विज्ञापन

बांदा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

बांदा: दुष्कर्म के बाद किशोरी की हत्या, आरोपी ने ट्रेन से कटकर दी जान

बांदा जिले के अतर्रा में बहन के घर आई किशोरी से बहनोई के भाई ने दुष्कर्म कर कुल्हाड़ी मारकर हत्या कर दी। किशोरी की बड़ी बहन पहुंची तो आरोपी धमकाते हुए भाग गया। देर रात आरोपी ने ट्रेन से कटकर जान दे दी।

घटना अतर्रा ग्रामीण क्षेत्र के एक पुरवा की है। करीब डेढ़ माह पूर्व बहन का प्रसव होने पर उसकी मदद के लिए 17 वर्षीय किशोरी सतना (मध्य प्रदेश) के एक गांव से आई थी। शनिवार देर शाम किशोरी को उसके जीजा का अविवाहित छोटा भाई नन्हे जबरन घसीटकर बड़े भाई राजा के मकान में ले गया।

यहां कमरे में बंद कर दुष्कर्म के बाद सिर में कुल्हाड़ी मारकर हत्या कर दी। घटना के समय बड़ा भाई राजा, लल्लू तथा अन्य परिजन घर पर नहीं थे। आहट मिलने पर बड़ी बहन पहुंची तो नन्हे धमकाता हुआ भाग निकला।

किशोरी को मृत देख बहन ने पति को फोन कर सूचना दी। साथ ही पुलिस को भी सूचना दी। क्षेत्राधिकारी सत्यप्रकाश शर्मा और इंस्पेक्टर अखिलेश मिश्रा फोर्स के साथ पहुंचे। किशोरी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। क्षेत्राधिकारी ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद दुष्कर्म आदि की स्थिति स्पष्ट होगी। आरोपी के जान देने के बाद क्षेत्र में सनसनी फैल गई।
... और पढ़ें

बांदा: चचेरे भाइयों ने सिपाही, उसकी मां और बहन की हत्या की, जमीन की रंजिश, बासी चावल फेंकने पर हुई वारदात

बांदा जिले में शहर कोतवाली क्षेत्र में जमीन की पुरानी रंजिश और दरवाजे पर बासी चावल फेंकने के मामूली विवाद में शुक्रवार की रात चचेरे भाइयों और महिलाओं ने प्रयागराज में तैनात सिपाही, उसकी बहन और मां की कुल्हाड़ी और बैट से पीट-पीटकर हत्या कर दी।

तीन हत्याओं से पुलिस-प्रशासन सकते में आ गया। चित्रकूट धाम मंडल के आईजी के. सत्यनारायण, डीएम आनंद कुमार सिंह और एसपी डा. एसएस मीणा रात में ही मौके पर पहुंचे और पूछताछ की।

सिपाही के बड़े भाई ने तीन चचेरे भाइयों, भाभी समेत 15 नामजद और दो अज्ञात पर हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने पूछताछ को कुछ नामजद आरोपियों समेत कई को हिरासत में लिया है।

पोस्टमार्टम के बाद सिपाही के शव को पुलिस ने मुक्तिधाम में गार्ड ऑफ ऑनर दिया। शुक्रवार की रात करीब साढ़े दस बजे प्रयागराज में रिजर्व गारद में तैनात सिपाही अभिजीत वर्मा उर्फ गोल्डी (27) पुत्र स्वर्गीय रामप्रसाद वर्मा, बहन निशा (25) और मां रमा देवी (50) को घर के बगल में रहने वाले चचेरे भाइयों और उनके घर की महिलाओं ने घर में घुसकर धारदार हथियारों से वारकर हत्या कर दी और फरार हो गए।

सिपाही अभिजीत का दोस्त दिलीप भी घायल हो गया। हमले के समय अभिजीत मोबाइल पर सीतापुर में पीएसी सिपाही की ट्रेनिंग ले रहे बड़े भाई सौरभ वर्मा से बात कर रहा था। फोन पर चीख-पुकार सुनकर सौरभ ने यूपी-112 को सूचना दी।
... और पढ़ें

बांदा: पति ने धारदार हथियार से पत्नी की गर्दन पर किए कई वार, हालत गंभीर

खौफनाक: पिता ने बेटी की डंडे से पीटकर हत्या की, युवती को नामंजूर थी ये बात

बांदा जिले के बबेरू में पिता ने पुत्री की डंडे से पीटकर रविवार की शाम हत्या कर दी। ग्रामीणों के आने पर आरोपी पिता भाग निकला। डॉक्टर द्वारा मौत की पुष्टि के बाद पुलिस ने शव कब्जे में ले लिया। सीओ का कहना है कि आरोपी की तलाश की जा रही है।

घटना बबेरू कोतवाली क्षेत्र में सिमौनी गांव में गड़रा नदी के पास हुई। तिंदवारी क्षेत्र के जमुवां गांव निवासी महमूद खां अपनी पुत्री हसीन उर्फ हुस्न बानो (22) को लेकर रविवार की शाम बबेरू आ रहा था। सिमौनी गांव के नजदीक महमूद ने हुस्न बानो को पीटना शुरू कर दिया।

नजदीक में पड़े डंडे की पिटाई से वह गंभीर रूप से जख्मी हो गई। आसपास खेतों में मौजूद ग्रामीणों ने ललकारा तो आरोपी पिता भाग गया। बुरी तरह घायल हुस्न बानो को बबेरू सीएचसी पहुंचाया। यहां डाक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

बांदा: बहन के साथ छेड़खानी के विरोध में शोहदों ने भाई को पीटा, वीडियो वायरल

बांदा: पिता की लाठियों से पीटकर हत्या, बचाने पहुंची मां को भी बेटे ने बेरहमी से पीटा

बांदा जिले में पैलानी थाना क्षेत्र के हूसी पुरवा में बेटे ने लाठियों से पीटकर पिता की हत्या कर दी। बचाने पहुंची मां को भी पीटकर घायल कर दिया। घर के बाहर बेरहमी से माता-पिता को पीट रहे बेटे की करतूत को ग्रामीण देखते रहे, बचाने कोई नहीं आया।

पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। डाड़ामऊ गांव के मजरा हूसी पुरवा में बुधवार को सुबह रामखेलावन (55) घर के आंगन में बैठे थे। इसी दौरान दूसरे नंबर का पुत्र राममूरत आया और पिता से अभद्रता करने लगा।

विरोध करने पर लाठियों से पीटने लगा। जान बचाने के लिए घर से बाहर भागे तो राममूरत ने दरवाजे पर लाठी मारकर गिरा दिया। पिटाई से रामखेलावन बेहोश हो गए। पति को बचाने पहुंची मां देवरती (50) को भी लाठियों से पीटकर भाग गया। परिजनों ने रामखेलावन को सीएचसी जसपुरा पहुंचाया।

हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। यहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। देवरती का प्राथमिक उपचार किया गया। देवरती ने बताया कि ग्रामीण तमाशबीन बनकर पति को पिटता देखते रहे।

कोई बचाने नहीं आया। उसके चार पुत्र हैं। रामचंद्र और राकेश सूरत में मजदूरी करते हैं। आरोपी राममूरत 15 दिन पहले सूरत से घर आया है। घटना के वक्त छोटा बेटा अवधेश दुकान से सामान लेने चला गया था। यह भी बताया कि कभी-कभी राममूरत की मानसिक स्थिति बिगड़ जाती है।

देवरती के मुताबिक पति के नाम आठ बीघा जमीन है। खेत को लेकर पारिवारिक लोगों से विवाद भी चल रहा है। क्षेत्राधिकारी सदर सत्यप्रकाश शर्मा ने बताया कि आरोपी राममूरत को गिरफ्तार कर लिया गया है।
... और पढ़ें

भूमि विवाद में चचेरे भाई को दी दर्दनाक मौत: पेड़ से बांधकर लाठी और कुल्हाड़ी से किया हमला

बांदा में जमीन के विवाद में खानदानियों ने पेड़ में बांधकर चचेरे भाई को लाठियों से बुरी तरह पीटा, जिसकी कुछ देर बाद मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि जमीन के बंटवारे को लेकर खानदानियों ने हमला किया। छह बीघा जमीन का विवाद बताया गया है।

पुलिस ने चचेरे भाई समेत चार लोगों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज की है। घटना बिसंडा थाना क्षेत्र के इटवां गांव की है। यहां रामनरेश (55) शनिवार को दोपहर साइकिल पर खेत से घर लौट रहा था। रास्ते में सुनसान स्थान पर चचेरे भाई समेत चार लोगों ने उसे रोक लिया।

उसके हाथ पीछे बांध दिया और पेड़ में बांधकर लाठी और कुल्हाड़ी से प्रहार कर दिया। वह गंभीर रूप से घायल हो गया। पीटने के बाद आरोपियों ने रामनरेश के सभी बंधन खोल दिए और भाग गए। घायल रामनरेश बिसंडा थाना पहुंच गया। यहां पुलिस ने उसे समझा-बुझाकर घर भेज दिया।

देर रात करीब एक बजे उसकी मौत हो गई। पिटाई से मौत पर बौखलाए परिजनों ने पुलिस से रोष जताया और हंगामा किया। आरोपियों को गिरफ्तार कर कार्रवाई की मांग की। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया है। मृतक की पत्नी व दो बेटे दिल्ली में रहते हैं।
... और पढ़ें

हैवानियत: बरात देखने गई बच्ची को बंधक बना किया दुष्कर्म, शरीर पर कई जगह चोट के निशान

सांकेतिक तस्वीर
बांदा जिले में बरात देखने गई 12 वर्षीय बालिका को अगवा करके बंधक बनाकर अज्ञात लोगों ने दो दिनों तक दुष्कर्म किया। इसके बाद रात को घर के बाहर छोड़कर भाग निकले। पुलिस ने बालिका का मेडिकल परीक्षण कराया है।

जिला महिला अस्पताल के तीन डाक्टरों के पैनल ने दुष्कर्म की शिकार बालिका की जांच की। उसके जिस्म में चोट के निशान भी पाए गए। पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी में जुटी है। कोतवाली नगर क्षेत्र के एक मोहल्ला निवासी बालिका के पिता ने तहरीर में बताया था कि बृहस्पतिवार की शाम उसकी 12 वर्षीय पुत्री लापता हो गई।

पुलिस ने अपहरण की धारा में रिपोर्ट दर्ज कर ली। शुक्रवार की रात करीब साढ़े नौ बजे लापता बालिका को अज्ञात लोग घायल अवस्था में घर के बाहर छोड़ गए। भागते समय आरोपियों का मोहल्ले के कुछ लोगों ने पीछा भी किया, लेकिन रात के अंधेरे का फायदा उठाकर आरोपी भाग निकले।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने बालिका से पूछताछ की। बालिका ने बताया कि उसे मुक्तिधाम और एक घर में रखा गया था। हालांकि, वह ज्यादा कुछ नहीं बता सकी। शनिवार को सुबह इलाज के लिए उसे जिला महिला अस्पताल पहुंचाया गया।
... और पढ़ें

हैवान बनी मां: दो वर्षीय बेटे का गला दबाकर सुला दिया मौत की नींद

बांदा के बिसंडा थाना क्षेत्र के अमिलिहा पुरवा स्थित मायके में रह रही युवती ने अपने 22 माह के मासूम बेटे की सोमवार को दोपहर गला दबाकर हत्या कर दी। देरशाम घटना का पता चलने पर परिजन अवाक रह गए। फिलहाल परिजन पुलिस को वजह नहीं बता सके, लेकिन ग्रामीणों में प्रेम प्रसंग के चलते बेटे को मार डालने की चर्चा चलती रही।

पुलिस ने आरोपी मां को गिरफ्तार कर लिया, लेकिन पुष्टि नहीं कर रही है। अमिलिहा पुरवा निवासी निर्मला देवी की शादी वर्ष 2018 में चित्रकूट जिले के मारा चंदला (बहिलपुरवा) गांव के विजय यादव के साथ हुई थी। वह बमुश्किल छह माह ही ससुराल में रही। इसके बाद वापस मायके आकर रहने लगी, तब से यहीं रह रही थी।

सोमवार को दोपहर बाद चार बजे निर्मला ने अपने 22 माह के पुत्र आशीष की गला दबाकर हत्या कर दी और भाग गई। देर शाम घर पहुंचे निर्मला के पिता ने नाती आशीष को मृत देखा और पुलिस को सूचना दी। बिसंडा पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण कर शव का पोस्टमार्टम कराया है।

बबेरू सीओ सियाराम ने परिजनों और ग्रामीणों से पूछताछ की। थाना इंस्पेक्टर नरेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि पति विजय यादव की तहरीर पर निर्मला के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज की गई है। आरोपी मां की तलाश की जा रही है। पुलिस का कयास है कि प्रेम प्रसंग के चलते महिला ने बाधा बने बेटे को मार डाला।
... और पढ़ें

बांदा: खदानकर्मी की पत्थर से कुचलकर हत्या, पिता की तहरीर पर दो के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज

बांदा जिले में नरैनी कोतवाली क्षेत्र के लहुरेटा गांव स्थित बालू खदान में 25 वर्षीय युवक की दिनदहाड़े पत्थर से कूचकर हत्या कर दी। उप जिलाधिकारी और पुलिस उपाधीक्षक ने पहुंचकर सुरक्षा गार्डों व अन्य खदान कर्मियों के बयान दर्ज किए।

लहुरेटा गांव स्थित केन नदी में कात्यायिनी ग्रुप का बालू खनन पट्टा है। खदान से कुछ फर्लांग दूर ठेकेदार ने चेक पोस्ट बनाया है। यहां मतेथू (सुरयावा, भदोही) गांव निवासी शुभम सिंह उर्फ रवि पुत्र विनोद सिंह तैनात था। वह ट्रकों को टोकन आदि दे रहा था।

बुधवार को सुबह करीब नौ बजे अज्ञात हमलावर आया और शुभम पर पत्थर से हमला कर दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। चेक पोस्ट में डंडाधारी दो प्राइवेट सुरक्षा कर्मी भी तैनात थे लेकिन जब तक वे कुछ समझ पाते हत्यारोपी भाग गया। सुरक्षा गार्ड अजय ने घटना की सूचना खदान संचालक और पुलिस को दी।

पुलिस क्षेत्राधिकारी नितिन कुमार और कोतवाली प्रभारी निरीक्षक सविता श्रीवास्तव फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर खदान कर्मियों से पूछताछ की। खदान कर्मियों ने घटना की वजह स्थानीय दबंगों को बालू का अवैध खनन और परिवहन से रोकना बताया है।

मृतक के मामा अभिजीत सिंह ने आरोप लगाया कि गांव के कुछ दबंग जबरन बालू भरने और ट्रैक्टर निकालने को लेकर विवाद करते थे। जान से मारने की धमकी देते थे। इंस्पेक्टर ने बताया कि पिता की तहरीर पर लहुरेटा गांव निवासी सिरोज खां व सागर खां के विरुद्ध हत्या समेत संगीन धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गई है। गिरफ्तारी के लिए दो टीमें लगाई गई हैं।
... और पढ़ें

यूपी: किशोरी को अगवा कर ले जा रहे थे युवक, ट्रेन का पीछा कर भाई ने ऐसे बचाई बहन की आबरू

बांदा जिले में बिसंडा थाना क्षेत्र के एक गांव की 17 वर्षीय किशोरी को गांव का युवक बहला-फुसलाकर अपने साथ ले गया और बांदा रेलवे स्टेशन में लाकर तुलसी एक्सप्रेस में सवार चार युवकों को सौंप दिया। भाई की सूचना पर जीआरपी ने कोच से किशोरी को पकड़ कर परिजनों के सुपुर्द कर दिया।

एक गांव निवासी किशोरी के परिजनों के मुताबिक, आठ दिन पहले किशोरी को गांव का युवक बहलाकर अपने साथ ले गया और रेलवे स्टेशन पर तुलसी एक्सप्रेस में सवार चार युवकों के सुपुर्द कर दिया। इस बात की भनक किशोरी के भाई को लग गई और उसने अपने दोस्तों संग अतर्रा रेलवे स्टेशन पहुंचा और यहां खोजबीन की।

स्टेशन प्रबंधक से सीसीटीवी फुटेज दिखाने का अनुरोध किया, लेकिन पता नहीं लगा। इसी बीच एक मित्र ने तुलसी एक्सप्रेस में किशोरी के होने की सूचना दी। भाई ने दोस्तों के साथ कार से पीछा करना शुरू कर दिया। भाई ने झांसी जीआरपी को सूचना दी और उनके व्हाट्सएप पर बहन का फोटो भेज दिया।

बुधवार की देर रात ट्रेन के स्टेशन पहुंचते ही जीआरपी जवानों ने कोच से किशोरी को अपनी सुपुर्दगी में ले लिया, लेकिन आरोपी चारों युवक भागने में सफल रहे। बाद में परिजन भी पहुंचे और किशोरी को जवानों ने सुपुर्द कर दिया। हालांकि, लोकलाज के चलते पुलिस में परिजनों ने रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई।

लापता दो बहनों का नहीं लगा पता
बिसंडा क्षेत्र के एक गांव से लापता हुई दो बहनों को पुलिस अब तक नहीं खोज सकीं। परिजनों का कहना है कि 28 मई को दोनों बहनें घर से बाजार के लिए निकली थीं, तभी से लापता हैं। पुलिस भी अब तक उन्हें नहीं खोज सकी। गौरतलब है कि ट्रेन में मिली किशोरी भी इसी गांव की है।
... और पढ़ें

बांदा में हैवानियत की हदें पार: मासूस को फुसलाकर घर ले गया पड़ोसी बाबा, दुष्कर्म के बाद उतार दिया मौत के घाट

उत्तर प्रदेश के बांदा में मरका थाना क्षेत्र के एक गांव में रविवार की शाम रिश्ते को शर्मसार और दिल दहलाने वाली घटना से लोग सकते में आ गए। चचेरे बाबा ने अपनी ही पांच साल की नातिन संग पहले दुष्कर्म किया, फिर उसकी गला घोटकर हत्या कर शव धान के पुआल में छिपा दिया।

बच्ची के बाबा की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। मरका थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी शख्स की पांच साल की बेटी रविवार की शाम करीब 4 बजे घर में खेल रही थी। इसी बीच पड़ोस में रहने वाला बच्ची के रिश्ते का बाबा पहुंचा और पेठा खिलाने का झांसा देकर अपने घर ले गया।

घर पर आरोपी ने बच्ची संग दुष्कर्म किया और राज खुलने के डर से बच्ची का गला घोटकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को घर के आंगन में रखे पुआल के ढेर में छिपा दिया। बच्ची देर शाम तक घर नहीं पहुंची तो परिजनों ने तलाश की। परिजन जब आरोपी के घर पहुंचे तो उनको पुआल के नीचे बच्ची का शव मिला।

परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी रामबहादुर को गिरफ्तार कर थाने ले आई। पुलिस ने बच्ची के बाबा की तहरीर पर दुष्कर्म, हत्या, पाक्सो एक्ट आदि की रिपोर्ट दर्ज की। बालिका के शव का पोस्टमार्टम कराया गया है। पोस्टमार्टम हाउस के सूत्रों ने बच्ची संग दुष्कर्म के बाद गला घोटने की बात बताई है।
... और पढ़ें

बांदा में हैवानियत की हदें पार: मजदूरी के बहाने युवती को घर लेकर गया, चार दिनों तक बंधक बना किया दुष्कर्म

यूपी के बांदा जिले में इंसानियत को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है। मजदूरी के बहाने घर ले जाकर युवती के साथ युवक ने दुष्कर्म किया। आरोप है कि युवक उसे चार दिनों तक बंधक बनाए रहा। बमुश्किल उसके चंगुल से छूटी। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

घटना कोतवाली नगर क्षेत्र के एक मोहल्ले की है। गिरवां क्षेत्र के एक गांव की 25 वर्षीय युवती चार दिन पूर्व शहर मजदूरी की तलाश में आई थी। आरोप है कि 30 वर्षीय युवक उसे घर में काम के बहाने ले गया और बंधक बना लिया। चार दिनों तक उसके साथ दुष्कर्म किया।

सोमवार की शाम आरोपी के चंगुल से छूटकर वह पहुंची और पति को आपबीती बताई। पति ने कोतवाली में तहरीर दी। इंस्पेक्टर जयश्याम शुक्ल ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी मोबीन को गिरफ्तार कर लिया गया है। युवती का जिला महिला चिकित्सालय में डाक्टरी परीक्षण कराया गया है।
... और पढ़ें
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00