बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
SBI भर्ती 2021: भारतीय स्टेट बैंक में क्लर्क की भर्ती, जानिए क्या है परीक्षा पैटर्न
Safalta

SBI भर्ती 2021: भारतीय स्टेट बैंक में क्लर्क की भर्ती, जानिए क्या है परीक्षा पैटर्न

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

सोनीपत में चचेरे भाई की जन्मदिन पार्टी में हुआ झगड़ा, पीटने के बाद छत से फेंककर युवक की हत्या

ओमैक्स सिटी के बीपीएल फ्लैट पर साथियों के साथ चचेरे भाई की जन्मदिन पार्टी मनाने गए युवक की पीटने के बाद छत से फेंककर हत्या कर दी गई। युवक के हाथ-पैर टूट गए और सिर में भी चोट लगी थी। मृतक युवक अपने चाचा के शराब ठेके पर काम करता था। उसके माता-पिता की पहले ही मौत हो चुकी है।  

शराब ठेकेदार गांव फाजिलपुर निवासी मोनू ने बताया कि सुभाष चौक स्थित शराब ठेके पर उसका भतीजा अजय (27) काम करता था। अजय अपने चचेरे भाई ललित की जन्मदिन पार्टी मनाने अपने व ललित के दोस्त गांव फाजिलपुर के सागर, अमित, ललित कुमार तथा सोनीपत के दीपक, लाल दरवाजा के हेमंत व भारत के साथ ओमैक्स सिटी स्थित बीपीएल फ्लैट पर गया था। 

फ्लैट उनके परिवार के ही अंकित की बुआ के लड़के का है। रविवार देर रात फ्लैट पर उसके भतीजे अजय की ललित के दोस्त दीपक के साथ मामूली बात पर कहासुनी हो गई। इसमें हाथापाई में हेमंत को चोट लग गई।

इस पर दीपक व हेमंत ने फोन कर अपने 10-12 साथियों को बुला लिया। उन्होंने डंडों से अजय की बेरहमी से पिटाई कर कर दी। वह उनसे बचने के लिए फ्लैट की छत पर भाग गया। मोनू का आरोप है कि वहां पर उन्होंने उसके साथ फिर से मारपीट की और छत से नीचे फेंक दिया। 

इससे अजय के हाथ-पैर टूट गए और सिर में भी चोट लगी। उसके साथी ललित ने मोनू को फोन कर वहां पर बुलाया। वह मौके पर पहुंचा तो 10-12 युवक मौके से फरार हो गए। उसने सागर की मदद से अपने भतीजे अजय को सामान्य अस्पताल में पहुंचाया।

जहां पर चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मोनू के बयान पर दीपक, हेमंत व भारत तथा अन्य के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। थाना प्रभारी अरुण कुमार की टीम ने आरोपी हेमंत को काबू कर लिया है। उसे अदालत में पेश कर एक दिन के रिमांड पर लिया गया है। 
  
... और पढ़ें

सोनीपत : मेडिकल कॉलेज के हॉस्टल में एमबीबीएस की छात्रा ने खुदकुशी की, कल से शुरू होनी थी परीक्षा

गांव खानपुर कलां स्थित बीपीएस राजकीय महिला मेडिकल कॉलेज में शुक्रवार सुबह एमबीबीएस की छात्रा ने हॉस्टल के कमरे में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना का पता लगने पर महिला थाना खानपुर कलां से पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर कार्रवाई की। छात्रा मानसिक रूप से परेशान बताई गई है। 

रोहतक में गांव खेड़ी साध की रहने वाली डिंपी बीपीएस राजकीय महिला मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस प्रथम वर्ष की छात्रा थी। वह हॉस्टल नंबर-एक में रहती थी। शुक्रवार सुबह छात्रा कमरे का दरवाजा अंदर से बंद कर शाल से फंदा बनाकर पंखे पर लटक गई। छात्रा की मां गुरुवार को उसके साथ ही कॉलेज आई थी और अनुमति लेकर उसके साथ हॉस्टल के कमरे में रुकी थी।

छात्रा की मां सुबह कैंटीन में खाने का सामान लेने गई थी। वहां से लौटी तो छात्रा फंदे पर लटकी मिली और दरवाजा अंदर से बंद था। दरवाजा तोड़कर डिंपी को फंदे से उतारा गया और अस्पताल ले जाया गया। वहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। 

पुलिस ने बताया कि आठ फरवरी को डिंपी किसी काम से गोहाना शहर गई थी। तब उसने धोखे से बुखार की कई गोलियां खा ली थी, जिससे उसकी तबीयत बिगड़ गई गई थी। शनिवार को डिंपी की परीक्षाएं शुरू होनी थी और इसलिए वह गुरुवार को अपनी मां के साथ कॉलेज लौटी थी।
 
... और पढ़ें

पत्नी की गला दबाकर की हत्या, शव बोरी में भरकर ड्रेन की पटरी पर फेंका, जानें- वारदात की वजह

सोनीपत के गोहाना की मुगलपुरा कॉलोनी में एक व्यक्ति ने पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को बोरी में भरकर ड्रेन नंबर-8 की पटरी पर फेंक दिया। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने मृतका के भाई के बयान पर उसके आरोपी पति सहित ससुराल पक्ष के अन्य लोगों पर हत्या, शव को खुर्द-बुर्द करने व षड्यंत्र रचने की धाराओं के तहत मुकदमा दर्जकर लिया है। 

पानीपत के गांव लाखु बुआना निवासी राकेश ने सिटी थाना गोहाना पुलिस को बताया कि उसकी बहन ज्योति (32) की शादी खरखौदा के गांव फरमाणा निवासी विकास से हुई थी। ज्योति की दो बेटियां और एक बेटा है। विकास पत्नी और बच्चों के साथ कुछ समय पहले गोहाना शहर की मुगलपुरा कॉलोनी में आकर रहने लगा था। 

वह राजमिस्त्री का काम करता है। विकास शराब पीने का आदी है, जिसके चलते पति-पत्नी में मनमुटाव चल रहा था। विकास शराब पीकर पत्नी से अक्सर मारपीट करता था। राकेश ने पुलिस को बताया कि वह सोमवार दोपहर को बहन से मिलने गोहाना आया था। ज्योति घर पर नहीं मिली तो उसने उसकी तलाश शुरू कर दी। उसे पता चला कि विकास ने उसकी बहन की हत्या कर शव ड्रेन के पास फेंक दिया है। 

वह बहन की तलाश करते हुए सोमवार रात करीब दस बजे ड्रेन की तरफ गया तो उसकी नजर ड्रेन की पटरी पर में पड़ी बोरी पर गई। उसने बोरी खोल कर देखी तो उसमें ज्योति का शव मिला। राकेश ने शक जताया कि ज्योति की हत्या में विकास के भाई अशोक, बिजेंद्र, बिजेंद्र की पत्नी मीना व विकास के दोस्त सुरेंद्र ने षड्यंत्र के तहत वारदात की है।
... और पढ़ें

खूनी संघर्ष : जमीन विवाद में भिड़े यूपी-हरियाणा के किसान, फायरिंग में एक की जान गई 

हरियाणा-उत्तर प्रदेश के किसानों के बीच जमीन के विवाद में चल रहे खूनी संघर्ष में शुक्रवार सुबह यूपी के नंगला बहलोलपुर गांव के किसान की गोली लगने से मौत हो गई। पुलिस ने मृतक के भाई के बयान पर खुर्मपुर गांव के भाजपा जिला पार्षद नंदकिशोर चौहान समेत 17 लोगों के खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास समेत विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

वहीं, पुलिस ने मामले में आरोपी जिला पार्षद नंद किशोर और उसके चचेरे भाई मनोज को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों आरोपियों को शनिवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा। पुलिस ने मौके से दो ट्रैक्टर भी कब्जे में लिए हैं, जिन पर बुलेट प्रूफ केबिन बने हैं। उन पर गोली मारने के साथ अन्य किसानों को ट्रैक्टर से कुचलने के प्रयास का आरोप लगा है।

यूपी के जिला बागपत के गावं नंगला बहलोलपुर निवासी मुकेश ने कुंडली थाना पुलिस को बताया कि उनकी यमुना पार सोनीपत क्षेत्र के गांव खुर्मपुर के पास जमीन है। उस जमीन पर खुर्मपुर का नंदकिशोर व अन्य अपना हक जताते हैं। उस जमीन पर उन्होंने गेहूं व सरसों की फसल उगा रखी है। उन्होंने फसल काटने के लिए सोनीपत डीसी को गुहार लगाई थी और उनसे जांच कराने के बाद 30 एकड़ फसल काटने के आदेश कर दिए गए थे। 
... और पढ़ें
सोनीपत में पुलिस की मौजूदगी में गुरुवार को किसानों ने फसल काटी थी। सोनीपत में पुलिस की मौजूदगी में गुरुवार को किसानों ने फसल काटी थी।

किसान आंदोलन : कुंडली बॉर्डर पर निहंग ने युवक पर तलवार से किया हमला, पीजीआई रोहतक रेफर

किसान आंदोलन में शामिल निहंग ने कुंडली गांव के युवक पर तलवार से हमला कर दिया। युवक के हाथ पर तलवार का गहरा घाव बन गया। उसके कंधे और पीठ पर भी चोट लगी है। घायल को सामान्य अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया गया। कुंडली थाना पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्जकर उसे हिरासत में ले लिया है।

कुंडली के धर्मेश कुमार ने बताया कि उसका भाई शेखर टीडीआई मॉल में नौकरी करता है। वह सोमवार दोपहर को खाना खाने बाइक से प्याउ मनियारी के कट से एचएसआईआईडीसी की तरफ जा रहा था। उसके साथ में गांव का ही सन्नी भी था। जब वह धरने वाले कैंप के पास से होकर निकल रहे थे तो वहां पर कुछ निहंगों की पुलिसकर्मियों से बहस चल रही थी। इससे रास्ता बंद था। 

शेखर एक किनारे से होकर बाइक निकालने का प्रयास करने लगा तो उसका एक निहंग युवक के साथ रास्ते को लेकर विवाद हो गया। निहंग ने रास्ता रोक लिया। विवाद होने पर निहंग ने सन्नी पर तलवार से वार कर दिया। उसके साथी शेखर ने बाजू ऊपर कर वार को रोकने का प्रयास किया। इससे शेखर की बाजू कट गई। निहंग ने दूसरा वार करने के लिए तलवार उठाई तो शेखर ने उसको पकड़ लिया। 

छीनाझपटी में तलवार से उसके कंधे और पीठ पर चोट लग गई। शेखर और सन्नी बाइक लेकर वहां से भाग निकले। सन्नी घायल शेखर को लेकर कुंडली के निजी अस्पताल में पहुंचा। सूचना पाकर कुंडली थाना पुलिस भी अस्पताल पहुंच गई। पुलिस घायल शेखर को लेकर सामान्य अस्पताल पहुंची, जहां से उसको पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया गया। 

कृषि बिलों के विरोध में चल रहे आंदोलन के दौरान लोगों की निहंग सिखों से कई बार झड़प हो चुकी हैं। पुलिस ने आरोपी निहंग को हिरासत में ले लिया है। उसकी पहचान मनप्रीत सिंह के रूप में हुई है।
... और पढ़ें

हरियाणा : पत्नी की हत्या कर पूर्व फौजी ने जान दी, सुसाइड नोट में लिखा-पत्नी से बहुत प्यार करता हूं 

हरियाणा के गोहाना के गांव मदीना में मंगलवार को पूर्व फौजी ने घर में पत्नी की लाइसेंसी बंदूक से गोली मारकर हत्या कर दी। इसके बाद उसने खुद के सिर में गोली मारकर आत्महत्या कर ली। शाम करीब 4 बजे उसका बेटा घर पहुंचा तो दोनों के शव एक ही कमरे में पड़े मिले। सूचना के बाद बरोदा थाना प्रभारी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने घटनास्थल से सुसाइड नोट बरामद किया है। हालांकि सुसाइड नोट में हत्या और आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है। पुलिस ने दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है।  

गांव मदीना निवासी जयवीर (45) करीब तीन साल पहले सेना से हवलदार के पद से सेवानिवृत्त हुए थे। इसके बाद रेलवे विभाग में अनुबंध पर गेटमैन की नौकरी की। पिछले करीब डेढ़ माह से वह घर पर ही रहते थे। उनका बेटा अंकित मंगलवार सुबह गोहाना में पढ़ाई के लिए गया था। अंकित बीए की पढ़ाई के साथ नौकरी की तैयारी के लिए कोचिंग लेता है। 


घर में जयवीर और उनकी पत्नी मुकेश (42) थे। पुलिस के अनुसार जयवीर ने घर के मेन गेट को अंदर से बंद किया और फिर कमरे में जाकर अपनी लाइसेंसी बंदूक से पत्नी के सिर में गोली मारकर हत्या कर दी। इसके बाद खुद सिर में गोली मार कर आत्महत्या कर ली। अंकित शाम करीब चार बजे घर पहुंचा तो मेन गेट अंदर से बंद मिला। आवाज देने पर माता-पिता ने कोई जवाब नहीं दिया। उसने फाइबर को तोड़कर मुख्य दरवाजे की कुंडी को हटाया और अंदर चला गया। अंदर कमरे में उसके पिता का शव बेड और मां का शव गेट के पास रखे सोफे पर पड़ा था।  

सुसाइड नोट में लिखा, मेरी पत्नी मुझे बहुत प्यार करती है 
सेवानिवृत्त फौजी जयवीर ने सुसाइड नोट में लिखा है कि मेरी पत्नी बहुत अच्छी है और वह मुझसे बहुत प्यार करती है, मैं जा रहा हूं, लेकिन उसे अकेला छोड़ कर नहीं जा सकता हूं। मैं उसे भी अपने साथ लेकर जा रहा हूं। हालांकि पुलिस पता लगाने में जुटी है कि आखिरकार जयवीर ने पत्नी को गोली मारकर आत्महत्या क्यों की।
... और पढ़ें

सोनीपत फायरिंग : सुरक्षा देने के नाम पर सिपाही से वसूली करता था बदमाश, 15 लाख पर बिगड़ गई थी बात

सोनीपत कोर्ट परिसर में बदमाश अजय उर्फ बिट्टू बरोणा को गोली मारने के पीछे शराब तस्करी के नाम पर वसूली की बात सामने आ रही है। गोली मारने वाले सिपाही महेश का नाम शराब तस्करी से जुड़ा है। लॉकडाउन और जहरीली शराब से कई लोगों की मौत के बाद बढ़ी पुलिस की निगरानी से सिपाही का धंधा मंदा पड़ गया था। बिट्टू बरोणा सिपाही से तस्करी की शराब के ट्रकों को निकालने के नाम पर रुपये वसूलता था। अब तक वह 15 लाख रुपये ले चुका था और महेश को लगातार धमका रहा था। महेश ने रिश्तेदार रामकरण की शह पर वारदात को अंजाम दिया। सूत्रों के अनुसार, महेश को पिस्तौल रामकरण के गिरोह ने ही मुहैया कराई थी। महेश की रामकरण से मुलाकात भी हुई थी। रामकरण ने उसे रिश्तेदार होने के कारण 50 हजार रुपये भी दिए थे। अजय को गोली मारने के बाद उसके पिता कृष्ण की गांव में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। 
 
... और पढ़ें

सोनीपत फायरिंग : आरोपियों ने ताऊ कहकर बुलाया था बाहर, फिर गोलियों से छलनी किया, मां ने किया सनसनीखेज खुलासा

सोनीपत फायरिंग केस
हरियाणा के सोनीपत में गुरुवार को कोर्ट परिसर में बदमाश को अजय उर्फ बिट्टू बरोणा गोली मारने और गांव में उसके पिता की हत्या के मामले में कई खुलासे हुए हैं। गुरुवार दोपहर करीब पौने एक बजे सिपाही महेश ने बिट्टू बरोणा को सिर में तीन गोली मारी। इस वारदात के करीब दस मिनट बाद बिट्टू बरोणा के पिता कृष्ण की हत्या के लिए हमलावर उसके घर पहुंचे। घर के बाहर स्कॉर्पियो से उतरते ही हमलावरों ने ताऊ कहकर आवाज लगाई। कृष्ण दरवाजे पर पहुंचे तो हमलावरों ने गोलियां चला दी। कृष्ण अपनी जान बचाने के लिए कमरे में घुस गया और दरवाजा बंद कर लिया लेकिन हमलावरों ने कमरे का दरवाजा तोड़ दिया और ताबड़तोड़ गोलियां मारकर कृष्ण की हत्या कर दी। हमलावरों ने बिट्टू की मां को मारने का प्रयास किया लेकिन उन्होंने हाथ जोड़कर अपनी जान बचाई। पूरा घटनाक्रम करीब साढ़े चार मिनट का रहा। हमलावरों की स्कॉर्पियो सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। 
 
... और पढ़ें

सिपाही ने बदमाश के सिर में मारीं तीन गोलियां, गांव में पिता की हत्या फिर जजपा नेता को मारने पहुंचे

गार्द में शामिल सिपाही ने गुरुवार दोपहर कोर्ट परिसर में पुलिस वाहन में बैठे बडवासनी गैंग के शार्प शूटर के सिर से पिस्टल सटा तीन गोलियां मार दीं। पुलिस बदमाश अजय उर्फ बिट्टू बरोणा को रोहतक की सुनारिया जेल से पेशी पर लेकर आई थी। घटना के कुछ मिनट बाद ही गांव बरोणा में स्कॉर्पियो सवार 4-5 हमलावरों ने बदमाश अजय के पिता की गोली मारकर हत्या कर दी। घायल अजय को पीजीआई में भर्ती कराया गया है। सिपाही ने 15 लाख रुपये के लेनदेन के मामले में गोली मारने की बात कही है, वहीं पुलिस इस मामले को गैंगवार से जोड़कर देख रही है। उधर, बरोणा में हत्या कर बदमाश सैदपुर में जजपा नेता को मारने पहुंचे थे लेकिन वह मौके पर नहीं मिले। जनवरी 2018 में संदीप बड़वासनी गैंग के शार्प शूटर अजय उर्फ बिट्टू बरोणा को रोहतक पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया था। उस पर आधा दर्जन हत्याओं समेत कई मुकदमे दर्ज हैं। अजय तब से रोहतक की सुनारिया जेल में बंद था। गुरुवार को बदमाश अजय को अवैध हथियार रखने के मामले में सोनीपत कोर्ट में पेश किया गया। 
... और पढ़ें

बंदूक पर डिस्को : हट जा ताऊ पाछै न...गाने पर हुआ विवाद, व्यक्ति के सीने में मारी गोली, अस्पताल में मौत

सोनीपत के भठगांव में शादी समारोह में डीजे पर नाचते समय हुई कहासुनी के बाद तीन युवकों ने एक व्यक्ति के सीने में गोली मार दी। घायल को रोहतक के निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां पर उसकी मौत हो गई। सदर थाना पुलिस ने दो नामजद समेत तीन लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। 

गांव भठगांव माल्यान निवासी अजय सिंह ने पुलिस को बताया कि वह गुरुग्राम में टैक्सी चलाता है। उनके गांव के परविंदर सिंह के घर में शादी थी। वह अपने चचेरे भाई सतपाल के साथ वह भी शादी में गया था। इसी दौरान रात करीब साढ़े नौ बजे हरीश, सचिन और एक अन्य वहां आ गए। इनमें से एक के पास डोगा बंदूक थी।

हरीश व सचिन कहने लगे कि सतपाल आ गया। इस पर उन्होंने दूसरे युवक से बंदूक ले ली और सतपाल के सीने पर तान दी। इसके बाद वह कहने लगे कि उसे झगड़े का मजा चखाते हैं। यह कहकर उन्होंने सतपाल के सीने में गोली मार दी। अजय ने बताया कि वह घायल सतपाल को लेकर रोहतक के गांव खेड़ी साध स्थित निजी अस्पताल पहुंचा, जहां पर उपचार के दौरान देर रात सतपाल की मौत हो गई। सतपाल के दो बेटियां हैं। उसकी बड़ी बेटी तीन साल व छोटी एक साल की है। 

हट जा ताऊ पाछै न गाने पर हुआ था विवाद
पुलिस के अनुसार लोगों ने बताया कि शादी समारोह में हरियाणवी गाना हट जा ताऊ पाछै न बज रहा था। इस पर दोनों पक्षों ने एक दूसरे को हाथ से पीछे धकेल दिया था। इसी को लेकर दोनों पक्षों में झगड़ा हुआ है। इसी रंजिश में सतपाल को गोली मारी गई है।

 हमलावर युवकों के नाम हरीश, सचिन व एक अन्य बताए गए हैं। अभी यह पता नहीं लग सका है कि वह कहां के रहने वाले हैं। पुलिस ने शादी की वीडियो मंगवाई है। इसके साथ ही लोगों से घटनास्थल पर बनाई गई मोबाइल रिकॉर्डिंग क्लिप देने की अपील की है।
... और पढ़ें

सोनीपत : लूट का षड्यंत्र रच रहे बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़, एक को लगी गोली, चारों काबू

गांव मुंडलाना-खानपुर कलां मार्ग पर लूट का षड्यंत्र रच रहे चार बदमाशों को सीआईए की टीम ने मुठभेड़ के बाद काबू कर लिया। पुलिस मुठभेड़ के दौरान एक बदमाश के पैर में गोली लगी है। घायल आरोपी की पहचान गोहाना में चोपड़ा कालोनी निवासी सोनू उर्फ काड़ा के रूप में हुई है। वहीं अन्य तीन बदमाशों में गोहाना के आर्य नगर निवासी मोहन उर्फ मोनू, रोहतक के खेड़ी साध निवासी मोहित व निंदाना निवासी मोहित कुमार शामिल है। 

पुलिस ने आरोपियों से तीन पिस्तौल, पांच कारतूस और तीन खोल बरामद किए हैं। आरोपियों की गिरफ्तारी से गोहाना में ज्वैलर्स के शोरूम में हुई लूट समेत पांच वारदात का खुलासा हुआ है। सीआईए ने आरोपियों को अदालत में पेश कर छह दिन के रिमांड पर लिया है।

एएसपी निकिता खट्टर ने बताया कि सीआईए की टीम को सोमवार रात को सूचना मिली थी कि मुंडलाना-खानपुर कलां मार्ग पर चार बदमाश लूट का षड्यंत्र रच रहे हैं। इसके बाद सीआईए की टीम मौके पर पहुंची। पुलिस के पहुंचते ही बदमाशों ने फायरिंग कर दी। जवाबी कार्रवाई में एक बदमाश के पैर में गोली लगी। इसके बाद पुलिस ने चारों को काबू कर लिया। वहीं घायल आरोपी सोनू को खानपुर कलां स्थित बीपीएस महिला मेडिकल कॉलेज में दाखिल कराया गया है। 
... और पढ़ें

हरियाणा में हादसा :  सड़क हादसे में दंपती समेत तीन की जान गई, मजदूरी करने के लिए निकले थे

रोहतक में सोनीपत रोड स्थित हुमायूंपुर गांव के पास तेल टैंकर व बाइक की आमने-सामने की टक्कर में बाइक सवार तीन लोगों की मौत हो गई। बाइक सवार दंपती अपने एक रिश्तेदार के साथ हुमायूंपुर के नजदीक ईंट भट्ठे पर मजदूरी के लिए जा रहे थे। कंसाला पुलिस चौकी ने केस दर्जकर जांच शुरू कर दी है। 

खरखौदा निवासी शहनवाज ने बताया कि उसके 53 वर्षीय पिता मुन्ना, 47 वर्षीय मां रुखसाना और मेरठ (यूपी) के ढंढेरा और मौजूदा समय में खरखौदा निवासी 43 वर्षीय मौसा सलाउद्दीन बाइक पर ईंट भट्ठे पर काम करने के लिए निकले थे। उनके पीछे मेरा भाई भी चल रहा था। हुमायूंपुर व गढ़ी के बीच सामने से आ रहे तेल के टैंकर ने बाइक सवार माता-पिता व मौसा को टक्कर मार दी। 

टैंकर गलत दिशा में चल रहा था। इस बारे में पुलिस को सूचना दे दी है। वहीं इस बारे में कंसाला पुलिस चौकी के जांच अधिकारी अजय ने कहा कि पीड़ित की शिकायत पर केस दर्जकर कार्रवाई की जा रही है। टैंकर चालक मौके से फरार हो गया। टैंकर को कब्जे में ले लिया गया है। हादसे में मारे गए तीनों लोगों का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया गया है। जल्दी ही आरोपी चालक को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
... और पढ़ें

सोनीपत में झकझोर देने वाली घटना : मासूम बेटे को सीने से लगा ट्रेन के आगे कूदा टीचर, दोनों की दर्दनाक मौत

रोहतक के रहने वाले गेस्ट टीचर ने चार साल के बेटे को सीने से लगाकर बंदेपुर के पास ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली। सूचना के बाद पहुंची रेलवे पुलिस ने दोनों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिजनों को सौंप दिया। बताया गया है कि घरेलू कलह के चलते आत्महत्या की गई है। 

रोहतक के गांव कुलताना निवासी कप्तान (36) दिल्ली के झाड़ोदा स्थित स्कूल में गेस्ट टीचर थे। वह रविवार को दोपहर बाद करीब तीन बजे अपने बेटे नमन (4) के साथ घर से निकले थे। देर रात को उन्होंने बंदेपुर के पास अपने चार साल के बेटे को सीने से लगाकर कालका मेल के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली।

गेस्ट टीचर कप्तान ने अपने बेटे नमन के हाथ पर साले के नाम सहित ससुराल का पता लिखा था। बच्चे के हाथ पर पेन से लिखा है रोशन पुत्र बलवान, मुंडलाना। रोशन उसका साला है और मुंडलाना में कप्तान की ससुराल है। राठधना के रहने वाले एक परिवार ने दोनों के शव की पहचान की। जीआरपी अधिकारियों का कहना है कि बंदेपुर में कप्तान की बुआ रहती है। यह बताया जा रहा है कि कप्तान अपने बेटे को साथ लेकर बुआ के घर आने के लिए निकला था लेकिन वह अपनी बुआ के घर भी नहीं पहुंचा। परिजन जब बंदेपुर पहुंचे तो हादसे की सूचना मिली। 

पत्नी के साथ रहता था विवाद
सामान्य अस्पताल में शव लेने पहुंचे कप्तान के छोटे भाई कपिल ने बताया कि भाई व भाभी के बीच अक्सर झगड़ा होता रहता था। अंदेशा है कि इसी के चलते भाई ने यह कदम उठाया है। हालांकि परिजनों ने जीआरपी को दिए बयान में आत्महत्या के कारणों के बारे में फिलहाल कुछ भी कहने से इनकार किया है। परिजनों का कहना है कि अंतिम संस्कार के बाद ही इस बारे में बात करेंगे।
  
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X