विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम
Puja

मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

शोरूम से उड़ा ले गया ब्रांडेड जूते और कपड़े, सीसीटीवी में कैद हुआ चोर

महुली क्षेत्र के मैनसिर चौराहे पर स्थित माध्यमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष के बेटे के कपड़े व जूता-चप्प्ल के शोरूम में बुधवार की रात घुस कर चोरों ने चोरी की वारदात की। चोर शोरूम से 75000 नकदी, लैपटॉप और कपड़े आदि उठा ले गए। सीसीटीवी कैमरे में एक चोर की तस्वीर कैद हो गई। बृहस्पतिवार को सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल की। सीसीटीवी में कैद चोर की तस्वीर की पहचान कराने की कोशिश में पुलिस जुट गई है।

माध्यमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष हरिबख्श सिंह के बेटे जय प्रकाश सिंह की मैनसिर चौराहे पर रेडीमेड कपड़े और जूता-चप्पल का शोरूम है। शोरूम के संचालक जय प्रकाश सिंह ने बताया कि वह मैनसिर स्थित उनके घर के सामने ही किराए के मकान में उनका शोरूम है।

बुधवार की रात में मकान के पीछे के रास्ते चोर उनकी दुकान के अंदर घुस गए और चोरी की वारदात की। इसकी जानकारी उन्हें बृहस्पतिवार को सुबह साढ़े नौ बजे तब हुई जब वह दुकान खोले। दुकान के अंदर सामान तितर-बितर था और पीछे का दरवाजा और दुकान में लगा सीसीटीवी कैमरा टूटा पड़ा था।

चोर उनकी दुकान से एक लैपटॉप, चार कैंपस जूता, तीन सेट जिंस, कुछ रेडीमेड होजरी और 75 हजार नकदी उठा ले गए। घटना की सूचना पर आसपास के लोग भी मौके पर पहुंच गए। घटना से मैनसिर चौराहे के कारोबारी सहम गए। पीड़ित ने बताया कि उसके घर के अंदर लगे सीसीटीवी कैमरे से दुकान का सीसीटीवी कैमरा जुड़ा है।

इस वजह से घर वाले कैमरे में चोर की तस्वीर भी कैद हो गई। पीड़ित की सूचना पर 112 नंबर की पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई और मामले की जांच-पड़ताल की। बाद में पीड़ित ने महुली थाने पर तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की।

एसओ प्रदीप सिंह ने बताया कि घटना स्थल का निरीक्षण कर वहां की स्थिति देखी। सीसीटीवी कैमरे में चोर की तस्वीर दिखाई दे रही है। इससे उसकी पहचान कराने की कोशिश शुरू कर दी गई है। इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है। जल्द ही मामले का पर्दाफाश कर दिया जाएगा। 
... और पढ़ें

रिश्ता शर्मसार: इलाज के बहाने चाचा ने दिव्यांग भतीजी से किया दुष्कर्म, ऐसे खुला राज

दवा कराने के बहाने पट्टीदारी का एक चाचा अपनी दिव्यांग भतीजी को ले जाकर हवस का शिकार बना दिया। घटना धर्मसिंहवा थाना क्षेत्र के 5 दिन पूर्व की है। पीड़िता ने जब गांव की अन्य महिला से आपबीती बताई तब परिजनों ने थाने पर तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर प्रकरण की छानबीन शुरू कर दी है।

थाना क्षेत्र की एक गांव की रहने वाली 25 वर्षीय दिव्यांग युवती के साथ उसके पट्टीदारी के 50 वर्षीय चाचा ने दवा कराने के बहाने ले जाकर मुंह काला किया। घटना 23 दिसंबर की है पीड़िता के पिता ने तहरीर में आरोप लगाया है कि उसका चचेरा भाई गोविंद उसकी बेटी को इलाज करवाने के बहाने बगल के गांव ले जाने को कहा, लड़की को साइकिल पर बैठा कर डॉक्टर के पास ले गया और इलाज करवा कर लौटते वक्त भतीजी के दिव्यांग होने का फायदा उठाकर उसके साथ जबरदस्ती दुष्कर्म किया।

आरोप ये भी है कि दिव्यांग लड़की को धमकी दिया गया था कि अगर उसने कहीं मुंह खोला तो जान से मार दी जाएगी। पीड़िता ने 2 दिन तक किसी को अपनी आपबीती नहीं बताई पर असहाय दर्द होने के बाद पड़ोस की रहने वाली महिलाओं को अपनी समस्या बता दी। महिलाओं ने घटना की जानकारी परिजन को दी, जिस पर पीड़िता के पिता ने थाने पर तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई।

थानाध्यक्ष रवींद्र कुमार ने बताया कि पीड़िता के पिता के तहरीर  पर चाचा गोविंद के खिलाफ बलात्कार एवं जान से मारने की धमकी की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है आरोपी की तलाश की जा रही है जल्द ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जाएगा।


 
... और पढ़ें

एनकाउंटर में यहां की पुलिस भी पीछे नहीं, किसी को सिर पर गोली मारी, किसी को पैर पर

फेसबुक की दोस्ती में गंवाई दो किशोरों ने जान, बाइक से तय कर डाली एक हजार की यात्रा

दार्जिलिंग से बाइक से लौट रहे महुली क्षेत्र के बेल्डुहा गांव के रहने वाले दो किशोरों की गुरुवार की शाम बिहार के भागलपुर जिले के भवानीपुर में ट्रक की चपेट में आने से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि दोनों फेसबुक पर दोस्त बनी दार्जिलिंग शहर की लड़की से मिलकर आ रहे थे। बता दें कि दोनों किशोरों ने मिलकर हजार किलोमीटर से अधिक की दूरी तय की थी।

ये है पूरा मामला
बेल्डुहा गांव निवासी अमित कुमार (15) फेसबुक पर दोस्त बनी लड़की से मिलने गांव के ही गोकुल निषाद (14) के साथ बाइक से दार्जिलिंग जा रहा था। गोकुल के पिता राम आशीष ने बताया कि 10 मई को अमित उसके बेटे को यह कहकर अपने साथ ले गया था कि वह सहजनवां के पास अपने ननिहाल जा रहा है।

दो दिन बाद उसका बेटा घर नहीं लौटा तो उन्होंने अमित के परिजनों को पुलिस को सूचना देने की धमकी दी। इसकी जानकारी होने पर अमित ने गोकुल की बात उसके परिजनों से कराई थी। गुरुवार को जब दोनों घर लौट रहे थे तो बिहार के भागलपुर जिले में एनएच 31 पर एक ट्रक की चपेट आ गए। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई।

हरिहरपुर चौकी इंचार्ज जितेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि उन्हें मोबाइल के जरिए भवानीपुर की पुलिस ने घटना की सूचना दी। इसके बाद परिजनों को सूचना दी गई। शुक्रवार की सुबह परिजन बिहार रवाना हो गए।
 
... और पढ़ें
रोते बिलखते परिजन। इनसेट में दोनों मृतक। रोते बिलखते परिजन। इनसेट में दोनों मृतक।

शादी से ठीक एक महीने पहले युवती बन गई मां, घर वालों को भी नहीं पता थी ये बात

उत्तर प्रदेश के संतकबीर नगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां धनघटा क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली युवती की 17 मई को शादी होनी है। इधर शुक्रवार की देर शाम सीएचसी मलौली में युवती ने बच्चे को जन्म दी। बिना शादी के मां बनने को लेकर जहां चर्चा हो रही है, वहीं युवती के परिजन परेशान है।

जानकारी के अनुसार सीएचसी मलौली पर शुक्रवार को प्रसव पीड़ा सें कराहती हुई युवती अपनी मां के साथ पहुंची। डॉक्टरों ने उसे भर्ती करने के बाद इलाज शुरु किया। कुछ देर बाद युवती ने बच्चे को जन्म दिया।

कुंवारी बेटी के मां बनने पर परिजनों के पैर तले से जमीन खिसक गई। अस्पताल में जब यह पता चला कि युवती अविवाहित है तो इसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के लोगो ने धनघटा पुलिस को दी। उधर युवती के मां बनने से परेशान परिजन उससे पूछताछ करने में जुट गए।

सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल की। एसओ अखिलानंद उपाध्याय ने बताया कि कुंवारी युवती के मां बनने की सूचना मिली है। वैसे अभी कोई तहरीर नही मिली है।

तहरीर मिलने के बाद कार्रवाई की जाएगी। जांच पड़ताल में पता चला कि 17 मई को युवती की शादी का दिन तय है। इसके पहले उसके मां बनने को लेकर विवाह पर संकट के बादल मड़राने लगे है।
... और पढ़ें

संतकबीर नगर: मामूली बात को लेकर घर में हुआ झगड़ा, नाराज भाई-बहन ने उठा लिया ये खतरनाक कदम

उत्तर प्रदेश के संतकबीर नगर के महुली थाना क्षेत्र के ग्राम धवरेपार बढ़या निवासी सगे भाई बहन अज्ञात कारणों से जहरीला पदार्थ खा लिया। हालत गंभीर होने पर परिजन सीएचसी केंद्र नाथनगर लेकर पहुंचे। हालत में सुधार होता न देख चिकित्सकों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया है।

क्षेत्र के काली जगदीशपुर चौकी क्षेत्र के ग्राम धवरेपार बढ़या निवासी रंजीत हरिजन के घर में शुक्रवार की देर शाम को किसी बात को लेकर विवाद होने लगा। इसी दौरान 18 वर्षीय पुत्री गुड़िया तथा 22 वर्षीय पुत्र गुड्डू ने जहरीला पदार्थ खा लिया। दोनों बच्चो की तबियत खराब होने लगी। मुंह से झाग निकलता देख परिजन उपचार के लिए सीएचसी केंद्र नाथनगर लेकर गए।

हालत में सुधार होता ना देख चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जहां उनका उपचार चल रहा है। इस मामले को लेकर लोग अलग-अलग बात कह रहे है। भाई बहन ने किस कारण बस जहरीला पदार्थ खाया था। इसकी पुष्टि नहीं हो सकी।

 
... और पढ़ें

संतकबीरनगर: मामूली बात पर भाभी से युवती का हुआ झगड़ा, नाराज ननद ने जहर खाकर दे दी जान

उत्तर प्रदेश के संतकबीरनगर जिले से एक हैरान करने वाली खबर आ रही है। यहां क्षेत्र के हैंसर बाजार में एक युवती ने सोमवार की शाम अपनी भाभी से किसी बात को लेकर कहासुनी के बाद जहरीले पदार्थ का सेवन कर ली। परिजन उसे पहले सीएचसी मलौली ले गए, जहां से रेफर किए जाने के बाद जिला अस्पताल में भर्ती कराए। रात में ही उपचार के दौरान युवती की मौत हो गई। मंगलवार को पुलिस ने सूचना पर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

ग्रामीणों ने बताया कि हैंसर बाजार निवासी राधेश्याम की 18 वर्षीय बेटी अंशू और उसकी भाभी के बीच सोमवार की शाम को किसी बात लेकर कहासुनी हो गई थी। परिवार के लोगों ने दोनों को समझा बुझाकर शांत करा दिया था। कुछ देर बाद बेटी अंशु अपने कमरे में अचेत हाल में मिली।

जिसे परिजन पहले सीएचसी मलौलीी ले गए, जहां डॉक्टरो ने उसे जहरीला पदार्थ खाने की बात कहकर जिला अस्पताल रेफर कर दिया। सोमवार की रात अंशू की जिला अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई।

एसओ अखिलानंद उपाध्याय ने बताया कि ग्रामीण यहीं बताए कि अंशू की उसके भाभी से किसी बात पर कहासुनी हुई थी। बाद में युवती ने जहरीला पदार्थ का सेवन कर लिया। उसकी जिला अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। शव को पोस्ट मार्टम के लिए भेजा गया है। पोस्ट मार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

संतकबीर नगर: नहर के किनारे इस हाल में मिली युवती की लाश, देखकर चौंक गए लोग

सांकेतिक तस्वीर।
उत्तर प्रदेश के संतकबीरनगर जिले के नरायनपुर पशु बाजार के पास रानीपुर गांव के नहर पुलिया के किनारे बृहस्पतिवार को एक युवती का शव मिला। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई। युवती के सिर और चेहरे पर चोटे के निशान थे। शव की स्थिति देखकर लोग हत्या की आशंका जताए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। पुलिस शव की शिनाख्त कराए जाने की कोशिश में जुट गई।

प्रभारी एसओ धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि नरायनपुर पशु बाजार के पास रानीपुर नहर के किनारे युवती का शव पड़े होने की सूचना मिली। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। युवती की उम्र 25 से 30 वर्ष के बीच आंकी गई। युवती सलवार समीज व नकाब पहने थी।

युवती के सिर और चेहरे पर गंभीर चोटे के निशान थे। युवती का चेहरा पहचान में नहीं आ रहा था। प्रथम दृष्टया शव की स्थिति देखकर प्रतीत हुआ है कि युवती की हत्या करके शव यहां लाकर फेंक दिया गया है। आस-पास के लोगों से शव की पहचान कराए जाने की कोशिश की गई, लेकिन पहचान नहीं हो पाई।

शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हाऊस भेज दिया गया है। 72 घंटे बाद शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मौत की वजह का पता चलेगा। उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

संतकबीर नगर: 15 हजार का इनामी बदमाश गिरफ्तार, कई महीनों से थी पुलिस को तलाश

बेटी को अफसर बनाने का सपना रह गया अधूरा, हेड कांस्टेबल की पत्नी और बेटी ने की आत्महत्या

दहेज के लालच में पत्नी और साले की कर दी थी हत्या, कोर्ट ने सुनाई आजीवन कारावास की सजा

साढ़े तीन साल पूर्व महुली क्षेत्र के अलीनगर में पत्नी और साले की हत्या करने के मामले में जिला एवं सत्र न्यायाधीश जय शंकर मिश्र ने आरोपी पति को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। इसके साथ ही 20000 रूपये अर्थ दंड से दंडित किया। अर्थदंड की अदायगी न करने पर एक वर्ष की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी।

मेंहदावल क्षेत्र के नगपुर गांव निवासी संतोष तिवारी ने महुली थाने में प्रार्थना पत्र दिया कि उसकी चचेरी बहन गोल्डी का विवाह 2013 में महुली क्षेत्र के अलीनगर के रहने वाले जयप्रकाश के साथ हुई थी। विवाह के बाद उसके पति व ससुराल वाले दहेज की मांग करने लगे। दहेज के खातिर ही चचेरी बहन को परेशान करने लगे।

रिश्तेदारों व घर वालों ने काफी समझाया, लेकिन ससुराल के लोग नहीं माने। अप्रैल 2016 में उसकी चचेरी बहन मायके में शादी कार्यक्रम में आई थी। 10 मई 2016 को भाई हिमांशु चचेरी बहन गोल्डी को लेकर उसके ससुराल अलीनगर छोड़ने गया था। 26 मई 2016 को चचेरी बहन के पति, सास,ससुर व जेठ मिलकर उसके बहन गोल्डी व भाई हिमांशु की हत्या कर दिया।

महुली पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज किया। विवेचक की ओर से आरोप पत्र आरोपी पति जयप्रकाश के विरुद्ध न्यायालय में दाखिल किया गया। अभियोजन की तरफ से जिला शासकीय अधिवक्ता फौजदारी आनंद राय ने बताया कि दोहरे हत्याकांड में अभियोजन की तरफ से 15 साक्षियों का साक्ष्य पूर्ण कराया गया।

जिला एवं सत्र न्यायाधीश जयशंकर मिश्र ने अभियुक्त पति जयप्रकाश को हत्या का दोषी पाते हुए कठोर आजीवन कारावास की सजा सुनाई। इसके साथ ही 20000 रुपये अर्थदंड से दंडित किया।अर्थदंड न अदा करने पर एक वर्ष की अतिरिक्त सजा भुगतनी पड़ेगी।


 
... और पढ़ें

संतकबीरनगर: घर में घुस कर सो रही किशोरी संग किया दुष्कर्म, शोर मचाने पर पड़ा गया आरोपी

उत्तर प्रदेश के संतकबीरनगर के दुधारा क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली किशोरी के साथ शुक्रवार की रात घर में घुस कर गांव के ही युवक ने दुष्कर्म किया। किशोरी की गुहार पर परिजन मौके पर पहुंच गए और आरोपी को पकड़ लिया। सूचना पर पहुंची 112 नंबर की टीम आरोपी को हिरासत में लेकर थाने गई। शनिवार को पुलिस ने आरोपी पर घर में घुस कर दुष्कर्म करने और पॉस्कों एक्ट के तहत केस दर्ज करते हुए जेल भेज दिया।

पीड़ित मां का आरोप है कि वह अपने छोटे-छोटे बच्चों के साथ अकेले घर पर रहती है। उसके पति रोजगार के सिलसिले में बाहर गए हैं। शुक्रवार की रात गांव का ही आरोपी युवक उसके घर में घुस गया। आरोप है कि आरोपी युवक ने उसकी नाबालिग बेटी के मुंह में कपड़ा ठूंसकर दुष्कर्म किया।

बाद में मौका पाकर बेटी ने शोर मचाया तो सो रहे परिजनों नीद टूट गई। उसी दौरान आरोपी भागने लगा, परिवार के लोगों ने आरोपी युवक को पकड़ लिया। सूचना पर 112 नंबर की पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई और आरोपी को हिरासत में लेकर थाने गई। एसओ गौरव सिंह ने बताया कि आरोपी युवक पर घर में घुस कर दुष्कर्म करने और पॉस्कों एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। शनिवार को पकड़े गए आरोपी को जेल भेजा गया है।
... और पढ़ें

संतकबीरनगर: दो दिन से लापता था राजगीर मिस्त्री, गेहूं के खेत में मिला शव

उत्तर प्रदेश के संतकबीरनगर जिले से एक बड़ी खबर आ रही है। यहां दो दिन से लापता युवक का शव गेहूं के खेत में मिलने से हड़कंप मच गया। पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

दो दिन से घर से लापता राज मिस्त्री का शव बृहस्पतिवार को जमिरा गांव के सीवान में गेहूं के खेत में मिला। सूचना पर एएसपी और फोरेसिंक जांच टीम पहुंची। लोगों की भीड़ भी लग गई थी। राज मिस्त्री के सीने और जंघे में खरोच के निशान थे। कान से खून भी निकला था। मौके से दो सिमकार्ड मिला। जबकि मोबाइल गायब था। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

क्षेत्र के जमिरा गांव निवासी 30 वर्षीय त्रिभुवन राजभर पुत्र बेचू राज मिस्त्री का काम करते थे। परिजनों ने बताया कि मंगलवार की रात करीब आठ बजे वह घर से थोड़ी देर में लौटने की बात कह कर निकले थे। देर रात तक इंतजार के बाद जब त्रिभुवन घर नहीं लौटे तो उनकी तलाश शुुरू की गई। उनका मोबाइल भी स्विच ऑफ था। परिजनों ने बुधवार को महुली थाने में गुमशुदगी दर्ज कराया। बृहस्पतिवार को खेत की सिंचाई करने गए कुछ लोगों ने गेहूं के खेत में शव देखा तो शोर मचाया।

मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। परिजनों ने शव की शिनाख्त त्रिभुवन के रूप में की। उसके शरीर पर अंडरवियर व फटी बनियान थी। थोड़ी दूर पर चप्पल व लोवर पड़ा था। उसकी मोबाइल भी गायब थी। जबकि मौके से दो सिम कार्ड बरामद हुआ। पिता बेचू राजभर ने हत्या कर शव को फेंके जाने की आशंका जाहिर की है। एएसपी असित श्रीवास्तव ने बताया कि सीने और जंघे में खरोच के निशान देखे गए। कान से भी हल्का खून निकला था। प्रथम दृष्टया गला दबाकर हत्या किए जाने की आशंका जताई जा रही है। इस मामले में अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर जांच पड़ताल शुुरू कर दी गई है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत की वजह स्पष्ट हो जाएगी।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन