विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम
Puja

मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

रुड़की में बनी नकली क्रीम, दिल्ली से जुड़े तार

मुरादाबाद। नकली दवाएं बेचकर जन स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने वाले आरोपी अभी तक पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ सके हैं। औषधि प्रशासन की छानबीन में गिरोह के नेटवर्क की चेन परत दर परत खुलने लगी है। भोजपुर में लोकल एनेस्थेटिक्स आइंटमेंट की पैकिंग के बाद अब एक नए खुलासे ने विभाग की नींद उड़ा दी है। बरामद नकली एंटी फंगल क्रीम उत्तराखंड के रुड़की में बनी है। रुड़की से मुजफ्फरनगर, दिल्ली और गाजियाबाद होकर मुरादाबाद पहुंची है। औषधि विभाग ने संबंधित जिलों की पुलिस एवं औषधि विभाग को इसकी जानकारी सौंपकर नेटवर्क से जुड़े लोगों को गिरफ्तार करने में मदद मांगी है।
मुरादाबाद जिला खाद्य एवं औषधि प्रशासन की टीम ने बुधवार को बिंदल मेडिकल एजेंसी और फेयर मेडिकोज में छापामारी कर एंटी फंगल क्रीम और लोकल एनेस्थेटिक्स आइंटमेंट की करीब 1500 ट्यूब एवं डिब्बे बरामद किए थे। दोनों दवाएं नकली थी। क्रीम मुंबई की नामी फार्मा कंपनी और आइंटमेंट आयुर्वेदिक कंपनी के नाम से बेची जा रही थी। जब्त दवाओं की कीमत साढ़े बारह लाख रुपये है। फेयर मेडिकोज के स्वामी जाहिद ने पूछताछ में क्रीम गाजियाबाद अल्वी मार्केट, वाल्मीकि बस्ती स्थित गुडविल फार्मेसी से सप्लाई बताई थी। जबकि आइंटमेंट की भोजपुर में ही एक आयुर्वेदिक फैक्टरी में पैकिंग होने की पुष्टि हुई है। औषधि प्रशासन की टीम ने नकली दवा मामले में दोनों मेडिकल स्टोर संचालकों और गाजियाबाद की फार्मा कंपनी समेत पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। फेयर मेडिकोज के स्वामी जाहिद को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। बाकी आरोपी फरार हैं।
औषधि निरीक्षक नरेश मोहन दीपक के मुताबिक छानबीन में गिरोह की परत खुलने लगी है। उन्होंने बताया कि एंटी फंगल क्रीम रुड़की से बनकर मुजफ्फरनगर सप्लाई हुई हैं। वहां से दिल्ली भगीरथ पैलेस और फिर गाजियाबाद पहुंची हैं। गाजियाबाद से क्रीम मुरादाबाद आई है। औषधि निरीक्षक के मुताबिक रुड़की में नकली दवाएं बनती हैं। 28 मार्च 2019 को अमरोहा में पकड़ी गई नकली दवाओं का लिंक भी रुड़की से था। इससे पहले 9 सितंबर 2018 को रुड़की में छापामारी कर नकली दवा बनाने वाली चार फैक्ट्रियां सील हुई हैं। औषधि निरीक्षक ने बताया कि भोजपुर में आयुर्वेदिक फैक्ट्री में छापा मारा गया, लेकिन आरोपी फरार है। आरोपियों की गिरफ्तारी से कई नई जानकारियां सामने आएंगी।
... और पढ़ें

हादसे में मासूम की मौत के बाद चालक को पीटा

मुरादाबाद। मझोला के जयंतीपुर में बृहस्पतिवार दोपहर मामा के साथ बर्फ खरीदने गए ढाई साल के एक मासूम को पिकअप ने कुचल दिया, जिससे उसकी दर्दनाक मौत हो गई। हादसे के बाद भाग रहे चालक को लोगों ने पकड़कर बुरी तरह से पीटा और पिकअप गाड़ी में तोड़फोड़ कर उसमें आग लगाने की कोशिश की। बवाल की सूचना पर पहुंची मझोला पुलिस ने बमुश्किल चालक को भीड़ से बचाकर थाने पहुंचाया।
मियां कालोनी में रहने वाले आलम पेंटर हैं। परिवार में पत्नी फराह बेटी समायरा, बेटा अल्तमश हैं। बड़े बेटे अजहर की उम्र ढाई साल थी। बृहस्पतिवार दोपहर करीब पौने एक बजे अजहर को मियां कालोनी में रहने वाला उसका मामा नदीम (15) साइकिल पर बैठाकर बर्फ खरीदने के लिए गया था। नदीम ने बताया कि टीले के पास ही साइकिल खड़ी कर वह बर्फ खरीदने लगा। उस वक्त अजहर साइकिल पर बैठा हुआ था। तभी पीर का बाजार की तरफ से तेज रफ्तार से एक पिकअप गाड़ी आई। पिकअप चालक ने वाहन मोड़ते वक्त भी रफ्तार धीमी नहीं की और साइकिल में टक्कर मार दी। साइकिल की टक्कर से अजहर नीचे गिरा और पिकअप के पिछले पहिए के नीचे आ गया जिससे वह बुरी तरह से घायल हो गया। मौके पर भीड़ जुट गई। बच्चे को जिला अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
उधर गाड़ी रोकने की बजाय पिकअप चालक ने गाड़ी समेत भागने की कोशिश की जिसे बर्फ विक्रेता भूरे व अन्य लोगों ने पकड़ लिया। हादसे से गुस्साई भीड़ ने चालक को पीटना शुरू किया। सूचना पर पहुंचे सिपाही अर्जुन ने चालक को बमुश्किल एक दुकान में बंद कर भीड़ से उसकी जान बचाई। गुस्साई भीड़ पिकअप में तोड़फोड़ कर आग लगाने की कोशिश कर ही रही थी तभी मझोला थाने से पुलिस बल वहां पहुंच गया और किसी तरह से भीड़ रोका। चालक को थाने ले आया गया। सीओ सिविल लाइन राजेश कुमार ने बताया कि आरोपी चालक बरेली के संग्रामपुर का रहने वाला महावीर है। आलम की शिकायत पर गैर इरादतन हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है।


रोते हुए बोला नदीम... भांजे को किसी ने नहीं उठाया
मुरादाबाद। हादसे के बाद नदीम ने बुरी तरह से रो रहा था। उसने बिलखते हुए कहा कि उसके मासूम भांजे अजहर के के सिर से खून बह रहा था। वह भांजे को सड़क से गोद में उठाने की कोशिश करने लगा। लोगाें से अपील करता रहा कि अजहर को उठा लें और अस्पताल ले चलें लेकिन किसी ने अजहर को नहीं उठाया। इसके बाद वह घर गया और परिवार वालों को बुलाकर ले आया। अजहर को जिला अस्पताल लेकर जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। अजहर की मौत से परिवार में कोहराम मच गया। यदि समय पर ही अजहर को अस्पताल ले जाया जाता तो शायद उसकी जान बच सकती थी।

पुलिस न पहुंचती तो चालक का बचना मुश्किल था
मुरादाबाद। हादसे के बाद भीड़ जबरदस्त गुस्से में थी। अगर समय पर पुलिस न पहुंचती और कुछ लोग समझदारी दिखाते हुए भीड़ के बीच से चालक को निकालकर दुकान के अंदर न ले जाते तो कुछ भी हो सकता था। सीओ ने बताया कि मौके पर पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है, जिससे कि स्थिति नियंत्रण में रहे।

... और पढ़ें

विवाहिता की गला घोंटकर हत्या , पति, ससुर गिरफ्तार

डिलारी (मुरादाबाद)। डिलारी थानाक्षेत्र में एक नवविवाहिता की ससुराल में गला घोंटकर हत्या कर दी गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि महिला की हत्या तार या रस्सी से गला घोंटकर की गई है। इस मामले में पुलिस ने महिला के पति, सास, ससुर सहित पांच लोगों के खिलाफ दहेज हत्या की रिपोर्ट डिलारी थाने में दर्ज कराई गई है। आरोपियों में से पति और ससुर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
थाना क्षेत्र के ढकिया जट गांव निवासी मौहम्मद अली ने बताया कि उनकी भतीजी जहरा (22) का पड़ोस में ही रहने वाले जफर से प्रेम संबंध था। जफर आटा चक्की चलाता है। प्रेम संबंध की वजह से ही दोनों की शादी मार्च 2019 में की गई थी। आरोप है कि शादी के बाद ससुराल में जहरा को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा। उससे दहेज में दो लाख रुपये और घरेलू सामान की मांग की जाती थी। इसकी जानकारी जहरा ने फोन कर परिवार वालों को दी थी। दहेज की मांग पूरी न होने पर ससुराल वाले खफा थे। आरोप है कि ससुराल में ही 22 जून को जहरा का गला घोंट दिया गया। इसके बाद उसे बेसुध हालत में छोड़कर आरोपी भाग गए। सूचना पर पहुंचे मायके वालों ने जहरा को उपचार के लिए कॉसमॉस अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां पर बुधवार को उसकी मौत हो गई। इस संबंध में डिलारी थाने में जहरा के पति जफर, ससुर मौहम्मद अली , सास सायदा बेगम, ननद राहिल व तहेरे ससुर यामीन के खिलाफ दहेज हत्या की रिपोर्ट बुधवार रात को दर्ज कराई गई। शव को पंचनामे की कार्यवाही कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। बृहस्पतिवार दोपहर को पोस्टमार्टम के बाद जहरा के शव को अंतिम संस्कार के लिए परिवार वालों के सुपुर्द कर दिया गया। थानाध्यक्ष हरिओम सिंह चौहान ने बताया कि जहरा की हत्या के आरोपी पति जफर व ससुर मौहम्मद नवी उर्फ कलुआ को गिरफ्तार कर लिया है।
... और पढ़ें

यूपीः लूट के बाद महिला से दुष्कर्म, पति ने थाने में दी तहरीर

रामपुर के टांडा थाना क्षेत्र में सोमवार की रात दो बाइक सवार बदमाशों ने पति-पत्नी से लूटपाट की। आरोप है कि एक बदमाश ने महिला को खेत में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। इस मामले में पुलिस को तहरीर दी गई है।

टांडा थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी व्यक्ति का कहना है कि वह सोमवार रात लगभग आठ बजे अपनी ससुराल से पत्नी को साथ लेकर बाइक से अपने घर जा रहा था। रास्ते में वीरान जगह पर दो बाइक सवार बदमाशों ने तमंचा दिखाकर रोक लिया।

बदमाशों ने उसके पास से दस हजार रुपये और पत्नी के गहने लूट लिए। इसके बाद बदमाश दोनों को तमंचे की नोंक पर जंगल की तरफ ले गए। एक बदमाश ने उसकी पत्नी को खेत में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया।  इसके बाद बदमाश मौके से भाग गए।

जाते समय वह उसकी बाइक भी ले गए। मंगलवार की सुबह पीड़िता के पति ने टांडा थाना पहुंचकर घटना की जानकारी दी है। इस संबंध में पुलिस को तहरीर दे दी गई है। महिला को टांडा के ही एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। टांडा कोतवाल दुर्गा सिंह का कहना है कि तहरीर मिली है। इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें
सांकेतिक चित्र सांकेतिक चित्र

ठाकुरद्वारा डबल मर्डर में सनसनीखेज खुलासा, पुजारी ने की थी ये वहशियाना हरकत

दीपावली की रात ठाकुरद्वारा के श्मशान में हुए दोहरे हत्याकांड के पीछे हैरान करने वाली कहानी सामने आई है। वारदात के मुकदमे में शक की बुनियाद पर नामजद युवक ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि श्मशान में पुजारी और एक अन्य युवक की हत्या कस्बे के ही एक मजदूर ने फावड़े से सिर कुचलकर की थी।

खुद को वारदात का चश्मदीद बता रहे युवक का दावा है कि पुजारी ने छह माह पहले मजदूर की बहन के शव को चिता से निकालकर उसका मांस खाया था। इसी से खफा होकर मजदूर ने वारदात को अंजाम दिया।

एसएसपी का कहना है कि मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी से पहले युवक के दावे पर यकीन नहीं किया जा सकता। ठाकुरद्वारा के मोहल्ला होलिका स्थित श्मशान में दीपावली की रात पुजारी राजेंद्र गिरि (35) और ठाकुरद्वारा क्षेत्र के कालाझांडा निवासी नितेश (42) की सिर कुचलकर नृशंसता से हत्या कर दी गई थी। दोनों के रक्त रंजित शव सोमवार को श्मशान में पड़े मिले थे।

राजेंद्र गिरी ठाकुरद्वारा क्षेत्र के ही गांव दूल्हापुर सबलपुर का रहने वाला था और श्मशान में बने मंदिर में पूजा पाठ व तंत्र क्रिया करता था। पुजारी के भाई नंदू ने शक के आधार पर कस्बे के ही मोहल्ला जमनावाला निवासी बंटी उर्फ योगेंद्र को नामजद किया था। मंगलवार को पुलिस ने बंटी से पूछताछ की तो उसने दावा किया कि दोहरे हत्याकांड को ठाकुरद्वारा के ही एक मजदूर ने अंजाम दिया है।

सीओ ठाकुरद्वारा विशाल यादव का कहना है कि बंटी ने जो कहानी सुनाई है उसके मुताबिक मजदूर की बहन की छह माह पहले बीमारी से मौत हो गई थी। उसका अंतिम संस्कार होलिका स्थित श्मशान में किया गया था। तब पुजारी ने जलती चिता से शव निकालकर उसका मांस खाया था। इसी बात से आरोपी आहत था।

दीपावली पर वह पुजारी को मिठाई देने के बहाने श्मशान गया और फिर अचानक फावड़े से उस पर हमला बोल दिया। एएसपी उदय शंकर का कहना है कि मुख्य आरोपी अंकुश की तलाश की जा रही है।

एक युवक ने पूछताछ में हत्या के पीछे एक कहानी सुनाई है। जब तक उसकी बातों की तस्दीक नहीं हो जाती तब तक हम यह नहीं कह सकते कि पुजारी द्वारा जलती चिता से शव निकालकर खाने की वजह से हत्याकांड को अंजाम दिया गया है। अहम सुराग हाथ लगे हैं लेकिन मुख्य आरोपी अभी तक पुलिस की पकड़ से दूर है। उसकी गिरफ्तारी के बाद ही घटना का खुलासा होगा। 
-अमित पाठक, एसएसपी
... और पढ़ें

यूपी: किन्नर ने युवक को बेहोश कर निजी अंग काटा, अस्पताल में भर्ती

सिविल लाइंस थाना क्षेत्र के अगवानपुर में एक किन्नर ने उधारी की रकम मांगने आए युवक को नशीला पदार्थ देकर धारदार हथियार से उसका निजी अंग (प्राइवेट पार्ट) काट दिया। युवक को नाजुक हालत में कॉसमॉस अस्पताल लाया गया। यहां से उसे दिल्ली रेफर कर दिया गया है। पुलिस ने दबिश दी तो आरोपी किन्नर घर से भाग निकला। लेकिन पुलिस ने घटनास्थल से कटा हुआ निजी अंग बरामद किया है। देर रात तक वारदात में कोई एफआईआर दर्ज नहीं हुई थी।

घटना अगवानपुर के एक मोहल्ले में रहने वाले किन्नर के घर हुई। पुलिस का कहना है कि आरोपी किन्नर भी इसी तर्ज पर कुछ साल पहले किन्नर बना था। पीड़ित युवक ने किन्नर के घर कुछ काम किया था। उसके मेहनताने की रकम किन्नर पर बाकी थी। गुरुवार को रात करीब नौ बजे वह किन्नर के घर अपनी रकम मांगने गया था। किन्नर ने चाय पिलाने का बहाना कर उसे बैठा लिया। चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर वारदात को अंजाम दिया। युवक ने घर पहुंचकर परिजनों को वारदात की जानकारी दी तो वह उसे लेकर कॉसमॉस अस्पताल पहुंचे।

सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। इंस्पेक्टर सिविल लाइंस शक्ति सिंह ने बताया कि घटना की बाबत पुलिस को अभी तहरीर नहीं मिली है। आरोपी किन्नर घर से फरार है। युवक का इलाज करने वाले कॉसमॉस के चिकित्सक डा. जावेद का कहना है कि प्लास्टिक सर्जरी से ही युवक का इलाज मुमकिन है इसलिए उसे दिल्ली रेफर कर दिया है।
... और पढ़ें

25 हजार का इनामी मुठभेड़ में जख्मी

मुरादाबाद। दस साल पहले बरेली में कचहरी से पुलिस अभिरक्षा से फरार हुआ 25 हजार का इनामी आरिज उर्फ श्यामबाबू मुठभेड़ के बाद पकड़ा गया है। उसके पैर में गोली लगी है। मुठभेड़ रविवार रात सवा बजे हर्बल पार्क चौराहे के पास हुई है। आरोपी का दूसरा साथी मौके से भागने में कामयाब हो गया है।
सीओ सिविल लाइन राजेश कुमार ने बताया कि आरिज उर्फ श्यामबाबू मूलत: औरेया के थाना दिव्यापुर स्थित कमालपुर डेरा का रहने वाला है। एसओजी टीम को सूचना मिली थी कि वह रविवार रात मझोला थानाक्षेत्र में हर्बल पार्क के पास देखा गया है। उसकी तलाश में एसएचओ मझोला अजय गौतम और एसओजी टीम ने हर्बल पार्क के पास रात सवा बजे घेराबंदी की। इस दौरान लाल रंग की अपाचे पर दो संदिग्ध दिखाई दिए। उनको रोकने की कोशिश की तो संदिग्धों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। पुलिस ने जवाबी फायरिंग की तो एक आरोपी के पैर में गोली लग गई। वह मौके पर गिर गया, उसका दूसरा साथी भाग गया। जख्मी बदमाश ही आरिज उर्फ श्यामबाबू है। वह पूर्व में डकैती की कई वारदातों को अंजाम दे चुका है। अंदेशा है कि आरिज यहां पर किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की कोशिश में था। आरोपी को उपचार के लिए अस्पताल भिजवा दिया गया है। उसके दूसरे साथी का पता लगाया जा रहा है। जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

जहां पहुंचे थे सीएम.. वहीं हुई मुठभेड़
मुरादाबाद। रविवार को मुरादाबाद दौरे के दौरान दिन में सीएम योगी हर्बल पार्क के पास ही बन पीएम योजना के आवास देखने के लिए गए थे। उससे थोड़ी दूरी पर ही ये मुठभेड़ हुई है, जिसमें आरिज पकड़ा गया है।

हाथ में तमंचा, बगल में बाइक
मुरादाबाद। मुठभेड़ की सूचना मिलने पर मीडिया पहुंची तो आरोपी के एक हाथ में तमंचा था। उसके पैर से खून बह रहा था। मौके पर भारी पुलिस बल था। पुलिस आरोपी के कब्जे से बाइक और तमंचा बरामद किया है।
... और पढ़ें

सीएम बोले.. मुरादाबाद की यातायात व्यवस्था बेहद खराब है

मुरादाबाद। साल दर साल जनपद में सड़क हादसों में मरने वाले लोगों की संख्या बढ़ रही है। जिसका जिम्मेदार यहां का ट्रैफिक सिस्टम भी है। यही वजह रही कि सर्किट हाउस से जिला अस्पताल तक आने-जाने के दौरान ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस कमी का पता कर लिया। इसके बाद कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक में दो टूक कह भी दिया कि मुरादाबाद का ट्रैफिक सिस्टम बेहद खराब है। यहां यातायात के नियमों का पालन होता दिखाई नहीं दे रहा है। खासतौर पर वह दोपहिया वाहन पर हेलमेट न पहने जाने के कारण नाराज दिखे।
बैठक में मौजूद एसएसपी अमित पाठक ने सीएम को बताया कि सर.. यहां पर ट्रैफिक सिस्टम को सुधारने का कार्य शुरू कर दिया गया है। एक सप्ताह के अंदर कुछ सुधार भी हुआ है। सीएम ने कहा कि यहां पर तेजी से और सुधार किए जाएं। यातायात के नियमों का पालन करने के लिए लोगों को जागरूक किया जाए, जो न माने उसके वाहनों का चालान कर दिया जाए। एसएसपी ने सीएम को भरोसा दिलाया कि आने वाले समय में यहां पर ट्रैफिक सिस्टम को सुधारने पर विशेष तौर पर फोकस किया जाएगा, यातायात के नियमों का पालन करवाया जाएगा।
... और पढ़ें

सीएम योगी ने अमरोहा और संभल में पुलिस लाइन बनवाने के दिए निर्देश

मुरादाबाद। मुरादाबाद दौरे पर आए सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को अमरोहा और संभल में पुलिस लाइन बनवाने के निर्देश दिए हैं। संभल में महिला थाना भी बनाया जाएगा। इसके अलावा मुरादाबाद में इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सिस्टम तैयार करने के निर्देश भी मुख्यमंत्री ने पुलिस अधिकारियों को दिए हैं। पूरा शहर बहुत जल्द सीसीटीवी कैमरों की जद में होगा।
मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को हिदायत दी है कि आम जनता और फरियादियों के साथ पुलिस कर्मी विनम्रता से पेश आएं। जिले में कप्तान और डीएम औचक निरीक्षण करें। महिला अपराध पर अंकुश लगाया जाए। पुलिस अधिकारी शहर में रोजाना पैदल गश्त करें। पॉक्सो एक्ट के मामलों की पैरवी कर अपराधियों को सजा दिलाई जाए। एंटी रोमियो स्क्वाड शहर और देहात एरिया में जाकर महिलाआें, युवतियों को जागरूक करें। खनन माफियाओं पर सख्ती से कार्रवाई करें। अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए पुलिस द्वारा टेक्नॉलाजी का इस्तेमाल किया जाए। पुलिस के प्रति जनता के दिल में विश्वास को बढ़ाया जाए। इसके साथ ही सभी विभागों के अधिकारी आपस में तालमेल बनाकर काम करें। बैठक में आईजी रमित शर्मा, एसएसपी अमित पाठक सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।
... और पढ़ें

खालिद के आंगन में महकने को तैयार रेशमा बनी तुलसी

मुरादाबाद। मझोला के चिड़िया टोला में रहने वाले एक युवक को बजरंग दल के पदाधिकारियों की शिकायत पर शुक्रवार को पुलिस ने एक युवती को धर्म छिपाकर रखने के आरोप में हिरासत में लिया है। लेकिन इस मामले में युवती ही अब खालिद के बचाव में आ गई है। उसने मझोला पुलिस को बताया कि खालिद से वह प्यार करती है। उसके प्यार की खातिर ही वह अपना धर्म परिवर्तन कर तुलसी से रेशमा बनी और खालिद से निकाह किया है। तुलसी से रेशमा बनी युवती अब खालिद के ही घर में रहने पर अड़ी है।
तुलसी उर्फ रेशमा ने बताया कि वह मूलत: असम के तिनसुकिया की रहने वाली है। उसके माता, पिता और भाई की मौत हो चुकी है। जीविका की तलाश में वह आठ साल पहले असम से अपनी सहेली के साथ दिल्ली आई थी। दिल्ली से वह घरेलू सहायिका की नौकरी करने के लिए मानसरोवर कालोनी आ गई। यहां पर एक कोठी में काम करने के दौरान ही मोहल्ले में कपड़ों की फेरी करने के लिए आने वाले पाकबड़ा के खालिद से उसकी डेढ़ साल पहले मुलाकात हुई। कुछ दिनों बाद दोनों ने एक दूसरे से प्यार का इजहार किया। तुलसी ने बताया कि उसे शुरू से ही पता था कि खालिद दूसरे समुदाय का है। इसलिए दोनों के निकाह में अड़चन आ रही थी। जिस वजह से खालिद के कहने पर उसने बदायूं जाकर धर्म परिवर्तन किया और तुलसी से रेशमा बनी।
दोनों ने निकाह कर लिया लेकिन आठ साल तक शहर में रहने के कारण तुलसी को शहर में रहने की आदत पड़ गई थी। खालिद उसे गांव में ले जाना चाहता था लेकिन उसने इंकार किया। इस वजह से दोनों चिड़िया टोला में किराए के कमरे में रहने लगे थे। रेशमा ने बताया कि खालिद उसका अच्छे से ख्याल रखता है। जब वह बेसहारा थी तो खालिद ने ही उसको सहारा दिया अब वह उसके साथ ही रहना चाहती है। पुलिस से उसने गुहार लगाई कि उसके पति को थाने से छोड़ दें। उसे मामूली विवाद में फर्जी आरोप लगाकर फंसाया गया है। मकान मालिक को रुपये उधार दिए थे। जिसको लेकर कहासुनी हुई थी। एसएचओ मझोला अजय गौतम ने बताया कि मकान मालिक से कहासुनी होेने की वजह से खालिद का शांतिभंग में चालान किया है। उसके खिलाफ लगाए गए अन्य आरोप गलत पाए गए हैं। बेवजह मामले को तूल दिया जा रहा था।
... और पढ़ें

विदेश से सीधे अदालत पहुंचा हत्यारोपी सपा नेता

मुरादाबाद। पाकबड़ा के बहुचर्चित आरटीआई कार्यकर्ता कासिम हत्याकांड में फरार सपा नेता हारून सैफी विदेश से सीधा अदालत पहुंचा और शनिवार को आत्मसमर्पण कर दिया। दो जिलों की पुलिस हाथ पर हाथ रखकर उसके विदेश से लौटने का इंतजार ही करती रही। अदालत ने हत्यारोपी की जमानत अर्जी खारिज कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। इस मामले में सपा नेत्री अल्का दुबे और दो अन्य आरोपी को पुलिस पहले ही जेल भेज चुकी है।
पाकबड़ा निवासी कासिम सैफी आरटीआई कार्यकर्ता था। 27 दिसंबर 2018 को कासिम अपने घर से तहसील जाने के लिए निकला था। 29 दिसंबर को उसकी गुमशुदगी दर्ज की गई थी। जबकि तीन जनवरी को गुमशुदगी को अपहरण में तरमीम किया गया था। पुलिस ने तफ्तीश करते हुए नौ जनवरी 2019 को विकास चौधरी को गिरफ्तार उसकी निशानदेही पर शामली से कासिम का शव बरामद किया था। पुलिस ने दावा किया था कि पाकबड़ा के पूर्व प्रधान व सपा नेता हारून सैफी ने सपा नेत्री अलका दुबे के जरिये कासिम की हत्या की सुपारी दी थी। 14 जनवरी को पुलिस ने अलका और कुलदीप को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी हारून सैफी उमरा करने सऊदी अरब चला गया था। पुलिस उसके विदेश से लौटने का इंतजार कर रही थी। शनिवार को उसने अपने अधिवक्ता के जरिये मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया। अदालत ने सुनवाई करते हुए उसकी जमानत अर्जी दाखिल कर उसे चौदह दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। अभियोजन पक्ष के अधिवक्ता अजीत सिंह ने बताया कि हत्या के मामले में हारून सैफी ने सरेंडर किया है।


आरोपी पक्ष ने बिजनौर ट्रांसफर करा ली थी जांच
मुरादाबाद। पाकबड़ा पुलिस ने इस हत्याकांड का खुलासा था। पुलिस ने पूर्व प्रधान और उसके परिवार पर भी शिकंजा कसा। लेकिन इसी बीच आरोपी की बेटी ने एडीजी से जांच बिजनौर ट्रांसफर कर ली थी। कासिम के परिजन जांच वापस पाकबड़ा थाने में कराने की मांग कर रहे थे।




... और पढ़ें

किशोरी ने लगा दी छत से छलांग

मुरादाबाद। मझोला थानाक्षेत्र में रहने वाली एक किशोरी को प्रेमी के साथ शुक्रवार की रात उसकी मां ने पकड़ लिया। मामले की शिकायत किशोरी के पिता से की। पिटाई के डर से किशोरी ने दो मंजिला मकान की पहली मंजिल से नीचे छलांग लगा दी। उसे गंभीर चोट लगी, इसके बाद भी किशोरी की उसके पिता ने पिटाई कर दी तो किशोरी ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने किशोरी को अस्पताल पहुंचाया, उसके पिता को हिरासत में लिया।
किशोरी के पिता ने पुलिस को बताया कि उसके मकान में एक युवक किराए पर कमरा लेकर रहता था। मकान में रहने के दौरान उनकी बेटी से युवक के प्रेम संबंध हो गए। इसकी जानकारी मिली तो तीन माह पहले युवक से कमरा खाली करवा दिया। आरोप है कि रात को किशोरी का परिवार छत पर सो रहा था। रात दो बजे उसकी मां की नींद खुली तो बेटी को बिस्तर पर नहीं देखा। वह बेटी को ढूंढते हुए छत से नीचे आई। बेटी अपने प्रेमी के साथ बाथरूम में थी। किशोरी की मां को देख प्रेमी मौके से भाग निकला। शोर मचाते हुए किशोरी की मां ने आरोपी का पीछा किया लेकिन वह हत्थे नहीं चढ़ा। मामले की जानकारी किशोरी के पिता को हुई तो किशोरी को पिटाई का डर सताने लगा। इस वजह से उसने छत से मकान के पीछे की तरफ खाली प्लाट में छलांग लगा दी। जिससे उसके कमर में चोट लगी। हालांकि बेटी की हरकत से गुस्साए पिता ने उसे अस्पताल पहुंचाने के बाद उसे तीन-चार चांटे लगा दिए। आस पड़ोस के लोग मौके पर पहुंचे और किशोरी को बचाया। इस दौरान ही मौका मिलने पर किशोरी ने डायल 100 पर फोन कर दिया। पिटाई के साथ ही पिता पर संगीन आरोप लगाया। सीओ सिविल लाइन राजेश कु मार ने बताया कि किशोरी के प्रेमी की भी तलाश की जा रही है। वह एक अस्पताल में कार्यरत है। मारपीट के आरोप में किशोरी के पिता को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है।
... और पढ़ें

पुलिस की गुंडागदी: घूस में रुपये कम मिले तो महिला पर तानी पिस्टल

मुरादाबाद। सीएम योगी आदित्य नाथ के शहर में आने से ठीक पहले पुलिस के भ्रष्टाचार और गुंडागर्दी की पोल खुल गई। एक महिला का आरोप है कि उसके बेटे को हरथला पुलिस चौकी से छोड़ने की एवज में हेड कांस्टेबल ने 25 हजार रुपये की रिश्वत ली। रिश्वत में पांच हजार रुपये कम मिले तो घर जाकर अश्लील हरकतें शुरू कर कीं। विरोध करने पर महिला पर पिस्टल तानकर उसके बेटे को जेल भेजने की धमकी दी। महिला ने एसएसपी से शिकायत की है। एसएसपी ने सिविल लाइन इंस्पेक्टर को जांच सौंपी है। शुक्र वार को आरोपी हेड कांस्टेबल को हरथला पुलिस चौकी से हटा दिया गया है। उसे अगवानपुर पुलिस चौकी भेजा गया है।
शनिवार को सिविल लाइन थाने पहुंची महिला ने बताया कि वाकया 18 जून का है। उसका बेटा एक फर्म में नौकरी करता है। फर्म में ही काम करने वाली एक युवती ने महिला के बेटे पर छेड़खानी का आरोप लगाया। इस मामले में उसके बेटे को पुलिस ने हिरासत में ले लिया और हरथला पुलिस चौकी ले गई। वहां पर महिला को बुलाया गया। महिला सहित अन्य लोगों ने युवक को बेकु सूर बताया लेकिन पुलिस नहीं मानी। महिला का आरोप है कि पुलिस चौकी पर तैनात हेड कांस्टेबल दिनेश यादव ने युवक को हिरासत से छोड़ने की एवज में 30 हजार रुपये की रिश्वत मांगी। बमुश्किल महिला नेे 25 हजार रुपये का इंतजाम कर हेड कांस्टेबल को रकम दे दी। इसके बाद पांच हजार रुपये की रकम और मांगी गई लेकिन महिला ने रकम न होने की बात कही। महिला के बेटे को चौकी से हेड कांस्टेबल ने यह कहते हुए छोड़ दिया कि जल्द ही पांच हजार रुपये और उसके पास पहुंचा दें। इस पांच हजार रुपये का इंतजाम महिला नहीं कर पाई तो अगले दिन हेड कांस्टेबल खुद ही महिला के घर रुपये मांगने पहुंच गया। महिला का आरोप है कि इंकार करने पर अश्लील हरकतें करने लगा। महिला पर पिस्टल तानकर कहा कि कहा कि रकम न मिली तो वह महिला के बेटे को जेल भेज देगा। ऐसी धाराएं लगाएगा कि जमानत हाईकोर्ट से पहले नहीं हो सकेगी। इंस्पेक्टर सिविल लाइन शक्ति सिंह मामले की जांच कर रहे हैं। उनका कहना है जल्द ही जांच रिपोर्ट एसएसपी को सौंपेंगे।
.....
एसएसपी से शिकायत हुई तो चार हजार रुपये वापस दे गया सिपाही
मुरादाबाद। महिला ने बताया कि वह पिछले चार दिन के अंदर दो बार एसएसपी अमित पाठक से शिकायत कर चुकी है। आरोपी हेड कांस्टेबल को इसका पता चला तो वह महिला के घर पहुंचा। चार हजार रुपये वापस किए और शिकायत वापस लेने का दबाव बनाने लगा।

बिजली का बिल भरने के लिए रखे रुपये घूस में देेने पडे़
मुरादाबाद। महिला ने बताया कि आर्थिक तंगी की वजह से वह पांच माह से बिजली का बिल भी जमा नहीं कर सकी थी। इस बार बिजली का बिल जमा करने के लिए रुपये इकट्ठा किए थे। लेकिन इस बार भी वह बिजली का बिल न जमा कर सकी। इकट्ठा किए गए रुपये बेटे को चौकी से छुड़ाने के लिए सिपाही को देने पडे़।

महिला के बेटे को पकड़ा लेकिन आरोप गलत: आरोपी
मुरादाबाद। आरोपी हेड कांस्टेबल दिनेश यादव का कहना है कि सारे आरोप गलत है। शिकायत मिलने पर महिला के बेटे को पकड़ा था लेकिन बाद में दोनों पक्षों का समझौता हो गया, जिसके बाद उसके बेटे को छोड़ दिया। न तो उन्होंने महिला से रुपये लिए हैं न ही अश्लील हरकत की और न ही पिस्टल तानी।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन