विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

#9Pm9Minute: दीपों की जगमग रोशनी के साथ एकजुट नजर आए कानपुर सहित आसपास के जिले, देखें तस्वीरें

दुनियाभर में फैले कोरोना वायरस के संक्रमण से लड़ने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रविवार रात 9 बजे 9 मिनट तक लाइटें बंद करने की अपील का लोगों ने खुले दिल से समर्थन किया।

5 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

संत कबीर नगर

सोमवार, 6 अप्रैल 2020

एक लाख 10 हजार को तीन माह तक मुफ्त गैस सिलिंडर

एक लाख 10 हजार को तीन माह तक मुफ्त गैस सिलिंडर
- इंडियन आयल कंपनी के अधिकारियों ने दी जानकारी
संवाद न्यूज एजेंसी
संतकबीरनगर। जिले के एक लाख 10 हजार उज्ज्वला गैस योजना के लाभार्थी हैं। इन लाभार्थियों को तीन माह तक मुफ्त में गैस सिलिंडर मिलेगा। यह जानकारी बृहस्पतिवार को शहर के एक होटल में इंडियन आयल के जिला नोडल अधिकारी चंद्रकांत कुमार ने पत्रकार वार्ता में दी।
उन्होंने बताया कि कोरोना जैसी महामारी को देखते हुए सरकार ने उज्ज्वला गैस योजना के लाभार्थियों को तीन माह तक नि:शुल्क गैस सिलिंडर देने का निर्देश दिया गया है। इसके तहत हर लाभार्थी के खाते में सिलिंडर का पैसा भेज दिया जाएगा। लाभार्थी के खाते में पैसा पहुंचने पर उसके मोबाइल पर सूचना मिलेगी। उसके बाद वह गैस बुक कर सिलिंडर ले सकता है। यह योजना अप्रैल, मई और जून के लिए ही है। इसके साथ ही गैस पहुंचाने वाले कर्मियों का पाल लाख का बीमा भी है। अगर कोई कर्मी कोरोना से संक्रमित पाया जाता है और उसकी मृत्यु होती है तो उनके परिजनों को पांच लाख रुपये कंपनी की तरफ से दी जाएगी। उन्होंने कहा कि लोग घर से सिलिंडर को बुक करें, एजेंसी पर भीड़ न लगाए। लॉकडाउन का पूरी तरह से पालन करे। बुकिंग के बाद सिलिंडर उनके घर पर पहुंच जाएगा। पत्रकार वार्ता में प्रवीण चंद पांडेय समेत अन्य मौजूद रहे।
... और पढ़ें

मरकज दिल्ली से आए 15 लोगों की जांच रिपोर्ट निगेटिव

मरकज दिल्ली से आए 15 लोगों की जांच रिपोर्ट निगेटिव
- निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद प्रशासन ने ली राहत की सांस
संवाद न्यूज एजेंसी
संतकबीरनगर। मरकज दिल्ली से आए 15 लोग बुधवार को जिला अस्पताल में आइसोलेशन किए गए थे। उन सभी के लार की जांच मेडिकल कॉलेज गोरखपुर भेजी गई थी। सभी की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। जांच रिपोर्ट निगेटिव आने की सूचना पर प्रशासन ने राहत की सांस ली है।
दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज में तबलीगी जमात के लिए पूरे देश से काफी संख्या में लोग इकट्ठा हुए थे। दिल्ली पुलिस ने छापा मारकर कई लोगों को अस्पतालों में भर्ती कराया था, जिसमें से कई लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण मिलेे है। इसके बाद दिल्ली प्रशासन से तबलीगी जमात में शामिल लोगों की सूची जारी की। जिले के दुधारा क्षेत्र में भी 15 लोग 18 मार्च को जमात से लौटे थे। उनकी 26 मार्च को जांच हुई थी। सभी स्वस्थ्य मिले थे। दिल्ली की घटना के बाद स्वास्थ्य महकमे ने दुधारा क्षेत्र के बढ़या माफी में ठहरे इन सभी 15 लोगों को मंगलवार की देर रात जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करा दिया। इसके बाद उनके लार के नमूने की जांच के लिए मेडिकल कॉलेज गोरखपुर भेज दिया। बृहस्पतिवार की सुबह जांच रिपोर्ट आई। जिसमें सभी की रिपोर्ट निगेटिव मिली है। जिसके बाद प्रशासन ने राहत की सांस ली है। डीएम रवीश गुप्त ने बताया कि सभी 15 लोगों के लार के नमूने लेकर जांच के लिए मेडिकल कॉलेज गोरखपुर भेजा गया था। सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है। किसी में कोई भी संक्रमण नहीं मिला है।
... और पढ़ें

नूरी मस्जिद में रुकी जमात के 13 लोगों की हुई स्क्रीनिंग

नूरी मस्जिद में रुकी जमात के 13 लोगों की हुई स्क्रीनिंग
- सभी लोग स्वस्थ मिले, मस्जिद से हटाकर स्कूल में क्वारंटीन किया गया
संवाद न्यूज एजेंसी
मगहर(संतकबीरनगर)। कोरोना वायरस को लेकर लगातार सतर्कता बरती जा रही है। बृहस्पतिवार को मगहर कस्बे के शेरपुर मोहल्ले में स्थित नूरी मस्जिद में रुके कुल 13 लोगों की स्क्रीनिंग की गई। जिनमें सभी लोग स्वस्थ्य पाए गए। जिन्हें मस्जिद से निकालकर पास के प्राथमिक विद्यालय में क्वारंटीन किया गया है।
नगर के शेरपुर मुहल्ले में स्थित नूरी मस्जिद में मुजफ्फरनगर से आए 13 लोगों की जमात रुकी हुई थी। जिसे संज्ञान में लेते हुए जिला प्रशासन ने फौरन डॉक्टर दीपक के नेतृत्व में एलटी शिव नंदन, जीएनएम शालिनी पांडेय, आनंद कुमार की टीम द्वारा सभी लोगों की स्क्रीनिंग की गई। डॉक्टर दीपक ने बताया कि सभी की रिपोर्ट निगेटिव पाई गई। इस संबंध में कोतवाल गौरव सिंह ने बताया कि सूचना मिली कि मगहर के शेरपुर मोहल्ले में स्थित नूरी मस्जिद में कुछ जमाती रुके हुए हैं। जिनकी स्थानीय लोगों की मदद से नगरीय स्वास्थ्य सेंटर मगहर के डॉक्टरों के द्वारा स्क्रीनिंग कराई गई है। जिसमें सभी स्वस्थ पाए गए। इसके साथ ही सतर्कता बरतते हुए सभी को पास के प्राथमिक विद्यालय में बने क्वारंटीन सेंटर पर 14 दिनों तक रखा जाएगा।
... और पढ़ें

बेकरी संचालक ने मासूम संग किया दुष्कर्म

बेकरी संचालक ने मासूम संग किया दुष्कर्म
- डॉक्टरों ने रेप की पुष्टि की, आरोपी फरार
अमर उजाला ब्यूरो
धनघटा(संतकबीरनगर)। क्षेत्र के एक गांव निवासी पांच वर्षीय बच्ची के साथ आंबेडकरनगर के रहने वाले बेकरी संचालक ने दुष्कर्म किया। बच्ची गांव में स्थित एक मकान में अचेतावस्था में पाई गई। जिसे सीएचसी मलौली ले जाया गया। पुलिस ने इस मामले में आरोपी युवक के खिलाफ केस दर्ज किया है।
पीड़ित बच्ची के दादा का आरोप है कि छोटी बहू घर पर अपने पांच वर्षीय बेटी के साथ रहती है। बेटा मुंबई में रहकर प्राईवेट नौकरी करता है। शनिवार की शाम पांच वर्षीय पौत्री गांव में स्थित एक मकान में बेहोश मिली। गांव बच्चे खेलते हुए उस मकान में पहुंचे तो बच्ची को बेहोश पाया। शोर मचाने पर घर के लोग और आसपास के लोग पहुंच गए। उस मकान में बेकरी का काम होता है। उसे संचालित करने वाला फरार था। बच्ची को बेहोशी की हालत में सीएचसी मलौली ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उपचार के दौरान बताया कि बच्ची के साथ दुष्कर्म किया गया है। डॉक्टरों ने उपचार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी। पीड़ित परिजनों ने घटना की सूचना थाने पर दी। एसओ अखिलानंद उपाध्याय ने बताया कि इस मामले में आंबेडकरनगर जिले के हंसवर निवासी हसन के खिलाफ दुष्कर्म और पॉस्को एक्ट समेत अन्य गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर आरोपी का तलाश की जा रही है। जल्द ही आरोपी को पकड़ लिया जाएगा।
... और पढ़ें

