विज्ञापन
विज्ञापन
कुंडली के यह योग दिलाते है राजयोग, फ्री जन्मकुंडली बनवाएं और जानें क्या आपकी कुंडली में है यह योग ?
Kundali

कुंडली के यह योग दिलाते है राजयोग, फ्री जन्मकुंडली बनवाएं और जानें क्या आपकी कुंडली में है यह योग ?

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

ब्लॉक स्तर पर प्रतिभाओं को निखारना प्राथमिकता: सुमन रावत

एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया की उपाध्यक्ष सुमन रावत मेहता ने कहा कि एथलीटों को बेहतरीन सुविधाएं देने उनकी प्राथमिकता रहेगी।

2 दिसंबर 2020

विज्ञापन
Digital Edition

हिमाचल: 15 कोरोना संक्रमितों की मौत, 805 नए मामले, पूर्व सीएम वीरभद्र आवास में पांच कर्मी पॉजिटिव

हिमाचल प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना से 15 की मौत हो गई। शिमला जिले में सबसे ज्यादा आठ पॉजिटिव मरीजों की मौत हुई है। मृतकों में 6 पुरुष और दो महिलाएं शामिल हैं। नेरचौक मेडिकल कॉलेज में शुक्रवार को कोरोना से चार की मौत हो गई। जगतसुख मनाली के 64 वर्षीय बुजुर्ग, गांव घरड़ पनारसा के 58 वर्षीय संक्रमित व्यक्ति और बरोट के 68 साल के बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया। पस्सड़ क्षेत्र में होम आइसोलेट 58 वर्षीय व्यक्ति की कोरोना से मौत हो गई है। टांडा अस्पताल में देहरा गोपीपुर निवासी 34 वर्षीय संक्रमित व्यक्ति और बैजनाथ की 79 वर्षीय बुजुर्ग संक्रमित महिला ने दम तोड़ दिया। शुक्रवार को प्रदेश में कोरोना वायरस के 805 नए मामले आए हैं। शिमला जिले में 235, मंडी 109, कांगड़ा 147, बिलासपुर 45, चंबा 41, कुल्लू 55, सोलन 75, हमीरपुर 27, ऊना 34, किन्नौर 15, सिरमौर 13 और लाहौल-स्पीति 9 कोरोना के मामले आए हैं।  मंडी जिले में एसडीएम सदर, डीएसपी व अधिशाषी अभियंता के कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके साथ ही प्रदेश में संक्रमितों का आंकड़ा 43500 पहुंच गया है। 8300  सक्रिय मामले हैं। 34458 मरीज ठीक हो चुके हैं। 698 संक्रमितों की अब तक मौत हो चुकी है। 

वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के आवास के पांच कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव निकले हैं। इनमें एक सुरक्षाकर्मी (पीएसओ), एक पूर्व आईएएस अधिकारी, कर्मचारी आवास से दो कर्मी और एक एस्कॉर्ट कर्मी शामिल है। आईजीएमसी के प्रिंसिपल डॉ. रजनीश पठानिया ने इसकी पुष्टि की है। स्वास्थ्य विभाग ने पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के आवास के सभी कर्मियों के सैंपल लिए थे। पांच कर्मियों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री आवास में हड़कंप मच गया है। अब इन सभी कर्मियों के कांटेक्ट ट्रेसिंग शुरू कर दी है ताकि यह पता चल सके कि इनके संपर्क में कौन-कौन लोग आए हैं। संपर्क में आए सभी लोगों के भी सैंपल लिए जाएंगे। सूत्रों का कहना है कि पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का भी कोरोना सैंपल लिया है जिसकी रिपोर्ट आना बाकी है। लाहौल-स्पीति में भी एक कोरोना संक्रमित की मौत हुई है। 

कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन के लिए ली जाएगी बटालियन के जवानों की मदद
डीजीपी संजय कुंडू ने प्रदेश की सभी बटालियन के कमांडेंट को निर्देश दिए हैं कि वे जिलों के एसपी के साथ संपर्क कर जरूरत के मुताबिक पुलिस बल मुहैया कराएं। हाईकोर्ट के वीरवार को आए आदेश के बाद डीजीपी की ओर से ये निर्देश जारी किए गए हैं। कहा गया है कि इन जवानों को जिले में बने कंटेनमेंट जोन में तैनात करने के लिए लगाया जाए, ताकि इन कंटेनमेंट जोन से लोगों के आने-जाने को रोका जा सके। साथ ही तीनों रेंज के आईजी को पर्यवेक्षण व आदेश लागू कराने तथा शनिवार दोपहर 12 बजे तक कंप्लायंस रिपोर्ट देने को भी कहा है।

इन जिलों में कंटेनमेंट जोन बनाए
ऊना जिले की विभिन्न पंचायतों में कोरोना संक्रमण के पॉजिटिव मामले आने के चलते संबंधित क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन घोषित करने के आदेश जारी किए हैं। डीसी राघव शर्मा ने बताया कि अंब के वार्ड 3, भैरा के वार्ड 3, चरतगढ़ के वार्ड 5, जलग्रां के फेज 3, मैहतपुर के वार्ड 1, रैंसरी के वार्ड 6, लोअर देहलां के वार्ड 8, पनोह के वार्ड 2, रक्कड़ कालोनी के वार्ड 12, रैंसरी के वार्ड 1, एमसी ऊना के वार्ड 2, नंगल जरियालां के वार्ड 1, एनएसी गगरेट के वार्ड 3, टाहलीवाल के वार्ड 7, धर्मपुर के वार्ड 2, एमसी ऊना के वार्ड 6 में एक निर्धारित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। उपायुक्त ने बताया कि अंब के वार्ड 3, भैरा के वार्ड 3, नंगल जरियालां के वार्ड 1, एनएसी गगरेट के वार्ड 3 के शेष हिस्सों को बफर जोन बनाया गया है। वहीं, चंबा जिले के पर्यटन नगरी डलहौजी में 11 और भटियात विस क्षेत्र में 15 माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। 
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

हिमाचल में अब ऑनलाइन कर सकेंगे विवाह और अन्य कार्यक्रमों के लिए आवेदन

हिमाचल भर में अब शादी, मुंडन, धाम, सांस्कृतिक, धार्मिक और अन्य कार्यक्रमों सहित सभी तरह के आयोजनों की मंजूरी के लिए अब ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। सरकार ने इसके लिए कोविड पास की तरह ही पोर्टल जारी किया गया है।  covid.hp.gov.in पर आयोजन के लिए आवेदन करना होगा। इसके बाद उपमंडल प्रशासन से स्वीकृति मिलेगी। कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन कर लोग कार्यक्रम करवा सकते हैं। पोर्टल पर संबंधित व्यक्ति को अपना नाम-पता, कार्यक्रम संबंधी जानकारी, बुलावा पत्र या कार्ड अपलोड करना होगा।

इसके बाद रजिस्ट्रेशन हो जाएगी। इसकी एसडीएम से अनुमति मिलेगी। कार्यालय के चक्कर काटने से भी छुटकारा मिलेगा। विवाह आदि के लिए जिला प्रशासन डीजे की अनुमति नहीं दे रहा है। कार्यक्रम में 50 लोग ही शामिल हो सकते हैं। प्रोटोकाल का पालन न होने पर आयोजकों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई हो सकती है। एसडीएम हमीरपुर डॉ. चिरंजी लाल चौहान ने कहा कि अब इवेंट रजिस्ट्रेशन पोर्टल पर लोग विवाह व अन्य कार्यक्रमों के लिए आवेदन कर सकते हैं। पोर्टल पर अपनी और कार्यक्रम की जानकारी उपलब्ध करवाकर व्यक्ति रजिस्ट्रेशन करवा सकता है। 
... और पढ़ें

प्रदेश में शनिवार को बंद रहेंगे सभी सरकारी दफ्तर, होगा वर्क फ्रॉम होम

कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच शनिवार को हिमाचल  के सभी सरकारी कार्यालय बंद रहेंगे। कर्मचारियों को शनिवार को घर से ही काम करने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही उन्हें मुख्यालय न छोड़ने को भी कहा गया है। बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच जयराम सरकार ने हाल ही में सरकारी कर्मचारियों के लिए सिर्फ तीन दिन कार्यालय आने व बाकी तीन दिन वर्क फ्रॉम होम का आदेश दिया था, लेकिन बड़ी संख्या में कर्मचारियों के मुख्यालय छोड़ने व काम प्रभावित होने के बाद सरकार ने इस आदेश में बदलाव कर दिया और सिर्फ एक दिन वर्क फ्रॉम होम कर दिया। इस आदेश के साथ ही अब सरकारी कार्यालयों में परोक्ष रूप से फाइव डे वीक व्यवस्था लागू हो गई है। 
... और पढ़ें

रोहतांग समेत ऊंची चोटियों पर हल्का हिमपात, दो दिन खराब रहेगा मौसम

पिछले एक सप्ताह से अधिक समय से शुष्क मौसम ने शुक्रवार देर शाम को जिला कुल्लू के रोहतांग व इसके आसपास करवट ली है।  रोहतांग के साथ ऊंची चोटियों पर हल्की बर्फबारी होने से तापमान में गिरावट आई है। इसके अलावा बारालाचा व कुंजम दर्रा में भी फाहे गिरे हैं। हालांकि अटल टनल रोहतांग के रास्ते वाहनों की आवाजाही सामान्य रूप से जारी है। रोहतांग सहित मनाली की ऊंची चोटी मकरवे, शिकरवे, मनाली पीक, सेवन सिस्टर पीक, लद्दाखी पीक, देउ टिब्बा, हनुमान टिब्बा, दशौहर लेक में हल्के हिमपात होने की सूचना है। जिससे मनाली समेत ऊझी घाटी में में ठंड बढ़ गई है।

वहीं, प्रदेश में शनिवार और रविवार को मौसम साफ रहेगा। सात दिसंबर से प्रदेश में बारिश और बर्फबारी का पूर्वानुमान है। मध्य और उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में सात और आठ दिसंबर को मौसम खराब रहने के आसार हैं। मैदानी क्षेत्रों में 10 दिसंबर तक मौसम साफ रहेगा। शुक्रवार को शिमला सहित प्रदेश के सभी क्षेत्रों में मौसम साफ रहा। ऊना में अधिकतम तापमान 25.8, कांगड़ा 23.9, हमीरपुर 23.1, बिलासपुर-सोलन 23.0, चंबा 22.9, सुंदरनगर 22.7, भुंतर 21.0, शिमला 17.2, धर्मशाला 16.8, डलहौजी 12.7, कल्पा 13.2 और केलांग में 4.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।

उधर, मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने उच्च पर्वतीय क्षेत्रों किन्नौर व लाहौल-स्पीति सहित चंबा और कुल्लू के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में 10 दिसंबर तक मौसम खराब बना रहने की संभावना जताई है। मध्य पर्वतीय क्षेत्रों शिमला, सोलन, सिरमौर, मंडी, कुल्लू और चंबा में सात और आठ दिसंबर को बारिश के आसार हैं। मैदानी क्षेत्रों ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर और कांगड़ा में 10 दिसंबर तक मौसम साफ रहने और धूप खिलने के आसार हैं। उधर, गुरुवार रात को केलांग में न्यूनतम तापमान माइनस 6.7, कल्पा 0.1, मनाली 2.0, भुंतर 2.5, सोलन-मंडी 4.0, ऊना 5.6, धर्मशाला 8.2, शिमला 9.9 और नाहन में 11.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।
... और पढ़ें

राजीव भारद्वाज दोबारा बने कांगड़ा केंद्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष

नॉर्थ पोर्टल का नजारा
डॉ. राजीव भारद्वाज को हिमाचल के कांगड़ा केंद्रीय सहकारी बैंक का दोबारा से अध्यक्ष बना दिया गया है। शुक्रवार शाम को सहकारिता विभाग की ओर से भारद्वाज को बैंक के निदेशक मंडल का अध्यक्ष बनाए जाने की अधिसूचना जारी की गई। 30 सितंबर में बैंक के निदेशकों का चुनाव परिणाम घोषित हुआ था। राजीव भारद्वाज को सरकार ने निदेशक मंडल में बतौर मनोनीत सदस्य नियुक्त किया है।

नए निदेशक मंडल के गठन के बाद नए अध्यक्ष को दोबारा से चुना जाना अनिवार्य था। बैंक के अध्यक्ष पद को लेकर बीते कई दिनों से राजनीति गरमाई हुई थी। भाजपा के भीतर निर्वाचित निदेशकों में से किसी को अध्यक्ष बनाने की अंदरखाते मुहिम चली हुई थी लेकिन सरकार ने जिला कांगड़ा के जसूर से संबंध रखने वाले डॉ. राजीव भारद्वाज पर ही दोबारा से विश्वास जताया है।
... और पढ़ें

सरकार उत्कृष्ट खिलाड़ियों को टेट में न्यूनतम अंकों में छूट देने पर विचार करे: हाईकोर्ट

हिमाचल हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को आदेश दिए हैं कि वह उत्कृष्ट खिलाड़ियों को टेट में न्यूनतम अंकों में उपयुक्त छूट देने पर विचार करे। कोर्ट सरकार को इस बाबत 31 जनवरी तक फैसला लेने के आदेश दिए हैं।न्यायाधीश विवेक सिंह ठाकुर ने पूजा शर्मा की याचिका को स्वीकारते हुए यह आदेश दिए। कोर्ट ने जीवन में खेलों के महत्व को बताते हुए कहा कि खिलाड़ियों को अपने बहुमूल्य समय का अधिकतर हिस्सा बंद कमरों में किताबों के साथ कि बजाय खेल के मैदानों में बिताना पड़ता है। इसलिए वे खुद में एक अलग श्रेणी के तहत लाभ लेने के पात्र हैं।

सरकारों की ओर से इन्हें नौकरी के लिए तीन फीसदी आरक्षण का प्रावधान भी किया गया है। खेल सभ्य, स्वस्थ और अनुशासित समाज के लिए अति महत्वपूर्ण है। कोर्ट ने फैसले में खेलो इंडिया, फिट इंडिया जैसे प्रोग्राम का उल्लेख किया। प्रधानमंत्री की ओर से हाल ही में कहे गए नारे फिटनेस की डोज, आधा घंटा रोज का उल्लेख करते हुए कोर्ट ने कहा कि उन्होंने भी सभी नागरिकों से फिटनेस और शारीरिक गतिविधियों को आजकल की महामारी के समय बड़ी गंभीरता से लेने का आग्रह किया है।

मामले के अनुसार प्रार्थी ने जेबीटी अध्यापक के पद पर तीन फीसदी खेल कोटे में कंसीडर किये जाने की गुहार लगाई थी। जब प्रार्थी ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था तो उसके टेट में न्यूनतम अंक नही थे लेकिन याचिका के लंबित रहते उसने टेट में न्यूनतम अंक हासिल कर लिए थे। प्रार्थी के अनुसार उसने तीन बार राष्ट्रीय खेलों में महिला हैंडबाल प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। इसके बावजूद उसे जेबीटी अध्यापक के पद के लिए 3 फीसदी खेल कोटे में कंसीडर नहीं किया गया। कोर्ट ने प्रार्थी की दलीलों से सहमति जताते हुए उसे जेबीटी अध्यापक के लिए 1 अप्रैल 2015 से कंसीडर करने के आदेश दिए।
... और पढ़ें

कोरोना वायरस: हिमाचल सरकार ने सचिवालय में आने वालों के लिए लगाईं कई बंदिशें

कोरोना के चलते सरकार ने सचिवालय में आने वालों के लिए सख्ती के साथ और कई बंदिशें लगा दी हैं। लोग जिस गेट से सचिवालय में प्रवेश करेंगे, उन्हें उसी गेट से बाहर भी निकलना होगा। दो बार प्रवेश द्वार से एंट्री होगी। एक आते समय और दूसरी जाने पर। लोगों को इधर-उधर घूमने पर भी रोक लगा दी है। व्यक्ति को जिस मंत्री, अफसर से मिलना है, प्रवेश द्वार पर उनके नाम की एंट्री होगी। 

मंत्रियों और अफसरों के कमरे में अपनी मर्जी से नहीं घुस सकेंगे। इसके लिए भी मंत्री और अफसरों से अनुमति लेनी होगी। शुक्रवार को सचिवालय सामान्य प्रशासन ने इस बारे में आदेश जारी किए हैं। सचिवालय में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। अब तक 18 से अधिक लोग पॉजिटिव आ चुके हैं। प्रदेश में कोरोना के मामले बढ़ने से सरकार ने फाइव डे वीक किया है। सचिवालय की जिस ब्रांच में व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव आता है, उसे सील किया जाएगा।  

सचिवालय सिक्योरिटी को सौंपा जिम्मा
लोगों पर नजर रखने के लिए सरकार ने सचिवालय सिक्योरिटी को जिम्मा सौंपा है। ये कर्मचारी सचिवालय के भीतर घूमकर ऐसे लोगों को पकड़ेंगे, जो बिना पास के इधर उधर घूम रहे होंगे।
... और पढ़ें

कला और शारीरिक शिक्षकों के एक हजार पद नहीं भरेगा विभाग, ये है वजह

हिमाचल के सरकारी स्कूलों में कला और शारीरिक शिक्षकों के 1000 पद भरने पर वित्त विभाग ने आपत्ति दर्ज कराई है। विभाग ने आरटीआई नियमों का हवाला देते हुए 100 बच्चों से कम संख्या वाले स्कूलों में पद भरने से मना कर दिया है। सीएंडवी शिक्षक संघ ने वित्त विभाग की आपत्ति पर ऐतराज जताते हुए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मामले में हस्तक्षेप करने की मांग की है।  सीएंडवी अध्यापक संघ के प्रदेश अध्यक्ष चमन लाल शर्मा ने कहा कि इन पदों को भरने के लिए संघ मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मिला था। मुख्यमंत्री ने शिक्षा सचिव को इन पदों को भरने के आदेश दिए।

शिक्षा विभाग ने कला अध्यापक के 500 पद और शारीरिक शिक्षकों के 500 पद भरने की सहमति प्रदान करने के लिए मामला वित्त विभाग को भेजा, लेकिन वित्त विभाग ने अब झ्न पदों को भरने के लिए आरटीई कानून का हवाला दे कर अस्वीकृत कर दिया और कहा कि जिन माध्यमिक स्कूलों में बच्चो की संख्या 100 से कम है। वहां इन पदों को भरा नही जा सकता। उन्होंने बताया कि प्रदेश में केवल 27 माध्यमिक स्कूल ऐसे हैं, जिनमें बच्चों की संख्या 100 या उससे अधिक है। इस शर्त के कारण 2326 माध्यमिक स्कूलों के बच्चों को इन विषयों को पढ़ने का अधिकार नही मिल पा रहा है।  चमन लाल शर्मा ने कहा कि हाईकोर्ट ने भी शारीरिक शिक्षकों की ओर से दायर याचिका में कहा है कि जिन स्कूलों में 100 से कम बच्चे हैं, वहां भी सरकार इन पदों को भरे। उन्होंने बताया कि कला अध्यापक के 1564 पद तथा शारीरिक शिक्षकों के 1683 पद खाली हैं। 
... और पढ़ें

हिमाचल में अब तक कोरोना की चपेट में आए 1468 पुलिस कर्मी

कोरोना की चपेट में अब तक प्रदेश पुलिस के 1468 कर्मचारी आ चुके हैं। पिछले 24 घंटे में ही 23 पुलिसकर्मी संक्रमित मिले हैं। यह जानकारी पुलिस मुख्यालय की प्रवक्ता डॉ. मोनिका ने दी। मोनिका ने बताया कि इन 1468 पुलिस कर्मियों में से 1018 पुलिसकर्मी ठीक हो चुके हैं। डीजीपी संजय कुंडू ने पुलिस कर्मियों के बड़ी संख्या में संक्रमित होने के चलते विभिन्न दिशा-निर्देश दिए हैं।

इनमें कर्मचारियों को मास्क पहनने, हाथ धोने व सैनिटाइज करने, छोटी अवधि की छुट्टियां न लेने, गैर जरूरी यात्रा न करने समेत विभिन्न निर्देश शामिल हैं। अभी तक कोविड-19 के दौरान हिमाचल पुलिस ने 34055 चालान कर एक करोड़ 46 लाख 1 हजार 150 रुपए बतौर जुर्माना वसूल कर राज्य कोष में जमा कराया है। पुलिस अब तक 4 लाख 38 हजार 894 लोगों को जागरूक भी कर चुकी है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X