विज्ञापन
विज्ञापन
कैसा रहेगा वर्ष 2021, जानें अनुभवी ज्योतिषाचार्यों से
astrology

कैसा रहेगा वर्ष 2021, जानें अनुभवी ज्योतिषाचार्यों से

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

हिसार पहुंचे डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला, लिखित समस्याएं देने वालों की उमड़ी भीड़

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला सोमवार शाम हिसार पहुंचे। वे मंगलवार को होने वाले एयरपोर्ट के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के साथ भाग लेंगे। सोमवार को उपमुख्यमंत्री ने कई कार्यक्रमों में भाग लिया। उपमुख्यमंत्री ने देर शाम अपने अर्बन एस्टेट स्थित आवास पर जनसमस्याएं सुनीं। आवास के साथ लगते पार्क में यहां लोगों का तांता लग गया और पार्क में सैकड़ों लोगों की भीड़ जुट गई। जैसे ही चौटाला ने जनसमस्याएं सुननी शुरू की तो लोगों में अपनी लिखित समस्याएं सौंपने की होड़ मच गई। 

हर कोई अपनी समस्या पहले उपमुख्यमंत्री के समक्ष रखना चाहता था। इससे पहले उपमुख्यमंत्री ने आदमपुर की अनाजमंडी के किसान विश्राम गृह में अटल किसान-मजदूर कैंटीन का शुभारंभ किया। यह कैंटीन हरियाणा कृषि विपणन बोर्ड द्वारा शुरू की गई है, जहां किसानों और मजदूरों को मात्र 10 रुपये में भरपेट भोजन मिलेगा। 

शुभारंभ अवसर पर डिप्टी सीएम ने कैंटीन में परोसे जाने वाले चार प्रकार के भोजन और चूरमे का भी स्वाद चखा। इसके बाद उपमुख्यमंत्री ने अग्रोहा मेडिकल कॉलेज के पूर्व निदेशक डॉ. गोपाल सिंघल के आवास पर पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि दी और शोक-संतप्त परिजनों को ढांढस बंधाया। उन्होंने कहा कि स्व. डॉ. सिंघल ने कोरोना महामारी के दौर में अभूतपूर्व कार्य किया है। अंतिम सांस तक चिकित्सक होने के नाते अपने धर्म का निवर्हन करते रहे। सही मायनों में वे सबसे बड़े कोरोना योद्धा थे।
... और पढ़ें

बिना तलाक प्रेमी संग रहने लगी महिला, मांगी सुरक्षा तो हाईकोर्ट ने ठोका मोटा जुर्माना

पति से तलाक लिए बिना अपने प्रेमी के साथ रहने व संबंध बनाना एक महिला को भारी पड़ा। पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने पति व उसके परिवार से जान को खतरा बता कर सुरक्षा की मांग करने पर महिला को फटकार लगाते हुए उस पर मोटा जुर्माना भी लगाने का आदेश दिया। हाईकोर्ट के जस्टिस मनोज बजाज ने सिरसा निवासी एक महिला की याचिका खारिज करते हुए यह फैसला दिया।

इस मामले में याचिकाकर्ता महिला की शादी दिनेश कुमार से 2011 में हुई थी और दंपती के दो बच्चे थे। याचिकाकर्ता के अनुसार शादी उसकी मर्जी के खिलाफ थी, क्योंकि उसका पहले से ही सहमति संबंध (लिव-इन पार्टनर) के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। हालांकि, उसने परिवार की प्रतिष्ठा बनाए रखने के लिए शादी को स्वीकार कर लिया। 

याचिकाकर्ता ने कोर्ट को बताया कि उसका पति शराब, ड्रग्स आदि लेता है और स्वभाव से झगड़ालू है। उसने शादी तोड़ने की कोशिश की थी लेकिन उसके माता-पिता ने उसे उसके पति के साथ वापस भेज दिया। हालांकि, 2 अगस्त, 2020 को उसने अपने पति का साथ छोड़ने का फैसला किया था। उसके माता-पिता ने उसके फैसले पर आपत्ति जताई लेकिन उसने अपने प्रेमी के साथ रहना शुरू कर दिया।
... और पढ़ें

जींद सामूहिक दुष्कर्म : विज ने मांगी रिपोर्ट, राहुल गांधी पर बोले- इनका मकसद भाजपा शासित राज्यों का विरोध करना

जींद में हुए सामूहिक दुष्कर्म मामले में गृहमंत्री अनिल विज ने जींद के पुलिस अधीक्षक से रिपोर्ट मांगी है। जींद में सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता इंसाफ की मांग को लेकर एसपी कार्यालय के बाहर धरने पर बैठी थी। उसके बावजूद उसे इंसाफ नहीं मिला। इसके बाद पीड़िता ने हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज से मामले की जांच करवाने की मांग की।

विज ने बताया कि उन्होंने एसपी से इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी देने को कहा है। यह घटना दिल्ली की है लेकिन मामला जींद में दर्ज करवाया गया है, इसलिए उन्होंने एसपी को निर्देश दिए हैं कि इस मामले में उचित कार्रवाई की जाए।

विपक्ष के वार पर विज ने कहा कि कांग्रेस को सामूहिक दुष्कर्म से लेना-देना नहीं है। सिर्फ भाजपा शासित राज्यों का विरोध करना उनका मकसद है। उनके अनुसार हाथरस में जब दुष्कर्म हुआ था तो राहुल गांधी और प्रियंका गांधी दल बल सहित कई तरह के ड्रामा करके वहां गए थे। लेकिन पंजाब के होशियारपुर में जहां पर कांग्रेस की ही सरकार है, वहां पर छह वर्ष की बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ, उधर का रुख ये कब करेंगे।

विज ने कहा कि बात-बात पर ट्वीट करने वाले राहुल गांधी के पेन की स्याही भी शायद होशियारपुर के बारे में ट्वीट करने से खत्म हो गई है। इससे तो यह स्पष्ट हो गया कि इनको दुष्कर्म से कुछ लेना-देना नहीं है, इनको तो भाजपा शासित राज्यों का विरोध करना है और राजनीति करनी है। इस कारण से राजस्थान में हादसा हो जाए, इनका उधर मुंह नहीं घूमता और पंजाब या अन्य किसी कांग्रेस शासित प्रदेश में ऐसी अनहोनी हो जाए, ये उधर मुड़कर भी नहीं देखते।
... और पढ़ें

अंबाला में इलाज न मिलने से महिला की मौत, चार डॉक्टरों की ड्यूटी, मौके पर एक भी नहीं था तैनात

माजरा शहजादपुर की 32 वर्षीय ललिता को घर में गीले कपड़े सुखाते हुए करंट लग गया। महिला जब कपड़े सुखा रही थी तो मुख्य सप्लाई की तार में जोड़ लगा था जोकि टूटकर ललिता के ऊपर गिर गई। इसके बाद पति चमन और लक्की उसे उठाकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शहजादपुर लेकर पहुंचे। सुबह सवा 9 बजे अस्पताल में कोई डॉक्टर मौजूद नहीं था। जबकि रोस्टर में 4 डॉक्टरों की ड्यूटी थी। परिजनों ने किसी से नंबर लेकर आरएमओ डॉ. वैशाली को फोन कर अस्पताल आने की गुहार लगाई।

डॉ. वैशाली ने जवाब दिया कि मेरे क्लीनिक में उसे लेकर आ जाओ। परिजनों ने सीएचसी के एसएमओ डॉ. तरुण प्रसाद को भी फोन किया लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया। तड़प रही ललिता को बचाने के लिए अस्पताल के गार्ड ने ऑक्सीजन देने का प्रयास किया लेकिन डॉ. की गैर मौजूदगी के चलते वह सही तरह से ऑक्सीजन नहीं लगा पाया।

10 बजकर 05 मिनट पर डॉक्टर यामिनी सीएचसी में पहुंची तब तक महिला दम तोड़ चुकी थी। इसके बाद परिजनों का गुस्सा फूट पड़ा और उन्होंने अस्पताल में नारेबाजी करते हुए चारों डॉक्टरों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए शव को उठाने से इनकार कर दिया। 

इसके बाद सीएचसी पुलिस छावनी में तब्दील हो गई। 7 घंटे शव सीएचसी में ही पड़ा रहा और परिजन डॉक्टरों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े रहे। हैरत की बात तो यह है कि सीएचसी के एसएमओ डॉ. तरुण प्रसाद भी सूचना मिलने के 3 घंटे बाद 12 बजकर 40 मिनट पर पहुंचे।

चार डॉ. जिनमें डॉ. वैशाली, डॉ. यामिनी, डॉ. नरेश और डॉ. अनू गैर हाजिर थे। जबकि नाइट में मौजूद डॉ. कीर्ति भी गैर हाजिर पाई गई। हमने इन पांचों के खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश कर दी है। -डॉ. बलविंद्र कौर, डिप्टी सिविल सर्जन।
... और पढ़ें

भ्रष्टाचार रोकने को सरकार का नया प्रयोग, अब एचसीएस, एचपीएस, वन विभाग के अफसरों को बनाया आरटीए सचिव

अंबाला में महिला की मौत।
भ्रष्टाचार का अड्डा कहे जाने वाले प्रदेश के रीजनल ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी (आरटीए) कार्यालयों में भ्रष्टाचार का माहौल खत्म करने के लिए हरियाणा सरकार ने एक नया प्रयोग किया है। इन कार्यालयों में अब आरटीए सचिव की कमान अब पहली बार एचसीएस, एचपीएस और वन विभाग के अफसरों को सौंपी गई है। इन अफसरों के अलावा सरकार की नजर में अन्य महकमों के कुछेक अफसरों को भी आरटीए सचिव लगाया गया है। आने वाले समय में इन आरटीए सचिवों को जिला परिवहन अधिकारी कहा जाएगा।

इस महकमे में सरकार को लगातार बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार की शिकायतें मिल रही थी। इन शिकायतों में कई बार प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप में अफसरों व कर्मचारियों की मिलीभगत भी सामने आ रही थी। गत वर्ष सीएम फ्लाइंग स्क्वॉड की टीम के छापे में इन कार्यालयों में कई अनियमितताएं भी मिली थीं। विगत दिनों तो सीएम मनोहर लाल ने इस महकमे के भ्रष्टाचार को खत्म करने की ठानते हुए कई महत्वपूर्ण फैसले लेने का इशारा किया था। 

इसी का असर है कि पहली बार इस महकमे की कमान ट्रांसपोर्ट से अलग कैडर के अफसरों को दी गई है। सूत्र बताते हैं कि सरकार इस महकमे को एक अलग अंदाज और प्रयोग से चलाना चाहती है ताकि ये महकमा भ्रष्टाचार से मुक्त हो सके। इससे पहले सरकार ने इसी महकमे में मोटर व्हीकल इंस्पेक्टर पदों पर भी पुलिस महकमे के इंस्पेक्टरों और सब इंस्पेक्टरों की नियुक्ति की है जबकि आरटीए विभाग में कुछ कच्चे कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया गया है।
... और पढ़ें

हरियाणा: 27 को हिसार एयरपोर्ट के विस्तार का भूमि पूजन, रात को भी उतर सकेंगे विमान

भारतीय जनता पार्टी और जननायक जनता पार्टी की गठबंधन सरकार की पहली वर्षगांठ पर हिसार में अंतरराष्ट्रीय स्तर के एयरपोर्ट की योजना को पंख लग जाएंगे। 27 अक्तूबर को हिसार एयरपोर्ट के विस्तार के लिए भूमि पूजन का कार्यक्रम तय किया गया है। उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बताया कि अब कागजी औपचारिकताएं पूरी होने के बाद सरकार हिसार वासियों का अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट बनने के सपने को जल्द से जल्द पूरा करना चाहती है।

हवाई अड्डे के निर्माण के लिए प्रशासनिक स्तर पर सभी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं। केंद्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्रालय विभाग से हवाई अड्डे के निर्माण कार्य शुरू करने संबंधी हरी झंडी मिल चुकी है। अब एयरपोर्ट के आधारभूत ढांचे का निर्माण कार्य शुरू हो सकेगा। चौटाला ने बताया कि एयरपोर्ट बनाने को लेकर उन्होंने लॉकडाउन के दौरान भी उड्डयन व विमानन से जुड़ी कंपनियों व अधिकारियों के साथ मैराथन बैठकें की। 

केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय से हवाई अड्डे के क्लीयरेंस लेने के लिए समय सीमा तय कर अधिकारियों की विशेष तौर पर ड्यूटी लगाई। हिसार हवाई अड्डे के विस्तारीकरण का सबसे महत्वपूर्ण अंग हवाई पट्टी की लंबाई बढ़ाना है। वर्तमान हवाई पट्टी के अलावा तीन हजार मीटर नई हवाई पट्टी बनाने का काम शुरू हो जाएगा। 
... और पढ़ें

हिसार पहुंचे डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला, लिखित समस्याएं देने वालों की भीड़ उमड़ी

Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X