विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
कराएं दिवाली की रात लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि  व्  सर्वांगीण कल्याण  की प्राप्ति : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

कराएं दिवाली की रात लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि व् सर्वांगीण कल्याण की प्राप्ति : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

नौकरी न कर शुरू की खुद की कंपनी, 26 साल की उम्र में बन गए बड़े उद्योगपति

गाजियाबाद के तुषार अग्रवाल, ये वो नाम है जिसने मात्र 26 साल की उम्र में उद्यम के क्षेत्र में अपना लोहा मनवा लिया है। आज तुषार दो इंडस्ट्री के मालिक है...

3 अक्टूबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

दिल्ली-एनसीआर

शुक्रवार, 18 अक्टूबर 2019

दिल्ली हाईकोर्ट ने पाक से आए हिंदू भाई-बहनों को स्कूल में दाखिला देने के दिए निर्देश

दिल्ली हाईकोर्ट ने पाकिस्तान से आए हिंदू शरणार्थी परिवार के तीन बच्चों को स्कूल में दाखिला देने का निर्देश दिल्ली सरकार को दिया है। इन बच्चों के पिता ने एक एनजीओ के जरिए याचिका दायर कर दाखिला दिलाने की गुहार लगाई थी। मामला छतरपुर के भाटी माइन स्थित स्कूल में दाखिला न दिए जाने से जुड़ा है। 

न्यायमूर्ति राजीव शकधर ने दिल्ली सरकार को तीनों बच्चों को दाखिला देने का निर्देश दिया है। स्कूल ने बच्चों की उम्र ज्यादा बताते हुए उन्हें दाखिला देने से मना कर दिया था। अदालत ने दिल्ली सरकार की उस दलील को खारिज कर दिया दिल्ली सरकार इन बच्चों को मानवता के आधार पर दाखिला दे। 

कोर्ट के समक्ष बच्चों के वकील अशोक अग्रवाल ने कहा कि इसमें कोई मानवता नहीं और सरकार कोई खैराती काम नहीं कर रही है। बच्चों को शिक्षा प्रदान करना सरकार व राज्य की जिम्मेदारी है। पाकिस्तानी शरणार्थी होने के बाद भी शिक्षा उनका अधिकार है। 

हाईकोर्ट में पेश याचिका में कहा गया है कि तीन पाकिस्तानी भाई-बहन संजिनी बाई (16), रवि कुमार (17) और मूना कुमारी (18) इस साल अपने माता-पिता के साथ पाकिस्तान छोड़कर भारत आए थे। इन बच्चों के पास पाकिस्तान के एक स्कूल से उनकी पिछली शिक्षा के प्रमाण पत्र मौजूद हैं। यह बच्चे छतरपुर के भाटी माइंस स्थित एक सरकारी स्कूल में नौंवी कक्षा में प्रवेश पाना चाहते हैं लेकिन स्कूल उनकी आयु ज्यादा बताकर दाखिला देने से इनकार कर रहा था।
... और पढ़ें

प्रदूषण पर सियासत: गोयल का केजरीवाल पर हमला, बोले- खुद का ठीकरा दूसरों पर फोड़ रहे

दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को लेकर भाजपा ने दिल्ली सरकार को कठघरे में खड़ा किया है। भाजपा का कहना है कि दिल्ली में लगातार प्रदूषण बढ़ रहा है और सरकार पर्यावरण विशेषज्ञों की रिपोर्ट को लगातार झूठा साबित करने में लगी है। इतना ही नहीं मुख्यमंत्री केजरीवाल अपनी विफलता का ठीकरा दूसरे राज्यों पर पराली के धुएं के रूप में फोड़ रहे हैं। जबकि विशेषज्ञों की रिपोर्ट बताती है कि पराली से केवल 1 से 10 प्रतिशत तक ही प्रदूषण हो सकता है। इससे साफ है कि 90 प्रतिशत प्रदूषण स्थानीय कारणों की वजह से हो रहा है। 

भाजपा के पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने बृहस्पतिवार को प्रेस कान्फ्रेंस में कहा कि दिल्ली सरकार ने राजधानी के लोगों को स्लम की जिंदगी जीने पर मजबूर कर दिया है। वायु गुणवत्ता का स्तर लगातार गिर रहा है।, एयर क्वालिटी इंडेक्स 312 के खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है।  

विश्व के 1600 शहरों में दिल्ली सबसे प्रदूषित शहर बन गया है। इसके लिए मुख्यमंत्री जिम्मेदार हैं। प्रदूषण रोकने में विफल होने पर केजरीवाल पर मामला दर्ज होना चाहिए। क्योंकि दिल्ली की एक करोड़ जनता के जीवन को खतरे में डाल दिए है। उन्हें अपने पद पर बने रहने का कोई औचित्य नहीं है। 

गोयल ने कहा कि भाजपा प्रदूषण को चुनावी मुद्दा बनाएगी। सरकार ने प्रदूषण को कम करने के लिए एक भी उपाय नहीं किया। सम-विषम योजना को गोयल ने जनता को परेशान करने वाला बताया। इस मौके पर भाजपा मीडिया प्रमुख अशोक गोयल देवराहा ने कहा कि झूठा प्रचार-प्रसार कर मुख्यमंत्री दिल्ली के लोगों के गुमराह कर रहे है। 
... और पढ़ें

शेर के बाड़े में कूदने से पहले रेहान ने कहा था, मुझे मत बचाना, मैं मरने आया हूं

चिड़ियाघर में शेर के बाड़े में घुसे रेहान को पता चला कि सुरक्षाकर्मी उसे बचाने आ रहे है तो उसने कहा कि मुझे मत बचाना मैं मरने आया हूं। बचाव दल ने उसे बाड़े से बाहर निकलने के लिए सीढ़ी भी दी, लेकिन वह किसी बात को मानने के लिए तैयार नहीं था। इसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने शेर का ध्यान भटकाकर बाड़े के दूसरे हिस्से में किया और फिर जाकर उसकी जान बचाई जा सकी।

क्विक रिस्पांस टीम (क्यूआरटी) के ही एक सदस्य ने बताया कि शेर को बेहोश करने के बाद जब टीम रेहान को बाहर निकालने का प्रयास कर रही थी तो वह भागकर झाड़ी और पेड़ों के पीछे छिपने की कोशिश कर रहा था। बाड़े से बाहर निकालने के लिए कर्मचारियों ने उसकी ओर रस्सी भी फेंकी, लेकिन उसने रस्सी को पकड़ने की जरूरत ही नहीं समझी। यह देख कर्मचारी भी चकरा गए। 

इसी बीच कुछ कर्मचारी बाड़े में कूदे और रेहान को पकड़ने लगे तो वह उनसे बचने के लिए पेड़ों के पीछे जाकर छिपने लगा। दर्शक विकास यादव ने बताया कि रेहान की हरकतों से ही उसके मानसिक स्तर का पता चल रहा था। वह जब बाड़े में कूद रहा था तो गार्ड शत्रुघ्न ने उसे रोका भी था, लेकिन वह नहीं माना।

यूं घुसा बाड़े में
पुलिस के अनुसार बाड़े की एक तरफ लोहे की ग्रिल थी वहीं, दूसरी साइड में बांस की लकड़ी का बाड़ा बनाया हुआ था। रेहान बांस की लकड़ी के बाड़े पर चढ़ गया था और फिर अंदर की ओर कूद गया। पुलिस और चिड़ियाघर प्रबंधन को बाड़े के बाहर लकड़ी की बल्ली टूटी मिली है। बताया जा रहा है कि बल्ली के टूटे होने का कारण पता लगाया जा रहा है कि आखिर इसे रेहान ने तोड़ या फिर बल्ली कमजोर थी, जो उसके भार से टूट गई।

5 साल पहले बाघ विजय ने युवक को मार डाला था
चिड़ियाघर में घुसकर शेर के बाड़े में कूद जाने की घटना ने चिड़ियाघर प्रबंधन पर कई तरह के सवाल खड़े कर दिए हैं। सुरक्षा से जुड़ी इस तरह की लापरवाही पर फिलहाल प्रबंधन खामोश हैं। 

इससे पहले भी दिल्ली चिड़ियाघर में ऐसी घटना देखने को मिल चुकी है। शेर के बाड़े में रेहान के कूदने और वहां से बच निकलने की घटना के बाद हर किसी के जेहन में पांच साल पहले घटी घटना ताजा हो गई। सितंबर 2014 में विजय नामक सफेद बाघ एक युवक को गर्दन से खींचते हुए अपने बाड़े में ले गया था और फिर उसको मार दिया था। उस वक्त भी युवक को बचाने के लिए दर्शक चीखते रह गए। 

उन्हीं में से कुछ ने फोन पर वीडियो बनाई थी जो सोशल मीडिया पर काफी चर्चित हुई थी। वीडियो में युवक हाथ जोड़ता हुआ बाघ के सामने बैठा था। उस घटना में युवक की जान चली गई थी। बाद में पुलिस ने उसकी पहचान मकसूद के रूप में सार्वजनिक की थी। मकसूद चिडिय़ाघर घूमने आया था और बाघ को पत्थर मार रहा था।

फतेह सिंह को कर दिया घायल
कुछ ही समय पहले चिड़ियाघर कर्मचारी फतेह सिंह भी बंगाल टाइगर के हमले के शिकार हुए थे। हालांकि टाइगर के बीमार होने के कारण उनका बचाव हो गया। वह बंगाल टाइगर के बाड़े में पानी रख रहे थे। इसी बीच उसने हमला कर दिया। इस घटना में फतेह सिंह का एक हाथ लहुलूहान हो गया था।
... और पढ़ें

अयोध्या केसः वकील राजीव धवन के खिलाफ शिकायत दर्ज, कोर्ट में फाड़ा था मंदिर का नक्शा

अयोध्या केस के वकील राजीव धवन के खिलाफ बीजेपी पुर्वांचल मोर्चा के संयोजक ने संसद मार्ग थाने में शिकायत दर्ज कराई है। गौरतलब है कि राजीव धवन ने इस केस की आखिरी सुनवाई के दौरान कोर्ट रूम के अंदर मंदिर का नक्शा फाड़ दिया था।

इसी से नाराज दिल्ली बीजेपी पुर्वांचल मोर्चा के संयोजक अभिषेक दुबे ने धवन के खिलाफ अराजकता फैलाने के मामले में शिकायत दी है।



जब वकील राजीव धवन ने भरी अदालत में नक्शे को फाड़ा 
सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को अयोध्या मामले की सुनवाई के दौरान एक अप्रत्याशित घटना हुई जब मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने भरी अदालत में एक नक्शे को फाड़ डाला।
 
यह नक्शा अखिल भारतीय हिन्दू महासभा द्वारा अदालत में पेश किया गया था। महासभा की ओर से पेश वरिष्ठ वकील विकास सिंह ने संविधान पीठ केसमक्ष कहा कि अब तक किसी भी पक्षकार ने यह नहीं बताया है कि भगवान राम का जन्म किस जगह पर हुआ था।

विकास सिंह ने अदालत को यहनक्शा पेश कर यह बताने की कोशिश की कि वह इसकेजरिए सटीक जन्मस्थान बताना चाहते हैं और वह जन्मस्थान विवादित ढांचे केबीच वाली गुंबद केनीचे है। यह नक्शा एक पूर्व आईपीएस अधिकारी किशोर कुणाल की किताब 'अध्योध्या रिविजिटेड’ से ली गई थी। इस नक्शे को लेकर सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील राजीव धवन ने कड़ी आपत्ति जताई।
... और पढ़ें

स्नातक को 19,572 से कम नहीं दे सकते वेतन, सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद केजरीवाल सरकार देगी तोहफा

सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार के न्यूनतम मजदूरी बढ़ाने के फैसले को हरी झंडी दे दी है। अदालत की रजामंदी के बाद अब दिल्ली सरकार दिवाली से पहले ही इसकी अधिसूचना जारी कर देगी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दिल्ली में स्नातक कर्मचारियों को 19,572 रुपये प्रतिमाह से कम वेतन नहीं दे सकते।

इससे पहले 2017 में न्यूनतम मजदूरी बढ़ाने के दिल्ली सरकार के फैसले का अलग-अलग हितधारकों ने विरोध किया था। वे इसके खिलाफ हाईकोर्ट चले गए थे। कोर्ट ने बीते 4 सितंबर 2018 को न्यूनतम मजदूरी बढ़ाने के फैसले पर पर रोक लगा दी थी।

इस फैसले के खिलाफ दिल्ली सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका डाली थी। सुप्रीम कोर्ट से दिल्ली सरकार के पक्ष में फैसला आया। अदालत ने न्यूनतम मजदूरी बढ़ाने की प्रक्रिया पूरी करने के लिए तीन माह का समय दिया था।
... और पढ़ें

तीन रात एलिवेटेड रोड से नहीं जा सकेंगे दिल्ली, 18 से 20 अक्तूबर तक रहेगा डायवर्जन

करवा चौथ के दिन पति की हुई मौत
एनएच-9 पर यूपी गेट के पास हिंडन कैनाल के ऊपर बन रहे पुल पर गार्डर रखने का काम शुक्रवार रात से किया जाएगा। 18 से 20 अक्तूबर तक रात में नौ से सुबह छह बजे तक राजनगर एक्सटेंशन से एलिवेटेड रोड होते हुए दिल्ली जाने वाले रास्ते को बंद किया जाएगा। डायवर्जन के लिए एनएचएआई ने यातायात पुलिस को पत्र लिखा है, जबकि दिल्ली से गाजियाबाद वाहन यथावत चलते रहेंगे।

एनएच-9 को 14 लेन बनाने का काम तेजी से किया जा रहा है। शुक्रवार को इसी कड़ी में यूपी गेट के पास हिंडन कैनाल पर पुल पर गार्डर रखने का काम किया जाएगा। 18 से 20 अक्तूबर दिन रविवार तक काम चलेगा। यह काम रात में नौ से सुबह छह बजे तक किया जाएगा। इसके लिए यातायात को पूरी तरह से रोका जाएगा।

ट्रैफिक इंस्पेक्टर परमहंस तिवारी ने बताया कि एलिवेटेड रोड पर राजनगर एक्सटेंशन से दिल्ली जाने वाले वाहनों को रोका जाएगा। एलिवेटेड रोड से वाहन दिल्ली की ओर नहीं जा सकेंगे। रात के समय में यह डायवर्जन किया गया है। रात में रोड पर वाहनों का दबाव कम रहता है। इस दौरान यातायात पुलिसकर्मी की ड्यूटी लगाई जाएगी। दिल्ली जाने वाले वाहन चालक लिंक रोड और एनएच-नौ से होते हुए दिल्ली की ओर जा सकेंगे।

मशीनरी रखने के काम आती है एलिवेटेड रोड

यूपी गेट के पास 4 लेन के पुल को 14 लेन का बनाने के चलते अगस्त में भी करीब एक सप्ताह एलिवेटेड रोड को रात में बंद किया गया था। इस दौरान लोगों को परेशानी झेलनी पड़ी थी। इस बारे में एनएचएआई के डीजीएम मुदित गर्ग का कहना है कि पुल पर गार्डर डालने के लिए क्रेन खड़ी करनी पडती है। इसके लिए काफी जगह की जरूरत होती है। यूपी गेट के पास मशीनरी रखने के लिए ही एलिवेटेड रोड के अलावा और कोई जगह नहीं है। लिहाजा एलिवेटेड रोड को बंद रखना पड़ता है।

नवंबर में चालू होगी पुल की चार लेन

एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर आरपी सिंह ने बताया कि यूपी गेट के पास बन रहे पुल की चार लेन नवंबर में चालू कर दी जाएगी। बाकी की 10 लेन बाद में शुरू होगी। उन्होंने बताया कि जिस तरह छिजारसी कट के पास हिंडन नदी पर बन रहे पुल की चार लेन 30 सितंबर से शुरू की गई है, इसी तरह यूपी गेट पर भी होगी। मेरठ एक्सप्रेस के 6 लेन के हिस्से में चार लेन चालू की जाएगी। अभी यातायात पुलिस से शटडाउन लेकर गार्डर डालने का काम किया जाएगा। इसके बाद स्लैब डाला जाएगा।

साइकिल ट्रैक का निर्माण शुरू

प्रोजेक्ट डायरेक्टर ने बताया कि सीआईएसएफ के पास एक किमी लंबा साइकिल ट्रैक बनाया जा रहा है। ढाई मीटर चौड़ाई के इस साइकिल ट्रैक पर टाइल्स लगाने का काम चल रहा है। नवंबर के अंत तक मॉडल साइकिल ट्रैक तैयार कर लिया जाएगा। इसी तरह से यूपी गेट से डासना के बीच कई हिस्सों में साइकिल ट्रैक बनाया जाएगा। सीआईएसएफ के पास ही वाहनों की पार्किंग बनाने की योजना बनाई जा रही है।
... और पढ़ें

बीटेक छात्रा को चाकू मारकर आठवीं मंजिल से कूदा किशोर, मौत

सेक्टर-61 स्थित इंद्रप्रस्थ सोसायटी में रहने वाले एक किशोर ने बृहस्पतिवार शाम सोसायटी में ही रहने वाली बीटेक छात्रा को उसके फ्लैट में घुसकर चाकू मार घायल कर दिया। छात्रा के शोर मचाने पर किशोर आठवीं मंजिल से नीचे कूद गया। दोनों को गंभीर हालत में फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां किशोर की मौत हो गई, वहीं छात्रा का इलाज चल रहा है। कोतवाली सेक्टर-58 पुलिस मामले की जांच कर रही है। घायल छात्रा गाजियाबाद के एबीईएस कॉलेज में बी टेक थर्ड ईयर की पढ़ाई कर रही है, जबकि मृतक किशोर फिटजी में कोचिंग कर रहा था।

पुलिस के मुताबिक सेक्टर-61 स्थित इंद्रप्रस्थ अपार्टमेंट में आठवीं मंजिल के फ्लैट में योगेंद्र अपने परिवार के साथ रहते हैं। योगेंद्र एक नवरत्न कंपनी में अधिकारी हैं। वहीं उसी सोसायटी में छठी मंजिल के फ्लैट में अतुल जैन अपने परिवार के साथ रहते हैं। अतुल दिल्ली के जसोला में एक कंपनी में अधिकारी हैं। दोनों परिवारों के बीच पहले से जान पहचान है। बृहस्पतिवार शाम को आठवीं मंजिल पर रहने वाले योगेंद्र व उनकी पत्नी कहीं बाहर गए हुए थे। फ्लैट में उनकी 21 वर्षीय बेटी रिया अकेली थी।

शाम करीब पांच बजे छठी मंजिल पर रहने वाला 15 वर्षीय किशोर रिया के फ्लैट में पहुंच गया। किशोर ने रिया के साथ मारपीट की और चाकू मार उसे घायल कर दिया। जब रिया ने शोर मचाया तो किशोर आठवीं मंजिल से नीचे कूद गया। इसके बाद आसपास के लोग इकट्ठा हो गए और दोनों को फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया। जहां किशोर की मौत हो गई। घायल रिया आईसीयू में भर्ती है। कोतवाली सेक्टर-58 के थानाध्यक्ष शावेज खान का कहना है कि किशोर ने छात्रा को चाकू क्यों मारा, इसके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।
... और पढ़ें

दिल्ली: चांद का दीदार कर सुहागन महिलाओं ने खोला व्रत, बाजारों में दिनभर दिखी रौनक

ऑड-इवन पर केजरीवाल ने किया साफ, किसे मिलेगी छूट, किस पर लागू होगा नियम

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऑड-इवन स्कीम लागू होने से पहले उससे संबंधित सभी तरह की उलझनों को स्पष्ट किया। गुरुवार को दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस कर उन्होंने इस बात की साफ जानकारी दी कि यह स्कीम किन परिस्थितियों में लागू होगी और किसमें नहीं।
 

उन्होंने यह भी बताया कि कल यानी शुक्रवार से राजधानी में ऑड-इवन लागू होने के बाद राजधानी में चलने वाली बाकी वीआईपी गाड़ियां इसके दायरे से बाहर रहेंगी, लेकिन दिल्ली के मुख्यमंत्री और दिल्ली सरकार की गाड़ियां इसके दायरे में आएंगी। सीएम ने कहा कि सभी को अनिवार्य रूप से इस नियम का पालन करना होगा। नियम का उल्लंघन करते हुए पकड़े जाने पर चार हजार रुपये तक का जुर्माना भरना पड़ेगा।

इन परिस्थितियों में मिलेगी छूट-

  • इमरजेंसी वाहन रहेंगे दायरे से बाहर
  • महिलाओं को मिलेगी छूट
  • स्कूली बच्चों को लेकर जाने वाली गाड़ियों को छूट
  • मरीजों को लेकर जाने वाली गाड़ियों को छूट
  • वीआईपी वाहन होंगे दायरे से बाहर
  • दोपहिया वाहन होंगे दायरे से बाहर
 

ये वाहन आएंगे नियम के दायरे में-

  • दिल्ली सरकार और मुख्यमंत्री की गाड़ियों पर लागू होगी स्कीम
  • दूसरे राज्यों की गाड़ियां भी आएंगी नियम के दायरे में
  • सीएनजी गाड़ियां भी आएंगी दायरे में 
... और पढ़ें

दिल्ली पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता, मुठभेड़ के बाद एक लाख का इनामी बदमाश गुड्डू गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने बड़ी सफलता हासिल करते हुए एक लाख के इनामी बदमाश को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया।

गौरतलब है कि मूलचंद के पास मुठभेड़ के बाद यूपी के एक लाख के इनामी बदमाश इकबाल उर्फ गुड्डू को दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने गिरफ्तार किया है।

पुलिस को जानकारी मिली थी कि गुड्डू मूलचंद के पास आने वाला है जिसके आधार पर पुलिस वहां पहुंची। यहां पुलिस और बदमाश का आमना-सामना हुआ।

बदमाश ने पुलिस टीम पर फायरिंग की तो जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की, जिसके बाद गुड्डू के पैर में गोली लग गई और पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इलाज के लिए उसे अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां से डिस्चार्ज होकर बदमाश को पुलिस जेल भेज देगी। 
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree