विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

इन आईपीएस ने मुश्किल वक्त में बेहतर रणनीति बनाकर खुद को किया साबित, साथियों का रखते थे खास ध्यान

आईपीएस गुरुदर्शन सिंह की अलग पहचान थी। संवेदनशील हालात से निपटने के लिए उनके पास हमेशा बेहतर रणनीति रहती थी।

2 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

लखनऊ

शुक्रवार, 6 दिसंबर 2019

उपभोक्ताओं की जेब काट रहे कर्मचारी, रिश्वत नहीं दी तो 20 गुना दिया बिजली बिल

केस-एक
संविदा कंप्यूटर ऑपरेटर ने मांगी रिश्वत
सेमरा गौढ़ी फैजुल्लागंज निवासी शहीबुल हसन का आरोप है कि उपखंड अधिकारी कार्यालय के संविदा कर्मचारी ने उनसे बिल सही करने को घूस मांगी। रकम न दी तो लगभग 7000 रुपये की जगह 1.41 लाख रुपये का बिल बना दिया। शहीबुल ने उच्च अधिकारियों से इसकी शिकायत की।

केस-दो
रकम जमा, फिर बना दिया 80,530 का बिल

फैजुल्लागंज उपकेंद्र इलाके के छत्रपाल सिंह ने मार्च की एकमुश्त समाधान योजना में बिल संशोधित कर 80,530 रुपये जमा कराए। हालांकि, उनका आरोप है कि उत्पीड़न करने को दोबारा 80,530 रुपये का बिल बनाकर उन्हें तलब किया गया। बिल ठीक करने को पैसे मांगे, पर उन्होंने दिए नहीं। मामले की जांच की जा रही है।

लेसा के फैजुल्लागंज उपखंड में उपभोक्ताओं से रिश्वत मांगने की शिकायतों के ऐसे कई मामले हैं। खास बात यह है कि अधिकारियों ने प्रारंभिक जांच में इन्हें सही भी माना है। इसके बाद प्रबंध निदेशक संजय गोयल के आदेश पर 15 नवंबर को उपखंड के एसडीओ रत्नेश कुमार सिंह को लेसा ट्रांसगोमती जोन से हटाकर देवीपाटन जोन स्थानांतरित कर दिया गया। साथ ही आरोपों की उच्च स्तरीय जांच कराने की जिम्मेदारी मुख्य अभियंता रमेश चंद्र शर्मा एवं लेखाधिकारी नीरज चतुर्वेदी को सौंपी गई है।
... और पढ़ें

सोशल मीडिया पर छेड़खानी: लड़कियों की तस्वीरें पोर्नोग्राफी साइटों पर डालने की शिकायतें सबसे ज्यादा

सीतापुर में किशोरी को अगवा कर सामूहिक दुष्कर्म, फिर बांधकर गन्ने के खेत में छोड़ा

सीतापुर कोतवाली क्षेत्र में बथुवा बीनने गई एक किशोरी को दो लोगों ने अगवा कर लिया और गन्ने के खेत में बंधक बनाकर उससे दुष्कर्म किया। मंगलवार को किशोरी गन्ने के खेत में बंधी हुई बेहाल स्थित में पड़ी मिली। चंगुल से छुटने के बाद उसने सारी घटना बताई।

एसपी ने मौके पर पहुंच कर जांच की है। पुलिस ने मामले में संबंधित धाराओं में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। तालगांव कोतवाली क्षेत्र के एक गांव की पंद्रह वर्षीय किशोरी सोमवार को दिन में ही गांव के दक्षिण खेतों में बथुवा बीनने गई थी। वहां पहले से मौजूद दो लोगों ने उसे दबोच लिया।

उसके बाद बंधक बना कर गन्ने के खेत में अगवा कर ले गए। जहां दोनों युवकों ने उसके साथ दुष्कर्म किया। देर शाम तक किशोरी जब घर नहीं पहुंची तो उसकी तलाश शुरू की गई। लेकिन कहीं पता नहीं चला।
... और पढ़ें

अब टूटी नींद... सभी दुष्कर्म पीड़िताओं के घर जाएगी यूपी पुलिस, मिलेगी सुरक्षा

प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने सभी जिलो के पुलिस कप्तानों को निर्देश दिए हैं कि वे दुष्कर्म पीड़िता की सुरक्षा की समीक्षा करें और आवश्यकतानुसार उन्हें सुरक्षा मुहैया कराएं। उन्होंने यह निर्देश उन्नाव में रेप पीड़िता को जलाए जाने की घटना के बाद दिए हैं।

ओपी सिंह ने बताया कि कई बार ऐसी शिकायतें मिलती हैं कि पुलिस ने शिकायत के बाद भी सुरक्षा मुहैया नहीं कराई। ऐसे में सभी जिलों के पुलिस अफसरों को निर्देश दिए गए हैं कि दुष्कर्म की पीड़िता सुरक्षा मांगती है तो उसे तत्काल उपलब्ध कराया जाए। 

साथ ही जिन-जिन थाना क्षेत्रों में इस तरह के मामले हैं, वहां की समीक्षा की जाए और पुलिस कर्मी खुद जाकर दुष्कर्म पीड़िता से बात करें कि उनको किसी तरह का खतरा तो नहीं है? डीजीपी ने बताया कि हालांकि उन्नाव के ताजा मामले में इस तरह की बात सामने नहीं आई है, फिर भी एहतियात के तौर पर यह निर्देश सभी जिलों के पुलिस कप्तानों को दिए गए हैं, ताकि ऐसी घटना न होने पाए।
 
... और पढ़ें
ओपी सिंह, डीजीपी ओपी सिंह, डीजीपी

उन्नाव कांड पर यूपी के मंत्री बोले, सौ फीसदी अपराधमुक्त समाज की गारंटी तो राम भी नहीं दे सकते

मायावती ने नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया विभाजनकारी, कहा- पुनर्विचार करे केंद्र सरकार

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने नागरिकता संशोधन विधेयक का विरोध करते हुए इसे विभाजनकारी बताया है। उन्होंने कहा कि यह बिल संविधान विरोधी है। बसपा इसका विरोध करेगी।

उन्होंने केंद्र सरकार को सलाह देते हुए कहा कि मामले पर सरकार को पुनर्विचार करना चाहिए। इसे जल्दबाजी में बिना किसी ठोस आधार के सदन में नहीं लाना चाहिए। यह बिल संविधान पर हमला है।
 


मायावती ने कहा कि बसपा ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का विरोध किया था, इसका मतलब यह नहीं है कि हम सरकार के हर फैसले के साथ हैं। देश की जनता पर जबरदस्ती ये बिल नहीं थोपा जाना चाहिए।
... और पढ़ें

68,500 सहायक अध्यापक भर्ती में संजय सिन्हा पर हुई थी कार्रवाई, गंभीर अनियमितताओं पर हटाया गया

गंभीर अनियमितताओं की शिकायतों पर राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) के निदेशक पद से हटाए गए संजय सिन्हा लंबे समय तक बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव रहे।

परिषद के सचिव से एससीईआरटी निदेशक के पद पर तबादले के बाद भी उनके पास सचिव का अतिरिक्त प्रभार रहा। वहीं, 68,500 सहायक अध्यापक भर्ती में गड़बड़ी होने पर सिन्हा के पास से परिषद सचिव का अतिरिक्त प्रभार हटाया गया था।

सीमेट प्रयागराज की अपर निदेशक का भी तबादला
बेसिक शिक्षा विभाग की अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार की ओर से बुधवार को जारी आदेश में संजय सिन्हा सहित दो अधिकारियों के तबादले किए गए हैं। राज्य शैक्षिक प्रबंधन एवं प्रशिक्षण संस्थान (सीमेट) प्रयागराज की अपर निदेशक सुत्ता सिंह को बेसिक शिक्षा निदेशालय में अपर निदेशक (शिविर) के पद पर तैनाती दी गई है।

वहीं एससीईआरटी से संबद्ध अपर निदेशक ललिता प्रदीप को अपर निदेशक राज्य अध्ययन शिक्षा संस्थान प्रयागराज, राज्य तकनीकी शैक्षिक संस्थान, राज्य शिक्षा संस्थान और आंग्ल भाषा शिक्षण संस्थान प्रयागराज की जिम्मेदारी सौंपी गई है।
... और पढ़ें

दुष्कर्म पीड़िता को जलाने पर अखिलेश बोले- सामूहिक इस्तीफा दे सरकार, कांग्रेस ने कहा- जंगलराज

प्रतीकात्मक तस्वीर
उन्नाव में दुष्कर्म पीड़िता को जिंदा जलाने के दुस्साहस पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी की भाजपा सरकार पर तगड़ा हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि भाजपा सरकार को मामले की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए सामूहिक इस्तीफा दे देना चाहिए।

उन्होंने ट्वीट में ही कोर्ट से गुहार लगाई कि मामले की गंभीरता को देखते हुए पीड़िता के समुचित उपचार व सुरक्षा के लिए निर्देश दिए जाएं। वहीं, कांग्रेस ने भी योगी सरकार को महिलाओं की सुरक्षा के मुद्दे पर घेरा और कहा कि प्रदेश में जंगलराज है। सरकार को महिलाओं की सुरक्षा की परवाह ही नहीं है।
 


प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि हमारा प्रतिनिधि मंडल उन्नाव जाएगा और पीड़िता के लिए सड़क से संसद तक की लड़ाई लड़ेगा।
... और पढ़ें

उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता को जिंदा जलाने वालों पर सख्त कार्रवाई के आदेश, सरकारी खर्च पर होगा इलाज

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता को जिंदा जला देने के मामले में आरोपियों पर सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं साथ ही मंडलायुक्त व पुलिस महानिरीक्षक से शाम तक मामले की रिपोर्ट मांगी है।

मुख्यमंत्री ने बयान जारी कर कहा कि पीड़िता का सरकारी खर्च पर इलाज करवाया जाएगा और आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी।

बता दें कि उन्नाव के बिहार थाना क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता को गुरुवार अल सुबह छह युवकों ने पेट्रोल डालकर जला दिया। पिता की सूचना पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता को जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां पीड़िता की हालत गंभीर देख कानपुर हैलट रेफर कर दिया गया। कानपुर के बाद अब पीड़िता को लखनऊ रेफर कर दिया गया है। जहां उसका इलाज चल रहा है।

पीड़िता ने बयान दिया है कि गुरुवार सुबह चार बजे वह रायबरेली जाने के लिए ट्रेन पकड़ने बैसवारा बिहार रेलवे स्टेशन जा रही थी। गौरा मोड़ पर गांव के हरिशंकर त्रिवेदी, किशोर शुभम, शिवम, उमेश ने घेर लिया और सिर पर डंडे से और गले पर चाकू से वार किया। वह चक्कर आने से गिरी तो पेट्रोल डालकर आग लगा दी। शोर मचाने पर भीड़ को आता देख वह भाग निकले।

पीड़िता ने बताया कि पूर्व में आरोपियों ने उसके साथ दुष्कर्म किया था। उधर, घटना की जानकारी मिलने पर डीएम देवेंद्र पांडे, एसपी विक्रांत वीर समेत कई थानों की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची। पीड़िता की हालत गंभीर देख कानपुर हैलट रेफर कर दिया गया।
... और पढ़ें

चाबी पुलिस के पास, घर में रखी नकदी और जेवरात हो गए चोरी

कृष्णानगर इलाके के नारायणपुरी कॉलोनी में 29 नवंबर को रवि प्रकाश की हत्या के बाद पुलिस ने जांच के नाम पर घर की चाबी अपने पास रख ली थी। घर का ताला तोड़कर चोरों ने नकदी और जेवरात पर हाथ साफ कर दिया। रवि प्रकाश की बहन की सूचना पर पहुंची पुलिस ने छानबीन की, लेकिन चोरों का कोई सुराग नहीं लगा है।

कृष्णानगर थाना क्षेत्र के नारायणपुरी कॉलोनी में रवि प्रकाश की हत्या 29 नवंबर को हुई थी। आरोप में पत्नी नीलम व उसके दो नाबालिग भाइयों को पुलिस ने गिरफ्तार कर 30 नवंबर को जेल भेज दिया था। इसके बाद मृतक के तीन बच्चों अमन, पिंकी व अंकित को रिश्तेदारों के सुपुर्द कर दिया। मकान की चाबी पुलिस ने जांच के नाम पर अपने कब्जे में ले ली।

रविप्रकाश की आशियाना किला मोहम्मदी निवासी बहन तारावती बुधवार सुबह घर पहुंची तो देखा ताला टूटा था। घर के अंदर गईं तो सारा सामान बिखरा पड़ा था। आरोप लगाया कि कृष्णानगर पुलिस से घर की चाबी दो दिन से मांग रहे हैं। लेकिन पुलिस चाबी नहीं दे रही है। तारावती के मुताबिक, भाई ने कुछ दिन पहले सवेरी मोहान रोड स्थित जमीन बेची थी। जिसका रुपया घर पर रखा था।
... और पढ़ें

हैदराबाद गैंगरेप कांड के विरोध में सड़क पर उतरीं प्रदर्शनकारियों से पुलिस ने की अभद्रता, जड़े थप्पड़

डिफेंस एक्सपो में रिवरफ्रंट पर होने वाले शो पर मंडराए संकट के बादल

गोमती रिवरफ्रंट पर होने वाले डिफेंस एक्सपो-2020 के शो पर संकट छा गया है। अब वन विभाग ने एलडीए को पत्र भेजकर आयोजन स्थल पर पेड़-पौधों के प्रभावित होने की स्थिति में पहले अनुमति लेने के लिए कहा है। कहा गया कि यह काम गोमती के कैचमेंट एरिया से संबंधित है। ऐसे में नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के आदेशों का पालन सुनिश्चित किया जाए।

प्रभागीय वन अधिकारी डॉ. रवि कुमार सिंह ने यह पत्र एलडीए सचिव मंगला प्रसाद सिंह के नगर आयुक्त इंद्रमणि त्रिपाठी को दिए पत्र के बाद भेजा गया है। सचिव का पत्र आयोजन स्थल पर लगाए गए पौधों को दूसरी जगह पुनर्स्थापित करने में आने वाले खर्च की मांग के लिए नगर आयुक्त को भेजा गया था। इसमें सिंचाई विभाग और वन विभाग से अनापत्ति लेने के लिए भी कहा गया था।

प्रभागीय वन अधिकारी के पत्र में कहा गया है कि रिवरफ्रंट पर दो-तीन साल से एलडीए, नगर निगम, सिंचाई विभाग के पौधरोपण अभियान से पर्याप्त हरियाली दिखने लगी है। वर्तमान में अब डिफेंस एक्सपो के लिए हनुमान सेतु से निशातगंज पुल के बीच स्थल का चयन करने का उल्लेख एलडीए सचिव के पत्र में किया गया है कि कहीं विकल्प न होने पर ही इन स्थलों का चयन किया जाए।

इससे न केवल इन पौधों की सुरक्षा हो सकेगी, बल्कि उन जनसामान्य और पर्यावरण प्रेमियों की भावना का भी आदर हो सकेगा जिनके सहयोग से यह पौधरोपण हो सका।
... और पढ़ें

हाल-ए-अयोध्या: छह दिसंबर भूलकर सतरंगी सपने बुन रही अयोध्या

हाड़ कंपाती रामनगरी की सुबह में सरयू अपनी रौ में बह रही थी। स्नान करते साधु-संत और भक्तों की टोली सरयू मैया की जयकार के साथ पंडों से पूजन कराने के साथ आशीर्वाद ले रहे थे। 

मंदिरों से घंटे-घड़ियाल के साथ आरती की धुन गूंज रही थी तो, मस्जिदों से अजान की आवाज। इन सबके बीच सुप्रीम कोर्ट से राममंदिर पर आए फैसले के 27वें दिन अयोध्या का 27 साल पुराना दर्द मिटता सा नजर आया। 

इस सुखद संयोग को हिंदू हो या मुसलमान बयां करते नहीं थक रहा। मुस्लिम पक्ष ने बृहस्पतिवार को तड़के अजान के साथ निर्णय लिया कि यौम ए गम मनाने से तौबा करेंगे जबकि, हिंदू पक्ष पहले ही शौर्य दिवस मनाने से इन्कार कर चुका था।  

ढांचा ध्वंस की 28वीं बरसी के एक दिन पहले ही लोग अतीत को भुला देना चाहते हैं। युवा ही नहीं बुजुर्ग व नौनिहाल भी विकास के नित नए सतरंगी सपने बुन रहे हैं। वे कहते हैं कि आजकल गूगल बाबा से सिर्फ कैसा अयोध्या के विकास का मॉडल होगा, कैसा भव्य व दिव्य राममंदिर बनेगा, सद्भाव के लिए कहां मस्जिद बननी चाहिए जैसे सवालों के जवाब तलाशे जा रहे हैं। 

अब सभी लोग भरोसे के साथ संकल्पबद्ध होकर तरक्की के लिए सरकार की ओर निहार रहे हैं। बदले परिदृश्य का असर मठ-मंदिरों, गली-मोहल्लों और स्कूल-कॉलेजों से लेकर कारोबार तक में दिखा। 

पूर्व माध्यमिक विद्यालय कटरा में सुबह स्कूल में झाड़ू लग रहा था, तमाम सुरक्षा और हाई अलर्ट के दावे यहां बेअसर थे। सुतहटी मोहल्ले से स्कूल पहुंच रही कक्षा छह की छात्रा आसमीन, उमरा व रेशमा एक साथ कहतीं हैं कि कैसा छह दिसंबर...। 

न किसी ने बताया है न कोई रोक-टोक है। इनके साथ पास के मझुआना, कटरा मोहल्लों के पढ़ने वाले मासूम भी नजर आते हैं, मंदीप, श्रेया, प्रीती, सौरभ, गीता, प्रतिमा, अंशिका सब एक साथ बोल पड़ते हैं कि स्कूल तो खुलेगा और हम सब आएंगे पढ़ने। 

अधिग्रहीत परिसर के पीछे आलमगंज कटरा में मौलवी मोहम्मद मिलते ही बोल पड़े, छह दिसंबर को लेकर फिर आए हैं न आप...। देखिए अब न काला झंडा लगेगा न कोई गम मनेगा।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election