विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

सोनीपत

शुक्रवार, 10 अप्रैल 2020

नीले रंग का ट्रैकसूट पहने युवक का शव मिलने से सनसनी, सिर पर मिले चोट के निशान

गांव रेवली के पास अज्ञात हमलावरों ने एक युवक के सिर पर तेजधार और ठोस हथियार से वार कर हत्या कर दी। युवक का शव गांव के बाहर सड़क किनारे खेत में पड़ा मिला है। सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। शव की पहचान नहीं हो सकी है। पुलिस पहचान का प्रयास कर रही है। पुलिस ने मामले में किसान के बयान पर अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

गांव रेवली निवासी किसान अजय डागर ने पुलिस को बताया कि वह शुक्रवार सुबह अपने खेत की तरफ गए थे, जब वह खेत में पहुंचे तो उसे सड़क किनारे खेत में एक युवक का शव पड़ा मिला। उसने उसके पास जाकर देखा तो उसके सिर, माथे और आंख पर चोट के निशान थे। उसके सिर और माथे पर किसी तेजधार और ठोस हथियार से वार कर उसकी हत्या की गई है।

किसान ने मामले से मुरथल थाना पुलिस को अवगत कराया। सूचना मिलते ही मुरथल थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में ले लिया। पुलिस ने ग्रामीणों और आसपास के लोगों को बुलाकर पूछताछ की, लेकिन शव की पहचान नहीं हो सकी। पुलिस के अनुसार युवक की उम्र करीब 25 वर्ष है और उसने नीले रंग का ट्रैकसूट पहन रखा है। उसके सिर और माथे पर चोट के निशान है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता लग सकेगा कि हत्या किस हथियार से हुई है। 
युवक का शव खेत में पड़ा मिला है। उसके सिर और चेहरे पर चोट के निशान हैं। शव की पहचान का प्रयास किया जा रहा है। फिलहाल अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता लग सकेगा कि युवक की किस हथियार से हत्या की गई है। सुमित सिंह, थाना प्रभारी, मुरथल।
... और पढ़ें

आवाज देकर घर से बुलाया, घसीटकर ले गए और पीट-पीटकर की हत्या, 13 पर मुकदमा दर्ज

गोहाना शहर के आर्य नगर में हमलावरों ने एक युवक पर लाठी-डंडों से पीटकर हत्या कर दी। युवक ने पीजीआई रोहतक में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने रोहतक में शव का पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिजनों को सौंप दिया। पुलिस ने मामले में युवक के भाई के बयान पर पांच नामजद समेत 13 हमलावरों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है। रोहतक रोड स्थित आर्य नगर के रहने वाले नीरज ने शहर थाना पुलिस को बताया कि उनकी कालोनी का रहने वाला रिंकू और उसका भाई 8 दिसंबर की रात को शराब पीकर उनकी गली से बाइक पर सवार होकर जा रहे थे। उनके घर के बाहर गली में बंधी भैंस से उनकी बाइक टकरा गई थी और रिंकू गिर गया। 

नीरज ने बताया कि उस समय उसका भाई कृष्ण उर्फ काला गली में था। उसने रिंकू और उसके भाई को घर जाने को कह दिया था। इस पर रिंकू और उसका भाई कृष्ण को गाली देने लगे और उससे मारपीट की। दोनों भाई कृष्ण को जान से मारने की धमकी देकर वहां से चले गए। 

नीरज का आरोप है कि 9 दिसंबर को सुबह रिंकू का चाचा आर्य नगर निवासी रामनिवास, अपने बेटे राजकुमार, पप्पी और रोहताश सहित सात-आठ अन्य व्यक्ति तेजधार हथियार, लाठी व डंडों लेकर कृष्ण के घर पहुंचे थे। उन्होंने आवाज देकर कृष्ण को घर से बाहर बुलाया। 
... और पढ़ें

सोनीपतः दिल्ली का इनामी बदमाश गिरफ्तार, 50 हजार रुपये रखा गया था इनाम, ऐसे पकड़ा गया

दिल्ली पुलिस का 50 हजार का इनामी कुख्यात मोनू लल्हेड़ी को अवैध शस्त्र निरोधक टीम ने अवैध हथियार समेत गिरफ्तार किया है। आरोपी के कब्जे से देशी पिस्तौल और छह कारतूस बरामद हुए हैं। पुलिस ने आरोपी को अदालत में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया है। आरोपी के खिलाफ दिल्ली की डिफेंस कालोनी में पुलिस पर जानलेवा हमला करने का आरोप है, जिसमें उसकी गिरफ्तारी पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। इसके अलावा भी आरोपी हत्या, हत्या के प्रयास और लूट समेत 20 मामलों में नामजद रह चुका है। 

डीएसपी डॉ. रवींद्र कुमार ने सेक्टर-3 स्थित अवैध शस्त्र निरोधक टीम के कार्यालय में आयोजित पत्रकारवार्ता में बताया कि टीम में शामिल एएसआई गुलशन नंदी चौक के पास गश्त पर थे। इसी दौरान उन्हें सूचना मिली कि दिल्ली पुलिस का 50 हजार रुपये का इनामी बदमाश गांव लल्हेडी कलां निवासी मोनू यहां से गुजरने वाला है, जिस पर पुलिस ने नाकाबंदी कर दी। 

इसी बीच जब आरोपी वहां पहुंचा तो उसे दबोच लिया गया। उसके पास से 32 बोर की पिस्तौल और छह कारतूस बरामद किए गए। आरोपी ने अपनी पहचान मूलरूप से लल्हेड़ी कलां फिलहाल उत्तरप्रदेश के लोनी में गाजियाबाद रोड स्थित प्रशांत विहार के रूप में दी। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी को अदालत में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया गया है। 

डिफेंस कालोनी में पुलिस पर चला दी थी गोली 
आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसने सितंबर माह में दिल्ली की डिफेंस कालोनी में पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में पुलिस टीम पर गोली चला दी। उस समय उसके साथ दिल्ली के साकेत का रहने वाला अनुज रावत और यामीन खान भी था। इस संबंध में दिल्ली में हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज है। जिसमें उसकी गिरफ्तारी पर 50 हजार रुपये का इनाम है। 
... और पढ़ें

सोनीपतः नौकर ने मालकिन को रास्ते में रोक शादी के लिए प्रपोज किया, धमकी देने पर घर में हुई कैद

एक नौकर ने अपनी मालकिन को बीच रास्ते में रोककर शादी करने के लिए प्रपोज कर दिया। जिस पर उसने विरोध जताया तो नौकर ने उसे धमकी दे डाली। नौकर की इस हरकत से परेशान मालकिन अपने घर में कैद होकर रह गई। महिला ने नौकर के नशा करने के साथ ही गलत व्यवहार के कारण कुछ दिनों पहले नौकरी से हटा दिया था। जिसके बाद से वह उसको परेशान कर रहा है। महिला के पति की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

शहर में बुटीक चलाने वाली एक महिला ने कुछ दिन पहले गौतम नाम के एक युवक को बुटीक में काम करने के लिए रखा था। महिला के पति ने बताया कि गौतम नशा करने का आदि है और वह काफी अजीब व्यवहार करता था। उसे समझाने का प्रयास किया गया, लेकिन वह नहीं माना तो उसे नौकरी से हटा दिया गया। इसके बाद अब वह फोन पर अश्लील बात करने लगा और विरोध करने पर बदनाम करने की धमकी देता है।

वह महिला का पीछा भी करता है, जिसके चलते 24 फरवरी को जब महिला कच्चे क्वार्टर में किसी काम से गई तो गौतम ने उसे बीच रास्ते पर रोक लिया। नौकर ने महिला को शादी करने के लिए प्रपोज किया। लेकिन जब उसने विरोध किया तो वह महिला व उसके पति को जान से मारने की धमकी देने लगा। सिविल लाइन थाना पुलिस ने महिला के पति की शिकायत पर केस दर्ज कर आरोपी नौकर की तलाश शुरू कर दी है।
... और पढ़ें
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

सोनीपत: डेढ़ करोड़ रुपये चोरी करने को इंजीनियर फूफा ने रेता था भतीजे का गला, साथी समेत गिरफ्तार

सोनीपत के सेक्टर-15 में बिल्डर के मकान में घुसकर बेटे का गला रेतने की घटना का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। मकान में डेढ़ करोड़ रुपये चोरी करने के लिए घुसे इंजीनियर फूफा ने भतीजे का गला रेता था। बिल्डर ने डेढ़ करोड़ रुपये में मकान बेचा था और आरोपी को यह पता चला था कि बिल्डर ने वह रुपये घर में रखे हुए हैं।

उनको चोरी करने के लिए ही वह अपने दोस्त के साथ मुंह पर कपड़ा बांधकर घर में घुसा था लेकिन बच्चे ने उसको पहचान लिया तो उसकी गर्दन पर धारदार हथियार से वार करके दोनों फरार हो गए। पुलिस ने आरोपी फूफा दिल्ली के कृष्णानगर निवासी शिवेंद्र शर्मा व उसके दोस्त शाहदरा निवासी अंशुमन टंडन को गिरफ्तार कर लिया है। 

सेक्टर-15 में रहने वाले बिल्डर दीपक रेलन शनिवार सुबह बेटी को स्कूल छोड़ने गए थे। वहीं उनकी शिक्षिका पत्नी भी सुबह ही स्कूल चली गई थीं। इस बीच सातवीं कक्षा में पढ़ने वाला उसका बेटा मोहित (12) घर में अकेला था। करीब आधा घंटा बाद जब दीपक बेटी को स्कूल छोड़ने के बाद घर पहुंचे तो बेटे ने अंदर से दरवाजा नहीं खोला। जब दरवाजा धकेलकर अंदर देखा तो एक युवक अंदर भागता दिखाई दिया और उसके बाद दीपक ने दरवाजा तोड़ दिया था। जहां उसका बेटा फर्श पर लहुलुहान पड़ा था और गर्दन पर धारदार हथियार के निशान थे।
... और पढ़ें

उम्रकैद की सजा काट रहे शख्स ने गोली मारकर की आत्महत्या, पैरोल खत्म होने के बाद आज जाना था वापस

हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे इंडियन कॉलोनी निवासी युवक ने पैरोल पर आकर वापस जाने से चंद घंटे पहले घर के अंदर गोली मारकर आत्महत्या कर ली। युवक को दिल्ली पुलिस के जवान के बेटे की हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा हुई थी। युवक ने देशी पिस्तौल कनपटी से सटाकर गोली मारी है। जिससे गोली उसके सिर से आर-पार होकर दीवार पर जा लगी। 

परिजन दरवाजा तोड़कर अंदर घुसे तो युवक की मौत हो चुकी थी। मामले की सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर खानपुर में पोस्टमार्टम कराया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। परिजनों ने पुलिस को बताया कि युवक पैरोल खत्म होने के बाद जेल नहीं जाना चाहता था। इसके चलते ही उसने आत्महत्या की है। पुलिस ने युवक के खिलाफ उसके पिता के बयान पर ही अवैध शस्त्र अधिनियम में मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

शहर की इंडियन कॉलोनी के रहने वाले पंकज (22) ने शुक्रवार सुबह करीब पौने आठ बजे अपने कमरे में देशी पिस्तौल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। पंकज हत्या के मामले में उम्रकैद का सजायाफ्ता है और वह 21 दिन पहले पैरोल पर घर आया था। शुक्रवार को ही उसे वापस जेल जाना था। उसने जेल जाने से चंद घंटे पहले ही आत्महत्या कर ली। 

घटना से पहले पंकज ने अपने परिजनों से जेल वापस जाने से मना किया था। परिजनों ने उसे समझाने का प्रयास किया तो वह कमरे में घुस गया और अंदर से दरवाजा बंद कर आत्महत्या कर ली। उसने अपनी कनपटी के दाहिने तरफ पिस्तौल सटाकर गोली चला दी। जिससे गोली उसके सिर के आर-पार होकर बाईं तरफ से निकलकर दीवार में जा लगी। 
... और पढ़ें

मनचले को याद दिलाई नानी, पहले 'मर्दानी' बनकर छात्राओं ने खुद की धुनाई, फिर भीड़ ने मुंडवाया सिर

राई (सोनीपत)। स्कूलों के आसपास छेड़छाड़ की घटनाएं थम नहीं रही हैं और छात्राओं को इस तरह की दिक्कतों से जूझना पड़ रहा है। क्षेत्र के एक गांव के स्कूल में पढ़ने वाली छात्राओं के साथ दो युवक लगातार छेड़खानी के साथ ही अश्लील फब्तियां कस रहे थे। रोजाना की इन युवकों ने वीरवार को भी अश्लील फब्तियां कसकर छेड़खानी की तो छात्राओं ने हिम्मत दिखाई और युवकों को पकड़कर जमकर धुनाई शुरू कर दी। इस दौरान वहां गांव के लोग भी पहुंच गए और पूरा मामला पता चलने पर वो भी युवकों की पिटाई करने लगे।

मौके पर भीड़ जमा हो गई और सरेराह मनचले युवकों के सिर मुंडवाए गए। इस बीच छात्राओं के परिजन भी पहुंच गए। युवकों ने छात्राओं और उनके परिजनों के पैर पकड़कर माफी मांगी। जिसपर छात्राओं के परिजनों ने युवकों को पड़ोसी गांव के होने के साथ ही दोबारा इस तरह की हरकत नहीं करने की बात कहते हुए छोड़ दिया। इस घटना का पूरा वीडियो भी वायरल हुआ है। लेकिन पुलिस इस मामले में कोई शिकायत नहीं आने की बात कह रही है। राई क्षेत्र के एक गांव के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में पड़ोसी गांव की कई छात्राएं पढ़ने के लिए आती है।

क्योंकि उस गांव में स्कूल नहीं है और वहां की छात्राएं काफी समय से पड़ोस के गांव के स्कूल में पढ़ती हैं। उन छात्राओं के साथ स्कूल से जाते समय उनके पड़ोस के दूसरे गांव के दो युवक आए दिन छेड़खानी करते थे। छात्राएं जब छुट्टी के बाद स्कूल से निकलती थी तो वह दोनों युवक कुछ दूर आगे चलते ही उनका पीछा करना शुरू कर देते थे और उनके साथ छेड़खानी करने के अलावा अश्लील फब्तियां कसते थे। इस तरह छात्राएं काफी परेशान हो गईं और युवकों को इस तरह की हरकत नहीं करने के लिए कहा गया।

उसके बावजूद युवक अपनी हरकत से बाज नहीं आए और वह छात्राओं के साथ छेड़छाड़ करते रहे। जिससे परेशान होकर उन छात्राओं ने हिम्मत दिखाई और दोनों युवकों को पकड़ लिया। छात्राओं ने युवकों को पकड़ने के बाद पिटाई शुरू कर दी। उसी समय वहां से स्कूल के गांव के कुछ लोग भी गुजर रहे थे तो वहां मारपीट होती देखकर वह भी रुक गए। जब उनको पूरे मामले का पता चला तो उन्होंने भी युवकों की पिटाई शुरू कर दी। जिससे वहां काफी भीड़ जमा हो गई।

युवकों को सबक सिखाने के लिए लोगों ने कैंची मंगवाई, जिससे सरेराह युवकों के बाल काटे गए। युवकों के बारे में पता किया गया तो वह दोनों छात्राओं के गांव के पड़ोस के गांव के रहने वाले थे। वहां छात्राओं व युवकों के परिजनों को बुलाने के लिए सूचना दी गई। जिससे छात्राओं के परिजन वहां पहुंच गए, लेकिन युवकों के परिजन वहां नहीं पहुंचे। जिसके बाद दोनों युवकों को पुलिस में देने की बात कही गई। पुलिस में देने की बात कहते ही युवक माफी मांगने लगे और इस तरह की हरकत दोबारा कभी नहीं करने की बात कहने लगे।

युवकों ने छात्राओं व उनके परिजनों के साथ ही ग्रामीणों के पैर पकड़कर माफी मांगी। छात्राओं के परिजनों ने युवकों को पड़ोसी गांव के होने के साथ ही दोबारा इस तरह की हरकत नहीं करने की बात कहते हुए छोडने के लिए कह दिया। जिसके बाद युवकों को छोड़ दिया गया और वहां दिखाई देने पर पकड़कर पुलिस में देने की चेतावनी दी गई।
... और पढ़ें

दिल्ली में महिला एसआई की हत्या करके भागे एसआई का शव हाईवे पर कार में मिला, सिर में पीछे लगी है गोली

युवक के सिर के बाल काटते लोग
दिल्ली में महिला एसआई की हत्या करके भागे एसआई का शव पुलिस ने हाईवे पर कार के अंदर से बरामद किया है। एसआई के सिर में पीछे की तरफ गोली लगी है। एसआई का पीछा कर दिल्ली पुलिस ने औद्योगिक थाना क्षेत्र बड़ी पुलिस को कार में शव मिलने की सूचना दी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिजनों को सौंप दिया।

पुलिस ने शुरुआती जांच के बाद मामले को सुसाइड बताते हुए पोस्टमार्टम रिपोर्ट में असल कारणों का खुलासा होने की बात कही है। एसआई के परिजनों ने पुलिस को कोई शिकायत नहीं दी है। मामले की जांच दिल्ली पुलिस कर रही है।

शुक्रवार देर रात पौने दो बजे दिल्ली पुलिस ने बड़ी औद्योगिक थाना क्षेत्र पुलिस को सूचना दी कि बड़ी के पास पेट्रोल पंप के निकट कार में युवक का शव पड़ा है। इसके बाद पहुंची बड़ी औद्योगिक थाना क्षेत्र पुलिस ने बंद कार में से शव को कब्जे में ले लिया। शव की पहचान दीपांशु राठी के रूप में हुई। वह दिल्ली पुलिस में एसआई के पद पर तैनात था। 
... और पढ़ें

गजब! इंजीनियरिंग के छात्र ने वायरलेस ईयरफोन लगा कर डाले छह पेपर, फ्लाइंग ने दबोच लिया

छात्र नकल करने के नए-नए तरीके व उपकरण का इस्तेमाल कर रहे हैं। दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी यूनिवर्सिटी मुरथल में छात्रों ने ऐसा ही कुछ किया है। जहां नकल करने के लिए वायरलेस सिस्टम से ईयर फोन जोड़कर कान में घुसाया हुआ था जो किसी को दिखता भी नहीं था और उसे केवल चुंबक के सहारे ही निकाला जा सकता है।

इसीलिए छह पेपर में उसके सहारे खूब नकल की गई और अन्य छात्रों के जानकारी देने पर यूनिवर्सिटी के प्रोफेसरों ने सातवें पेपर में उसे नकल करते हुए पकड़ लिया। इसके साथ ही इस बार परीक्षा के दौरान नकल करते हुए 77 विद्यार्थियों को पकड़ा गया है। इन सभी की यूएमसी (अनफेयर मींस केसेज) बनाकर कॉपी व अन्य सामग्री सील कर दी गई है और यूएमसी स्टेंडिंग कमेटी इनकी जल्द सुनवाई करते हुए कार्रवाई पर फैसला लेगी।

दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी यूनिवर्सिटी मुरथल की दिसंबर व जनवरी माह में परीक्षा हुई थीं। जिसमें छात्रों को नकल करते हुए पकड़ा गया तो नकल करने के तरीके को देखकर हर कोई हैरान रह गया। एमबीए में मैनेजमेंट एंड ह्यूमेनिटीज के एक छात्र को नकल करते हुए पकड़ा गया। उस छात्र ने अपनी कमीज के कॉलर में वायरलेस सिस्टम लगाया हुआ था और कॉलर की ऊपर से सिलाई की हुई थी। जिससे वह चेकिंग करते हुए किसी को उसके बारे में पता नहीं लग सके। उस वायरलेस सिस्टम से ईयर फोन को जोड़कर अपने कान में अंदर घुसाया हुआ था।

वह कान के इतने अंदर था कि किसी को आसानी से दिखाई नहीं देता था और उसे काफी खींचतान के बाद चुंबक के सहारे ही बाहर निकाला जा सकता था। मैनेजमेंट एंड ह्यूमेनिटीज विभाग के चेयरमैन प्रो. राजबीर सिंह के अनुसार वह छात्र इस तरह नकल करके छह पेपर कर चुका था और वह किसी की पकड़ में नहीं आ सका। लेकिन प्रबंधन को पता चला कि एक छात्र इस तरह से वायरलेस सिस्टम का इस्तेमाल करके नकल कर रहा है, क्योंकि उसकी पहले ही लगभग 8 पेपर में सप्लीमेंटरी आ चुकी है।

इस कारण उसने किसी भी तरह पास होने के लिए नकल करने का यह तरीका अपनाया है। इसकी जानकारी मिलने के बाद उसके कॉलर खुलवाकर व कान में अंदर तक देखने के बाद ही उसे पकड़ा गया। उसके पास से मिले सभी उपकरण के साथ उसकी कॉपी भी सील करके यूएमसी बनाई गई है और उसपर कार्रवाई को लेकर यूएमसी स्टेंडिंग कमेटी फैसला लेगी।
... और पढ़ें

100 मी की दूरी पर पुलिस चौकी, बेखौफ चोर उखाड़ ले गए 27.54 लाख से भरा एटीएम

जीटी रोड स्थित बहालगढ़ चौक पर बदमाश शटर का ताला काटकर 27.54 लाख रुपये की नकदी से भरा एटीएम चोरी कर ले गए। वारदात बहालगढ़ चौकी से महज 100 मीटर की दूरी पर हुई। चोरों ने एटीएम के सीसीटीवी पर स्प्रे मारकर वारदात को अंजाम दिया। मामले की सूचना के बाद पहुंची बहालगढ़ चौकी पुलिस ने मौके का निरीक्षण किया। पुलिस ने एटीएम कंपनी के ब्रांच मैनेजर के बयान पर चोरी का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस चोरों तक पहुंचने के लिए आसपास के क्षेत्र में लगे सीसीटीवी खंगाल रही है।

फरीदाबाद की ग्रीन फील्ड कॉलोनी के रहने वाले नितिन गुलेरिया ने राई थाना पुलिस को बताया कि वह दिल्ली के पड़पड़ गंज स्थित सीसीएस कंपनी में ब्रांच मैनेजर है। उन्होंने बताया कि उनकी कंपनी एटीएम की सुरक्षा, रखरखाव व नकदी डालने का काम करती है। उन्होंने बताया कि उनकी कंपनी ने बहालगढ़ चौक पर एचडीएफसी का एटीएम लगा रखा है। वीरवार रात को चोरों ने एटीएम के बाहर लगे शटर का ताला काट दिया और अंदर से नकदी से भरे पूरे एटीएम को ही उखाड़कर चोरी कर ले गए।

उन्होंने बताया कि एटीएम पर सुबह 7 बजे से रात 10 बजे तक सुरक्षा गार्ड तैनात रहता है। वीरवार रात दस बजे सुरक्षा गार्ड ताला लगाकर गया था। शुक्रवार सुबह जब वह एटीएम पर पहुंचा तो वहां पर एटीएम का शटर खुला था। उसने अंदर जाकर देखा तो पाया कि वहां पर एटीएम ही नहीं था। उसने मामले से अधिकारियों को अवगत कराया। जिस पर पुलिस को सूचित किया गया।

सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने जांच की तो एटीएम के अंदर व बाहर लगे सीसीटीवी पर स्प्रे मारने के साथ ही उन्हें क्षतिग्रस्त किया गया था। जांच में पता लगा कि एटीएम के अंदर 27 लाख 54 हजार 500 रुपये की नकदी थी। जिस पर पुलिस को शिकायत दी गई। राई थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। साथ ही सीसीटीवी भी खंगाले जा रहे हैं। नितिन गुलेरिया ने बताया कि कंपनी ने एक दिन पहले ही एटीएम में 20 लाख रुपये डाले थे। बाकी राशि पहले से ही एटीएम में थी। एटीएम की कीमत भी करीब 20 लाख रुपये है। इससे कंपनी को भारी नुकसान हुआ है।
बहालगढ़ चौक स्थित एचडीएफसी के एटीएम को चोर नकदी सहित उठा ले गए। मुकदमा दर्ज कर लिया है। चोरों का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। जल्द उनका पता लगाकर गिरफ्तार किया जाएगा। -अशोक कुमार, थाना प्रभारी राई।
 
 
... और पढ़ें

पुलिस का आया फोन तो घरवालों के उड़े होश, अस्पताल जाकर देखा तो रखी थी मैकेनिक की लाश

गांव राजपुर से युवक को पार्टी के बहाने घर से बुलाने के बाद एक मोबाइल मैकेनिक की अगवानपुर-पांची रोड पर सिर में चोट मारकर हत्या कर दी गई। मंगलवार रात को युवक सड़क पर पड़ा देखकर राहगीरों ने मामले की सूचना थाने में दी थी। युवक को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ले गया था। जहां उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने युवक के चाचा के बयान पर गांव के ही दो युवकों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

गांव राजपुर निवासी तहसीम ने पुलिस को बताया कि उसका भतीजा सागर (18) मंगलवार दोपहर को घर पर था। इसी दौरान गांव का अनिल उर्फ लुगड़ी उसके भतीजे को पार्टी करने के बहाने अपनी स्कूटी पर बैठाकर गन्नौर शहर ले गया था। उन्हें देर रात पुलिस ने सूचना दी कि सागर का शव गन्नौर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में रखा है।

इस पर वह तुरंत परिजनों के साथ अस्पताल में पहुंचे। उन्होंने देखा कि सागर के सिर पर गहरी चोटों के निशान थे। उसके सिर में किसी ठोस चीज से हमला कर हत्या की गई थी। उन्होंने आरोप लगाया है कि उनके गांव के अनिल उर्फ लुगड़ी व राजा ने उनके भतीजे की हत्या की है। पुलिस ने तहसीम की शिकायत पर अनिल उर्फ लुगड़ी व राजा के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है।
... और पढ़ें

सोनीपत में पंजाब के बदमाश समेत दो को मारी गोली, एक की मौत, पास में पड़ी मिली पिस्टल

गांव बड़ी के पास शाहपुर रोड पर अज्ञात हमलावरों ने पंजाब के बदमाश समेत दो लोगों को गोली मार दी। जिससे एक व्यक्ति की मौत हो गई और पंजाब के बदमाश की हालत गंभीर बनी हुई है। ग्रामीण ने दोनों को बेसुध पड़ा देखकर पुलिस को अवगत कराया था। पुलिस ने शव की शनाख्त के लिए प्रयास शुरू कर दिया है। वहीं घायल बदमाश को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया, जहां उसे पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया गया।

बदमाश पर पंजाब में लूट, मादक पदार्थ तस्करी व अवैध शस्त्र अधिनियम के 10 से अधिक मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस ने ग्रामीण के बयान पर हत्या, हत्या के प्रयास व शव को खुर्द-बुर्द करने का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने शव के पास से 9 एमएम की पिस्टल व 10 कारतूस बरामद किए हैं। पुलिस ने एफएसएल टीम को मौके पर बुला कर नमूने एकत्रित करवाए।

गांव बड़ी निवासी राजेश कुमार ने बड़ी औद्योगिक थाना क्षेत्र पुलिस को बताया कि वह मंगलवार तड़के चार बजे घूमने के लिए गांव से शाहपुर रोड पर गया था। जब वह ग्रामीण श्याम सुंदर त्यागी के खेत के पास पहुंचा तो उसे एक व्यक्ति का शव सड़क पर पड़ा था। उसके पास ही एक पिस्टल पड़ी थी। वहीं शव से कुछ दूर कच्चे रास्ते पर झाड़ियों में एक अन्य व्यक्ति पड़ा था।

उसके कराहने की आवाज सुनकर वह उसके पास गया तो वह अर्द्धबेहोशी की हालत में था। उसने एक राहगीर से फोन लेकर मामले की सूचना बड़ी औद्योगिक क्षेत्र थाना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई और घायल को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पहुंचाया। जहां उसे एक गोली लगी होने का पता लगा। उसे गंभीर हालत में पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया गया।
 
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन