विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

अयोध्या प्रकरणः कल्याण सिंह बतौर आरोपी 27 को अदालत में तलब, विशेष न्यायाधीश ने दिया आदेश

अयोध्या प्रकरण के विशेष न्यायाधीश सुरेंद्र कुमार यादव ने पूर्व मुख्यमंत्री व राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह को बतौर आरोपी तलब किया है।

22 सितंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

देवरिया

रविवार, 22 सितंबर 2019

बाइक की टक्कर से गिरी महिला के गर्भ में बच्चे मौत

बाइक की टक्कर से गिरी महिला का गर्भपात, दी तहरीर
12 सितंबर की है घटना, महिला के खेत की तरफ जाने के दौरान हुई घटना
अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद थाने पहुंच महिला ने दी तहरीर
अमर उजाला ब्यूरो
रामपुर कारखाना। स्थानीय थानाक्षेत्र के एक गांव में खेत की तरफ जा रही गर्भवती महिला को बाइक सवार युवक ने टक्कर मार दी। आरोप है कि जमीन पर गिरने से उसका गर्भपात हो गया। अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद पीड़ित परिवार के लोगों ने बुधवार को थाने पहुंचकर तहरीर दी।
एक गांव निवासी गर्भवती 12 सितंबर की शाम अपने खेत की ओर गई थी। आरोप है कि लौटते वक्त गांव के एक युवक ने चलती बाइक से उसकी साड़ी खींची, जिससे वह बाइक से टकराकर गिर गई। उसके पेट में चोट लगी। घर पहुंचने पर उसे रक्तस्राव होने लगा। परिवारवालों ने महिला को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। चोट लगने से उसका गर्भपात हो गया। शुक्रवार को महिला के पति ने आरोपी के खिलाफ छेड़खानी की तहरीर दी थी, लेकिन पुलिस ने आरोपी युवक का शांतिभंग में चालान कर खानापूरी कर ली। अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद महिला अपने पति के साथ बुधवार की सुबह थाने पहुंची। पूरी घटना पुलिसकर्मियों को बताई, लेकिन थानेदार के बाहर होने की बात कह तहरीर नहीं ली गई। शाम को किसी तरह पुलिसकर्मियों ने तहरीर ली और अगले दिन आने की बात लौटा दिया। एसओ राजेश सिंह ने बताया कि मामला संज्ञान में है। तहरीर के आधार पर जांच कर कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

झूठी रिपोर्ट लगा रहे लेखपाल, शिकायतों के निस्तारण

फोटो-
झूठी रिपोर्ट लगा रहे लेखपाल, हल नहीं हो रही शिकायतें
विकास भवन में समीक्षा बैठक के दौरान प्रभारी मंत्री के समक्ष उठा मुद्दा
अमर उजाला ब्यूरो
देवरिया। विकास भवन सभागार में बुधवार को आयोजित समीक्षा बैठक में प्रभारी मंत्री श्रीराम चौहान ने शासन की योजनाओं का पारदर्शिता से पात्रों तक लाभ पहुंचाने के निर्देश अफसरों को दिए। निर्माण कार्यों में गति लाने की हिदायत दी। इस दौरान स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली और अव्यवस्था का मुद्दा जनप्रतिनिधियों ने प्रमुखता से उठाया। समाधान दिवस के प्रकरणों के निस्तारण में भी जमीनी स्तर पर कार्रवाई न किए जाने का आरोप लगाया। मंत्री ने अफसरों को इसमें सुधार की हिदायत दी।
समीक्षा बैठक में प्रभारी मंत्री ने कहा कि जनता के हित के लिए कल्याणकारी योजनाएं बनाई जाती हैं, उसे क्रियान्वित करते हुए लोगों तक उसका लाभ पहुंचाना अधिकारियों की जिम्मेदारी है। सभी विभाग सेवाभाव से कार्य करें। समस्याओं का समाधान समय से करें, विलंब से वह और बढ़ेंगी। क्षेत्र में जाएं, जनता से जुड़ें, उनसे सीधा संवाद करें। सभी विभाग अपने दायित्वों और लक्ष्यों को शत-प्रतिशत पूरा करें। कोई दिक्कत आए तो उसे दूर करने के लिए जन प्रतिनिधियों सेे भी सहयोग लें। समीक्षा बैठक में बरहज विधायक सुरेश तिवारी ने आय प्रमाण पत्र में लेखपालों के माध्यम से गलत आख्या और समाधान दिवसों में लंबित प्रकरणों का समाधान न करने का मामला उठाया। सदर सांसद के प्रतिनिधि रवींद्र प्रताप मल्ल ने भी समाधान दिवसों के प्रकरणों में वास्तविक निस्तारण न करने की शिकायत की। सलेमपुर सांसद के प्रतिनिधि जयनाथ कुशवाहा ने जिला चिकित्सालय में डायलिसिस मशीन चालू नहीं होने तो रवींद्र प्रताप मल्ल ने जिला अस्पताल में इमरजेंसी सेवा में चिकित्सकों के न बैठने का प्रकरण प्रभारी मंत्री के सामने रखा। बरहज विधायक ने चारागाह की जमीन से अतिक्रमण हटाने बाद उसकी बैरिकेडिंग कराने का प्रस्ताव रखा। डीएम अमित किशोर ने इसका शीघ्र निस्तारण का भरोसा दिलाया। बैठक के दौरान पंचायती राज के तहत ग्राम पंचायतों में होने वाले भुगतान के लिए संचालित प्रियासाफ्ट को ग्रीन बटन दबाकर उसका भी शुभारंभ किया। बैठक में सदर विधायक जन्मेजय सिंह, सलेमपुर काली प्रसाद, अंगद तिवारी, पथरदेवा ब्लॉक प्रमुख सुब्रत शाही, भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ. अंतर्यामी सिंह, एसपी डॉ. श्रीपति मिश्र, सीडीओ शिवशरणप्पा जीएन, एडीएम राकेश पटेल, सीएमओ डॉ. धीरेंद्र कुमार आदि अधिकारी मौजूद रहे।
महिला अस्पताल में बांटे फल, वन स्टाप सेंटर का उद्घाटन
देवरिया। प्रभारी मंत्री श्रीराम चौहान ने महिला चिकित्सालय में मरीजों में फल वितरित किया। इसके बाद अस्पताल के सामने ही नवस्थापित वन स्टाप सेंटर का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि इस सेंटर में आने वाले सभी महिला पीड़ितों की समस्याओं का समाधान एक ही जगह हो सकेगा। चिकित्सकीय, पुलिस रिपोर्टिंग और उन्हें रहने-खाने की भी सुविधा इस केंद्र पर ही उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि इस कार्य में जो कर्मी लगे हैं वे पूरी निष्ठा के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करें। पीड़िताओं की समस्याओं का समाधान बिना किसी भेदभाव के मानवीय दृष्टिकोण से करें। इस मौके पर डीएम अमित किशोर, एसडीएम दिनेश कुमार मिश्र, सीओ निष्ठा उपाध्याय, डीपीओ प्रभात कुमार, बाल संरक्षण अधिकारी जय प्रकाश तिवारी, जिला समाज कल्याण अधिकारी रामपाल यादव, बीएसए ओमप्रकाश यादव, पीओ डूडा प्रमोद कुमार आदि मौजूद रहे।
प्रबुद्ध वर्ग से मिले मंत्री, बताए 370 हटने के फायदे
देवरिया। समीक्षा बैठक से पूर्व जिले के प्रभारी मंत्री श्रीराम चौहान ने सेवा सप्ताह के अंतर्गत जम्मू कश्मीर से 370 और 35 ए हटाए जाने पर जन जागरण अभियान में हिस्सा लिया। जनपद के प्रबुद्ध और प्रतिष्ठित लोगों से मुलाकात कर इससे संबंधित पुस्तक भेंट की। मंगलवार की रात होमियोपैथ के चिकित्सक डॉ. जयराम सिंह, इनकम टैक्स के अधिवक्ता सुरेश पांडेय, बीआरडी पीजी कॉलेज के प्राचार्य महेंद्र वीर शाही से भेंट की। बुधवार की सुबह न्यू कॉलोनी स्थित गुरुद्वारा पहुंच ग्रंथी दामोदर जी और सिख समाज के लोगों से मुलाकात कर पुस्तिका भेंट की। इस दौरान जिलाध्यक्ष भाजपा डॉ. अंतर्यामी सिंह, विधायक जन्मेजय सिंह, सुरेश तिवारी, सेवा सप्ताह जिला संयोजक सीपी सिंह, अजय शाही, जयनाथ कुशवाहा, भूपेंद्र सिंह, कृष्णानाथ राय, अजय कुमार दुबे, रामशीष प्रसाद, सह संयोजक सेवा सप्ताह अंबिकेश पांडेय, पवन मिश्रा, रमेश वर्मा आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

महंगाई, मूल्यवृद्धि के खिलाफ प्रसपा ने किया प्रदर्शन

फोटो-
महंगाई, मूल्यवृद्धि के खिलाफ प्रसपा ने किया प्रदर्शन
सुभाष चौक से कलेक्ट्रेट तक निकाला जुलूस, राज्यपाल को भेजा 11 सूत्री ज्ञापन
अमर उजाला ब्यूरो
देवरिया। पेट्रोल-डीजल और बिजली के दामों में वृद्धि, नए मोटर कानून के नाम पर अवैध वसूली, बिजली, सिंचाई सहित अन्य समस्याओं को लेकर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को प्रदर्शन किया। शहर में जुलूस निकालकर केंद्र और प्रदेश सरकार के खिलाफ नारे लगाए। कलेक्ट्रेट पहुंचकर राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन प्रेषित किया।
सुभाष चौक से निकले जुलूस का नेतृत्व कर रहे जिलाध्यक्ष गिरेंद्र प्रताप यादव ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार हर मुद्दे पर फेल होती नजर आ रही है। अपराधियों व माफिया के आतंक से पूरा प्रदेश जल रहा है। पेट्रोल-डीजल की मूल्यवृद्धि से परेशान जनता पर बिजली मूल्य में 12 प्रतिशत की वृद्धि जले पर नमक छिड़कने जैसा है। महंगाई लगातार बढ़ती जा रही है और अर्थव्यवस्था बदहाल हो रही है। थाना, तहसील में भ्रष्टाचार हावी है। निधियों में कमीशनखोरी खत्म नहीं हो रही। जिला पंचायत देवरिया की निधि पर सांसद-विधायक अनावश्यक प्रभाव डाल रहे हैं, जिससे पूरे जिला पंचायत का विकास रुका हुआ है। छह माह बीतने के बाद भी जिला पंचायत में हुए टेंडर पर काम नहीं हो रहे। छुट्टा पशुुओं के लिए अब कोई स्थाई व्यवस्था नहीं की जा सकी है। प्रदेश सरकार जनहित के किसी भी मुद्दे पर गंभीरता नहीं दिखा रही। ऐसे में सरकार को बर्खास्त करने की जरूरत है। प्रदर्शन में विनय सिंह अमेठिया, जयश्री विश्वकर्मा, सिपाही यादव, तारकेश्वर मिश्र, शिवदयाल कन्नौजिया, ईश्वर दयाल, लीलावती देवी, सैरुन्निशा खातून, उषा देवी, जयद्रथ कुशवाहा, बुल्लू चौहान, मुन्ना गौड़, रितेश यादव, जसवंत यादव, लालसाहब, मणि यादव, अनिल यादव, रत्नेश यादव, पवन, दिनेश, पप्पू आदि शामिल रहे।
फोटो समाचार
सयुस कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार का पुतला फूंका
चिन्मयानंद को बचाने का लगाया आरोप, केस दर्ज कर गिरफ्तारी की मांग
अमर उजाला ब्यूरो
देवरिया। समाजवादी युवजन सभा के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को पोस्टमार्टम चौराहे पर केंद्र सरकार का पुतला फूंका। भाजपा नेता और पूर्व गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद को बचाने का आरोप लगाया। कार्यकर्ताओं ने बलात्कार का केस दर्ज कर कार्रवाई की मांग की है।
यहां हुई सभा में सपा नेता विजय रावत ने कहा कि बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ का नारा देकर सत्ता में आने वाली भाजपा सरकार में बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। भाजपा के बड़े नेता और पदाधिकारी आए दिन बेटियों की इज्जत से खिलवाड़ कर रहे हैं। इसमें भी उत्तर प्रदेश सबसे आगे चल रहा है। पीड़िता के आरोप का सबूत के तौर पर वीडियो भी है। इसके बाद भी आरोपी पर केस दर्ज नहीं किया जा रहा है। सयुस के जिलाध्यक्ष रणवीर यादव ने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार के दबाव में चिन्मयानंद पर केस दर्ज नहीं किया जा रहा है। एक तरफ सपा नेता आजम खान पर बकरी चोरी केस दर्ज कर रही है। वहीं, 42 वीडियो वायरल होने पर चिन्मयानंद पर केस दर्ज नहीं किया जा रहा है। भाजपा सरकार तानाशाह की तरह काम कर रही है। चिन्मयानंद पर केस दर्ज नहीं किया गया तो सयुस बड़ा आंदोलन करेगी। इस दौरान हरिओम यादव, वीरेंद्र प्रताप यादव, मुराद अहमद, सुनील यादव, बृजानंद यादव, अविनाश चौहान, सूरज कुशवाहा, अली आजम शेख, विकास सिंह, शाकिर अली, हरिकेश आदि मौजूद रहे।
फोटो समाचार
खेमस कार्यकर्ताओं ने दिया धरना, सौंपा ज्ञापन
तहसील परिसर में आठ सूत्रीय मांगों को लेकर किया प्रदर्शन
अमर उजाला ब्यूरो
बरहज। तहसील परिसर में अखिल भारतीय खेत एवं ग्रामीण मजदूर सभा कार्यकर्ताओं ने धरना-प्रदर्शन किया। आठ सूत्री मांगों को लेकर कार्यकर्ता मुखर थे। जहां मुख्यमंत्री को संबोधित पत्रक उपजिलाधिकारी रामविलास राम को दिया।
बुधवार को भारी बरसात के बावजूद कार्यकर्ता परिसर में पहुंच अपनी मांगों को लेकर नारेबाजी करते हुए धरने पर बैठ गए। संघ के आह्वान पर जमीन और जीविका, गांव और गरीबी के तहत विरोध प्रदर्शन करते हुए धरना दिया। श्रीराम चौधरी ने कहा कि सरकार गरीबों और मजदूरों की विरोधी है। भ्रष्टाचार मुक्त राष्ट्र बनाने की कवायद करने वाले खुद भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गए हैं। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था पूरी तरह लड़खड़ा गई है। शौचालय, आवास आदि के लिए जिम्मेदारों द्वारा पैसे लिए जा रहे हैं। एपवा नेता गीता पांडेय ने कहा कि भाजपा सरकार ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा दिया है। लेकिन महिलाओं पर सबसे ज्यादा अत्याचार हो रहा है। सभा को श्रीराम कुशवाहा, कलक्टर शर्मा, पूनम यादव, बैरिस्टर शर्मा, सविता यादव, धर्मेंद्र कुशवाहा आदि ने संबोधित किया। इस दौरान धर्मराज मिश्र, रामप्रवेश प्रसाद, हरिशरण, मोहन मद्धेशिया, रामजी गुप्त, विजय सिंह पटेल, संत प्रसाद, काशीनाथ कुशवाहा, हरीशचंद्र मिश्र, सुरेश, बिकाऊ आदि उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

ईंट-भट्ठे से नकली शराब बनाने के उपकरण के साथ पांच गिरफ्तार

नकली शराब बनाने के उपकरण सहित पांच गिरफ्तार
35 लाख रुपये कीमत की 470 पेटी रोमियो क्रेजी शराब बरामद
रैपर, बंटी-बबली की शीशी, एक हजार ढक्कन और अन्य सामान भी मिला
अमर उजाला ब्यूरो
देवरिया। ईंट-भट्ठे पर नकली शराब बनाने के उपकरण के साथ पुलिस ने शुक्रवार की रात भट्ठा मालिक समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। मौके से पुलिस ने पंजाब की 35 लाख रुपये कीमत की क्रेजी रोमियो शराब, रैपर, बंटी-बबली की शीशी, एक हजार ढक्कन और अन्य सामान बरामद किया। पुलिस ने दावा किया है कि भट्ठे पर शराब की रिपैकिंग कर बिहार भेजा जाता था।
पुलिस लाइंस के मनोरंजन कक्ष में एसपी डॉ. श्रीपति मिश्र ने बताया कि लार इंस्पेक्टर विजय सिंह गौर शुक्रवार की शाम इलाके में भ्रमण पर थे। मुखबिर की सूचना पर स्वॉट, सर्विलांस और सीआईयू टीम के साथ सतोतर के पास ईंट-भट्ठे पर छापा मारा। भट्ठा मालिक आलोक सिंह निवासी बरडीहा दलपत लार, मुंशी अमित निवासी मलकौली सलेमपुर, मजदूर शिव भोला, विजय कुमार और मोनू निवासी पखरौली, डालमऊ जिला रायबरेली को गिरफ्तार कर लिया। मौके से पुलिस ने 470 पेटी मिलावटी क्रेजी रोमियो, 20 शीशी नकली बंटी-बबली, दो कीप, दो प्लास्टिक के गैलन में 10-10 लीटर अपमिश्रित शराब, दो बोरे में खाली शीशी बंटी-बबली, एक झोले में ढक्कन, दो कीप, दो जग, 10 किलोग्राम यूरिया, पांच किलोग्राम नौसादर बरामद किया गया। एसपी ने बताया कि पुलिस की पूछताछ में भट्ठा मालिक ने पंजाब से क्रेजी रोमियो शराब मंगाकर स्थानीय ब्रांड की नकली शराब तैयार कर बेचने की बात स्वीकार की है। शराब के अवैध कारोबार का भंडाफोड़ करने वाले लार इंस्पेक्टर विजय सिंह गौर, एसआई रामरतन यादव, संजय कुमार, स्वॉट टीम प्रभारी संतोष सिंह, कांस्टेबल अरुण खरवार, सुदामा यादव, धनंजय श्रीवास्तव, सर्विलांस टीम प्रभारी घनश्याम सिंह, कांस्टेबल राहुल सिंह, सीआईयू प्रभारी अनिल यादव को शाबाशी दी। एसपी डॉ. श्रीपति मिश्र ने बताया कि सभी आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। इनके खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें
लार पुलिस ने नकली शराब बनाने वाले तथा भठ्ठा मालिका को लिया हिरासत में। लार पुलिस ने नकली शराब बनाने वाले तथा भठ्ठा मालिका को लिया हिरासत में।

