विज्ञापन
विज्ञापन
आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट
Janam Kundali

आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

बस से नीचे उतर रही महिला आई टायर के नीचे, मौत

बस से नीचे उतर रही महिला आई पहिये के नीचे, मौत

नरौरा/रामघाट। रामघाट थाना क्षेत्र में तिराहे पर बृहस्पतिवार देर शाम रोडवेज बस से नीचे उतरते समय महिला चालक की लापरवाही से बस के नीचे आ गई। हादसे में महिला की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बस को कब्जे में लेकर महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया।
जानकारी के अनुसार अलीगढ़ से नरौरा की ओर जा रही नरौरा डिपो की एक रोडवेज बस में बुधवार की देर शाम अलीगढ़ जनपद के ग्राम दीनापुर निवासी गुडडो देवी पत्नी उधल सिंह लगभग 50 वर्ष अपने पुत्र मनोज कुमार के साथ यात्रा कर रहीं थीं। रामघाट तिराहे पर बस के रोके जाने पर वह दोनों बस से उतरने लगे। गुडडो देवी के उतरने के दौरान ही बस चला दिए जाने से वह गिर गई और बस के नीचे आ गई, पहिये के नीचे दब जाने से उनकी मौके पर मौत हो गई। मृतका के पुत्र मनोज कुमार द्वारा शोर मचाने पर भी चालक ने बस नहीं रोकी। बल्कि बस को दौड़ा दिया। सूचना पर रामघाट पुलिस मौके पर पहुंची। चालक पकड़े जाने के भय से नरौरा डिपो के बाहर बस छोड़ कर फरार हो गया। एसओ रामघाट सुभाष सिंह ने बताया कि मामले में मृतक गुड्डो देवी के के पुत्र मनोज कुमार की ओर से रिपोर्ट दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम को भेज दिया गया है। दुर्घटना करने वाली नरौरा डिपो की बस को कब्जे में ले लिया गया है। चालक की तलाश की जा रही हैै, जल्द ही उसे दबोच लिया जाएगा।
... और पढ़ें

छेड़छाड़ के विरोध में युवती के पिता पर जानलेवा हमला

छेड़छाड़ के विरोध में युवती के पिता पर जानलेवा हमला

बुलंदशहर। देहात कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में बुधवार शाम दबंग लोगों ने युवती से छेड़छाड़ की। मामले में पीड़िता के पिता व अन्य परिजनों के विरोध करने पर आरोपियों ने उन पर जानलेवा हमला कर दिया। जिसमें युवती के पिता को गंभीर हालत में जिला अस्पताल से हायर मेडिकल सेंटर के लिए रेफर कर दिया गया है। पुलिस ने मामले में तहरीर के आधार पर आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।
देहात कोतवाली क्षेत्र के एक गांव निवासी युवती ने तहरीर देकर बताया कि बुधवार शाम करीब साढ़े चार बजे वह अपने घर जा रही थी। इस दौरान रास्ते में गांव निवासी आरोपी युवक रोबिन पुत्र धर्मवीर व सुमंत पुत्र शिशुपाल ने पीड़िता को रोक लिया। इस दौरान आरोपियों ने पीड़िता के साथ छेड़छाड़ करते हुए दुष्कर्म की कोशिश भी की। पीड़िता के विरोध करने व शोर मचाने पर आरोपियों ने उसे पीट कर भगा दिया। पीड़िता ने घर पहुंच कर अपने परिजनों को मामले की जानकारी दी। पीड़िता के पिता व अन्य परिजनों ने आरोपियों के घर पहुंच कर मामले की शिकायत की। जिसके बाद बौखलाकर आरोपियों ने पीड़िता के पिता व अन्य परिजनों पर जानलेवा हमला कर दिया। जिसमें पीड़िता के पिता के सिर में गंभीर चोटें आई हैं। उन्हें जिला अस्पताल से प्राथमिक उपचार के बाद हायर मेडिकल सेंटर रेफर कर दिया गया है। पुलिस ने मामले में तहरीर के आधार पर आरोपी युवक विपिन, रोबिन, विवेक, धर्मवीर, सुमंत, मिथलेश, सर्वेश के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। देहात कोतवाल दीक्षित कुमार त्यागी ने बताया कि मामले में तहरीर के आधार पर आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच पड़ताल की जा रही है। जल्द ही आरोपियों को दबोच लिया जाएगा।
... और पढ़ें

जमीन बिकने पर दबंगो ने मांगी दो लाख रुपये रंगदारी

रंगदारी न देने पर जानलेवा हमला

बुलंदशहर। कोतवाली देहात के गांव गंगेरूआ के एक युवक की जमीन बिकने पर दबंगों ने दो लाख रुपये की रंगदारी की मांग की। रंगदारी देने से इंकार करने पर आरोपियों ने पीड़ित पर जानलेवा हमला कर दिया। पीड़ित युवक ने देहात कोतवाली पुलिस पर कार्रवाई न करने का आरोप लगाते हुए एसएसपी से न्याय की गुहार लगाई है।
देहात कोतवाली के गांव गंगेरूआ निवासी बॉबी पुत्र नेतराम की ओर से एसएसपी को दिए शिकायती पत्र में बताया गया कि गांव चांदपुर का एक दबंग युवक उससे दो लाख रुपये की रंगदारी मांग रहा है। आरोपी युवक का कहना है कि उसकी जमीन बिकी है, ऐसे में उसे दो लाख रुपये देने हाेंगे अन्यथा उसकी हत्या कर दी जाएगी। आरोप है कि रंगदारी देने से इंकार करने पर गत दो जुलाई की शाम आरोपी युवक ने अपने दो भाईयों व एक अन्य युवक के साथ मिलकर उस पर जानलेवा हमला कर दिया। आरोपियों ने तमंचे से पीड़ित पर फायर भी झोंका, जिसमें वह बाल-बाल बच गया। शोर मचाने पर कुछ लोगों के मौके पर पहुंचने पर उसकी जान बच सकी। पीड़ित ने आरोप लगाया कि उसने कोतवाली देहात में तहरीर दी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। एसएसपी ने मामले में जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है।
... और पढ़ें

व्यापारी से मारपीट का मामलाः दरोगा के होटल से साक्ष्य जुटाएगी पुलिस, जानिए पूरा मामला

बुलंदशहर के व्यापारी से मारपीट-लूट और उनकी पत्नी से छेड़छाड़ के मामले में पुलिस आरोपी दरोगा के होटल से साक्ष्य जुटाएगी। पीड़ित परिवार के भी बयान दर्ज होंगे। इसके बाद कार्रवाई की जाएगी।


बुलंदशहर के कैटरिंग व्यवसायी ने आरोप लगाया था कि शाहगंज क्षेत्र निवासी जीआरपी के दरोगा नकुल ने उधार के दस लाख रुपये वापस मांगने पर अपनी बेटी का एमबीबीएस में एडमिशन कराने का दबाव बनाया। कहा तभी रुपये वापस करेगा।

संबंधित खबरः 
बुलंदशहर के व्यापारी से दरोगा ने हड़पे रुपये, जान से मारने की धमकी दी, मुकदमा दर्ज



कैटरिंग व्यवसायी के राजी होने पर तीन लाख रुपये दिए। बाद में 18 नवंबर को अपने शाहगंज स्थित होटल में बुलाकर मारपीट की। पत्नी से छेड़छाड़ की। एक लाख रुपये लूट लिए।  ... और पढ़ें
जांच-सांकेतिक जांच-सांकेतिक

बुलंदशहर के व्यापारी से दरोगा ने हड़पे रुपये, जान से मारने की धमकी दी, मुकदमा दर्ज

आगरा के थाना शाहगंज में जीआरपी के दरोगा नकुल सिंह के खिलाफ रुपए हड़पने, लूट, मारपीट, जान से मारने की धमकी, छेड़छाड़ की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है। यह मुकदमा बुलंदशहर की आवास विकास कॉलोनी निवासी कैटरिंग व्यवसाई ने दर्ज कराया है। 

कैटरिंग व्यवसाई का आरोप है कि दो साल पहले दरोगा नकुल सिंह उनके थाना क्षेत्र की चौकी पर तैनात थे। तब उनकी मुलाकात दरोगा से हुई थी। दरोगा ने एक पेट्रोल पंप पर मारपीट की थी। इस मामले में उन्हें निलंबित किया गया था। दरोगा ने बहाली के लिए मदद मांगी थी। उनसे दस लाख रुपये एक महीने में देने की कहकर उधारी पर लिए थे। इसके बाद रुपए वापस नहीं किए। रुपयों की मांग करने पर टालमटोल करते रहे। उनका ट्रांसफर जीआरपी इटावा में हो गया।

दिवाली से दो दिन पहले दरोगा ने फोन करके अपनी बेटी का एमबीबीएस में एडमिशन कराने का दबाव बनाया। एडमिशन कराने पर ही रुपए देने की बात कही। रुपए लेने के लिए व्यवसाई ने दाखिला कराने के लिए झूठ बोल दिया। इस पर दरोगा ने दो बार में तीन लाख उनके खाते में ट्रांसफर कर दिए। दो लाख रुपये लेने के लिए 18 नवंबर को बोदला रोड स्थित अपने होटल पर बुलाया। व्यवसाई अपनी पत्नी और बच्ची के साथ ससुराल दारापुर, इरादतनगर जा रहे थे। इस पर रास्ते में दरोगा के होटल पर आए थे। 

आरोप है कि दरोगा ने होटल में अपने साथियों की मदद से जबरन शराब पिलाई। इस दौरान पत्नी से छेड़छाड़ की। पत्नी गाड़ी लेकर अपने मायके दारापुर चली गई। बाद में दरोगा ने व्यवसाई को एकांत जगह पर ले जाकर मारपीट की। मोबाइल और एक लाख लूट लिए। पीड़ित ने एसपी जीआरपी से शिकायत की थी। मामले की जांच के लिए एसएसपी बबलू कुमार को पत्र लिखा गया। जांच के बाद दरोगा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। 

थाना शाहगंज के प्रभारी निरीक्षक सत्येंद्र सिंह राघव का कहना है कि मुकदमा दर्ज किया गया है। विवेचना की जा रही है। दरोगा नकुल सिंह पर रुपए हड़पने, लूट, मारपीट, छेड़छाड़ का आरोप लगाया गया है।
... और पढ़ें

बुलंदशहरः फंदे से लटका मिला प्रेमी युगल का शव, हॉरर किलिंग की आशंका

बुलंदशहर के डिबाई कोतवाली क्षेत्र के गांव इछावरी में शुक्रवार तड़के एक प्रेमी युगल का शव आम के पेड़ पर फंदे से लटका मिला। ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। प्रथम दृष्टया जांच में पुलिस ने हॉरर किलिंग की आशंका जताई है। 

जानकारी के अनुसार युवक (22) दिल्ली में हलवाई का काम करता था। वहीं गांव निवासी युवती (18) 11वीं की छात्रा थी। स्थानीय लोगों ने बताया की सोमवीर गुरुवार रात गांव आया था।

बताया जा रहा है कि वह दिल्ली से आने के बाद अपने घर नहीं पहुंचा था। वहीं युवती के परिजनों के अनुसार वह देर रात दो बजे से ही घर से गायब थी। शुक्रवार सुबह करीब चार बजे कुछ ग्रामीणों ने दोनों के शव गांव निवासी संजय के खेत में आम के पेड़ पर लटके देखे।

इसके बाद ग्रामीणों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। थाना प्रभारी अखिलेश गौड़ ने बताया की सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शव पोस्टमार्टम को भेजा है। मामले की जांच की जा रही है। वहीं सूचना पर सीओ विक्रम सिंह भी मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल की।

उन्होंने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला हॉनर किलिंग का प्रतीत हो रहा है। घटना के संबंध में ग्रामीणों और दोनों के परिजनों से पूछताछ की जा रही है। जल्द ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।
... और पढ़ें

विदेशी महिला से दुष्कर्म: आरोपी सिपाहियों की तलाश में जुटी पुलिस, आगरा-बुलंदशहर में दबिश

मथुरा में विदेशी मूल की महिला से सामूहिक दुष्कर्म करने वाले आगरा जीआरपी और इंटेलीजेंस के सिपाही की तलाश में पुलिस दबिश दे रही है। हालांकि अभी आरोपियों का कोई पता नहीं चल सका है। इनमें एक धर्मेद्र गिरि बुलंदशहर का रहने वाला है, जबकि आकाश पंवार आगरा का रहने वाला है। 

मूलरुप से किर्गिस्तान की रहने वाली महिला ने पांच साल पहले हाथरस जिले के एक गांव निवासी युवक से शादी कर ली थी। शादी के बाद महिला ने यहां की नागरिकता भी ले ली। कोतवाली में जो मुकदमा दर्ज हुआ है उसके अनुसार पांच महीने पहले विदेशी महिला वीजा अवधि बढ़वाने के लिए लखनऊ जा रही थी। 

ये भी पढ़ें-
शर्मनाक: वीजा के बहाने बुलाकर दो सिपाहियों ने किया विदेशी महिला से दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज

आगरा फोर्ट जीआरपी के सिपाही धर्मेंद्र गिरि से उसकी मुलाकात हो गई। सिपाही महिला को वीजा अवधि बढ़वाने के लिए लखनऊ ले गया, जहां उसके साथ दुष्कर्म किया गया। सिपाही ने उसका वीडियो भी बनाया था। इसके बाद धर्मेंद्र गिरि उसे मथुरा ले आया। यहां एक होटल में धर्मेद्र और उसके साथी आकाश पंवार ने दुष्कर्म किया। 

सिपाही आकाश पंवार आगरा फोर्ट इंटेलीजेंस कार्यालय में तैनात है। मुकदमा दर्ज होने के बाद कोतवाली पुलिस आरोपियों को पकड़ने को दबिश दे रही है। कोतवाली प्रभारी अवधेश प्रताप सिंह ने बताया कि सिपाही धर्मेंद्र गिरि को पकड़ने एक टीम बुलंदशहर और दूसरी टीम आगरा में आकाश पंवार के लिए दबिश दे रही है। ... और पढ़ें

सामूहिक दुष्कर्म कर युवती की हत्या करने वाला मास्टरमाइंड गिरफ्तार, जबरन लिखवाया था एक नोट  

सांकेतिक तस्वीर
विरोधी गिरोह के सदस्यों को फंसाने के लिए पांच युवकों ने एक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और फिर गला दबाकर हत्या कर दी। इससे पूर्व युवती से जबरन एक पत्र लिखवाया, जिसमें कहा गया था कि यदि उसे कुछ होता है तो कुछ युवक (विरोध गैंग के सदस्य) जिम्मेदार होंगे। आरोपियों ने युवती का शव बोरे में रख कर सरिता विहार में फेंक दिया था। मामले में चार आरोपी पहले ही गिरफ्तार हो चुके हैं। दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने मुख्य आरोपी 25 हजार के इनामी बदमाश बुलंदशहर निवासी धीरेन्द्र सिंह (40) को भी गिरफ्तार किया है।

अपराध शाखा डीसीपी डॉ. जी रामगोपाल नायक के अनुसार, सरिता विहार इलाके में 27 फरवरी 2019 को बोरे में करीब 25 वर्षीय युवती का शव मिला था। बोरे से युवती का मोबाइल व दो पेज का नोट मिला था। युवती के गले पर चोट के निशान थे। नोट में तीन लोगों के नाम व उनके मोबाइल नंबर लिखे हुए थे। पुलिस ने इन युवकों को उठाया और पूछताछ की, लेकिन उनकी कोई भूमिका सामने नहीं आई। युवती के मोबाइल की कॉल डिटेल खंगालने पर पुलिस दिनेश तक पहुंची। पुलिस ने दिनेश, उसके साथी सौरभ, रहीमुद्दीन और चंदेश्वर को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पता लगा कि मुख्य आरोपी धीरेन्द्र हत्या के मामले में रोहिणी जेल में बंद था।

ये भी पढ़ें- 
नामी स्कूल में पांच वर्षीय बच्ची से सफाईकर्मी ने किया दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

यहां पर उसकी दिनेश से मुलाकात हुई और दोनों दोस्त बन गए। धीरेन्द्र की जेल में बंटी से दुश्मनी चल रही थी। दोनों ने उससे बदला लेने की साजिश रची। दिसंबर 2018 में जेल से बाहर आने के बाद धीरेन्द्र दिनेश से मिला और इन्होंने बंटी के भाई व उसके दोस्तों को फंसाने की साजिश रची। इन्होंने फर्जी आईडी से एक मोबाइल नंबर लिया। दिनेश ने नौकरी देने के बहाने अपने परिचित युवती को बुलाया। ये युवती को एक फ्लैट में ले गए। यहां पर आरोपियों ने युवती से एक नोट लिखवाया कि अगर भविष्य में उसके साथ कुछ होता है तो बंटी का भाई व उसके दो दोस्त जिम्मेदार होंगे। इसके बाद आरोपियों ने युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और गला दबाकर हत्या कर दी थी। अगले दिन किराए पर सेल्फ ड्राइव वाहन लेकर युवती के शव को बोरे में रखकर सरिता विहार इलाके में फेंक दिया था। 

दिल्ली पुलिस ने धीरेंद्र की गिरफ्तारी पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित कर दिया था। मुख्य आरोपी को पकडने के लिए अपराध शाखा में तैनात एसीपी पंकज सिंह की देखरेख में इंस्पेक्टर विकास राणा, एसआई सुनील तेओतिया, मनोज व प्रियंका की विशेष टीम बनाई गई। इस टीम ने दिल्ली, यूपी, हरियाणा व कर्नाटक में दबिश दी। आखिरकार पुलिस टीम ने आरोपी को 12 अगस्त को सराय काले खां बस अड्डे से गिरफ्तार कर लिया, जब वह किसी साथी से मिलने यहां आया था। उस पर पहले से भी कई मुकदमे दर्ज हैं।
... और पढ़ें

बेटी को फंसाने के लिए माता-पिता ने रच डाली ऐसी घिनौनी साजिश, जानकर पुलिस भी रह गई सन्न

बुलंदशहर के स्याना नगर क्षेत्र के एक मोहल्ले में बुधवार तड़के तीन सशस्त्र बदमाश एक घर में घुस गए। वहां आरोपियों ने गृहस्वामी को तमंचे के बल पर बंधक बना लिया। आरोप था कि लूटपाट के बाद दो बदमाशों ने उसकी पत्नी के साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया।

गृहस्वामी ने अपनी पुत्री समेत तीन अज्ञात आरोपियों के खिलाफ तहरीर देकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी। लेकिन इस मामले की जांच के बाद पुलिस को जो बात पता चली वह इतनी हैरान करने वाली है कि एक बार को पुलिस भी सन्न रह गई।

दरअसल पुलिस की जांच में स्याना गैंगरेप की घटना फर्जी निकली है। पुलिस की जांच में सामने आया है कि माता-पिता ने अपनी बेटी को फंसाने के लिए ये साजिश रची थी। गौरतलब है कि लड़की ने गैर बिरादरी के युवक के साथ भागकर शादी की थी जिसे लेकर उसके माता-पिता नाराज थे। पुलिस ने फर्जी मुकदमा दर्ज कराने पर आरोपी पिता मनोज और मां को गिरफ्तार किया है।
... और पढ़ें

बुलंदशहर का 50 हजारी बदमाश मुठभेड़ में गिरफ्तार

गाजियाबाद में डायमंड फ्लाईओवर के पास लूट करके भाग रहे बदमाशों की केंद्रीय विद्यालय कट के पास कविनगर पुलिस से मुठभेड़ हो गई। पुलिस की गोली लगने से 50 हजारी बदमाश रहे कुख्यात नितिन का साथी गोली लगने से घायल हो गया, हालांकि एक बदमाश फरार होने में कामयाब हो गया। मुठभेड़ में एक सिपाही भी घायल हुआ है। सिपाही व बदमाश को कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया।

एसपी सिटी श्लोक कुमार ने बताया कि रविवार रात कविनगर थाना पुलिस केंद्रीय विद्यालय कट के पास चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान इंस्पेक्टर राजकुमार शर्मा ने वायरलेस सैट पर सूचना दी कि बाइक सवार दो बदमाश डायमंड फ्लाई ओवर के पास एक व्यक्ति से लूट करके भागे हैं।

चेकिंग कर रही टीम ने उक्त नंबर की बाइक देख रुकने का इशारा किया तो उस पर सवार दो युवक पुलिस पर फायरिंग करते हुए रहीसपुर रोड की तरफ भाग निकले। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी गोली चला दी।

पैर में गोली लगने से एक बदमाश जमीन पर गिर पड़ा, जबकि उसका साथी फरार हो गया। बदमाशों की गोली लगने से सिपाही प्रवीण भी घायल हो गया। घायल बदमाश थाना अगौता, बुलंदशहर के गांव पवसरा निवासी सोहनवीर उर्फ सोनू पुत्र सत्यप्रकाश है। उसके कब्जे से तमंचा, दो जिंदा व दो खोखा कारतूस के अलावा डायमंड फ्लाई ओवर के पास से लूटे गए पर्स व पांच हजार रुपये बरामद हो गए।

एसपी सिटी ने बताया कि फरार बदमाश यूसुफ निवासी नाहल थाना मसूरी है, जिसकी तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया कि सोहनवीर सहारनपुर में पुलिस मुठभेड़ में मारे जा चुके 50 हजारी बदमाश नितिन का साथी है। उसने नितिन व अन्य साथियों के साथ मिलकर अगौता क्षेत्र में पेट्रोल पंप, सर्राफ व सरिया व्यापारी से लूट की थी। सोहनवीर पर स्याना, मसूरी, कविनगर व, नोएडा फेस-टू थाने में लूट व हत्या की कोशिश के नौ मुकदमे दर्ज हैं।
... और पढ़ें

अजब दहेज हत्या केस का गजब खेल, मृत विवाहिता हुई प्रेमी के साथ बरामद, ससुरालियों ने ली राहत की सांस

पुलिस की सतर्कता से चार लोग दहेज हत्या के मामले में जेल जाने से बच गए। पुलिस ने तकरीबन छह महीने बाद विवाहिता और उसके प्रेमी को बुलंदशहर खुर्जा से बरामद कर लिया। विवाहिता अपने तीसरे प्रेमी मेरठ निवासी युवक के साथ शादी कर खुर्जा में रह रही थी। उसकी बरामदगी के बाद पहले पति नईम और उसके परिवार वालों ने राहत की सांस ली।

जौनपुर जिले के केराकत क्षेत्र के ग्राम मई निवासी कल्लू हाशमी ने अपनी पुत्री खुशबू की शादी 2014 में थाना बदलापुर क्षेत्र के ग्राम पुरानी बाजार निवासी नईम हाशमी के साथ की थी। 2017 में खुशबू अपने भतीजे के साथ मायके चली गई।

इसी बीच देवरिया जिले के पैना निवासी नौशाद नामक युवक का उसके मोबाइल पर मिस काल आया और दोनों में बातचीत का सिलसिला शुरू हुआ। दोनों में प्रेम हो गया। नौशाद गाजियाबाद रहता था। खुशबू परिवार वालों को बिना कुछ बताए उसके पास गाजियाबाद चली गई। दोनों पति-पत्नी के रूप में रहने लगे। इसी बीच उसका प्रेम मेरठ निवासी भरत नामक एक युवक से हो गई। वह भरत के साथ-साथ बुलंदशहर जिले के खुर्जा में आकर रहने लगी।
... और पढ़ें

बिन दुल्हन बैरंग लौटी बरात, दहेज नहीं सिर्फ इतनी सी थी बात, पुलिस भी हैरान

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले से अनोखा मामला सामने आया है, जहांगीराबाद कोतवाली क्षेत्र के गांव में बरात में बैंड बाजा और फोटोग्राफर को नहीं लाना दूल्हे पक्ष के लोगों को भारी पड़ गया।

इन साजो सामान को नहीं लाने पर बारात को बिना दुल्हन के बैरंग लौटना पड़ा। इस मुद्दे को लेकर वर व वधू पक्ष के बीच घंटों चली पंचायत के बाद भी कोई हल नहीं निकला। बाद में दुल्हन पक्ष के लोगों ने अमरगढ़ क्षेत्र के एक युवक से युवती की शादी कर दी। 

उक्त प्रकरण पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। जानकारी के अनुसार क्षेत्र के गांव में दादरी क्षेत्र के एक गांव से रविवार रात बारात आई थी। ग्रामीणों के अनुसार, बरात देर रात जब गांव पहुंची तो ग्रामीणों ने देखा की बारात के साथ बैंड बाजा नहीं है और न ही कोई फोटोग्राफर। 

यह खबर पूरे गांव में चर्चा का विषय बन गई और गांव में बरात को लेकर तरह-तरह की चर्चा होने लगी। इन बातों को लेकर दुल्हन पक्ष के लोगों की दूल्हा पक्ष के लोगों से नोकझोंक भी हुई और मामले ने तूल पकड़ लिया। 
... और पढ़ें

स्याना बवाल: राजद्रोह की धारा लगाने के विरोध में प्रदर्शन

स्याना बवाल: राजद्रोह की धारा लगाने के विरोध में प्रदर्शन

स्याना। स्याना बवाल में जेल में बंद 44 आरोपियों के विरूद्व शासन द्वारा राजद्रोह की धारा लगाए जाने के विरोध में अंतर्राष्ट्रीय हिन्दू परिषद और राष्ट्रीय बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने तहसील मुख्यालय पर प्रदर्शन किया। इसके बाद राष्ट्रपति व राज्यपाल को प्रेषित ज्ञापन स्याना के एसडीएम सुभाष सिंह को सौंपा।
बृहस्पतिवार को संगठन के सैकड़ों कार्यकर्ता तहसील मुख्यालय पर पहुंचे। इस दौरान संगठन के प्रांतीय मंत्री वीरपाल शर्मा ने कहा कि गत तीन दिसम्बर को गौ हत्या के विरोध में प्रदर्शन कर रहे गौ भक्तों पर पुलिस ने लाठी चार्ज व गोली चला दी थी, जिससे हिंसा भड़क उठी थी। इस घटना के दौरान तत्कालीन पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह और चिंंगरावठी निवासर सुवक सुमित की मौत हो गई थी। इस घटना में 44 लोगों को आरोपी मानते हुए गिरफ्तार किया गया है, जो अभी बुलन्दशहर की जेल में बंद हैं। उन्होंने कहा कि शासन द्वारा गौ भक्तों के खिलाफ राजद्रोह की धारा लगाने की संस्तुति की गई है, जो कि सरासर गलत है। ज्ञापन के माध्यम से इस घटना की जांच विशेष दल बनाकर किये जाने की मांग की गई तथा राजद्रोह की धारा को हटाकर गौ भक्तों को रिहा किये जाने की मांग भी की गई। ज्ञापन के माध्यम से पूरे देश में संवैधानिक पद्वति के द्वारा प्रचंड आन्दोलन किये जाने की चेतावनी भी दी गई। इस दौरान रमेश अग्रवाल, प्रदीप लोधी, प्रकाशवीर, प्रवीण कुमार, लौकेश कुमार, महीपाल सिंह, सहेन्द्रपाल, राजपाल सिंह, अशोक कुमार, जयकरन सिंह, उदयवीर, राजबाला देवी आदि लोग मौजूद रहे।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X