विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को
Astrology Services

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

हरियाणा की बेटी ने जीता गोल्ड मेडल, चीन की सरजमी में फहराया तिरंगा, कई रिकॉर्ड हैं नाम

महिला कुश्ती प्रतियोगिता में 53 किलोग्राम कैटेगरी में निर्मला ने गोल्ड मेडल जीत कर देश, हरियाणा और पुलिस का नाम रोशन किया है।

21 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

रेवाड़ी

बुधवार, 21 अगस्त 2019

गला घोंटकर की गई महिला की हत्या, हाईवे पर शव रख लगाया जाम

गांव नांगल जमालपुर में शनिवार को पशुओं के लिए चारा लेने गई बुजुर्ग महिला शकुंतला की हत्या चुन्नी से गला घोंटकर की गई थी, इसका खुलासा पोस्टमार्टम में हुआ है। हत्या क्यों और किसने की, इसका पता नहीं लग पाया है। परिजनों ने ग्रामीणों के साथ हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर रविवार को महिला का शव रेवाड़ी-नारनौल मार्ग पर रखकर जाम लगा दिया। करीब दस किलोमीटर लंबा जाम लगने से वाहन फंस गए और राहगीरों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ा। डीएसपी मोहम्मद जमाल खान ने एक सप्ताह में हत्याकांड का खुलासा कर हत्यारों को गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया। जिससे ग्रामीण मान गए और जाम खोल दिया। तब राहगीरों ने राहत की सांस ली।
गांव नांगल जमालपुर निवासी बाबूलाल की पत्नी 55 वर्षीय पत्नी शकुंतला शनिवार सुबह पशुओं के लिए चारा लेने के लिए खेत में गई थी। दोपहर बाद तक भी घर नहीं पहुंचने पर परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की। दोपहर करीब साढ़े तीन बजे सड़क से महज 50 फीट अंदर महिला का शव बाजरे के खेत में पड़ा मिला। रविवार को शव का पोस्टमार्टम हुआ। जिसमें महिला की हत्या उसकी चुन्नी से गला घोंटकर किए जाने की पुष्टि हुई है। यह बात सुनकर परिजनों के साथ ही ग्रामीणों में आक्रोश पनप गया। उन्होंने पोस्टमार्टम के बाद महिला का शव रविवार दोपहर करीब एक बजे रेवाड़ी से नारनौल मार्ग पर पाडला मोड़ पर रखकर जाम लगा दिया। जाम की सूचना के बाद डीएसपी मोहम्मद जमाल खान समेत कई अफसर मौके पर पहुंच गए और ग्रामीणों को समझाकर एक सप्ताह में हत्यारों की गिरफ्तारी का आश्वासन देकर जाम खुलवा दिया।
पुलिस के खिलाफ जमकर की नारेबाजी
ग्रामीणों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर नारेबाजी की। ग्रामीणों का कहना था कि सरेआम बदमाशों ने बुजुर्ग महिला की हत्या की वारदात को अंजाम दिया, लेकिन पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है। ऐसे में गांव की कोई महिला सुरक्षित नहीं रह सकती है। वारदात के चौबीस घंटे बाद भी पुलिस आरोपियों का सुराग नहीं लगा सकी है।
लाठी चार्ज की सूचना पर भड़के ग्रामीण
प्रदर्शन के दौरान एक बार ऐसी स्थिति बन गई थी कि पुलिस व ग्रामीण आमने-सामने आ गए थे। किसी ने ग्रामीणों को बताया कि पुलिस लाठी चार्ज करने की रणनीति बना रही है। इस पर ग्रामीण भड़क गए। ग्रामीणों की पुलिसकर्मियों के साथ काफी तनातनी हुई। जैैसे-तैसे अधिकारियों ने स्थिति को कंट्रोल में करते हुए लोगों को शांत कराया। ... और पढ़ें

युवक का अपहरण कर जबरन नाम कराई जमीन, मामला दर्ज

कसौला थाना क्षेत्र के गांव मुकुंदपुर बसई निवासी एक युवक का अपहरण कर आरोपियों ने चार कनाल जमीन जबरन अपने नाम करा ली। आरोपियों ने युवक को बिना रुपये दिए, जान से मारने की धमकी देकर छोड़ दिया। कसौला पुलिस ने युवक की मां की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।
पुलिस के अनुसार गांव मुकुंदपुर बसई निवासी बसंती देवी ने कसौला पुलिस को दी शिकायत में बताया कि 16 जुलाई को गांव बोलनी निवासी बिरेन्द्र सिंह, उसके गांव के कपूर सिंह, सत्यनारायण, बसंत, नितिन, सोनू, जोगिन्द्र सरपंच व देशराज चौकीदार ने उसके 18 वर्षीय बेटे राकेश कुमार को अगवा कर लिया। उसके बाद आरोपी राकेश को किसी सुनसान जगह ले गए। वहां ले जाकर पहले उसके साथ मारपीट की गई और बाद में जान से मारने की धमकी देते हुए जबरन उसकी चार कनाल जमीन खुद के नाम करा ली। जमीन की कीमत लाखों रुपए में बताई गई है। पूरी घटना को लेकर राकेश ने अपनी मां को बताया। उसके बाद पुलिस को शिकायत दी गई। पुलिस ने मामले की जांच की और तथ्य सामने आने के बाद आरोपितों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। ... और पढ़ें

रोडवेज बस की टक्कर से पलटी क्रूजर गाड़ी, छह यात्री घायल

शनिवार की शाम महेन्द्रगढ़ रोड पर रोडवेज बस व क्रूजर गाड़ी की सामने-सामने की भिड़ंत हो गई। भिड़ंत के बाद क्रूजर गाड़ी पलट गई तथा उसमें सवार आधा दर्जन से ज्यादा यात्री घायल हो गए। सूचना के बाद एंबुलेंस की मदद से घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। खोल पुलिस मामले की जांच कर रही है। शनिवार शाम करीब 5 बजकर 20 मिनट पर महेंद्रगढ़ मार्ग पर ढाणी जोरावत के पास रेवाड़ी की तरफ से आ रही एक रोडवेज बस महेन्द्रगढ़ जा रही थी। इसी दौरान सामने से यात्रियों से भरी एक क्रूजर गाड़ी से बस की टक्कर हो गई। हादसे रोडवेज के यात्री तो बिल्कुल सुरक्षित थे, लेकिन क्रूजर में सवार यात्रियों को गंभीर चोटें आई। आसपास के लोगों ने पलटी हुई क्रूजर गाड़ी से घायलों को बाहर निकाला और पुलिस व एंबुलेंस की मदद से ट्रॉमा सेंटर पहुंचा। कुछ यात्रियों की हालत गंभीर बताई जा रही है। खोल पुलिस ने मामले में कार्रवाई शुरू कर दी है। ... और पढ़ें

हरियाणाः रेवाड़ी में दो बच्चों को लेकर नहर में कूदी पुलिसकर्मी की पत्नी, महिला-बेटे का शव मिला

हरियाणा से बड़ी खबर आ रही है। रेवाड़ी में एक पुलिसवाले की पत्नी अपने दो बच्चों को लेकर नहर में कूद गई। महिला और उसके छह साल के बेटे के शव मिल गए हैं। वहीं 8 साल की बेटी अभी लापता है। गोताखोर उसकी तलाश में जुटे हुए हैं। डीएसपी और पुलिस टीम मौके पर मौजूद है।

वहीं पुलिसकर्मी का रो-रोकर बुरा हाल है और मौके पर काफी संख्या में लोग जुटे हुए हैं। बताया जा रहा है कि रात में पति-पत्नी के बीच झगड़ा हुआ था। इससे परेशान होकर पत्नी दिल्ली रोड स्थित जेएलएन नहर में बच्चों को लेकर कूद गई। पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। ... और पढ़ें
दो बच्चों के साथ नहर में कूद पुलिस वाले की पत्नी दो बच्चों के साथ नहर में कूद पुलिस वाले की पत्नी

तेल की चोरी करने वाले पांच आरोपी काबू, एक हजार लीटर डीजल और पेट्रोल बरामद

बावल रोड पर गांव कमालपुर और करनावास के समीप ढाबों एवं गोदामों पर लंबे समय से तेल चोरी का खेेल चल रहा था। मंगलवार को सीआईए रेवाड़ी ने छापामारी करते हुए पांच लोगों को धर-दबोचा। पुलिस ने उनके कब्जे से करीब 1100 सौ लीटर डीजल और पेट्रोल बरामद किया है।
एक साथ पांच ढाबों व गोदामों की गई छापामारी
रेवाड़ी सीआईए की टीम ने मंगलवार को बावल रोड पर करनावास व कमालपुर के समीप एक साथ पांच ढाबों व गोदामों पर छापामारी की और पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उनके कब्जे से करीब 1100 सौ लीटर डीजल और पेट्रोल बरामद किया है। आरोपियों की पहचान भवाडी निवासी राजपाल, विजय पाल, गुरुग्राम जिला निवासी बिरेन्द्र, मुडिया खेडा निवासी हवा सिंह तथा मध्य प्रदेश निवासी राजेश के रूप में हुई है। पुलिस ने मौके एक पिकअप और तेल से भरे ड्रम व कैन भी बरामद किए हैं।
मंगलवार को एसपी को सूचना मिली थी कि करनावास स्थित ऑयल डिपो से निकलने वाले तेल टैंकरों के चालक तेल की कालाबाजारी करने वाले गिरोह से सब्जबाग होकर तेल चोरी का खेल कर रहे हैं। एसपी के आदेश मिलते ही रेवाड़ी सीआईए इंचार्ज विद्या सागर ने अपनी टीम के एएसआई रजनीश, इन्द्रजीत, प्रधान सिपाही योगेश, संदीप, सुनील कुमार, सिपाही बीर सिंह, जितेन्द्र, विक्रम, रमेश कुमार, सुरेश कुमार, रविन्द्र व सतपाल को साथ करनावास से लेकर कमालपुर तक ढाबों व गोदामों पर एक साथ पांच ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की। रेड के दौरान अलग-2 पांच गोदामों से चोरी किए हुए डीजल व पेट्रोल से भरे ड्रम, एक पिकअप गाड़ी व लॉक खोलने वाली के लिए बनाई गई मास्टर चाबियां तथा तेल चोरी करने उपकरणों सहित पांच लोगों को काबू किया है। गिरफ्तार सभी आरोपियों के खिलाफ माडल टाउन थाना में मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू की गई है।
सस्ते भाव में राजस्थान में बेचते थे तेल
तेल चोरी गिरोह के गुर्गे टैंकरों से तेल निकालने के बाद पिकअप या अन्य वाहनों के जरिये लेकर जाकर उसे राजस्थान के विभिन्न स्थानों पर निर्धारित से सस्ते भाव में बेचते थे। राजस्थान में जगह-जगह दुकानों पर पेट्रोल व डीजल आसानी से खरीदा व बेचा जाता है। ऐसे वहां चोरी किए तेल को बेचने में कोई परेशानी नहीं होती।
चालक के पास होती है टैंकर की मास्टर चाबी
तेल के कैंटरों से तेल की चोरी टैंकर चालकों की मिलीभगत से होती है। चालकों के पास टैंकर की मास्टर चाबी होती है। ढाबों पर खाना खाने व आराम करने के बहाने चालक अपने टैंकरों को ढाबा के अंदर बने गोदामों में खड़ा कर देते हैं। उसके बाद कारिंदों द्वारा तेल की चोरी को अंजाम दिया जाता है।
30 से 40 रुपये लीटर में चालकों को दिए जाते थे तेल
ढाबा संचालकों द्वारा टैंकर चालकों को चोरी किए तेल के बदले में 30 से 40 रुपये लीटर के हिसाब से दिए जाते थे। उसके बाद ढाबा संचालक इस तेल को राजस्थान में 50 से 60 रुपये लीटर के भाव में बेचते थे।
तीन कंपनियों के तेल के डिपो हैं यहां
बावल रोड पर करनावास के समीप पेट्रोल डीजल की तीन कंपनियों का तेल डिपो है। टैंकरों के माध्यम से तेल का आवागमन होता है। हालांकि डिपो में तेल के माप की भी जांच होती है, लेकिन तेल चोरी के कार्य माहिर चालक टैंकर को तेज गति से दौड़ाते हैं, जिससे तेल टैंकर में झाग आ जाते हैं। इससे तेल का माप पूरा दिखाता है, इस कारण डिपो में तेल की चोरी पकड़ में नहीं आ पाती।
इससे बड़ा हादसा होने की आशंका
तेल चोरी का यह खेल आसपास के ग्रामीणों के जीवन पर भारी पड़ सकता है। ढाबों की आड़ में बनाए गए गोदामों पर टैंकर चालकों से साठगांठ कर निकाले जा रहे पैट्रोल व डीजल को स्टाक ढाबों पर ही किया जाता है। ऐसे में कभी भी एक चिंगारी आसपास के करीब पांच किलोमीटर क्षेत्र में तबाही मचा सकती है।
कालाबाजारी करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा : पुलिस अधीक्षक
एसपी ने तेल चोरी के इस बड़े खेल का भंडाफोड़ करने पर रेवाड़ी सीआईए की पीठ थपथपाई। उन्होंने कहा कि मैं पहले ही साफ कर चुकी हूं कि जिले में किसी तरह के अवैध धंधे को पनपने नहीं दिया जाएगा। अपराध व अपराधियों पर हमारी यह कार्रवाई जारी रहेगी।
-नाजनीन भसीन, पुलिस अधीक्षक ... और पढ़ें

अधूरे रेन हार्वेस्टिंग सिस्टम को पूरा कर पाने में जिम्मेदार फेल

रेवाड़ी, खोल और नाहड़ की 100 से अधिक पंचायतों मे गिरते भूजल स्तर और बारिश का पानी संरक्षण के लिए केंद्र जिले को सात करोड़ रुपये से अधिक की राशि केंद्र से मिल चुकी है। इससे 27 सरकारी भवनों में रेन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाने के साथ ही पुराने को चुके सिस्टम को दुरुस्त किया जाना है, लेकिन स्थानीय जिम्मेदार ऐसे हैं कि अधर में पड़े रेन हार्वेस्टिंग सिस्टम को पूरा कर पाने में विफल रहे हैं।
केंद्र सरकार ने देशभर में एक जुलाई से 15 सितंबर तक जल शक्ति अभियान चलाया हुआ है। इसका मकसद जल संरक्षण है। इसमें तालाब, पोंड व सरकारी भवनों में रेन हार्वेस्टिंग सिस्टम के माध्यम से भूजल स्तर को बढ़ाने के साथ ही संरक्षण करना था। बीते 40 दिनों में दूसरी बार केंद्र की टीम जल संरक्षण के लिए किए जा रहे उपायों का सर्वे कर रही है। कुछ नए काम हुए भी हैं, लेकिन पुराने सिरे नहीं चढ़ पाए हैं।
शहर के बड़े दो तालाब जल संरक्षण के लिए बने सकते थे मिशाल
शहर के हनुमान मंदिर स्थित ऐतिहासिक बड़ा तालाब में जल संरक्षण से लेकर पर्यटन तक के लिए प्रयोग में लाया जा सकता था। वहीं सेक्टर- 1 स्थित सोलाराही तालाब को जीर्णोद्धार किया जाता तो ये दोनों तालाब मिशाल बन सकते थे, लेकिन बीते 10 सालों से यहां पर अनेक टीमों ने सर्वे किया, लेकिन एक ईंट तक नहीं लग पाई। जल शक्ति अभियान के तहत भी इन दोनों तालाबों को राशि मिलने की बात हुई थी, लेकिन अभी तक इन तालाबों के लिए बजट नहीं मिला। ऐसे में उपलब्ध संसाधनों के उपयोग में जिम्मेदार कितने संवेदनशील है आसानी से समझा जा सकता है।
सरकारी अस्पताल के रेन हार्वेस्टिंग सिस्टम पड़े खराब
शहर के नागरिक अस्पताल में बारिश के पानी के संरक्षण के लिए रेन हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाए गए थे। इन प्वाइंट के दो मकसद थे, पहला बारिश के दिनों में अस्पताल को जलमग्न होने से बचाना, दूसरा भूजल स्तर बढ़ाना। लेकिन देखरेख के अभाव में यहां के ये सिस्टम खराब पड़े हुए हैं। 15 सितंबर तक मानसून सीजन ही खत्म हो जाएगा, ऐसे में कैसे इस सीजन में संरक्षण की उम्मीद करना बेमानी है।
सात साल बाद भी पीडब्ल्यूडी ने नहीं कराया पूरा काम
शहर के सेक्टर- 18 में पीडब्ल्यूडी की ओर से राजकीय महिला महाविद्यालय का निर्माण किया था। प्रोजेक्ट में तीन रेन हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाना भा शामिल था। तीनों बनाए गए, लेकिन अधूरे छोड़ दिए गए। वर्ष 2012 में भवन को शिक्षा विभाग को हैंड ओवर भी कर दिया गया, लेकिन तीन रेन हार्वेस्टिंग सिस्टम का कार्य आज तक पूरा नहीं हो पाया है।
तेजी से किया जा रहा है कार्य : नोडल अधिकारी
जल शक्ति अभियान के नोडल अधिकारी वकील अहमद ने कहा कि केंद्र से अभियान के तहत करीब 7 करोड़ रुपए दिए गए हैं। इनसे 27 सरकारी भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम तैयार करना व पुराने सिस्टम का जीर्णोद्धार करना शामिल है। इसके लिए तेजी से कार्य किया जा रहा है। जहां पर कार्य अधूरे पड़े हैं, उनका काम पूरा कराया जाएगा। ... और पढ़ें

बैंक अधिकारी बनकर ठग ने खाते से 25 हजार रुपये निकाले

शातिर दिमाग ठगों ने सेक्टर-6 निवासी एक व्यक्ति के मोबाइल पर कॉल कर उससे खाते के बारे में जानकारी ली और फिर उसके खाते से 25 हजार रुपये की नकदी निकाल ली। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया है।
मूलरूप से यूपी के बिजनौर निवासी विरेन्द्र पाल सिंह ने धारूहेड़ा सेक्टर-6 थाना पुलिस को दर्ज कराई शिकायत में कहा कि वह सेक्टर-6 में किराए के मकान पर रहता है। बीते दिन उसके मोबाइल पर एक कॉल आई। कॉल करने वाले ने खुद को बैंक अधिकारी बताया और उसके एक्सिस बैंक के अकाउंट से संबंधित जानकारी मांगी। बाद में उसके खाते से 25 हजार रुपये निकाल लिए। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया है। ... और पढ़ें

बड़े भाई की गैर इरादतन हत्या में सात साल की कैद

जिला एवं सत्र न्यायाधीश दिनेश कुमार मित्तल की कोर्ट ने धारूहेड़ा थाना क्षेत्र के गांव निखरी में अपने ही बड़े भाई सुखबीर की गैर इरादतन हत्या के मामले के आरोपी अमर सिंह को दोषी ठहराते हुए सात साल की सजा सुनाई है। साथ ही पांच हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है। जुर्माना नहीं भरने पर 6 माह की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी।
अभियोजन पक्ष के अनुसार, 14 जुलाई 2018 को निखरी निवासी सुखबीर अपने ही घर में बैठा था। इसी दौरान उसका छोटा भाई अमर सिंह आ गया। अमर सिंह ने अपने भाई को शराब पीने से रोका, लेकिन सुखबीर ने उसकी एक नहीं सुनी। उसके बाद तैश में आकर अमर सिंह ने पास ही पड़े लकड़ी के डंड से अपने पर हमला कर दिया। सुखबीर को गंभीर हालत में एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उसके बाद उसे दिल्ली के अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां कुछ दिनों बाद सुखबीर ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। धारूहेड़ा थाना पुलिस ने इस मामले में अमर सिंह के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया था। बाद में सबूत और गवाह सामने आने के बाद कोर्ट ने इस मामले को 304 पार्ट-2 में तब्दील कर दिया था। मंगलवार को गैर इरादतन हत्या के इस मामले में जिला एवं सत्र न्यायाधीश दिनेश कुमार मित्तल ने अमर सिंह को दोषी ठहराते हुए सात साल की सजा सुनाई है। उस पर पांच हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया गया है। जुर्माना नहीं भरने पर 6 माह की अतिरिक्त सजा काटनी होगी। ... और पढ़ें

बंद मकान से नकदी और जेवरात चोरी

शहर के मोहल्ला कंपनी बाग में बंद मकान में चोरों ने सेंधमारी कर पांच हजार रुपये की नकदी और करीब दो लाख रुपये के जेवरात चोरी कर लिए। सूचना के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।
पुलिस के अनुसार मोहल्ला कंपनी बाग निवासी विजय सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह मार्केटिंग का कार्य करता है। रविवार को वह घर का ताला बंद कर अपने कार्य के लिए चला गया था। परिवार के अन्य सदस्य भी कहीं गए हुए थे। शाम को जब वह वापस लौटा तो घर के अंदर का दरवाजा टूटा हुआ था तथा अलमारी भी टूटी हुई थी। घर का सारा सामान बिखरा हुआ था। जबकि बाहर का दरवाजे पर ताला लटका हुआ था। अनुमान लगाया जा रहा है कि आरोपी दरवाजा फांद कर अंदर घुसे होंगे। सूचना के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने शिकायत के बाद मामला दर्ज कर लिया तथा मामले की जांच शुरू कर दी है। ... और पढ़ें

प्रॉपर्टी टैक्स जमा नहीं कराने वाले 100 लोगों को

तमाम राहत के बावजूद प्रॉपटी टैक्स नहीं भरना अब शहरवासियों पर भारी पड़ सकता है। टैक्स नहीं जमा कराने वाले 100 लोगों को नगर परिषद की ओर से नोटिस भेजे गए हैं। प्रॉपर्टी एक्ट के तहत अब ड्यूटी मैजिस्ट्रेट ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।
नगर परिषद की ओर से टैक्स जमा नहीं कराने वाले लोगों खिलाफ सख्ती शुरू कर दी है। 100 को नोटिस भेजने के बाद अब दूसरी लिस्ट तैयारी की जा रही है। इनको भी नोटिस भेजे जाने की तैयारी है। नोटिस के बाद भी यदि टैक्स जमा नहीं कराया गया तो अपराधी मुकदमे दर्ज हो सकते हैं।
-ऑनलाइन टैक्स की सुविधा देने वाली पहली नप
शहरवासियों को परेशानी न हो इसके लिए प्रशासन की ओर से सोमवार को ऑनलाइन टैक्स जमा कराने की सुविधा का शुभारंभ किया गया। उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने रविवार को पेमेंट गेटवे का शुभारंभ किया तथा सत्यनारायण मकान नंबर 1037 सैक्टर-4 निवासी को ऑनलाईन पेमेंट करने पर उन्हें डीसी द्वारा रसीद भी दी गई। नगरपरिषद रेवाड़ी क्षेत्र का कोई भी व्यक्ति पेमेंट गेटवे पर जाकर घर बैठे प्रॉपर्टी टैक्स ऑनलाइन जमा करा सकता है। यदि कोई अपना ई-मेल पता भी देगा तो रसीद मेल द्वारा टैक्स जमा कराने वाले के पास पहुंच जाएगी। नगर परिषद की वेबसाइट पर जाकर टैक्स जमा किया जा सकता है। एडीसी प्रदीप दहिया, एसडीएम व नगर परिषद के प्रशासक रविन्द्र यादव, सीएमजीजीए सौम्या गुप्ता, ईओ मनोज यादव व पुनीत जिंदल भी इस मौके पर उपस्थित थे।
10 करोड़ का टैक्स बकाया
ईओ मनोज यादव ने बताया कि प्रॉपर्टी टैक्स शहर के विकास पर खर्च किया जाता है। ऐसे में सभी को समय पर टैक्स भरना चाहिए। कुछ लोग से 100 से 150 रुपये का टैक्स भरने के लिए लाईनों में खड़ा
होने से बचा जाता है। अब उम्मीद है कि लोग ऑनलाइन टैक्स भर सकेंगे। शहर में करीब 10 करोड़ रुपये का टैक्स बकाया है। ... और पढ़ें

बैंक अधिकारी बनकर ठग ने खाते से निकाले 20 हजार रुपये

18 अगस्त को धारूहेड़ा के सेक्टर छह थाना में दर्ज किया गया है। बैंक अधिकारी बनकर एक ठग ने एक व्यक्ति को फोन कर उसका खाता बंद होने की बात कहकर बातों में उलझा लिया। बैंक खाते की डिटेल हासिल करने के बाद खाते से 20 हजार रुपये की नकदी निकाल ली गई।
गांव महेश्वरी के विकास नगर निवासी अशोक कुमार ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि 17 अगस्त को दोपहर में उसके पास एक व्यक्ति का फोन आया, जिसने स्वयं को बैंक अधिकारी बताते हुए बैंक खाते की कुछ जानकारी लेनी चाही। जानकारी देने के कुछ समय बाद उसके मोबाइल पर उसके खाते से बीस हजार रुपये निकाले जाने का मैसेेज आया। उसने तुरंत बैंक अधिकारियों से संपर्क किया। उसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। सेक्टर छह थाना पुलिस ने अशोक की शिकायत पर मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। बताया गया है कि सोहना रोड स्थित एटीएम बूथ से शिकायतकर्ता के खाते से निकाले गए है।
एटीएम बूथ पर सीसीटीवी कैमरा बंद
जानकारी के अनुसार एटीएम बूथ पर सीसीटीवी भी खराब पड़े हुए है। शातिर बदमाशों ने संभवतया बूथ की पूरी जानकारी लेने के बाद ही रुपये निकाले है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। ... और पढ़ें

अलग-अलग हादसों में सिपाही समेत तीन की मौत

अलग-अलग हादसों में सिपाही समेत तीन की मौत
एक अन्य स्थान पर स्कूटी की टक्कर से छात्र घायल
माई सिटी रिपोर्टर
रेवाड़ी। जिले में अलग अलग स्थानों पर हुए सड़क हादसे में हरियाणा पुलिस के सिपाही राजा राम समेत तीन लोगों की मौत हो गई। इसके अलावा स्कूटी सवार ने एक छात्र को टक्कर मारकर घायल कर दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
गांव बिसोहा निवासी 35 वर्षीय राजाराम हरियाणा पुलिस में सिपाही पद पर कार्यरत थे। उनकी तैनाती वर्तमान में मेवात में थी। वह वर्षीय कृष्ण कुमार के साथ बाइक से भाड़ंगी से बिसोहा गांव जा रहे थे। गांव लुखी के पास सामने से आए अज्ञात वाहन ने बाइक को टक्कर मार दी, जिससे दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेकर नागरिक अस्पताल से पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिए है।
बताया गया है कि सिपाही राजाराम रविवार को अवकाश लेकर गांव आया था। इसके अलावा कृष्ण कुमार प्राइवेट स्कूल में बस चालक था। दोनों बाइक पर सवार होकर अपने गांव जा रहे थे। हादसे के बाद गांव में मातम छाया हुआ है।
उधर, महेंद्रगढ़ रोड पर स्थित गांव जाडरा के समीप तेज रफ्तार कार ने बाइक को टक्कर मार दी, जिसमें जाडरा निवासी धमेंद्र की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस ने कार चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।
पुलिस के अनुसार जाडरा निवासी करीब 45 वर्षीय धर्मेंद्र व उसका दोस्त मनोज शाम को बाइक पर सवार होकर शहर की ओर आ रहे थे। जाडरा गांव के बस स्टैंड के समीप सामने से तेज रफ्तार कार ने बाइक को टक्कर मार दी, जिसमें धर्मेंद्र की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे में मनोज गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने मृतक के भाई विजय कुमार की शिकायत पर मामला दर्ज कर शव का पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।
एक अन्य घटना में शहर के सैनी स्कूल के मसीप खेल रहे कक्षा चौथी के छात्र तपन को एक स्कूटी सवार ने टक्कर मार दी, जिससे छात्र गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई। घायल छात्र को शहर के अस्पताल में भर्ती करा दिया गया, जहां उसकी स्थिति सामान्य बनी हुई है।
फोटो-4
 राजाराम (फाइल फोटो)
राजाराम (फाइल फोटो)- फोटो : Rewari
... और पढ़ें

13 महीने से लापता छात्रा के मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश

बावल थाना क्षेत्र से 27 जून 2018 को रहस्यमयी ढंग में लापता हुई कक्षा नौवीं की छात्रा के मामले की जांच सीबीआई से करने की सिफारिश की गई है। इस मामले की जांच एसआईटी के अलावा स्पेशल क्राइम ब्यूरो कर चुकी है, लेकिन छात्रा का कोई पता नहीं लग सका। हालांकि मामले में आरोपी बनाई गई एक युवती और अन्य आरोपियों का नार्को टेस्ट भी कराया जा चुका है, जिसकी अभी रिपोर्ट सार्वजनिक नहीं की गई है। सीबीआई जांच की मांग को बावल चौरासी के नेतृत्व में ग्रामीणों ने जन स्वास्थ्य के आवास के सामने 127 दिन तक धरना दिया गया था।
कक्षा नौ में पढ़ने वाली एक छात्रा 27 जून 2018 को दोपहर बाद रहस्यमयी ढंग से लापता हो गई थी। शुरूआत में मामले में पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करने में भी आनाकानी की, लेकिन ग्रामीणों के विरोध के बाद पुलिस गुमशुदगी की गई। छात्रा के लापता होने के बाद परिजनों ने गांव की ही एक युवती पर छात्रा को गायब कराने का आरोप लगाया था। पुलिस ने युवती को काबू कर पूछताछ के बाद जेल भेज दिया था, लेकिन लापता छात्रा का कोई पता नहीं चल सका। इसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस के खिलाफ आंदोलन छेड़ दिया। ग्रामीणों ने गांव बधराना में होने वाले मुख्यमंत्री की जनसभा का बहिष्कार करने के साथ ही केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह व जनस्वास्थ्य राज्यमंत्री डॉ. बनवारी लाल का भी बहिष्कार किया जा चुका है।
बावल थाना पुलिस सेे सीबीआई तक पहुंचा मामला
छात्रा को बरामदगी के लिए मामले की जांच शुरूआत में बावल थाना पुलिस को सौंपी गई थी, लेकिन परिजन पुलिस थाना पुलिस की जांच से परिजन नाखुश थे। इसलिए डीएसपी के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया, लेकिन एसआईटी की जांच भी किसी नतीजे पर नहीं पहुंची। इसके बाद मामले की जांच क्राइम ब्रांच की स्पेशल टीम को सौंपी गई, जिसका नेतृत्व आईपीएस संगीता कालिया कर रही थी, लेकिन क्राइम ब्रांच की टीम भी किसी नतीजे पर नहीं पहुंच गई। इस दौरान ग्रामीण व परिजन सीबीआई जांच की मांग करते रहे थे। आखिरकार 13 माह बाद मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी गई।
बेटी के लापता होने के बाद से काफी परेशान हो रहे थे। काफी इंतजार के बाद मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की गई है। अब न केवल आरोपी काबू कर लिए जाएंगे, बल्कि बेटी का भी पता लग सकेगा।
- लापता छात्रा का पिता
मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश जाने की जानकारी पुलिस अधीक्षक नाजनीन भसीन ने दी है। उम्मीद है कि अब दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। आरोपी अब बच नहीं सकेंगे। सीबीआई जांच की मांग लंबे समय से की जा रही थी।
- रामकिशन महलावत, छात्रा बचाओ संघर्ष समिति ... और पढ़ें

रेवाड़ीः कांग्रेस के पूर्व मंत्री कैप्टन अजय यादव ने शख्स को मारने के लिए निकाला जूता

रेवाड़ी जिले में पूर्व मंत्री कैप्टन अजय यादव ने एक शख्स को मारने के लिए जूता निकाल लिया। घटना का वीडियो वायरल हो रहा है। बताया जा रहा है कि कैप्टन वोट मांगने के लिए गए थे।

इसके लिए आयोजित सभा में एक शख्स ने उन पर नौकरी लगाने के नाम पर पैसे लेने का आरोप लगाया। यह सुनकर कैप्टन आग बबूला हो गए और उन्होंने उसे मारने के लिए जूता निकाल लिया।

यह देखकर लोग भड़क गए और उन्होंने कहा कि नेताजी वोट लेने आए हैं या जूता मारने। घटना कुम्भावास गांव की है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree