विज्ञापन

वाराणसी

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

यूपी: फांसी के फंदे से लटके मिले नेपाली प्रेमी युगल, कारपेट कंपनी में की आत्महत्या

उत्तर प्रदेश के भदोही जिले में एक नेपाली प्रेमी जोड़े की लाश पेड़ पर फांसी के फंदे से लटकती मिली है। इस घटना से इलाके में हड़कंप मच गया है। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों के शव पेड़ से उतारे और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए। पुलिस इस मामले में आगे की जांच और कार्रवाई में जुट गई है।

पुलिस के अनुसार, गोपीगंज थाना क्षेत्र के सोनखरी स्थित दीप कारपेट के कालीन कंपनी के अहाते में स्थित पेड़ पर नेपाली प्रेमी युगल फांसी के फंदे पर झूलते मिले। सोनखरी गांव में कालीन कारखाना स्थित है, जहां नॉटेड गलीचे का काम चलता है। इसमें बड़ी संख्या में नेपाल के लोग काम करते हैं।

नेपाल के बकैया मकवानपुर के रहने वाले मृतक विक्रम लामा(25) पुत्र पूर्ण बहादुर के भाई अविनाश ने बताया कि वह पांच भाई और तीन बहन हैं। सभी निजी कंपनी में काम करते हैं। पिछले दिनों विक्रम गांव गया था, वहां से गांव की ही विवाहित युवती उर्मिला घलान को साथ लेकर आया था। इस बारे में महिला के पति ईमान सिंह घालान को इसकी सूचना यहां पहुंचने के बाद दे दी थी। जब महिला का पति उसे यहां बुलाने आया तो दोनों को समझा-बुझाकर वापस भेज दिया था।
... और पढ़ें

यूपी: शादी के चार महीने बाद ही फंदे से लटकती मिली विवाहिता, दहेज हत्या का आरोप

उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में रविवार की सुबह एक विवाहिता शव फांसी के फंदे से लटका हुआ मिला। मृतका के मायके वालों ने ससुरालियों पर दहेज के लिए हत्या का आरोप लगाया है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना रेवती थाना के सुरेमनपुर दीयरांचल के मानगढ़ गांव की है।

पुलिस के अनुसार, बिहार के छपरा सारण जिले के भगवान बाजार थाना क्षेत्र के अजायबगंज की रहने वाली प्रियंका(20) उर्फ तारा पुत्री लक्ष्मण चौधरी की शादी 29 नवंबर 2020 को मानगढ़ निवासी सूबेदार साहनी के पुत्र पप्पू चौधरी से हुई थी। आरोप है कि दहेज में एक लाख रुपया तय था।

प्रियंका के पिता आर्थिक तंगी के कारण तय दहेज की राशि नहीं दे पाए थे। मंडप में शादी के समय पप्पू चौधरी सीकरी के लिए अड़ गया था, हालांकि आसपास के लोगों ने समझा-बुझाकर शादी करा दी। प्रियंका अपने पति के साथ ससुराल आ गई। आरोप है कि दहेज में पलंग व एक और सोने के सीकरी के लिए प्रियंका को ससुराली प्रताड़ित करते थे।
... और पढ़ें

तस्वीरें: बिहार के तीन लोगों की धारदार हथियार से हत्या, मिर्जापुर में खून से लथपथ मिली लाशें

मिर्जापुर जिले में सड़क किनारे बिहार के तीन लोगों की लाश मिलने से इलाके में हड़कंप मच गया। तीनों की किसी धारदार हथियार से हत्या की गई, इसके बाद उनके शव मिर्जापुर-वाराणसी बॉर्डर पर स्थित चुनार थाना क्षेत्र के नंदूपुर गांव में सड़क किनारे फेंके गए थे। खून से लथपथ मिले शवों को देखकर सनसनी फैल गई थी। स्थानीय लोग तरह-तरह के कयास लगाने लगे। किसी ने घटना के बारे में पुलिस को सूचना दी।

पुलिस मौके पर पहुंच गई और शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मौके पर डॉग स्क्वॉयड की टीम भी पहुंची और जांच कर आगे की कार्रवाई में जुट गई है। वहीं पुलिस आसपास के लोगों से पूछताछ कर जानकारी जुटा रही है। देखें अगली स्लाइ्डस...।
... और पढ़ें

हिरासत में मौत का मामला : सीबीआई ने घोषित किया जौनपुर के नौ पुलिस कर्मियों पर इनाम

जौनपुर के बक्सा थाने में पुलिस हिरासत में हुई कृष्ण कुमार यादव की मौत के मामले में सीबीआई ने नौ पुलिस कर्मियों पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है। सीबीआई ने इस मामले में सितंबर महीने में एफआईआर दर्ज की थी और आरोपी पुलिस कर्मियों को पूछताछ के लिए बुलाया था। सीबीआई के बुलावे पर यह पुलिस कर्मी नहीं आए। यह पुलिस कर्मी अपने कार्यालय से भी फरार बताए जा रहे हैं जहां इनकी तैनाती है। अब इनकी तलाश करने वालों को सीबीआई ने 25 हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की है।

सीबीआई ने जिन पुलिस कर्मियों के खिलाफ इनाम घोषित किया है, उसमें बक्शा थाने के तत्कालीन इंचार्ज अजय कुमार सिंह, आरक्षी कमल बिहारी बिंद, राज कुमार वर्मा, जितेंद्र सिंह, जौनपुर के तत्कालीन एसओजी प्रभारी पर्व कुमार सिंह, एसओजी के आरक्षी श्वेत प्रकाश, राजन सिंह, मुख्य आरक्षी जय शील तिवारी और अंगद प्रसाद चौधरी का नाम शामिल हैं।

कृष्ण कुमार यादव को 11 फरवरी को जौनपुर के बक्सा थाने और एसओजी की टीम ने हिरासत में लिया था। कृष्ण कुमार के भाई अजय का आरोप था कि एक दर्जन की संख्या में पुलिस कर्मी उसे रात में 10 बजे लेकर आई और घर के अंदर रखे पैसे, आभूषण और अन्य सामान जबरन उठा ले गए। उसका भाई ठीक से खड़ा भी नहीं हो पा रहा था। अगले दिन अजय थाने पहुंचा तो उसे मिलने नहीं दिया गया। कुछ ही देर बाद कृष्ण कुमार यादव की पुलिस हिरासत में मौत हो गई। इस मामले की जांच प्रदेश सरकार ने सीबीआई को सौंपी थी। सीबीआई ने सितंबर महीने में इस मामले में एफआईआर दर्ज की थी।
... और पढ़ें
सीबीआई सीबीआई

एनईईटी में बड़ा खुलासा : नीट की परीक्षा में सेंधमारी नाकाम, तीन राज्यों का कनेक्शन आया सामने

वाराणसी पुलिस ने राष्ट्रीय प्रवेश पात्रता परीक्षा (एनईईटी) में सेंधमारी की कोशिश करने वाले बड़े गैंग का भंडाफोड़ किया है। इस मामले में वाराणसी के बीएचयू की बीडीएस की एक छात्रा जूली जो साल्वर थी, उसे व उसकी मां को गिरफ्तार किया गया है। जूली त्रिपुरा की रहने वाली हिना विश्वास के स्थान पर परीक्षा दे रही थी। प्रकाश में आए लखनऊ स्थित किंग जार्ज मेडिकल युनिवर्सिटी डॉक्टर ओसामा शाहिद और साल्वर गैंग के सरगना पीके व विकास की तलाश की जा रही है।

जानकारी के अनुसार रविवार को आयोजित एनईईटी की परीक्षा प्रदेश के लगभग सभी बड़े शहरों में आयोजित की गई थी। इस परीक्षा में सेंधमारी रोकने के लिए अलग अलग जिलों की पुलिस और एसटीएफ भी लगी थी। वाराणसी पुलिस को वाराणसी में साल्वर गैंग के सक्रिय होने की जानकारी मिली थी। वाराणसी के पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश ने इसकेलिए एक टीम बनाकर घेरा बंदी शुरू की। इधर लखनऊ कमिश्नरेट की पुलिस भी ऐसे गैंग पर नजर रख रहा था। लखनऊ पुलिस जिस गैंग पर नजर रख रही थी, उस गैंग के सदस्य वाराणसी में भी सक्रिय थे। लखनऊ पुलिस ने जानकारी वाराणसी पुलिस से साझा की और परीक्षा समाप्त होने से पहले ही वाराणसी साल्वर के रूप में परीक्षा दे रही जूली को हिरासत में ले लिया। पूछताछ में जूली ने जो जानकारी पुलिस को दी उससे कुछ देर के लिए पूछताछ कर रहे पुलिस कर्मियों के भी दिमाग चकरा गए।

जूली ने बताया कि यह एक बड़ा गैंग है जिसका संचालन पटना से होता है। ग्राहक बैंगलुरू से तलाशे जाते हैं और साल्वर यूपी और बिहार से। इसके पीछे पैसों का बड़ा खेल होता है। यह गैंग दो तरह के लोगों की तलाश करता है। एक तो जो पैसों के बल पर बिना परीक्षा दिए नीट की परीक्षा पास करना चाहते हैं और दूसरा जो अपनी आर्थिक जरूरतों को पूरा करने के लिए दूसरे के स्थान पर परीक्षा दे सकते हैं।

पूरे साल करते हैं तैयारी
यह गैंग पूरे साल तैयारी करता है। जो अभ्यर्थी नीट की परीक्षा में पहले अटेंप्ट में नाकाम रहते हैं, ऐसे छात्रों को डाटा कोचिंग सेंटरों से ले लिया जाता है और फि र फोन कर फेल होने वाले अभ्यर्थियों से संपर्क किया जाता है। संपर्क करने के बाद ऐसे अभ्यर्थियों को टार्गेट बनाया जाता है जो पैसों से संपन्न होता था। उन्हें कोटे की सीट बताकर एडमिशन दिलाने की बात की जाती थी और इसके बदले मोटा डोनेशन मांगा जाता था। जो पैसा खर्च करने के लिए तैयार होता था उसका फार्म इस गैंग के सदस्य खुद भरते थे। दूसरा गैंग साल्वर की तलाश करता था। साल्वर मिल जाने पर अभ्यर्थी और साल्वर की फोटो फोटो शॉप के जरिए मर्ज कर बनाई जाती थी। उसी फोटो को फार्म पर लगा दिया जाता था।

क्या है केजीएमयू के डाक्टर की भूमिका
केजीएमयू का डाक्टर ओसामा शाहिद मूल रूप से मऊ के मोहम्मदाबाद गोहना का रहने वाला है। 2016 का पास आउट है। पुलिस को जानकारी मिली है कि बैंगलुरू के बब्लू ने ओसामा से संपर्क किया था। जिसके बाद ओसामा की मुलाकात पटना के पीके से हुई। यहीं से ओसामा पीके के गैंग का सक्रिय सदस्य बन गया। उसे कंडीडेट लाने पर 1 लाख रुपये दिए जाते थे। ओसामा की तलाश में वाराणसी पुलिस कमिश्नरेट की टीम लखनऊ, मऊ और आजमगढ़ में दबिश दे रही है। ओसामा की गिरफ्तारी के बाद इस मामले में और भी खुलासे हो सकते हैं।
... और पढ़ें

वाराणसी में चोरों का धावा: ब्यूटी पार्लर और आभूषण की दुकान से आठ लाख की चोरी, चंद कदम की दूरी पर पुलिस चौकी भी

वाराणसी के गोसाईपुर चौकी से चंद दूरी पर चौराहे के पास सोमवार की देर रात चोरों ने दो दुकानों पर धावा बोला। सूर्या आर्नामेंट एंड ज्वैलरी शॉप और सुगंधा ब्यूटी पार्लर से लगभग 8 लाख की चोरी का मामला सामने आया है।

ब्यूटी पार्लर के मालिक सरोज दुबे ने बताया कि सोमवार की शाम अपनी दुकान में 60 हजार रखे थे। इनसे अगले दिन मंगलवार को मार्केटिंग करनी थी लेकिन रात को ही चोरों ने शटर तोड़कर 60 हजार रुपये उड़ा दिए। साथ ही अन्य सामग्री भी उठा ले गए।

सूर्या आर्नामेंट एंड ज्वैलरी शॉप के मालिक सनी वर्मा और सूर्या सेठ ने बताया कि दुकान में 5 किलो चांदी, 110 ग्राम सोना सहित 25000 की नकदी चोरी हो गई। सनी वर्मा ने बताया कि दुकान गोसाईपुर चौराहे के पास सुरेंद्र पांडे की कटरा में स्थित है।
... और पढ़ें

मऊ: घर के बाहर सो रहे किराना व्यापारी को सिर में मारी गोली, मौत

मऊ जिले के चिरैयाकोट थाना क्षेत्र के जमीन अताउल्ला मौजा में सोमवार की देर रात घर के बाहर सो रहे किराना व्यापारी के अज्ञात बदमाशों ने सिर में गोली मार दी और फरार हो गए। गोली की आवाज सुनकर आए व्यापारी के परिजन उसे लेकर आजमगढ़ पहुंचे, यहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

उधर घटना की सूचना मिलने पर एसपी-एएसपी भी मौके पर पहुंच गए और घटना की जानकारी ली। देर रात हुई इस घटना को लेकर मंगलवार की सुबह चिरैयाकोट थाना क्षेत्र के व्यापारियों में डर का माहौल बना रहा।

पुलिस के अनुसार, चिरैयाकोट थाना क्षेत्र के यूसुफाबाद निवासी सूर्यनाथ गुप्ता पुत्र चंद्रमणी गुप्ता थाना क्षेत्र के खरिहानी मार्ग स्थित जमीन अताउल्ला मौजा में मकान बनाकर परिवार के साथ रहता था। सूर्यनाथ अपने  दो मंजिला मकान के नीचले तल पर ही किराना की दुकान संचालित करते थे।
... और पढ़ें

वाराणसी: बीएचयू कैंपस में पीजी की छात्रा के साथ छेड़छाड़, त्रिवेणी हॉस्टल के पास हुई घटना

मऊ में किराना व्यापारी की हत्या
बीएचयू में पीजी की छात्रा के साथ सोमवार की रात छेड़खानी की घटना से हड़कंप मच गया। आरोप है छेड़खानी का विरोध करने पर छात्रा के दोस्त के साथ बाइक सवार युवकों ने मारपीट की। सूचना पाकर जब तक प्राक्टोरियल बोर्ड के सदस्य पहुंचते, बाइक सवार युवक भाग निकले। 

पीड़ित छात्रा और कुछ  छात्र रात करीब एक बजे चीफ प्रॉक्टर ऑफिस पर शिकायत दर्ज कराने पहुंचे हैं। छात्रा का आरोप है कि  बीएचयू परिसर स्थित त्रिवेणी हॉस्टल के पास वह अपने दोस्त के साथ बैठी थी, तभी बाइक सवार युवकों ने उसके साथ छेड़खानी की। जब उसके दोस्त ने विरोध किया तो उसकी पिटाई कर दी। चीफ प्रॉक्टर ऑफिस पर छात्रा ने शिकायत दर्ज कराकर कार्रवाई की मांग की है।
... और पढ़ें

आजमगढ़ में दुष्कर्म: शौच के लिए निकली किशोरी के साथ दरिंदगी, आरोपी फरार

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जनपद में किशोरी के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। बिलरियागंज थाना क्षेत्र के एक गांव में सोमवार की शाम घर से शौच के लिए निकली किशोरी से एक युवक ने दरिंदगी की। पीड़िता की मां के तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। वहीं किशोरी को मेडिकल के लिए भेजा गया है। आरोपी अभी पुलिस की पकड़ में नहीं आया है। 

पुलिस को दी तहरीर में पीड़िता की मां ने बताया कि उसकी 14 वर्षीय पुत्री सोमवार की शाम शौच के लिए गांव के सिवान की तरफ गई थी। इसी दौरान गांव का ही रहने वाला दुर्गेश उसे पकड़ लिया। किशोरी को बंधक बनाकर मुंह में कपड़ा ठूंसा और जबरन उसके साथ दुष्कर्म किया। घटना के बाद पीड़िता घर पहुंची तो मां को आपबीती बताई। घटना सुन मां दंग रह गई।

मां ने सोमवार की रात थाने पहुंच कर नामजद आरोपी के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत करने के साथ ही आरोपी की तलाश शुरू कर दी है। वहीं मंगलवार की सुबह पीड़िता को मेडिकल के लिए जिला महिला अस्पताल भेजा गया। 
... और पढ़ें

जौनपुर: सब्जी लेकर घर जा रहे व्यक्ति की लाठी-डंडे से पीटकर हत्या, पुलिस जांच में जुटी

उत्तर प्रदेश के जौनपुर में मनबढ़ों ने लाठी डंडे से पीटकर एक व्यक्ति को लहूलुहान कर दिया। मरा हुआ समझकर आरोपी उसे छोड़ भाग गए। परिजन घायल को अस्पताल ले गए जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। 

मामला सरपतहां थाना क्षेत्र के अर्सियां (डिहुआ) गांव का है। बाजार से सब्जी लेकर लौटे गांव निवासी रजिंदर राजभर (45) की लाठी-डंडे से पीटकर हत्या कर दी गई। रजिंदर पैदल ही सोमवार की रात 10 बजे बाजार से लौट रहा था। घर से 250 मीटर दूर पहुंचा था। आरोप है कि तभी गांव निवासी जगदीश उर्फ जग्गा विश्वकर्मा और सभाजीत यादव पीछे से रजिंदर के सिर पर हमला कर दिए। दोनों ने मिलकर उसके हाथ और पैर तोड़ दिए।

वहीं, मरा हुआ समझकर दोनों उसे छोड़कर फरार हो गए। घटना की जानकारी किसी ने रजिंदर की पत्नी चंद्रावती को दी। आनन फानन परिजन रजिंदर को लेकर शाहगंज स्थित एक निजी चिकित्सकालय में भर्ती कराए। जहां मंगलवार सुबह उपचार के दौरान मौत हो गई। मौत की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 
... और पढ़ें

गाजीपुर: मुख्तार अंसारी की पत्नी और साले की एक करोड़ 18 लाख की संपत्ति कुर्क, लखनऊ में भी होगी कुर्की

प्रदेश के माफियाओं के खिलाफ योगी सरकार लगातार एक्शन मोड में है। इन पर शिकंजा कसने के साथ लगातार ताबड़तोड़ कार्रवाई हो रही है। प्रशासन माफियाओं के अवैध निर्माणों को ध्वस्त कराने, अवैध संपत्ति को कुर्क करने के साथ ही शस्त्र लाइसेंसों को निलंबित करने की कार्रवाई कर रही है। 

गाजीपुर में मंगलवार को जिला प्रशासन ने आईएस 191 गैंग के लीडर बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की पत्नी आफसा अंसारी और साले सरजील रजा की नगर के सैय्यदबाड़ा स्थित एक करोड़ 18 लाख के आवासीय भवन को मुनादी कराकर कुर्क किया। वहीं लखनऊ के गोमतीनगर स्थित एक करोड़ के आवासीय फ्लैट को कुर्क करने के लिए जिला पुलिस टीम लखनऊ के लिए रवाना होगी।



 
सीओ सिटी ओजस्वी चावला ने बताया कि प्रदेश में माफियाओं के विरुद्ध चल रहे अभियान के तहत जिलाधिकारी एमपी सिंह ने पुलिस की आख्या पर दो अगस्त को गैंगस्टर एक्ट की धारा 14 (1) के तहत मुख्तार अंसारी की पत्नी आफसा अंसारी और साले सरजील रजा की कुल दो करोड़ 18 लाख की संपत्ति को कुर्क करने का आदेश जारी किया था। आदेश के क्रम में नगर के सैय्यदबाड़ा स्थित आवासीय भवन (अनुमानित लागत एक करोड़ 18 लाख) को मुनादी कराकर कुर्क करने की कार्रवाई की गई। इसके साथ ही लखनऊ के गोमतीनगर स्थित आवासीय फ्लैट (अनुमानित लागत एक करोड़) के कुर्की की कार्रवाई के लिए जिले की पुलिस टीम लखनऊ रवाना होगी। 
... और पढ़ें

यूपी: वाराणसी के डॉक्टर से करते थे सेटिंग, 36 हजार रुपये में बेचते थे ऑक्सीजन गैस सिलिंडर, तीन गिरफ्तार

गोरखपुर शहर के गोरखनाथ इलाके के धर्मशाला के पास से मंगलवार देर रात पुलिस ने ऑक्सीजन गैस सिलिंडर के साथ तीन युवकों को गिरफ्तार किया। पूछताछ में आरोपियों ने सिलिंडर की कालाबाजारी की बात कबूल कर ली है। बताया है कि वाराणसी के डॉक्टर अभिषेक मरीज से सेटिंग करते थे और फिर एक सिलिंडर पहुंचाकर 36 हजार रुपये वसूलते थे। पुलिस ने ड्रग इंस्पेक्टर जय सिंह की तहरीर पर तीनों युवकों पर जालसाजी की धारा में केस दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

पकड़े गए आरोपियों की पहचान तिवारीपुर के छोटेकाजीपुर निवासी जितेंद्र विश्वकर्मा (35), आजमगढ़ के मुबारकपुर थाना क्षेत्र के सठियांव निवासी सिद्धार्थ यादव (24) और कुशीनगर जनपद के पटेरहवा इलाके के कोटवा निवासी रोशन सिंह (23) के रूप में हुई है। जानकारी के मुताबिक, ड्रग इंस्पेक्टर कालाबाजारी की सूचना पर छानबीन में जुटे थे।

इसी दौरान उनको पता चला कि धर्मशाला के पास से सिलिंडर ले जाया जा रहा है। इसकी सूचना उन्होंने पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंच गई और मुखबिर के इशारे पर एक कार को रोका। जांच पड़ताल की तो उसमें से एक ऑक्सीजन सिलिंडर भरा हुआ मिला। कार में मौजूद लोग कागजात नहीं दिखा पाए।

पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो आरोपियों ने बताया कि वाराणसी के डॉक्टर अभिषेक मरीज का नाम-पता बताते थे। उसे सिलिंडर पहुंचाकर 36 हजार एक सिलिंडर के बदले में मिलता था। कार का भी कोई कागजात नहीं मिला है। उसे पुलिस ने कब्जे में ले लिया है और विधिक कार्रवाई कर रही है।
... और पढ़ें

वाराणसी: पिता-पुत्र की रहस्यमयी परिस्थिति में मौत, दुर्गंध आने पर चला पता, लाश मिलने से सनसनी

वाराणसी में सारनाथ थाना क्षेत्र के पहड़िया स्थित श्रीनगर कॉलोनी में स्थित टीन शेड के कमरे में बुधवार की सुबह रहस्यमय परिस्थितियों में पिता-पुत्र का शव मिला। जैसे ही शव मिलने की सूचना आसपास के लोगों को पता चली इलाके में सनसनी फैल गई है। इस दौरान घटनास्थल पर लोगों की भीड़ लग गई। सूचना के बाद मौके पर पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

जानकारी के अनुसार, श्रीनगर कॉलोनी में बासदेव बाबा स्थान के पीपल के पेड़ के पास बुधवार की सुबह महिलाएं पूजा करने गई थीं। जब वह पूजा कर रही थीं, तो इस दौरान उन्हें पास के ही टीन शेड के कमरे से दुर्गंध आने लगी थी। महिलाओं ने पड़ोस के लोगों को इस बारे में सूचना दी। जब लोगों ने कमरे में जाकर देखा तो दंग रह गए। उन्होंने बालेश्वर ओझा(85) और उनके पुत्र जित्तन ओझा(52) की लाश पड़ी देखी थी।

लोगों ने इसकी सूचना सारनाथ पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। शव के पास से उनका आधार कार्ड मिला। जिससे उनकी पहचान हुई। वह भोजपुर (बिहार) जिले के सेमरिया गांव के रहने वाले थे।
... और पढ़ें
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00