विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
कराएं दिवाली की रात लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि  व्  सर्वांगीण कल्याण  की प्राप्ति : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

कराएं दिवाली की रात लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि व् सर्वांगीण कल्याण की प्राप्ति : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

अपने मिलनसार व्यवहार से सबके प्रिय रहे ये अफसर, गंज चौराहे पर सिग्नल से चलाया ट्रैफिक

लखनऊ पुलिस का इतिहास कई रोमांचक किस्सों और जांबाजी से भरा हुआ है। यहां के अनेक पुलिस अफसर अपने काम से सुर्खियों में रहे और नागरिकों का विश्वास जीता। इ...

10 अक्टूबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

लखनऊ

मंगलवार, 22 अक्टूबर 2019

मुख्यमंत्री योगी ने किसान पाठशाला का किया शुभारंभ, कहा- खराब बीज देने वाली कंपनियों को रोकेंगे

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि किसान को उत्पादक से उद्यमी बनाना हमारा लक्ष्य है। इससे उनकी आय कई गुना बढ़ाई जा सकती है। उन्होंने कृषि अधिकारियों को आकर्षक विज्ञापन के सहारे घटिया बीज बेचने वाली कंपनियों पर निगरानी के निर्देश दिए। 

जैविक खेती के छोटे-छोटे मॉडल विकसित करने पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि इसके लिए ठोस रणनीति बनाएं। सीएम सोमवार को अपने अपने सरकारी आवास पर ‘द मिलियन फार्मर्स स्कूल’ यानी किसान पाठशाला के पांचवें संस्करण के उद्घाटन समारोह में बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि इस पाठशाला का उद्देश्य किसानों को बीज से बाजार तक की सुविधाएं मुहैया कराना है जिससे वे उत्पादक से उद्यमी बनकर अपनी आमदनी में उल्लेखनीय वृद्धि कर सकें। इसके लिए केंद्र व राज्य सरकार ने प्रधानमंत्री सिंचाई योजना, किसान सम्मान निधि, कर्जमाफी व मंडी अधिनियम में सुधार जैसे तमाम महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। इससे यूपी ने देश में कृषि उत्पादन में अग्रणी स्थान हासिल किया है।
... और पढ़ें

यूपी: उपचुनाव की 11 सीटों पर पांच बजे तक 44.47 फीसदी हुआ मतदान, लखनऊ में सिर्फ 27% वोटिंग

प्रदेश की 11 विधानसभा सीटों पर सोमवार को हुए उपचुनाव में 47.05 प्रतिशत मतदान हुआ। सहारनपुर की गंगोह सीट पर सबसे ज्यादा 60.30 प्रतिशत और लखनऊ की कैंट सीट पर सबसे कम 29.55 प्रतिशत मतदान हुआ।

इन सभी सीटों पर 2012 और 2017 विधानसभा चुनाव की तुलना में मतदान प्रतिशत काफी कम है। भाजपा, कांग्रेस, सपा और बसपा समेत कुल 109 उम्मीदवारों का भाग्य ईवीएम में बंद हो गया। मतगणना 24 अक्तूबर को सुबह 8 बजे से होगी। 

चुनाव आयोग ने शांतिपूर्ण मतदान का दावा किया है। कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। 11 सीटों के लिए 2307 मतदान केंद्रों के 4529 बूथों पर सुबह 7 से शाम छह बजे तक वोट डाले गए। गंगोह, मानिकपुर, जलालपुर और जैदपुर को छोड़कर शेष सीटों पर सुबह से ही मतदान की रफ्तार धीमी रही। 

शाम 6 बजे तक 41 लाख 8 हजार 328 मतदाताओं में से करीब 19 लाख 32 हजार 968 मतदाताओं ने वोट डाले। उपचुनाव में कानून-व्यवस्था बनाए रखने और निष्पक्ष मतदान के लिए 11 सामान्य प्रेक्षक, 337 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 60 जोनल मजिस्ट्रेट, 471 स्टेटिक मजिस्ट्रेट और 520 माइक्रो पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की गई थी। 429 संवेदनशील बूथों पर वेबकॉस्टिंग की गई। 
... और पढ़ें

दो दिनी दौर पर रायबरेली पहुंचेंगी प्रियंका वाड्रा, पार्टी को यूपी में देंगी संजीवनी

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा दो दिनी दौरे पर मंगलवार को यहां पहुंच रही हैं। वे यहां पर प्रदेश कार्यकारिणी के लिए आयोजित कार्यशाला का उद्घाटन करेंगी। पार्टी को यूपी में संजीवनी देने में जुटी प्रियंका कार्यशाला में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों को केंद्र और प्रदेश सरकार की नाकामियों के खिलाफ अपनी मां सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र से बिगुल फूंकने का एलान करेंगी। 

करीब दो माह बाद प्रियंका वाड्रा 22 और 23 अक्तूबर को रायबरेली के दौरे पर रहेंगी। भुएमऊ गेस्ट हाउस में रहकर संगठन के कामकाज की समीक्षा करेंगी। भुएमऊ गेस्ट हाउस में प्रदेश कार्यकारिणी के पदाधिकारियों के प्रशिक्षण के लिए यहां पर कार्यशाला आयोजित होने जा रही है। प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की टीम कार्यशाला में प्रशिक्षण लेगी। इसमें प्रदेश अध्यक्ष समेत उनकी 45 पदाधिकारियों की टीम हिस्सा लेगी। 
... और पढ़ें

कमलेश तिवारी की हत्या के साजिशकर्ता लाए गए लखनऊ, कड़ी सुरक्षा में हो रही पूछताछ

नाका के खुर्शेदबाग इलाके में हिंदू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या की साजिश रचने वाले गुजरात के सूरत निवासी रशीद अहमद पठान उर्फ राशिद, मौलाना मोहसिन शेख व फैजान यूनुस को ट्रांजिट रिमांड पर लखनऊ ले आया गया। यहां एसआईटी के साथ ही एनआईए, एटीएस, आईबी और अन्य एजेंसियों के अधिकारी दिनभर उनसे पूछताछ करते रहे। 

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि तीनों साजिशकर्ताओं को कड़ी सुरक्षा में एक गोपनीय स्थान पर रखा गया है। उनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी एएसपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी को सौंपी गई है।

एसएसपी ने बताया कि तीनों साजिशकर्ताओं को रविवार देर रात फ्लाइट से लखनऊ लेकर आया गया। इस बीच कानपुर देहात का टैक्सी चालक, कानपुर के रेलबाजार स्थित मोबाइल फोन दुकानदार समेत तीन लोगों को भी लखनऊ ले आया गया। 

एसआईटी ने साजिशकर्ताओं व उपरोक्त तीन संदिग्धों से करीब चार घंटे तक पूछताछ की। दोपहर को कुछ देर के लिए सभी साजिशकर्तओं व तीनों संदिग्धों को एसएसपी के आवास पर लाया गया, जहां एसआईटी प्रभारी आईजी रेंज एसके भगत, एएसपी क्राइम दिनेश पुरी, सीओ हजरतगंज अभय कुमार मिश्रा और उन्नाव के एएसपी के साथ साइबर सेल व सर्विलांस टीम ने उनसे कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर सवाल-जवाब किए। 

शाम करीब साढ़े चार बजे कानपुर देहात और कानपुर से लाए गए साजिशकर्तओं व तीन संदिग्धों को अलग-अलग जगह भेज दिया गया।

एसएसपी ने बताया कि साजिशकर्ताओं की सुरक्षा के लिए दो शिफ्ट में ड्यूटी लगाई गई है। उधर, तीनों से पूछताछ में मिली जानकारियों पर अधिकारी दिनभर मंथन करते रहे। पुलिस की कई टीमें गैर जनपद भी रवाना की गई हैं।
... और पढ़ें
कमलेश तिवारी हत्याकांड कमलेश तिवारी हत्याकांड

दीपोत्सव पर अयोध्या में 373 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे मुख्यमंत्री योगी

तृतीय दिव्य दीपोत्सव पर अयोध्यावासियों को 373.69 करोड़ रुपये की सौगात मिलने जा रही है। यहां पूरी हो चुकी 15 बड़ी परियोजनाओं के लोकार्पण का खाका तैयार कर लिया गया है। दीपोत्सव के मुख्य उत्सव 26 अक्तूबर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रामकथा पार्क से इसे समर्पित करेंगे। 

इसमें मेडिकल कॉलेज का निर्माण, राम की पैड़ी में अविरल जल प्रवाह, गुप्तारघाट पर नए घाट का निर्माण, भजन संध्या स्थल, जिला महिला चिकित्सालय में सौ बेड का मैटरनिटी सेंटर, अयोध्या के प्रवेश व निकासी द्वार समेत अन्य योजनाएं शामिल हैं।  

अयोध्या में दिव्य दीपोत्सव में विकास कार्यों को लेकर शासन-प्रशासन दोनों सतर्क हैं। अब तक अधिकांश विभागों के प्रमुख सचिव से लेकर प्रदेश के मुख्य सचिव ने औचक निरीक्षण कर योजनाओं की हकीकत को परखा है। इसमें अधिकांश योजनाएं पूर्ण होने को हैं। इसको लेकर शासन-प्रशासन ने 15 बड़ी योजनाओं का लोकार्पण करने की तैयारी कर ली है। इनके विकास कार्य पर 373.63 करोड़ रुपये व्यय हुए हैं। 

मौजूदा समय में अधिकांश विकास कार्यों का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है। राम की पैड़ी पर अविरल जल प्रवाह, राम की पैड़ी की रिमाडलिंग, भजन संध्या स्थल समेत कुछ विकास कार्यों में हल्की-फुल्की कसर रह गई है। शेष कार्य काफी दिनों से पूर्ण हैं। इन सभी कार्यों का लोकार्पण रामकथा पार्क से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दीपोत्सव के मुख्य उत्सव के दिन करेंगे। 
... और पढ़ें

लखनऊ कैंट उपचुनाव : फीका रहा मतदान, सिर्फ 29.55 फीसदी ही हुई वोटिंग

लखनऊ कैंट विधानसभा सीट के उपचुनाव को लेकर मतदाताओं की उदासीनता से सोमवार को 29.55 फीसदी ही वोट पड़े। क्षेत्र के अधिकतर बूथों पर शुरुआती दो घंटे में खाता तक नहीं खुला। वोटिंग की सुस्त रफ्तार से प्रत्याशियों के साथ प्रशासनिक अधिकारी भी हलकान रहे। जबकि वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में यहां 51.66 प्रतिशत मतदान हुआ था। 2019 में लोकसभा चुनाव में भी 50.48 फीसदी वोटिंग हुई थी।

मतदान शुरू होने के पहले दो घंटे तक आजाद नगर स्थित बालाजी इंस्टीट्यूट ऑफ होम्योपैथी फार्मेसी, लखनऊ पब्लिक स्टैंडर्ड कॉलेज गीतापल्ली के नालंदा पब्लिक स्कूल चंदन नगर के गुरुनानक गर्ल्स इंटर कॉलेज, सिंगार नगर के राजकीय बालिका इंटर कॉलेज, चित्रगुप्त नगर के बीएनलाल वी इंटर कॉलेज, कैंट के सिंचाई भवन कार्यालय, पुरानी जेल रोड स्थित होमगार्ड मुख्यालय आनंद नगर के रेलवे हायर सेकंडरी विद्यालय, कैनाल कॉलोनी, चारबाग के एपीसेन गर्ल्स कॉलेज, सदर के हरीश चंद्र इंटर कॉलेज, कैंट के छोटीलाल कुर्ती और संस्कृत पाठशाला में बने बूथों पर 3 से 5 फीसदी तक ही मतदान हुआ। 

इस बीच भाजपा प्रत्याशी सुरेश तिवारी सवा सात बजे ही परिवारीजनों के साथ वोट डालने को जनता इंटर कॉलेज में बने बूथ पर पहुंच गए। दोपहर बाद अग्रसेन इंटर कॉलेज मोतीनगर, राजकीय गर्ल्स इंटर कॉलेज सिंगार नगर, गुरुनानक गर्ल्स डिग्री कॉलेज चारबाग, हरीशचंद्र इंटर कॉलेज सदर और यूपी एग्रो परिसर हुसैनगंज में बने बूथों पर भीड़ बढ़ी। 
... और पढ़ें

यूपी: सरकार ने सात आईएएस व 14 पीसीएस अधिकारियों के किए तबादले

कमलेश के कातिल : मोइनुद्दीन और अशफाक
उत्तर प्रदेश सरकार ने सोमवार को सात आईएएस व 14 पीसीएस अधिकारियों के तबादले कर दिए। इनमें अरविंद सिंह को प्रयागराज के मुख्य विकास अधिकारी की जगह लखीमपुर खीरी के मुख्य विकास अधिकारी के पद पर तैनात किया गया है। इसी तरह प्रेम रंजन सिंह को उन्नाव की जगह प्रयागराज का मुख्य विकास अधिकारी बनाया गया है। 

प्रवीण मिश्रा को बिजनौर के मुख्य विकास अधिकारी के पद से हटाकर नोएडा के अपर मुख्य कार्यपाल अधिकारी के पद पर तैनात किया गया है। श्रुति को लखनऊ में एनएचएम के अपर मिशन निदेशक के पद की जगह अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी नोएडा के पद पर तैनात किया गया है। 

वाराणसी में मुख्य विकास अधिकारी के पद पर तैनात गौरंग राठी को नगर आयुक्त नगर निगम वाराणसी के पदभार सैंपा गया है। मधुसूदन नागराज को मुख्य विकास अधिकारी वाराणसी व राजेश राय एसीईओ यूपीएसआईडीसी बनाया गया है। 

साथ ही 14 पीसीएस अधिकारियों का भी स्थानांतरण किया गया है। इनमें राजेश प्रजापति मुख्य विकास अधिकारी उन्नाव,  प्रेमप्रकाश उपाध्याय एडीएम वित्त रायबरेली, कामता प्रसाद सिंह को मुख्य विकास अधिकारी बिजनौर, प्रभाकांत अवस्थी को एडीएम सिटी आगरा बनाया गया है। 

इसी तरह अरुण यादव को नगर मजिस्ट्रेट आगरा, रमेश मिश्रा मुख्य विकास अधिकारी सुल्तानपुर, रामप्रकाश एडीएम वित्त जौनपुर, अशोक शुक्ला ओएसडी राजस्व परिषद लखनऊ, जगदम्बा सिंह एडीएम वित्त हाथरस, हरिशंकर शुक्ला सिटी मजिस्ट्रेट जालौन, लवकुश त्रिपाठी एडीएम न्यायिक ललितपुर, कमलेश अवस्थी एडीएम वित्त संभल, अमित कुमार नगर मजिस्ट्रेट बदायूं व आशुतोष द्विवेदी को केजीएमयू के रजिस्ट्रार पद पर तैनात किया गया है।
... और पढ़ें

कमलेश तिवारी हत्याकांड में पुलिस को मिली एक और कामयाबी, नागपुर से संदिग्ध गिरफ्तार

हिंदू महासभा के पूर्व नेता और हिंदू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी हत्याकांड में नागपुर एटीएस ने एक और संदिग्ध को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी का नाम सैय्यद आसिम अली बताया जा रहा है। नागपुर पुलिस ने बताया कि सैय्यद दूसरे हत्यारों के साथ लगातार संपर्क में था। पुलिस ने बताया कि कमलेश तिवारी की हत्या में इसकी मुख्य भूमिका थी।
 


उत्तर प्रदेश पुलिस ने आज आरोपी को नागपुर कोर्ट में पेश किया और उसकी ट्रांजिट रिमांड हासिल की। 
 
इसके पहले मामले में तीन आरोपियों को यूपी एटीएस गुजरात से लेकर लखनऊ आई। जिनसे एटीएस मुख्यालय में पूछताछ की जा रही है। वहीं, शनिवार शाम को पुलिस ने लखनऊ के कैसरबाग स्थित खालसा होटल के उस कमरे की तलाशी ली थी जिसमें कमलेश तिवारी के हत्यारे ठहरे हुए थे। शुक्रवार दोपहर वारदात के बाद दोनों वापस होटल पहुंचे और कपड़े बदलकर भाग गए। पुलिस ने शनिवार देर रात होटल के कमरे से कमलेश की हत्या में इस्तेमाल चाकू और खून से सना भगवा रंग का कुर्ता बरामद कर लिया है।

बरामद सामान को फोरेंसिक जांच के लिए भेजकर कमरा सील कर दिया गया। रिसेप्शन पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में हत्यारों की मिठाई का डिब्बा लेकर बाहर जाते व अन्य तस्वीरें मिल गई हैं। पुलिस ने रजिस्टर व फुटेज कब्जे में ले लिया है।
 
... और पढ़ें

रायबरेली : रन-वे से फिसलकर नाले में गिरा प्रशिक्षु विमान, पायलट ने कूछकर बचाई जान

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी (इग्रुआ) फुरसतगंज में सोमवार शाम रन-वे पर फिसलने से बेकाबू हुआ प्रशिक्षु विमान नाले में जा गिरा और आग लग गई। गनीमत रही कि प्रशिक्षु पायलट विमान के नाले में गिरने से पहले ही कूदकर अपनी जान बचा ली।  इग्रुआ प्रशासन आग बुझाने के लिए दमकल वाहन के साथ मौके के लिए रवाना हुआ, लेकिन पानी भरी दमकल गाड़ी रास्ते में ही फंस गई। इससे एक घंटे तक विमान धू-धू कर जलता रहा। 

बाद में मशक्कत कर इग्रुआ प्रशासन ने आग पर काबू पाया। इस घटना ने जहां इग्रुआ में सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोल दी है, वहीं अफसर इस मामले को दबाने की कोशिश में लगे रहे। इलाकाई  ग्रामीणों के हवाले से खबर फैली तो अधिकारियों ने हादसे को स्वीकारा।

जानकारी के मुताबिक सोमवार शाम करीब चार बजे प्रशिक्षु पायलट विमान उड़ाना सीख रहा था। रन-वे पर जब विमान उतरा, तभी जहाज  स्लिप होकर नाले में जा गिरा। नाले में गिरते ही विमान में आग लग गई। देखते ही देखते विमान धू-धू कर जलने लगा। गनीमत रही कि प्रशिक्षु पायलट ने विमान नाले में गिरने और आग लगने से पहले ही जहाज से कूदकर अपनी जान बचा ली। 

ग्रामीणों से इसकी जानकारी इग्रुआ के अधिकारियों को हुई तो उनमें हड़कंप मच गया। इग्रुआ के पड़ोस में बसे उरे बाबा समेत कई गांवों के ग्रामीणों का मजमा लग गया। टैंक फटने के डर से कोई पास नहीं गया और दूर से जहाज को जलता देख तमाशबीन बने रहे। 
... और पढ़ें

पुलिस कमलेश तिवारी के हत्यारों के काफी करीब, जल्द ही होंगे गिरफ्तार: कानून मंत्री ब्रजेश पाठक

प्रदेश के विधि एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक ने सोमवार को दिवंगत हिंदू नेता कमलेश तिवारी के आवास पहुंचकर पीड़ित परिवार से मुलाकात की। उन्होंने परिवार को हर तरह की मदद का भरोसा दिलाते हुए उनका दर्द साझा किया। 

उन्होंने कहा कि इस मामले को वह फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाएंगे। उन्होंने परिवार से हत्यारों को सजा-ए-मौत दिलाने का वादा किया। इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद नजर आई। चौराहे पर बैरीकेडिंग कर वाहनों को आवास की तरफ जाने से रोक दिया गया था।

विधानसभा उप चुनाव की व्यस्तता के बाद भी सोमवार दोपहर करीब 12 बजे विधि एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक दिवंगत हिंदू नेता कमलेश तिवारी के रामजानकी मंदिर स्थित आवास पर पहुंचे। उन्होंने पीड़ित परिवार को सांत्वना देते हुए सरकार की ओर से हर तरह की मदद का आश्वासन दिया। करीब आधे घंटे तक उन्होंने पीड़ित परिवार के साथ रहकर उनका दर्द साझा किया। 

इस दौरान कमलेश की मां काफी भावुक हो गईं। परिवार से मुलाकात करने के बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए कानून मंत्री ने विरोधी दलों को इस संवेदनशील मामले में राजनीति न करने की सलाह दी। उन्होंने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के बयान पर कुछ भी कहने से इंकार कर दिया।

कानून मंत्री ने बताया कि हत्यारों की इनोवा गाड़ी ट्रैस कर ली गई है। अभी जांच चल रही है, इसलिए मामले में कुछ अधिक नहीं कहेंगे। कानून मंत्री ने पीड़ित परिवार और पूरे प्रदेश को भरोसा दिलाते हुए कहा कि पुलिस हत्यारों के काफी करीब पहुंच चुकी है। हत्यारे शीघ्र ही कानून की पकड़ में होंगे। 
... और पढ़ें

लखनऊ की हवा देश में सबसे जहरीली, दिल्ली-गाजियाबाद को छोड़ा पीछे

हमारे शहर की हवा देश में सबसे ज्यादा ‘जहरीली’ हो चुकी है। सोमवार को लखनऊ का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 294 पर पहुंच गया। चिंता की बात यह है कि लखनऊ की हवा में गाजियाबाद और दिल्ली जैसे शहरों से भी अधिक जहर पाया गया है। दिल्ली में एक्यूआई 249 रिकॉर्ड हुआ है।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के रिकॉर्ड के मुताबिक लखनऊ का एक्यूआई इस मौसम में पहली बार 294 पहुंचा है। ऐसे में यह माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में राजधानी की हवा बहुत खराब की श्रेणी में पहुंच सकती है। अभी 300 से कम एक्यूआई रहने पर यह खराब की श्रेणी में ही बनी रहेगी। रविवार को लखनऊ का एक्यूआई 272 रिकॉर्ड हुआ था। 24 घंटे में ही यह 300 के करीब पहुंच गया है। केवल छह अंक और बढ़ने के बाद शहर की हवा बहुत खराब हो जाएगी। वहीं, अभी ही कुछ इलाकों में एक्यूआई 300 के ऊपर बना हुआ है।

आवासीय इलाकों में गोमतीनगर की हालत बुरी
सीपीसीबी लखनऊ में चार स्टेशनों पर वायु प्रदूषण की ऑनलाइन निगरानी करता है। इसमें आवासीय इलाकों में गोमतीनगर का एक्यूआई सबसे अधिक बना हुआ है। रात नौ तक इसका 24 घंटे का औसत एक्यूआई 311 रिकॉर्ड हुआ है। वहीं, औद्योगिक क्षेत्रों में तालकटोरा में सबसे अधिक हवा प्रदूषित है। यहां एक्यूआई 328 रिकॉर्ड हुआ है।

पीएम 2.5 बिगाड़ रहा हवा की सेहत
सीपीसीबी की रिपोर्ट के मुताबिक राजधानी की हवा को प्रदूषित करने में सूक्ष्म कण पीएम2.5 जिम्मेदार है। इसके बढ़े होने की वजह निर्माण वाली साइट पर धूल उड़ने, वाहनों के गैस उत्सर्जन और सड़कों पर जमी धूल है। इसे नियंत्रित करने में लखनऊ के अधिकारी फेल हो रहे हैं। इससे पीएम 2.5 का स्तर लखनऊ में बढ़ता ही जा रहा है। विशेषज्ञों का कहना है कि अगर दिन में हवा न चलती तो एक्यूआई सोमवार को ही 300 का आंकड़ा पार कर लेता।

शहर में हवा की ‘सेहत’
इलाका             एक्यूआई         रंग
तालकटोरा         328            लाल
गोमतीनगर         311            लाल
अलीगंज         254            गहरा पीला
लालबाग         268            गहरा पीला

यूपी में सबसे अधिक प्रदूषण
शहर        एक्यूआई
लखनऊ     294
गाजियाबाद     284
मुरादाबाद     272
नोएडा         260
मेरठ         255

देश में सबसे अधिक यहां प्रदूषण
शहर        एक्यूआई
लखनऊ     294
गाजियाबाद     284
यमुनानगर     277
मुरादाबाद     272
करनाल     269
मुजफ्फरनगर     266

एक्यूआई को समझें
एक्यूआई         रंग        हवा पर असर
50 से कम    गहरा हरा    अच्छी
51 से 100    हरा           संतोषजनक
101 से 200    पीला        सुधरी हुई
201 से 300      गहरा पीला    खराब
301 से 400     लाल        बहुत खराब
401 से 500     गहरा लाल    खतरनाक

(200 तक एक्यूआई मिलने पर हवा को सांस लेने योग्य माना जाता है। इसके बाद इसमें सांस लेना स्वास्थ्य के लिए खराब हो सकता है। 301 से अधिक एक्यूआई होने पर सांस के मरीजों को खास तौर पर दिक्कत हो सकती है। लंबे समय तक इस एक्यूआई की हवा के संपर्क में रहने पर सांस से जुड़ी बीमारियां हो सकती हैं।)
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree