर कॉलेज में अमर उजाला फाउंडेशन की अपराजिता मुहिम के तहत आयोजित पुलिस की पाठशाला को संबोधित कर रहे थे। प्रभारी निरीक्षक ने महिला सुरक्षा और सशक्तीकरण से संबंधित विस्तार से जानकारी दी। बताया कि कोई अराजकतत्व सात मिनट तक घूरकर देखता है तो उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज करा सकती हैं। गुडमार्निंग पुलिस और एंटी रोमियो स्क्वॉड आदि सेवाओं के बारे में भी बताया। छात्राओं को अपने घर में सभी को ट्रैफिक नियमों के साथ हेलमेट और सीट बेल्ट लगाने के लिए कहने की अपील की। 235 छात्राओं ने अपने आसपास की महिलाओं को इसके प्रति जागरूक करने की शपथ ली। इस दौरान शिक्षक सुरेंद्र यादव, संजय कुमार, सुभाषचंद्र वर्मा, पारसनाथ यादव, नंगा प्रसाद, विश्वप्रताप सिंह, चित्रसेन उपाध्याय, रामभवन, कनक भूषण शुक्ला, करन चौधरी उपस्थित रहीं।
छात्रों ने बेबाकी से पूछे सवाल
पुलिस की पाठशाला छात्राओं के लिए बिल्कुल पाठशाला सी रही। जानकारियों के बीच 12वीं की छात्रा वंदना प्रजापति ने सोशल साइट्स के इस्तेमाल में कौन सी सावधानियों बरतें, रत्नावली ने साइबर क्राइम विषय पर सवाल पूछे। 10वीं की छात्रा अंजली यादव का सवाल था कि हेलमेट के तौर पर शराब पर पाबंदी क्यों नहीं की जाती आदि प्रश्न मंचस्थ अतिथियों से पूछे। विनीता शर्मा ने भी साइबर क्राइम और अपराध पर नियंत्रण के बाबत प्रश्न किए।
व्यवहारिक जानकारी मिली: वंदना
विद्यालय की छात्रा वंदना प्रजापति का कहना है कि कार्यक्रम में पुलिस की व्यावहारिक कार्यप्रणाली की जानकारी मिली। पुलिस की छवि एक मित्र के रूप में कैसे होती है, सोशल साइट्स में कौन सी सावधानियां जरूरी है इसकी जानकारी विशेष रही।
साइबर क्राइम की जानकारी हुई: रत्नवाली
छात्रा रत्नावली ने बताया कि पुलिस की पाठशाला में जो साइबर क्राइम की जानकारी दी गई वह विशेष थी। एटीएम से जालसाजी, फर्जी कॉल्स इत्यादि के बारे में दूसरों को भी बताएंगी। इसके लिए अमर उजाला के प्रति आभार व्यक्त किया।
महत्वपूर्ण है अपराजिता मुहिम: अंजनी
अंजनी यादव का कहना है कि अपराजिता के तहत पुलिस की पाठशाला में डायल 100, 1090, 181 की विशेषता बताई गई। स्कूलों में ऐसे कार्यक्रम जरूरी हैं। सबसे खास यूपीकॉप ऐप है जिसके माध्यम से हम घर बैठे ऑनलाइन शिकायत कर सकते हैं।
मुहिम की सफलता की कामना: विनय
प्रधानाचार्य विनय कुमार त्रिपाठी कहते हैं कि अपराजिता अभियान लगातार देखता व पढ़ता आ रहा हूं। निश्चित तौर अभियान से छात्राएं जागरूक हो रही हैं। इस तरह के जागरूकता कार्यक्रमों से ही महिलाओं और छात्राओं जागरूक व सशक्त बनाया जा सकता है।
... और पढ़ें

टॉफी लेकर लौटी बालिका की ट्रक से कुचलकर मौत

टॉफी लेकर लौट रही बालिका की ट्रक की चपेट से मौत
बस्ती। राम जानकी मार्ग पर संतकबीरनगर जिले के बार्डर पर लालगंज थानरक्षेत्र के अंतर्गत स्थित छिबरा स्कूल के पास सोमवार दोपहर अनियंत्रित ट्रक की चपेट में आठ वर्षीय मासूम आ गई। उसकी घटनास्थल पर मौत हो गई।
हादसे के बाद चालक ट्रक छोड़कर गन्ने के खेत में जा छिपा। ग्रामीणों ने चालक को गन्ने खते में काफी देर तक तलाशा, लेकिन नहीं मिला। सूचना पर संतकबीरनगर जिले के धनघटा थाने के पौली चौकी के अलावा लालगंज थाने के कुदरहा चौकी पुलिस पहुंच गई। चौकी इंचार्ज योगेंद्र नाथ ने बताया कि ट्रक को कब्जे में ले लिया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।
संतकबीरनगर के धनघटा थानांतर्गत रामपुर गांव के रूपीपुर पत्थरकट पुरवा निवासी बजरंगी की बेटी काजल उर्फ टिंकू सोमवार को दिन में घर से सड़क की दूसरी तरफ लालगंज थानाक्षेत्र में पड़ने वाली एक गुमटी से टॉफी खरीदकर लौट रही थी। सड़क पार करते समय रामपुर बाजार की तरफ से आ रहे मोरंग लदे ट्रक की चपेट में आ गई। पहिए के नीचे आने से मौके पर ही उसकी मौत हो गई।
... और पढ़ें

एसआई को थप्पड़ मारने वाले को भेजा जेल, दो फरार

एसआई को थप्पड़ मारने वाले को भेजा जेल, दो फरार
नगर बाजार(बस्ती)। एंटी रोमियो अभियान के तहत चल रही जांच के दौरान रविवार को बाइक सवार युवकों में से एक ने महिला एसआई को थप्पड़ मार दिया था। आरोपी को सोमवार को जेल भेज दिया गया। दो साथियों की तलाश में पुलिस छापे मार रही है।
रविवार दोपहर करीब दो बजे नगर बाजार में बिना वजह घूम रहे लोगों की जांच करने एंटी रोमियो स्क्वॉड के साथ महिला एसआई साथ निकली थीं। इस दौरान एक बाइक पर सवार तीन युवक घूमते दिखे। रुकने के इशारे पर तीनों ने थोड़ी दूरी पर जाकर बाइक रोक दी। नाम पता व घूमने का कारण पूछने पर भड़के युवकों में से एक ने एसआई पर हाथ चला दिया। एसआई रिंकी गुप्ता ने तत्काल इसकी सूचना थाने पर दी। भीड़ का फायदा उठाकर दो युवक भाग निकले, लेकिन एक को पुलिस ने पकड़ लिया। पकड़े गए आरोपी उमेश वर्मा निवासी सरवनपुर थाना दुबौलिया को सोमवार को जेल भेज दिया गया। फरार चल रहे कप्तानगंज थाना क्षेत्र के ग्राम महुआ मिश्र निवासी मनोज व राजेन्द्र निवासी चिलमा थाना दुबौलिया की तलाश में पुलिस दबिश दे रही है। नगर थाना प्रभारी अनिल कुमार ने बताया कि गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही है।
... और पढ़ें

दलित उत्पीड़न के आरोपी को चार वर्ष की सजा

दलित उत्पीड़न के आरोपी को चार वर्ष की सजा
बस्ती। विशेष न्यायाधीश एससीएसटी अब्दुल कयूम की अदालत ने दलित उत्पीड़न के मामले में आरोपी को चार वर्ष की सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। न्यायालय ने आरोपी पर दो हजार रुपये अर्थदंड भी लगाया है। इसे अदा न करने पर 15 दिन की अतिरिक्त कारावास की सजा भुगतनी होगी।
अभियोजन के अनुसार घटना छावनी थानाक्षेत्र के पूरे हेमधर गांव की है। इसकी रिपोर्ट मनोहर ने दर्ज कराई थी। रिपोर्ट के अनुसार वह मजदूरी कर परिवार का भरण-पोषण करता है। 28 फरवरी-2001 की शाम करीब पांच बजे गांव के संग्राम केवट के अलावा पैकोलिया निवासी भुल्लूर और काशीराम उसके घर आए। घर पर काम करने की बात कही। उसने असमर्थता जताते हुए दूसरे जगह काम की बात कही। इससे नाराज उक्त लोगों ने जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए मारा पीटा। रिपोर्ट के आधार पर मुकदमा दर्ज होकर आरोप पत्र न्यायालय में दाखिल हुआ। अभियोजन की ओर से वादी सहित अन्य गवाहों के बयान दर्ज हुए। बचाव पक्ष ने झूठा फंसाए जाने का तर्क दिया। गवाहों के बयान और सबूतों के आधार पर संग्राम केवट को दोषी मानते हुए सजा सुनाई, जबकि भुल्लुर को कोर्ट ने दोष मुक्त करार दिया। एक अन्य आरोपी की मौत मुकदमा के दौरान हो चुकी है।
... और पढ़ें

बच्चों के अपहरण का प्रयास, चिल्लाने पर भागे

तीन बच्चों के अपहरण का प्रयास, चिल्लाने पर भागे
महराजगंज(बस्ती)। स्कूल जा रहे तीन बच्चों का बाइक सवार बदमाशों ने अपहरण का प्रयास किया। उनकी चीख सुनकर ग्रामीणों ने बदमाशों को दौड़ा लिया, लेकिन भागने में सफल रहे। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।
कप्तानगंज थानाक्षेत्र के पगार गांव के बुधिराम की पुत्री जिया (10), भाई जवाहिर का बेटा सात वर्षीय देवा और पांच वर्षीय बेटी मानवी शनिवार सुबह 8:30 बजे गांव से गढहा ओझा में एक निजी स्कूल में पढ़ने जा रहे थे। गांव के दक्षिण तरफ जैसे ही बच्चे गुलहसन के ट्यूबबेल के पास पहुंचे, तभी बाइक से पहुंचे दो युवकों ने बच्चों को मोबाइल की लालच दी और पास से रुमाल निकालकर छिड़कने लगे। एक युवक बच्चे को बाइक पर बैठाने का प्रयास करने लगा, तभी बच्चे शोर मचाने लगे। बच्चों की चीख सुनकर खेत में काम कर रही महिला भी शोर मचाते हुए दौड़ी। महिला और ग्रामीणों को आता देखकर बाइक सवार भाग निकले। कुछ ही देर में गांव के कई लोग जुट गए। बुधिराम और बच्चों ने बताया कि बाइक सवार बाहरी लग रहे थे। ग्रामीणों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। कप्तानगंज के प्रभारी निरीक्षक सौदागर राय ने बताया कि सूचना मिली है। मामले में छानबीन की जा रही है। सतर्कता बढ़ा दी गई है।
... और पढ़ें

गोशाला में मरी दो गाय, जिम्मेदार बोले खा लो

गोशाले का सफाईकर्मी बोला दो जानवर मर गए, एडीओ ने कहा खा लो
रुधौली (बस्ती)। ‘सर! दो जानवर मर गए हैं...तो मुझको क्यों बता रहे हो। मर गए हैं,.. कुछ व्यवस्था करो। खाय लायक हो तो खाय जाओ।’ गोशाले में ‘दो जानवरों’ के मरने को लेकर विकास खंड बजहा बस्ती स्थित गोशाला के सफाईकर्मी विजयसेन पटवा और एडीओ पंचायत राजेश पांडेय के बीच हुए वार्तालाप का यह हैरतनाक ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस मामले में अमर उजाला से हुई बातचीत में एडीओ पंचायत ने माना कि गुस्से में गलती हो गई, अपनी बात वापस ले रहा हूं। वहीं, सफाईकर्मी पटवा ने कहा कि मैं डीएम से शिकायत करूंगा। सुनवाई नहीं हुई तो लखनऊ जाकर शिकायत करूंगा।
मामला शनिवार का है। जानकारी के मुताबिक विजयसेन पटवा, बजहा स्थिति गोशाले में बतौर सफाईकर्मी तैनात हैं। उन्होंने गोशाले में ‘दो जानवरों’ के मर जाने और खुद को चोट लगने की सूचना देने के लिए एडीओ को फोन किया था। जिसे सुनते ही वे हत्थे से उखड़ गए और उसे कई ‘उपाधियों’ से नवाजते हुए, सुझाया कि कुछ व्यवस्था करो। खाने लायक हो तो खा जाओ। जवाब में सफाईकर्मी ने श्राद्धपक्ष का हवाला देते हुए खाने में असमर्थता जताई, मगर उन जानवरों के निस्तारण के लिए कसाई बुलाने की बात जरूर कही। सफाईकर्मी का कसाई को बुलाने की बात कहना भी साफ संकेत करता है कि इन गोशालाओं में गोवंश के साथ क्या सुलूक हो रहा है और अधिकारियों का इनके प्रति नजरिया क्या है ?
इस ऑडियो में जिस जानवर को लेकर बात हो रही है, यह किसी के लिए भी समझना मुश्किल नहीं होगा कि गोशाला में कौन सा जानवर हो सकता है? हालांकि सफाईकर्मी ने अमर उजाला से पुष्टि की कि मरने वाली एक गाय और एक बछड़ा था, जिनके बारे में वे एडीओ को जानकारी दे रहे थे। जिस पर एडीओ ने उनसे यह सब कहा। उस जानवर को निपटाने के लिए एडीओ पांडेय जो तरीका बता रहे हैं, वह किसी को भी हिला देने वाला है। यह एक संकेत भी है कि गोशाले में मरणासन्न-मृत जानवरों के साथ क्या हो रहा है? यही नहीं पांडेय का मातहत से बात करने का तरीका भी उतना ही घटिया है, जितनी वायरल ऑडियो में उनकी सोच। चौंकाने वाली बात यह है कि एक तरह सरकार गोवंश संरक्षण के लिए किस कदर चिंतित है, दूसरी ओर उसके अधिकारियों का यह मिजाज है। इस संबंध में विकासखंड के प्रभारी बीडीओ सियाराम चौधरी का कहना है कि वायरल ऑडियो की जांच कराई जाएगी, यदि एडीओ पंचायत ने ऐसा बयान दिया है तो निश्चित ही उनपर कार्रवाई की जाएगी।
---
गुस्से में बोल गया था-एडीओ पंचायत
इस मामले में संबंधित सफाईकर्मी को अपने सेक्त्रस्ेटरी को फोन करना चाहिए था। जब सफाईकर्मी का फोन आया तो मैं एक कार्यक्त्रस्म को लेकर काफी व्यस्त था। गुस्से में मेरे मुंह से यह सब निकल गया, मैं अपने शब्द वापस लेता हूँ।
---
डीएम से शिकायत करूंगा-पटवा
दिव्यांग हूं फिर भी गोशाला में डयूटी लगा दी गई। आज अधिकारी ने जो दुर्व्यवहार किया है इसकी शिकायत डीएम से करूंगा। मैं माफ करने वाला नहीं ऊपर तक लड़ाई लड़ूंगा। दो पशुओं के मरने की खबर देना कोई गुनाह था क्या। हमेशा अभद्र व्यवहार किया जाता है।
----
... और पढ़ें

यूपी: शादी करने में विफल रहा युवक, पहले युवती को मारी गोली फिर दे दी जान

शादी का दबाव बना रहे युवक ने शुक्रवार को लखनऊ में स्टाफ नर्स प्रेमिका को किराए के मकान में घुसकर गोली मार दी। उसकी मौत होते ही युवक ने खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली। गोलियों की आवाज सुनकर पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी। 

लखनऊ के एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि बस्ती जिले के परसा निवासी त्रिभुवन चौधरी की बेटी वंदना (24) लखनऊ के बालागंज स्थित एक प्राइवेट अस्पताल में स्टाफ नर्स थी। वह हसनगंज थाने के ठठेरी मोहल्ले के बब्बू वाली गली डालीगंज में कदम रसूल वार्ड के पूर्व पार्षद कमरूददीन के मकान में ढाई साल से किराए पर रह रही थी।

छोटी बहन अर्चना (20) भी साथ रहती थी। वह बीएससी की पढ़ाई के साथ ही कंप्यूटर की कोचिंग कर रही है। शुक्रवार सुबह अर्चना कोचिंग गई थी। कमरे में वंदना अकेली थी। मकान मालिक ने पुलिस को बताया कि सुबह 11 बजे के करीब दो गोलियां चलने की आवाज सुनकर आसपास के लोग वहां पहुंचे। कमरे में वंदना और एक युवक को खून से लथपथ देख लोग घबरा गए। उन्होंने तत्काल पुलिस को वारदात की सूचना दी। थोड़ी देर में पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी।

एसपी पंकज कुमार ने बताया कि वे लगातार लखनऊ पुलिस के संपर्क में हैं। वहां की पुलिस छानबीन में जुटी है। युवक की पहचान रुधौली के मुडियार निवासी मदन के रूप में हुई है। उसकी जेब से एक कारतूस भी बरामद किया गया है। वंदना और मदन की मौत की सूचना मिलते ही दोनों के गांवों में मातम छा गया है। परिवार के लोग लखनऊ रवाना हो गए हैं।
... और पढ़ें

उमर उजाला इंपैक्ट... ---------- खुदाई करके जेल से तीन मोबाइल बरामद

युवक ने मारी गोली (सांकेतिक तस्वीर)
उमर उजाला इंपैक्ट
खुदाई करके जेल से तीन मोबाइल बरामद
उमर उजाला इंपैक्ट...पीडीएफ लगाने का अनुरोध है
शौचालय के पास जमीन में छिपाए थे तीनों मोबाइल
जेलर ने अज्ञात बंदियों पर कोतवाली में लिखाया मुकदमा
संवाद न्यूज एजेंसी
बस्ती। कारागार के अंदर साबुन के रैपर में छिपाया गांजा और चप्पल में फंसाई मोबाइल बरामद होने का मामला उजागर होने से हत्प्रभ जेल प्रशासन ने शुक्रवार को बड़ी कार्रवाई की। परिसर में स्थित शौचालय के पास जमीन के भीतर छिपाई गई तीन मोबाइल बरामद की गई।
19 सितंबर को अमर उजाला ने अपने अंक में पेज संख्या छह पर ‘चप्पल में मोबाइल, साबुन के रैपर में गांजा’ शीर्षक से जेल के भीतर के हालात पर रिपोर्ट प्रकाशित किया। जिसके दूसरे ही दिन जेल प्रशासन ने जेल की सघन जांच कराई। जिसमें मिट्टी के नीचे दबाई गई तीन मोबाइल मिली। जिले जेलर ने पुलिस को सौंप दिया। जेलर सतीश चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि किन बंदियों ने यह मोबाइल छिपाई, इसकी अभी शिनाख्त नहीं हो पाई है। ऐसे में जेलर की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ बंदी अधिनियम 1894 की धारा 42, 45 की उपधारा 12 के तहत कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया है। शक होने पर बैरक संख्या 06 और 09 के शौचालयों के पास खुदाई कराई गई। दोनों जगह जमीन के अंदर छिपाई तीन मोबाइल फोन बरामद किए गए। इसकी तफ्तीश जेल गेट चौकी प्रभारी रवीन्द्र नाथ शर्मा को सौंप गई है।
दूसरे ही दिन हुआ एक्शन
इसी मंगलवार को जेल गेट के पास चेकिंग के दौरान बन्दी राहुल उर्फ रानू की चप्पल में छिपाई मोबाइल बरामद की गई थी। बायें चप्पल में सैमसंग गहरे नीले रंग की मोबाइल फंसाया था। इसके शनिवार 13 सितंबर को बैरक नंबर तीन में निरुद्ध बंदी मदन से मिलने गए संतकबीरनगर जिले के बखिरा क्षेत्र के देवलसा निवासी राधेश्याम मुलाकात करने जेल में गया था। उसके पास मिले नहाने के साबुन के रैपर के भीतर जगह बनाकर 100 ग्राम गांजे की पुड़िया बरामद की गई थी।
... और पढ़ें

साइड स्टोरी.... ब्लाक प्रमुख हत्याकांड का सह अभियुक्त था मदन

ब्लॉक प्रमुख हत्याकांड का सह अभियुक्त था मदन
रुधौली(बस्ती)। लखनऊ के डालीगंज में प्रेमिका की हत्या कर खुदकुशी करने वाला मदन लाल वर्ष-2013 में हुए ब्लॉक प्रमुख हत्याकांड में सह अभियुक्त था।
रुधौली थाने के मुड़ियार गांव निवासी तीन भाइयों में दूसरे नंबर के मदनलाल को ब्लॉक प्रमुख शिवकुमार चौधरी की हत्या में शामिल पाया गया था। तत्कालीन एसपी सुरेश राव आनंद कुलकर्णी के दिशा-निर्देश पर गिरफ्तारी हुई थी। जमानत पर रिहा होकर आए मदन लाल से कब वंदना से प्रेम संबंध कायम हुआ, इसे लेकर पुलिस कुछ भी बताने से बच रही है। मदन लाल के पिता प्रभु नाथ सरकारी कर्मचारी हैं। बड़ा भाई दिल्ली में प्राइवेट कंपनी में कार्यरत है, जबकि छोटा भाई पढ़ाई करता है।
एसएसपी लखनऊ कलानिधि नैथानी के अनुसार खुदकुशी कर चुके मदन लाल की जेब से एक कारतूस बरामद किया गया है। शक है कि वह वंदना और उसकी बहन अर्चना को भी ठिकाने लगाने की सोचकर गया होगा। मगर अर्चना उस समय कोचिंग गई थी। डालीगंज के पूर्व पार्षद के मकान में किराएदार वंदना को अकेली पाकर उसने मौत के घाट उतार दिया। अगले ही पल उसने खुद की कनपटी पर गोली मारकर कर खुदकुशी कर ली।
... और पढ़ें

पहले तबीयत भर सोएं,तब थामें स्टेयरिंग

पहले तबीयत भर सोएं, तब थामें स्टेयरिंग
बस्ती। नींद की खुमारी में टक्कर मारने की गुंजाइश न बचे, इसके लिए परिवहन निगम ने माकूल प्रबंध कर लिया है। रात्रिकालीन सेवा के बस चालकों को भरपूर नींद पूरी करने के इंतजाम किए जा रहे हैं। सभी डिपो में 40-50 चालकों के सोने के लिए आरामदायक बेड लगाए जा रहे हैं। इस नए रेस्ट रूम में चालकों के लिए पर्सनल लॉकर्स होंगे, जिसमें वे अपने बैग, कैश आदि सुरक्षित रखकर नींद पूरी कर सकते हैं। अब तक करीब 80 प्रतिशत डिपो (113 में से 92) में आराम कक्ष हैं और बाकी 21 डिपो में निर्माण कार्य चल रहा है। अक्तूबर तक प्राथमिकता के आधार पर यथाशीघ्र पूरा हो जाएगा।
उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के एमडी डॉ. राजशेखर ने ‘अमर उजाला’ से बातचीत में बताया कि सुरक्षित और आरामदायक यात्रा सुनिश्चित करने की चालक सबसे महत्वपूर्ण कुंजी हैं। यूपीएसआरटीसी दुर्घटनाओं से बचने/कम करने और यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए चालकों के शारीरिक स्वास्थ्य को दुरुस्त रखने के हर संभव उपाय कर रहा है। यूपी भर के सभी डिपो में जुलाई और अगस्त में बड़े पैमाने पर स्वास्थ्य जांच शिविर आयोजित किए गए। स्वास्थ्य जांच रिपोर्ट के आधार पर ड्राइवरों की तैनाती, उनके उपचार और सुधारात्मक उपाय किए गए। पाया गया कि सुरक्षित यात्रा सुनिश्चित करने के लिए ड्राइवरों की अच्छी नींद और बेहतर आराम सुविधाएं काफी महत्वपूर्ण हैं। इसके महत्व और तात्कालिक आवश्यकता को देखते हुए यूपीएसआरटीसी मुख्यालय ने प्रत्येक डिपो में सभी रात्रि कालीन रूट के सभी चालकों के लिए आरामगाह स्थापित करने का निर्णय लिया। पिछले महीने कैसरबाग डिपो के निरीक्षण के दौरान चालकों से बातचीत के दौरान इसकी एमडी से मांग उठाई थी। निगम मुख्यालय ऐसे प्रत्येक डिपो में निर्माण/निर्माण की स्थिति की निगरानी कर रहा है, जहां यह सुविधा नहीं है। उम्मीद है कि अक्तूबर अंत तक सभी डिपो में एक अच्छे आराम कक्ष की सुविधा उपलब्ध हो जाएगी।
... और पढ़ें

प्रेमिका की हत्या कर सुसाइड कर लिया प्रेमी

पहले की प्रेमिका की हत्या फिर दे दी जान
बस्ती। शादी का दबाव बना रहे युवक ने शुक्रवार को लखनऊ में स्टाफ नर्स को किराए के मकान में घुसकर गोली मार दी। उसकी मौत होते ही युवक ने अपनी कनपटी पर गोली मारकर खुदकुशी कर ली। गोलियों की आवाज सुनकर पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी।
लखनऊ के एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि बस्ती के परसा निवासी त्रिभुवन चौधरी की बेटी वंदना (24) लखनऊ के बालागंज स्थित एक प्राइवेट अस्पताल में स्टाफ नर्स थी। वह हसनगंज थाने के ठठेरी मोहल्ले के बब्बू वाली गली डालीगंज में कदम रसूल वार्ड के पूर्व पार्षद कमरूददीन के मकान में ढाई साल से किराए पर रह रही थी। छोटी बहन अर्चना (20) भी साथ रहती थी। वह बीएससी की पढ़ाई कर रही है। शुक्रवार सुबह अर्चना कोचिंग गई थी। कमरे में वंदना अकेली थी। मकान मालिक ने पुलिस को बताया कि सुबह 11 बजे के करीब दो गोलियां चलने की आवाज सुनकर आसपास के लोग वहां पहुंचे। कमरे में वंदना और एक युवक को खून से लथपथ देख लोग घबरा गए। उन्होंने तत्काल पुलिस को सूचना दी। थोड़ी देर में पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी। एसपी पंकज कुमार ने बताया कि वे लगातार लखनऊ पुलिस के संपर्क में हैं। युवक की पहचान रुधौली के मुडियार निवासी मदन के रूप में हुई है। उसकी जेब से एक कारतूस भी बरामद किया गया है। वंदना और मदन की मौत की सूचना मिलते ही दोनों के गांवों में मातम छा गया है। परिवार के लोग लखनऊ रवाना हो गए हैं।
... और पढ़ें

हत्थे चढ़े दरोगा पर हाथ उठाने के वांछित

हत्थे चढ़े दरोगा पर हाथ उठाने के वांछित
नगर बाजार (बस्ती)। कस्बे में रविवार को एंटी रोमियो स्क्वॉड प्रभारी पर हाथ उठाने वाले दोनों आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ गए। बृहस्पतिवार सुबह करीब सात बजे मुखबिर की सूचना पर कप्तानगंज के वॉयरलेस चौराहे के पास से मनोज निवासी महुआ मिश्र थाना कप्तानगंज और राजेंद्र निवासी चिलमा थाना दुबौलिया को गिरफ्तार किया गया। मुख्य आरोपी उमेश वर्मा निवासी सरवनपुर थाना दुबौलिया को मौके पर ही पकड़ लिया गया था।
रविवार को एंटी रोमियो स्क्वॉड की प्रभारी एसआई रिंकी गुप्ता टीम के साथ थाने की गाड़ी में चेकिंग करने निकलीं थीं। कलवारी-बस्ती मुख्य सड़क पर एक बाइक पर सवार होकर तीन युवक चक्कर लगाते दिखे। कई बार आते-जाते देख प्रभारी रिंकी गुप्ता ने बुलाया। न आने पर जब वह करीब गईं तो तीनों युवक उल्टे एसआई पर फब्तियां कसने लगे। सादे कपड़ों में रिंकी गुप्ता ने खुद को महिला उपनिरीक्षक बताते हुए उनसे उनका परिचय और चक्कर लगाने की वजह पूछने लगीं तो तीनों में से एक ने एसआई पर हाथ चला दिया था। एसआई ने थाने सूचना दी। इसके बाद भारी संख्या में फोर्स पहुंच गई। एसआई रिंकी की तहरीर पर तीनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। थाना प्रभारी अनिल कुमार ने बताया कि एसआई वीरेन्द्र यादव के साथ सिपाही अरूण शर्मा, शैलेश कुमार व राहुल कुमार यादव की टीम ने आरोपी मनोज एवं राजेंद्र को गिरफ्तार कर लिया।
... और पढ़ें

बीमार गाय पर कुत्तों का हमला

बीमार गाय पर कुत्तों का हमला
दुबौलिया(बस्ती)। ब्लॉक क्षेत्र के मसहा ग्राम पंचायत के मनोरमा नदी के किनारे अस्थाई गो आश्रय स्थल पर आवारा कुत्तों ने हमला कर दिया। यहां एक गाय मृत अवस्था में पाई गई। कुत्तों के हमले से गाय की मौत हुई या बीमारी से इसलिए पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।
बृहस्पतिवार को एक क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल होते ही हड़कंप मच गया। सुबह के समय गांव के कुछ ग्रामीण टहलने निकले थे। उहोंने जमीन पर पड़ी गाय को कुत्तों को नोचते देखा। कोई सफाईकर्मी नहीं होने पर वीडियो बना डाली। ग्रामीण जब तक कुत्तों को भगाने का प्रयास करते गाय की मौत हो चुकी थी। इसका वीडियो किसी ने सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। इसके बाद कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। मौके पर ब्लॉक के कर्मचारी व पशु चिकित्सकों की टीम भी पहुंच गई। आश्रयस्थल पर चार सफाई कर्मचारियों की तैनाती है। जानकारी होते ही दो सफाईकर्मी पहुंच गए। बताया कि बगल नदी के किनारे शवदाह गृह है। इससे आए दिन यहां कुत्तों का झुंड टहलता रहता है। दो दिन पूर्व ही गोशाला की दो गायों पर हमला कर दिया था। इनका इलाज कराया जा रहा है। इस बाबत खंड विकास अधिकारी इंद्रपाल सिंह यादव का कहना है कि गाय के मौत के कारणों का पता लगाने के लिए पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। कुत्तों ने मौत के बाद गाय के अवशेष को नोचा है। मौके पर टीम भेजी जा रही है। गोशाला को सुरक्षित किया जाएगा। संबंधित पर कार्रवाई भी की जाएगी। वहीं पशु चिकित्साधिकारी चिलमा डॉ. खिलाडी़ शंकर का कहना है कि जिस गाय की मौत हुई है वह एक सप्ताह से बीमार थी। हो सकता है रात में चारा ज्यादा खा लेने से गैस बनी हो जो मौत का कारण हो सकता है। गाय की स्वाभाविक मौत हुई है। इसके बाद कुत्ते नोचे हैं। फिलहाल पोस्टमार्टम कराया गया। गोशाला की बाड़ ठीक नहीं है इससे अक्सर पशु बाहर भी निकल जाते हैं।
सर्रा रोग से मरी थी गाय
दुबौलिया। ब्लॉक क्षेत्र के मसहा ग्राम पंचायत के गोआश्रय स्थल में बृहस्पतिवार सुबह गाय की मौत सर्रा रोग से हुई है। ऐसा पोस्टमार्टम रिपोर्ट में आया है। सुबह ग्रामीणों ने गाय को कुत्तों के नोच खाने की वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट की थी। वायरल वीडियो में गाय की मौत कुत्तों के नोचने से बताया जा रहा था। इसके बाद डॉक्टरों ने मृत गाय का पोस्टमार्टम कराया। रिपोर्ट में मौत की पुष्टि सर्रा रोग से हुई है। पशु चिकित्साधिकारी खिलाड़ी शंकर ने बताया की इस रोग में तुरंत उपचार की जरूरत होती है और देर होने पर मवेशी की मौत हो जाती है। रात में ही उक्त गाय को यह रोग हो गया और उससे उसकी मौत हो गई। कुत्तों ने मृत गाय के अवशेष को ही नोचा था।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree