विज्ञापन
विज्ञापन
क्या नौकरी में आ रही परेशानियां वर्ष 2021 में हो जाएंगी समाप्त ? जानिए अनुभवी एस्ट्रोलॉजर्स से
astrology

क्या नौकरी में आ रही परेशानियां वर्ष 2021 में हो जाएंगी समाप्त ? जानिए अनुभवी एस्ट्रोलॉजर्स से

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

राष्ट्रीय ड्रॉप रोबाल कमेटी में शामिल हुए शिमला जिले के विशाल चौहान

हिमाचल के शिमला जिले की चौपाल उपमंडल के राष्ट्रीय ड्रॉप रोबाल खिलाड़ी विशाल चौहान को हिमाचल ड्रॉप रोबाल डेवलेपमेंट कमेटी की कमान सौंपी गई है।

28 अक्टूबर 2020

विज्ञापन
Digital Edition

हिमाचल: दो नवंबर से खुलने वाले स्कूलों में जनवरी और फरवरी में भी लगेंगी नियमित कक्षाएं

हिमाचल में दो नवंबर से खुलने जा रहे स्कूलों में जनवरी और फरवरी में भी नियमित कक्षाएं लगेंगी। कोरोना संकट के चलते इस बार शीतकालीन छुट्टियों वाले स्कूलों में सर्दियों की छुट्टियां नहीं होंगी। ऑनलाइन पढ़ाई भी जारी रखी जाएगी। साढ़े सात माह तक स्कूल बंद रहने के कारण अब शैक्षणिक सत्र को बढ़ाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। शिक्षा विभाग ने इसका प्रस्ताव तैयार कर लिया है। संभावित है कि नवंबर या दिसंबर की कैबिनेट बैठक में इसे रखा जाएगा। पहली से 12वीं कक्षा की वार्षिक परीक्षाएं इस बार एक साथ पूरे प्रदेश में मार्च 2021 में लेने का फैसला लिया गया है। कोरोना के चलते इस साल मार्च से हिमाचल में स्कूल बंद हैं।

बच्चों की पढ़ाई जारी रखने को ऑनलाइन शिक्षण सामग्री व्हाट्सएप से भेजी जा रही है। ऑनलाइन फर्स्ट टर्म परीक्षाएं भी ली गईं। सेकेंड टर्म परीक्षाओं की तैयारी शुरू हो गई है। ई पीटीएम भी विभाग दो बार कर चुका है। अब प्रदेश में पहले के मुकाबले हालात कुछ सामान्य हो रहे हैं। दो नवंबर से सरकार ने नौवीं से 12वीं कक्षा की नियमित कक्षाएं लगाने का फैसला लिया है। ऐसे में शिक्षा विभाग ने इस बार शीतकालीन स्कूलों में जनवरी और फरवरी की छुट्टियां नहीं देने का फैसला लिया है। इन दो माह में भी स्कूल खोलने का प्रस्ताव तैयार किया गया है। इस मामले को भी कैबिनेट मंजूरी के लिए भेजा जाएगा। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि मार्च से स्कूल बंद होने के चलते टीचिंग डे प्रभावित हुए हैं। सिलेबस पूरा करने और बच्चों की पढ़ाई को गति देने के लिए सर्दियों की छुट्टियां नहीं दी जाएंगी। कोरोना के चलते पहले ही स्कूलों की छुट्टियां का कोटा पूरा कर लिया गया है।
... और पढ़ें
फाइल फोटो फाइल फोटो

अटल टनल से एचआरटीसी की इलेक्ट्रिक बस का आज होगा ट्रायल

हिमाचल पथ परिवहन निगम अटल टनल रोहतांग से होकर इलेक्ट्रिक बस का ट्रायल करने जा रहा है। गुरुवार को टनल से मनाली और केलांग के बीच इलेक्ट्रिक बस का ट्रायल होगा। 25 सीटर इलेक्ट्रिक बस का ट्रायल कामयाब होने के बाद निगम बस सेवा शुरू करने के लिए सरकार को प्रस्ताव भेजेगा। एक बार में चार्ज करने पर इलेक्ट्रिक बस करीब 250 किमी तक चलती है। लाहौल घाटी में इन दिनों तापमान हिमाचल के अन्य जिलों की तुलना में बेहद नीचे चल रहा है। ऐसे में इलेक्ट्रिक बस की बैटरी एक बार चार्ज करने पर 250 किमी से कम दौड़ सकती है।

ट्रायल के दौरान एचआरटीसी की इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की टीम भी मौजूद रहेगी। घाटी के लोग भी इलेक्ट्रिक बस शुरू करने के पक्ष हैं। इससे जहां जनजातीय जिले में प्रदूषण कम होगा, वहीं मनाली से लाहौल जाने वाले लोगों को भी सहूलियत होगी। बहरहाल, निगम के ट्रायल पर सबकी निगाहें टिकी हैं। हिमाचल पथ परिवहन निगम केलांग डिपो के आरएम मंगल मनेपा ने कहा कि वीरवार को अटल टनल होकर मनाली से केलांग के लिए इलेक्ट्रिक बस ट्रायल के तौर पर चलेगी। अगर ट्रायल कामयाब रहा तो नियमित बस सेवा शुरू करने के लिए राज्य सरकार से मंजूरी ली जाएगी। 
... और पढ़ें

आईटीआई में खुलेंगे ड्राइविंग स्कूल, महिलाओं को मिलेगा निशुल्क प्रशिक्षण

हिमाचल में कंडम हो चुकी सरकारी गाड़ियों को अब बेचने की जगह आईटीआई को देकर ड्राइविंग स्कूल खोले जाएंगे। कैबिनेट बैठक में जल शक्ति, स्वास्थ्य, पीडब्ल्यूडी और शिक्षा विभाग की कंडम गाड़ियां तकनीकी शिक्षा विभाग को देने का फैसला लिया गया है। इन गाड़ियों से आईटीआई में महिलाओं को ड्राइविंग सिखाई जाएगी। तकनीकी शिक्षा मंत्री डॉ. रामलाल मारकंडा ने बताया कि मुख्यमंत्री ने रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए यह फैसला लिया है। कैबिनेट बैठक में फैसला हुआ कि प्रदेश के चार बड़े महकमों में कंडम हो चुकी गाड़ियों से आईटीआई में विद्यार्थी मोटर मैकेनिक का काम और ड्राइविंग सीख सकेंगे।

स्वरोजगार बढ़ाने के लिए सरकार ने फैसला लिया है कि दो बजे के बाद आईटीआई में महिलाएं ड्राइविंग सीख सकेंगी। इसके लिए महिलाओं को अपने घरों के आसपास स्थित आईटीआई में पंजीकरण करवाना होगा। इसके लिए कोई भी फीस नहीं ली जाएगी। दूसरे चरण में पुरुषों को भी यह सुविधा दी जाएगी। उनसे नाममात्र की सौ या दो सौ रुपये की फीस ली जाएगी। तकनीकी शिक्षा मंत्री ने बताया कि प्रदेश में 132 आईटीआई सरकारी क्षेत्र में चल रही हैं। जल्द ही प्रदेश के लोगों को ड्राइविंग सीखने के लिए अपनी जेब बहुत अधिक ढीली नहीं करनी होगी।
... और पढ़ें

CoronaVirus in Himachal: प्रदेश में चार संक्रमितों की मौत, एसडीएम समेत 300 पॉजिटिव मरीज

हिमाचल प्रदेश में चार और कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई है। बुधवार सुबह नेरचौक मेडिकल काॅलेज मंडी में कुल्लू भूंतर निवासी 76 वर्षीय बुजुर्ग, मनाली के सजला निवासी 72 वर्षीय बुजुर्ग के अलावा मंडी के धर्मपुर क्षेत्र के सजाओ पीपलू निवासी 64 वर्षीय बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया। मेडिकल कॉलेज के वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर जीवानंद चौहान ने सुबह तीनों मौत की पुष्टि की है। सीएमओ कांगड़ा जीडी गुप्ता ने बताया कि जयसिंहपुर के पलेटा गांव की 94 वर्षीय कोरोना संक्रमित बुजुर्ग महिला की टांडा में मौत हो गई है। महिला को 21 अक्तूबर को धर्मशाला अस्पताल में भर्ती किया था लेकिन, पॉजिटिव आने के बाद उसे टांडा अस्पताल में शिफ्ट किया गया था।

बुजुर्ग महिला को दिल की धमनी का रोग, मधुमेह और अन्य बीमारियां भी थीं। वहीं बुधवार को प्रदेश में कोरोना वायरस के 300 नए मामले आए हैं। मंडी जिले में 88, शिमला 50, कुल्लू 38,  किन्नौर 28, सोलन 24, कांगड़ा 27, सिरमौर 11, बिलासपुर 22, चंबा 6, हमीरपुर 4 और ऊना में 2 नए मामले आए हैं।  मंडी जिले में एसडीएम जोगिंद्रनगर समेत 88 नए पॉजिटिव मरीज आए हैं। सरकाघाट, किलिंग व थुनाग स्कूल के 22 शिक्षक व अन्य स्टाफ के कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके साथ ही प्रदेश में संक्रमितों का कुल आंकड़ा 21149 पहुंच गया है। 2646 सक्रिय मामले हैं। कोरोना से 18179 लोग ठीक हो चुके हैं। राज्य में 295 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है। 
... और पढ़ें

हिमाचल: 20 नए उद्योगों और 12 औद्योगिक इकाइयों के विस्तार को मंजूरी, 2598 को मिलेगा रोजगार

सांकेतिक तस्वीर
 हिमाचल प्रदेश राज्य एकल खिड़की स्वीकृति और अनुश्रवण प्राधिकरण (सिंगल विंडो) की बुधवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हुई बैठक में 20 नए उद्योगों और 12 औद्योगिक इकाइयों के विस्तार को मंजूरी दी गई है। इनमें लगभग 868.58 करोड़ रुपये का निवेश होगा और लगभग 2598 लोगों को रोजगार मिलेगा।
बैठक में  प्रॉस्पेरिटी छह फार्मासेक्टिक्स यूनिट-दो को बद्दी में ड्राई पाउडर इंजेक्शन, ड्राई सिरप, टैबलेट, कैप्सूल निर्माण, आइडियल मेडिकल डिवाइसेस को मोगीनंद में सिरिंज, पैट बोतलें, कोरुगेटिड कार्टन, विशाल इंजीनियरिंग कंपनी यूनिट-दो को मोगीनंद में बोतलें और कैप्स निर्माण, श्रीओम ऑर्गेनिक्स प्राइवेट लिमिटेड को पांवटा के गोंदपुर में थियोकोलीकोसाइड के निर्माण, अल्यूटैक पैकेजिंग प्राइवेट लिमिटेड को नालागढ़ के डाडी कानिया में फॉयल, पीवीसी-पीवीडीसी आदि के निर्माण को मंजूरी दी। अन्य उद्योगों में वर्धमान इस्पात उद्योग को ऊना के बाथरी में टीएमटी बार्स, बिलेट्स, ग्रिडर्स, ऑलकाइंड हेल्थकेयर यूनिट-तीन को इंडस्ट्रियल एरिया काठा सोलन में टैबलेट, कैप्सूल, कॉस्मेटिक आदि के निर्माण, कुमार स्टीलवेज को कालाअंब के ओगली में एमएस, एसएस रोल्ड उत्पादों, एसएस ट्यूब और मैसर्स माइलस्टोन गियर्स को सोलन के कत्था में गियर्स, शाफ्ट के निर्माण को स्वीकृति मिली।

इस प्राधिकरण ने जिन प्रोजेक्टों के विस्तार प्रस्ताव को मंजूरी दी है, उनमें जेबी रोलिंग मिल्स यूनिट-दो को कालाअंब के जोहरन में इनगोट, बिलेट, एमएस बार, एंगल, चैनल के निर्माण, नेस्ले इंडिया को टाहलीवाल में चॉकलेट, नूडल्स, जेबी रोलिंग मिल्स लिमिटेड को जोहड़ों में एमएस इन्गोट, बिलेट्स उत्पादन और श्रीभगवती इंडस्ट्रीज को बद्दी के झमाझरी में कोरुगेटिड कार्टन निर्माण जैसे उद्योगों को स्वीकृति दी। मैसर्ज टेक्नो प्लास्टिक इंडस्ट्रीज को रामपुर जट्टन, कालाअंब, प्लास्टिक मोलडिड के उत्पादन, एमको इंडस्ट्रीज को अंब के शिवपुर में कच्चा लोहा, एसएस उत्पाद निर्माण, गांव कत्था में मोनो कार्टन के निर्माण, मैसर्स परफेक्ट पैकेजिंग का बुरंवाला, बद्दी में ड्राई अथवा असेंबल्ड लेड एसिड बैटरियों के उत्पादन को मंजूरी दी है। सनोक्स इंटरनेशनल को जॉब वर्क के लिए नालागढ़ के पंजेहरा में बैटरियों और पुर्जों के निर्माण, ब्लू स्टार लिमिटेड को गांव रामपुर जट्टां सिरमौर में वातानुकुलित उपकरणों के निर्माण, मैसर्स माइक्रोटेक न्यू टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड यूनिट-दो को सोलन के कत्था में इन्फ्रा रेड थर्मामीटर, हाई एंड इनवर्टर्स आदि के निर्माण को स्वीकृति दी।
... और पढ़ें

अंतरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा: 16वीं सदी में ऐसे हुई थी शुरुआत, तस्वीरों में देखें देव संस्कृति का अनूठा महासंगम

अब शिक्षकों पर बड़ी जिम्मेदारी, विद्यार्थी उन्हें देखकर ही करेंगे अनुसरण: गोविंद

शिक्षा मंत्री गोविंद ठाकुर ने कहा कि दो नवंबर से हिमाचल में नौवीं से 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों की नियमित कक्षाएं शुरू हो रही हैं। ऐसे में शिक्षकों की जिम्मेदारी और अधिक बढ़ गई है। विद्यार्थी उनका ही अनुसरण करेंगे। शिक्षकों को स्वयं सही तरीके से फेस मास्क पहनना होगा। बार-बार हाथ धोने होंगे। शारीरिक दूरी का पालन करना होगा। कहा कि अगर शिक्षक बचाव के इन तरीकों का पालन नहीं करेंगे तो विद्यार्थियों को समझाना भी मुश्किल होगा। बुधवार को सचिवालय में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में शिक्षा मंत्री ने कहा कि प्रिंसिपलों से शिक्षण संस्थानों में सैनिटाइजेशन पर अधिक ध्यान देने की अपील की गई है।

अभिभावकों को भी बच्चों के स्कूल आने-जाने के समय सतर्क रहने को कहा है। स्कूल-कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में कोरोना संकट के चलते पढ़ाई काफी प्रभावित हो चुकी है। अब स्थिति को संभालने की जरूरत है। सरकार ने दो नवंबर से स्कूल, कॉलेज और विवि खोलने का फैसला लिया है। विद्यार्थियों की हाजिरी की अनिवार्यता नहीं रहेगी। अभिभावकों के सहमति पत्र पर प्रवेश मिलेगा। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान का उल्लेख करते हुए कहा कि जान है तो जहान है। ऐसे में शिक्षा प्राप्त करने के साथ कोविड-19 से बचाव के सभी नियमों का पालन सख्ती से करना होगा। शिक्षकों को रोल मॉडल बनना होगा। उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लागू करने को कड़ी मेहनत से काम करने की अपील भी की।
... और पढ़ें

हिमाचल: रोहतांग दर्रा पर ताजा हिमपात, घाटी में रात को सड़क पर जमने लगा पानी

हिमाचल प्रदेश के जनजातीय जिले लाहौल-स्पीति में मौसम करवट बदलने लगा है। मंगलवार रात को भी रोहतांग दर्रा सहित ऊंची चोटियों पर ताजा हिमपात हुआ। हालांकि, बुधवार को घाटी में मौसम साफ रहा। गौर रहे कि रविवार रात को लाहौल के ग्रामीण इलाकों में लगभग पांच माह बाद मौसम की पहली बर्फबारी हुई थी। रोहतांग दर्रा पर ताजा बर्फबारी के चलते अटल टनल रोहतांग से पर्यटकों की आवाजाही में भी बढ़ोतरी हो रही है।

पुलिस पोस्ट कोकसर से मिली जानकारी के अनुसार रोहतांग दर्रा में बर्फ देखने की चाह वाले पर्यटक रोहतांग दर्रे का रुख कर रहे हैं। ग्रांफू-काजा मार्ग पर छोटी और बड़ी डोहरानी में रात को सड़क पर भारी ठंड के बीच पानी जमना शुरू हो गया है। टनल के रास्ते से कोकसर से रोहतांग का रुख करने वाले पंजाब के पर्यटक सुशांत, विवेक, अनिरुद्ध और दिल्ली से आए सैलानी रघुवीर और रोजी ने कहा कि रोहतांग दर्रा सहित लाहौल के रिहायशी इलाकों में बर्फ पड़ने की खबर सुनकर बर्फ के दीदार को लाहौल चले आए। कहा कि रोहतांग में बर्फ के दीदार कर वहीं से मढ़ी होते हुए मनाली का रुख करेंगे। कहा कि अटल टनल एक नायाब टनल है। इसे देखने के लिए पर्यटकों में भारी उत्साह है। 
... और पढ़ें

समय पर ऑक्सीजन न मिलने से टांडा में किडनी रोगी की मौत, परिजनों ने किया हंगामा

हिमाचल के कांगड़ा जिले के टांडा मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान मरीज की मौत होने से हंगामा हो गया। मरीज की मौत पर परिजनों ने भारी रोष जताया है। परिजनों का आरोप है कि मौके पर मौजूद चिकित्सीय स्टाफ ने इलाज के दौरान लापरवाही बरती और इस वजह से उनके मरीज की मौत हो गई। मरीज किडनी रोगी थी। इस मामले की शिकायत परिजनों ने कॉलेज के प्राचार्य डॉ. भानु अवस्थी से फोन पर भी की है। उधर, कॉलेज प्राचार्य ने शिकायत सुनते ही मामले की जांच के आदेश एमएस को दे दिए हैं। यह प्रदेश का दूसरे बड़ा मेडिकल कॉलेज है जहां किडनी रोगी का इलाज नहीं हो पाया। ऊपर से सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक को कोविड सेंटर बनाने के बाद टांडा मेडिकल कॉलेज में गंभीर रोगों के इलाज की व्यवस्थाएं बुरी तरह हांफ गई हैं। बैजनाथ के गणखेतर निवासी  42 वर्षीय संजीव कुमार को उपचार के लिए डॉ. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कॉलेज के अस्पताल में लाया गया।

मृतक के भाई संसार चंद और पिता चतरु राम ने बताया कि पिछले कुछ माह से बीमार चल रहे संजीव कुमार को मंगलवार को उपमंडलीय चिकित्सालय पालमपुर से टांडा के लिए रेफर किया गया। मंगलवार देर रात मरीज को लेकर वे टांडा की इमरजेंसी में पहुंचे। संसार चंद ने बताया कि चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार  के बाद मरीज को जल्द से जल्द शिमला या चंडीगढ़ ले जाने के लिए कहा। यह उनके लिए बहुत मुश्किल था। बुधबार सुबह जब वे मरीज को कहीं आगे ले जाने लगे तब  उन्हें बताया गया कि मरीज को कोरोना रिपोर्ट अभी नहीं आई है। उसके बाद जब मरीज को ऑक्सीजन सिलिंडर लगाने का आग्रह किया तब वहां कुछ कर्मियों  ने कहा कि सिलिंडर अपने आप लगा लो। सिलिंडर  लगाया तो उसमें ऑक्सीजन ही नहीं थी और थोड़ी देर में मरीज ने एंबुलेंस में दम तोड़ दिया। परिजनों का आरोप है कि मरीज के इलाज में देरी और कोताही बरती गई। उधर, कालेज के प्राचार्य डॉ. भानु अवस्थी ने कहा कि फोन पर उन्हें शिकायत की गई थी। जांच के आदेश त्वरित दे दिए गए हैं। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X