विज्ञापन
विज्ञापन
मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020
Astrology Services

मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

सहारनपुर

मंगलवार, 21 जनवरी 2020

देश भर में फैला है सॉल्वर गैंग का जाल, पद के हिसाब से एक करोड़ तक लेते हैं रकम, गढ़ बना यह जिला

बिजनौर में सॉल्वर गैंग कई सालों से सक्रिय है। बैंक में नौकरी लगवाने से लेकर एमबीबीएस की परीक्षा पास कराने के लिए गैंग मोटी रकम लेता है। गैंग के सदस्यों के तमाम बड़े लोगों से ताल्लुक हैं। गैंग चोरी छिपे अपने काम को अंजाम देता रहता है। हर विभाग में पद के हिसाब से भर्ती की रकम तय की जाती थी।

मुजफ्फरनगर में लोअर पीसीएस परीक्षा पास कराने में पकड़े गए गैंग में बिजनौर के भी युवक शामिल हैं। बिजनौर की कुटिया कॉलोनी निवासी अमित कुमार, विशेषांक, हरेंद्र सिंह को पुलिस ने दबोचा है, जबकि विवेक फरार हो गया। बिहार के रोहताश जिले का मुकेश बिजनौर के हीमपुरदीपा थाने के गांव टुंगरी के ऋषभ कुमार की जगह परीक्षा दे रहा था। मुकेश को पकड़ने पर ही गैंग का खुलासा हुआ। पुलिस ने ऋषभ को भी दबोच लिया है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक गैंग का पूरे देश में जाल फैला हुआ है। किसी भी परीक्षा को पास कराने का गैंग ठेका ले लेता है। कई सालों से बिजनौर में गैंग सक्रिय है। गैंग के सदस्य मेरठ में भी दबोचे जा चुके हैं। शेरकोट में हरेवली मार्ग पर राकेश कुमार का दुर्गा महाविद्यालय है। महाविद्यालय का वह खुद प्रधानाचार्य है। 19 नवंबर 2018 को एसटीएफ मेरठ ने राकेश को यूपी टीईटी का फर्जी पेपर बनाते हुए दबोचा था। उसके कई साथी भी बाद में पकड़े गए थे।
... और पढ़ें

रिमांड पर बड़े राज खोलेगा गिरोह का सरगना, विदेशों में फैला था नेटवर्क, सामने आएगी असली सच्चाई

लोक जनशक्ति पार्टी के प्रदेश सचिव के बेटे की हत्या, आरोपियों की तलाश में ताबड़तोड़ दबिश, तस्वीरें

यूपी: महिला समेत चार तस्कर दबोचे, 20 लाख की स्मैक बरामद, गांवों में करते थे सप्लाई

सहारनपुर में क्राइम ब्रांच और गंगोह थाना पुलिस ने संयुक्त रूप से स्मैक सहित अन्य तरह के नशीले पदार्थों का कारोबार करने वाले चार तस्करों को गिरफ्तार किया है। इनमें महिला आरोपी भी शामिल है। इनके कब्जे से करीब 20 लाख रुपये की कीमत की स्मैक बरामद की गई है। इन तस्करों ने खुलासा किया कि बरेली से लाकर जिले के गांवों में स्मैक की सप्लाई कर रहे थे। पुलिस अब इनके नेटवर्क को खंगालने में जुटी है।

पुलिस टीम ने आरोपियों को गंगोह से नकुड़ की ओर जाने वाले रास्ते पर बाढ़ी माजरा के पास गिरफ्तार किया। इन आरोपियों में इस्लाम निवासी मोहनपुर उर्फ मैनपुरा थाना गंगोह, सुभान निवासी पढेरा थाना फतेहगंज पूर्वी तहसील फरीदपुर जिला बरेली, शाहिस्ता गांव बाढ़ी माजरा थाना गंगोह और मारूफ निवासी गांव बराला थाना कैराना शामली हाल निवासी गुज्जरवाड़ा गंगोह शामिल हैं। इनके कब्जे से 230 ग्राम स्मैक, तस्करी में प्रयुक्त होने वाली एक कार और इलेक्ट्रॉनिक कांटा बरामद किया गया।

कई बार स्मैक ला चुका था बरेली निवासी तस्कर
बरेली निवासी सुभान ने पूछताछ में बताया कि जिले के गांवों में वह पहले भी स्मैक ला चुका है। इस बार भी वह मैनपुरा, बाढ़ी माजरा सहित गंगोह क्षेत्र के अन्य गांवों में स्मैक की सप्लाई के लिए पहुंचा था। उसने बताया कि वह यहां पर बिलाल, सद्दाम, जावेद, अमजद, जुलफाम, गफ्फार, जब्बार सहित अन्य लोगों को स्मैक सप्लाई करने वाला था।

यह भी पढ़ें: 
कैराना: पुलिस ने 65 किलो डोडे के साथ दो अंतर्राज्यीय तस्कर दबोचे, होटलों पर करनी थी सप्लाई
... और पढ़ें
तस्कर गिरफ्तार तस्कर गिरफ्तार

सहारनपुर: जमीनी विवाद को लेकर चलीं गोलियां, एक की मौत, एक गंभीर रूप से घायल

सहारनपुर जनपद में गंगोह थाना क्षेत्र के गांव सनौली में बुधवार देर शाम खूनी संघर्ष हो गया। सिर में गोली लगने से एक ग्रामीण की मौत हो गई, जबकि दूसरे व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने तीन लोगों को पकड़ लिया है। देर रात तक किसी भी पक्ष ने तहरीर नहीं दी थी। गांव में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

कोतवाली गंगोह के खादर क्षेत्र के गांव सनौली में जगविंद्र और ओम प्रकाश पक्ष में खेत की डोल को लेकर विवाद चल रहा है। मंगलवार को दोनों पक्षों में मारपीट हुई थी। बुधवार देर शाम फिर मारपीट और फायरिंग हो गई। गोली लगने से जोगेंद्र (40) पुत्र प्रीतम और लोकेश घायल हो गए। इसके अलावा मारपीट में भी कई लोग जख्मी हुए। 

वहीं सूचना पर पहुंची पुलिस ने लाठियां मारकर दोनों पक्षों को खदेड़ा और जोगेंद्र व लोकेश को अस्पताल ले जाने लगे। रास्ते में ही जोगेंद्र की मौत हो गई। जोगेंद्र के सिर में गोली लगी थी। एसपी देहात विद्या सागर मिश्र, सीओ अजेय शर्मा भी मौके पर पहुंचे। 

एसपी देहात ने बताया कि जोगेंद्र को गोली मारने वालों की तलाश की जा रही है। तीन लोगों को पकड़ा है। तहरीर आने पर रिपोर्ट दर्ज की जाएगी और बाकी लोगों को पकड़ा जाएगा। रात तक पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की तैयारी कर रही थी।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

यूपी: दरिंदे ने छह साल की बच्ची के साथ किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में ताबड़तोड़ दबिश

सहारनपुर जनपद के एक गांव में व्यक्ति द्वारा छह वर्षीय बालिका को बहला फुसलाकर उसके साथ दुष्कर्म करने का मामला प्रकाश में आया है। बालिका के काफी देर तक गायब रहने के चलते परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की तो वह गांव के ही एक घेर में बेहोशी की हालत में मिली। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे उपचार के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। 

देवबंद क्षेत्र के एक गांव निवासी व्यक्ति के मुताबिक सोमवार की देर शाम गांव का ही युवक उसकी छह वर्षीय बेटी को बहला फुसलाकर अपने साथ ले गया। काफी देर तक बेटी के गायब रहने के चलते उन्होंने उसकी तलाश की तो वह आरोपी युवक के चाचा के घेर में बेहोशी की हालत में पड़ी मिली। 

वहीं बच्ची को लहूलुहान हालत में देखकर परिजनों के पैरों तले से जमीन निकल गई। इस दौरान सूचना पाकर सीओ चौब सिंह और इंस्पेक्टर आनंद देव मिश्र पुलिस फोर्स के साथ गांव में पहुंचे और घटनाक्रम की बाबत जानकारी लेते हुए बालिका को उपचार के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां मेडिकल परीक्षण करने के बाद बालिका के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई।

यह भी पढ़ें: 
अश्लील मूवी दिखाकर नौ साल की बच्ची से दुष्कर्म की कोशिश, पुलिस ने आरोपी को दबोचा
... और पढ़ें

यूपी: ट्यूशन पढ़ने जा रहे छात्र पर जानलेवा हमला, हालत गंभीर, हायर सेंटर के लिए रेफर

सहारनपुर जनपद के रणखंडी गांव में ट्यूशन पढ़ने जा रहे ग्यारहवीं कक्षा के छात्र पर चार युवकों ने हमला कर दिया। जिसमें वह घायल हो गया। सीएचसी से उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। बीच बचाव के दौरान छात्र का एक साथी भी घायल हो गया। 

रणखंडी खेड़ी पट्टी निवासी जसवीर ने कोतवाली में दी तहरीर में बताया कि उसका पुत्र निशांत ठाकुर फूल सिंह मेमोरियल इंटर कालेज में 11वीं कक्षा में पढ़ता है। बुधवार की शाम करीब छह बजे वह अपने साथी हिमांशु के साथ गांव में स्थित एक सेंटर पर ट्यूशन पढ़ने के लिए जा रहा था। आरोप है कि जब वह घर से कुछ दूरी पर पहुंचा तो गांव के चार युवक रास्ते के बीच में खड़े हुए थे। जब निशांत ने उन्हें वहां से हटने के लिए कहा तो वह गाली गलौज करने लगे। विरोध किया तो उक्त युवकों ने बलकटी, लोहे की रॉड और फावड़े से उस पर हमला कर दिया। सिर में चोट लगने से वह गंभीर रूप से घायल हो गया। जसवीर के मुताबिक जब हिमांशु ने बीच बचाव कराने का प्रयास किया तो उक्त लोगों ने उसे भी मारपीट कर घायल कर दिया। बाद में शोर मचाने पर आसपास मौजूद लोग वहां पहुंचे तो आरोपी जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए। 

यह भी पढ़ें: 
कॉलेज में अराजकता, पीठ में लगा चाकू निकाल आरोपी के पीछे दौड़ा युवक, किए कई वार, सीसीटीवी में कैद

जसवीर ने बताया कि जानकारी मिलने पर उन्होंने निशांत और हिमांशु को उपचार के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां चिकित्सकों ने नाजुक हालत के चलते निशांत को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। पुलिस का कहना है कि तहरीर के आधार पर मामले की जांच शुरू कर दी गई है। आरोपियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

फिल्म ‘दृश्यम’ देखकर रची थी भाजपा नेता की हत्या की साजिश, ऐसे खुला खौफनाक राज, तस्वीरें

यूपी पुलिस

बच्ची से दुष्कर्म के आरोपी को कोर्ट ने सुनाई आजीवन कारावास की सजा, लगाया 90 हजार का जुर्माना

सहारनपुर जनपद में ढाई वर्ष पूर्व रामपुर मनिहारन थाना क्षेत्र के एक गांव में स्कूल से घर लौट रही सात साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के बाद हत्या करने के मामले में दोषी पाए जाने पर कोर्ट ने एक युवक को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। आरोपी को 90 हजार रुपये के अर्थदंड से भी दंडित किया गया है। जबकि दूसरे नाबालिग आरोपी के केस की अलग सुनवाई चल रही है।
 
रामपुर मनिहारन थाना क्षेत्र के एक गांव में 16 जनवरी 2017 को सात वर्ष की बालिका जब स्कूल की छुट्टी होने के बाद दोपहर लगभग डेढ़ बजे अकेली घर लौट रही थी तो रास्ते से लापता हो गई। लोगों ने उसे तलाश किया तो उसका शव एक खेत में पड़ा मिला। दुष्कर्म करने के बाद मासूम की गले में रस्सी से फंदा लगाकर हत्या की गई थी। मृतका के पिता ने रामपुर मनिहारन थाना में हत्या एवं पॉक्सो एक्ट में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने इस मामले में गांव के ही एक नाबालिग और रिश्तेदारी में आए ग्राम सुन्हेटी खड़खड़ी निवासी दीपक को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में आरोप पत्र दाखिल किया।

यह भी पढ़ें: 
बागपत: बच्ची से दुष्कर्म के मामले में आरोपी को आजीवन कारावास, 50 हजार रुपये का जुर्माना

सहायक शासकीय अधिवक्ता मेघराज सैनी ने बताया कि मामला विशेष न्यायाधीश (पॉक्सो एक्ट) ललिता गुप्ता की अदालत में चला। कोर्ट ने सुनवाई के बाद साक्ष्यों एवं गवाहों के आधार पर दीपक उर्फ सुरक्षित को दुष्कर्म एवं हत्या का दोषी पाया। जिसके चलते कोर्ट ने दीपक को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। साथ ही आरोपी को 90 हजार रुपये के अर्थदंड से भी दंडित किया। जबकि दूसरा आरोपी नाबालिग है, जिसका केस की सुनवाई अलग से चल रही है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

भाजपा नेता हत्याकांड: जांच में जुटी 12 टीमें, फिर भी पुलिस खाली हाथ, खत्म हुई 48 घंटे की मियाद

भाजपा नेताओं की हत्या का खुलासा करने को पुलिस को मिली 48 घंटे की मियाद सोमवार को खत्म हो चुकी है। तीन दिन से एसएसपी और एसपी देहात देवबंद में ही डेरा डाले हुए हैं। उनके नेतृत्व में कई स्पेशल टीमों समेत पुलिस की 12 टीमें दिनरात बदमाशों की तलाश में उत्तराखंड समेत यूपी के कई जनपदों में घूम रहीं हैं, लेकिन अभी तक बदमाशों के बारे में पुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं लग सका है।

आठ अक्तूबर को भाजपा किसान मोर्चा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष चौधरी यशपाल सिंह और 12 अक्तूबर को पालिका के सभासद व भाजपा नगर इकाई के उपाध्यक्ष चौधरी धारा सिंह की गोलियां बरसाकर हत्या कर दी गई थीं। चार दिनों के भीतर दिनदहाड़े दो भाजपा नेताओं की हत्या का मामला लखनऊ तक गूंज उठा। चौधरी धारा सिंह की हत्या के बाद एसएसपी दिनेश कुमार और एसपी देहात विद्यासागर मिश्र अपनी स्पेशल टीमों के साथ पिछले तीन दिनों से देवबंद में डेरा डालकर मामले की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। 

खुलासे के लिए क्राइम ब्रांच, एसओजी, सर्विलांस, स्वाट, डॉग स्क्वाड समेत पुलिस की 12 टीमें लगाई गई हैं। पुलिस अधिकारियों का दावा है कि जल्द ही दोनों वारदातों को खुलासा कर दिया जाएगा, लेकिन सूत्रों के दावों पर यकीन करें तो पुलिस के हाथ अभी कोई भी ऐसा सबूत नहीं लगा कि जिससे यह उम्मीद की जा सके कि खुलासा जल्द हो जाएगा। इसकी एक वजह यह है कि सोमवार को पुलिस अधिकारी शॉर्प शूटरों की कुंडली खंगाल रहे थे। इतना ही नहीं उनके नंबरों की कॉल डिटेल निकलवाकर कड़ियां जोड़ने की कोशिश भी की जा रही है।

यह भी पढ़ें: 
तस्वीरें: जिस पिस्टल से भाजपा नेता समेत तीन हत्याएं, उसी से कुख्यात जॉनी ने किया अपना अंत
... और पढ़ें

भाजपा नेता हत्याकांड: 12 टीमें नहीं जुटा पाई कोई सबूत, अब एसटीएफ करेगी जांच

भाजपा नेताओं की हत्या के मामले की जांच एसटीएफ को सौंपी गई है। हत्याकांड का खुलासा करने के लिए पांच दिनों से एसएसपी देवबंद में ही कैंप किए हुए हैं। उनके नेतृत्व में कई स्पेशल टीमें समेत 12 टीमें खुलासे में लगी हुई हैं, लेकिन अभी तक पुलिस को कोई भी ऐसा सबूत नहीं मिला जिससे हत्यारों तक पहुंचा जा सके। 

ब्लाइंड मर्डर मिस्ट्री बन चुकी भाजपा नेताओं की हत्या को सुलझाने में जनपद का पूरा पुलिस अमला लगा है। एसएसपी दिनेश कुमार और एसपी देहात डॉ. विद्यासागर मिश्र पांच दिनों से देवबंद में कैंप कर पूरे मामले की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। उनके नेतृत्व में एसओजी, क्राइम ब्रांच, एडीजीसी क्राइम, सर्विलांस समेत करीब 12 टीमें लगातार बदमाशों की तलाश में जुटी हुई हैं। इतना ही नहीं दूसरे जनपदों की पुलिस को भी खुलासे के लिए लगाया गया है, लेकिन उसके बाद भी कोई सफलता हाथ नहीं लगी। 

यह भी पढ़ें: 
यूपी: 72 घंटे, पुलिस की 12 टीमें, फिर भी धारा सिंह के हत्यारों को नहीं ढूंढ पाई पुलिस

वहीं बुधवार को किसान मोर्चा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष चौधरी यशपाल सिंह, पालिका सभासद व भाजपा नगर इकाई के उपाध्यक्ष चौधरी धारा सिंह की हत्या के खुलासे के लिए एसटीएफ को लगाया गया है। 

एसपी देहात डॉ. विद्यासागर मिश्र ने बताया कि अभी तक पुलिस को केस से संबंधित कोई लीड नहीं मिली है। खुलासे के लिए एसटीएफ को लगाया गया है। बता दें कि आठ अक्तूबर को मिरगपुर गांव निवासी चौ. यशपाल सिंह और 12 अक्तूबर को बंदरजुड्डा गांव निवासी चौ. धारा सिंह की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने यशपाल सिंह हत्याकांड में उनके बेटे अमित की तहरीर पर मिरगपुर गांव के सात लोगों को नामजद किया था। तभी से सातों लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया हुआ है। कोई गिरफ्तारी नहीं दिखाई गई है, जबकि चौ. धारा सिंह हत्याकांड में पुलिस ने उनके भतीजे मनोज की तहरीर पर दो बाइक सवार अज्ञात बदमाशों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज की हुई है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन