विज्ञापन

देवरिया

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

देवरिया: जमीन को लेकर दो पक्षों में चली गोली, दो सगे भाइयों की मौत, सात घायल

देवरिया जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। जिले के बरहज थाना क्षेत्र स्थित चकरा नोनार गांव में मंगलवार की सुबह दो पक्षों में पुराने विवाद को लेकर मारपीट के बाद फायरिंग शुरू हो गई। जिसमें रमेश यादव (45) और कोकिल यादव (35) पुत्र गण लालधारी समेत नौ लोग घायल हो गए। सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां रमेश और कोकिल दो सगे भाइयों की मौत हो गई। चिकित्सकों ने हालत गंभीर देख चार को मेडिकल कालेज गोरखपुर के लिए रेफर कर दिया।

चकरा नोनार गांव में लल्लन और हंसनाथ यादव के बीच करीब 20 साल से रास्ते का विवाद चल रहा है। विवाद को लेकर हुई कहासुनी फायरिंग में रमेश यादव, कोकिल यादव, बेचू यादव (70), राजा यादव, देवानंद (16), शिवानंद (20), अंकित (15), लालधारी (60), विनोद घायल हो गए। जिन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया।

चिकित्सकों ने बेचू, राजा, देवानंद, अंकित को मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। ग्रामीणों के अनुसार, कोकिल का बागीचे और गांव में मकान है। वह सुबह गांव वाले घर से बागीचा स्थित मकान पर जा रहे थे। रास्ते में हंसनाथ के घर के लोगों से कोकिल की कहासुनी होने लगी।
... और पढ़ें

यूपी: जमीन के विवाद में सगे भाइयों के बीच खूनी संघर्ष, जमकर हुई चाकूबाजी, दो की हालत गंभीर

उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां बरहज क्षेत्र के करायल शुक्ल गांव में रविवार को भूमि विवाद को लेकर दो सगे भाइयों में खूनी संघर्ष हो गया। विवाद में चले लाठी-डंडे ईंट पत्थर और चाकूबाजी में डॉ. अवधेश शुक्ल (50) और कौशल शुक्ल (46)  गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना पर पहुंची मदनपुर पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से एंबुलेंस से इलाज के लिए जिला अस्पताल भिजवाया।

कहासुनी के बाद जमकर चले लाठी-डंडे
जानकारी के अनुसार, रविवार की सुबह करीब साढ़े सात बजे करायल चौराहा स्थित मकान पर भूमि विवाद को लेकर कहासुनी के बाद डॉ.अवधेश, गिरिजेश और कमलेश, संतोष, कौशल के बीच मारपीट होने लगी। मारपीट में चाकू लगने से कौशल और डॉ. अवधेश बुरी तरह से घायल हो गए। खून से लथपथ दोनों भाई सड़क पर गिर पड़े। मारपीट से चौराहे पर अफरा- तफरी मच गई। सूचना पर पहुंची मदनपुर पुलिस ने घायलों को इलाज के लिए अस्पताल भेजा। मदनपुर थानाध्यक्ष बीबी राजभर ने बताया कि जमीन को लेकर विवाद हुआ है। तहरीर मिलने पर केस दर्ज किया जाएगा।

सगे भाइयों के लिए दरार बनी तीन बीघा जमीन
बरहज तहसील क्षेत्र के करायल शुक्ल गांव निवासी स्व. पवहारी शुक्ल के पांच पुत्र डॉ. अवधेश, कमलेश, कौशल, संतोष और गिरजेश हैं। सगे भाइयों के बीच खूनी संघर्ष की वजह तीन बीघा जमीन बताया जा रहा है। परिजनों का कहना है कि पूर्व में बेचना देवी ने करीब तीन बीघा जमीन डॉ. अवधेश के नाम वरासत लिखा है। उक्त जमीन को लेकर सभी भाइयों में काफी दिनों से विवाद चल रहा है। एक सप्ताह पूर्व जमीन को लेकर भाइयों की ओर से पंचायत बुलाया जाना बताया जा रहा है। जबकि शनिवार की शाम को हुए विवाद में एक पक्ष की महिला द्वारा थाने पर पहुंच भसुर और देवर पर आरोप लगाया गया था। पुलिस द्वारा कोई कदम न उठाया जाना और अगली सुबह हुए खूनी संघर्ष से लोग पुलिस पर सवाल खड़ा कर रहे हैं।
... और पढ़ें

देवरिया: युवक संग बाजार जा रही किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म, चार आरोपी गिरफ्तार

देवरिया जिले में एक शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। यहां सलेमपुर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव की किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है। घटना मंगलवार (नौ नवंबर) की है। युवक से बात करते समय युवक को भगाकर आरोपी ने दुष्कर्म किया। किशोरी के पिता की तहरीर पर पुलिस ने चार आरोपियों के खिलाफ बृहस्पतिवार को केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। वहीं घटना से पूर्व किशोरी के साथ मौजूद युवक को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है। उससे भी पूछताछ की जा रही है।

रामपुर कारखाना थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी युवक का ननिहाल कोतवाली थाना क्षेत्र के एक गांव में है। दो दिन पूर्व वह अपने नाना के घर आया था। यहां पड़ोस की एक किशोरी घरवालों से बाजार से कपड़ा खरीदने की बात कह कर निकली। नाना के घर आया युवक उसे बाइक से नदावर घाट दिखाने के बहाने ले गया। रास्ते में रुककर दोनों बात करने लगे।

इसी बीच मझौलीराज नगर पंचायत क्षेत्र के चार युवक वहां पहुंचे। आरोप है कि चारों ने वहां पहले से मौजूद युवक को भगाकर किशोरी से दुष्कर्म किया। कुछ देर बाद युवक पहुंचा और किशोरी को घर ले गया। पहले तो डर के मारे युवती ने घरवालों को कुछ नहीं बताया।
... और पढ़ें

Deoria: छोटी बहन ने बड़ी बहन की चाकू से गोदकर की हत्या, गांव में मचा हड़कंप

देवरिया जनपद के लार नगर के फत्तेहनगर वार्ड में आपसी विवाद में एक बहन ने अपनी बड़ी बहन की चाकू से गोदकर हत्या कर दी। घटना के बाद लोगों की भीड़ जुट गई। सूचना पर पहुंची पुलिस आरोपी को हिरासत में ले लिया। उससे पूछताछ की जा रही है।

लार नगर के फत्तेहनगर वार्ड निवासी स्वर इम्तियाज के तीन बेटे व तीन बेटियां हैं। गुरुवार की सुबह छोटी बेटी सीमा और बड़ी बेटी नीलोफर में किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। इससे नाराज सीमा ने सब्जी काटने वाले चाकू से नीलोफर पर कई वार कर दिए। जिससे उसकी मौत हो गई।

किसी ने घटना की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया। घटना के बाद कस्बे में तरह तरह की चर्चाएं हो रही है। प्रभारी निरीक्षक नवीन सिंह ने बताया कि आरोपी कुछ मंदबुद्धि लग रही है। उससे पूछताछ की जा रही है।
... और पढ़ें
मौके पर जुटी पुलिस व भीड़। मौके पर जुटी पुलिस व भीड़।

क्रूरता की हद पार: किशोर की गला रेतकर हत्या, हत्यारों ने हाथ-पैर की उंगलियां भी काट डाली

देवरिया जिले में एक दिल दहला देने वाली घटना समाने आई है। यहां नगर पंचायत लार के बाजार वार्ड निवासी 17 वर्षीय रहमान पुत्र सलीम की बृहस्पतिवार की रात में गला रेत कर हत्या कर दी गई। हत्यारों ने बेरहमी के साथ उसके हाथ-पांव की उंगलियों को भी काट डाला। उसका शव पुलिस ने शुक्रवार सुबह सुतावर-चौमुखा मार्ग से बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। उसकी बाइक मईल थाना क्षेत्र में मिली है।

बताया जा रहा है कि रहमान गुरुवार शाम को बाइक लेकर घर से निकला था। उसने स्वजनों से बताया कि अभी आ रहा हूं। कुछ ही देर में उसका मोबाइल स्विच ऑफ हो गया। स्वजन रात भर उसके इंतजार में परेशान रहे। सुबह कुछ लोगों ने उसकी गला कटी लाश सुतावर-चौमुखा मार्ग पर देखा तो पुलिस को सूचना दी।

पहले तो उसकी पहचान नहीं हो सकी, लेकिन सोशल मीडिया पर शव की फोटो देखते ही लार कस्बा के लोगों ने उसे पहचान लिया। उसके घर सूचना मिलते ही कोहराम मच गया। सुतावर पेट्रोल पंप से खेमादेई मोड़ तक राम जानकी मार्ग पर कई घटनाएं अब तक हो चुकी हैं।

रहमान की हत्या की वजह और हत्याओं की तलाश में पुलिस जुटी हुई है। वहीं दुकानदारों ने बाजार बंद करने का फैसला लिया है। रहमान आठ बजे रात में बाइक लेकर घर से निकला था। वह लार पेट्रोल पंप पर तेल भी भरवाया है, जिसकी फुटेज सीसीटीवी में देखी गई है।

उसका शव लार के सुतावर से चमुखा जाने वाले रोड पर मिला। उसकी बाइक मईल थाना क्षेत्र में मिला है। ऐसे में आशंका व्यक्त की जा रही कि हत्या मईल थाना क्षेत्र में करके शव को सुतावर-चौमुखा मार्ग पर फेंक दिया गया।

प्रभारी निरीक्षक लार नवीन कुमार सिंह ने कहा कि हत्यारों को शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पुलिस इस मामले की गहन छानबीन कर रही है।
... और पढ़ें

Deoria News: आर्केस्ट्रा संचालक लापता, खून से सना मिला फरसा व चाकू, हत्या की आशंका

देवरिया जिले में एक हैरान करने वाला मामला समाने आया है। यहां सलेमपुर कोतवाली क्षेत्र के चेरो चौराहे पर से किराए की मकान से एक आर्केस्ट्रा संचालक शुक्रवार की रात में लापता हो गया। जिस मकान में वह रहता है, वहां से चाकू और फरसा के साथ भारी मात्रा में खून मिला है। सूचना पर पहुंची पुलिस घटना की छानबीन में जुटी है। पुलिस आर्केस्ट्रा संचालक के भाई व एक नर्तकी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

बरहज थाना क्षेत्र के मोहाव गांव निवासी रामपुकार गोड़ (35) वर्ष कोतवाली थाना क्षेत्र के चेरो चौराहा पर किराए के मकान में रहकर एक आर्केस्ट्रा चलाता है। जिसमें तकरीबन नौ नर्तकी काम करती हैं। शुक्रवार को सभी नर्तकी किसी कार्यक्रम में शामिल होने गई थी। वह किराए के मकान में अकेले सो रहा था।

शनिवार की सुबह तकरीबन छह बजे आर्केस्ट्रा संचालक का भाई अनिल डायल 112 नंबर को फोन कर सूचना दी कि उसकी भाई की हत्या कर दी गई है और शव का पता नहीं चल पा रहा है। सूचना मिलते ही डायल 112 नंबर की पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंच कर जायजा ली।

डायल 112 की सूचना के बाद कोतवाल नवीन कुमार मिश्र, सीओ विनय कुमार यादव मौके पर पहुंचे तो देखा कि  मकान में एक चाकू और फरसा खून से सना हुआ रखा है। इसके अलावा बरामदे और अन्य कमरों में खून के धब्बे दिखाई दे रहा है। घंटों छानबीन के बाद भी शव का पता नहीं चल सका।

सुबह करीब 10 बजे फॉरेंसिक व डॉग स्क्वाड की टीम ने पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा और एएसपी राजेश कुमार घटनास्थल पर पहुंचकर छानबीन में जुट गए। खबर लिखे जाने तक शव का पता नहीं चल सका। पुलिस आर्केस्ट्रा संचालक के भाई अनिल व एक नर्तकी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

एसपी ने बताया कि मामले के खुलासे के लिए पुलिस को टीम को जिम्मेदारी दी गई है। आर्केस्ट्रा संचालक के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।
... और पढ़ें

Deoria Murder: बीवी और साली ने मिलकर रची थी हत्या की साजिश, इस वजह से दोस्तों से मिलकर कराई थी हत्या

देवरिया जिले के मदनपुर गोला में परिवार के साथ छत पर सो रहे युवक अली मोहमद की हत्या का राजफास हो गया है। एसओजी की टीम ने हत्या में प्रयुक्त असलहा बरामद कर ली है। मामले में युवक की बीवी और साली ने मिलकर उसकी हत्या का षडयंत्र रचा था। उन्होंने अपने दो दोस्तों से अली की हत्या करवाया।  हत्या के बाद असलहे को साली ने छुपा दिया था। इस मामले में एसओजी टीम ने चार लोगों को हिरासत में लिया है।

मदनपुर गोला निवासी अली मोहम्मद (31) ने दो शादियां कर रखी थी। इसमें से पहली शादी से रिश्ता टूट चुका है, जबकि दूसरी पत्नी की बहन भी युवक के घर ही रहती थी। वह सोमवार की रात में छत पर सोया था। इसी दौरान बदमाशों ने उसके कनपटी पर गोली मार दी थी। खुलासे में जुटी एसओजी को बुधवार की रात में मोबाइल कॉल डिटेल के जरिए अहम सुराग मिल गया।

पुलिस ने दूसरी पत्नी और उसकी बहन सहित दो अन्य गोरखपुर जनपद निवासी युवकों को हिरासत में लिया। पूछताछ के दौरान कुछ समय तक तो आरोपी पुलिस को चकमा देते रहे। लेकिन पुलिस के सवालों का जवाब देने में उलझ गए।

पुलिस को जानकारी मिली है कि मृतक युवक का इधर कुछ दिनों से दूसरी पत्नी से तकरार चल रहा था। उसकी साली की नजदीकियां घर आने जाने वाले एक युवक से बढ़ गई थी। यह बात मृतक को खटकने लगी थी। इसको लेकर अक्सर तकरार हुआ करता था।

इसी बात को लेकर बीवी और साली ने उसे रास्ते से हटाने की साजिश रच दी। घटना के दिन दूसरी पत्नी और साली ने दो युवकों को बुलाया। दोनों दीवार के सहारे छत पर चढ़ गए और युवक की गोली मारकर हत्या कर फरार हो गए। घटना के बाद आरोपी ने असलहा उसकी साली को छिपाने के लिए दे दिया।

साली ने असलहे को घर के अंदर छिपा दिया। सीओ जिलाजीत ने बताया कि घटना का खुलासा कर दिया गया है। प्रेम प्रसंग के कारण युवक की हत्या की गई थी।
... और पढ़ें

गोरखपुर में हत्या की आशंका: कमरे में युवती की मिली लाश, 20 दिन पहले ही हुआ था प्रेम विवाह

मृतक की फाइल फोटो।
गोरखपुर जिले के सहजनवां इलाके के नगर पंचायत वार्ड नंबर आठ केशोपुर में बृहस्पतिवार को किराये के कमरे में देवरिया की युवती की लाश मिली है। कमरा अंदर से बंद था। लेकिन, शरीर पर पूरे कपड़े नहीं थे और कई जगह चोट के निशान भी मिले हैं। फाइनेंस कंपनी में अकाउंटेंट युवती ने 22 अप्रैल को ही प्रेम विवाह (कोर्ट मैरिज) किया था। घटना की सूचना पर एसपी नार्थ मनोज अवस्थी भी मौके पर पहुंच गए। प्रत्यक्षदर्शी हत्या की आशंका जता रहे हैं। मौत की वजह जानने के लिए पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

जानकारी के मुताबिक, देवरिया जिले के बरहज थाना क्षेत्र के पलिया गांव निवासी रामायण की बेटी नीलम कश्यप (29) माइक्रो फाइनेंस कंपनी गीडा में एकाउंटेंट पद पर कार्यरत थी। इसी लिहाज से वार्ड नंबर आठ केशोपुर में किराये का मकान लेकर रहती थी। नीलम ने 22 अप्रैल 2022 को देवरिया में पटना, बिहार निवासी मनीष नाम के युवक से कोर्ट मैरिज किया था।

माइक्रो फाइनेंस कंपनी के मैनेजर ने बताया कि बृहस्पतिवार सुबह जब ऑफिस नही पहुंची तो फोन किया। फोन बंद बता रहा था। इस वजह से कमरे पर पहुंचा तो अंदर से फाटक बंद मिला। किसी तरह कुंडी खोला तो वह मृत अवस्था मे पड़ी थी। घटना की जानकारी गीडा पुलिस को दी।

 
... और पढ़ें

देवरिया: सौतेले भाई ने दो सगे भाइयों की गला रेतकर की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

देवरिया जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां गौरी बाजार थाना क्षेत्र के ग्राम देवतहां टोला छितहीं में बुधवार की भोर में पांच बजे घर के बरामदे में सोते समय सौतेले भाई ने दो सगे भाइयों की चाकू से गला रेत कर हत्या कर दी। सूचना मिलने पर मौके पर डीआईजी/ एसपी डॉक्टर श्रीपती मिश्रा ने मौके पर पहुंच कर घटनास्थल का जायजा लिया। उधर आरोपी सहित तीन लोगों को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

ग्राम देवतहां छितही टोला निवासी श्रीनिवास प्रसाद ने दो शादियां की हैं। श्रीनिवास दुबई में रहकर नौकरी करते हैं। उनके साथ पहली पत्नी कुसुम का पुत्र जितेंद्र भी रहता है। जबकि एक पुत्र राजू घर पर ही रहता है।

राजू, उसकी मां कुसुम एवं भाभी अर्चना को यह आशंका थी कि उसका पिता अपनी दूसरी पत्नी मंशा देवी को अधिक पैसा भेजते हैं। मंशा के दो पुत्र अजय (19) और अभिषेक (14) है। दोनों बुधवार की भोर में घर के बरामदे में एक ही साथ सो रहे थे।

मां मंशा शौच के लिए बाहर गई थी। उसी दौरान पहले से घात लगाए बैठे आरोपी राजू ने चाकू से दोनों सगे भाइयों की गला रेत कर हत्या कर दी। आनन फानन उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।

उधर पुलिस ने आरोपी राजू सहित कुसुम देवी व अर्चना देवी को हिरासत में ले लिया है। मौके पर एसपी श्रीपति मिश्र, सीओ रूद्रपुर एवं स्थानीय पुलिस पहुंचकर घटनास्थल का जायजा लेकर ग्रामीणों से पूछताछ कर रही है।
... और पढ़ें

देवरिया: आम के पेड़ से लटकता मिला युवक का शव, एक दिन पहले युवती ने भी की थी आत्महत्या

देवरिया जिले के खुखुंदू थाना क्षेत्र के स्थानीय गांव के कवलही मोहल्ला स्थित एक बागीचे में एक 20 वर्षीय युवक का शव बुधवार की सुबह आम के पेड़ में रस्सी से लटकता देख लोगों ने शोर मचाया। मौके पर जुटी भीड़ ने शव की पहचान कर परिजनों को सूचना दी। उधर सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को नीचें उतरवाकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना के बाद परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

खुखुंदू गांव निवासी अक्षय राजभर का गांव और कवलही पर  दोनों जगह आवास है। तीन बेटों में अभिषेक राजभर (20) दूसरे नंबर का लड़का था। इनके अलावा सबसे बड़ी एक बेटी भी है। जिसकी शादी हो चुकी हैं। परिजनों का कहना है कि अभिषेक पेंटिंग का काम करता था। मंगलवार को काम करने के बाद वह घर नहीं लौटा था।

बुधवार सुबह शौच करने गए लोगों ने घटना की सूचना दी। इसके बाद मौके पर जाकर देखा गया तो उसका शव पेड़ से लटक रहा था। घटना के बाद माता उर्मिला देवी और दादी रोते रोते बेहोश हो जा रही हैं। मौके से पुलिस ने चीलम भी बरामद किया है। एसओ नवीन चौधरी ने बताया कि शव देखकर प्रतीत हो रहा है कि युवक ने खुदकुशी की है। वैसे पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ स्पष्ट होगा।

 
... और पढ़ें

देवरिया: मामूली विवाद में मायके वालों को बुला बहू ने करा दी ससुर की हत्या, तीन गिरफ्तार

देवरिया जिले के महुआडीह थाना क्षेत्र के देवरिया नकछेद गांव में मामूली सी बात को लेकर बहू ने बृहस्पतिवार देर रात अपने ससुर की पीटकर हत्या करवा दी। घटना के बाद बहू घर का कीमती सामान लेकर अपने भाइयों के साथ मायके चली गई। मामले की जानकारी होते ही गांव में हड़कंप मच गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

महुआडीह थाना क्षेत्र के देवरिया नकछेद गांव के रहने वाले रामेश्वर प्रसाद (50) बृहस्पतिवार की देर शाम गांव के आंबेडकर पार्क में मनाई जा रही, डॉ. भीम राव आंबेडकर की जयंती कार्यक्रम में गए थे। रात 11 बजे के करीब वह घर लौटे। कार्यक्रम स्थल से रामेश्वर प्रसाद कुछ मिठाई साथ लेकर घर पहुंचे। वह मिठाई उनकी बेटी ने खा लिया।

इस बात पर बहू सुमन से उनका विवाद हो गया। सुमन ने अपने मायके वालों को फोन कर बुला लिया। उसके भाई और कुछ अन्य लोग रात करीब साढ़े 11 बजे आ धमके। आरोप है कि रामेश्वर के छोटे बेटे विश्वजीत को मायके वाले घर से खींचकर पीटने लगे। रामेश्वर ने बीच - बचाव किया तो उन लोगों ने उनको भी पीटकर कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। शोर सुनकर मौके पर जुटे गांव के लोग रामेश्वर को लेकर सीएचसी पिपरा दौला कदम पहुंचे।

वहां गंभीर हालत देख डॉक्टरों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जिला अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टरों ने रामेश्वर प्रसाद को मृत घोषित कर दिया। लोग शव लेकर घर पहुंचे। उधर ससुराल पक्ष के लोगों का आरोप है कि घटना के बाद बहू सुमन दो बैग और अन्य सामान घर में से निकालकर भाइयों के साथ मायके चली गई। विदेश रह रहे सुमन के पति व बड़े बेटे सोनू को मामले की जानकारी दी।

 
... और पढ़ें

देवरिया: आर्केस्ट्रा में नाचने को लेकर युवक की पीट- पीटकर हत्या, गांव में मचा कोहराम

देवरिया जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एकौना तिघरा गांव निवासी एक युवक की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। 18 फरवरी की रात वह कुशीनगर जिले के रामपुर मिश्री गांव में बरात में शामिल होने गया था। इस दौरान आर्केस्ट्रा में नाचने को लेकर हुए विवाद में लोगों ने उसे लाठी से जमकर पीट दिया। घायल का उपचार गोरखपुर के एक निजी अस्पताल में चल रहा था। जहां मंगलवार को उसकी मौत हो गई।

ग्राम तिघरा खैरवा निवासी राहुल सिंह की बरात 18 फरवरी को ग्राम रामपुर मिश्री थाना हाटा जिला कुशीनगर गई थी। दरवाजे पर द्वार पूजा में आर्केस्ट्रा में नाचने को लेकर बराती व घराती में मारपीट हो गई। मारपीट में बराती पक्ष के करीब एक दर्जन लोग घायल हो गए थे। जिसमें तिघरा खैरवा निवासी अखिलेश सिंह (29) पुत्र सुरेंद्र सिंह के सिर में गंभीर चोट लग गई थी।

उनका इलाज गोरखपुर स्थित निजी अस्पताल में चल रहा था। 22 फरवरी को सुबह इलाज के दौरान घायल अखिलेश सिंह की मौत हो गई। मौत की सूचना पर हाटा पुलिस शव को कब्जे में लेकर कुशीनगर में पोस्टमार्टम के लिए भेज दी।

मंगलवार देर रात शव दरवाजे पर आने के बाद पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ गई। मृतक युवक तीन भाइयों में सबसे बड़ा था। परिवार का एकमात्र कमाऊ सदस्य था। मृतक के पिता खेती करते हैं। मृतक बैंगलोर में रहकर मजदूरी करता था। उसकी एक बहन है, जिसकी शादी की जिम्मेदारी मृतक के ऊपर थी।

अखिलेश सिंह का विवाह एक वर्ष पूर्व हुआ था। बेटे के असामयिक मौत से मां राधिका देवी का बुरा है। पत्नी कंचन सिंह व बहन अमृता सिंह शव के पास बेसुध पड़ी हुई थी।
... और पढ़ें

देवरिया: फंदे से लटककर दुकानदार ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में सामने आई ये बड़ी वजह

उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां कर्ज तले दबे शहर के एक युवा व्यवसाई ने शनिवार की रात में दुकान में फंदा लगाकर आत्महत्या कर लिया। दुकान में शव लटकते देख परिजनों और आसपास के लोगों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जबकि घटनास्थल से पुलिस ने सुसाइड नोट भी बरामद किया है।

जानकारी के अनुसार, शहर के जलकल रोड परमार्थी पोखरा गली निवासी धनेश जायसवाल उर्फ मिंटू (36) पुत्र गंगा जायसवाल गल्ला मंडी में किराने की दुकान चलाता था। शनिवार की रात करीब 11.30 बजे तक जब वह दुकान बंद कर घर नहीं पहुंचा तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की।

परिजनों ने उसके मोबाइल फोन पर कॉल किया तो फोन नहीं उठा। इस पर परिजन मृतक के परिचितों से संपर्क किए, लेकिन पता नहीं चला। कुछ देर बाद घर के लोग दुकान पर पहुंचे तो देखा कि दुकान के भीतर फंदे के सहारे शव लटक रहा था। यह देख परिजनों के होश उड़ गए और शोर मचाने लगे।

मौके पर अन्य दुकानदार भी पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। घटनास्थल पर सीओ सदर श्रीयश त्रिपाठी और कोतवाल अनुज कुमार सिंह पहुंचे और जांच पड़ताल शुरू कर दिए। मृतक के पास से एक सुसाइड नोट पुलिस को मिला, जिसमें आत्महत्या का कारण कर्ज चुकता न होना बताया है।

कोतवाल ने बताया कि व्यवसाई ने आत्महत्या कर लिया है। सुसाइड नोट को देखने से ऐसा लगता है कि काफी कर्ज होने के कारण उसने यह कदम उठाया है। मामले की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00