पोखरे में मिली महिला की लाश

पोखरे में मिली महिला की लाश
- दो बच्चों के साथ घर पर रहती थी महिला
- पति और बड़ा बेटा गुजरात में
अमर उजाला ब्यूरो
रोसया बाजार। धनघटा क्षेत्र के कुड़वा गांव के कुड़निया टोले के पोखरे में रविवार को एक महिला की लाश मिली। सूचना पर आसपास के लोगों के साथ पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
कुड़वा गांव के कुड़निया टोले की रहने वाली 35 वर्षीय प्रेमशीला पत्नी रामरक्षा अपने दो बच्चे दस वर्षीय प्रमिंस और सात वर्षीय गोविंद के साथ घर पर रहती थी। जबकि बेटी 12 वर्षीय अंशिका अपने ननिहाल गांव फरेनिया में रहती है। पति रामरक्षा गुजरात में काम के सिलसिले में हैं। उनके साथ बड़ा बेटा 15 वर्षीय बेटा प्रिंस भी है।
रविवार की सुबह गांव के कुछ लोग पोखरे के किनारे नित्य क्रिया के लिए गए थे। उसी दौरान पोखरे में महिला की लाश देखकर शोर मचाए तो आसपास के लोग जुट गए। सूचना पर पौली चौकी प्रभारी चंदन कुमार मौके पर पहुंच गए और शव को पोखरे से बाहर निकलवाया। शव की पहचान प्रेमशीला पत्नी रामरक्षा के रूप में हुई। ग्रामीणों ने बताया कि महिला की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी। दवा भी चल रहा था। चौकी इंचार्ज चंदन कुमार ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही महिला के मौत की वजह का पता चल पाएगा। उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

क्वारंटीन सेंटर पर युवक को बुखार और खांसी आने से मचा हड़कंप

क्वारंटीन सेंटर पर युवक को बुखार और खांसी आने से मचा हड़कंप
- सूचना पर एसडीएम ने युवक को एंबुलेंस से भेजवाया जिला अस्पताल
- जांच के बाद लक्षण न मिलने पर प्रशासन ने ली राहत की सांस
संवाद न्यूज एजेंसी
धनघटा। जूनियर हाईस्कूल धनघटा में बने क्वारंटीन सेंटर में मौजूद युवक को रविवार की सुबह तेज खांसी और बुखार आ गया। जिससे वहा मौजूद लोगों में हड़कंप मच गया। किसी ने इसकी सूचना एसडीएम को दिया तो उन्होंने उक्त युवक को जिला अस्पताल भेजवाया, जहां जांच के बाद युवक में कोरोना के लक्षण नहीं मिले। जिसके बाद प्रशासन ने राहत की सांस ली।
एसडीएम प्रमोद कुमार ने बताया कि धनघटा निवासी एक युवक नोएडा से आया था। जिसे धनघटा में स्थित जूनियर हाईस्कूल के क्वारंटीन सेंटर में रखा गया था। रविवार की सुबह उसकी तबियत खराब होने की सूचना मिली तो उसे एंबुलेंस द्वारा जिला अस्पताल भेजवाया गया। इधर युवक के बीमारी को लेकर गांव में तरह-तरह की चर्चा होने लगी। एसडीएम का कहना है कि युवक की तबियत साधारण रुप से खराब है। इससे घबराने वाली कोई बात नहीं है। इलाज के लिए उसे जिला अस्पताल भेजा गया है। जहां इलाज के दौरान उसकी हालत में सुधार होने की सूचना है। इस संबंध में डीएम रवीश गुप्त ने बताया कि युवक की जांच जिला अस्पताल में हुई है, वह स्वस्थ्य है। कोरोना के कोई लक्षण नहीं मिले है।
... और पढ़ें

क्वारंटीन केंद्र छोड़कर घर जाने वालों की खैर नहीं

क्वारंटीन केंद्र छोड़कर घर जाने वालों की खैर नहीं
एसओ धर्मसिंहवा ने केंद्रों का निरीक्षण कर दी चेतावनी
धर्मसिंहवा (संतकबीरनगर)। एसओ धर्मसिंहवा रविंद्र कुमार शनिवार को क्वारंटीन केंद्रो का निरीक्षण किया। ‘अमर उजाला’ में छपी ‘खा रहे क्वारंटीन में और सोने जा रहे हैं घर’ खबर का संज्ञान में लेते हुए उन्होंने क्षेत्र के क्वारंटीन केंद्रों का निरीक्षण किया। हालांकि निरीक्षण के दौरान केंद्र पर प्रवासी मौजूद मिले।
एसओ ने कहा कि महामारी के इस दौर में स्वास्थ्यकर्मियों सहित अन्य विभाग के लोग पूरी ताकत लगाकर देश को बचाने में जुटे हैं और कुछ लोग इस अभियान को पलीता लगाने में लगे हैं। अगर कोई भी व्यक्ति सेंटर छोड़कर रात्रि में अपने घरों को विश्राम करने के लिए गया तो तुरंत मुकदमा लिखा जाएगा। किसी भी प्रकार की ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। थानाध्यक्ष ने ग्राम प्रधानों को निर्देशित करते हुए कहा कि क्वारंटीन सेंटरों पर नजर बनाए रखें। अगर कोई भी व्यक्ति नदारद मिलता है तो उसकी सूचना दें। धर्मसिंहवा में कुल 17 लोगों को केंद्र पर रखा गया है। निरीक्षण के दौरान सभी मौजूद मिले। एसओ ने बताया कि छिबरा केंद्र पर रखे गए लोगों के बारे में सूचना मिली है कि वहां के लोग रात्रि में घरों को चले जाते हैं।
... और पढ़ें

क्वारंटीन 13 जमातियों को खलीलाबाद किया गया शिफ्ट

एसओ धर्मसिंहवा ने क्वांरटीन सेंटर का किया निरीक्षण ।
13 क्वारंटीन जमातियों को खलीलाबाद किया गया शिफ्ट
मगहर (संतकबीनगर)। नगर पंचायत मगहर के मोहल्ला शेरपुर स्थित नूरी मस्जिद में मिले 13 जमातियों की स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा स्क्रीनिंग के बाद शुक्रवार को क्वारंटीन किए गए सभी जमातियों को खलीलाबाद स्थित लाल मैरिज हॉल में शिफ्ट किया गया है।
कोरोना वायरस के कारण पूरे देश में लॉकडाउन है। इस महामारी से लड़ने के लिए लोगों से सामाजिक दूरी बनाए रखने की अपील की जा रही है। इसी के मद्देनजर बृहस्पतिवार को मगहर के शेरपुर मोहल्ले में स्थित नूरी मस्जिद में मुजफ्फरनगर से आकर रुकी जमात के लोगों की डॉ. दीपक के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने स्क्रीनिंग की। इन्हें मगहर में ही संतकबीर इंटर कॉलेज में क्वारंटीन किया गया था। जिला प्रशासन ने शुक्रवार को खलीलाबाद स्थित लाल मैरिज हॉल में शिफ्ट कर दिया। इस संबंध में जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. एके सिन्हा ने बताया कि सभी को खलीलाबाद शिफ्ट किया गया है, जहां टीम निगरानी कर रही है।
... और पढ़ें

क्वारंटीन केंद्र बनकसिया से फरार हुए सात परदेसी

क्वारंटीन केंद्र बनकसिया से फरार हो गए सात परदेसी
सूचना मिलते ही प्रशासन के फूले हाथ-पांव, तीन पकड़े गए
मेंहदावल (संतकबीरनगर)। ग्राम पंचायत बनकसिया में स्थित जूनियर हाईस्कूल को क्वारंटीन केंद्र बनाया गया है। जहां सात लोग क्वारंटीन थे। शुक्रवार को सातों परदेसी फरार हो गए। ग्राम प्रधान ने प्रशासन को सूचना दी गई तो आननफानन में पहुंचे एसओ ने काफी मशक्कत के बाद तीन परदेसियों को दबोच लिया और जिले पर बने क्वारंटीन केंद्र पर भेज दिया।
एसओ करुणाकर पांडेय ने बताया कि बनकसिया केंद्र पर सात लोग रोके गए थे। बीती रात सात लोग फरार हो गए। इसकी सूचना मिली तो तत्काल कार्रवाई करते हुए तीन को पकड़कर जिले पर बने केंद्र पर भिजवा दिया गया है। जबकि चार की तलाश की जा रही है। यदि अधिकारियों का निर्देश मिला तो अभियोग भी पंजीकृत किया जाएगा। उधर, क्षेत्र के ग्राम पंचायत दादरा में स्थित प्राथमिक विद्यालय को क्वारंटीन केंद्र में परदेश से लौटे नौ लोगों को रखा गया है। इस केंद्र पर रहने वाले लोग लगातार केंद्र का वीडियो वायरल कर विवाद कर रहे हैं। प्रधान कलावती देवी की सूचना पर एसओ करुणाकर पांडेय ने शुक्रवार की देर शाम क्वारंटीन केंद दादरा पहुंचे और मामले की जांच करने के साथ ही ग्राम प्रधान की शिकायत को गंभीरता से लेते केंद्र पर रह रहे लोगों को कड़ी फटकार लगाई। एसओ ने क्वारंटीन केंद्र पर गांव के किसी भी व्यक्ति के प्रवेश पर रोक भी लगा दी है।
सीओ ने गश्त कर जाना लॉकडाउन का हाल
मेंहदावल। सीओ मेंहदालव गयादत्त मिश्र के नेतृत्व में पुलिस ने पैदल गश्त करते हुए कस्बे में लॉकडाउन का हाल जाना। बेवजह रोड पर टहलने वालों को फटकार लगाई। सीओ ने सीएचसी तिराहा से लेकर अंजरिया बाजार व बहबोलिया, उत्तर पट्टी, चौक बाजार आदि स्थानों पर गश्त किया। कुछ लोगों को सड़क पर आते-जाते देख रोककर पूछताछ की। इस दौरान एसओ करुणाकर पांडेय, एसआई राधेश्याम, नत्थू प्रसाद, कांस्टेबल संजीव यादव, राम बहादुर यादव, रत्नेश सिंह, संतोष सिंह, विशाल सिंह, पवन मद्धेशिया, अखिलेश पांडेय आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

संतकबीर नगर: मामूली बात को लेकर घर में हुआ झगड़ा, नाराज भाई-बहन ने उठा लिया ये खतरनाक कदम

उत्तर प्रदेश के संतकबीर नगर के महुली थाना क्षेत्र के ग्राम धवरेपार बढ़या निवासी सगे भाई बहन अज्ञात कारणों से जहरीला पदार्थ खा लिया। हालत गंभीर होने पर परिजन सीएचसी केंद्र नाथनगर लेकर पहुंचे। हालत में सुधार होता न देख चिकित्सकों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया है।

क्षेत्र के काली जगदीशपुर चौकी क्षेत्र के ग्राम धवरेपार बढ़या निवासी रंजीत हरिजन के घर में शुक्रवार की देर शाम को किसी बात को लेकर विवाद होने लगा। इसी दौरान 18 वर्षीय पुत्री गुड़िया तथा 22 वर्षीय पुत्र गुड्डू ने जहरीला पदार्थ खा लिया। दोनों बच्चो की तबियत खराब होने लगी। मुंह से झाग निकलता देख परिजन उपचार के लिए सीएचसी केंद्र नाथनगर लेकर गए।

हालत में सुधार होता ना देख चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जहां उनका उपचार चल रहा है। इस मामले को लेकर लोग अलग-अलग बात कह रहे है। भाई बहन ने किस कारण बस जहरीला पदार्थ खाया था। इसकी पुष्टि नहीं हो सकी।

 
... और पढ़ें

सेक्टर मजिस्ट्रेट की टीम शौकिया घूमने वालों पर रखेगी नजर

सेक्टर मजिस्ट्रेट की टीम शौकिया घूमने वालों पर रखेगी नजर
संतकबीरनगर। पड़ोस के जिले बस्ती के बाद महराजगंज में कोरोना से संक्रमित मरीजों के मिलने से सकते में आया प्रशासन अपनी तैयारी तेज कर दी है। जिले को 19 सेक्टर में बांट कर सेक्टर मजिस्ट्रेटों की तैनाती करने की रणनीति बनाई है। इन सेक्टरों में नियुक्त होने वाले मजिस्ट्रेटों के सहयोग में आशा,एएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को भी लगाया है। इसके साथ ही सब इंस्सपेक्टर और सिपाही भी लगाए गए है। सभी अपने- अपने सेक्टर मेें भ्रमणशील रहेंगे।ब्लॉक मुख्यालय अथवा पुलिस चौकी स्तर पर कंट्रोल रूम भी स्थापित किए जांएगे। सेक्टर मजिस्ट्रेट अपने क्षेत्र में जरूरमंद लोगों को सुविधाएं तो मुहैया कराएंगे ही,साथ में सड़क और गलियों में वेबजह घूमने वालों पर सख्ती भी करेंगे।
एसटीएफ की ओर से तब्लीगी जमात से संबंधित लोगों की सूची जारी कर दी है। हालांकि संतकबीनगर में उस सूची में कोई नाम नहीं है। इसमें पुलिस को निर्देश है कि सूची में शामिल लोगों के मोबाइल नंबर सर्विलांस पर लगाए और उनसे जुड़े लोगों की पहचान करें। ऐसे लोगों के निकटस्थ लोगों का पता लगाए और उनका लोकेशन पता करें। ऐसा करके इन लोगों की स्वास्थ्य जांच कराने की मंशा है,ताकि कोरोना को रोका जा सकें। इधर लॉकडाउन के बाद भी बेवजह लोग घरों से निकल कर शौकिया घूम रहे है। डीएम रवीश गुप्त ने कहा कि जिले को 19 सेक्टर में बांटा गया है। सभी सेक्टर में सेक्टर मजिस्ट्रेट और सेक्टर पुलिस अधिकारी की तैनाती किए जाने का प्लान है। ऐसा करके जिले को घेराबंदी कराई जाएगी ,ताकि लॉक डाउन और उसके बाद की स्थिति पर नियंत्रण पाया जा सकें। सेक्टर मजिस्ट्रेट और सेक्टर पुलिस अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में घूमेंगे। इन्हीं की जिम्मेदारी होगी कि उनके क्षेत्र में रहने वाले लोगों को सब्जी,दूध और खाद्य सामग्री की आपूर्ति समुचित तरीके से होती रहे।
इन्हीं लोगों को दायित्व दिया गया है कि शौकिया कोई सड़क पर न घूमने पाएं। इनके सहयोग में आशा, एएनएम,आंगनबाड़ी कार्यकर्ता आदि लगाई जाएगी। डॉक्टरो को रूकने के लिए शहर में दो बड़े होटलों की व्यवस्था कराई गई है। उनके खाने-रहने के साथ आदि सुविधाएं दी गई है। फैसिलिटी अफसर की भी तैनाती की जाएगी। बैकों में भीड़भाड़ न हो और सामाजिक दूरी बनी रहे,इसके लिए वहां निगरानी कराई जाएगी। एसपी ब्रजेश सिंह ने कहा कि 112 नंबर की टीम को लॉक डाउन का प्रभावी रूप से अनुपालन कराने में लगाया गया है। अब 112 नंबर सामान्य काल को कंट्रोल रूप को ट्रांसफर कर देंगे। रात्रि समय में भी सेक्टर मजिस्ट्रेट और सेक्टर पुलिस अधिकारी रूके,इसके लिए निकट के ब्लॉक अथवा चौकियों पर व्यवस्था रहेगी। बस्ती जिले की सीमा पर कांटे, बाघनगर, कुशहवा और बेलहर कला क्षेत्र की सीमा पर कड़ी चौकसी बरतने की हिदायत दी गई है। इसके साथ ही पुलिस कार्यालय में कोविड सेल गठित किया गया है।
... और पढ़ें

खाना क्वारंटीन सेंटर पर और सो रहे घर

खाना क्वारंटीन सेंटर पर और सो रहे घर
- क्वारंटीन केंद्रों पर अव्यवस्थाओं से ग्रामीणों में रोष
संवाद न्यूज एजेंसी
मेंहदावल (संतकबीरनगर)। 29 मार्च से परदेस से लौटे लोगों को गांव के सरकारी भवनों पर बने क्वारंटीन सेंटरों पर 14 दिनों तक निगरानी में रखने की व्यवस्था है। इसमेें से अधिकांश केंद्रों पर लोग खाना खाने के बाद रात घर पर बिता रहे हैं। जिससे गांव वालों में रोष है।
मेंहदावल विकास खंड के 87 ग्राम पंचायत है। जिसमें करीब 24 गांव छोड़कर लगभग सभी ग्राम पंचायतों में क्वारंटीन सेंटर बनाया गया है। इसमें बाहर से आए लोगों को 14 दिन क्वारंटीन में रखा गया है। घूरापाली ग्राम पंचायत में बने क्वारंटीन केंद्र पर 15 लोग रखे गए हैं वहां व्यवस्था न होने पर बृहस्पतिवार को लोगों ने प्रदर्शन किया। इसी तरह से डडिया कला केंद्र पर रखे गए पांच लोगों ने भोजन न मिलने से नाराजगी जताते हुए बृहस्पतिवार को प्रदर्शन किया था। यही हालत जमुरिया खुर्द ग्राम पंचायत में देखने को मिला जहां केंद्र पर रखे गए आठ लोगों अव्यवस्था पर सवाल खड़े किए और शासन तक शिकायत दर्ज कराई। सीयर ग्राम पंचायत बने केंद्र पर परदेसी भोजन तो केंद्र पर उठा रहे हैं शाम ढलते ही घर जा रहे हैं। ग्राम प्रधान भी चाहकर भी इन परदेसियों को निर्धारित केंद्र पर रोकने से इसलिए नाकाम हो रहे हैं। परिजन भी व्यवस्था पर सवाल खड़े कर रहे हैं। ऐसे कई केंद्र हैं जहां के ग्राम प्रधानों ने बताया कि केंद्र पर रुके लोग तरह-तरह की फरमाइश कर रहे हैं। जिसे पूरा करना उनके बस की बात नहीं है। एडीओ पंचायत मैनुद्दीन सिद्दीकी ने बताया कि क्वारंटीन केंद्रों पर व्यवस्था सुदृढ़ की गई है। कुछ लोग अनावश्यक रूप से शिकायत दर्ज करा रहे है। जांच में शिकायतों की पुष्टि नहीं हो पा रही है। क्वारंटीन केंद्रों पर व्यवस्था सुनिश्चित कराने के साथ ही लोगों की निगरानी कराई जा रही है।
... और पढ़ें

एसओ ने ट्वीटर की सूचना पर दिव्यांग को पहुुंचाया खाद्य सामग्री

अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us