बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
अक्षय तृतीया के शुभ अवसर पर लाएं ये 7 चीजें,खूब आएगा धन।
Myjyotish

अक्षय तृतीया के शुभ अवसर पर लाएं ये 7 चीजें,खूब आएगा धन।

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

फरीदाबादः पुलिस पूछताछ के दौरान युवक की संदिग्ध हालत में मौत, परिजनों ने किया प्रदर्शन

दिल्ली से सटे फरीदाबाद सेक्टर 30 पुलिस लाइन स्थित पुलिस के साइबर सेल में पूछताछ के दौरान एक युवक की संदिग्ध हालत में मौत हो गई।

पुलिस का कहना है कि युवक की मौत हार्ट अटैक से हुई है। मृतक युवक की पहचान सेक्टर 23 निवासी संजय राय के रूप में हुई है। संजय का टूर ट्रवेल का काम है जिसमें इसका पार्टनर रूपेश है। इनका कोई केस चल रहा था जिसके बारे में संजय को जानकारी नहीं थी।

रविवार सुबह दस बजे रूपेश का फोन संजय के पास आया कि पुलिस से मिलने का समय तय हो गया है और शाम 4 बजे होटल राज मंदिर में मीटिंग है। शाम को रूपेश, संजय, जीतू होटल गए। यहां साइबर सेल के पुलिसवालों से इनकी मुलाकात हुई।

इसके बाद क्या हुआ किसी को कुछ नहीं पता। बताया जा रहा है कि इसके बाद पुलिस का फोन संजय की पत्नी वर्षा के पास आया। पुलिस ने वर्षा को जानकारी दी कि संजय की तबियत खराब है आप फौरन बीके अस्पताल आ जाइए।

जब संजय का परिवार अस्पताल पहुंचा तो पता चला कि संजय की मृत्यु अस्पताल लाने से पहले ही हो चुकी थी। हालांकि परिवारवालों को कुछ नहीं पता कि संजय को किस सिलसिले में थाने ले जाया गया था। परिवार का कहना है कि वह सोमवार सुबह सीपी से मिले और उन्होंने मजिस्ट्रेट जांच का आश्वासन दिया है।

एक तरफ तो पुलिस इसे हार्ट अटैक से मौत बता रही है लेकिन किसी भी लापरवाही से बचने के लिए हर एहतियात बरता जा रहा है। जानकारी के अनुसार इसीलिए युवक का पोस्टमॉर्टम भी मजिस्ट्रेट की निगरानी में होगा।

आज दिनभर संजय के परिजनों ने बीके अस्पताल के आसपास की सड़क जाम कर प्रदर्शन किया। बीके चौक पर मृतक संजय के परिवार से कांग्रेसी नेता बलजीत कौशिक ने बातचीत की।
... और पढ़ें

फरीदाबाद: किशोरी का अपहरण कर किया दुष्कर्म, दोषी को मिली 10 साल की सजा

किशोरी का अपहरण कर उससे दुष्कर्म करने के आरोपी को अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश केपी सिंह की अदालत ने दोषी करार देते हुए 10 साल की सजा सुनाई है। अदालत ने उस पर 11 हजार रुपये जुर्माना भी लगाया है। मामले में आरोपी की बहन के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया था लेकिन सबूतों के अभाव में अदालत ने उसे बरी कर दिया। 

थाना मुजेसर क्षेत्र स्थित एक कॉलोनी निवासी किशोरी के पिता ने 13 नवंबर 2017 को मामला दर्ज करवाया था कि 12 नवंबर 2017 की दोपहर को उनकी बेटी लापता हो गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर तलाश शुरू की तो पता चला कि टप्पल, अलीगढ़ निवासी लाला नाम का व्यक्ति उनकी बेटी का अपहरण कर ले गया है। लाला की शादीशुदा बहन लाली पलवल में रहती है। जांच में पता चला कि लाली और किशोरी एक दूसरे को जानते थे। 12 नवंबर को लाली ने किशोरी को फोन कर घर के पास ही पीर के पास बुलाया था। 

वह वहां पहुंची तो लाला ने कुछ सुंघा दिया, जिससे वह बेहोश हो गई। वे उसका अपहरण कर पलवल ले गए और उससे दुष्कर्म किया। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर किशोरी को ढूंढ निकाला। तब से मामला अदालत में विचाराधीन था। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश केपी सिंह की अदालत ने आरोपी लाला को दोषी करार देते हुए 10 साल कैद और 11 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई, जबकि उसकी बहन लाली को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया गया। 
... और पढ़ें

फरीदाबाद: घर में घुसकर महीला को मारी गोली, जांच में जुटी पुलिस

निकिता मर्डर केस : पहले दिन जांच के लिए निकिता के घरवालों से SIT ने किए ये सवाल

निकिता मर्डर केस निकिता मर्डर केस

टोका-टाकी और झगड़े से परेशान होकर जीजा की कर दी थी हत्या, साला गिरफ्तार 

फरीदाबाद में पांच अक्तूबर को लियाकत के सिर में ईंट मारकर साले इमरान ने ही उसकी हत्या की थी। वारदात के बाद से वह फरार था, जिसे क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने रविवार को ओल्ड फरीदाबाद में लेबर चौक से गिरफ्तार कर लिया। एक दिन की रिमांड लेकर पूछताछ के बाद आरोपी को सोमवार को अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

डबुआ कॉलोनी थाना पुलिस ने मणी की टाल के पास एक व्यक्ति का शव बरामद किया था। युवक के सिर में किसी भारी चीज से हमला कर हत्या की गई थी। मृतक की पहचान उत्तम नगर, गाजीपुर रोड निवासी लियाकत के रूप में हुई। पत्नी शहनाज की शिकायत पर हत्या का मामला दर्ज कर क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने जांच शुरू की।

इस दौरान पुलिस को पता चला कि शहनाज का भाई इमरान पिछले 15-20 दिन से अपनी बहन के पास रह रहा था। इमरान सीही गांव में रहता था। करीब 6 साल पहले वह अपना मकान आदि बेचकर गाजियाबाद जाकर रहने लगा था। पुलिस को जांच के दौरान पता चला कि घटना वाले दिन इमरान और लियाकत का झगड़ा हुआ था और लियाकत की हत्या के बाद से वह फरार था। इस पर पुलिस ने उसकी तलाश शुरू की।

मजदूरों की फोटो दिखाकर पहचान कराई 
एसीपी मुख्यालय आदर्शदीप सिंह ने बताया कि पुलिस टीम इमरान की तलाश में गाजियाबाद पहुुंची तो पला चला कि वह यहां से भी अपना मकान बेचकर चला गया है। इस पर इमरान की फोटो लेकर उसकी तलाश शुरू की। शहनाज ने बताया कि इमरान मजदूरी करता और ऑटो चलाता है। इस दौरान ओल्ड फरीदाबाद के लेबर चौक पर मजदूरों ने इमरान की फोटो देखकर उसे पहचान लिया। उसे पकड़ने के लिए पुलिस ने टीम लगाई और रविवार सुबह 8 बजे ओल्ड फरीदाबाद लेबर चौक से उसे गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पता चला कि वह सड़क किनारे जहां जगह मिलती वहीं सो जाता था।

लेबर चौक पर हुआ था जीजा साले में झगड़ा
पूछताछ के दौरान इमरान ने पुलिस को बताया कि 5 अक्तूबर की सुबह वह काम की तलाश में लेबर चौक पर गया था। थोड़ी देर बाद उसका जीजा लियाकत भी वहां आ गया और झगड़ा करने लगा, जोकि मारपीट में बदल गई थी। इसके बाद इमरान वापस अपनी बहन के घर आकर सो गया। शाम को वह घर से काम के लिए जाने का कहकर निकल गया था। रास्ते में मणी की टाल के पास उसे जीजा लियाकत मिल गया और दोनों में दोबारा झगड़ा होने लगा। इमरान अपने जीजा को घसीटकर शमशान घाट के पास खाली मैदान में ले गया और उसके सिर में ईट से कई वार किए, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। लियाकत की हत्या के बाद इमरान वहां से फरार हो गया था। पुलिस ने उसे अदालत में पेश कर एक दिन का रिमांड लिया और वारदात के दौरान पहने उसके कपड़े बरामद किए। सोमवार को रिमांड समाप्त होने पर उसे अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। 
... और पढ़ें

फरीदाबादः सट्टा-जुआ खेलते सात गिरफ्तार, 77900 रुपये बरामद

फरीदाबाद क्राइम ब्रांच सेक्टर- 30 टीम ने बल्लभगढ़ के भीकम कॉलोनी से सट्टा-जुआ खेलने वाले सात आरोपियों को गिरफ्तार कर मामले का भंडाफोड़ किया है। आरोपियों के पास से 77900 रुपये , ताश के पत्ते भी पुलिस ने बरामद किया है।

सेक्टर-30 क्राइम ब्रांच प्रभारी विमल राय ने बताया कि उनकी टीम को सूचना मिली थी कि भीकम कॉलोनी में  अवैध रूप से सट्टे का खेल खेला जा रहा है। जिसे गंभीरता से लेते हुए उनकी टीम पुलिस आयुक्त ओपी सिंह के निर्देश पर सक्रिय हो गई।

जिसके बाद सोमवार आधी रात के बाद करीब दो बजे क्राइम ब्रांच की टीम ने भीकम कॉलोनी निवासी विजेंद्र के घर पर दबिश दी। जहां से सात आरोपियों को क्राइम ब्रांच ने रंगे हाथों दबोच लिया।

इन आरोपियों की पहचान मुख्य आरोपी विजेंद्र निवासी भीकम कॉलोनी समेत दीपक निवासी भूदत्त कॉलोनी ,मनीष निवासी भीकम कॉलोनी, प्रिंस निवासी अहीरवाडा ,अजीत निवासी चावला कॉलोनी, आकाश निवासी बदनपुर फिरोजाबाद राजू निवासी बल्लभगढ़ के रूप में हुई है। इन आरोपियों के खिलाफ बल्लभगढ़ सिटी थाने में मामला दर्ज कराया गया है। क्राइम ब्रांच की टीम आरोपियों से पूछताछ कर रही है।
... और पढ़ें

दो बच्चों की मां का नाबालिग पर यौन शोषण का आरोप, कोर्ट ने आरोपी को देख उल्टा महिला पर दर्ज किया केस

तस्वीर में सफेद घेरे में विकास दुबे जो एक मिठाई की दुकान के बाहर खड़ा है, विकास का साथी प्रभात गिरफ्तार, साथी अंकुर के घर के बाहर तैनात पुलिस
14 वर्षीय किशोर पर यौन शोषण का मुकदमा दर्ज कराने वाली विधवा महिला के खिलाफ प्रिंसिपल मजिस्ट्रेट जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड (पीएमजेजेबी) रितु यादव ने पोक्सो के तहत मामला दर्ज करने के आदेश दिए हैं।

महिला थाना पुलिस ने 29 वर्षीय महिला के खिलाफ किशोर का शारीरिक शोषण करने का मुकदमा दर्ज कर लिया है। अभी मामले में महिला की गिरफ्तार नहीं हुई है। पुलिस महिला की तलाश में जुटी है।

उप पुलिस अधीक्षक सुनील कादयान के अनुसार 13 सितंबर 2019 को एक 29 वर्षीय महिला ने पुलिस को दी शिकायत में कहा था कि उसकी शादी 10 साल पहले रोहतक जिला के सांपला थाना अंतर्गत रहने वाले एक युवक से हुई थी।

शादी के बाद दो बच्चों की मां बन गई और करीब चार साल पहले उसके पति की मौत हो गई। महिला दोनों बच्चों को लेकर पलवल आकर रहने लगी। साल 2018 में महिला की मुलाकात चांदहट थाना के क्षेत्र एक गांव निवासी युवक से हुई। दोनों आपस में बातें करने लगे, जिससे दोनों की दोस्ती हो गई।
... और पढ़ें

500 रुपये उधार मांगकर दोस्त ने उड़ा लिए 25 हजार रुपये, जानिए क्या है पूरा मामला

फरीदाबाद के अजरौंदा गांव के रहने वाले एक युवक के घर से उसके दोस्त ने 25 हजार रुपये चुरा लिए। पीड़ित ने मामले की शिकायत सेक्टर-15ए चौकी में देकर दोस्त के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

पीड़ित मान सिंह ने बताया कि वह अजरौंदा गांव का रहना वाला है। शहर की एक निजी कंपनी में नौकरी करता है। उसका एक दोस्त आकाश मंगलवार को 500 रुपये उधार मांगने आया था।

उसने अपनी अलमारी से 500 रुपये निकालकर दे दिए। इसके बाद वह ड्यूटी चला गया। वह कुछ सामान भूल गया था, इसे लेने वापस आया तो देखा कि दोस्त आकाश उसकी अलमारी से पैसे चुरा रहा था।

उसने शोर मचाकर उसे पकड़ने का प्रयास किया तो आकाश ने धक्का देकर उसे गिरा दिया व अलमारी में रखे 25 हजार रुपये लेकर फरार हो गए।
 
मानसिंह ने आकाश के खिलाफ पुलिस से शिकायत कर उसे पकड़ने व चोरी के रुपये वापस दिलाने की गुहार लगाई है। पुलिस मामला दर्ज कर आरोपी आकाश की तलाश में जुट गई है। 
... और पढ़ें

हरियाणाः पलवल में पुलिस और बदमाशों के बीच जबरदस्त मुठभेड़, ढेर हुआ वांछित अपराधी गुड्डू

रेस्तरां में पत्नी के साथ मना रहा था जन्मदिन की पार्टी, हुआ कुछ ऐसा बेटे के सिर से उठा बाप का साया

एनआईटी तीन स्थित आंगन रेस्तरां में जन्मदिन की पार्टी में आए एक युवक की रेस्तरां मालिक व कर्मचारियों ने पलटे और चाकू से वारकर हत्या कर दी। थाना एसजीएम नगर पुलिस ने रेस्तरां मालिक सहित 20 लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने युवक के शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया है। वहीं बुधवार शाम को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों ने एक-दो चौक पर शव रखकर जाम लगा दिया। परिजन हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों के समझाने पर लोगों ने जाम खोला।

एनआईटी 2सी विडो होम निवासी जितेश भाटिया ने बताया कि उनके ममेरे भाई संदीप के बेटे का मंगलवार को जन्मदिन था। संदीप ने ईएसआई मेडिकल कॉलेज के सामने स्थित आंगन रेस्तरां में पार्टी रखी थी। पार्टी में जितेश का 26 वर्षीय भाई हितेश अपनी पत्नी साक्षी के साथ गया था। पार्टी के दौरान संदीप के पास काम करने वाले एक युवक की वहां एक वेटर से किसी बात पर कहासुनी हो गई। यह देख संदीप बीच बचाव कराने लगा, मगर तभी वेटर ने संदीप को थप्पड़ जड़ दिया। इस पर वहां हंगामा होने लगा। जितेश के अनुसार, उसका भाई हितेश भी बीच-बचाव के लिए पहुंच गया। हितेश की पत्नी साक्षी भी बीच बचाव करने लगी।

जितेश ने बताया कि विवाद इतना बढ़ गया कि रेस्टोरेंट के वेटरों ने पार्टी में शामिल लोगों को पीटना शुरू कर दिया। इस दौरान रेस्तरां संचालक सचिन भाटिया ने फोन कर कुछ और युवकों को वहां बुला लिया। इस पर पार्टी में शामिल लोग वहां से जान बचाकर भागने लगे। जितेश के अनुसार, हितेश भी वहां से निकल रहा था, मगर तभी हमलावरों ने उसे पकड़ लिया और खींचकर रेस्तरां के अंदर ले गए। आरोपियों ने जितेश को उसकी पत्नी के सामने ही बुरी तरह पीटना शुरू कर दिया। कुछ वेटर रसोईघर में से पलटा व चाकू आदि उठा लाए। उनमें से एक ने हितेश के सिर में पलटे से वार किया। इसके बाद हमलावरों ने हितेश पर चाकू से हमला कर घायल कर दिया।

पत्नी साक्षी के अनुसार, बेहोश हितेश को हमलावर अपनी कार में डालकर ले जाने का प्रयास कर रहे थे। इसी दौरान सूचना मिलने पर पुलिस वहां पहुंच गई और हमलावर हितेश को छोड़कर वहां से फरार हो गए। पुलिस ने हितेश को अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। एसजीएम नगर थाना प्रभारी हरदीप सिंह ने बताया कि रेस्तरां मालिक सचिन भाटिया सहित अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
... और पढ़ें

मौत बुला रही थी मुरथल, जन्मदिन मनाने गए थे तीन भाई, घर लौटीं लाश

ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे पर सड़क दुर्घटना में तीन युवकों की मौत के मामले में परिजनों ने ट्रक चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। वहीं घायल युवक की हालत चिंताजनक बनी हुई है। परिजनों ने बताया कि ये युवक हरियाणा के पलवल से मुरथल में जन्मदिन की दावत में जा रहे थे। परिजन तीनों के शव अपने साथ ले गए।

हरियाणा के फरीदाबाद के बसंतपुर निवासी प्रदीप उर्फ आशु (26) पुत्र सतपाल, उसका चचेरा भाई विनीत उर्फ कक्कू (25) पुत्र कंवर पाल अपने फुफेरे भाई सचिन (24) पुत्र इंद्रपाल, प्रिंस पुत्र राजेंद्र निवासी बड़ौली पलवल कार में सवार होकर बुधवार रात कार में सवार होकर हरियाणा के मुरथल (सोनीपत) में जन्मदिन की दावत में जा रहे थे।

प्रदीप के चाचा रामकेश ने बताया कि बुधवार को परिवार में एक युवक का बर्थ-डे था। देर शाम चारों युवक कार में सवार होकर पलवल से मुरथल (सोनीपत) में दावत के लिए चले। ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे पर मवी कलां मिनी टोल के पास पहुंचे तो तेज गति से आ रहे ट्रक ने कार में टक्कर मार दी । इससे कार के परखच्चे उड़ गए।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन