बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन

शाहजहाँपुर

विज्ञापन
कालाष्टमी प्राचीन कालभैरव मंदिर दिल्ली में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात, अभी बुक करें
Myjyotish

कालाष्टमी प्राचीन कालभैरव मंदिर दिल्ली में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात, अभी बुक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

इलाज के दौरान युवती की मौत

खुटार (शाहजहांपुर)। शादी में मिले दहेज से संतुष्ट न होने के कारण पुत्री से मारपीट किए जाने और जहर पिलाकर जान से मार देने का आरोप लगाते हुए पिता ने तहरीर देकर रिपोर्ट दर्ज कराए जाने की मांग की है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम को भेजा गया है।
शाहजहांपुर के थाना कोतवाली के गांव मौजमपुर निवासी मुंशीलाल ने पुलिस को बताया कि उसने अपनी पुत्री लक्ष्मी देवी की शादी करीब एक वर्ष पूर्व खुटार के गांव चमराबोझी निवासी अनूप कुमार के साथ कि थी। दामाद सहित ससुराल के लोग कम दहेज का ताना देकर पुत्री से आए दिन पिटाई करते रहते थे और मायके नहीं भेजने की धमकी देते थे। जानकारी पाकर उसने कई बार पंच फैसला भी कराया, लेकिन कोई हल नहीं निकल सका।
उसे जानकारी मिली कि उसकी पुत्री चार माह की गर्भवती है। इसके बाद भी उसे पीटा जाता है तो वह 15 जून को पुत्री घर ले जाने चमराबोझी आया तो दामाद ने पुत्री को भेजने से साफ इनकार कर दिया। 21 जून को अनूप और परिवार के लोगों ने उसकी पुत्री की पिर्टा कर जबरिया जहरीला पदार्थ पिला दिया। पुत्री की हालत बिगड़ी तो दिखावे के लिए उसे गांव रामपुर कलां में एक झोलाछाप के यहां भर्ती करा दिया। तीन दिन इलाज के बाद डॉक्टर ने लक्ष्मी को बाहर ले जाने की सलाह दी, तो पुत्री को शाहजहांपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। शनिवार को इलाज के दौरान लक्ष्मी देवी ने दम तोड़ दिया। थाना प्रभारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि तहरीर मिली है, मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई जा रही हैं।
... और पढ़ें

बदमाशों ने तमंचे की बट से दंपती को पीटा, घायल

जलालाबाद(शाहजहांपुर)। शनिवार रात शाहजहांपुर रोड किनारे स्थित घर के बाहर सो रहे एक व्यक्ति व उसकी पत्नी को तीन बदमाशों ने तमंचे की बट से पीटकर लहूलुहान कर दिया। शोरशराबा होने पर जब आसपास के लोग जाग गए। बदमाश फायर करते हुए भाग गए। आधी रात के समय हुई घटना से लोग सहम गए। मामले की तहरीर दे दी गई है।
मूलरूप से थाना मिर्जापुर के गांव राजेरायपुर निवासी अमित अपनी पत्नी व बच्चों के साथ शाहजहांपुर रोड पर गांव ककरहा को जाने वाली मोड़ के पास स्थित किराए के मकान में रह रहे हैं। मकान के बाहर दुकान में अमित बिल्डिंग का काम करते हैं। शनिवार रात गर्मी अधिक होने के कारण वह और उसकी पत्नी सड़क किनारे चारपाई डालकर सो गए। रात करीब ढाई बजे तीन लोगों ने अमित को दबोच लिया और उसे पीछे खेत की ओर खींच कर ले जाने लगे, विरोध करने पर एक ने तमंचा निकालकर उसका बट से प्रहार कर सिर फोड़ दिया। शोर सुनकर पास में ही दूसरी चारपाई पर लेटी पत्नी संतोषी जाग गईं और चिल्लाते हुए बदमाशों से पति को छुड़ाने का प्रयास किया, तभी दूसरे बदमाश ने तमंचे की बट से संतोषी का भी सिर फोड़ दिया। इस दौरान शोरशराबा सुनकर आसपास छतों पर लेटे लोगों ने आवाज लगाई, तभी बदमाश फायर करते हुए भाग निकले। सूचना पर यूपी 100 पुलिस मौके पर पहुंच गई और आसपास बदमाशों को तलाश भी किया, लेकिन सफलता नहीं मिली। इसके बाद पुलिस ने घायल दंपती को अस्पताल भिजवाया। घटना से इलाके में दहशत का माहौल है। इंस्पेक्टर राजेश यादव ने बताया कि अभी रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई है। घटना की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

चोरी करने वाले गैंग का खुलासा, चार बदमाश पकड़े गए

तिलहर (शाहजहांपुर)। नकब लगाकर चोरी करने वाले गैंग के चार शातिर अपराधियों को पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए अपराधियों के पास से पुलिस ने चोरी किए गए सोने-चांदी के जेवरात और नकदी बरामद की है। चारों अपराधियों को न्यायालय में पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।
सीओ मंगल सिंह रावत ने बताया कि कोतवाल संजय राय, वरिष्ठ उप निरीक्षक विनोद कुमार मौर्य की टीम वांछित, वारंटी व संदिग्ध व्यक्तियों की गिरफ्तारी अभियान पर थी। पुलिस टीम चौकी बिरसिंहपुर के गांव हजरतपुर मोड़ पर पहुंची। तभी सूचना मिली कि नकब लगाकर चोरी करने वाले व्यक्तियों का एक गैंग बाइक पर सवार होकर किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए गांव रतूली से बिरसिंहपुर की तरह जा रहा है। सूचना पर पुलिस टीम गांव सुनौरा जाने वाले मोड़ पर रविवार को सुबह छह बजे पहुंची , तभी दो बाइकों से कुछ लोग आते हुए दिखाई दिए। पास आने पर पुलिस टीम ने जब रुकने का इशारा किया, तभी बाइक सवार बदमाशों ने पुलिस टीम पर तमंचों से फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने घेराबंदी कर दोनों बाइकों पर सवार चार बदमाशों को दबोच लिया, जबकि एक बदमाश भाग गया। पकड़े गए बदमाशों में दो सगे भाई थाना मिर्जापुर के गांव पिपरिया नगला निवासी प्रमोद व मनोज, थाना परौर के गांव जूही निवासी बुधपाल, जय सिंह हैं। भागने वाले बदमाश का नाम श्रीकृष्ण निवासी मिर्जापुर के गांव पिपरिया है। पूछताछ करने पर बदमाशों ने बताया कि वह लोग दिन में बाइक से ग्रामीण क्षेत्रों में रेकी करते हैं। जिसके भी घर गांव से बाहर होते हैं उनके मकानों में नकब लगाकर घुस जाते हैं। पकड़े गए चोरों ने एक जून की रात गांव रतूली में सचिन व रामनरेश के घरों पर हुई चोरी, नौ जून को गांव लखोहा में रामदास के घर में नकव लगाकर की गई चोरी व 29 जून को गांव बुरहानपुर के लालाराम व राकेश के घर में भी नकब लगाकर की गई चोरी की घटना कबूल की। पकड़े गए लोगों के पास से 315 बोर के तीन तमंचे तीन जिंदा व तीन खोखा कारतूस, एक चाकू, दो बाइक, दो सोने की चूड़ी, छह जोड़ी चांदी की पायलें, 12 हजार रुपये नकद व नकब काटने के औजार बरामद हुए हैं।
... और पढ़ें

शाहजहांपुर: शिलान्यास का पत्थर गिराने के विवाद में चलाई गोली, घर आए दामाद की मौत, 24 दिन पहले हुई थी शादी

शाहजहांपुर के जैतीपुर थाना क्षेत्र की ग्राम पंचायत बैसरा बैसरी के मजरा नगरिया के रहने वाले दामोदर के खेत में सड़क के शिलान्यास का पत्थर लगा था। गांव के रहने वाले रामवीर, उसके भाई सत्यवीर, चाचा जयवीर और उसके बेटे प्रदीप ने बुधवार सुबह करीब साढ़े सात बजे पत्थर गिरा दिया था। इसका दामोदर ने विरोध किया तो दोनों पक्षों में विवाद होने लगा। दामोदर अपने घर आ गया।

सुबह करीब आठ बजे चारों आरोपी लाइसेंसी दोनाली रायफल लेकर दामोदर के घर पहुंचे। शोर सुनकर दामोदर का दामाद कौशल (25) निवासी शिवनगर पीलीभीत बाहर आया तो उसे गोली मार दी। वारदात के बाद आरोपी भाग गए।

28 नवंबर को ही हुई थी शादी
परिजन पुलिस को सूचना देने के साथ ही कौशल को लेकर इलाज के लिए बरेली जा रहे थे लेकिन रास्ते में उसकी मौत हो गई। कौशल की शादी 28 नवंबर को दामोदर की बेटी प्रियंका से हुई थी। वह पत्नी को लेकर 19 दिसंबर को अपने ससुराल आया था। मौके पर पहुंचे एसपी एस आनंद ने बताया कि आरोपियों की तलाश की जा रही है। शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।
... और पढ़ें
शाहजहांपुर में शिलान्यास का पत्थर गिराने के विवाद में एक की हत्या शाहजहांपुर में शिलान्यास का पत्थर गिराने के विवाद में एक की हत्या

शाहजहांपुर: पशुओं से फसल बचाने के लिए तार बांधकर छोड़ा करंट, चपेट में आकर दो किसानों की मौत

शाहजहांपुर: राजकीय मेडिकल कॉलेज की निर्माणाधीन बिल्डिंग में मिला शव, शिनाख्त नहीं हुई

राजकीय मेडिकल कॉलेज की निर्माणाधीन बिल्डिंग में लिफ्ट के लिए बनाए गड्ढे में भरे पानी में बुधवार सुबह एक पुरुष का शव मिला है। सूचना पर पहुंची चौक कोतवाली पुलिस शव की शिनाख्त कराने का प्रयास कर रही है।

पुलिस ने चौकीदार और ठेकेदार से पूछताछ की लेकिन व्यक्ति के बारे में कोई जानकारी नहीं हो सकी है। राजकीय मेडिकल कॉलेज के पीछे 100 बेड के अस्पताल का निर्माण कार्य 2015 से चल रहा है। कोविड-19 के कारण बिल्डिंग निर्माण का कार्य अधूरा पड़ा हुआ है।

बुधवार सुबह करीब 10 बजे मजदूर काम करने के लिए पहुंचे थे। तभी उन्हें लिफ्ट के लिए बनाए गए गड्ढे में भरे पानी में एक शव उतराता नजर आया। तब ठेकेदार ने पुलिस को सूचना दी।

एसपी एस आनंद ने बताया कि शव की पहचान का प्रयास किया जा रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में स्पष्ट होगा कि मौत कैसे हुई है।
... और पढ़ें

शाहजहांपुर: पुलिस ने साढ़े 17 किलो चरस के साथ तीन तस्करों को किया गिरफ्तार, पहले भी कई बार कर चुके हैं बॉर्डरपार तस्करी

शाहजहांपुर पुलिस ने सोमवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए साड़े 17 किलोग्राम चरस के साथ तीन तस्करों को गिरफ्तार किया है। आरोपी पहले भी कई बार नेपाल से तस्करी कर चुके हैं।

एसटीएफ, एसओजी और आरसी मिशन थाने की संयुक्त पुलिस टीम ने मुखबिर की सूचना पर सोमवार रात 10.50 बजे भावलखेड़ा सीएचसी तिराहे से तीन तस्करों को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से पुलिस को साढ़े 17 किलो चरस बरामद हुई है। बरामद चरस की कीमत करोड़ों में बताई जा रही है।

गिरफ्तार बबलू कुमार सोनकर, रामकुमार निवासी ग्राम किसुआपुर, थाना नानपारा, बहराइच और मो. हनीफ निवासी अल्लापुखा मौजा कुरवारी, थाना मटेरा, बहराइच ने बताया कि वे लोग बार्डर पार कर नेपाल से चरस लेकर आते हैं। बरामद चरस वे लोग सहारनपुर में रहने वाले एक डॉक्टर को देने जा रहे थे।

आरोपियों ने बताया कि वह उन लोगों को सुबह सहारनपुर रोडवेज बस स्टैंड पर मिलता। वे लोग सहारनपुर जाने वाली बस का इंतजार कर रहे थे तभी पुलिस ने पकड़ लिया। एसपी एस आनंद ने बताया कि गिरफ्तार लोगों ने कबूला है कि इससे पहले भी वे लोग कई बार बार्डर पार कर नेपाल से चरस लाकर दिल्ली, हरियाणा, पंजाब व पश्चिमी उप्र में सप्लाई कर चुके हैं। तीनों लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।
... और पढ़ें

शाहजहांपुर : चार साल की बच्ची से 80 साल के वृद्ध ने की छेड़छाड़, रिपोर्ट दर्ज करके भेजा जेल

गिरफ्तार तस्कर और बरामद चरस
मां के साथ मोहल्ले में देवी जागरण देखने गई चार साल की बच्ची से 80 साल के वृद्ध ने छेड़छाड़ कर दी। बच्ची के चिल्लाने पर लोगों ने आरोपी को पकड़ लिया और पुलिस के सुपुर्द कर दिया। पुलिस ने बच्ची के पिता की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी को जेल भेज दिया।

यह घटना शहर की चौक कोतवाली क्षेत्र की है। जहां शनिवार शाम चार साल की बच्ची परिजन के साथ मोहल्ले में हो रहे देवी जागरण में गई थी। कुछ देर में बच्ची खेलते-खेलते पंडाल के बाहर आ गई। वहां रहने वाला 80 वर्षीय दीपक कनकड़ पहले से खड़ा था।

बच्ची को अकेला देख पहले तो वह कुछ देर साथ में खेलता रहा। खेल-खेल में उसने बच्ची के साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी। इससे घबराई बच्ची चिल्लाने लगी। बेटी के चीखने की आवाज सुनकर पंडाल मौजूद उसकी मां बाहर गई और बच्ची से छेड़छाड़ कर रहे दीपक को देख लिया।

मां के चिल्लाने पर आसपास लोग दौड़कर पहुंच गए और आरोपी आरोपी को पकड़ लिया। फौरन इसकी सूचना कोतवाली पुलिस को दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस आरोपी को पकड़कर कोतवाली लेकर आई। पुलिस ने पहले दोनों पक्षों की बात सुनी। इसके बाद बच्ची के पिता की तहरीर के आधार पर आरोपी दीपक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली।

चौक कोतवाली निरीक्षक हरपाल सिंह बालियान ने बताया कि बच्ची के साथ छेड़छाड़ करने वाले आरोपी की उम्र करीब 80 साल होगी। रिपोर्ट दर्ज करने के बाद आरोपी को जेल भेज दिया गया।
... और पढ़ें

यूपी पुलिस की मनमानी

शाहजहांहपुर एसपी कार्यालय में सोमवार को एक महिला ने खुदकुशी करने की कोशिश की। महिला अपने साथ डीजल भरी बोतल लेकर आई थी। गनीमत रही कि पुलिसकर्मियों ने डीजल भरी बोतल छीन ली।  महिला का आरोप है कि उसके साथ शाहजहांपुर के एक वकील ने दुष्कर्म किया। वह अपने पति के मुकदमे की पैरवी के सिलसिले में उस वकील के पास जाती थी। वकील ने झांसे में लेकर उससे महीनों से दुष्कर्म करता रहा।  उसने सादे कागज पर हस्ताक्षर भी करवा लिए। वह रिपोर्ट दर्ज कराने थाने पहुंची लेकिन पुलिस ने उसकी रिपोर्ट दर्ज नहीं की। सदर इंस्पेक्टर किरनपाल सिंह महिला को लेकर थाने गए और आश्वस्त किया की रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

यूपी: युवक की गला दबाकर हत्या, मृतक कल ही आया था अपने घर

उत्तर प्रदेश में युवक की हत्या का मामला सामने आया है। युवक की हत्या से इलाके में हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।

घटना शाहजहांपुर जिले की है। थाना सेहरामऊ दक्षिणी अंतर्गत ग्राम महमदपुर निवासी रामदास उर्फ रम्मा पुत्र प्यारेलाल (42) की हत्या का मामला सामने आया है। मृतक रामदास सेहरामऊ थाना क्षेत्र के ग्राम दिवैयापुर निवासी साहब सिंह पुत्र दुर्गविजय सिंह के यहां खेतीबाड़ी में मजदूरी करता था। 

शनिवार शाम को अपने घर महमदपुर वापस आया था, रविवार सुबह 4:00 बजे गांव के लड़के टहलने के लिए निकले तो उन्होंने गांव के अंदर जगदीश के मकान के सामने खाली पड़ी जगह में रामदास का शव पड़ा देखा।

उन्होंने परिवार वालों को सूचना दी कि मृतक के पिता का पहले ही देहांत हो चुका है, जबकि मृतक की मां चित्रा देवी बड़े भाई बजरंगी उससे छोटा मौजीराम मृतक अपने भाइयों में तीन भाई था। 

मृतक अविवाहित था और मजदूरी करता था। मृतक के गले में खरोच के निशान थे, मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष सुनील कुमार शर्मा ने जांच पड़ताल कर शव का पंचनामा भरवा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक के भाई ने अज्ञात लोगों के खिलाफ तहरीर दी है।
... और पढ़ें

बरेली: धोखाधड़ी कर चार शादियां करने वाले की पत्नियों ने ही खोली पोल

धोखाधड़ी कर चार शादियां करने वाले शाहजहांपुर के एक व्यक्ति की पोल उसकी पत्नियों ने ही खोल दी है। पत्नियां शिकायत करने थाने गईं, लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। इसे लेकर उन्होंने थाने में हंगामा भी किया। सोमवार को तीन महिलाएं धोखेबाज के साथ शादी के सबूत लेकर डीआईजी कार्यालय शिकायत करने पहुंची। मामले को गंभीरता से लेकर डीआईजी ने थाना पुलिस को आरोपी को गिरफ्तार करने के आदेश दिए हैं।

डीआईजी कार्यालय में सोमवार सुबह शाहजहांपुर के कोतवाली क्षेत्र की तीन महिलाएं पहुंची। इनमें एक मुस्लिम महिला थी। एक महिला के साथ उसका बेटा भी था। तीनों ने जब डीआईजी को अपनी शिकायत सुनाई तो वह भी हैरान रह गए। महिलाओं के मुताबिक उन तीनों का पति एक ही है। उनके अलावा भी एक और महिला से उनके पति ने धोखा देकर शादी की थी, लेकिन बीमारी के कारण कुछ समय पहले उसकी मौत हो गई।

उन्होंने बताया कि पति न किसी से निजी कंपनी का कर्मचारी बनकर तो किसी से व्यापारी बनकर शादी की। कुछ समय साथ रहने के बाद वह काम के बहाने बाहर चला जाता था। तीनों में से एक ने बताया कि पिछले महीने एक युवती उसके पास आई। उसने पति की फोटो दिखाकर जानकारी लेनी चाही। बातचीत में पता चला कि पति ने उस युवती को शादी के लिए फंसाया था। इसके बाद उसने पति से बात न करके मामले की छानबीन की।

सामने आया कि पति ने उसके अलावा तीन अन्य महिलाओं से भी शादी कर रखी है। एक दूसरे से संपर्क करके वे इकट्ठी होकर शिकायत करने कोतवाली पहुंचीं लेकिन उनकी नहीं सुनी गई। डीआईजी राजेश कुमार पांडेय ने बताया कि तीन महिलाओं ने एक व्यक्ति पर धोखाधड़ी कर उनसे शादी करने का आरोप लगाया है। मामले को गंभीरता से लेकर पुलिस को आरोपी को गिरफ्तार करने के आदेश दिए गए हैं।
 
... और पढ़ें

फर्जी शस्त्र लाइसेंस बनाने वाला गैंग बेनकाब, पांच गिरफ्तार

फर्जी शस्त्र लाइसेंस बनाकर असलहों की खरीद-फरोख्त कराने वाले गिरोह का खुलासा कर गाजियाबाद पुलिस ने शाहजहांपुर के ग्राम प्रधान सहित पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। मंगलवार को डीएम अजय शंकर पांडेय व एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने कलक्ट्रेट सभागार में प्रेसवार्ता कर गिरोह के राजफाश की जानकारी दी।

डीएम ने बताया कि हाल ही में शाहजहांपुर जिले के एक शस्त्र लाइसेंस का गाजियाबाद में ट्रांसफर के लिए आवेदन आया था। जांच में यूनिक आईडी मैच नहीं हुई और पता चला कि उक्त यूनिक आईडी पर कोई शस्त्र लाइसेंस जारी नहीं है। उन्होंने डीएम शाहजहांपुर को चिट्ठी लिखते हुए गाजियाबाद कप्तान को जांच कराने की संस्तुति की। जांच में लाइसेंस फर्जी निकला और गिरोह की परतें खुलती चली गईं।

गन हाउस संचालक है सरगना
एसएसपी ने बताया कि कविनगर पुलिस ने फुरकान पुत्र अब्दुल वहीद निवासी बिहारीपुरा कमला हॉल वाली गली लाल क्वार्टर के सामने थाना विजयनगर, संजय गर्ग पुत्र राजपाल गर्ग निवासी ए-3, सेक्टर-12 प्रताप विहार थाना विजयनगर, विनोद पुऊत्र तेजराम सिंह निवासी मकान नंबर-64 सर्वोदय नगर थाना विजयनगर, हरिशंकर अवस्थी पुत्र राजकुमार निवासी मोहल्ला कोट थाना खुटार जिला शाहजहांपुर व सदानंद शर्मा पुत्र रामाधार शर्मा निवासी अनाथा थाना पुआया जिला शाहजहांपुर को गिरफ्तार किया गया है। हरिशंकर अवस्थी गन हाउस संचालक और गिरोह का सरगना है, जबकि सदानंद उसका सहयोगी व मौजूदा ग्राम प्रधान है।
... और पढ़ें

शाहजहांपुर: खेत की रखवाली कर रहे युवक की बेरहमी से हत्या, जांच में जुटी पुलिस

शाहजहांपुर के गढ़िया रंगीन थाना छेत्र में एक किसान की बेरहमी से हत्या करने का मामला सामने आया है। जब यह घटना हुई, तब गढ़िया रंगीन थाना छेत्र के निवासी जय सिंह बीती रात गांव के पास ही अपने खेत में बैठ कर रखवाली कर रहे थे। 

रात को रखवाली के दौरान जय सिंह को अकेला देख कुछ अज्ञात बदमाशों ने उन पर हमला कर दिया। बदमाशों ने पहले उनकी बाईं आंख फोड़ी और फिर लाठी-डंडों से पीट कर उनकी हत्या कर दी। 

घटना की सूचना मिलने पर थाना पुलिस व पुलिस क्षेत्राधिकारी मंगल सिंह रावत डाग स्क्वायड के साथ मौके पर पहुंचे। इसके बाद मृतक के भतीजे लालाराम ने थाना पुलिस को अज्ञात लोगों के खिलाफ तहरीर दी। 
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00