विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
समस्या कैसी भी हो, पाएं इसका अचूक समाधान प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्यों से केवल 99 रुपये में
Astrology Services

समस्या कैसी भी हो, पाएं इसका अचूक समाधान प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्यों से केवल 99 रुपये में

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

हिमाचल प्रदेश

रविवार, 25 अगस्त 2019

यूनिवर्सल कार्टन से रुकेगा बागवानों का आर्थिक शोषण, पढ़ें पूरा मामला

यूनिवर्सल कार्टन से प्रदेश के बागवानों का देश की मंडियों में आर्थिक शोषण रुकेगा। बागवान अभी टेलीस्कोपिक कार्टन में सेब पैकिंग कर बेच रहे हैं। इससे मंडियों में सेब के पूरे दाम नहीं मिल रहे हैं।

20 किलो की टेलीस्कोपिक कार्टन में 32 से 34 किलो सेब बेचा जाता है, लेकिन दाम 20 किलो के ही मिल रहे हैं। यूनिवर्सल कार्टन में 20 किलो सेब ही भरा जा सकेगा। इससे मंडियों में उनका आर्थिक शोषण रोका जा सकेगा। 

राज्य के बागवान लंबे समय से मांग कर रहे हैं कि प्रदेश में सेब पैकिंग के लिए यूनिवर्सल कार्टन शुरू किया जाए। इससे बागवानों को सेब के वजन के हिसाब से रेट मिले।

वर्ष 2012 में भी यूनिवर्सल कार्टन शुरू करने के मामले पर मुहर लगा दी थी, लेकिन इतने साल बीतने पर भी ये कार्टन उपलब्ध नहीं कराए गए। अब सरकार ने विधानसभा में भी कह दिया है कि प्रदेश में सेब बागवानों के लिए यूनिवर्सल कार्टन आरंभ कर दिए जाएंगे। 
... और पढ़ें

जब धूमल के एक आग्रह पर मंडी पहुंच गए थे अरुण जेटली, इस योजना का किया था शुभारंभ

भाजपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की मंडी से कुछ अमिट यादें जुड़ी हैं। 22 जुलाई 2012 को राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष रहते उन्होंने नेरचौक की सबसे बड़ी महत्वाकांक्षी लेफ्ट बैंक इरिगेशन योजना का शुभारंभ किया था।

उस वक्त राज्य में भाजपा सरकार थी। प्रेम कुमार धूमल मुख्यमंत्री थे। उनके एक आग्रह पर ही जेटली मंडी पहुंच गए थे। योजना के शुभारंभ के बाद अरुण जेटली ने डडौर के कंसा चौक में जनसभा की थी।

उन्होंने यहां हिमाचली अंदाज में खूब घुलने मिलने की कोशिश की थी। अपनी सादगी के कारण वह खूब चर्चा में रहे। उस वक्त उनको मंच तक लाने और वापस ले जाने की ड्यूटी वर्तमान में भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता अजय राणा के पास थी।

राणा ने बताया कि उस दौरान जेटली ने छोटी से छोटी स्थानीय जानकारी हासिल करने की कोशिश की। हालांकि मोदी सरकार में वित्त मंत्री की बड़ी जिम्मेदारी संभालने के बाद वह हिमाचल नहीं आए। 
... और पढ़ें

अरुण जेटली ने हिमाचल को दिए ये दो बड़े संस्थान, आयुष्मान से भी लाखों को हुआ लाभ

मोदी सरकार में केंद्रीय वित्त मंत्री बनने के बाद अपने पहले आम बजट में ही अरुण जेटली ने हिमाचल को आईआईएम का तोहफा और दूसरे आम बजट में एम्स दिया था। 10 जुलाई, 2014 को पेश पहले आम बजट में जेटली ने हिमाचल के लिए इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आईआईएम) की घोषणा की थी। इसके लिए सिरमौर के धौलाकुआं का चयन किया। 28 फरवरी, 2015 को प्रस्तुत दूसरे आम बजट में ऑल इंडिया मेडिकल इंस्टीट्यूट (एम्स) की घोषणा की। इसे बिलासपुर में बनाया जा रहा है। 

आयुष्मान का भी हिमाचल में लाखों को लाभ 
वर्ष 2018-19 के वार्षिक बजट में अरुण जेटली ने आयुष्मान योजना की देश भर के लिए घोषणा की। इस योजना का हिमाचल के लाखों लोगों को लाभ मिला, जिन्हें पांच लाख रुपये तक की स्वास्थ्य सुरक्षा के दायरे में लाया गया। 

सेब फलों की पैकिंग में सेवा कर खत्म करने की घोषणा
जेटली ने वित्त मंत्री रहते आम बजट में फलों को सीए स्टोर में रखने, फलों की वैक्सिंग, खुदरा पैकिंग और लेबलिंग में सेवा कर खत्म करने की घोषणा की थी। इसका भी हिमाचल के फल उत्पादकों को लाभ हुआ। दिल्ली को पानी पहुंचाने के लिए प्रस्तावित रेणुका प्रोजेक्ट को भी पहले बजट में 50 करोड़ रुपये जारी किए। लाहौल-स्पीति के लिए सौर ऊर्जा परियोजना की भी घोषणा की। 
... और पढ़ें

मणिमहेश यात्रा से लौट रहे युवक की ट्रक के नीचे आने से मौत

भरमौर-पठानकोट हाईवे पर तुन्नूहट्टी के समीप डगोह में बाइक और ट्रक की भिड़ंत में बाइक सवार की मौत हो गई जबकि एक अन्य युवक घायल हो गया है। यह हादसा रविवार सुबह के समय पेश आया।

हादसे में मृतक की पहचान सौरभ कुमार (20) पुत्र बचन लाल निवासी गांव घरोटा जिला पठानकोट (पंजाब) के रूप में हुई। जबकि घायल युवक की पहचान मुकेश कुमार पुत्र जीत कुमार गांव लमीनी पठानकोट के तौर पर हुई है।

वह बाइक चला रहा था। हादसे के बाद ट्रक चालक मौके से फरार हो गया। पुलिस ने ट्रक चालक के खिलाफ भादंसं की धारा 279, 304ए के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। साथ ही ट्रक चालक की धरपकड़ शुरू कर दी है। हादसे की सूचना मिलने के बाद परिजन भी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल चुवाड़ी पहुंचा दिया है। यहां पोस्टमार्टम की औपचारिकताओं को पूरा किया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार सौरभ और मुकेश कुमार मणिमहेश यात्रा से वापिस आ रहे थे। रविवार को भरमौर से आते हुए उन्होंने रात्रि ठहराव चंबा में किया। सुबह छह बजे वे घर की ओर जिला मुख्यालय से रवाना हुए। लेकिन डगोह नामक स्थान पर ट्रक से उनकी भिड़ंत हो गई।

इसमें बाइक सवार सौरभ की मौत हो गई। जबकि बाइक चालक मुकेश को गंभीर चोटें आई है। हादसे के बाद ट्रक चालक मौका देखकर मौके से फरार हो गया। इस दौरान मौके पर पहुंचे लोगों ने घायल को अस्पताल पहुंचाया। इसके साथ ही पुलिस को सूचना दी।

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर कार्रवाई पूरी की और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाया। पुलिस ने आरोपी ट्रक चालक की तलाश शुरू कर दी है। एसपी चंबा डॉ. मोनिका ने खबर की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि हादसे में बाइक सवार की मौत हुई है। उन्होंने कहा कि चालक की धरपकड़ के लिए पुलिस टीम रवाना हो गई है। ट्रक चालक के खिलाफ केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई है।
... और पढ़ें

अरुण जेटली के निधन पर हिमाचल प्रदेश में दो दिन का राजकीय शोक

पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन पर हिमाचल सरकार ने 25 और 26 अगस्त को दो दिन राजकीय शोक की घोषणा की है। इस दौरान प्रदेश में राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा। इसके अतिरिक्त दो दिन किसी भी प्रकार का आधिकारिक समारोह नहीं होगा। शनिवार को जेल विभाग ने रविवार को कंडा जेल में प्रस्तावित कारा जंक्शन कार्यक्रम पूर्व वित्त मंत्री के निधन के बाद स्थगित कर दिया था। 

इसी बीच, राज्यपाल कलराज मिश्र और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने रविवार को नई दिल्ली स्थित भाजपा कार्यालय में पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने परमपिता परमेश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिजनों को शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्र ने एक महान नेता को खो दिया है। अरुण जेटली को देश के विकास में योगदान के लिए याद किया जाएगा। सांसद रामस्वरूप शर्मा, किशन कपूर, सुरेश कश्यप व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती ने भी दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि दी।
... और पढ़ें

हेल्थ, टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए हुई 21 किमी लंबी हाफ मैराथन

अनक्रश लीवज मुंबई और जिभी वैली टूरिज्म एसोसिएशन ने घाटी में ग्रीन टूरिज्म को बढ़ावा देने के उद्देश्य से हॉफ मैराथन का आयोजन किया। पांच, दस और 21 किलोमीटर वर्ग में हुई मैराथन में करीब 230 लोगों ने हिस्सा लिया। 21 किलोमीटर की पुरुष वर्ग की मैराथन में चेतन पहले, दीपक राज दूसरे, चंद्रमणि तीसरे, महिला वर्ग में गाड़ागुशैणी महाविद्यालय की आचार्य मंजू बाला ने पहला स्थान हासिल किया।

10 किलोमीटर मैराथन के पुरुष वर्ग में रुस्तम पहले, तिलकराज दूसरे, अजय ठाकुर तीसरे, 10 किलोमीटर महिला वर्ग में यमुना ठाकुर पहले, कृष्णा देवी दूसरे, नेहा ठाकुर ने तीसरा स्थान हासिल किया। पांच किलोमीटर मैराथन पुरुष वर्ग में विकास पहले, देनीदार दूसरे, साधनिक तीसरे, महिला वर्ग के पांच किलोमीटर में भुवनेश्वरी पहले, मीनाक्षी दूसरे, श्रुति तीसरे स्थान पर रहीं।

जिभी से बाहू तक मैराथन करवाई गई। पर्यटन और स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए करवाई गई मैराथन को लेकर लोगों में उत्साह देखने को मिला। हॉफ मैराथन में तहसीलदार विपिन शर्मा मुख्यातिथि थे। वह भी इस मैराथन का हिस्सा बने। मैराथन को भगवान सिंह राणा ने हरी झंडी दिखाई। दौड़ का समापन तहसीलदार बंजार विपिन शर्मा ने किया।

उन्होंने कहा कि प्राकृतिक सुंदरता से भरी जिभी वैली में ग्रीन टूरिज्म और हेल्थ टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए यह अच्छी पहल है। इससे घाटी में पर्यटन की गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा। इस दौरान प्रधान ग्राम पंचायत तांदी नरेंद्र बिडागरी, अनक्रश लीवज मुंबई से कुनाल शर्मा, अनहद वर्मा, मोनिका शर्मा, अभिनव वर्मा, कनिष्क शर्मा, अलेह सोमानी, ललित, बलदेव शर्मा, गिरधारी लाल, संदीप कंवर आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

बोर्ड परीक्षाओं में आसानी से पास हो सकेंगे, नंबर लेना मुश्किल, पढ़ें पूरा मामला

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने निम्न और मध्य स्तर के बच्चों को पास करने के लिए फार्मूला तैयार कर दिया है। फार्मूले के तहत निम्न और मध्य स्तर के बच्चे आसानी से पास हो सकेंगे। लेकिन परीक्षा में अच्छे अंक लेने के लिए बच्चों को सही तैयारी करनी होगी।

बोर्ड नौवीं से 12वीं कक्षा की मार्च-2020 की वार्षिक परीक्षाओं से 40:40:20 फार्मूले से प्रश्नपत्र का पैटर्न तैयार करेगा। 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षा होती है, जबकि नौवीं और 11वीं की परीक्षा के लिए भी बोर्ड ही पेपर तैयार करके देता है।

इसमें 40-40 फीसदी प्रश्न औसत से कम और औसत श्रेणी वाले होंगे, जबकि 20 फीसदी प्रश्नों का आधार उच्च और कठिन होगा। वार्षिक परीक्षाओं में प्रश्नपत्र बोर्ड की निर्धारित पुस्तकों और पाठ्यक्रम से ही होंगे।

निजी प्रकाशकों, सहायक पुस्तकों और गाइड से वार्षिक परीक्षाओं में प्रश्न नहीं डाले जाएंगे। 40:40:20 अनुपात में तैयार होने वाले प्रश्नपत्रों में 40 फीसदी प्रश्न औसत से निचले स्तर के होंगे।
... और पढ़ें

अरुण जेटली ने दिलाई हिमाचल में उद्योगों के लिए विशेष रियायतें, जीएसटी से दी संजीवनी

भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली का देवभूमि हिमाचल से विशेष लगाव रहा है। मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में बतौर वित्त मंत्री उन्होंने सूबे में उद्योगों के लिए विशेष रियायतें दिलाई थीं। वर्ष 2003 में तत्कालीन प्रधानमंत्री वाजपेयी ने 2003 से 2010 तक उद्योगों को विशेष पैकेज दिया था। यूपीए सरकार ने इसे कम करके 2007 तक कर दिया था। इसके बाद बतौर वित्त मंत्री जेटली ने सूबे में उद्योगों को 2017 तक दस सालों के लिए विशेष रियायतें दीं।

इससे नए व पुराने उद्योगों को लाभ हुआ। इसके अलावा जेटली ने पहले आम बजट में प्रदेश को आईआईएम और दूसरे बजट में एम्स का तोहफा दिया। सिरमौर के धौलाकुआं में आईआईएम शुरू हो गया है, जबकि बिलासपुर में एम्स की ओपीडी इसी साल से शुरू होने की उम्मीद है। जेटली अंतिम बार विधानसभा चुनाव से पूर्व अक्तूबर 2017 में शिमला में पार्टी का घोषणा पत्र जारी करने आए थे।

सेब फलोें की पैकिंग में सेवा कर खत्म करने की घोषणा
जेटली ने वित्त मंत्री रहते आम बजट में फलों को सीए स्टोर में रखने, फलों की वैक्सिंग, खुदरा पैकिंग और लेबलिंग में सेवा कर खत्म करने की घोषणा की थी। इसका भी हिमाचल के फल उत्पादकों को लाभ हुआ। दिल्ली को पानी पहुंचाने के लिए प्रस्तावित रेणुका प्रोजेक्ट को भी पहले बजट में 50 करोड़ रुपये जारी किए। लाहौल-स्पीति के लिए सौर ऊर्जा परियोजना की भी घोषणा की। 
... और पढ़ें

हिमाचल: चांदनी शर्मा की फिल्म द डार्क लाइट को ऑस्कर की स्क्रीनिंग में मिली प्रशंसा

अरुण जेटली
इंडियन प्रिंसेस हिमाचल के गोहर की चांदनी शर्मा की डेब्यू फिल्म द डार्क लाइट की स्क्रीनिंग ने यूएसए के मोंटगोमरी में शनिवार को धूम मचा दी। ऑस्कर स्क्रीनिंग के लिए मोंटगोमरी में देश-विदेश की चुनिंदा 25 फिल्मों में चांदनी की द डार्क लाइट फिल्म की स्क्रीनिंग को देखकर दर्शक भावुक हो उठे। फिल्म प्रदर्शन से मिली प्रशंसा से चांदनी बेहद उत्साहित हैं। 

मोंटगोमरी से फोन पर ‘अमर उजाला’ से बातचीत में चांदनी ने बताया कि दुनिया भर के निर्माता और निर्देशकों ने द डार्क लाइट की कहानी को खूब सराहा। फिल्म में उनके अभिनय को नेचुरल एक्टिंग के तौर पर सराहा गया है। फिल्म के भावुक दृश्यों को देखकर दर्शकों की आंखों में पानी आ गया। चांदनी ने बताया कि 118 मिनट की द डार्क लाइट फिल्म बिना गानों, बिना मेकअप की पूरी तरह नेचुरल फिल्म है। 
... और पढ़ें

बाढ़-भूस्खलन ने रोके पर्यटकों के कदम, 20 प्रतिशत से ज्यादा नहीं बढ़ी ऑक्यूपेंसी

अगस्त में हिमाचल में बाढ़ और भू-स्खलन की वजह से हुई भारी तबाही ने पर्यटकों के कदम भी रोक दिए हैं। मौजूदा समय में धर्मशाला-मैक्लोडगंज के होटलों में ऑक्यूपेंसी पांच प्रतिशत तक पहुंच चुकी है। वीकेंड पर 60 से 70 प्रतिशत तक रहने वाली ऑक्यूपेंसी इस वीकेंड पर 20 प्रतिशत से अधिक नहीं बढ़ पाई है। होटल व्यवसायियों की मानें तो होटलों में बुकिंग न होने से उन्हें स्टाफ का वेतन तक निकालना मुश्किल हो गया है।

पर्यटकों के न आने से उनके होटलों की इनकम पर खासा प्रभाव पड़ा है। होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन मैक्लोडगंज के अध्यक्ष अश्वनी बांबा ने बताया कि पिछले वर्ष अगस्त-सितंबर में भी भारी बारिश के कारण उनका मानसून का पर्यटन सीजन मंदा रहा था। इस बार भी प्रदेश में भारी बारिश के बाद आई बाढ़ और जगह-जगह हुए भू-स्खलन ने होटल व्यवसायियों की कमर तोड़ दी है। 

अक्तूबर-नवंबर के लिए हो रही एडवांस बुकिंग
अश्वनी बांबा ने बताया कि अक्तूबर-नवंबर में होने वाले दशहरा और दिवाली पर्व के लिए होटलों की अग्रिम बुकिंग हो रही है। अभी तक इस अग्रिम बुकिंग की ऑक्यूपेंसी 40 से 50 फीसदी तक पहुंच चुकी है। उन्होंने उम्मीद जताई कि उनका सर्दकालीन पर्यटन सीजन पर्यटकों के लिहाज से बेहतरीन होगा।

पर्यटन निगम के होटल भी खाली: सोनी
पर्यटन निगम के कांगड़ा के एजीएम अश्वनी सोनी ने बताया कि प्रदेश में अगस्त में हुई बारिश और भू-स्खलन का असर निगम के होटलों पर भी पड़ा है। ऐसा पहली बार हुआ है, जब निगम के होटलों की ऑक्यूपेंसी 10-15 प्रतिशत के बीच पहुंची है। वीकेंड पर भीड़ जुटती थी, लेकिन इस बार होटल लगभग खाली हैं।
... और पढ़ें

हिमाचल को बेचने का मास्टर प्लान बना रही सरकार : मुकेश

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने सरकार पर हिमाचल की बेशकीमती संपत्तियों को बेचने का आरोप लगाया है। रविवार को प्रेस वार्ता में मुकेश ने कहा कि सरकार ने हिमाचल टूरिज्म की दर्जनों प्राइम प्रॉपर्टी का गुपचुप सौदा कर लिया है। इसका खुलासा उस वक्त हुआ, जब सरकार ने राइजिंग हिमाचल की वेबसाइट पर इसकी जानकारी साझा की। विरोध की आशंका के चलते इसे वेबसाइट से हटा लिया गया।

उन्होंने वेबसाइट पर दर्ज की गई निविदाओं की जानकारी साझा करते हुए बताया कि चायल पैलेस जैसे एतिहासिक महत्व के होटल की सरकार ने 250 करोड़ में बोली लगा दी। इसी तरह रोहतांग मनाली, गोल्फ प्लेड, होटल देवधार आदि संपत्तियों को भी बेचने की तैयारी हो गई है। 

पर्यटन निगम के होटलों को 33.5 करोड़ से लेकर 250 करोड़ तक बेचने की योजना है। उन्होंने कहा कि पहले से ही कर्ज में डूबी सरकार के पास अब यह नौबत आ गई है कि प्रदेश की बेशकीमती संपत्तियों को बेचा जा रहा है। दरअसल, एक सोझी-समझी रणनीति के तहत लैंड सीलिंग एक्ट 1972 तथा 118 से छेड़छाड़ कर हिमाचल को बेचने का मास्टर प्लान तैयार किया जा चुका है, लेकिन कांग्रेस यह होने नहीं देगी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस पार्टी सेव हिमाचल के नाम से जल्द जनांदोलन शुरू करने जा रही है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री स्वयं पर्यटन विभाग देख रहे हैं और यह सब हैरत से परे है। डबल इंजन का दावा करने वाली भाजपा सरकार इस स्तर पर पहुंच जाएगी यह सोचा न था।
... और पढ़ें

बारिश से सिरमौर, कांगड़ा, मंडी में नुकसान, 31 तक सक्रिय रहेगा मानसून

हिमाचल में बारिश से कांगड़ा, मंडी और सिरमौर जिले में नुकसान हुआ है। शनिवार रात और रविवार सुबह बारिश के साथ बिजली गिरने से नूरपुर के सुल्याणी पंचायत के बासा लुहारपुरा और बलारा गांव के चार घरों और जमीन में दरारें आ गईं। लोगों के घरों के बिजली उपकरण जल गए। लोगों ने रातभर दहशत में गुजारी। सरकाघाट के खरोह में एक गोशाला ध्वस्त हो गई है। मनाली-लेह मार्ग पर बंता मोड़ के पास रविवार सुबह करीब छह बजे भूस्खलन होने से करीब तीन घंटे तक सैकड़ों वाहन फंसे रहे।

रोहतांग दर्रा सहित बारालाचा और कुंजुम जोत में धुंध से सफर जोखिम भरा हो गया है। शिमला-नाहन नेशनल हाईवे पर भी जगह-जगह पत्थर और भूस्खलन होने से सफर खतरनाक हो गया है। घुमारवीं में रविवार सुबह जम कर बारिश हुई। कई दुकानों में पानी घुस गया। जबकि नगर परिषद क्षेत्र में कई स्थानों में डंगे भी गिर गए। बता दें कि प्रदेश में अभी भी 333 सड़कों पर यातायात बंद है।
... और पढ़ें

हिमाचल नहीं विदेशियों को भा रही उत्तराखंड की वादियां, आर्थिक सर्वेक्षण में 25.79 % पहुंचा ग्रोथ रेट

उत्तराखंड के मुकाबले हिमाचल प्रदेश आने वाले विदेशी पर्यटकों की संख्या आज भी ज्यादा है, लेकिन दोनों राज्यों में आने वाले विदेशी पर्यटकों की ग्रोथ देखी जाए तो इस मामले में उत्तराखंड हिमाचल से काफी आगे है। उत्तराखंड का आर्थिक सर्वेक्षण 2019 तो यही तस्वीर दिखा रहा है।

इस सर्वेक्षण के मुताबिक, हिमाचल में जहां विदेशी पर्यटकों से जुड़ा ग्रोथ रेट 4.02 फीसदी है, वहीं उत्तराखंड में यह इससे काफी ज्यादा 25.79 फीसदी है। प्रदेश में पर्यटन सुविधाओं में धीरे धीरे ही सही, लेकिन लगातार विस्तार इसका बड़ा कारण माना जा रहा है।

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज का मानना है कि उत्तराखंड देश दुनिया के पर्यटकों का ध्यान बहुत तेजी से अपनी ओर खींच रहा है। आने वाले दिनों में यहां पर्यटन विकास की और खूबसूरत तस्वीर दिखाई देगी।
... और पढ़ें

मारपीट के आरोप में शिक्षिका के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज

हमीरपुर जिले की एक राजकीय प्राथमिक पाठशाला में चौथी कक्षा की छात्रा की पिटाई मामले ने तूल पकड़ लिया है। रविवार को परिजनों, ग्रामीणों और डॉ. आंबेडकर महासभा के पदाधिकारियों ने पुलिस थाना सदर में पहुंचकर आरोपी महिला अध्यापक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की। अब मामले में एससी/एसटी एक्ट के तहत केस भी दर्ज हो गया है।

उधर, विभागीय जांच से असंतुष्ट परिजन और ग्रामीण सदर थाना पुलिस से उचित और निष्पक्ष कार्रवाई की मांग उठाई। इसके साथ ही पुलिस अधीक्षक हमीरपुर से मिलकर भी लोगों ने इस मामले में कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने के साथ ही आरोपी अध्यापक को बर्खास्त करने की मांग की है। इस मामले में प्रारंभिक शिक्षा विभाग उपनिदेशक हमीरपुर पहले ही विभागीय जांच बैठा चुके हैं, लेकिन स्थानीय लोगों का कहना है कि उक्त महिला अध्यापक के खिलाफ पहले ही विभाग में शिकायतें हैं। 

अगर पूर्व में ही अध्यापक के खिलाफ ऐसी शिकायतें हैं तो उसके खिलाफ कार्रवाई करने की बजाय उसे एक स्कूल से दूसरे स्कूल में डेपुटेशन पर क्यों भेजा गया, उसे बर्खास्त करना चाहिए था। प्रदेश एससी, एसटी, ओबीसी कर्मचारी संघ और आंबेडकर महासभा के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. ओंकार सिंह भाटिया ने कहा कि ऐसे शिक्षक समाज के लिए भी घातक हैं। उन्होंने आरोपी शिक्षक को सस्पेंड करने की मांग की है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
विज्ञापन