जिला जेल के एक बंदी की फिर मौत

जिला जेल के एक और बंदी की मौत
- दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट में मार्च 2015 से कारागार में बंद था लार का रिजवान
- तबीयत खराब होने पर गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में कराया गया था भर्ती
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। किशोरी से दुष्कर्म के आरोप में वर्ष 2015 से जिला जेल में निरुद्ध एक बंदी की शुक्रवार रात गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में मौत हो गई। मृतक रिजवान (30) लार के शमशीर नगर का रहने वाला था। तीन दिन पूर्व तबीयत बिगड़ने पर उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। इससे पहले 13 सितंबर को सामूहिक दुष्कर्म के दोषी पिंटू यादव की भी मेडिकल कॉलेज में मौत हो गई थी। वह कुशीनगर के कुबेरस्थान के लक्ष्मीपुर का रहने वाला था।
लार के शमशीर नगर मोहल्ला निवासी रिजवान को मार्च 2015 में एक किशोरी से दुष्कर्म के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा था। तभी से वह जेल में बंद था। सूत्रों के अनुसार जेल जाने से पहले रिजवान नशे का आदी था। इस वजह से बार-बार उसकी तबीयत खराब होती रहती थी। तीन दिन पूर्व तबीयत बिगड़ने पर जेल प्रशासन ने उसे जिला अस्पताल भेजवाया। यहां चिकित्सकों ने स्थिति गंभीर देखकर रिजवान को गोरखपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। शुक्रवार की रात उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। जानकारी मिलने पर जेल प्रशासन और स्थानीय पुलिस ने रिजवान के परिवारवालों को सूचना दी। इसके बाद रिजवान के भाई और बहन गोरखपुर मेडिकल कॉलेज पहुंचे। पोस्टमार्टम के बाद उन्हें शव सौंप दिया गया। जेल अधीक्षक केपी त्रिपाठी ने बताया कि तबीयत बिगड़ने पर रिजवान को गोरखपुर मेडिकल कॉलेज भेजा गया, जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया।
---
हफ्तेभर में दो मौत, कटघरे में जेल की स्वास्थ्य व्यवस्था
एक डॉक्टर और तीन फार्मासिस्ट की जेल में रहती है ड्यूटी
13 सितंबर की रात कुशीनगर के कैदी पिंटू की हुई थी मौत
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। एक सप्ताह में जेल के एक कैदी और एक बंदी की मौत ने जेल के अंदर की स्वास्थ्य व्यवस्था को कटघरे में खड़ा कर दिया है। एक डॉक्टर और तीन फार्मासिस्ट की ड्यूटी होने के बावजूद बंदियों-कैदियों की सही देखभाल न हो पाना चिंता का सबब है। पहले भी जेल की स्वास्थ्य व्यवस्था पर सवाल उठते रहे हैं, लेकिन हर बार मामला ठंडे बस्ते में चला जाता है। जेल में बंदियों और कैदियों को पौष्टिक आहार देने के साथ-साथ उनके स्वास्थ्य पर ध्यान रखने का आदेश है। इसी निमित्त स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिला जेल में एक चिकित्सक और तीन फार्मासिस्ट की तैनाती की गई है। जेल में दवाओं की भी कमी नहीं होने दी जाती। बावजूद आए दिन बंदियों और कैदियों की तबीयत बिगड़ रही है। इससे जेल की व्यवस्था पर सवाल उठने लगे हैं। जिला जेल से प्रतिदिन कोई न कोई बंदी जिला अस्पताल में उपचार कराने आता है। कुशीनगर के कुबेरस्थान के लक्ष्मीपुर निवासी सामूहिक दुष्कर्म के दोषी पिंटू यादव को 11 सितंबर को तबीयत बिगड़ने पर मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया, जहां 13 सितंबर की रात उसकी मौत हो गई। जानकारी होने पर बंदियों ने इलाज में लापरवाही और भोजन की खराब गुणवत्ता का आरोप लगाते हुए भूख हड़ताल भी किया था। अब एक सप्ताह के अंदर ही लार के शमशीर नगर मोहल्ला निवासी रिजवान ने भी मेडिकल कॉलेज पहुंचकर दम तोड़ दिया है।
जांच की नहीं है व्यवस्था
देवरिया जिला जेल में इस समय 1700 बंदी हैं। उनके उपचार के लिए एक चिकित्सक और तीन फार्मासिस्ट हैं, लेकिन जांच की कोई व्यवस्था नहीं है। इसलिए बंदियों की तबीयत बिगड़ने पर जांच के लिए जिला अस्पताल आना पड़ता है। जेल अधीक्षक केपी त्रिपाठी ने बताया कि प्रदेश की कुछ जेल में जांच की भी व्यवस्था है। यहां भी जांच की व्यवस्था कराने के लिए उच्चाधिकारियों से पत्राचार किया जाएगा।
... और पढ़ें

चेन पुलिंग पर शहीद एक्सप्रेस को रोका, सामान उतारते दो पकड़े गए

फोटो समाचार...
- बिना पार्सल बुकिंग के ला रहे थे होजरी का सामान
अमर उजाला ब्यूरो
भाटपाररानी। चेनपुलिंग कर डाउन शहीद एक्सप्रेस से आऱ्ठ बोरों में हजारों रुपये मूल्य के होजरी के सामान उतारते आरपीएफ कर्मियों ने दो लोगों को पकड़ लिया। वह बिना पास़ल बुकिंग के सामान लेकर आ रहे थे। ट्रेन को बेलपार क्रॉसिंग पर चेन पुलिंग कर रोक सामान उतार रहे थे। दोनों को सामान सहित आरपीएफ कर्मी भटनी ले गए। अमृतसर से जयनगर जाने वाली शहीद एक्सप्रेस ट्रेन को भाटपाररानी स्टेशन पहुंचने से पहले ही बेलपार के पास चेन पुलिंग कर रोक लिया गया। जब तक लोग कुछ समझते बड़े-बड़े आठ बोरों में पैक होजरी के सामान ट्रेन से नीचे गिराया जाने लगा। बेलपार रेलवे क्रासिंग पर तैनात गेटमैन करन गुप्ता ने इसकी सूचना आरपीएफ एसआई अशोक कुमार सिंह और कांस्टेबल दुर्गेश प्रसाद को दी। आरपीएफ कर्मी ने दौड़कर मौके से दो लोगों को पकड़ा। सूचना पाकर भटनी आरपीएफ इंस्पेक्टर प्रियांबु भी घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि बरामद सामानों की बुकिंग नहीं है। पकड़े गए दोनों युवकों से पूछताछ की जा रही है। जल्द ही इसका खुलासा होगा।
... और पढ़ें

यूपी: आंखों में आंसू लिए महिला पहुंची थाने, बोली- साहब, मेरी बकरी चोरी हो गई

साहब, मेरी बकरी चोरी हो गई है। वही मेरी आजीविका का सहारा थी। हर जगह ढूंढ चुकी, नहीं मिल रही। पुलिस भी केस दर्ज नहीं कर रही। आंखों में आंसू लिए बरहज से आई महिला ने शुक्रवार को पुलिस ऑफिस पहुंचकर यह गुहार लगाई तो मौजूद पुलिस अधिकारी चौंक गए। पूरे मामले को समझने के बाद एएसपी ने बरहज पुलिस को कार्रवाई का निर्देश दिया।

बरहज के मोहांव गांव निवासी बेचना देवी बकरी पाल रखी हैं। कुछ दिन पूर्व किसी ने उनकी बकरी चुरा लिया। उन्होंने बरहज पुलिस को तहरीर दिया, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। थाने से मायूस होने के बाद वह शुक्रवार को वह एसपी से मिलने आई थी। एसपी नहीं मिले तो वह भावुक हो गई। 

पुलिसकर्मियों ने उन्हें एएसपी तक पहुंचाया। एएसपी शिष्यपाल सिंह ने महिला की पीड़ा सुनने के बाद बरहज पुलिस को केस दर्ज करने के आदेश दिए हैं। इस बाबत बरहज एसओ ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही केस दर्ज कर लिया जाएगा।
... और पढ़ें

नायक फिल्म देखकर दी थी स्टेशन पर बम होने की सूचना

बकरी चोरी (फाइल फोटो)
छात्र ने दी थी स्टेशन पर बम की सूचना
कोतवाली और स्वॉट टीम ने फोन नंबर से छात्र को पकड़ा, पूछताछ
13 सितंबर को आई थी कॉल, सकते में आ गए थे सुरक्षा बल
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। पिछले दिनों सदर रेलवे स्टेशन पर बम होने की सूचना देने वाला छठवीं कक्षा का छात्र निकला। शुक्रवार को कोतवाली पुलिस और स्वॉट टीम ने उसे पकड़ लिया। परिवारवाले भी उसकी हरकतों से परेशान हैं। सूचना पर पहुंची आरपीएफ इंस्पेक्टर ने भी उससे पूछताछ की है।
13 सितंबर को एक नंबर से डायल-100 पर सूचना दी गई कि सदर रेलवे स्टेशन पर बम रखा गया है। सूचना मिलते ही हरकत में आई सदर कोतवाली, जीआरपी और आरपीएफ ने रेलवे स्टेशन पर चेकिंग शुरू कर दी। गोरखपुर से पहुंची एटीएस टीम ने भी जांच-पड़ताल की, लेकिन कुछ मिला नहीं। पुलिस ने नंबर पर कॉल बैक किया तो वह स्विच ऑफ हो गया था। सर्विलांस पर नंबर उमानगर टॉवर से संबंधित मिला। जब मोबाइल ऑन हुआ तो शुक्रवार को सदर कोतवाल अरुण मौर्य और स्वॉट टीम के लोगों ने छात्र को पकड़ लिया। भुजौली कॉलोनी का रहने वाला छात्र जीआईसी में छठवीं का छात्र है। पुलिस की पूछताछ में पहले वह छकाता रहा। सदर कोतवाल की सूचना पर आरपीएफ इंस्पेक्टर अभय राय भी पहुंचे। दोनों ने कड़ाई से पूछताछ की तो उसने बताया कि नायक फिल्म देखकर मन में खुराफात आया और उसने बम होने की सूचना दे दी। फिल्म में इसी तरह की सूचना देकर पुलिसवालों को हैरान किया जाता है। इस हरकत में शामिल रहने वाले एक साथी का भी नाम बता रहा है। सदर कोतवाल अरुण मौर्य ने बताया कि बम की सूचना देने वाले छठवीं के छात्र को पकड़ लिया गया है। उससे पूछताछ की जा रही है।
... और पढ़ें

डॉक्टर्स स्कैन पर छापा,अल्ट्रासाउंड सेंटर सील

एक रजिस्ट्रेशन पर दो अल्ट्रासाउंड मशीन, डॉक्टर्स स्कैन सील
सदर एसडीएम के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने की जांच
मौके पर नहीं मिला रेडियोलॉजिस्ट, 30 मरीजों का हो चुका था अल्ट्रासाउंड
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। शहर के चर्चित जांच केंद्र डॉक्टर्स स्कैन पर शुक्रवार को एसडीएम के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छापेमारी की। यहां एक रजिस्ट्रेशन पर दो अल्ट्रासाउंड चल रहा था। मौके पर न रेडियोलॉजिस्ट मिले और न ही संचालक। कर्मचारियों से तीखी बहस भी हुई। कई अन्य अनियमितताओं पर टीम ने केंद्र को सील करते हुए स्पष्टीकरण तलब किया है। टीम ने शहर के दो अन्य अल्ट्रासाउंड केंद्रों की भी जांच की। शुक्रवार को एसडीएम दिनेश मिश्र और एसीएमओ डॉ. सुरेंद्र सिंह के नेतृत्व में टीम न्यू कॉलोनी स्थित डाक्टर्स स्कैन पर पहुंची। टीम को देख मरीजों में अफरातफरी मच गई। संचालक डॉ. अवधेश सिंह मौजूद नहीं थे। अल्ट्रासाउंड कक्ष में भी कोई रेडियोलॉजिस्ट नहीं था, जबकि रजिस्टर में 30 मरीजों का अल्ट्रासाउंड होना अंकित था। जांच में केंद्र पर दो अल्ट्रासाउंड मशीनें संचालित मिली, जबकि रजिस्ट्रेशन सिर्फ एक का था। इसके भी नवीनीकरण की पत्रावली अभी प्रक्रिया में होने की जानकारी केंद्र के कर्मचारियों ने दी। कार्रवाई के दौरान जांच टीम व केंद्र के कर्मचारियों से बहस भी हुई। गेट पर मौजूद केंद्र के कर्मचारी जांच का हवाला देकर छत पर भेज रहे थे। करीब पौन घंटे तक जांच के बाद टीम ने केंद्र को सील कर दिया। संचालक से लिखित स्पष्टीकरण मांगा गया है। इसके अलावा सत्यम अल्ट्रासाउंड सेंटर और मालवीय रोड पर डॉ. रवि अग्रवाल के अल्ट्रासाउंड सेंटर की भी जांच की। यहां सब कुछ सही मिला, लेकिन गर्भवती महिलाओं और भ्रूण लिंग की जांच न होने का बोर्ड अंदर छोटा था। इस पर एसडीएम ने नाराजगी जताते हुए बड़े अक्षरों में बाहर लगवाने के निर्देश दिए। एसडीएम दिनेश मिश्र ने बताया कि डाक्टर्स स्कैन पर अल्ट्रासाउंड के लिए रेडियोलॉजिस्ट डॉ. प्रताप नारायण सिंह के नाम से पंजीयन था, लेकिन वह मौजूद नहीं थे। वहां 30 मरीजों का अल्ट्रासाउंड हो चुका था। एक मशीन का रजिस्ट्रेशन था, जबकि दो अल्ट्रासाउंड मशीन का संचालन हो रहा था। केंद्र को सील कर दिया गया है। एसीएमओ की ओर से कोर्ट में इनके खिलाफ वाद दाखिल किया जाएगा। यह अभियान जारी रहेगा।
सड़क पर खड़ी थी बाइकें, जाम में फंसे अफसर
न्यू कॉलोनी से मालवीय रोड जाने के लिए एचडीएफसी बैंक रोड से एसडीएम और एसीएमओ का वाहन निकल रहा था। इस सड़क पर दोनों तरफ लोगों ने बाइक खड़ा किया था। इसके चलते करीब 20 मिनट तक अफसरों का वाहन जाम में फंसा रहा। एसडीएम ने एक रेस्टोरेंट संचालक को बुलाकर हिदायत दी।
... और पढ़ें

प्रतिबंधित पॉलीथिन का उपयोग करने पर 15 दुकानदारों से वसूला जुर्माना

पॉलीथिन का उपयोग करने पर 15 दुकानदारों से वसूला जुर्माना
- खाद्य सुरक्षा औषधि प्रशासन व नगर पालिका की टीम ने संयुक्त रूप से चलाया अभियान
- दुकानदारों से पुलिस के सामने अधिकारियों से कई बार हुई नोकझोंक
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। शहर में अभियान चलाकर नगर पालिका और खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन ने गुरुवार को प्रतिबंधित पॉलीथिन को जब्त किया। 15 दुकानदारों से 29 हजार का जुर्माना वसूला गया। कार्रवाई के दौरान दुकानदारों और कर्मचारियों के बीच कई बार नोंकझोंक हुई। बड़े व्यापारियों को बचाने का आरोप लगाया गया।
दोपहर में पुलिस की मौजूदगी में दोनों विभाग के कर्मचारी तिलक रोड पहुंचे। दुकानदार संतोष चौरसिया की दुकान में प्रतिबंधित पॉलीथिन उपयोग हो रहा था। दुकानदार को रंगेहाथ टीम ने पकड़ लिया। इसकी जानकारी होते ही बाजार में खलबली मच गई। अफसरों और दुकानदारों के बीच कार्रवाई के दौरान कई बाद नोकझोंक हुई। अभिहित अधिकारी रमेश चंद्र पांडेय ने बताया कि तिलक रोड की सविता बरनवाल, संतोष चौरसिया, अंसारी रोड के शंकरलाल अग्रवाल, रोडवेज के समीप आशिक, चंद्रशेखर जायसवाल, रामअवतार, आनंद, संतोष गुप्ता, बिट्टू सोनकर, रामानंद, रमेश कुमार, सुधीर गुप्ता, शिव मंदिर के समीप श्रवण प्रजापति, भोला, राजू मद्धेशिया से प्रतिबंधित पॉलीथिन के इस्तेमाल पर 29 हजार रुपये बतौर जुर्माना वसूला गया है। भारी मात्रा में पॉलीथिन भी जब्त किया गया। टीम में खाद्य सुरक्षा अधिकारी संदीप कुमार श्रीवास्तव, रंजन कुमार श्रीवास्तव, अजीत कुमार त्रिपाठी, सुभेष कुमार, मनीष मल्ल, नगर पालिका से राजीव कुमार शुक्ला, श्रद्धांनंद गुप्ता, अनमोल रतन सिंह, कार्यक्रम प्रबंधक आशुतोष शुक्ला, मकबूल अंसारी, मो.शादिक शामिल रहे।
... और पढ़ें

सवारी भरी टेंपो से पिकअप टकराया, दो की मौत, छह घायल

पिकअप-टेंपो में भिड़ंत, दो की मौत, छह घायल
सदर कोतवाली के कसया रोड पर धनौती मोड़ के पास हुआ हादसा
मरने वालों में एक रामपुर कारखाना और दूसरा बिहार के गोपालगंज निवासी था
अमर उजाला ब्यूरो
देवरिया। सदर कोतवाली के कसया रोड पर धनौती मोड़ के पास शुक्रवार को सवारियों से भरे टेंपो और तेज रफ्तार पिकअप के बीच आमने-सामने की टक्कर में दो लोगों की मौत हो गई, जबकि टेंपो चालक समेत छह लोग घायल हो गए। घायलों में एक की हालत गंभीर है। हादसे के बाद पिकअप चालक वाहन समेत फरार हो गया।
रामपुर कारखाना से शुक्रवार को करीब ढाई बजे सवारी लेकर देवरिया आ रहा एक टेंपो सदर कोतवाली के धनौती मोड़ के पास विपरीत दिशा से आ रही तेज रफ्तार पिकअप से टकराकर पलट गया। आसपास के लोगों ने टेंपो में सवार लोगों को बाहर निकाला और पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया। यहां चिकित्सकों ने रामपुर कारखाना के गोविंदपुर गांव निवासी चंद्रशेखर (43) को मृत घोषित कर दिया। कुछ देर बाद बिहार के गोपालगंज जिले के कटया थाना क्षेत्र के सिधवनिया गांव निवासी मो. जुमराती (35) ने भी दम तोड़ दिया। बघौचघाट थाना क्षेत्र के घूड़ीपुर निवासी अजय विश्वकर्मा (32) की हालत गंभीर है। जुमराती की पत्नी जहांआरा खातून (30), बेटा शहनवाज (05), तरकुलवा के पकड़ी निवासी टेंपो चालक गिरधारीनाथ जायसवाल (35), रुद्रपुर के कृतपुरा निवासी रामसूरत निषाद (55) और रामपुर कारखाना के गोविंदपुर निवासी कुलदीप (23) को भी गंभीर चोटें आई हैं। इस बाबत सदर कोतवाल अरुण मौर्य ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। पिकअप चालक की तलाश की जा रही है।
... और पढ़ें

औचक निरीक्षण में ड्यूटी से गायब मिले 40 डॉक्टर-कर्मचारी

औचक निरीक्षण में ड्यूटी से गायब मिले 40 डॉक्टर-कर्मचारी
- प्रभारी मंत्री की बैठक में शिकायत के बाद डीएम ने दिए थे औचक जांच के निर्देश
- लापरवाह डॉक्टरों का रोका गया वेतन, सीएमओ ने मांगा स्पष्टीकरण
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। प्रभारी मंत्री श्रीराम चौहान के सामने सरकारी अस्पतालों से डॉक्टरों के नदारद रहने की शिकायत गुरुवार को औचक निरीक्षण में सही मिला। डीएम के निर्देश पर गुरुवार को विभिन्न अस्पतालों की हुई जांच में तीन दर्जन से अधिक डॉक्टर-कर्मचारी ड्यूटी से नदारद मिले। उनका वेतन और मानदेय रोकते हुए स्पष्टीकरण मांगा गया है। वहीं सदर एसडीएम दिनेश मिश्रा के निरीक्षण में तरकुलवा सीएचसी पर डॉक्टर समेत तीन कर्मचारी ड्यूटी पर नहीं आए थे।
प्रभारी मंत्री के साथ बुधवार को गांधी सभागार में हुई समीक्षा बैठक में जनप्रतिनिधियों ने बदहाल स्वास्थ्य सुविधाओं का मुद्दा पुरजोर तरीके से उठाया। नेताओं का कहना था कि किसी भी ग्रामीण क्षेत्र के सरकारी अस्पतालों पर डॉक्टर और कर्मचारी नहीं जाते हैं। इसकी वजह से मरीजों को इलाज के लिए निजी अस्पतालों पर जाना पड़ता है। मामले में डीएम की सख्ती पर गुरुवार को सीएमओ डॉ.धीरेंद्र कुमार रामपुर कारखाना पीएचसी पर सुबह 8.19 बजे पहुंचे। उपस्थिति पंजिका के अवलोकन में दुर्गेश कुमार, केशर नवाज, नंदिनी सिंह, अमित कुमार 15 सितंबर से नहीं आए थे। राजेश कुमार, डॉ. मधुसूदन मिश्रा, डॉ. जेके राय, डॉ. ज्योति, डॉ. सीमा यादव, शमशाद अली, अपर्णा, बेदी गुप्ता, सरोज, ममता गौड़, दिनेश सिंह, सुमंत कुमार श्रीवास्तव, डॉ.लवली, डॉ.सरोज शर्मा, डॉ.रवि तिवारी, डॉ.आरपी पांडेय ड्यूटी से लापता मिले। स्टाफ नर्स बिंदु सिंह का 20 सितंबर तक अग्रिम हस्ताक्षर बनाया गया था। पथरदेवा सीएचसी पर 8.40 बजे रामकृष्ण मिश्र, नेत्र परीक्षण विजय प्रताप मल्ल, नियाज सिद्दीकी, भरत सिंह, स्टाफ नर्स निधि, नेहा, नीलम, संतोष कुमार सिंह, सौरभ, नागेंद्र मल्ल, जफरूदीन अली, सुशील कुमार मिश्र, डॉ.शशिप्रभा सिंह, बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. सुनील कुमार सिंह, सर्जन डॉ. अजय कुमार शाही गायब मिले। सुबह 9.15 बजे तक स्टाफ नर्स सिमरन, विजय प्रताप मल्ल, अजीत सिंह गौतम, डॉ. जिशान अलीम अपनी ड्यूटी से लापता मिले। सीएमओ ने बताया कि ड्यूटी से लापता डॉक्टर और कर्मचारियों का वेतन व मानदेय रोक दिया गया है। इनके खिलाफ शासन को गैर जनपद स्थानांतरण के लिए पत्र लिखा जाएगा।
----
इनसेट
तीन अल्ट्रांसाउंड सेंटरों पर छापा, नहीं मिले डॉक्टर
देवरिया। सदर एसडीएम दिनेश मिश्र और एसीएमओ डॉ. सुरेंद्र सिंह के नेतृत्व में शहर के अल्ट्रासाउंड सेंटरों पर छापेमारी की गई। राघव नगर के जनप्रिय डायग्नोस्टिक सेंटर पर सब कुछ ठीक मिला। शिवम अल्ट्रासाउंड सेंटर पर डॉक्टर नहीं मिला और अभिलेखों में कमी पाई गई। एसडीएम ने मशीन जब्त करने का निर्देश दिया। वहीं सौरभ अल्ट्रासाउंड सेंटर पर खामियां मिली। विभागीय छापेमारी से अल्ट्रासाउंड सेंटर संचालकों में हड़कंप मचा रहा। एसीएमओ सुरेंद्र सिंह ने बताया कि संचालकों पर कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

खेत में गिरा हाईटेंशन तार, करंट से चारा काट रहे किसान की मौत

खेत में गिरा हाईटेंशन तार, करंट से चारा काट रहे किसान की मौत
- गुस्साए लोगों ने शव सड़क पर रखकर रुद्रपुर-बरहज मार्ग को किया जाम
- मदनपुर थाना क्षेत्र के कामूपुर गांव की घटना
- देर शाम एसडीएम के आश्वासन पर बहाल हुआ आवागमन
अमर उजाला ब्यूरो
बरहज। खेत में हाईटेंशन तार टूटकर गिरने से वहां चारा काट रहे किसान की करंट की चपेट में आने से मौत हो गई। घटना मदनपुर थाना क्षेत्र के कामूपुर गांव में गुरुवार शाम की है। किसान की मौत से गुस्साए लोगों ने रुद्रपुर-बरहज मार्ग पर मदनपुर चौराहे के पास शव रखकर जाम लगा दिया। मौके पर पहुंचे पुलिस-प्रशासन के काफी मान-मनौवल और कार्रवाई के आश्वासन पर शाम सवा 7 बजे जाम समाप्त हुआ। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
मदनपुर के नेबूलाल चौहान (55) गुरुवार को कामूपुर स्थित अपने खेत में चारा काटने गए थे। बगल में ही विद्युत उपकेंद्र है। उपकेंद्र से निकला 11 हजार वोल्ट का तार खेत के ऊपर से ही गुजरा है। शाम करीब चार बजे अचानक तार टूटकर खेत में गिर गया। नीचे चारा काट रहे नेबूलाल उसकी चपेट में आ गए। हाईटेंशन करंट से वह बुरी तरह झुलस गए। आसपास के लोगों ने सूचना देकर आपूर्ति बंद कराई। नेबूलाल को आनन-फानन में रुद्रपुर सीएचसी ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने मदनपुर चौराहे के पास शव को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। जानकारी मिलने पर सीओ रुद्रपुर दिनेश सिंह यादव और मदनपुर इंस्पेक्टर विद्याधर कुशवाहा मौके पर पहुंच गए। लोगों का आरोप था कि पुराने व जर्जर तार आए दिन टूटकर गिरते रहते हैं। जर्जर तारों को बदलने के लिए कई बार बिजली निगम के अफसरों से शिकायत की गई। क्षेत्रीय विधायक व राज्यमंत्री जयप्रकाश निषाद से भी गुहार लगाई थी, लेकिन किसी ने गंभीरता नहीं दिखाई। प्रदर्शनकारी राज्यमंत्री और डीएम को मौके पर बुलाने की मांग कर रहे थे। सड़क जाम होने से रुद्रपुर-बरहज मार्ग पर दोनों तरफ गाड़ियों की लंबी कतार लग गई। यात्री घंटों जाम समाप्त होने का इंतजार कर रहे थे। शाम करीब सात बजे मौके पर पहुंचे एसडीएम रुद्रपुर सुनील सिंह ने ग्रामीणों को जर्जर तार बदलवाने और पीड़ित परिवार को बिजली निगम के माध्यम से सहायता दिलाने का आश्वासन देकर जाम समाप्त कराया। नेबूलाल की मौत से पत्नी कुंती देवी का रो-रोकर बुरा हाल था।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree