विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

किसी परिचय के मोहताज नहीं लोक गायक जगदीश

हिमाचली लोक कलाकारों में जगदीश शर्मा किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। बंजार के छोटे से गांव के जगदीश युवाओं के बीच खास जगह बना चुके हैं।

16 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

शिमला

सोमवार, 30 मार्च 2020

मौसम खुलते ही कोकसर के फुमड़नाला में गिरा हिमखंड

दो दिन बर्फबारी के बाद रविवार को मौसम खुलते ही कोकसर से चार किलोमीटर दूर फुमड़नाला में हिमखंड गिर गया। अभी भी लाहौल के कई क्षेत्रों में हिमखंड गिरने का खतरा बना हुआ है। बचाव चौकी कोकसर के अनुसार फुमड़नाला में गिरे हिमखंड को कटाने के लिए बीआरओ की मशीनरी जुट गई है। सिस्सू से बीआरओ की मशीन सड़क से बर्फ हटाती हुई गोंधला के शेल्टू तक पहुंच चुकी है।

बर्फबारी से टूटे तारों और गिरे खंभों को ठीक करने और बिजली आपूर्ति बहाल करने में बिजली कर्मी जुटे हुए हैं। कोकसर पंचायत की प्रधान अंजू देवी ने कहा कि बर्फबारी और कर्फ्यू के बीच लोगों की मुश्किलें बढ़ी हुई हैं। सिस्सू पंचायत के उपप्रधान मनोज ने कहा कि बर्फबारी से चंद्रा घाटी के सभी संपर्क मार्ग बंद हैं।

उल्लेखनीय है कि पिछले 48 घंटों में रोहतांग, बारालाचा, कुंजुम और शिगरी ग्लेशियर में तीन से चार फीट तक भारी हिमपात होने से की सूचना है। रविवार को सुबह से मौसम साफ होने से लोग घरों से बाहर निकले। गोम्पाथांग निवासी अनिल शाशनी ने कहा कि मौसम साफ होने पर लोगों ने घरों की छतों और आंगन से बर्फ हटाई। 

रोहतांग सहित ऊंची चोटियों पर बर्फबारी
जिला कुल्लू में रविवार दोपहर बाद मौसम ने अचानक करवट ली जिससे रोहतांग सहित मनाली की ऊंची चोटियों पर ताजा हिमपात हुआ है। घाटी की चोटियों मकरवे, शिकरवे, सेवन सिस्टर पीक, मनाली पीक, लद्दाखी पीक, व्यास कुंड, भृगु झील, हनुमान टिब्बा, देउ टिब्बा, शेगड़ी शकेरी पीक, मनाली पीक, हामटा पास, शलीण धार में भी ताजा हिमपात हुआ है। इससे तापमान में गिरावट दर्ज की गई है।
... और पढ़ें

नशेड़ी अधेड़ ने की पत्नी और बेटे की हत्या, मौके से फरार आरोपी गिरफ्तार

नशेड़ी अधेड़ ने तेजधार हथियार से पत्नी और 19 साल के बेटे की निर्मम हत्या कर दी। वारदात नालागढ़ उपमंडल के जगतपुर पंचायत के टमकवाला गांव की है। दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने के आरोपी मौके से फरार हो गया, जिसे पुलिस ने खेतों से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार रणजीत सिंह (46) पुत्र गुरुदेव निवासी गांव टमकवाला ने अपनी पत्नी समती देवी (45) और पुत्र गगनदीप (19) की निर्मम हत्या कर डाली है।

इस घटना का पता तब चला, जब समीप के खेत से गांव की एक महिला गुजरी। महिला ने देखा कि गगनदीप खून से लथपथ पड़ा है। महिला ने तुरंत इसकी सूचना पंचायत प्रधान को दी। पंचायत प्रधान ने पुलिस को सूचना दी।

डीएसपी नालागढ़ चमन लाल सहित पुलिस के अधिकारी व कर्मचारी मौके पर पहुंचे। लोगों से पूछताछ के बाद पुलिस ने हत्यारोपी को तलाश किया और गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार आरोपी रणजीत नशे का आदी है और नशा मुक्ति केंद्र में रह चुका था। वह अक्सर अपने परिवार वालों के साथ मारपीट करता था। 

डीएसपी नालागढ़ चमन लाल ने बताया की मृतकों के सिर के ऊपर किसी तेजधार हथियार से वार किए गए हैं। पुलिस ने हत्यारोपी को गिरफ्तार कर शवों को कब्जे में ले लिया है। प्रथम दृष्टया यह मामला घरेलू कलह का प्रतीत होता है, लेकिन पुलिस हर पहलू की गंभीरता से जांच कर रही है।
... और पढ़ें

कार से कराहती हुई उतरी महिला, बोली- मेरा पति मुझे बहुत मारता है

हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के बहराल बैरियर पर चंडीगढ़ से एक कार पहुंची। कार में पति-पत्नी के साथ करीब ढाई वर्षीय बच्चा था। कार रुकते ही विवाहिता कराहती हुई उतरी। महिला की हालत देख पुलिस जवान भी असमंजस में पड़ गए। महिला ने उतरते ही कहा मेरी कोई नहीं सुन रहा। मेरा पति मुझे बहुत मारता है। रात को भी काफी पिटाई की है। बैरियर पर तैनात पुलिस जवान संदीप कुमार की टीम भी असमंजस में पड़ गई। तुरंत महिला को कुर्सी पर बिठाया। पुलिस टीम के जवानों ने जैसे ही माजरा समझा, आरोपी पति को कार से उतारा। 

विवाहिता ने कहा कि वह नौ माह की गर्भवती है। महिला (26) ने मारपीट की पूरी दास्तां सुनाई। महिला ने बताया कि वह चंडीगढ़ में पति के साथ रहती है। शनिवार रात को पति ने उसका सिर दीवार से कई बार टकराया। पिटाई से पांव में भी सूजन हो गई है। सिर व मुंह पर चोट के निशान नजर आए। पीड़िता की दास्तां सुनते ही पुलिस जवान ने थाने में फोन कर मारपीट व उत्पीड़न मामले की सूचना दी। इस बीच आरोपी पति ने मामले को तूल नहीं देने की बात कही।

महिला ने देहरादून स्थित मायके में अपने भाई से भी पुलिस की फोन पर बात करवाई। विवाहिता ने कहा कि पानी सिर के ऊपर चला गया है। उत्पीड़न को बर्दाश्त कर पाना मुमकिन नही है। इसके बाद पीड़ित महिला व आरोपी पति को पुलिस टीम पांवटा थाना लेकर पहुंची। डीएसपी पांवटा साहिब ने सोमदत ने कहा कि शिकायत मिली है। विवाहिता की शिकायत पर मेडिकल करवाया जा रहा है। मामले की गहनता से जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

इस डाइट के साथ सुधरी कोरोना पॉजिटिव की सेहत, उपचार करने वाली टीम ने किया खुलासा

कोरोना वायरस (सांकेतिक तस्वीर) कोरोना वायरस (सांकेतिक तस्वीर)

कोरोना वायरस: पुलिस के लिए बनाई स्पेशल किट, ऊना में ट्रायल शुरू

कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए पुलिस को स्पेशल किट दी गई हैं। ऊना जिले में फील्ड में तैनात 50 पुलिस कर्मचारियों को यह स्पेशल किट देकर ट्रायल शुरू किया गया है। अतिरिक्त उपायुक्त अरिंदम चौधरी ने बताया कि जिले में फील्ड में तैनात स्वास्थ्य, सफाई, पुलिस और अन्य कर्मचारियों के लिए करीब 1500 स्पेशल किट तैयार की जा रही हैं।

स्पेशल किट के लिए सिल्वर स्टोन इंडस्ट्री मेहतपुर से कपड़ा खरीदा गया है। स्पेशल किट की सिलाई अंबिका इंडस्ट्री बसाल में करवाई जा रही है। स्पेशल किट को इस तरह से तैयार किया गया है ताकि फील्ड स्टाफ के कपड़े और चेहरा पूरी तरह ढका रहे। इससे संक्रमण का खतरा नहीं होगा। अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि डॉक्टरों के लिए भी स्पेशल किट तैयार की जा रही हैं। जिसका ट्रायल किया जाना अभी बाकी है।
... और पढ़ें

बंद कार्यालयों से ही सेवानिवृत्त हो जाएंगे सैकड़ों शिक्षक व गैर शिक्षक

शिक्षा विभाग के सैकड़ों कर्मचारी 31 मार्च को बंद कार्यालयों से सेवानिवृत्त हो जाएंगे। उच्च शिक्षा निदेशालय ने 58 साल की आयु पूरी करने वाले शिक्षकों और गैर शिक्षकों को 31 मार्च को ही सेवानिवृत्त करने का फैसला लिया है। अन्य विभागों की तरह इन्हें सेवा विस्तार नहीं मिलेगा। उच्च शिक्षा के निदेशक डॉ. अमरजीत कुमार शर्मा ने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए बंद हुए कार्यालयों के खुलते ही इन शिक्षकों और गैर शिक्षकों को सेवानिवृत्ति के लिखित आदेश जारी कर दिए जाएंगे।

शिक्षा विभाग के सूत्रों के मुताबिक 31 मार्च को 100 से अधिक अधिकारी और कर्मचारी 58 साल की आयु पूरी करते हुए सरकारी सेवाओं से सेवानिवृत्त होंगे। सरकार ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए 31 मार्च तक सभी कार्यालयों को बंद रखने के आदेश दिए हैं। ऐसे में इन अधिकारियों और कर्मचारियों को 31 मार्च के दिन कार्यालय बंद होने के कारण सेवानिवृत्ति के लिखित आदेश जारी नहीं हो सकेंगे।

हालात सामान्य होने के बाद जैसे ही कार्यालय खुलेंगे, सेवानिवृत्त होने वाले इन अधिकारियों और कर्मचारियों को लिखित आदेश जारी किए जाएंगे। निदेशक डॉ. अमरजीत कुमार शर्मा ने बताया कि शिक्षा विभाग में सेवानिवृत्त होने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों को सेवा विस्तार देने का सरकार की ओर से कोई भी लिखित आदेश नहीं आया है। ऐसे में इन्हें तय तिथि पर ही सेवानिवृत्त माना जाएगा।
... और पढ़ें

मोबाइल से गर्भ स्थल को लाइव कर थड़ों पर निभाई पूजा की रस्म

ऑनलाइन आराध्य देवों के पूजन के साथ रविवार को सुकेत देवता मेला शुरू हुआ। राज्य स्तरीय देवता मेला बड़ा देयो कमरुनाग मानगढ़ के पूजन के साथ शुरू हुआ। शुभारंभ पर जवाहर पार्क में बड़ा देयो कमरुनाग के बाद राज देवता श्री मूल मांहूनाग, देव बड़ा योगी और सुकेत अधिष्ठात्री देवी महामाया का विधि-विधान से पूजन किया गया।

तीन शताब्दियों के इतिहास में पहली बार हुआ है कि मेले में न किसी देवता ने शिरकत की और न देवलुओं और बजंतरियों ने। जनता की भी कोरोना के कारण कोई भागीदारी नहीं होगी। फिर भी शताब्दियों की देव पूजन की परंपरा को सादगी से निभाया गया। बड़ा देयो श्री कमरुनाग, राज देवता श्री मूल मांहूनाग और देव बड़ा योगी के लिए मेला स्थल पर स्थापित थड़ों पर मोबाइल से ऑनलाइन गर्भस्थल को लाइव कर देव पूजन की परंपरा निभाई गई।

रविवार को कर्फ्यू में ढील के दौरान शुभ मुहूर्त पर सुबह 11:30 बजे देव पूजन की रस्म सुकेत सर्व देवता कमेटी के प्रधान अभिषेक सोनी की उपस्थिति में राज पुरोहित रोशन शर्मा के मार्गदर्शन में निभाई गई। अभिषेक सोनी ने कहा कि कोरोना के कारण राज्य स्तरीय देवता मेला प्रशासन को रद्द करना पड़ा है। परिस्थितियां ऐसी हो गईं कि मेले में करीब 175 देवी-देवता इस बार शिरकत नहीं कर पाए।

रामनवमी तक रोजाना सुकेत सर्व देवता कमेटी मेला स्थल पर सुबह और शाम पूजन करेगी। अष्टमी के दिन सुकेत अधिष्ठात्री देवी महामाया का देहरी स्थित महामाया मंदिर में पूजन और रामनवमीं के दिन देवताओं का पूजन किया जाएगा। समापन पर बड़ा देयो श्री कमरुनाग और राज देवता श्री मूल मांहूनाग को भेंट अर्पित कर क्षेत्र की समृद्धि और सुख-शांति के लिए मन्नत की जाएगी।

देवताओं को यह भेंटें लॉकडाउन और कर्फ्यू समाप्त होने पर उनके मूल स्थान पर जाकर अर्पित की जाएगी। इधर, रविवार सुबह कई लोगों ने मेला स्थल जवाहर पार्क में आराध्य देवताओं के थड़ों का पूजन किया।
... और पढ़ें

हिमाचल के टांडा में ठीक हुआ कोरोना पॉजिटिव युवक, मिली अस्पताल से छुट्टी

19 मार्च को टांडा मेडिकल कॉलेज में दाखिल हुए कोरोना पॉजिटिव शाहपुर विधानसभा क्षेत्र के एक गांव के रहने वाले युवक को अस्पताल से देर शाम छुट्टी दे दी गई। युवक को देर शाम एंबुलेंस में घर भेज दिया गया। टांडा अस्पताल में इलाज के बाद युवक के स्वास्थ्य में लगातार सुधार हुआ। दो बार ब्लड सैंपल लेने के बाद रिपोर्ट नेगेटिव आने पर अस्पताल प्रशासन ने युवक को डिस्चार्ज किया। 

घर में युवक को कुछ दिन तक डॉक्टरों के दिशानिर्देश अनुसार रहना होगा। युवक के परिजनों को भी जरूरी दिशा निर्देश दिए गए हैं। युवक 18 मार्च को सिंगापुर से अपने घर लौटा था। टांडा अस्पताल में ब्लड सैंपल लेने के बाद युवक कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। सीएमओ जीडी गुप्ता ने युवक को डिस्चार्ज करने की पुष्टि की है।
... और पढ़ें

अब एक से दूसरे जिले में जाने पर भी रोक, सीएम ने सभी उपायुक्तों को दिए निर्देश

कर्फ्यू के बीच विशेष पास और पैदल लोग अब एक से दूसरे जिले में प्रवेश नहीं कर सकेंगे। अंतरराज्यीय सीमाओं पर रोक के बाद अब एक से दूसरे जिले में जाने पर भी पाबंदी लगा दी गई है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने रविवार को उपायुक्तों के साथ वीडियो कांफ्रेंस के साथ समीक्षा बैठक की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में एक जिले से दूसरे जिले में आने-जाने और राज्य के बाहर लोगों की गतिविधियों पर नजर रखी जाए। जो लोग पहले ही राज्य में प्रवेश कर चुके हैं, उन्हें सीमावर्ती क्षेत्रों में स्थापित क्वारंटाइन केंद्रों में रखा जाए। 

उन्होंने उपायुक्तों को निर्देश दिए कि जो लोग विभिन्न स्थानों पर फंसे हुए हैं, उनके लिए भोजन और ठहरने की व्यवस्था की जाए। जिला प्रशासन सुनिश्चित करे कि लोगों को किसी प्रकार की असुविधा न हो और आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुचारु रूप से बनी रहे। उन्होंने कहा कि फंसे हुए लोगों की सुविधा के लिए स्कूलों और डाइट भवनों में बनाए गए कैंपों में स्वच्छता का विशेष रूप से ध्यान रखा जाए। फंसे हुए लोगों को उसी स्थान पर बने रहने के लिए भी प्रेरित करें।
... और पढ़ें

प्रशासन की पहल : डिपुओं में 25 रुपये में दो किलो आलू, 30 में मिलेगा प्याज

उचित मूल्यों की दुकानों पर लोगों को अब सस्ती दरों पर आलू और प्याज मिलेगा। नालागढ़ उपमंडल प्रशासन ने यह व्यवस्था की है। खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के माध्यम से आलू-प्याज उपलब्ध करवाया गया है। रोजाना सुबह 8 से 11 बजे तक लोग इनकी खरीद कर सकते हैं। बाजार में आलू और प्याज की भारी कीमतें वसूलने की शिकायतों पर उपमंडल प्रशासन ने इस व्यवस्था की है।

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग का कहना है कि कोई पहले आओ, पहले पाओ की तर्ज पर सस्ती दरों पर आलू-प्याज खरीद सकते हैं। दो किलोग्राम आलू 25, एक किलो प्याज 30 रुपये की दर से मिलेगा। आलू व प्याज सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से उचित मूल्यों की दुकानों पर मुहैया करवाया जाएगा। नालागढ़ शहर की उचित मूल्यों की वार्ड-2, 5 व 7 में स्थित दुकानों पर उपलब्ध होंगे।

खाद्य एवं आपूर्ति निरीक्षक नालागढ़ कमलकांत शर्मा ने बताया कि पहले आओ, पहले पाओ की तर्ज पर शहर में स्थित उचित मूल्यों की दुकानों पर प्रशासन आलू-प्याज कम दरों पर उपलब्ध करवाएगा। लोग राशन डिपुओं में सुबह 8 से 11 बजे तक आलू व प्याज खरीद सकते हैं। एसडीएम प्रशांत देष्टा ने बताया कि आलू व प्याज के अधिक दाम लेने की शिकायतों पर प्रशासन ने यह व्यवस्था करवाई है।
... और पढ़ें

कर्फ्यू के बीच शिमला में अब सामान की होम डिलीवरी, डॉयल करें ये नंबर

कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए शिमला में अब रोजमर्रा की जरूरतों के सामान की होम डिलीवरी शुरू कर दी गई है। जिला प्रशासन ने वार्ड स्तर पर दुकानों का चयन कर उनकी सूची अपने फेसबुक पेज पर डाल दी है। सूची में वार्ड का नाम, दुकान का नाम, संबंधित क्षेत्र और दुकानदार का मोबाइल नंबर दर्शाया गया है। शहर के लोग अपनी नजदीकी दुकान से फोन पर ही सामान मंगवा सकते हैं। सामान घर पर पहुंचने के बाद इसका भुगतान करना होगा। 




जिला प्रशासन का प्रयास है कि दवाइयां भी जल्द ही होम डिलीवरी के माध्यम से लोगों को मिल सकें। जिला प्रशासन की ओर से फेसबुक पेज पर डाली गई सूची में भराड़ी की 3, रुलदूभट्टा की 3, कैथू की दो, अनाडेल की एक, समरहिल की 4, टुटू और मज्याठ की एक, बालूगंज की 3, फागली, कृष्णा नगर, नाभा और राम बाजार की सात, लोअर बाजार, जाखू और बैनमोर की 5, संजौली, सांगटी, इंजन घर और ढली की दो, पंथाघाटी, कसुम्पटी और विकास नगर की तीन, छोटा शिमला की एक, कंगनाधार और पटयोग की 6, न्यू शिमला की 3, खलीनी की 6 और कनलोग वार्ड की 8 दुकानें शामिल हैं।
... और पढ़ें

डीजीपी बोले- आदेशों का पालन करें, सख्ती के लिए न करें मजबूर

सैकड़ों हिमाचली युवाओं के चंडीगढ़ और दिल्ली जैसे शहरों में फंसे होने के बाद लोगों की परेशानी के बीच प्रदेश के डीजीपी सीताराम मरडी ने एक वीडियो के जरिये बड़ी अपील की है। कहा कि लॉकडाउन को केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन कानून और प्रदेश सरकार ने आईपीसी के तहत कर्फ्यू के आदेश जारी किए हैं। इनका उल्लंघन करने पर जेल हो सकती है। आदेशों का पालन करें और पुलिस को सख्ती करने पर मजबूर न करें।

मरडी ने कहा कि आज का समय मुश्किल का समय है। लोगों को स्वहित कम, देशहित ज्यादा और लोक हित सबसे ज्यादा सोचना चाहिए। डीजीपी ने कहा कि पुलिस, स्वास्थ्य जैसी जरूरत की सेवाओं में लगे सभी लोगाें के साथ कुछ न कुछ परेशानी पेश आ रही है। बावजूद इसके वह प्रदेश के लोगों, देश और दुनिया को बचाने के लिए दिन-रात जुटे हैं। कहा कि उनकी दोनों बेटियां अमेरिका में फंसी हैं, जिनसे वह सुबह और शाम दो बार बात करते हैं।

दिन भर हिमाचल में कानून व्यवस्था ठीक रखने के लिए प्रयासरत हैं। ऐसे में उन लोगों को थोड़ा संयम बरतना चाहिए, जिनके बच्चे पड़ोसी राज्यों में हैं। कहा कि कुछ लोग प्रदेश में आने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन गृह मंत्रालय का साफ आदेश है कि जो जहां है वहीं रहें। दिल्ली और चंडीगढ़ में हिमाचल भवन को हिमाचलियों की मदद के लिए खोल दिया गया है। 

इंसानियत में कमी की वजह से बंद हुए मंदिर के कपाट
मरडी ने कहा कि कुछ लोग चिंता जता रहे हैं कि मंदिरों, मस्जिदों, गुरुद्वारों को बंद कर दिया गया है। ऐसा नहीं है, बल्कि इसे ऐसे देखना चाहिए कि भगवान ने अपने कपाट खुद बंद किए हैं, क्योंकि इंसान में इंसानियत की कमी आ गई है। वह सिर्फ अपने बारे में सोच रहा है। लोग जिस दिन अपनी बजाय समाज, देश और दुनिया की फिक्र करते हुए सरकार के आदेशों का पालन करेंगे। उस दिन भगवान अपने कपाट खुद खोल देंगे और कोरोना भारत ही नहीं, दुनिया से गायब हो जाएगा।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us