बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
अपार धन की प्राप्ति हेतु कामिका एकादशी को कराएँ श्री लक्ष्मी-विष्णु जी का विष्णुसहस्त्रनाम-फ्री, रजिस्टर करें
Myjyotish

अपार धन की प्राप्ति हेतु कामिका एकादशी को कराएँ श्री लक्ष्मी-विष्णु जी का विष्णुसहस्त्रनाम-फ्री, रजिस्टर करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

दिल्लीः ऑनलाइन क्लास न कर पाने वाले बच्चों के लिए कांस्टेबल बने सहारा, मंदिर में ले रहे क्लास

दिल्ली पुलिस का एक कांस्टेबल कोरोना काल में जरूरतमंद बच्चों के लिए मदद का बड़ा हाथ बनकर सामने आया है। कांस्टेबल ने कोरोनाकाल के दौरान गरीब और जरूरतमंद...

20 अक्टूबर 2020

विज्ञापन
Digital Edition

दिल्ली : सात लाख का इनामी, मोस्ट वांटेड गैंगस्टर काला जठेड़ी सहारनपुर से गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। स्पेशल सेल ने देश के मोस्ट वांटेड गैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी को सहारनपुर, यूपी से गिरफ्तार किया है। आरोपी ने पुलिस कस्टडी से फरार होने की असफल कोशिश की थी। गैंगस्टर जठेड़ी पर 7 लाख का इनाम है।  गैंगस्टर पर दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, पंजाब में कई मामले दर्ज हैं। वहीं जठेड़ी के गैंग में 200 से ज्यादा शूटर शामिल हैं। इसके ज्यादातर शूटर विदेश में है और विदेश में बैठकर शूटर इस गिरोह को चला रहा है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने काला जठेड़ी पर मकोका लगाया हुआ है और वह एक दशक से अपराध की दुनिया पर राज कर रहा है। 

स्पेशल सेल डीसीपी मनीषी चंद्रा ने बताया कि स्पेशल सेल टीम काफी लम्बे वक्त से काला जठेड़ी के पीछे लगी हुई थी। इस दौरान टीम ने टेक्निकल सर्विलांस की मदद से सहारनपुर से शुक्रवार को काला जठेड़ी को गिरफ्तार कर किया। आरोपी ने पुलिस से बचकर भागने का प्रयास किया, लेकिन टीम ने उसे पिस्टल से साथ मौके पर ही दबोच लिया। फिलहाल स्पेशल सेल की टीम से पूछताछ कर रही है। काला जठेड़ी को आतंक का पयाय कहा जाने लगा था। 

दिल्ली पुलिस अधिकारियों के अनुसार सोनीपत राई के गांव जठेड़ी निवासी गैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान समेत पांच राज्यों का मोस्ट वांटेड है। 12वीं तक पढ़ा काला पहले केबल ऑपरेटर था। जून 2009 में उसने रोहतक के सांपला में लूट के दौरान पहली हत्या की थी, जिसके बाद से उसके कारनामों की फेहरिस्त लंबी होती चली गई। काला पहले लॉरेंस बिश्नोई गैंग के लिए काम करता था, लेकिन अब वह खुद का गैंग चलाता है। इस गिरोह को काला जठेड़ी व लारेंस विश्राई कहा जाता है।

पुलिस की अब तक की जांच में पता चला है कि काला नेपाल के रास्ते थाईलैंड की तरफ भागा था।  पुलिस की मानें तो काला जठेड़ी का गैंग अभी एनसीआर में सबसे बड़ा गैंग है। इस गिरोह पर गैंग पर हत्या, हत्या का प्रयास, रंगदारी, लूट और डकैती के दर्जनों मामलों को अंजाम देने के आरोप है। काला जठेड़ी की गिरफ्तारी पर विभिन्न राज्यों की पु़लिस की तरफ से सात लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया था। 

हाल ही में सुर्खियों में सामने आया था-
काला जठेड़ी चार जून को उस समय सुर्खियों में आ गया था जब ओलंपियन सुशील कुमार ने जूनियर पहलवान सागर धनखड़ की हत्या की थी। पुलिस की जांच में ये बात सामने आई थी कि सुशील कुमार के काला जठेड़ी से संबंध है। वह उसके छोटे भाई की शादी में उसे गांव गया था। 
... और पढ़ें
काला जठेड़ी काला जठेड़ी

सनससनीखेज: 'बेटे को मार डालेंगे, बेटी से करेंगे दुष्कर्म' इंजीनियर से मांगे एक करोड़ रुपये, हकीकत जान उड़ जाएंगे होश

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले के शालीमार गार्डन में बेटे की हत्या और बेटी से दुष्कर्म की धमकी देकर इंजीनियर से एक करोड़ की रंगदारी मांगने का मामला सामने आने से पुलिस के होश उड़ गए। इंजीनियर के मुताबिक, उनके परिजनों के व्हाट्सएप नंबरों पर धमकी भरे स्टेट्स अपने आप बदल रहे थे। साथ ही उनके नंबरों से जानकारों व रिश्तेदारों को धमकी भरे मैसेज भी भेजे जा रहे थे। साइबर सेल ने मामले का खुलासा किया तो पुलिस के साथ-साथ पीड़ित परिवार भी चौंक गया। यह सब कुछ सातवीं कक्षा में पढ़ने वाली इंजीनियर की बेटी ही कर रही थी। शालीमार गार्डन निवासी इंजीनियर ने 26 जुलाई को साहिबाबाद थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उनके मुताबिक बदमाशों ने उनके व उनके परिवार के मोबाइल हैक कर एक करोड़ की रंगदारी मांगी। बदमाशों ने उन्हीं के व्हॉट्सएप का स्टेटस बदलकर लिखा कि एक करोड़ रुपये पार्क में पहुंचा देना। नहीं तो उनके बेटे की हत्या कर दी जाएगी और बेटी के साथ दुष्कर्म किया जाएगा।  ... और पढ़ें

जालसाजी: एक फोटो से एचडीएफसी की छह ब्रांच में खुलवाए खाते, फिर लगाया 1.38 करोड़ का चूना

देश की राजधानी दिल्ली में जालसाजों ने एक फोटो से एचडीएफसी बैंक को करीब एक करोड़ 38 लाख रुपये का चूना लगा दिया। आरोपियों ने एक फोटो से छह बैंक खाते खुलवा लिए। जालसाजों ने कुल नौ बैंक खाते खुलवाए थे। 

एचडीएफसी बैंक की शिकायत पर दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने मामला दर्जकर जांच शुरू कर दी है। दिल्ली पुलिस के अधिकारियों का कहना है कि शुरूआती जांच में ऐसा लग रहा है कि जालसाजों के साथ बैंक के कुछ कर्मचारियों की मिलीभगत हो सकती है। 

दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बैंक से मिली शिकायत में कहा गया है कि उत्तरी व पश्चिमी जिले में स्थित अलग-अलग बैंक शाखाओं में ये बैंक खाते खुलवाए गए हैं। छह बैंक खातों में एक ही फोटो हैं, जबकि तीन बैंक खातों में एक ही पता दिया गया है। 

आरोपियों ने इन बैंक खातों से क्रेडिट कार्ड, दोपहिया वाहन लोन, बिजनेस लोन व बैंक की योजनाओं का लाभ लिया। बैंक में जब आंतरिक ऑडिट हुआ तो इस जालसाजी का खुलासा हुआ। 
... और पढ़ें

दिल्ली: यूएस कस्टम और एफबीआई अधिकारी बता ठगते थे अमेरिकी नागरिक, दो मास्टरमाइंड समेत 65 गिरफ्तार

पश्चिम जिले की साइबर सेल ने हरिनगर इलाके में चल रहे एक फर्जी कॉल सेंटर का खुलासा किया है। पुलिस ने कॉल सेंटर से 65 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपी खुद को यूएस कस्टम और एफबीआई का अधिकारी बताकर ठगी को अंजाम देते थे।

पुलिस ने सेंटर से 58 कम्प्यूटर, दो लैपटॉप, एक इंटरनेट राउटर, 11 मोबाइल फोन, चैटिंग स्क्रिप्ट, इंटरनेट कॉलिंग डायलर और अमेरिकन नागरिकों का डाटा बरामद किया है। 

जिला पुलिस उपायुक्त उर्विजा गोयल ने बताया कि साइबर सेल ने एक सूचना पर 28 जुलाई को हरिनगर के फतेह नगर में एक कॉल सेंटर पर छापा मारा। उस समय वहां काम करने वाले इंटरनेशनल नंबर पर बात कर रहे थे। जिसमें से सात खुद को यूएस कस्टम, बॉर्डर प्रोटेक्शन डिपार्टमेंट, एफबीआई सहित अन्य अमेरिकी विभाग का अधिकारी बताकर बात कर रहे थे। 

फर्जीवाड़ा का खुलासा होने के बाद पुलिस ने कॉल सेंटर के दो मालिक मोती नगर निवासी लखन जगवानी और सुदर्शन पार्क निवासी विजेंद्र सिंह रावत और 63 टेलीकॉलर को गिरफ्तार कर लिया। 
 
... और पढ़ें

दिल्ली: झगड़े से परेशान होकर भतीजे ने दोस्तों संग बनाया था खौफनाक प्लान, ताऊ की हत्या के बाद किया था ये काम

फर्जी कॉल सेंटर का पर्दाफाश
दिल्ली की द्वारका जिला पुलिस ने पालम एक्सटेशन इलाके में मंगलवार को हुए बुजुर्ग की हत्या के मामले में उसके भतीजे समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मुख्य आरोपी ने खुलासा किया है कि अकसर होने वाले झगड़े से परेशान होकर उसने हत्या की साजिश रची। 

पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी से डिलीवरी ब्वॉय की से लूट के मामले को सुलझाने का दावा किया है। पुलिस ने इनके कब्जे से पिस्टल, कारतूस और डिलीवरी ब्वॉय से लूटी गई बाइक बरामद की है। 

जिला पुलिस उपायुक्त संतोष कुमार मीणा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों की पहचान हरिजन बस्ती, पालम एक्सटेंशन निवासी राजवीर(27), पालम गांव निवासी अभिषेक(19) और गोयला डेयरी निवासी ललित(24) के रूप में हुई है। 27 जुलाई की सुबह पुलिस को हरिजन बस्ती निवासी अजीत सिंह(63) की गोली मारकर हत्या किए जाने की जानकारी मिली। 

मौके पर पहुंची पुलिस को अजीत के बेटे विनोद ने बताया कि उसका अपने चाचा किशन से एक दिन पहले झगड़ा हुआ था। जिसमें उसके चचेरे भाई राजवीर ने हत्या करने की धमकी दी थी। हत्या का मामला दर्ज कर पुलिस की तीन टीम गठित कर मामले की जांच शुरू की। पुलिस ने पड़ोस में रहने वाले राजवीर के घर पर दबिश दी, लेकिन वह घर से गायब था। पुलिस ने उसकी तलाश शुरू की। 
... और पढ़ें

जीवन की राह : साहित्य के रास्ते शांति की तलाश कर रहा है बागपत जेल में बंद एक कैदी

बागपत जिला जेल के बैरक नंबर तीन में एक ऐसा भी बंदी है, जो अपने सिरहाने रामधारी सिंह दिनकर की कुरुक्षेत्र रखता है, तो हाथ में व्योमकेश दरवेश की प्रति। पिछले चार साल से हत्या के आरोप में वह जेल में बंद है, लेकिन साहित्य की पुस्तकों में अपने जीवन की शांति तलाशता है।

ऐसे समय में, जब हाथ से चिट्ठी लिखना लगभग चलन से बाहर हो गया है और साहित्य में पठनीयता के संकट पर बहस होती रहती है, तब एक कैदी अगर कोई
पुस्तक पढ़कर संबंधित लेखक को पाठकीय पत्र लिखे, तो उसके साहित्य प्रेम को समझा जा सकता है। पिछले दिनों ऐसा ही एक पत्र वरिष्ठ साहित्यकार विश्वनाथ प्रसाद त्रिपाठी को बागपत जेल से 26 वर्षीय रोहन धामा नामक कैदी ने उनकी पुस्तक ‘व्योमकेश दरवेश’ (हजारी प्रसाद द्विवेदी की जीवनी) पढ़कर लिखा।

अपने पत्र में वह लिखता है कि आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी का व्यक्तित्व इस कृति में जीवंत हो उठा है। श्रद्धेय आचार्य जी के जीवन-चरित्र के साथ-साथ तत्कालीन साहित्य-जगत, देशकाल व हिंदी संसार भी इस पुस्तक में अभिलेख के रूप में दर्ज हो गया है।

यूपीएससी की तैयारी कर रहा था
कभी साहित्य की सेवा का सपना देखने वाला यह युवा कैदी एमए में दाखिला लेकर यूपीएससी की तैयारी कर रहा था, लेकिन नियति ने उसे जेल पहुंचा दिया। वह अपने पत्र में लिखता है, कि ‘निद्राहीन जागती रातों’ में साहित्यिक पुस्तकों को उलट-पलट कर उनमें से कुछ तत्व खोजता रहता है और मन में उठ रहे विचारों के वेग को पृष्ठों पर उतार कर शांति हासिल करता है। व्योमकेश दरवेश के लेखक विश्वनाथ प्रसाद त्रिपाठी का कहना है कि उसका यह प्यारा पत्र पाकर मैं अभिभूत हूं।
... और पढ़ें

गर्मी के तेवर ढीले: दिल्ली में पिछले 11 सालों में हुई सबसे अधिक बारिश, अगले 24 घंटे रिमझिम बारिश का रहेगा दौर

दिल्ली की बारिश ने शुक्रवार को नया रिकॉर्ड बनाया है। पिछले 24 घंटों के भीतर 72 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड हुई है, जो पिछले 11 सालों में सबसे अधिक है। इससे पहले वर्ष 2011 में शून्य व 2013 में अधिकतम 28.6 मिमी बारिश दर्ज की गई थी। शाम साढ़े पांच बजे तक सबसे अधिक 62 मिमी बारिश दिल्ली के लोदी रोड मानक केंद्र पर हुई है। वहीं, न्यूनतम तापमान भी पिछले 11 सालों में सबसे कम रहा है। अगले 24 घंटों में भी बारिश की संभावना को देखते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी है। 

मौसम विभाग ने शुक्रवार को बारिश की संभावना जताई थी। सुबह से सूरज ने तेवर दिखाना शुरू कर दिया था। इस कारण तेज धूप निकलने से उमस भरी गर्मी से लोगों का बुरा हाल रहा। दोपहर तक बादलों ने दिल्ली को घेर लिया और गर्मी के तेवर ढीले कर दिए। शाम तक दिल्ली के विभिन्न स्थानों पर रुक-रुककर बारिश का दौर जारी रहा। इससे उमस भरी गर्मी से लोगों को राहत मिली। सुबह नौ बजे से लेकर शाम साढ़े पांच बजे तक दिल्ली में 42.8 मिमी बारिश रिकॉर्ड हुई है।  

प्रादेशिक मौसम विभाग के मुताबिक, शुक्रवार को अधिकतम तापमान सामान्य से दो कम 32 व न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन कम 24.5 डिग्री सेल्सियस रहा। पिछले 24 घंटों में हवा में नमी का स्तर 98 से लेकर 79 फीसदी रहा। इस वजह से बारिश थमने पर उमस का अहसास बना रहा। दिल्ली के पालम में 33.3, लोदी रोड में 32.2, रिज इलाके में 30.5, गुरुग्राम में 30.7, नोएडा में 34.4 और मयूर विहार में 32.2  डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान रहा। 

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि अगले 24 घंटों में रिमझिम बारिश का दौर जारी रहेगा। अधिकतम तापमान 32 व न्यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस रहेगा। लगातार बारिश होने की वजह से विभाग ने दो अगस्त तक अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की संभावना जताई है।  

शाम साढ़े पांच बजे तक इतनी हुई बारिश
लोदी रोड 62 मिमी
रिज 21 मिमी
पालम 14 मिमी
आया नगर 1.7 मिमी
गुरुग्राम 2.4 मिमी


दिल्ली से साफ रही एनसीआर की हवा
लगातार हो रही बारिश की वजह से दिल्ली-एनसीआर की हवा में सुधार हुआ है। इस कड़ी में शुक्रवार को एनसीआर के शहरों की हवा दिल्ली से भी बेहतर दर्ज हुई। अगले तीन दिनों तक वायु गुणवत्ता में बदलाव की संभावना नहीं है। 

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के मुताबिक, दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक 76 रहा। एनसीआर में सबसे साफ हवा गाजियाबाद (50) और ग्रेटर नोएडा(45) रही। इसके अलावा फरीदाबाद में 52, गुरुग्राम में 66 और नोएडा में 66 एक्यूआइ रहा। 

सफर इंडिया के मुताबिक, बारिश की वजह से हवा में सुधार जारी है। अगले तीन दिनों तक वायु गुणवत्ता साफ से लेकर संतोषजनक श्रेणी में बनी रहेगी। पिछले 24 घंटों में हवा में पीएम 10 का स्तर 59 व पीएम 2.5 का स्तर 29 माइक्रोग्राम प्रतिघन मीटर रहा।
... और पढ़ें

यूपी में अपराध : नोएडा में आरएसएस सह संपर्क प्रमुख के घर लूट, बच्चियों पर तानी पिस्तौल

सेक्टर-55 में तीन बच्चियों पर पिस्टल तानकर चार बदमाशों ने प्रिंटिंग प्रेस मालिक व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सह संपर्क प्रमुख के घर लूटपाट की। बदमाश घर में बीस मिनट तक रहे और तीन लाख रुपये, तीन मोबाइल और जूलरी लूटकर फरार हो गए। 27 जुलाई की शाम को हुई इस सनसनीखेज घटना के बाद कोतवाली सेक्टर-58 पुलिस ने लूट की रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

पुलिस के अनुसार, बी ब्लॉक निवासी कर्णवीर अनेजा की सेक्टर-8 में प्रिंटिंग प्रेस है। वह मां, पत्नी व तीन बेटियों के साथ रहते हैं। मंगलवार को कर्णवीर घर पर नहीं थे। मां व पत्नी डॉक्टर के पास गई थीं। घर में 14, 12 व 10 वर्षीय तीन बेटियां और एक घरेलू सहायिका थी। घर में पीजी चलता है, फिलहाल एक लड़की रह रही है। घर का मुख्य दरवाजा खुला था।

करीब साढ़े सात बजे हथियारबंद चार बदमाश मास्क लगाकर घर में घुसे और बच्चियों को गन प्वाइंट पर ले लिया। इसके बाद अंदर से कुंडी लगाकर दरवाजा बंद कर दिया। सहमी बच्चियों को बदमाशों ने फ्रिज से ठंडा पानी निकालकर पिलाया। फिर बदमाशों ने तीनों बच्चियों व घरेलू सहायिका को एक कमरे में बंदकर तीन लाख रुपये और लाखों की जूलरी लूट ली।

पीजी में रहने वाली लड़की हो जब घटना के बारे में पता लगा तो उसने पड़ोसी को सूचना दी। कुछ देर के बाद घर के सभी सदस्य पहुंच गए। पुलिस की जांच में पता चला है कि घरेलू सहायिका कई सालों से घर में काम करती है और उस पर परिवार का पूरा भरोसा है।

बदमाशों के नजदीक पहुंची पुलिस
बदमाशों को पकड़ने के लिए पुलिस ने पांच टीमें बनाई हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस बदमाशों के करीब पहुंच गई है। एक दर्जन संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। शनिवार को मामले का खुलासा हो सकता है। इसके लिए कमिश्नरेट पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी लगातार मॉनिटरिंग कर रहे हैं।

घटना के बाद पुलिस की पांच टीमें बनाई गई हैं और पुलिस को कई अहम जानकारी भी हाथ लगी है। घटना में शामिल बदमाशों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
- रणविजय सिंह, एडीसीपी नोएडा
... और पढ़ें

झटका: एलोपैथी के संबंध में दिए बयान पर हाईकोर्ट ने बाबा रामदेव को नोटिस जारी कर मांगा जवाब

दिल्ली उच्च न्यायालय ने योग गुरु रामदेव को एलोपैथी के संबंध में दिए गए उनके बयानों के खिलाफ दाखिल याचिका पर नोटिस जारी कर एक सप्ताह के भीतर जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है।

न्यायमूर्ति हरि शंकर ने स्पष्ट किया कि रामदेव का जवाब नहीं मिलने तक वह इस मामले में कार्यवाही शुरू करने की अनुमति नहीं देंगे। याचिकाकर्ता चिकित्सक एसोसिएशनों की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता अखिल सिब्बल ने तर्क दिया कि मुकदमा दायर करने की अनुमति देने के लिए अदालत को केवल उसके समक्ष याचिका को देखना होता है और दूसरे पक्ष के जवाब की आवश्यकता नहीं होती।

अदालत ने रामदेव की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता राजीव नायर को जवाब दाखिल करने के लिए समय देते हुए कहा यदि मुकदमा शुरू करने की अनुमति दी जाती है तो (रामदेव) इसके खिलाफ याचिका दाखिल कर कर सकते हैं। अदालत ने कहा इस मुद्दे पर विचार किया जाएगा। अदालत ने मामले की सुनवाई 10 अगस्त तय की है।

अदालत के समक्ष तीन रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशनों ने यह याचिका दाखिल की है। उन्होंने आरोप लगाया कि रामदेव ने बड़े पैमाने पर लोगों को गुमराह किया और गलत तरीके से यह कहा कि एलोपैथी चिकित्सा पद्धति कोविड -19 संक्रमित कई लोगों की मौत के लिए जिम्मेदार है। साथ ही आरोप है कि उन्होंने कहा था एलोपैथिक डॉक्टर मरीजों की मौत का कारण बन रहे हैं।

बाबा रामदेव के खिलाफ बयान को लेकर देशभर के विभिन्न राज्यों में शिकायतें दर्ज करवाई गई थी। हालांकि तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन के हस्तक्षेप के बाद बाबा रामदेव ने अपना बयान वापस ले लिया था।

उधर इंडियन मेडीकल एसोसिएशन ने बाबा रामदेव को कानूनी नोटिस भेज माफी न मांगने पर एक हजार करोड़ रुपये की मानहानि का मुकदमा करने की धमकी दी थी।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us