विज्ञापन

मेरठ

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

गिरोह का पर्दाफाश: समुद्र के रास्ते विदेश में बेचते थे चोरी के मोबाइल, निशाने पर रहते थे आईफोन, गैंग का सरगना फरार 

मेरठ में एसओजी और देहली गेट पुलिस ने लूटे गए मोबाइल मुंबई से समुद्र के रास्ते विदेश में बेचने वाले गैंग का पर्दाफाश किया है। पांच आरोपियों को घंटाघर टाउन हॉल के पास से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उनके पास से दस लाख रुपये कीमत के 20 मोबाइल बरामद किए हैं। अंतरराष्ट्रीय गैंग का सरगना शरद गोस्वामी फरार है।

पुलिस लाइन में आयोजित प्रेसवार्ता में एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि इनाम निवासी गली नंबर 25 फतेहउल्लापुर, अरशद निवासी गली नंबर 27 फतेहउल्लापुर लिसाड़ी गेट, अनस निवासी मकबरा डिग्गी रेलवे रोड, मेहताब निवासी सुहेल गार्डन लिसाड़ी गेट और नाजिम निवासी शौकीन गार्डन लिसाड़ी गेट को गिरफ्तार किया है, जबकि महफूज निवासी खत्ता रोड ब्रह्मपुरी और इमरान निवासी मकबरा डिग्गी रेलवे रोड फरार हैं। 

मुख्य आरोपी इनाम ने बताया कि वह अपने साथी अरशद, अनस, मेहताब और नाजिम से मोबाइल लूट कराता था। इसके बाद इनाम पांच से दस हजार में चारों से मोबाइल खरीदकर 20-25 हजार रुपये में मोबाइल माफिया शरद गोस्वामी और महफूज को बेच देता था। शरद इन मोबाइल को थाइलैंड, बांग्लादेश समेत कई देशों में बेचता था। एसपी सिटी का कहना है कि शरद के पकड़े जाने के बाद साफ होगा कि उसने कब और किस-किस देश में मोबाइल बेचे।

यह भी पढ़ें: 
कंचन की मोहब्बत: झूठा निकला रोहित का प्यार, शादी करना चाहती थी... पर मार डाला, खौफनाक है पूरी वारदात
... और पढ़ें

कंचन की मोहब्बत: झूठा निकला रोहित का प्यार, शादी करना चाहती थी... पर मार डाला, खौफनाक है पूरी वारदात

कंचन शर्मा की तीन महीने पहले रोहित से मुलाकात हुई। इसके बाद दोनों के बीच दोस्ती हो गई और फिर दोस्ती प्यार में बदल गई। कंचन रोहित से सच्ची मोहब्बत करने लगी और रोहित से ही शादी करने की बात कही। लेकिन रोहित शादी करने से पीछे हट रहा था। इसके बाद कंचन ने शादी का दवाब बनाया तो रोहित शादी करने से आनाकानी करने लगा। फिर भी कंचन शादी करने की जिद पर अड़ी रही। एक दिन कंचन शादी करने के लिए रोहित के पास आ गई और रोहित उसे कार में बैठाकर जंगल में ले गया, जहां उसने अपने दोस्तों के साथ मिलकर कंचन की हत्या कर डाली। 

ये है मामला
मेरठ में हस्तिनापुर थाना क्षेत्र के सैफपुर कर्मचंदपुर गांव की युवती कंचन शर्मा (22) पुत्री हरिशंकर शर्मा छह दिसंबर को घर से गई थी, लेकिन वापस नहीं लौटी। बेटी के घर वापस नहीं लौटने पर परिजनों ने पुलिस से इसकी शिकायत की। वहीं पुलिस ने मामले की छानबीन करते हुए हस्तिनापुर कस्बा निवासी परचून दुकानदार रोहित व उसके दो दोस्त सौरभ और राहुल को गिरफ्तार कर लिया। तीनों आरोपियों ने पूछताछ में कंचन की हत्या कर भीमकुंड गंगा पुल से फेंकना स्वीकार किया है। 
... और पढ़ें

प्यार में धोखा: शादी की जिद करने पर प्रेमिका को उतारा मौत के घाट, प्रेमी और दोस्तों ने कबूला जुर्म, अभी नहीं मिली लाश

शादी करने की जिद पर अड़ी प्रेमिका की प्रेमी ने हत्या कर शव गंगा में फेंक दिया। पुलिस ने प्रेमी रोहित और उसके दोस्त सौरभ व राहुल को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में तीनों आरोपियों ने हत्या करना स्वीकार कर लिया। बुधवार को दिनभर पुलिस व पीएसी ने हस्तिनापुर स्थित भीमकुंड गंगा में सर्च अभियान चलाया, लेकिन शव बरामद नहीं हुआ।

हस्तिनापुर थाना क्षेत्र के सैफपुर कर्मचंदपुर गांव की युवती कंचन शर्मा (22) पुत्री हरिशंकर शर्मा छह दिसंबर को घर से गई थी, लेकिन वापस नहीं लौटी। परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने हस्तिनापुर कस्बा निवासी परचून दुकानदार रोहित व उसके दो दोस्त सौरभ और राहुल को बुधवार को गिरफ्तार किया। तीनों आरोपियों ने पूछताछ में कंचन की हत्या कर भीमकुंड गंगा पुल से फेंकना स्वीकार किया। 

पुलिस के मुताबिक रोहित ने बताया कि कंचन शादी करने का दबाव बना रही थी, जिसके चलते उसने दोस्तों के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी। तीनों आरोपी शुरुआत में पुलिस को गुमराह करते रहे। कभी शव को जलाने तो कभी खेत में गाड़ने की बात कही। लेकिन सख्ती से पूछताछ की तो टूट गए। इसके बाद पुलिस और पीएसी की टीम ने नदी में शव की तलाश की। दिनभर गोताखोर लगे रहे, लेकिन शव नहीं मिला।

यह भी पढ़ें: 
भीषण आग से मचा हाहाकार : दुकान के भीतर जलती रहीं तीन जिंदगी, गूंजती रही बेबस परिजनों की चीत्कार
... और पढ़ें

शराब बनी मौत: मजदूर ने पेंटर को ईंट से कूचकर मार डाला, परिवार ने लगाए गंभीर आरोप

नहटौर में शराब पीने के दौरान हुए विवाद में एक मजदूर ने एक पेंटर की ईंट से कूचकर हत्या कर दी। दोनों झोपड़ी में बैठकर शराब पी रहे थे इसी दौरान हुए विवाद में दोनों के बीच मारपीट हो गई। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बिना बताए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने पर भारी संख्या में ग्रामीण थाने पहुंचे।

वीके इंटरनेशनल स्कूल के पीछे एक मकान के निर्माण चल रहा है। बताया जाता है कि मकान के निर्माण में गांव चौहरा निवासी जाॅनी मजदूरी का काम कर रहा था। जॉनी बुधवार को गांव के ही कपिल कुमार 28 वर्ष को रंगाई-पुताई का ठेका दिलाने की बात कहकर साथ लेकर आया था। काम खत्म होने के बाद दोनों निर्माणाधीन मकान के पास एक झोपड़ी में बैठकर शराब पीने लगे।
... और पढ़ें
मृतक की फाइल फोटो मृतक की फाइल फोटो

बिजनौर:  नजीबाबाद के एक होटल में मिला शव, गला रेत कर की गई हत्या

खौफनाक: 12वीं की छात्रा से होटल में सामूहिक दुष्कर्म, विरोध करने पर अश्लील वीडियो किया वायरल

मेरठ में लिसाड़ीगेट की इंटर की छात्रा को अगवा कर दो युवक होटल में ले गए और सामूहिक दुष्कर्म किया। आरोपियों ने छात्रा का वीडियो बनाकर उसे ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। विरोध करने पर वीडियो वायरल कर दिया। छात्रा के पिता ने एसएसपी से इंसाफ की गुहार लगाई। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। 

लिसाड़ीगेट के एक मोहल्ले की रहने वाली किशोरी माधवपुरम स्थित कॉलेज में इंटर की छात्रा है। मंगलवार सुबह छात्रा अपने पिता के साथ एसएसपी ऑफिस पर पहुंची। छात्रा ने आरोप लगाया कि 14 दिसंबर को लिसाड़ी गांव निवासी तालिब और उसका दोस्त मोहसिन उर्फ मोमीन उसे अगवा करके दिल्ली रोड स्थित होटल सैंडलवुड ले गए। दोनों युवकों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और अश्लील वीडियो बना लिया। किसी को कुछ बताने पर जान से मारने और वीडियो वायरल करने की धमकी दी। 

पीड़िता ने हिम्मत दिखाई और उनके सामने झुकी नहीं। उसने अपने परिजनों को जानकारी दी। परिजनों ने आरोपियों से वीडियो डिलीट करने को कहा, लेकिन वे नहीं माने। सोमवार को छात्रा की वीडियो वायरल कर दिया। एसएसपी के निर्देश पर दोनों आरोपियों के खिलाफ अपहरण, सामूहिक दुष्कर्म व आईटी एक्ट की धारा में रिपोर्ट दर्ज की गई। सीओ कोतवाली अरविंद चौरसिया ने पुलिस की टीम गठित की और दबिश देकर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने होटल में जाकर साक्ष्य भी जुटाए।

यह भी पढ़ें: 
टूट गए जिंदगी के वादे: जिनके साथ लिए सात फेरे, उन्हीं को उतारा मौत के घाट, खौफनाक हैं दो विवाहिता के मर्डर की कहानियां
... और पढ़ें

दिल्ली: एनसीआर से करीब 3000 गाड़ियां चोरी कर चुका है आरोपी, पुलिस ने साथी समेत किया गिरफ्तार

हर रात दो लग्जरी एसयूवी गाड़ियां चोरी करने वाले पश्चिम उत्तर-प्रदेश के नामी वाहन चोर को मध्य जिला के एएटीएस (एंटी ऑटो थेफ्ट स्क्वायड) ने मुठभेड़ के बाद दबोच लिया है। रानी झांसी रोड पर शनिवार तड़के हुई मुठभेड़ में बदमाशों ने पुलिस टीम पर गोली चला दी। गनीमत यह रही कि गोली पुलिस टीम की कार के बोनट पर लगी। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में बदमाश टांग में गोली लगने से जख्मी हो गया। आरोपी को काबू कर लेडी हार्डिंग अस्पताल भेजा गया।

पकड़े गए आरोपियों की पहचान गांव जाहिदपुर, मेरठ निवासी इश्तियाक उर्फ सूखा (40) और गांव बसाइच, जानसठ, मुजफ्फरनगर निवासी आकिल (35) के रूप में हुई है। आरोपी इश्तियाक दिल्ली-एनसीआर से रोजाना दो लग्जरी एसयूवी गाड़ियां चोरी करता था। पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने खुलासा किया है कि वह 2009 से अब तक 3000 से अधिक गाड़ियां चोरी कर चुका है। कार चोरी कर वह मेरठ के रिसीवर को बेचता था। बाद में इन कारों के इंजन व चेसिस नंबर बदलकर उत्तर-पूर्वी राज्यों में बेच दिया जाता था।
... और पढ़ें

आखिर हुआ पर्दाफाश: पांच साल तक सोती रही पुलिस, चौकी के पास चलती रही अवैध हथियारों की फैक्टरी, सरगना समेत छह गिरफ्तार

वाहन चोरी के आरोपी
मेरठ में पुलिस ने जाकिर कॉलोनी चौकी के पास पांच साल से चल रही अवैध हथियारों की फैक्टरी का खुलासा करते हुए सरगना समेत छह बदमाश गिरफ्तार किए हैं। एसएसपी ने दावा किया है कि यह गिरोह 4200 अवैध पिस्टल बेचकर 12.60 करोड़ रुपये कमा चुका है। पिछले काफी समय से ये चुनाव में खपाने के लिए पिस्टल तैयार कर रहे थे। 

पुलिस लाइन में बुधवार को प्रेस वार्ता करते हुए एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने बताया कि इस गिरोह का सरगना इरशाद हर महीने औसतन प्रतिमाह 70 अवैध पिस्टल बना रहा था। आरोपी एक पिस्टल 30 हजार रुपये में बेचते थे। बीते पंद्रह दिन से पिस्टलों की डिमांड बढ़ रही थी। इसके चलते इरशाद ने मिस्त्री राशिद के साथ कारीगरों की संख्या भी बढ़ा दी। यह गिरोह मेरठ, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, शामली, बुलंदशहर, हापुड़, गाजियाबाद और अलीगढ़ समेत वेस्ट यूपी के कई जिलों में असलहे सप्लाई करता था। मुखबिर की सूचना पर एसओजी टीम ने पहले सादी वर्दी में जाकर आशियाना कॉलोनी में पूरी जानकारी जुटाई और फिर छापा मारकर घर में चल रही फैक्टरी पकड़ ली। एसएसपी ने एसओजी टीम को 25 हजार का इनाम दिया है। 

कम उम्र के लड़कों को किया ट्रेंड, प्रतिदिन देते थे 1000 रुपये 
पुलिस का कहना है कि लिसाड़ीगेट का राशिद तमंचे, पिस्टल और बंदूक बनाने में माहिर है। राशिद ने कम उम्र के लड़कों को असलहे बनाना सिखाया। एक हजार रुपये की मजदूरी देकर कम उम्र के लड़कों से घर में पिस्टल बनवा रहा था। 

चौकी के पास चलती रही फैक्टरी, सोती रही पुलिस  
पुलिस चौकी के पास असलहे बनाने का धंधा चलता रहा और पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी। इससे पुलिस के नेटवर्क और कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं। 

एसओजी ने फैक्टरी के पास किराये पर लिया था कमरा 
आशियाना कॉलोनी में एक सिपाही ने पहले किराये पर कमरा लिया। सादी वर्दी में घूमकर राशिद के घर की पूरी जानकारी जुटाई। कौन-कौन हथियार बनाने के लिये वहां पर आते हैं, उनकी जानकारी जुटाई। करीब एक सप्ताह से एसओजी की टीम आशियाना कॉलोनी में लगी थी। सटीक जानकारी मिलने पर ही एसओजी और लिसाड़ीगेट पुलिस ने छापा मारा। 

यह भी पढ़ें: 
मर्डर की तस्वीरें: गोलियों से भूनकर पूर्व प्रधान की हत्या, फिर गांव में मनाया जश्न, आरोपी बोले- जो भी सामने आएगा मार देंगे
... और पढ़ें

पूर्व प्रधान मर्डर केस: मां-बेटी बोली- तेजपाल की हत्या का कोई पछतावा नहीं, जेल जाने से पहले कही ये बड़ी बात

मेरठ जनपद में जानीखुर्द क्षेत्र के नंगला गांव में हुई किठौली गांव के पूर्व प्रधान तेजपाल सिंह सैनी की हत्या के मामले में पुराना विवाद सामने आया है। बताया गया कि मुकदमेबाजी में मां-बेटी ने पूर्व प्रधान तेजपाल सिंह को मारा है। जेल जाने से पहले मां-बेटी बोली कि उनको पूर्व प्रधान की हत्या का कोई पछतावा नहीं है। तेजपाल को नहीं मारते तो वह हमें मरवा देता। उसके खिलाफ दर्ज केस ट्रायल पर आ गया था। इसके बाद से तनाव बढ़ता जा रहा था। पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश किया, जहां से उनको जेल भेजा गया।
 
जानी थाना क्षेत्र के किठौली गांव के पूर्व प्रधान तेजपाल सिंह सैनी मंगलवार दोपहर को बाइक पर गन्ना सोसाइटी मेरठ जा रहे थे, तभी नंगला गांव स्थित मंदिर के पास गोलियां बरसाकर उसकी हत्या कर दी। वारदात के बाद एक महिला अपनी बेटी को लेकर जानी थाने में पहुंची और बोली हमने पूर्व प्रधान की हत्या कर दी। 
... और पढ़ें

खौफनाक थी वारदात: मां-बेटी ने इंस्पेक्टर की मेज पर रखी पिस्टल, बोली- तेजपाल को मार डाला, सुनकर अफसर भी हैरान

मेरठ में खौफनाक वारदात: शाहरुख की पीट-पीटकर हत्या, मौके पर पहुंची कई थानों की पुलिस फोर्स

उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर में बुधवार रात को एक सनसनीखेज वारदात हो गई। यहां ब्रहमपुरी में एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। वारदात की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच की।
 
ये है मामला
बुधवार आधी रात को माधवपुरम चौकी के पीछे बाइक सवार काले जादू वाली गली निवासी शाहरुख उर्फ साबू पुत्र बाबू को अज्ञात युवकों ने पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। इसके बाद उसे वहीं पर फेंक कर फरार हो गए। वहीं देर रात शाहरुख की उपचार के दौरान हॉस्पिटल मौत हो गई। 

परिजनों ने शव रखकर लगाया जाम
गुरुवार सुबह परिजनों ने तारापुरी रोड पर शव रखकर जाम लगा दिया। सूचना पर एएसपी ब्रह्मपुरी कोतवाली और पुलिस मौके पर पहुंची। डेढ़ घंटे तक शव रोड पर रखकर जाम लगाकर हंगामा किया गया। पुलिस ने मृतक के दो दोस्तों को हिरासत में लिया है, जिनसे पूछताछ की जा रही है।

पुलिस के अनुसार शाहरुख उर्फ साबू पुत्र बाबू हरियाणा के रेवाड़ी में कबाड़ लेने-बेचने का काम करता था। वह वही रहता था लेकिन, बीच-बीच में मेरठ में आता रहता था।

यह भी पढ़ें: 
मर्डर की तस्वीरें: गोलियों से भूनकर पूर्व प्रधान की हत्या, फिर गांव में मनाया जश्न, आरोपी बोले- जो भी सामने आएगा मार देंगे

पुलिस अधिकारियों के समझाने के बाद परिजन शांत हो गए। इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। इस मामले में एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया जांच में दुर्घटना का मामला सामने आया है। युवक की माधवपुरम में स्कूटी सवार महिला से टक्कर हुई थी। महिला का केएमसी अस्पताल में उपचार चल रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें: खौफनाक मंजर: भरभराकर गिरा दो मंजिला मकान, इलाके में मची चीख-पुकार, देखिए हादसे की तस्वीरें
... और पढ़ें

आबूलेन बाजार में डकैती: बदमाशों ने कपड़ों के शोरूम में बोला धावा, सीसीटीवी कैमरे तोड़े, लाखों का सामान लेकर फरार

मेरठ में आबूलेन पर स्थित कपड़ों के शोरूम में मंगलवार रात बदमाशों ने धावा बोल दिया। बदमाशों ने सीसीटीवी कैमरे तोड़ दिए और शटर भी उखाड़ दिया। नगदी समेत लाखों का माल समेटकर बदमाश फरार हो गए। वहीं बुधवार सुबह दुकान पर पहुंचे व्यापारी ने मामले की जानकारी पुलिस को दी।

रेलवे रोड थाना क्षेत्र के देवपुरी निवासी भूपेंद्र सिंह की आबूलेन पर स्थित वर्धमान प्लाजा में सरदार जी एंपोरियम के नाम से कपड़ों का शोरूम है। मंगलवार रात बदमाशों ने शोरूम का शटर उखाड़कर वारदात को अंजाम दिया। इस दौरान बदमाशों ने सीसीटीवी कैमरे भी तोड़ गए। 

यह भी पढ़ें: 
मर्डर की तस्वीरें: गोलियों से भूनकर पूर्व प्रधान की हत्या, फिर गांव में मनाया जश्न, आरोपी बोले- जो भी सामने आएगा मार देंगे

वहीं बुधवार सुबह शोरूम पर पहुंचे व्यापारी ने शटर उखड़ा देखा तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। इसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी। जानकारी मिलने के बाद सदर बाजार पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन की। 

यह भी पढ़ें: खौफनाक मंजर: भरभराकर गिरा दो मंजिला मकान, इलाके में मची चीख-पुकार, देखिए हादसे की तस्वीरें

आबूलेन व्यापार संघ के संयुक्त सचिव राजवीर सिंह ने बताया कि बदमाश शोरूम से करीब 15 हजार रुपये नकद और लाखों का सामान ले गए। पीड़ित पक्ष ने थाने में तहरीर दी है।
... और पढ़ें

मर्डर की तस्वीरें: गोलियों से भूनकर पूर्व प्रधान की हत्या, फिर गांव में मनाया जश्न, आरोपी बोले- जो भी सामने आएगा मार देंगे

उत्तर प्रदेश के मेरठ जनपद में एक खौफनाक वारदात को अंजाम दिया गया। इस सनसनीखेज वारदात से गांव में दहशत फैल गई है। आरोपियों ने पूर्व प्रधान की हत्या कर गांव वालों से कहा जो भी सामने आएगा उसे मार देंगे। इस दौरान किसी ने भी हमलावरों के सामने आने की हिम्मत नहीं की। खास बात यह है कि इस हत्याकांड में दो महिलाएं (मां-बेटी) भी शामिल थी। वहीं वारदात के करीब आधा घंटे बाद दोनों महिलाओं ने थाने पहुंचकर सरेंडर कर दिया।  

ये है पूरा मामला
मेरठ-बागपत मार्ग स्थित नंगला गांव में मंदिर के पास किठौली के पूर्व प्रधान तेजपाल सिंह सैनी (55) की गोलियां बरसाकर हत्या कर दी गई। उनके बेटे अंकित को भी गोली मार दी गई। इसके बाद एक महिला अपनी बेटी के साथ थाने पहुंची और तेजपाल की हत्या करना स्वीकार किया। पुलिस ने मां-बेटी समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया, जबकि दो अन्य लोगों को भी नामजद किया है। तेजपाल पर गिरफ्तार युवती से दुष्कर्म करने का मुकदमा दर्ज था। 
... और पढ़ें
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00