विज्ञापन
विज्ञापन
आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट
Janam Kundali

आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

उप महानिदेशक देवराज शर्मा राष्ट्रपति तटरक्षक मेडल से सम्मानित

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के देवराज शर्मा को गणतंत्र दिवस के मौके पर राष्ट्रपति तटरक्षक मेडल से सम्मानित किया गया है।

27 जनवरी 2021

विज्ञापन
Digital Edition

हिमाचल: मंडी और सिरमौर में जिप अध्यक्ष बनाना भाजपा के लिए आसान नहीं

 हिमाचल प्रदेश के मंडी और सिरमौर जिले में भाजपा के लिए जिला परिषद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की कुर्सी हासिल करना आसान नहीं है। सीएम जयराम ठाकुर के गृह जिले मंडी में बहुमत के बावजूद जहां दोनाें पद हासिल करने के लिए पार्टी के भीतर ही जंग जारी हो गई है, वहीं भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप के जिले सिरमौर में भाजपा-कांग्रेस में बराबरी की टक्कर के बाद बाजी निर्दलीय पार्षद नीलम शर्मा मार सकती हैं। यहां सत्ता के लिए कम पड़ रहा एक नंबर हासिल करने के लिए कांग्रेस ने निर्दलीय पार्षद को अपने पाले में डाल लिया है। कांग्रेस उसे अध्यक्ष बनाकर खुद उपाध्यक्ष का पद हासिल कर सकती है। यहां पहली फरवरी को दोनों पदों के लिए चुनाव होगा।


बताया जा रहा है कि सिरमौर जिले में प्रदेश अध्यक्ष कश्यप के ही गृह वार्ड से निर्दलीय विजेता नीलम शर्मा ने हाथ का साथ दिया है। पार्टी सूत्र बताते हैं कि नीलम को कांग्रेस जिप अध्यक्ष का उम्मीदवार बना सकती है। हालांकि, जब तक ताजपोशी नहीं होती, तब तक कुछ नहीं कहा जा सकता। भाजपा खेमा भी जोड़तोड़ में जुटा है। जिला परिषद सिरमौर में कांग्रेस और भाजपा को आठ-आठ वार्डों में जीत मिली है। बहुमत के लिए नौ का आंकड़ा जरूरी है। दोनों दल निर्दलीय पर निर्भर हैं। भाजपा विचारधारा की नीलम को पार्टी ने समर्थित उम्मीवार नहीं बनाया। प्रदेश अध्यक्ष के ही गृह वार्ड बाग पशोग से अपने दम पर नीलम ने जीत दर्ज की।

अब कांग्रेस ने नीलम को अपने साथ जोड़ने का दावा किया है। कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने बहुमत जुटाने का दावा करते हुए निर्दलीय और आठ कांग्रेस समर्थित विजेता जिप सदस्यों का समूह चित्र सोशल मीडिया पर वायरल भी कर दिया। अब 30 जनवरी को शपथ ग्रहण समारोह में ये उपस्थित होंगे या नहीं, इस पर असमंजस है। विधायक हर्ष वर्धन चौहान ने बताया कि कांग्रेस ने बहुमत जुटा लिया है। उधर, सीएम के गृह जिला मंडी में जिप अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की कुर्सी के लिए भाजपा के भीतर लड़ाई शुरू हो गई है।

जिला परिषद चुनाव में विजय पताका फहराने के बाद भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, सीएम जयराम के करीबियों से लेकर वरिष्ठ मंत्री महेंद्र सिंह की बेटी से लेकर संघ से लेकर पार्टी तक अच्छी पैठ रखने वाले कुर्सी तक पहुंचने की जुगत में हैं। सीएम के सराज दौरे में भी बुधवार देर शाम तक जिला परिषद की ताजपोशी को लेकर मंथन चलता रहा। मौके की नजाकत देखते हुए सीएम के शेड्यूल में भी बदलाव करना पड़ा है। सीएम अब 29 जनवरी को जिला परिषद के शपथ समारोह वाले दिन ही मंडी से धर्मशाला जाएंगे। 28 को सीएम मंडी सर्किट हाउस में रहेंगे और यहां अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के नामों की घोषणा कर सकते हैं। मंडी में 36 जिला परिषद की सीटों में से बीस पर भाजपा जीती है।

मैहला बीडीसी अध्यक्ष-उपाध्यक्ष के चुनाव में बवाल
पंचायत समिति हॉल मैहला में नवनिर्वाचित पंचायत समिति सदस्यों की शपथ ग्रहण के बाद बीडीसी अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के चुनाव में खूब बवाल हुआ। पुलिस को मौके पर बुलाना पड़ा। स्थिति को देखते हुए चुनाव रविवार तक टाल दिया गया है। 
... और पढ़ें
मंडी में जिप अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की कुर्सी के लिए भाजपा के भीतर नूराकुश्ती शुरू हो गई है। मंडी में जिप अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की कुर्सी के लिए भाजपा के भीतर नूराकुश्ती शुरू हो गई है।

CoronaVirus Vaccination: हिमाचल में डेढ़ माह बाद शुरू होगा दूसरे चरण का टीकाकरण

हिमाचल में दूसरे चरण का वैक्सीनेशन प्रोग्राम डेढ़ माह बाद शुरू होगा। पहले प्रथम चरण का अभियान 2 फरवरी से शुरू होना था, लेकिन लक्ष्य से कम स्वास्थ्य कर्मचारियों को वैक्सीन लगने पर दूसरा चरण आगे खिसक गया है। पहले चरण में जिन कर्मचारियों को वैक्सीन लगी है, उन्हें 28 दिन बाद दूसरा टीका भी लगना है।  प्रदेश में दूसरे चरण के लिए वैक्सीनेशन लगवाने वालों को रजिस्टेशन करने का कार्य चला हुआ है।

जैसे ही पहले चरण की वैक्सीनेशन पूरी तरह से खत्म हो जाएगी, उसके बाद दूसरे चरण का वैक्सीनेशन प्रोग्राम शुरू हो जाएगा। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि 70 फीसदी हेल्थ केयर वर्कर वैक्सीन लगवा रहे हैं। अभी तक हिमाचल को दो चरणों में कोविड वैक्सीन की डोज मिली है। जोकि पहले चरण में लगने वाले हेल्थ केयर वर्करों के लिए काफी है। अभी तक हिमाचल को 176, 500 डोज मिल चुकी है। इनमें से अभी तक हिमाचल में 13562 हेल्थ केयर वर्करों को ये वैक्सीन लगाई जा चुकी है।  

वैक्सीन पूरी तरह से सेफ, लोगों अफवाह पर न जाएं
वैक्सीन के बाद हल्का रियेक्शन होना आम है। लेकिन ये सभी को नहीं होता। हेल्थ केयर वर्कर सबसे पहले ये टीका लगवा रहे हैं। करीब 70 फीसदी हेल्थ केयर वर्कर ये टीका लगवा रहे हैं। - अमिताभ अवस्थी, स्वास्थ्य सचिव
... और पढ़ें

हिमाचल: बीएसएफ डीआईजी सुरजीत गुलेरिया को तीसरी बार राष्ट्रपति पुलिस पदक

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के दक्षिण बंगाल फ्रंटियर मुख्यालय कोलकाता के डीआईजी सुरजीत सिंह गुलेरिया को 72वें गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रपति पुलिस मेडल (गैलेंट्री) से सम्मानित किया गया। यह तीसरी बार है जब गुलेरिया को असाधारण व विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस मेडल मिला है। मूलरूप से हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के देहरा तहसील के खैरियां गांव के रहने वाले गुलेरिया को इससे पहले उत्कृष्ट सेवा कार्यों के लिए 2008 में प्रेसिडेंट पुलिस मेडल फॉर मेरिटोरियल सर्विस और 2016 में प्रेसिडेंट पुलिस मेडल फॉर डिस्टिंग्विश सर्विस मिल चुके हैं। उन्हें प्रशिक्षण, ऑपरेशन और आपदा प्रबंधन में बेहतरीन कार्यों के लिए वरिष्ठ अधिकारियों से कई प्रशस्ति पत्र भी मिल चुके हैं।

गुलेरिया ने 1987 में बीएसएफ में बतौर असिस्टेंट कमांडेंट ज्वाइन किया था। उन्होंने बीएसएफ में कई महत्वपूर्ण पदों पर काम किया है। जम्मू कश्मीर में आतंकवाद के शुरुआती दौर में उन्होंने ड्यूटी की है। पंजाब, राजस्थान और बंगाल सीमा पर महत्वपूर्ण योगदान दिया है। गुलेरिया ने बंगाल बॉर्डर पर पशु तस्करी रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। गुलेरिया संयुक्त राष्ट्र (युनाइटेड नेशन) की पुलिस में भी कोसबो में डेपुटेशन पर एक साल की सेवा दे चुके हैं। गुलेरिया को एनडीआरएफ की कोलकाता बटालियन और पटना बटालियन को स्थापित करने का भी श्रेय प्राप्त है। उन्होंने विभिन्न आपदाओं में एनडीआरएफ की तरफ से हिस्सा लिया है।

2017 में जैश के आतंकियों से लिया था लोहा
23 अक्तूबर 2017 को आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकियों ने श्रीनगर एयरपोर्ट के पास गोगोलैंड स्थित बीएसएफ कैंपस पर रात 3.45 बजे फिदायीन हमला कर दिया था। आतंकियों ने कैंपस की दीवार फांद कर एडमिन ब्लॉक, अधीनस्थ अधिकारी मेस और अधिकारी मेस में घुसने का प्रयास किया। आतंकी एडमिन ब्लॉक व अधीनस्थ अधिकारी मेस में घुसने में कामयाब हो गए थे। एक आतंकी ड्यूटी पर तैनात सीमा प्रहरी की गोलियों का शिकार हो गया था। आतंकियों ने रात को ग्रेनेड और गोलियों से कैंपस में अंधाधुंध फायरिंग की। आतंकियों के हमले को जवाब देने के लिए उस समय कश्मीर फ्रंटियर में डीआईजी (जी) सुरजीत सिंह गुलेरिया ने डीआईजी हरिलाल के साथ मिलकर जवानों के साथ कैंपस में मौजूद आतंकियों से लोहा लेते हुए उन्हें मार गिराया था। इस ऑपरेशन में एक अधीनस्थ अधिकारी शहीद हो गए थे, जबकि दो जवान घायल हुए थे।
... और पढ़ें

हिमाचल: गहरी खाई में गिरी गाड़ी, दो सैलानियों की मौत, 12 घायल

हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले के नारकंडा-बाघी मार्ग पर बुधवार शाम एक टेंपो ट्रेवलर दुर्घटनाग्रस्त होकर सड़क से करीब 900 मीटर नीचे खाई में जा गिरा। हादसे में दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि गाड़ी में सवार 12 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना मिलते ही पुलिस का दल मौके के लिए रवाना हुआ। पुलिस थाना ननखड़ी से मिली जानकारी के मुताबिक बुधवार शाम करीब 7:30 बजे एक टेंपो ट्रैवलर गहरी खाई में गिर गया। ननखड़ी से करीब 30 किलोमीटर दूर पेश आए सड़क हादसे के समय ट्रेवलर में 14 लोग सवार थे। बताया जा रहा है कि 14 सैलानियों का दल हरियाणा से नारकंडा हाटू और सिद्धपुर घूमने आया था।

सिद्धपुर से करीब दो किलोमीटर पीछे परमेश्वरी ढांक में चालक ने वाहन से नियंत्रण खो दिया और गाड़ी गहरी खाई में जा गिरी। हादसे की सूचना टिक्कर और खमाडी के युवाओं ने पुलिस थाना ननखड़ी को दी और अपने स्तर पर राहत एवं बचाव कार्य शुरू कर दिया। पुलिस और स्थानीय लोग घायलों को घटनास्थल से बाहर निकालने में जुटे हुए हैं। ये पर्यटक कहां से आए थे, इसका अभी तक पता नहीं चल पाया है। हादसे की पुष्टि करते हुए डीएसपी रामपुर चंद्रशेखर ने बताया कि नारकंडा-बाघी मार्ग पर टेंपो ट्रेवलर दुर्घटनाग्रस्त हो गया है। अब तक 2 लोगों की मौत होने की सूचना है। पुलिस और स्थानीय लोग राहत कार्य में जुटे हैं। 
... और पढ़ें

शिमला: गहरी खाई में लुढ़की कार, दो की मौत, तीन घायल

सड़क हादसा(सांकेतिक)
हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला से सटे मशोबरा क्षेत्र में एक दर्दनाक सड़क हादसे में दो लोगों की मौत हो गई। मृतकों की पहचान हेमंत (38) पुत्र परस राम, गांव धरेच, जोगिंद्र (46) पुत्र लायक राम, गांव अलवाह निवासी बडोग के तौर पर हुई है। हादसे में धर्म प्रकाश, अरुणा शर्मा और मीनाक्षी घायल हुई हैं। इनका अस्पताल में उपचार चल रहा है। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। सभी लोग ठियोग क्षेत्र में एक रिश्तेदार के घर मातम में जा रहे थे लेकिन मशोबरा के डाक बंगला के पास उनका वाहन दुर्घटना का शिकार हो गया।  पुलिस को सूचना मिली कि मशोबरा-भेखलटी-ठियोग सड़क पर डाक बंगला के पास कार अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे गिरी है।

इसके बाद मशोबरा चौकी से टीम घटनास्थल के लिए रवाना हुई। इस बीच घायलों को रेस्क्यू कर सुरक्षित सड़क तक पहुंचाने के बाद अस्पताल लाया गया। लेकिन दो ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। हादसे में कार परखचे उड़ गए थे। पुलिस के मुताबिक दुर्घटना का पता चलते की लोग मौके पर पहुंचे और दोनों को बाहर निकला। वाहन सड़क से 300 मीटर नीचे गहरी खाई में लुढ़का था। हादसे से क्षेत्र में मातम पसरा हुआ है। एसपी मोहित चावला ने बताया कि सड़क हादसे में दो लोगों की मौत हुई है। शवों का पोस्टमार्टम किया जा रहा है। हादसों के कारणों की जांच जारी है। उन्होंने वाहन चालकों को यातायात नियमों को पालन करते हुए वाहनों को नियंत्रित गति में चलाने की हिदायत दी है।
... और पढ़ें

CoronaVirus in Himachal: पॉजिटिव बुजुर्ग की मौत, 33 नए मामले

हिमाचल प्रदेश में बुधवार को एक और कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत हो गई है। कांगड़ा जिले के 72 वर्षीय संक्रमित बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया। वहीं, प्रदेश में बुधवार को कोरोना वायरस के 33 नए मामले आए हैं। मंडी जिले में आठ, कांगड़ा छह, शिमला पांच, हमीरपुर दो, सोलन पांच, सिरमौर दो, ऊना चार और किन्नौर में एक नया मामला आया है।

 इसके साथ ही प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का कुल आंकड़ा 57296 पहुंच गया है। सक्रिय मामले घटकर 331 रह गए हैं। अब तक 55987 मरीज ठीक हो चुके हैं और 962 संक्रमितों की मौत हुई है। उधर, बुधवार को दो जिलों में 649 स्वास्थ्य कर्मियों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई। कांगड़ा जिले में 100 और मंडी में 549 कर्मियों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई। 
... और पढ़ें

सतलुज नदी में गिरने से बालक की मौत, हनुमान घाट के पास हुआ हादसा

हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले के तहत पुलिस थाना रामपुर के तहत हनुमान घाट के समीप एक 10 वर्षीय बालक की सतलुज नदी में गिरने से मौत हो गई है। पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया है। मामला दर्जकर छानबीन की जा रही है। पुलिस के मुताबिक बुधवार को दोपहर बाद करीब साढ़े तीन बजे हनुमान घाट के पास सतलुज नदी में एक 10  साल के बालक की गिरने की सूचना मिली। सूचना मिलते ही पुलिस टीम घटनास्थल पर पहुंची। स्थानीय लोगों की मदद से बालक के शव को नदी से निकाला। इसकी पहचान कर्ण (10) पुत्र ज्ञानी, निवासी बस स्टैंड मोहल्ला होशियारपुर, तहसील और जिला होशियारपुर (पंजाब) के रूप में हुई है।

बताया जा रहा है कि पैर फिसलने से वह नदी में जा गिरा। वर्तमान में वह नोगली में लोक निर्माण विभाग के पेट्रोल पंप के साथ रह रहा था। पुलिस ने बच्चे के रिश्तेदारों के समक्ष मृत शरीर का परीक्षण किया। गवाहों के बयान भी कलमबद्ध किए गए हैं। बताया कि खनेरी अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया गया है। पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 174 के तहत मामला दर्जकर छानबीन शुरू कर दी है। डीएसपी चंद्रशेखर कायथ ने बताया कि पुलिस ने मृतक का पोस्टमार्टम करवाकर शव रिश्तेदारों को सौंप दिया है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है।
... और पढ़ें

चुनावी रंजिश के चलते दो गुटों की लड़ाई में महिला की हत्या, चार घायल

चुनावी रंजिश के चलते हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले के बरोटीवाला थाने के तहत केंबावाला गांव में दो गुटों में मारपीट के दौरान एक महिला की हत्या का मामला सामने आया है। मारपीट में चार लोग घायल हो गए। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। मृतक महिला प्रीतो देवी (45) का शव पोस्टमार्टम के लिए आईजीएमसी शिमला भेज दिया है। घायल बद्दी अस्पताल में भर्ती हैं। एसपी नरेंद्र कुमार ने बताया कि पुलिस ने सात लोगों पर हत्या का मामला दर्ज किया है। बताया जा रहा है कि मारपीट करने वाले पक्ष की ओर से एक व्यक्ति ने चुनाव लड़ा था और वोट न डालने पर दोनों पक्षों में भिड़ंत हो गई। पुलिस के अनुसार केंबावाल के गुरदयाल सिंह ने बताया कि उसका भाई सादा राम अपने खेत में गेहूं की सिंचाई के लिए पाइप जोड़ रहा था। गांव के बलबीर सिंह, कुलवंत और खेमचंद आए और उन्हें अपने में खेत पाइप जोडने से इंकार करने लगे।

इस पर इनमें झगड़ा हो गया। सादा राम को अकेला देख उसकी पत्नी प्रीतो देवी (45), बेटा राजेश, देवरानी शकुंतला देवी और बचना राम मौके पर पहुंच गए। बलबीर सिंह ने प्रीतो देवी को पकड़ा और कुलवंत, खेमचंद ने उसके सिर पर डंडों से प्रहार कर दिया, जिससे वह बेहोश हो गई। शोर सुनकर किशोरी लाल, पवन कुमार, अरुण व गुरसेवक हाथ में डंडे व तलवारें लेकर पहुंच गए। इन लोगों ने उनके परिवार के लोगों को बुरी तरह से घायल किया। गुरदयाल के हाथ, बचना राम के माथे और राजेश के सिर में व शकुंतला देवी के भी चोटें आई हैं। इन्हें बद्दी अस्तपाल लाया गया, जहां पर डॉक्टरों ने प्रीतो देवी को मृत घोषित कर दिया। उधर, एसपी नरेंद्र कुमार ने बताया कि पुलिस ने सात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। 
... और पढ़ें

शिमला के जुब्बल में 32 कमरों का चार मंजिला मकान राख

हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले की जुब्बल तहसील के तहत प्रोंठी गांव में बुधवार शाम चार मंजिला मकान में आग लग गई। देखते ही देखते सारा मकान आग की भेंट चढ़ गया है। अग्निकांड में पचास लाख रुपये से अधिक के नुकसान का अनुमान लगाया गया है। हालांकि, आग लगने के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है। जानकारी के मुताबिक 32 कमरों के चार मंजिला मकान में बुधवार शाम करीब साढे़ चार बजे आग लग गई। आग की घटना उस समय घटी, जब घर पर परिवार का कोई भी सदस्य मौजूद नहीं था। ग्रामीणों ने घर से धुआं उठता हुआ देखा और इसकी सूचना अग्निशमन केंद्र को दी। सूचना मिलने के बाद दमकल वाहन मौके पर पहुंच गया। इसके बाद दमकल विभाग के कर्मचारियों ने स्थानीय लोगों की मदद से आग पर काबू पाने का प्रयास किया। आग की लपटें इतनी तेज थीं कि आग बुझाने में लोगों को कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही थी।

वहीं, मकान में अधिकतर लड़की का इस्तेमाल होने की वजह से आग ने भीषण रूप धारण कर लिया था। हालांकि, स्थानीय लोगों ने भी आग बुझाने में अपनी ओर से कोई कसर नहीं छोड़ी। इमारती लकड़ी से बना मकान देखते ही देखते आग की लपटों में घिर गया। मकान में 32 कमरे थे, जो पूरी तरह से जलकर राख हो गए हैं। मकान में यशवंत नेगी पुत्र रोशन लाल नेगी परिवार सहित रहते थे। उधर, अग्निशमन केंद्र रोहड़ू के प्रभारी लायक राम शर्मा ने बताया कि आग की घटना में पचास लाख रुपये से अधिक का नुकसान आंका जा रहा है। आग बुझा दी गई है। खबर लिखे जाने तक प्रभावित परिवारों को किसी तरह की फौरी राहत नहीं दी गई थी। अग्निकांड से प्रभावित परिवारों की सारी जिंदगी की पूंजी पल भर में राख के ढेर में बदल गई। वहीं, अब कड़ाके की ठंड में सारा परिवार खुले आसमान के नीच आ गया है। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X