विज्ञापन
विज्ञापन
मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020
Astrology Services

मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

बदायूं

मंगलवार, 21 जनवरी 2020

संदिग्ध परिस्थितियों में झुलसी विवाहिता की मौत

दातागंज (बदायूं)। नगर के बादाम नगर मोहल्ले में संदिग्ध परिस्थितियों में झुलसी विवाहिता की मौत हो गई। आग बुझाने में उसका पति भी झुलस गया। ससुराल वाले खाना बनाने के दौरान आग लगना बता रहे हैं, जबकि मायका पक्ष ने दहेज हत्या का आरोप लगाया है।
शाहजहांपुर में खुदागंज थाना क्षेत्र के ग्राम परमानंदपुर निवासी सुरेश ने करीब दो साल पहले अपनी बेटी बबली (20) की शादी नगर के मोहल्ला बादामनगर निवासी बंटू के साथ की थी। ससुराल वालों की मानें तो बबली गुरुवार रात खाना बना रही थी। उसी समय किसी तरह बबली के कपड़ों में आग लग गई, जब तक परिवार वाले उसकी चीख-पुकार सुनकर पहुंचे कि तब तक वह गंभीर रूप से झुलस गई। बंटू भी उसकी चीखें सुनकर पहुंच गया। उसने जैसे-तैसे आग पर काबू पाया। इस प्रयास में वह खुद भी झुलस गया। इसके बाद विवाहिता को गंभीर हालत में जिला अस्पताल लाया गया, जहां शुक्रवार सुबह बबली की इलाज के दौरान मौत हो गई। इधर, विवाहिता की मौत की खबर सुनकर पहुंचे पिता सुरेश ने ससुराल वालों पर दहेज न देने पर जलाकर हत्या करने का आरोप लगाया है। इस मामले में अभी रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
... और पढ़ें

आधी को रात तोड़ रहे थे दरवाजे के लिए दीवार, मोहल्ले में हंगामा

कादरचौक (बदायूं)। थाना क्षेत्र के ग्राम रमजानपुर में गुरुवार रात जमकर हंगामा हो गया। एक परिवार पिछला गेट निकालने के लिए दीवार तोड़ रहा था। तोड़फोड़ की आवाज सुनकर मोहल्ले के लोग जाग गए और उन्होंने पुलिस को सूचना दे दी। इससे पुलिस ने मौके पर पहुंचकर काम रुकवा दिया।
यह मामला रात करीब दो बजे का है। उस वक्त ग्राम रमजानपुर निवासी तारिक और शाहनुद्दीन ने यूपी-100 पुलिस को सूचना दी कि उनके मोहल्ले का एक परिवार पिछला गेट निकालने के लिए दीवार तोड़ रहा है। दूसरी तरफ किसी और व्यक्ति की जमीन है। उस समय मोहल्ले के लोग सो रहे थे। लोगों ने अचानक तोड़फोड़ की आवाज सुनी तो वह दंग रह गए। कुछ लोग समझे कि कोई चोर नकबजनी को दीवार तोड़ रहा है। इससे मोहल्ले में हलचल मच गई। जब लोगों को पता चला कि एक परिवार चोरी छिपे पिछला गेट निकालने के लिए दीवार तोड़ रहा है तो उन्होंने हंगामा कर दिया। इसकी सूचना पर यूपी-100 और थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने न सिर्फ दरवाजा तोड़ना बंद करा दिया, बल्कि उसकी वीडियो भी बना ली।

रमजानपुर गांव में एक परिवार ने चोरी छिपे दरवाजा निकालने का प्रयास किया था। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस को भेजा गया था। फिलहाल काम बंद करा दिया गया है। तहरीर मिलने पर मामले की जांच की जाएगी।
विशाल प्रताप सिंह, एसओ कादरचौक
... और पढ़ें

केरोसिन डालकर युवक ने पत्नी को जला डाला, मौत

दहगवां/जरीफनगर (बदायूं)। जरीफनगर थाना क्षेत्र के ग्राम विजयगढ़ी में गुरुवार को एक व्यक्ति ने मिट्टी का तेल डालकर अपनी पत्नी को आग लगा दी और उसे कमरे में बंद करके भाग गया। परिवार वालों ने जैसे-तैसे आग बुझाई। बाद में उसे जिला अस्पताल ले गए, जहां उसकी मौत हो गई। आग बुझाने के दौरान विवाहिता का देवर भी झुलस गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।
गुरुवार सुबह ग्राम विजयगढ़ी निवासी कृपाल और उसकी पत्नी मंजू (30) छत पर सोकर उठे थे। दोनों में उठते ही किसी बात को लेकर विवाद हो गया। इससे कृपाल ने वहीं छत पर पत्नी को पीटना शुरू कर दिया और उसे घसीटते हुए नीचे ले आया। घर में शोर शराबा सुनकर परिवार वाले जाग गए। जब तक वह मंजू को बचा पाते, उससे पहले कृपाल पत्नी को कमरे में ले गया और वहीं मंजू पर केरोसिन डालकर आग लगा दी। उसके बाद कृपाल बाहर से दरवाजा बंद करके फरार हो गया। यह देखकर कृपाल का छोटा भाई अतर सिंह और परिवार के अन्य सदस्य कमरे की ओर भागे। अतर सिंह ने दरवाजा खोलकर जैसे-तैसे आग बुझाई। इस प्रयास में वह खुद भी झुलस गया। इसके बाद परिवार वाले मंजू को जिला अस्पताल ले गए, जहां दोपहर करीब दो बजे मंजू की इलाज के दौरान मौत हो गई। अतर सिंह ने बताया कि उसका भाई शराबी है। वह अक्सर मंजू के साथ मारपीट करता था। उसने ही अपनी पत्नी को आग लगाकर मार डाला। परिवार वालों की सूचना पर थाना पुलिस जिला अस्पताल पहुंच गई। पुलिस ने कागजी कार्रवाई करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
मंजू की शादी करीब 11 साल पहले हुई थी। उसके पांच बच्चे हैं। बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल है। उसके ससुराल वालों ने मायके चमनपुरा गांव में फोन कर दिया है। वह भी देर शाम जिला अस्पताल पहुंच गए थे। अभी किसी ने इस संबंध में तहरीर नहीं दी है।

कृपाल शराबी व्यक्ति है। उसने ही अपनी पत्नी को आग लगा दी थी, जिससे उसकी मौत हो गई। अभी कोई तहरीर नहीं आई है। तहरीर आने पर रिपोर्ट दर्ज की जाएगी। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।
पंकज लवानिया, इंस्पेक्टर जरीफनगर
... और पढ़ें

दो घंटे जाम रहा लावेला चौक, बाइक सवार भिड़े

बदायूं। वन-वे होने से पहले लावेला चौक करीब दो घंटे तक जाम रहा। वाहन निकालने की कोशिश में कई बाइक के इंडीकेटर और लाइटें टूटीं। एक बाइक की नंबर प्लेट टूटने पर दो युवक आपस में भिड़ गए। जैसे-तैसे बीच बचाव कर मामला सुलझाया गया।
जाम लगने की शुरुआत सोमवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे हुई। दो ई-रिक्शा और टेंपो वाले ने गलत दिशा से गुजरने का प्रयास किया। इसी चक्कर में सामने से आ रहे वाहन फंस गए और कुछ ही मिनट में जाम लग गया। बाद में बाइक सवारों ने जहां से जगह मिली, उधर से बाइक लगा दी। इससे पूरा चौराहा जाम हो गया। साढ़े 11 बजे तक न तो कोई होमगार्ड दिखाई दिया और न ही कोई ट्रैफिक पुलिस कर्मी मौके पर मौजूद था, जिससे चौराहे पर जाम से मुक्ति मिलती। इस दौरान लावेला चौक से जिला अस्पताल की ओर जाने के दौरान एक बाइक में पीछे से दूसरी बाइक टकरा गई, जिससे आगे वाली बाइक की नंबर प्लेट टूट गई। इससे आक्रोशित युवक ने बाइक वहीं लगा दी और पीछे से आ रहे बाइक सवार से भिड़ गया। इस दौरान वैसे भी गर्मी में लोगों के पसीने छूट रहे थे। लोगों ने जैसे-तैसे उन्हें समझाकर एक दूसरे से अलग किया। इसके बावजूद जाम नहीं खुला। कुछ देर बाद मौके पर पहुंचे तीन होमगार्डों ने जाम खुलवाने की कोशिश की, तब कहीं साढ़े 12 तक जाम खुल सका।
... और पढ़ें

नाबालिग से दुष्कर्म का आरोपी घूम रहा खुलेआम

बदायूं। नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म के आरोपियों को उझानी पुलिस गिरफ्तार नहीं कर रही है। पीड़ितों का कहना है कि आरोपी समझौते के लिए उन्हें तरह-तरह से धमका रहे हैं। इससे परेशान परिजनों ने एसपी देहात के साथ ही डीआईजी से मिलकर आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की। पीड़ित पक्ष ने जिले की पुलिस पर भी आरोपियों को संरक्षण देने का आरोप लगाया और पूरे प्रकरण की विवेचना गैर जिले की पुलिस से कराने की मांग भी की।
एक माह पूर्व उझानी इलाके में घटी इस चर्चित घटना में धर्मेंद्र प्रधान, उसके भतीजे शानू सिंह और भाई दुर्वेश उर्फ पप्पू के खिलाफ अपहरण कर नाबालिग से दुष्कर्म करने के मामले में रिपोर्ट लिखाई गई थी। किशोरी के 161 व 164 के बयान भी हो चुके हैं, लेेकिन पुलिस ने अभी तक मुख्य आरोपी धर्मेंद्र प्रधान को गिरफ्तार नहीं किया है, जबकि वह पिछले दिनों डीएम के साथ गंगा आरती में शामिल होकर तथा फेसबुक पर उसकी फोटो अपलोड करके डीएम से अपनी नजदीकियां दिखाने की कोशिश भी कर चुका है। सोमवार को किशोरी की मां एसपी देहात डॉ. सुरेंद्र प्रताप सिंह से तथा पिता डीआईजी से मिले। उनका कहना था कि राजनैतिक पहुंच और स्थानीय अधिकारियों से मिलीभगत के चलते पुलिस आरोपियों को बचाने का प्रयास कर रही है। उनका कहना था कि उन्हें उझानी और जिले की पुलिस से निष्पक्ष विवेचना की उम्मीद नहीं है इसलिए इस प्रकरण की विवेचना बदायूं से स्थानांतरित कराकर अन्य जिले की पुलिस से कराई जाए।
... और पढ़ें

संदिग्ध परिस्थितियों में लगी युवक को गोली

कादरचौक (बदायूं)। थाना क्षेत्र के एक गांव में सोमवार दोपहर एक युवक को संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लग गई। उसने तीन लोगों पर गोली मारने का आरोप लगाया है। थाना क्षेत्र के ग्राम ढडूनगला निवासी जुगेंद्र (25) पुत्र मनोहर का आरोप है कि वह सोमवार दोपहर करीब तीन बजे खेत से घर लौट रहा था। तभी रास्ते में उसे गांव के तीन लोगों ने घेर लिया। उन्होंने तमंचे से गोली मार दी। जो उसकी बाजू में जा लगी। इससे वह घायल हो गया। बाद में उसने पुलिस को सूचना दी, जिस पर पहुंची पुलिस ने घायल को प्राथमिक उपचार के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है। एसओ विशाल प्रताप सिंह ने बताया कि मामला संदिग्ध प्रतीत हो रहा है। पहले इस मामले की जांच होगी। तभी कोई रिपोर्ट की जाएगी। ... और पढ़ें

ईंटों भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली ने बाइक को मारी टक्कर, युवक की मौत

बदायूं। सोमवार रात बिसौली इलाके में एक ट्रैक्टर-ट्रॉली ने बाइक सवार चचेरे-तहेरे भाइयों को रौंद दिया, जिसमें तहेरे भाई की मौत हो गई, जबकि चचेरा भाई गंभीर रूप से घायल हो गया। इससे गुस्साईं महिलाएं व अन्य ग्रामीण घटनास्थल पर एकत्र हो गए, जिससे रोड पर जाम लग गया। सूचना पर पहुंची ने उन्हें जैसे तैसे समझाया और शव लेकर आई।
बिसौली कोतवाली क्षेत्र के ग्राम मौजमपुर निवासी राजेश (27) पुत्र राधेश्याम सोमवार रात बाइक से अपने चचेरे भाई श्याम सिंह (25) पुत्र अमर सिंह के साथ घरेलू सामान खरीदने बिसौली आया था। यहां से खरीदारी करने के बाद दोनों भाई गांव लौट रहे थे। उस वक्त दोनों हेलमेट नहीं लगाए थे। रास्ते में विद्युत उपकेंद्र के पास सामने से आ रहे ईंटों लदी ट्रैक्टर-ट्राली ने टक्कर मार दी। इससे राजेश की मौके पर ही मौत हो गई। श्याम सिंह गंभीर रूप से घायल हो गया। हादसे के बाद चालक ट्रैक्टर-ट्राली वहीं छोड़कर फरार हो गया। उधर से गुजर रहे लोगों ने पुलिस को सूचना दी, जिससे पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और घायल के साथ शव को बिसौली स्वास्थ्य केंद्र ले गई। इधर, हादसे की जानकारी के बाद युवक के परिवार वाले और गांव की तमाम महिलाएं मौके पर पहुंच गई। वे ट्रैक्टर चालक को गिरफ्तार करने की मांग पर अड़ गए। इससे रोड के दोनों ओर जाम लग गया। बाद में पुलिस ने बमुश्किल उनको समझाया और शव को मोर्चरी भिजवाया।
... और पढ़ें

बाइक रौंद हाईवे पर पलटी बोलेरो, पांच घायल

ओरछी (बदायूं)। फैजगंज बेहटा इलाके में शुक्रवार रात मुरादाबाद-फर्रुखाबाद हाईवे पर एक बोलेरो ने बाइक सवार को रौंद दिया और सड़क पर पलट गई। इस हादसे में बाइक सवार समेत पांच लोग घायल हो गए। बाइक सवार को चंदौसी और बाकी लोगों को जिला अस्पताल भेजा गया है।
यह हादसा शुक्रवार देर रात का है। उस वक्त इस्लामनगर थाना क्षेत्र के ग्राम जाफरपुर निवासी विजेंद्र यादव अपनी बाइक लेकर ओरछी चौराहे पर खड़े थे। उसी समय चंदौसी की ओर से आ रही बोलेरो ने बाइक सवार को टक्कर मार दी और सड़क किनारे बोर्ड तोड़ते हुए पलट गई। इस हादसे में बाइक सवार विजेंद्र यादव गंभीर रूप से घायल हो गया। जबकि बोलेरो में मुड़िया धुरेकी निवासी हरवीर, उनकी पत्नी और दो बच्चे सवार थे। वह भी गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसे के दौरान बोलेरो चालक मौके से फरार हो गया। बाद में इसकी सूचना पर पहुंची पुलिस ने विजेंद्र यादव को चंदौसी को भेज दिया। जबकि बोलेरो सवार चारों लोगों को बिसौली स्वास्थ्य केंद्र भेजा, जहां से उन्हें जिला अस्पताल रेफर किया गया है।
... और पढ़ें

नौनी टिकन्ना में धर्मस्थल का फिर से निर्माण शुरू होने पर तनाव

दातागंज (बदायूं)। कोतवाली क्षेत्र के गांव नौनी टिकन्ना में एक समुदाय के धर्मस्थल का फिर से निर्माण शुरू हो जाने के बाद शनिवार को तनाव का माहौल बन गया। इसकी भनक लगते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। बाद में समुदाय के लोगों को कोतवाली बुलाकर एसडीएम और सीओ ने बात की। साथ ही उन्हें कोई नई परंपरा नहीं डालने की हिदायत भी दी है।
नौनी टिकन्ना में एक समुदाय के धर्मस्थल को लेकर तनाव का मामला कोई पहली बार सामनेे नहीं आया है। वर्ष-2012 में इसी स्थान पर निर्माण कार्य हुआ तब भी विवाद होने से बच गया था। उस समय निर्माण कराने वाले व्यक्ति ने आटा चक्की लगाने की बात कही थी। इसके बाद भी फिर से निर्माण कराने का प्रयास किया गया तो निर्माणाधीन भवन के ऊपर लाउडस्पीकर भी लगा दिया गया। शुक्रवार शाम को इसकी भनक लगते ही दूसरे समुदाय के लोग भड़क उठे। उन्होंने कोतवाली पहुंचकर इसकी शिकायत भी कर दी।
माहौल गरमाता देख कोतवाल गोविंद सिंह ने अपने आलाधिकारियों को भी पूरे घटनाक्रम से अवगत करा दिया। शनिवार दोपहर में एसडीएम केवी सिंह और सीओ एसके सिंह ने दोनों पक्ष के लोगों को अलग-अलग बुलाकर उनसे जानकारी की। असलियत के पता लगते ही अफसरों ने निर्माण शुरू करने वाले लोगों को आड़े हाथ ले लिया। उन्हें हिदायत भी दी गई है कि अगर नई परंपरा डाली गई तो कार्रवाई कर दी जाएगी। इधर, कोतवाल का कहना है कि दोनों पक्ष आपस में सहमत हैं। गांव में तनाव भी नहीं है।
... और पढ़ें

पहले तीस हजार लेकर युवती सौंपी, फिर पकड़वाया

दातागंज (बदायूं)। कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में एक व्यक्ति ने अपने साले की बेटी को तीस हजार रुपये लेकर एक युवक के हवाले कर दिया। दो दिन बाद जब युगल बाइक से घूमने निकला तो पुलिस बुलाकर दोनों को पकड़वा दिया। युवक ने न्याय की उम्मीद के साथ पुलिस कर्मियों के सामने हकीकत बयां कर दी, लेकिन पुलिस ने युवती को उसके फूफा के हवाले कर दिया।
कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में रिश्ते के फूफा ने युवती के जरिए परिचित युवक से तीस हजार रुपये ठग लिए। युवती को उसने शादी कर लेने के बहाने पहले तो सौंप दिया फिर दो दिन बाद जब युगल बाइक से घूमने के लिए निकला तो पुलिस को बुलाकर दोनों को पकड़वा दिया। युवक ने इस उम्मीद के साथ पुलिस कर्मियों के सामने हकीकत बयां कर दी कि उसे न्याय मिलेगा लेकिन पुलिस ने युवती को उसके फूफा के हवाले कर दिया।
ठगी का मामला कोतवाली क्षेत्र के गांव भुडेली का है। तीन दिन पहले भुडेली पहुंचे एक व्यक्ति ने अपने परिचित के लिए साले की बेटी हवाले कर दी। इसके एवज में युवक से 30 हजार रुपये भी ऐंठ लिए। दो दिन तक युगल साथ रहा। तीसरे दिन शनिवार पूर्वाह्न में जब युवक और युवती बाइक से घूमने के लिए कसबे की ओर निकले तो युवती के फूफा ने पुलिस कर्मियों को बुला लिया। युवती ने हालांकि चुप्पी साध ली, लेकिन युवक ने पुलिस कर्मियों के सामने हकीकत बयां कर सुुनने वालों को भी सकते में डाल दिया। पुलिस कर्मियों ने युवती के लिए उसके फूफा के हवाले कर दिया है। इस पूरे मामले में पुलिस कर्मियों की भूमिका पर सवाल उठने लगे हैं। कोतवाल गोविंद सिंह ने बताया कि ऐसा कोई मामला उनके संज्ञान में नहीं आया, फिर भी हकीकत का पता लगाया जाएगा।

चोर समझा जिसे प्रेमी युगल निकला
दातागंज। कसबे के एक मोहल्ले में शुक्रवार रात करीब एक बजे गलियारे में चोर होने का ऐसा शोर मचा कि लोग घरों से बाहर निकल आए। उन्होंने खोजबीन की तो गलियारे के पास ही युवक और युवती मिले। दोनों आपत्तिजन हालत में थे। लोगों ने उनके घरवालों को भी मौके पर बुला लिया। बाद में उन्हें पुलिस के हवाले कर दिया गया। इसके अलावा पुलिस ने पिछले सप्ताह इलाके से ही लापता किशोरी को उसके प्रेमी के साथ पकड़ लिया। बताते हैं कि वह दो साल पहले भी अपने इस प्रेमी के साथ लापता हुई थी, लेकिन तब मामला रफा दफा कर दिया गया था। दोनों पुलिस की हिरासत में हैं।
... और पढ़ें

स्वास्थ्य विभाग के एआरओ समेत दो कर्मियों के मकान से लाखों की चोरी

उझानी (बदायूं)। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में चोरों ने शनिवार दिनदहाड़े अपर शोध अधिकारी समेत एक्स-रे टैकभनीशियन के सरकारी आवासों को खंगाल लिया। एआरओ अपने बेटे की शादी की तैयारियों के सिलसिले में अपने पैतृक घर गए थे तो एक्स-रे टैकभनीशियन ड्यूटी पर थे। मेनगेट के ताले तोड़कर अंदर घुसे चोरों ने अलमारियों के लॉक भी तोड़ दिए और जेवरात समेत जो भी कीमती सामान मिला, वह उसे समेट ले गए। बाद में एक स्वास्थ्य कर्मी ने संदिग्ध नजर आने पर एक युवक को दबोचने की कोशिश भी की लेकिन वह उसे धक्का मारकर भाग गया। पुलिस ने उसकी पहचान करने के लिए अस्पताल के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को खंगालना शुरू कर दिया है।
सरकारी आवासों में चोरी की घटना दोपहर में करीब एक बजे की है। अपर शोध अधिकारी (एआरओ) दीनानाथ विमल और एक्स-रे टैक्नीशियन संजय प्रसाद के आवासों के मेनगेट आमने-सामने हैं। चोर दोनों आवासों में किस समय घुसे, यह तो किसी को भी नहीं पता लेकिन करीब पौने दो बजे स्वास्थ्य कर्मी पुष्पेंद्र को दो युवक संदिग्ध हालात में आवासों के बाहर घूमते नजर आए। पुष्पेंद्र ने इनमें से एक युवक को दबोचने की कोशिश की तो वह उसे धक्का देकर भाग गया। उसी दौरान एक्स-रे टैक्नीशियन अपने आवास की ओर पहुंचे तो उनके अलावा दीनानाथ के मेनगेट के ताले टूटे मिले। भनक लगते ही मौके पर स्वास्थ्य कर्मियों समेत मरीजों के तीमारदारों की भीड़ लग गई।
एआरओ दीनानाथ के बेटे अनिल की शादी नौ जुलाई को है, सो वह आवास में ताला डालकर परिजनों समेत पैतृक घर कासगंज सदर कोतवाली के गांव नदरई चले गए थे। स्वास्थ्य कर्मियों ने उन्हें फोन पर घटना के बारे में जानकारी दी तो वह पत्नी प्रेमश्री देवी के साथ आवास पर लौट आए। दीनानाथ ने पुलिस को बताया कि चोरी में उनके आवास से करीब 11 तौला वजन सोने के जेवरात, घरेलू कीमती सामान और 28 हजार रुपया नकद गया है। एक्स-रे टैक्नीशियन के आवास से चोर कोई खास सामान नहीं ले जा पाए। इधर, कोतवाल विनाद कुमार चाहर समेत पुलिस कर्मियों ने तहकीकात के दौरान अस्पताल के मेनगेट पर लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज भी देखी है। स्वास्थ्य कर्मी पुष्पेंद्र ने फुटेज देख उस युवक को भी पहचान लिया जो उसे धक्का मार कर भाग गया था। फुटेज में उसका चेहरा साफ नजर नहीं आ रहा है।

...तो फिर चोरों को कैसे पता था कि विमल के बेटे शादी है
उझानी। चिकित्साधीक्षक समेत ज्यादातर डॉक्टर और कर्मचारी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परसिर बने आवासों में रहते हैं। कुछेक के परिजन भी आवासों में नहीं रहते। ऐसे कर्मियों और डॉक्टरों की संख्या भी छह-सात है। घटना को लेकर जो जानकारियां सामने आई हैं, उससे एक बात तो साफ है कि चोरों ने रेकी जरूर की है। पर सवाल यह भी उठ रहा है कि चोरों को कैसे पता लग गया था कि दीनानाथ विमल के बेटे की शादी है और उन्होंने जेवरात बनवा लिए हैं। सबकुछ पता लगाने के बाद ही चोरों ने घटना को अंजाम दिया हो। काफी हद तक यह भी संभव है कि आवास की पहचान नहीं हो पाने के कारण एक्स-रे टैक्नीशियन संजय के आवास का ताला तोड़ लिया गया हो। शायद इसीलिए चोरों ने संजय के आवास में ज्यादा गौर नहीं किया।

अस्पताल में दो आवासों में चोरी की घटना में कई पहलुओं पर तहकीकात की जा रही है। सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में संदिग्ध युवक का चेहरा पहचान में नहीं आ पा रहा है फिर भी जल्द ही चोरों का पता लगाकर माल बरामद कर लिया जाएगा।-विनोद कुमार चाहर, कोतवाल।
... और पढ़ें

सीसीटीवी फुटेज में संदिग्ध नजर आए दो युवकों से पुलिस ने की पूछताछ

उझानी (बदायूं)। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर के आवासों में रहने वाले स्वास्थ्य विभाग के अपर शोध अधिकारी (एआरओ) दीनानाथ विमल और एक्स-रे तकनीशियन संजय प्रसाद के आवासों में लाखों रुपये की चोरी के मामले में पुलिस ने रविवार सुबह दो युवकों को दबोच लिया। घटना वाले दिन दोनों अस्पताल की सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में नजर आए थे लेकिन चश्मदीद स्वास्थ्य कर्मी पुष्पेंद्र को बुलाकर दिखाया गया तो उसने पहचानने से इंकार कर दिया। फिलहाल, पुलिस दोनों से पूछताछ कर रही है।
कोतवाली गेट के सामने स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के एआरओ दीनानाथ विमल और एक्स-रे तकनीशियन संजय प्रसाद के घर में चोरी की घटना शनिवार दोपहर में हुई थी। दीनानाथ अपने आवास में ताला डालकर पैतृक घर नदरई (कासगंज) गए थे और संजय ड्यूटी पर थे। संजय के आवास से चोरी में कोई खास सामान तो नहीं गया था लेकिन एआरओ के घर से चोर उनके बेटे की शादी के लिए जुटाए गए जेवरात पर भी हाथ साफ कर ले गए थे। पुलिस ने एआरओ की तहरीर पर शनिवार देर रात ही अज्ञात चोरों के खिलाफ रिपोर्ट भी दर्ज कर ली है।
चोरों तक पहुंचने की कोशिश में जुटी पुलिस ने रविवार सुबह में दो युवकों को पकड़ा। दोनों नगर के निवासी बताए गए हैं। पूछताछ के बाद पुलिस कर्मियों ने दोनों की पहचान कराने के लिए चश्मदीद स्वास्थ्य कर्मी पुष्पेंद्र को भी बुला लिया लेकिन पुष्पेंद्र ने उनका हुलिया देखकर पहचानने से इंकार कर दिया। पुष्पेंद्र ने पुलिस को बताया है कि दो युवक उसे धक्का देकर मेनगेट से होकर भागे थे। एक छरहरे बदन का था। इधर, घटना के वर्कआउट के लिए लगे दरोगा शिवेंद्र भदोरिया ने बताया कि सीसीटीवी कैमरे की फुटेज के लिए विशेषज्ञों को दिखाने को भेज दिया गया है। फुटेज में दोनों में से किसी भी युवक का चेहरा पहचान में नहीं आ रहा है। कुछ और युवकों पर शक है, उन्हें भी तलाशा जा रहा है।

कछला में चोरी का दूसरा आरोपी भी गिरफ्तार
उझानी। कछला में पिछले दिनों राजू के घर में हुई चोरी में वांछित सहसवान के गांव भीकमपुर निवासी नफीस को पुलिस ने रविवार सुबह में गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से पुलिस ने तमंचा और कारतूस के अलावा चोरी का सामान भी बरामद किया गया है। नफीस ने गांव के ही मुकीत के सहयोग से घटना को अंजाम दिया था। पुलिस मुकीत को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।
... और पढ़ें

जहर खाकर जिला अस्पताल पहुंचा पत्नी पीड़ित

बदायूं। रविवार दोपहर एक युवक जहर खाकर जिला अस्पताल पहुंचा। पहले काफी देर तक मंदिर की बाउंड्री पर बैठा रहा। जैसे ही उसकी हालत बिगड़ी, तभी अचानक बाउंड्री से नीचे गिर गया और उसके मुंह से झाग निकलने लगे। उसकी हालत देखकर अस्पताल के कर्मचारी घबरा गए और उसे इमरजेंसी में ले गए। उसके बाद युवक का इलाज शुरू कर दिया गया।
युवक की पहचान सिविल लाइंस थाना क्षेत्र के ग्राम जहानाबाद निवासी तारा सिंह पुत्र खुन्नी सिंह के रूप में हुई है। उसकी जेब में कई शिकायती पत्र रखे मिले हैं। एक शिकायती पत्र छह दिन पहले 24 जून को सिविल लाइंस थाने में दिया गया था। जिसमें तारा सिंह ने आरोप लगाया था कि वह टेंपो चालक है और इसी से परिवार का गुजारा करता है। वह स्टैंड पर टेंपो खड़ा करके घर लौटा था, जहां पहले से उसके साढू़ और दामाद बैठे हुए थे। उसने अपनी पत्नी से चाय नाश्ता को कहा, जिस पर उसकी पत्नी भड़क गई। उसने गाली-गलौज शुरू कर दी। बाद में उसके साथ मारपीट की गई। बहरहाल जिला अस्पताल में भर्ती तारा सिंह की हालत नाजुक बनी हुई है। उसने जहर क्यों खाया, अभी इसका पता नहीं चला है। अस्पताल कर्मचारी शिकायती पत्र के अनुसार कयास लगा रहे हैं कि युवक ने घरेलू विवाद के चलते जहर खाया होगा। उसके परिवार वालों को सूचना दे दी गई है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन