विज्ञापन

मथुरा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

सनसनीखेज प्रीति हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, दस लाख में शार्प शूटरों को दी थी पत्नी की सुपारी

मथुरा: खेत में पेड़ से लटका मिला 65 साल के किसान का शव, हत्या का आरोप

मथुरा जिले के थाना बलदेव क्षेत्र में मंगलवार की सुबह एक बुजुर्ग किसान का शव खेत में पेड़ से लटका मिलने से सनसनी फैल गई। परिजनों और ग्रामीणों ने पुलिस को शव पेड़ से नहीं उतारने दिया। काफी देर हंगामा होता रहा। परिजन हत्या कर शव पेड़ पर लटकाए जाने का आरोप लगा रहे थे। एसडीएम और सीओ के समझाने के बाद शव को पेड़ से उतार कर पुलिस ने पोस्टमार्टम को भेजा। 

गांव अकबर गढ़ी निवासी डालचंद (65 वर्ष) का शव खेत से पेड़ से लटका हुआ मिला। मंगलवार को सुबह डालचंद का पुत्र कुलदीप जब खेत पर गया तो पिता को पेड़ पर लटका हुआ देख, उसकी चीख निकल गई। वह चीखता हुआ गांव की ओर भागा। किसान का शव पेड़ से लटके होने की सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में ग्रामीण वहां पहुंच गए। 


आगरा बैंक डकैती: लुटेरों ने पहले की रिहर्सल...फिर डाला डाका, बोरियों में भरकर ले गए थे रुपये

डालचंद का शव साफी से बने फंदे के सहारे पेड़ पर लटका था। परिजनों ने पुलिस को शव को पेड़ से नहीं उतारने दिया। काफी देर तक वे हंगामा करते रहे। एसडीएम कृष्णानंद तिवारी, सीओ आरती सिंह, राया थानाध्यक्ष सूरज प्रसाद शर्मा मौके पर पहुंच गए। उन्होंने परिजनों और ग्रामीणों को समझा-बुझाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। घटनास्थल पर लोगों की भीड़ लग गई। 

परिजनों ने बताया कि डालचंद गोवंश से फसल की रखवाली करने के लिए खेत पर गए थे। सुबह छह बजे जब कुलदीप खेत पर गया तो पिता को पेड़ पर लटका देख घबरा गया। डालचंद के पुत्र कुलदीप सिंह और नेत्रपाल सिंह का आरोप है कि किसी ने उनके पिता की हत्या की है। इसके बाद शव को पेड़ से लटका दिया गया है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

प्रीति हत्याकांड: सनसनीखेज हत्या की पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने सभी को चौंकाया, सीने में फंसी मिली दूसरी गोली

25 करोड़ के लिए पिता का कत्ल: आरोपी बेटा बोला- दूसरे उठा रहे थे हमारे पैसों का फायदा, मुझे लगा वो सब लुटा देंगे

गोकुल बैराज के डूब क्षेत्र से मिलने वाले 25 करोड़ रुपये मुआवजे को हड़पने के लिए बेटे ने ही पिता की बेरहमी से हत्या की थी। सिर पर सब्बल(धारदार हथियार) से प्रहार करके हुई हत्या का खुलासा करते हुए सदर बाजार पुलिस ने हत्यारोपी बेटे को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने हत्या में प्रयोग सब्बल भी बरामद किया। 

24-25 अप्रैल की दरम्यानी रात को थाना सदर बाजार की अशोक बिहार कॉलोनी में घर की छत पर सो रहे हुकुम चंद सैनी (80) की सब्बल से वार कर बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। एसएसपी डॉ. गौरव ग्रोवर ने हत्या के खुलासे के लिए पांच टीमों को लगाया था। एसपी सिटी मार्तंड प्रकाश सिंह ने बताया कि बेटे विनोद सैनी ने ही पिता की हत्या की थी। हुकुम चंद सैनी को 2015 में गोकुल बैराज डूब क्षेत्र में खेत आने के कारण करीब 3 करोड़ रुपये का मुआवजा मिला था। 

इनमें से 2.5 करोड़ रुपये उन्होंने छोटे भाई गुलाब चंद सैनी के साथ कोल्ड स्टोरेज की पार्टनरशिप में लगा दिया था। 10 लाख रुपये अनिल सैनी, उनके बेटों में दो-दो, तीन-तीन लाख रुपये बांट दिए थे। हुकुम चंद पुत्रों से कोल्ड स्टोरेज की हिस्सेदारी के अलावा हिसाब-किताब को नहीं बताते थे। हुकुम चंद को फिर से मुआवजे के रूप में 25 करोड़ मिलने वाले थे। इसी को हुकुम चंद के पुत्र विनोद सैनी के मन में आया कि मुआवजे की राशि पिता फिर से कहीं अपने भाइयों में न बांट दें। यही सोचकर उसने अपने पिता की हत्या कर दी। थाना सदर बाजार एसएचओ अजय किशोर, सर्विलांस प्रभारी सोनू सिंह, एसआई घनेंद्र शर्मा, एसआई करूणा शंकर दीक्षित टीम में शामिल रहे।
 
... और पढ़ें
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आरोपी

पंजाब: प्रसिद्ध कथावाचक अनिरुद्ध आचार्य के खिलाफ केस दर्ज, तलाश में जुटी पुलिस, जानें क्या है मामला

उत्तर प्रदेश के वृंदावन (मथुरा) के प्रसिद्ध कथावाचक अनिरुद्ध आचार्य द्वारा भगवान श्री वाल्मीकि जी के खिलाफ अपशब्द बोलने के मामले में थाना कोतवाली की पुलिस ने धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का मामला दर्ज किया है। पुलिस ने दो साल पहले दी गई शिकायत पर कार्रवाई की है। पुलिस ने नाली मोहल्ला के रहने वाले अर्जुन की शिकायत पर मामला दर्ज किया है।

पुलिस ने अनिरुद्ध आचार्य की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि पहले यह मामला मथुरा में दर्ज हुआ था। जिसके बाद यहां सूचना दी गई। अर्जुन द्वारा पुलिस के पास दर्ज कराई गई शिकायत के अनुसार 31 जुलाई 2021 को उसने एक यूट्यूब चैनल देखा तो उसमें कथावाचक अनिरुद्ध आचार्य महाराज ने भगवान ऋषि वाल्मीकि जी के खिलाफ अपशब्द बोले थे। 

यह वीडियो आरोपी ने 21 जुलाई 2021 को अपलोड किया था। यह वीडियो उनके सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर अपलोड किया गया था। जिसके बाद इसकी शिकायत पुलिस के पास की गई। इस मामले में एक शिकायत उत्तर प्रदेश के थाना मथुरा में दी थी। दो साल की जांच के बाद मथुरा में जीरो नंबर एफआईआर दर्ज की गई और उसके बाद यह मामला थाना कोतवाली में भेज दिया गया। थाना कोतवाली के एसएचओ इंस्पेक्टर हरजिंदर सिंह ने बताया कि यह मामला मथुरा में जीरो नंबर एफआईआर दर्ज हुई थी। पुलिस आरोपी कथावाचक का पता लगाने में जुट गई है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 
... और पढ़ें

मथुरा: गोली मारकर युवक की हत्या, परिजनों ने शव हाईवे पर रखकर लगाया जाम, हंगामा

मथुरा के टाउनशिप क्षेत्र में शुक्रवार को बाद गांव से 50 मीटर दूर हाईवे पर युवक का खून से लथपथ शव मिलने से सनसनी फैल गई। आक्रोशित परिजनों ने रंजिश में गोली मारकर हत्या का आरोप लगाते हुए शव हाईवे पर रखकर जाम लगा दिया। मथुरा-आगरा हाईवे पर दोनों तरफ वाहनों की लंबी लाइन लग गई। करीब डेढ़ घंटे बाद मौके पर पहुंचे पुलिस अफसरों ने लोगों को समझाकर जाम खुलवाया। पुलिस ने हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

थाना रिफाइनरी के बाद गांव में अशोक कुमार (34) का खून से लथपथ शव शुक्रवार को राधा टाउन और कृष्णा टाउन के मध्य उसके घर से करीब 50 मीटर दूर पड़ा मिला। उसके शरीर पर चाकू और सरियों के प्रहार के निशान बताए जा रहे हैं। बताया गया कि अशोक शाम को अपने खेत पर गया था। तब से नहीं लौटा तो परिजनों के तलाश करने पर उसका शव मिला। 

पुलिस बता रही थी दुर्घटना
परिजनों ने बताया कि उसकी हत्या रंजिश में करने के बाद उसे किसी वाहन से कुचला गया है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस मामले को प्रथम दृष्टया दुर्घटना मान रही है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस की इस कार्रवाई से उसके परिजन संतुष्ट नहीं थे और पोस्टमार्टम से शव ले जाकर उन्होंने हाईवे पर बाद गांव के पास शव रखकर जाम लगा दिया। 
... और पढ़ें

मथुरा: अवैध शराब की बिक्री रोकने पहुंची पुलिस टीम पर हमला, दरोगा समेत तीन पुलिसकर्मी घायल

होली पर सोमवार को शराब बिक्री की सूचना पर पहुंची बलदेव पुलिस पर ग्रामीणों ने पथराव करते हुए हवाई फायरिंग भी कर डाली। पथराव में दरोगा के सिर में चोट लगी तो दो सिपाही भी घायल हो गए। पुलिस टीम के पिटने की सूचना पर दौड़ी पुलिस ने हमलावरों के घरों पर दबिश दी। ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस ने बेवजह घरों में तोड़फोड़ की। पुलिस ने तीन हमलावरों को गिरफ्तार किया है।

थाना बलदेव के दरोगा धर्मेंद्र सिंह तीन सिपाहियों अर्जित, सहदेव और प्रदीप के संग नगला डोडिया गश्त पर जा रहे थे। तभी सूचना मिली कि नगला संजा में शराब बेची जा रही है और ग्रामीण बेखौफ होकर शराब पी रहे हैं।

रास्ते में नगला संजा के पास चौराहे पर परचून की दुकान पर पहुंची पुलिस ने पूछताछ की। इस पर ग्रामीणों ने पुलिस टीम पर पथराव कर डाला और हवाई फायरिंग भी की। पथराव में दरोगा और दो सिपाही सहदेव और प्रदीप घायल हो गए।
... और पढ़ें

मथुरा: सनसनीखेज हत्याकांड के खुलासे पर हैरान रह गए सभी, नामजद निकले निर्दोष, पड़ोसी का भतीजा निकला आरोपी

सांकेतिक तस्वीर

मथुरा में लूट की वारदात से सनसनी: कैबिनेट मंत्री लक्ष्मीनारायण की गैस एजेंसी के कर्मचारी से रुपये लूटे

मथुरा में सदर बाजार के रोटी गोदाम के पास श्रीकृष्ण गैस एजेंसी के कर्मचारी से हथियारों से लैस अपाचे सवार चार लुटेरों ने 62 हजार रुपये से भरा बैग लूट लिया। उससे पहले लुटेरों ने हॉकरों के आंखों में मिर्च का पाउडर भी झोंका। दुग्ध विकास और धर्मार्थ मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी की गैस एजेंसी के हॉकर से हुई वारदात के बाद पुलिस के अफसर भी मौके पर पहुंच गए। जानकारी जुटाकर पुलिस की पांच टीमें लुटेरों की तलाश में जुट गईं, लेकिन नाकामी ही हाथ लगी।

शहर के छावनी स्टेशन के सामने स्थित कृष्णापुरी जाने वाले मार्ग पर बीएन पोद्दार स्कूल की फील्ड में धौलीप्याऊ स्थित श्रीकृष्ण गैस सर्विस की घरेलू गैस सिलिंडरों की सप्लाई का काम लंबे समय से होता है। मंगलवार की दोपहर लगभग दो बजे जब एजेंसी का कर्मचारी ऋषिकेश पुत्र प्रताप सिंह निवासी बालाजीपुरम हॉकरों से पैसे एकत्रित कर रहा था, तभी एक लुटेरा अपाचे सवार आगे से और तीन लुटेरे पीछे से आए। हथियारों से लैस लुटेरों ने आते ही कर्मचारी और हॉकरों की आंखों में मिर्च पाउडर झोंककर 62 हजार रुपये से भरा थैला लूटा और भाग खड़े हुए।

कैबिनेट मंत्री की गैस एजेंसी के कर्मचारी से हुई लूट की सूचना पर एसपी सिटी मार्तंड प्रकाश सिंह समेत पांच थानों का फोर्स मौके पर पहुंच गई। जानकारी जुटाकर लुटेरों की तलाश शुरू कर दी गई। एसपी सिटी ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पांच टीमें लुटेरों की तलाश में जुटी हैं। जल्द ही लूट का खुलासा किया जाएगा
 
... और पढ़ें

यमुना एक्सप्रेसवे पर मुठभेड़: सिपाही की पिस्टल छीन भाग रहे एक लाख के इनामी को लगी गोली

एसटीएफ (विशेष कार्य बल) के सिपाही की पिस्टल छीनकर भाग रहे एक लाख रुपये का इनामी बदमाश मुठभेड़ में गोली लगने से घायल हो गया। मुठभेड़ मथुरा जिले के सुरीर थाना क्षेत्र में बुधवार दोपहर को यमुना एक्सप्रेसवे के सर्विस मार्ग पर हुई, जिसमें दो सिपाही भी घायल हुए हैं। घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मुठभेड़ में घायल हुआ बदमाश नौहझील थाना क्षेत्र के गांव कोलहर निवासी अनूप है। वह मथुरा के बहुचर्चित डॉ निर्विकल्प अपहरण कांड में फरार था। उस पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित था। एसटीएफ ने उसे मंगलवार को दिल्ली के अशोक नगर इलाके से गिरफ्तार कर लिया। बुधवार को मथुरा लेकर आ रही थी। 

पुलिस के अनुसार सुरीर थाना क्षेत्र में एक्सप्रेसवे के किलोमीटर संख्या 84 के समीप बदमाश अनूप ने लघुशंका के लिए गाड़ी रुकवाई थी। इसी दौरान उसने मौका पाकर एक सिपाही की पिस्टल छीनकर भागने लगा। पुलिसकर्मियों ने पीछा तो उन पर फायरिंग करने लगा।  

एसटीएफ ने भागते बदमाश पर गोली चला दी। उसके पैर में गोली लगी। इससे घायल बदमाश नीचे गिर गया। बदमाश द्वारा चलाई गई गोली से दो सिपाही भी घायल हो गए। मुठभेड़ में घायल सिपाहियों ओर बदमाश को इलाज के लिए जिला अस्पताल में पहुंचाया गया।
... और पढ़ें

मथुरा: शराब तस्कर पकड़ने पहुंची पुलिस टीम पर हमला, हमलावरों ने दो किमी तक दौड़ाकर पीटा

मथुरा के थाना नौहझील क्षेत्र में शराब तस्करी की सूचना पर गांव बरौंठ और छिनपराई में दबिश देने पहुंची पुलिस टीम पर हमला कर दिया गया। हमलावरों ने पथराव करते हुए पुलिस को दो किमी तक खदेड़ दिया। हमले में हसनपुर चौकी प्रभारी घायल हो गए। पांच सिपाहियों को भी चोटें आई हैं। पुलिस टीम ने हवाई फायर कर जान बचाई। इस मामले में चार तस्करों को गिरफ्तार कर 28 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है।
 
पुलिस को सूचना मिली थी कि गांव बरौंठ में हरियाणा से तस्करी कर शराब लाई जा रही है। हसनपुर चौकी प्रभारी विपिन भाटी पुलिस फोर्स के साथ पहुंच गए। यहां से तीन तस्करों को पकड़ लिया, लेकिन पुलिस पर हमला करते हुए अन्य तस्कर भाग खड़े हुए। इसके बाद पुलिस टीम गांव छिनपराई पहुंची। यहां पर ग्रामीणों ने ईंट-पत्थर से हमला कर दिया।

हमलावरों ने करीब दो किमी तक दौड़ा-दौड़ाकर पुलिस टीम को पीटा। पथराव में हसनपुर चौकी प्रभारी विपिन भाटी सिर में चोट लगने से घायल हो गए। पांच सिपाही भी चुटैल हुए। जान बचाने के लिए पुलिस टीम को हवाई फायरिंग करनी पड़ी थी। 

नौहझील पुलिस ने मनीष निवासी कुशक बड़ौली (पलवल), सोनू कुमार निवासी मोहल्ला रेतिया गली (नौहझील), प्रेमचंद निवासी बरौंठ (नौहझील) और जीवन उर्फ महेंद्र निवासी छिनपराई (नौहझील) को गिरफ्तार किया है। एसआई देवेंद्र सिंह ने 13 नामजद और 15 अज्ञात लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में थाना नौहझील पर मुकदमा दर्ज कराया है।
... और पढ़ें

आगरा: फर्जी 'को-विन' एप की जांच में जुटी साइबर सेल, लोगों को किया आगाह

कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर पंजीकरण के नाम से बनाए गए फर्जी को-विन एप की आगरा रेंज साइबर सेल ने जांच शुरू कर दी है। प्राथमिक जांच में पता चला है कि एप का लिंक इंटरनेट पर उपलब्ध है। हालांकि एप अभी किसी मोबाइल में इंस्टॉल हुआ है या नहीं, इसका पता नहीं चल सका है। यह एप किस तरह और कहां बनाया गया, इसके बारे में भी पता किया जा रहा है। जांच टीम खुद एप को इंस्टॉल कर जानकारी जुटा रही है।

साइबर अपराधी कोरोना की वैक्सीन के नाम पर लोगों को ठगने की कोशिश कर रहे हैं। लोगों को कॉल करके पंजीकरण के नाम पर रुपये लेने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं को विन नाम से एक मोबाइल एप भी बना लिया है। इसका लिंक इंटरनेट पर डाला गया।

संबंधित खबर- 
कोरोना वैक्सीन के नाम पर साइबर अपराधी बिछा रहे 'जाल', सेल ने किया सावधान

रेंज साइबर सेल के प्रभारी निरीक्षक शैलेष सिंह ने बताया कि को-विन फर्जी एप के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। इसके लिए टीम को लगाया गया है। यह किसने और कब बनाया? पता किया जा रहा है। इस एप लिंक को किस इंटरनेट धारक ने डाला है, यह भी जानने के प्रयास किए जा रहे हैं। 
... और पढ़ें

ओटीपी पूछकर व्हाट्सएप हैक कर रहे साइबर अपराधी, नए साल में रहें सावधान

फेसबुक के बाद अब व्हाट्सएप हैक किए जाने के मामले आ रहे हैं। आगरा में दिसंबर में सात केस सामने आ चुके हैं। साइबर अपराधी धोखे से किसी का ओटीपी मालूम करते हैं, फिर व्हाट्सएप हैक कर उसकी फोन बुक से मोबाइल नंबर लेकर रुपये मांगने का संदेश भेजते हैं।

दादा के खाते से 15 लाख रुपये पार, साइबर चोर निकला नाबालिग नाती, ऐसे की वारदात

इन मामलों में एक ही तरीका सामने आया है। साइबर अपराधी किसी भी तरह झांसा देकर ओटीपी हासिल करते हैं। इसके लिए कोई मैसेज भेजते हैं, फेसबुक पर कोई पहेली या गेम बनाकर डाल देते हैं। इसमें ओटीपी पूछा जाता है। जैसे ही साइबर अपराधी को ओटीपी मिलता है, वह इसकी मदद से व्हाट्सएप हैक कर देता है।

केस-1
व्हाट्सएप हैक कर दोस्तों से मांगी रकम

श्री बांके बिहारी वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष मदन मोहन शर्मा का सोमवार को व्हाट्सएप हैक कर लिया गया। उनके 100 से ज्यादा दोस्तों से पांच पांच हजार रुपये की रकम मांगी गई। उनके पास फोन आए तो उन्होंने बताया कि यह फ्रॉड है। साइबर सेल से शिकायत की।

केस-2
मामले की साइबर सेल में की शिकायत

सदर क्षेत्र के व्यापारी हरीश कुमार का व्हाट्स एप सात दिसंबर को हैक किया गया। उनके फोन में व्हाट्सएप बंद हो गया। इसके बाद उनके दोस्तों के पास पांच पांच हजार रुपये की मदद मांगने के संदेश आने लगे। उन्होंने साइबर सेल में शिकायत की।
... और पढ़ें
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें
सबसे तेज और बेहतर अनुभव के लिए चुनें अमर उजाला एप
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00