बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
इस दिन होगा शनि का राशि परिवर्तन, इन राशियों से हटेगी शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या
Myjyotish

इस दिन होगा शनि का राशि परिवर्तन, इन राशियों से हटेगी शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

हमीरपुर की निधि डोगरा बनी योग में सूबे की ब्रांड एंबेसडर

राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला चौरी की निधि डोगरा को एबीबाईएम योग वर्ल्ड बुक के सीईओ राकेश भारद्वाज ने योग का प्रचार प्रसार करने के लिए हिमाचल प्रदेश...

11 जून 2021

विज्ञापन
Digital Edition

तस्वीरें: एसपी ने सीएम जयराम के सामने सुरक्षा प्रभारी को जड़ा चांटा, जवाब में मारीं लातें, जानें पूरा मामला

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के हिमाचल प्रदेश के कुल्लू दौरे के दौरान भुंतर एयरपोर्ट के बाहर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस अफसर आपस में ही भिड़ गए। विवाद इतना बढ़ गया कि एसपी कुल्लू गौरव सिंह ने मुख्यमंत्री के सुरक्षा प्रभारी व एडिशनल एसपी बृजेश सूद को थप्पड़ जड़ दिया। जवाब में सीएम की सिक्योरिटी में तैनात कर्मचारियों ने एसपी को घेर लिया और मुख्यमंत्री के पीएसओ बलवंत सिंह ने एसपी को लातों से मारा। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के सामने हुए प्रदेश को शर्मसार करने वाले इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो वायरल होने पर कुल्लू से लेकर शिमला तक हड़कंप मच गया। मुख्यमंत्री के निर्देश पर सेंट्रल रेंज मंडी के डीआईजी मधुसूदन ने जांच शुरू कर दी। वहीं, मामले की गंभीरता को देखते हुए डीजीपी संजय कुंडू भी शिमला से कुल्लू के लिए रवाना हो गए। बुधवार दोपहर बाद करीब साढ़े तीन बजे नितिन गडकरी पांच दिवसीय दौरे पर कुल्लू पहुंचे थे। मंत्री को रिसीव करने के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर लाव लश्कर के साथ भुंतर एयरपोर्ट पहुंचे। 
... और पढ़ें
पुलिस अफसर आपस में ही भिड़ गए। पुलिस अफसर आपस में ही भिड़ गए।

हिमाचल: गडकरी के दौरे में हंगामा, सीएम के सामने पुलिस अफसरों में चले लात-घूंसे, जांच के आदेश जारी

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के हिमाचल प्रदेश के कुल्लू दौरे के दौरान भुंतर एयरपोर्ट के बाहर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस अफसर आपस में ही भिड़ गए। विवाद इतना बढ़ गया कि एसपी कुल्लू गौरव सिंह ने मुख्यमंत्री के सुरक्षा प्रभारी व एडिशनल एसपी बृजेश सूद को थप्पड़ जड़ दिया। जवाब में सीएम की सिक्योरिटी में तैनात कर्मचारियों ने एसपी को घेर लिया और मुख्यमंत्री के पीएसओ बलवंत सिंह ने एसपी को लातों से मारा।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के सामने हुए प्रदेश को शर्मसार करने वाले इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो वायरल होने पर कुल्लू से लेकर शिमला तक हड़कंप मच गया। मुख्यमंत्री के निर्देश पर सेंट्रल रेंज मंडी के डीआईजी मधुसूदन ने जांच शुरू कर दी। वहीं, मामले की गंभीरता को देखते हुए डीजीपी संजय कुंडू भी शिमला से कुल्लू के लिए रवाना हो गए। 
बुधवार दोपहर बाद करीब साढ़े तीन बजे नितिन गडकरी पांच दिवसीय दौरे पर कुल्लू पहुंचे थे।


मंत्री को रिसीव करने के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर लाव लश्कर के साथ भुंतर एयरपोर्ट पहुंचे। सूत्रों की मानें तो तय प्रोटोकॉल के अनुसार गडकरी के वाहनों के काफिले में सिर्फ मुख्यमंत्री का वाहन शामिल होना था और बाकी वाहनों को काफिले के पीछे चलना था, लेकिन वाहनों को काफिले में शामिल करने को लेकर एसपी कुल्लू और एडिशनल एसपी सीएम सुरक्षा के बीच विवाद हो गया। बात इतनी बढ़ी कि एक जगह काफिला रुकने पर एसपी और एडिशनल एसपी के बीच कहासुनी हो गई।

बहस के दौरान ही एसपी ने एडिशनल एसपी को थप्पड़ जड़ दिया। प्रभारी को थप्पड़ मारे जाने पर सीएम सुरक्षा के कर्मचारी उग्र हो गए और एसपी को पकड़कर घेरने की कोशिश करने लगे। एसपी ने बचने का प्रयास किया तो मुख्यमंत्री के पीएसओ बलवंत सिंह ने गौरव को लातें जड़ दीं। इसी दौरान स्थानीय लोग सड़क पर उतर आए और एसपी के पक्ष में मुख्यमंत्री की गाड़ी के आगे खड़े होकर हंगामा करने लगे। आनन फानन में पुलिस अधिकारियों ने लोगों को हटाकर मुख्यमंत्री के वाहन को रवाना कराया। 

सीएम ने तीन दिन में मांगी रिपोर्ट
 भुंतर एयरपोर्ट के बाहर मुख्यमंत्री के सुरक्षा प्रभारी और एसपी कुल्लू के बीच हुई झड़प के बाद मुख्यमंत्री ने मामले में जांच करने वाले अधिकारियों से तीन दिन में रिपोर्ट देने को कहा है। सीएम ने कहा कि यह घटना दुखद है और इस मामले में जांच रिपोर्ट के आधार पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। संवाद 
... और पढ़ें

धोनी ने पालक-चुलाई के साग के साथ खाया शलगम का सलाद, सोलन में टनल पर फोटो खिंचवाईं तस्वीरें

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी हिमाचल प्रदेश से लौटते समय सोलन के शमलेच में रुके। इस दौरान उन्होंने कालका-शिमला नेशनल हाईवे पर बनी टनल पर फोटो खिंचवाए और सोलन की मनमोहक पहाड़ियों का आनंद उठाया। उन्होंने अधिष्ठात्री देवी मां शूलिनी के इतिहास के बारे में जाना। सोलन के रहने वाले युवा ने पूर्व कप्तान धोनी को मां शूलिनी की फोटो भेंट की। महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि सोलन बहुत सुंदर शहर है और अगली बार वह सोलन जरूर आएंगे। इसके बाद धोनी सनवारा स्थित टोल प्लाजा पर रुके और टोल प्लाजा के फोटो भी कैमरे में कैद किए। 


मंडी के सरकाघाट के शैफ देश राज शर्मा ने धोनी के लिए परोसा खाना
सरकाघाट के रिस्सा के शैफ देश राज शर्मा ने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को अपने हाथों से बनाए हिमाचली व्यंजन परोसे और उनसे वाहवाही लूटी। उन्होंने धोनी को पालक-चुलाई का साग और सिड्डू के साथ ताजे उगाए मूली और शलगम का सलाद भी खिलाया। धोनी ने देश राज शर्मा की खूब तारीफ की। बीते दिनों पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जुब्बल-कोटखाई की रतनाड़ी में मीना बाग होमस्टे में रुके हुए थे। सरकाघाट के देश राज शर्मा अब तक कई सेलिब्रेटी को हिमाचली व्यंजन परोस चुके हैं। इन्होंने 2000-2002 से आईएचएम कुफरी शिमला से फूड प्रोडक्शन में डिप्लोमा किया है और अब पंद्रह वर्षों में भिन्न भिन्न होटलों में बतौर सैफ अपनी सेवाएं दे चुके हैं। 
... और पढ़ें

हिमाचल में आठ और कोरोना संक्रमितों की मौत, 236 पॉजिटिव, सभी जिलों में 500 से कम सक्रिय केस

हिमाचल प्रदेश में बुधवार को कोरोना से आठ और कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हो गई। सिरमौर जिले में दो, सोलन दो, जबकि कांगड़ा, शिमला, हमीरपुर और मंडी में एक-एक संक्रमित ने दम तोड़ा। उधर, प्रदेश में 236 नए कोरोना पॉजिटिव मामले आए हैं। शिमला जिले में 68, बिलासपुर 30, मंडी 29, कांगड़ा 21, चंबा 19, ऊना 17, हमीरपुर 16, कुल्लू 14, सिरमौर 12, सोलन सात, किन्नौर दो और लाहौल-स्पीति में एक नया मामला आया है।


बीते 24 घंटों के दौरान प्रदेश में 234 मरीजों ने कोरोना को मात दी। अब प्रदेश में कुल कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 201049 पहुंच गया है। इनमें से अब तक 195289 संक्रमित ठीक हो चुके हैं। सक्रिय कोरोना मामले घटकर 2287 रह गए हैं। प्रदेश में अब तक 3445 संक्रमितों की मौत हुई है। बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना की जांच के लिए 16732 लोगों के सैंपल लिए गए। प्रदेश के सभी जिलों में कोरोना सक्रिय केस 500 से कम हो गए हैं।

किस जिले में कितने सक्रिय मामले
कांगड़ा         474
शिमला        338
सोलन         91
मंडी            292
चंबा           260
सिरमौर      142
ऊना           156
बिलासपुर    134
हमीरपुर       183
कुल्लू         138
किन्नौर        53
लाहौल-स्पीति 26
... और पढ़ें

बेहतर इंटरनेट स्पीड नहीं दे पाने के मामले पर कंपनियां हाईकोर्ट में नहीं दे पाईं जवाब

कोरोना पॉजिटिव(सांकेतिक )
हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट में इंटरनेट नेटवर्क उपभोक्ताओं को बेहतर और निर्बाधित इंटरनेट नेटवर्क सेवाएं उपलब्ध न होने के मुद्दे को लेकर दायर मामले में सुनवाई 28 जून के लिए टल गई है। बुधवार को सुनवाई के दौरान कोई भी नेटवर्क सर्विस प्रोवाइडर कंपनियां कोर्ट को यह नहीं बता पाईं कि प्रत्येक उपभोक्ता को कम से कम 2 एमबीपीएस की स्पीड से डाटा उपलब्ध करवाने में उन्हें क्या समस्या आ रही है। 

न्यायाधीश तरलोक सिंह चौहान और न्यायाधीश सीबी बारोवालिया की खंडपीठ ने सभी नेटवर्क सर्विस प्रोवाइडर कंपनियों को अगली सुनवाई के दौरान अपनी समस्याओं को कोर्ट के समक्ष रखने के आदेश दिए। अधिवक्ता वंदना मिश्रा की ओनर से दायर जनहित याचिका में उपभोक्ताओं को बेहतर इंटरनेट सेवाएं न देने व ग्रामीण क्षेत्रों में इन सेवाओं की दुर्दशा का उल्लेख किया गया है। सुनवाई के दौरान कंपनियों की ओर से कोर्ट को बताया गया था कि ग्रामीण क्षेत्रों में कई बार बिजली जाने से भी नेटवर्क में बाधा उत्पन्न होती है।

कई इलाकों में तो बिजली कई दिन तक नहीं आती। प्रार्थी की ओर से कोर्ट को बताया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में हल्की हवा का झोंका भी आ जाए तो बिजली गुल हो जाती है और लंबे समय तक गुल ही रहती है। शहरों में बिजली एक लाइन से जाए तो तुरंत दूसरी लाइन से उपलब्ध करवा दी जाती है। इस पर कोर्ट ने अगली सुनवाई के दौरान बिजली बोर्ड को भी इस भेदभाव के कारणों को स्पष्ट करने के लिए कहा है। कोर्ट ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र हो या शहरी, बिजली बोर्ड बिजली सप्लाई में भेदभाव नहीं कर सकता। उल्लेखनीय है वर्चुअल प्लेटफार्म पर शैक्षिक पाठ्यक्रमों, सम्मेलनों, अदालती कार्यवाही संचालन के लिए पर्याप्त नेटवर्क देना समय की मांग है।
... और पढ़ें

हिमाचल स्कूल शिक्षा बोर्ड: 12वीं कक्षा के सवा लाख विद्यार्थी प्रमोट, जुलाई में आएगा रिजल्ट

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने 12वीं कक्षा के सवा लाख विद्यार्थियों को प्रमोट कर दिया है। इन्हें प्रमोट करने के बाद अब अंक सारिणी तैयार करने के लिए 10वीं और 11वीं कक्षा के परीक्षा परिणाम के अलावा दो कक्षा में आंतरिक मूल्यांकन, फर्स्ट व सेकेंड टर्म, प्री बोर्ड परीक्षा और एक विषय की परीक्षा अहम रोल अदा करेगी। 12वीं में करीब 1,14,914 परीक्षार्थी हैं। इनमें 1,00,975 नियमित और 13,939 एसओएस परीक्षार्थी हैं।

नियमों के हिसाब से अंक सूची तैयार होने के बाद जुलाई के मध्य में बोर्ड परिणाम घोषित करेगा। अनुमोदित अंक सारिणीकरण में 10वीं, 11वीं तथा 12वीं कक्षा के आंतरिक मूल्यांकन, प्रैक्टिकल/प्रोजेक्ट रिपोर्ट, फर्स्ट, सेकेंड टर्म, प्री बोर्ड और बोर्ड की ओर से लिए गए अंग्रेजी विषय के पेपर कर मूल्यांकन का आकलन कर विद्यार्थियों का परिणाम घोषित होगा। स्कूल स्तर पर गठित बोर्ड टेब्यूलेशन कमेटी विद्यार्थियों की मेरिट बनाने में बोर्ड की सहायता करेगी।

स्कूल शिक्षा बोर्ड के आदेशों पर प्राइवेट स्कूलों में भी टेब्यूलेशन कमेटी बनाई गई है, लेकिन उन स्कूलों की टेब्यूलेशन कमेटी की ओर से की जाने वाली मूल्यांकन को साथ लगते सरकारी स्कूल के प्रधानाचार्य वेरिफाई करेंगे। बोर्ड ऑनलाइन कोडिंग मॉडयूल तैयार करेगा। उसमें सभी स्कूलों के विद्यार्थियों का डाटा अपलोड किया जाएगा। जो परीक्षार्थी इस मूल्यांकन से संतुष्ट नहीं होंगे, कोविड के हालात ठीक होने के बाद उन्हें पेपर देने का मौका दिया जाएगा।

कोविड-19 के बढ़ते मामलों बढ़ने पर सरकार ने 12वीं के विद्यार्थियों को प्रमोट करने का निर्णय लिया है। बोर्ड ने 12वीं के परिणाम से संबंधित व्यापक, वस्तुनिष्ठ तथा सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर फार्मूला तैयार किया है। 12वीं कक्षा में करीब 1,14,914 परीक्षार्थी हैं। इनमें 1,00,975 नियमित और 13,939 एसओएस परीक्षार्थी हैं। नियमों के हिसाब से अंक सूची तैयार होने के बाद जुलाई के मध्य में शिक्षा बोर्ड परिणाम घोषित करेगा। - डॉ. सुरेश कुमार सोनी, अध्यक्ष 
... और पढ़ें

वीडियो: सीएम जयराम के सामने पुलिस अफसरों में चले लात-घूंसे

हिमाचल में कोविड-19 वैक्सीनेशन शेड्यूल बदलने की तैयारी

हिमाचल प्रदेश में वैक्सीनेशन का शेड्यूल बदलने को लेकर मंथन चल रहा है। स्वास्थ्य सचिव ने बुधवार को अधिकारियों के साथ बैठक की। 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य पूरा करने के लिए सप्ताह में चार दिन कोरोना का टीका लगाने की तैयारी है। 45 साल से ज्यादा उम्र के ज्यादातर लोगों को वैक्सीन लग गई है।

फ्रंटलाइन वर्कर पीछे छूट रहे हैं। सभी श्रेणियां एक साथ चलें, इसके चलते बदलाव किया जा रहा है। सप्ताह के पहले 4 दिन 18 से 44 लोगों के लिए, शुक्रवार को 45 आल से ऊपर उम्र के लोग और शनिवार को फ्रंटलाइन वर्करों को वैक्सीन लगाई जाएगी।

गौरतलब है कि राज्य में 21 जून से सोमवार, मंगलवार, बुधवार को 18 से 44 साल के लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है। इस सप्ताह 23 जून को 18 से 44 साल के लोगों के लिए वैक्सीन लगाने का अंतिम दिन है। इसके बाद 45 साल से ज्यादा और रिजर्व कैटेगिरी के लोगों को वैक्सीन लगाई जानी है। 

वैक्सीन लगाने में युवाओं में भारी क्रेज 
 हिमाचल में अब 18 से 44 साल युवाओं में वैक्सीन लगाने को लेकर क्रेज दिख रहा है। रोजाना स्वास्थ्य विभाग की और से 1 लाख का लक्ष्य हिमाचल में वैक्सीनेशन का रखा गया है, लेकिन इससे ज्यादा लोग वैक्सीन लगाने के लिए पहुंच रहे हैं। 21 जून को 1 लाख 44 और 22 जून को 1 लाख 20 हजार 435 लोगों ने वैक्सीन लगाई। सभी जिलों में तय टारगेट से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लग रही है।   

सप्ताह के पहले चार दिन 18 से 44 साल के लोगों को वैक्सीन लगाने की योजना है। शुक्रवार को 45 साल से ज्यादा और शनिवार को विभिन्न कैटेगिरी में रखे गए लोगों को वैक्सीन लगाई जानी है। - अमिताभ अवस्थी, स्वास्थ्य सचिव
... और पढ़ें

कुल्लू में नितिन गडकरी: 6155 करोड़ की परियोजनाओं का करेंगे लोकार्पण-शिलान्यास

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री नितिन गडकरी गुरुवार को मनाली से प्रदेश की 6155 करोड़ की कई परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। वह बुधवार दोपहर बाद पांच दिवसीय दौरे के लिए करीब तीन बजे परिवार के साथ भुंतर एयरपोर्ट पहुंचे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने उनका स्वागत किया। जिले के भाजपा के नेताओं ने गडकरी का ढोल नगाड़े, करनाल व नरसिंगों के साथ भव्य स्वागत किया। केंद्रीय मंत्री 24 जून को मनाली से वर्चुअल माध्यम से प्रदेश को हजारों करोड़ के तोहफे देंगे। इसमें कई एनएच हाइवे सहित कई बड़े प्रोजेक्ट शामिल हैं। वह मनाली में फोरलेन पुल का भी उद्घाटन करेंगे।

केंद्रीय मंत्री गुरुवार सुबह परिवार के साथ अटल टनल रोहतांग का निरीक्षण करेंगे। इसके बाद मनाली के नग्गर में मुख्यमंत्री के साथ समीक्षा बैठक करेंगे, जिसमें एनएचएआई के अधिकारी मौजूद रहेंगे। इसमें मुख्यमंत्री जिला कुल्लू की जलोड़ी व भूभू टनल सहित कई हाईवे को उनके समक्ष रखेंगे। 25 और 26 जून के दिनों को रिजर्व रखा गया है। जिले के लोगों को भी केंद्रीय मंत्री के दौरे से बड़ी उम्मीदें हैं। इस मौके पर शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर, विधायक किशोरी लाल सागर, सुरेंद्र शौरी, पूर्व सांसद महेश्वर सिंह, धनेश्वरी ठाकुर, एचपीएमसी के उपाध्यक्ष राम सिंह, भाजपा के जिलाध्यक्ष भीमसेन, अतिरिक्त मुख्य सचिव राम सुभग सिंह, जेसी शर्मा, प्रधान सचिव लोक निर्माण शुभाशीष पांडा, उपायुक्त कुल्लू ऋचा वर्मा और पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह उपस्थित रहे। 


सीएम जयराम सुबह 9.40 पहुंचे
बुधवार सुबह 9.40 : मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ढालपुर मैदान में हेलीकाप्टर से उतरे 
10 .30 बजे : मुख्यमंत्री ने प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक की 
11 बजे : वर्चुअल माध्यम से 64 करोड़ की परियोजनाओं के उद्घाटन व शिलान्यास 
दोपहर बाद 2 :30 बजे :  सीएम का काफिला भुंतर एयरपोर्ट पहुंचा 
करीब तीन बजे :  सड़क, परिवहन मंत्री नितिन गडकरी एयरपोर्ट पहुंचे 
3 बजकर 18 मिनट :  नितिन गडकरी ने सलामी ली 
दोपहर 3 :30 बजे :  केंद्रीय मंत्री और सीएम एयरपोर्ट से बाहर निकले तो उनका काफिला फोरलेन प्रभावितों से मिलने के लिए रुका। इसके बाद विवाद हो गया।  
 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us