विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को
Astrology Services

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

डूसू चुनाव को लेकर आधिकारिक सूचना जारी, 12 सितंबर को होगा मतदान

दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) चुनाव 2019 का बिगुल बज गया है। बीते साल की तरह इस बार भी डूसू चुनाव 12 सितंबर को होंगे।

22 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

गाजियाबाद

गुरूवार, 22 अगस्त 2019

गाजियाबाद: फंदे से लटकता मिला विधायक की बहन का शव, दहेज हत्या का आरोप

गाजियाबाद के मैनपुरी से दहेज हत्या का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। मैनपुरी के किशनी विधायक बृजेश कठेरिया के परिवार ने चचेरी बहन के ससुराल वालों पर दहेज की मांग पूरी न करने पर हत्या करने का आरोप लगाया है। पुलिस के अनुसार 16 अगस्त को उनकी बहन को फंदे से लटका हुआ पाया गया था, जिसके बाद सोमवार को इलाज के दौरान अस्पताल में ही उसकी मौत हो गई थी। मायके पक्ष का आरोप है कि ससुराल वाले शादी के बाद से ही पांख लाख रुपये दहेज की मांग कर रहे थे।

विधायक बृजेश कठेरिया ने बताया कि उन्होंने चचेरी बहन सोनी वर्मा की शादी 22 नवंबर 2015 को संजयनगर सेक्टर-23 निवासी अरुण वर्मा से की गई थी। अरुण के पिता पीडब्ल्यूडी के रिटायर्ड जूनियर इंजीनियर हैं। 

पुलिस ने मृतिका की सास, ससुर और पति के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। परिवार वालों का कहना है कि दहेज की मांग पूरी न होने पर ससुराल वाले सोनी को प्रताड़ित करने लगे। उन्होंने बताया कि शादी के वक्त जेठ ने अरुण को अपनी कंपनी में पार्टनर बताया, जबकि वह प्राइवेट नौकरी करता था। परिवार में सोनी की दो साल की बेटी प्रीति है।
 
... और पढ़ें

हिम्मत न हारे अपराध के खिलाफ आवाज उठाएं

हिम्मत न हारें अपराध के खिलाफ उठाएं आवाज
साहिबाबाद। अमर उजाला अपराजिता 100 मिलियन स्माइल्स के तहत वसुंधरा स्थित मेवाड़ कॉलेज में सोमवार को पुलिस की पाठशाला आयोजित की गई। इसमें सीओ अंशु जैन छात्राओं से रूबरू र्हुइं और बढ़ते महिला क्राइम पर चर्चा की। इस दौरान छात्राओं ने कई सवाल किए, जिसका जवाब सीओ इंदिरापुरम ने दिया।
कॉलेज में करीब डेढ़ घंटे चले पुलिस की पाठशाला में छात्राओं ने राह चलते होनी वाली बदतमीजी, बस और ट्रेन में मनचलों से कैसे छुटकारा पाया जाए और घर में ही यदि कोई गलत व्यक्ति है तो उससे कैसे निपटा जाए, जैसे कई सवाल किए। छात्राओं के सवालों का जवाब देते हुए सीओ अंशु जैन ने उन्हें 1090 और 100 डायल की जानकारी दी। अंशु जैन ने छात्राओं को बताया कि वह हमेशा सकारात्मक रहें और गलत लोगों के खिलाफ आवाज उठाएं। इस दौरान पुलिस के गलत व्यवहार के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने छात्राओं को कहा कि कोई एक और दो पुलिस वाले गलत हो सकते हैं, जब भी आपका सामना ऐसे लोगों से हो तो आप सीनियर लेवल पर अप्रोच कीजिए। उन्होंने कहा कि पूरा सिस्टम कभी भी खराब नहीं हो सकता। सिस्टम में अच्छे लोग अधिक हैं तभी क्राइम पर कंट्रोल है और गलत लोगों को सजा दिलाई जाती है। कार्यक्रम को सफल बनाने में कॉलेज के चेयरमैन अशोक कुमार गदिया, प्रिंसिपल अलका अग्रवाल व मीडिया प्रभारी चेतन आनंद का विशेष सहयोग रहा।
परिचर्चा
अमर उजाला की ओर से आयोजित पुलिस की पाठशाला बेहद ही नेक पहल है। मैं अपने कॉलेज में अपराजिता के तहत कार्यक्रम करवाने का लंबे समय से इंतजार कर रही थी। आज वह इंतजार खत्म हुआ और एक बेहतर कार्यक्रम हमारे कॉलेज में हुआ। - अलका अग्रवाल, प्रिंसिपल मेवाड़ा कॉलेज
यह एक बेहतर कार्यक्रम था, जिसमें हम सबने बेझिझक सवाल किए। सबसे अच्छी बात रही कि हमें अपनी समस्याएं महिला पुलिस अधिकारी के समक्ष रखने का मौका मिला, जो हमें बेहतर समझ सकती हैं। - इशिका पॉल
जिस तरह क्राइम बढ़ रहा है, इस तरह की वर्कशॉप स्कूल में होते रहने चाहिए। सबसे अच्छी बात है पुलिस ऑफिसर के सामने सवाल करते हुए हमारा कॉन्फिडेंस बढ़ता है। कार्यक्रम के जरिए हमें कई महत्वपूर्ण जानकारी मिलीं। - रिमझिम
छात्राओं के लिए इस तरह का अवेयरनेस प्रोग्राम बेहद अच्छा है। अमर उजाला की वजह से हम सब पुलिस ऑफिसर से महिला समस्याओं पर चर्चा कर सकें। - सीमा श्री
कार्यक्रम में बहुत कुछ जानने को मिला। एसपी सिटी की ओर से बहुत सी बातें बताई र्गइं। हम अपनी शिकायतें कहां करें और 1090 का कैसे लाभ उठाएं, इन बातों को हमने इसी वर्कशॉप में जाना। - गुंजन चौहान ... और पढ़ें

दुकान का ताला तोड़कर लाखों की चोरी

दुकान का ताला तोड़कर लाखों की चोरी
साहिबाबाद। वैशाली सेक्टर एक स्थित पीएसी की बटालियन के पास चोरों ने दुकान का ताला तोड़कर लाखों का सामान चोरी कर लिया। चोर दुकान से बैट्री, इंजन ऑयल, कूलेंट समेत अन्य सामान और नकदी चोरी कर ले गए। चोरी की पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है। पीड़ित ने इंदिरापुरम थाने में शिकायत दी है। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।
वैशाली सेक्टर-एक में सौरभ कुमार परिवार के साथ रहते हैं। उनकी पीएसी की 41वीं बटालियन के गेट के पास सौरभ बैट्रीज एंड मोटर्स के नास से दुकान है। रोज की तरह वह दुकान बंद कर घर चले गए। रविवार तड़के करीब साढ़े पांच बजे चोर दुकान का ताला तोड़कर करीब सवा लाख रुपये की कार की बैट्री, 50 लीटर इंजन आयल, 25 लीटर कूलेंट, सात हजार रुपये और अन्य स्पेयर पार्ट चोरी कर ले गए। पीड़ित का कहना है कि चोरी की घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है। उन्होंने चोरी की सूचना पुलिस को दी। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और मौका मुआयना किया। एसएचओ इंदिरापुरम दीपक शर्मा ने बताया कि फुटेज के आधार पर चोरों की तलाश की जा रही है। जल्द ही चोरों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
घर में चोरी करते रंगे हाथ दबोचा
साहिबाबाद के अर्थला स्थित एक घर में चोरी करने घुसे एक नाबालिग को लोगों ने मौके पर ही पकड़ लिया। लोगों ने उसकी जमकर धुनाई की और पुलिस को सूचना दी। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची। आरोपी के पास से पुलिस को पूर्व में हुई एक चोरी के दौरान गायब दस्तावेज मिले हैं। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। ... और पढ़ें

तीन तलाक सुनकर महिला को पड़ा दौरा

तीन तलाक सुनकर महिला को पड़ा दौरा
हापुड़। देहात क्षेत्र में एक गांव निवासी व्यक्ति ने अपनी पत्नी को तलाक दिया। जिसे सुनते ही महिला को दौरा पड़ा गया। आनन फानन में परिजनों ने महिला को अस्पताल में भर्ती कराया। वहीं महिला ने पति के खिलाफ थाने में तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। महिला ने बताया कि उसका अपने पति से विवाद चल रहा था। मंगलवार को वह अपने परिजनों के साथ कचहरी में आई थी। तभी रास्ते में उसे पति मिला। उसे देखते ही पति ने गाली गलौच करनी शुरू कर दी तथा तीन बार तलाक कहकर तलाक दे दिया। इतना ही नहीं उसके साथ मारपीट करते हुए कहीं शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी भी दी। तलाक की बात सुनकर उसे दौरा भी पड़ा गया। वहीं थाना देहात प्रभारी ने बताया कि महिला की तरफ से तहरीर मिली है। इस संबंध में जांच कराई जा रही है। जल्द ही आरोपी के गिरफ्तार किया जाएगा। ... और पढ़ें

बुलंदशहर: बाइक नहीं मिली तो बीच सड़क पर पत्नी को दिया तीन तलाक

तीन तलाक बिल पास हो जाने के बाद भी कई इलाकों से इसके मामले सामने आ ही रहे हैं। ताजा मामला बुलंदशहर के जहांगिराबाद का है।  यहां दहेज में बाइक की मांग पूरी नहीं होने पर पति ने सरेराह पत्नी को तीन तलाक दे दिया। 

मांग पूरी न होने के कारण गुस्साए पति ने बीच सड़क पर ही पत्नी को तीन बार तलाक बोल दिया और लोगों के सामने छोड़ कर चला गया। इसके बाद पीड़िता ने पुलिस से इसकी शिकायत की। पीड़िता की शिकायत पर पति और ससुर समेत चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।  ... और पढ़ें

निजी अस्पतालों को देनी होगी टीबी मरीजों की सूचना

निजी अस्पतालों को देनी होगी टीबी मरीजों की सूचना
गाजियाबाद। केंद्र सरकार ने वर्ष 2025 तक देश से टीबी को समाप्त करने की योजना तैयार की है, इसके लिए तमाम योजनाओं और नियमों पर सख्ती की जा रही है। निजी अस्पतालों में इलाज कराने वाले रोगियों की जानकारी जिला टीबी नियंत्रण विभाग के पास नहीं है। इसे लेकर जल्द ही विभाग कवायद शुरू करेगा।
जिला क्षय रोग नियंत्रण अधिकारी डा. जेपी श्रीवास्तव ने बताया कि जिले में टीबी रोगियों का सही आंकड़ा विभाग के पास रहे इसके लिए निजी अस्पतालों को नोटिस जारी किए जाएंगे। मरीज की डिटेल पर शासन से चिकित्सक को 500 रुपये भी दिए जाते हैं। इसके अलावा टीबी रोग खत्म होने पर और इसकी सूचना विभाग को देने पर भी चिकित्सक को 500 रुपये देकर प्रोत्साहित करने की योजना है। पिछले कुछ समय से विभाग को टीबी रोगियों का आंकड़ा नहीं मिल पा रहा है। जो गैर सरकारी अस्पतालों या क्लीनिक में अपना इलाज करा रहे हैं। सही जानकारी के लिए सभी अस्पतालों और क्लीनिक को निर्देश दिए गए हैं और नोटिस भी जारी किया जा रहा है। इसके अलावा मेडिकल स्टोर से भी विभाग दवा खरीदने वाले मरीजों की जानकारी ले रहा है। अक्सर मरीज एक ही मेडिकल स्टोर से लगातार दवा लेते हैं, ऐसे में स्टोर संचालकों को मरीज के बारे में जानकारी होती है। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का जिला क्षय रोग नियंत्रण विभाग के साथ अनुबंध है। एसोसिएशन से संबंधित क्लीनिक और अस्पतालों से रोगियों का विवरण प्राप्त होता है। ... और पढ़ें

आरडीसी में रेस्टोरेंट की डक्ट में इलेक्ट्रीशियन की करंट से मौत

आरडीसी में रेस्टोरेंट की डक्ट में इलेक्ट्रीशियन की करंट से मौत
गाजियाबाद। आरडीसी में इलेक्ट्रीशियन की संदिग्ध हालात में करंट लगने से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि वह रेस्टोरेंट के एग्जॉस्ट की सफाई करने के लिए डक्ट में घुसा था।
पुलिस के मुताबिक मूलरूप से थाना छर्रा, अलीगढ़ के गांव जदपुरा निवासी नीरज कुमार (39) गाजियाबाद में इलेक्ट्रीशियन का काम करता था। मंगलवार शाम आरडीसी स्थित डोसा फैक्ट्री नाम के आउटलेट में काम करने के लिए नीरज को बुलाया गया। जानकारी के मुताबिक नीरज एक्जॉस्ट सिस्टम के लिए बनी डक्ट में सफाई के लिए घुसा। थोड़ी देर बाद ही चीखने-चिल्लाने की आवाज आने लगी। बताया जा रहा है कि डक्ट के अंदर पानी होने के कारण करंट उतर आया, जिसकी चपेट में नीरज आ गया। चीख-पुकार सुनकर रेस्टोरेंट के कर्मचारी व प्रबंधन के लोग आए और बिजली आपूर्ति काटकर एक घंटे की मशक्कत के बाद नीरज के बाहर निकाला। एसएचओ कविनगर अनिल कुमार शाही ने बताया कि बुधवार को शव का पोस्टमार्टम होगा। परिजन तहरीर देते हैं तो उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी। ... और पढ़ें

एयर ट्रैफिक कंट्रोलर पर कुत्तों ने किया हमला

रिटायर्ड एयर ट्रैफिक कंट्रोलर को कुत्तों ने हमला कर घायल किया
गाजियाबाद। क्रासिंग रिपब्लिक में खूंखार कुत्तों का आतंक बढ़ रहा है। सोमवार को जीएच-7 सोसायटी में रहने वाले रिटायर्ड एयर ट्रैफिक कंट्रोलर को आवारा कुत्तों ने हमला कर घायल कर दिया। शोर सुनकर आए लोगों ने उन्हें किसी तरह कुत्तों से बचाया।
एयर इंडिया में ट्रैफिक कंट्रोलर के पद से रिटायर शरद माथुर सोमवार रात करीब आठ बजे सोसायटी के क्लब हाल के पास घूम रहे थे। इसी दौरान उन पर 5-6 कुत्तों ने हमला कर दिया और काटकर उन्हें घायल कर दिया। शरद माथुर ने शोर मचाया तो सोसायटी के अन्य लोग इकट्ठा हो गए और कुत्तों को खदेड़कर उनकी जान बचाई। शरद को मोहन नगर स्थित नरेंद्र मोहन अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शरद के परिजनों ने बताया कि सोसायटी में आवारा कुत्तों का झुंड घूमता रहता है। कई बार नगर निगम अधिकारियों से शिकायत कर चुके हैं, लेकिन सुनवाई नहीं हो रही। रेजिडेंट्स ने एओए को भी समस्या से अवगत कराया, लेकिन कुत्तों को नहीं पकड़वाया जा रहा है।
----
इनसेट
सोसायटी में 3 साल से कुत्तों का आतंक ज्यादा है। वर्ष 2018 में सोसायटी के पांच बच्चों को कुत्तों ने काटकर घायल कर दिया था। एक 5 साल की बच्ची को काटने से गुस्साए सोसायटी के लोगों ने विरोध में कैंडल मार्च निकाला, लेकिन इसके बाद भी नगर निगम प्रशासन नहीं जागा। यह खूंखार कुत्ते अब तक 50 से ज्यादा लोगों को काट चुके हैं।
-----
कोट
मैंने कई बार सोसायटी के लोगों की ओर से महापौर आशा शर्मा, नगर आयुक्त और डीएम को ज्ञापन दिया, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। कुत्ते आए दिन रेजिडेंट्स और उनके बच्चों पर हमला कर रहे है। - डॉ. रोहित चौधरी, अध्यक्ष एओए जीएच-7
मैं 4 साल से सोसायटी में रह रहा हूं। कुत्तों ने यहां आतंक मचा रखा है। बच्चों को सोसायटी के ग्राउंड में भेजने से डर लगता है। दो वर्षों में कुत्ते कई बच्चों को काटकर घायल कर चुके हैं। - अभय सिंह यादव, निवासी जीएच-7
मैं सुबह-शाम सोसायटी में घूमने के निकलता था। कुत्तों के आतंक के कारण घर से निकलना भी बंद कर दिया है। प्रशासन को ज्ञापन देने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। -- विजय कुमार, निवासी जीएच-7
कुत्तों के आतंक से बच्चों में खौफ है। बच्चों का सोसायटी के पार्क में खेलना भी बंद हो चुका है। समस्या का हल जल्द न किया गया तो सोसायटी के लोग डीएम कार्यालय पर धरना देकर विरोध प्रदर्शन करेंगे। - विनोद शंकर, निवासी जीएच-7 ... और पढ़ें

कैबिनेट में फेरबदल से माननीयों के धकड़न तेज

यूपी मंत्रीमंडल विस्तार में खाली रहेगी गाजियाबाद की झोली !
गाजियाबाद। चुनाव जंग में जीत के बाद मंत्री बनने के अरमान एक बार फिर से माननीयों के दिल में सजने लगे हैं। मंगलवार को कैबिनेट से कई मंत्रियों के इस्तीफे हुए। इसके बावजूद यूपी मंत्रीमंडल के विस्तार में गाजियाबाद की झोली खाली रहने की संभावना है। पश्चिमी यूपी से गौतमबुद्धनगर से विधायक पंकज सिंह और बुलंदशहर से एक विधायक का नाम मंत्रीपद की रेस में आगे है। मंत्री पद की दौड़ में गाजियाबाद से मोदीनगर विधायक मंजू सिवाच का नाम दिनभर चर्चाओं में रहा, लेकिन क्षेत्रीय व जातिगत समीकरण के कारण उनकी राह आसान नहीं है।
भाजपा हाईकमान जातिगत समीकरणों को भी ध्यान में ररखकर मंत्रालय का बंटवारा कर सकता है। सर्वाधिक मतों से विजयी रहे साहिबाबाद विधायक सुनील शर्मा का नाम पहले मंत्रीमंडल में जोरों से उठा था, लेकिन इस बार समीकरण बदलते दिखाई दे रहे हैं। विधायक अतुल गर्ग की कुर्सी सलामत होने के कारण गाजियाबाद के विधायकों के मंत्री पद पाने की राह कठिन हो गई है। लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने क्षेत्रीय जातिगत समीकरण भी बदली परिस्थितियों में फिट नहीं बैठे हैं। दूसरी ओर गौतमबुद्धनगर से विधायक पंकज सिंह को मंत्रीमंडल विस्तार में जगह मिलने की पूरी संभावना है। पश्चिमी यूपी से ही बुलंदशहर के एक विधायक के नाम जोर शोर से आगे चल रहा है। ऐसे में मंत्रीमंडल विस्तार में गाजियाबाद को दूसरा प्रतिनिधित्व मिलना कठिन है। मोदीनगर विधायक मंजू सिवाच खुद के मंत्री बनाए जाने की चर्चा पर कहा कि पार्टी का जो भी निर्णय होगा उसे स्वीकार किया जाएगा।
---
मंत्रीपद बचाने में कामयाब रहे अतुल गर्ग
शहर विधायक अतुल गर्ग ने अपनी कार्यप्रणाली से मंत्रीपद बचाने में कामयाब रहे हैं। दिग्गज मंत्रियों के इस्तीफे के बीच उनका मंत्री पद सुरक्षित है। जिसके चलते उनकी मंत्री की पारी लंबी चलने की पूरी संभावना है। खाद्य एवं रसद राज्यमंत्री रहते हुए प्रदेश सरकार की प्राथमिकता वाली योजनाओं को लोगों तक पहुंचाने उनकी मेहनत रंग लाई है। ... और पढ़ें

पानी आता नहीं आधा घंटा भी, यूजर चार्ज वसूलने की तैयारी

पानी आता नहीं आधा घंटा भी, यूजर चार्ज वसूलने की तैयारी
गाजियाबाद। नगर निगम के जलकल विभाग ने वाटर-सीवर यूजर चार्ज वसूलने की तैयारी कर ली, लेकिन पानी की आपूर्ति में सुधार नहीं किया। नियम भले ही 24 घंटे पानी की आपूर्ति के हाें, लेकिन शहर के कई क्षेत्र ऐसे हैं जहां सुबह-शाम महज आधे घंटे पानी मिलता है। मजबूर लोग बोतलबंद पानी खरीदकर प्यास बुझा रहे हैं। ऐसे में लोग यूजर चार्ज वसूलने से पहले पेयजल आपूर्ति सुधारने की मांग कर रहे हैं।
शहर में नगर निगम वाटर और सीवर टैक्स पहले से ही वसूल रहा है। अब यूजर चार्ज लागू करने के लिए नगर निगम की कार्यकारिणी ने जलकल विभाग के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है। यूजर चार्ज लागू हो जाने के बाद भवन मालिकों को पानी और सीवर के लिए लगभग दोगुना रकम चुकानी पड़ेगी। जिस मकान पर 1500 रुपये सालाना वाटर टैक्स वसूला जा रहा था, उससे अब करीब 3800 रुपये चुकाने पड़ेंगे।
---
मकान बनाने के लिए भी देना होगा विकास शुल्क
नगर निगम अधिकारियों के मुताबिक अगर कोई व्यक्ति भवन निर्माण कर रहा है तो उसे भूखंड के क्षेत्रफल के अनुसार उससे विकास शुल्क लिया जाएगा। भूखंड मालिक को दो मंजिला भवन बनाने के लिए 32 रुपये प्रति वर्ग मीटर विकास शुल्क देना होगा। इसी दर से सीवर विकास शुल्क भी चुकाना होगा। अगर भवन मालिक दो मंजिल से ज्यादा बनाता है तो तीसरी मंजिल से 16 रुपये प्रति वर्ग मीटर अतिरिक्त शुल्क देना होगा।
---
कई क्षेत्रों में नहीं पानी की आपूर्ति
शहर का करीब 25 फीसदी क्षेत्र ऐसा है जहां नगर निगम अभी तक पाइप लाइन से पानी की आपूर्ति ही नहीं दे पाया है। इसमें लाइनपार क्षेत्र, कविनगर जोन की बम्हेटा, महरौली, सिकरोड़, गढ़ी, नायफल, बयाना आदि समेत कई कालोनियां शामिल हैं। इन क्षेत्रों में लोग सबमर्सिबल लगाकर पानी की जरूरत को पूरा कर रहे हैं।
---
लोगों का कहना
नगर निगम को पहले पानी के संसाधन बढ़ाने चाहिए, इसके बाद वह यूजर चार्ज लगाएगा तो कोई भी व्यक्ति विरोध नहीं करेगा। पानी की आपूर्ति की स्थिति बेहद खराब है। - वेद प्रकाश शर्मा, पटेल नगर निवासी
आए दिन पानी की समस्या रहती है, ऐसे में वॉटर यूजर चार्ज लगाना गलत है। विभाग को पहले पर्याप्त पानी सप्लाई की व्यवस्था की जानी चाहिए। - दिनेश यादव
कभी गंदा तो कभी पानी आता ही नहीं है। लोग पानी की किल्लत का सामना कर रहे हैं। ऐसे में वॉटर यूर्जर नहीं लगना चाहिए। - नितिन अग्रवाल
पहले तो लोग बोतल बंद पानी खरीदने को मजबूर हैं। अब विभाग वॉटर यूर्जर चार्ज लेगा तो आर्थिक बोझ पड़ेगा। - विवेकानंद
पहले तो नगर निगम को पानी की समस्या का हल करना चाहिए। लोगों को पर्याप्त पानी मुहैया कराए। इसके बाद ही वॉटर यूर्जर चार्ज लें। - नंदकिशोर ... और पढ़ें

जीडीए की 10 योजनाओं में बनेगी मॉडल रोड

जीडीए की 10 योजनाओं में बनेगी मॉडल रोड
गाजियाबाद। जीडीए 10 योजनाओं की प्रमुख सड़कों को मॉडल रोड की तर्ज पर विकसित करेगा। मॉडल रोड में प्राधिकरण की ओर से नए सिरे से निर्माण के साथ रोड किनारे आकर्षक लाइटिंग, नई सेंट्रल वर्ज (हरियाली), नया फुटपाथ और सड़क किनारे हरियाली भी विकसित की जाएगी। हर मॉडल रोड की देखरेख का जिम्मा उस जोन के एक्सईएन के पास होगा।
मॉडल रोड में दूसरे चरण में आगे चलकर ऑटो व बसों के लिए स्टैंड विकसित किए जाएंगे। जिससे लोग निर्धारित स्थान के लिए ऑटो या फिर बस पकड़ सकें। मॉडल रोड के आसपास पानी आदि न जमा हो, इसके लिए पहले नालियों को दुरुस्त किया जाएगा। मॉडल रोड के जरिये प्राधिकरण का मकसद जीडीए की विभिन्न योजनाओं को चमकाने के साथ प्राधिकरण की संपत्तियों को लेकर लोगों के मन में बैठे भ्रम को दूर करने का है। मॉडल रोड के जरिए प्राधिकरण की योजनाओं में प्रवेश करते ही लोगों को सुखद अहसास हो सकेगा। सुंदर लाइटिंग, फुटपाथ व हरियाली होने से लोगों पर सकारात्मक असर पड़ेगा। जीडीए उपाध्यक्ष कंचन वर्मा के निर्देश पर प्राधिकरण अभियंत्रण अनुभाग ने मॉडल रोड के प्रोजेक्ट पर काम शुरू कर दिया है। पहले जीडीए की ओर से मॉडल रोड पर खर्च होने वाले बजट का एस्टीमेट तैयार किया जा रहा है। फिर सिलसिलेवार मॉडल रोड पर काम शुरू किया जाएगा।
चमकेंगे इन योजनाओं के 10 मुख्य मार्ग
इंदिरापुरम, शालीमार गार्ड में फर्स्ट, सेकेंड व थर्ड, कौशांबी, प्रताप विहार, राजेंद्रनगर, इंप्रदप्रस्थ, तुलसीनिकेतन और स्वर्णजयंतीपुरम शामिल किया गया है। ऐसे में इन योजनाओं में मॉडल रोड तैयार होने से योजनाओं को ही लाभ होगा। संपत्ति खरीदने के लिए खोजबीन कर रहे लोगों पर इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।
शिप्रा सनसिटी के बराबर की रोड होगी मॉडल
जीडीए ने मॉडल रोड के लिए सबसे पहले इंदिरापुरम की सड़क को चिह्नित किया है। इंदिरापुरम में जयपुरिया मॉल व शिप्रा सनसिटी के बराबर वाली लिंक रोड को मॉडल सड़क के रूप में विकसित किया जाएगा। यह रोड जयपुरिया मॉल से शुरू होकर काला पत्थर पर जाकर खत्म होती है। विभिन्न सोसायटियों, हैबिटेट सेंटर के बराबर से होकर जाने वाली सड़क के मॉडल रोड के रूप में विकसित होेने का लाभ लोगों को मिलेगा।
कोट...
प्राधिकरण की विभिन्न योजनाओं के प्रमुख मार्गों को मॉडल रोड के रूप में विकसित किया जाएगा। मॉडल रोड में नई लाइटिंग, सेंट्रल वर्ज, फुटपाथ व हरियाली विकसित की जाएगी। - विवेकानंद सिंह, मुख्य अभियंता, जीडीए ... और पढ़ें

दलाली पर लगेगा ब्रेक, अब डीलर से मिलेगा कामर्शियल वाहनों का प्रमाण पत्र

दलाली पर लगेगा ब्रेक, अब डीलर देंगे कामर्शियल वाहनों के प्रमाण पत्र
गाजियाबाद। कामर्शियल वाहनों की खरीदारी के बाद प्रमाण पत्र बनवाने के नाम पर होने वाली दलाली पर ब्रेक लगेगा। अब कामर्शियल वाहन खरीदने वाले को आरसी, परमिट, फिटनेस और रजिस्ट्रेशन खुद नहीं करवाना होगा। ये सारी प्रक्रियाएं डीलर खुद पूरी कराएगा। अभी तक डीलर से वाहन खरीदने के बाद वाहन स्वामियों को आरटीओ आफिस जाकर स्वयं परमिट, फिटनेस, आरसी व रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी करानी होती थी। आरटीओ आफिस में ये काम कराने के नाम पर दलाल वाहन स्वामियों से मोटी रकम वसूलते हैं।
व्यवस्था को पारदर्शी बनाने और दलाली को रोकने के लिए शासन ने नया नियम लागू किया है। परिवहन विभाग में आए दिन दलालों द्वारा काम कराने के नाम पर पैसे हड़पने के आरोप लगते रहते हैं। कई बार शिकायतें शासन स्तर तक भी हुई हैं। अब दलाली की व्यवस्था को बंद करने के लिए शासन ने कामर्शियल वाहनों के रजिस्ट्रेशन, आरसी से लेकर फिटनेस तक का काम कराने की जिम्मेदारी डीलरों को सौंप दी है। अब किसी भी व्यक्ति को कामर्शियल वाहन खरीदने के बाद रजिस्ट्रेशन आदि की प्रक्रिया पूरी करने के लिए परिवहन कार्यालय में नहीं जाना पड़ेगा। उसका डीलर के दफ्तर में बैठकर ही सारा काम हो जाएगा। पहले डीलर केवल वाहन बेचता था। वाहन स्वामी को रजिस्ट्रेशन से लेकर आरसी और फिटनेस कराने के लिए आरटीओ कार्यालय के चक्कर काटने पड़ते थे। अब कामर्शियल वाहन खरीदने के बाद सभी प्रमाण पत्र पूरे होकर आपके घर पहुंच जाएंगे।
- 5 से 10 हजार रुपये लेते हैं दलाल
नाम ने छापने की शर्त पर एक व्यक्ति ने बताया कि वह कुछ समय पहले कामर्शियल वाहन का रजिस्ट्रेशन, परमिट, फिटनेस कराने आरटीओ आफिस आए थे। कई दिन कार्यालय में कर्मचारियों के चक्कर काटे, लेकिन उन्होंने कोई सुनवाई नहीं की। मजबूरी में एक दलाल से बात की। उसने रजिस्ट्रेशन से लेकर फिटनेस तक सभी प्रमाण पत्र पूरे कराने के 12 हजार रुपये मांगे। बाद में 10 हजार रुपये में उसने काम करा दिया। डीलर के यहां से प्रमाण पत्र मिलने की व्यवस्था से लोगों को काफी फायदा होगा।
- बाइक की तरह होगी व्यवस्था
ये व्यवस्था अभी तक दो पहिया वाहन खरीदने में लागू है। दो पहिया वाहन खरीदने पर डीलर ही उसकी सारी प्रक्रिया पूरी कराता है। वाहन स्वामी को इसके लिए आरटीओ आफिस जाने की जरूरत नहीं पड़ती। इसी तरह अब कामर्शियल वाहनों में होगा। वाहन देने के बाद डीलर एक सप्ताह के अंदर सभी प्रमाण पत्र उपलब्ध करा देंगे।
- दलालों का खेल होगा खत्म
इस व्यवस्था के लागू होने से आरटीओ कार्यालय के बाहर खड़े दलालों का खेल खत्म हो जाएगा। जब लोग अपने वाहनों को लेकर कार्यालय तक नहीं पहुंचेंगे तो वह दलाली भी नहीं कर पाएंगे। कर्मचारियों की सांठगांठ का खेल भी लगभग खत्म हो जाएगा।
वर्जन....
कामर्शियल वाहनों के लिए यह व्यवस्था जल्द ही लागू होने वाली है। इससे वाहन स्वामियों को काफी फायदा होगा। परिवहन कार्यालय के चक्कर भी नहीं काटने होंगे। सारे प्रमाण पत्र डीलर तैयार करके उन्हें उपलब्ध कराएगा।
विश्वजीत सिंह, एआरटीओ प्रशासन ... और पढ़ें

कारखाने बंद नहीं कराने पर मुख्य सचिव को किया तलब

अवैध कारखाने बंद नहीं कराने पर मुख्य सचिव तलब
साहिबाबाद। शहीद नगर में तीन साल पहले जैकेट फैक्ट्री हादसे में 13 लोगों की मौत के बाद भी यहां कारखाने बंद नहीं करा पाने पर राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग ने सख्त रुख अपनाया है। आयोग ने प्रदेश के मुख्य सचिव को समन जारी करते हुए 31 अक्तूबर को सुनवाई के दौरान व्यक्तिगत रूप से पेश होने के आदेश दिए हैं।
साहिबाबाद इलाके की शहीद नगर कॉलोनी में नवंबर 2016 में एक आवासीय परिसर में अवैध रूप से संचालित जैकेट फैक्ट्री में आग लगने से 13 लोगों की जिंदा जलकर मौत हो गई थी। इस मामले में शहीद नगर निवासी मानवाधिकार कार्यकर्ता राजीव कुमार शर्मा ने मानव अधिकार आयोग में एक याचिका दाखिल कर घटना के जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने एवं मृतकों के परिजनों को उचित मुआवजा दिलवाने की मांग की थी। आयोग ने इस मामले में जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को कार्रवाई कर 4 सप्ताह में रिपोर्ट सौंपने के आदेश दिए थे। आदेश के बाद जिला प्रशासन ने घरों में अवैध रूप से संचालित कुछ फैक्ट्रियों को सील कर दिया था लेकिन बाद में फैक्ट्री मालिकों ने सील तोड़कर फिर से संचालन शुरू कर दिया था। मई 2018 में तत्कालीन जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी ने मानवाधिकार आयोग को प्रेषित रिपोर्ट में बताया था कि प्रत्येक मृतक के परिजनों को 4-4 लाख रुपये मुआवजा दे दिया गया है और वर्तमान में शहीद नगर में कोई भी अवैध कारखाना नहीं चल रहा है। वहीं याचिकाकर्ता राजीव शर्मा ने आयोग को बताया कि वर्तमान में भी घरों में जैकेट कारखाने एवं जींस रंगाई के कारखाने संचालित हैं। जिस पर मानव अधिकार आयोग ने राज्य के मुख्य सचिव को अक्टूबर 2018, जनवरी 2019 और अप्रैल 2019 में एक के बाद एक तीन पत्र भेजकर अवैध रूप से चल रहे कारखानों को बंद करवाने के प्रमाण सहित रिपोर्ट आयोग को सौंपने के आदेश दिए थे। एक वर्ष बाद भी जब राज्य के मुख्य सचिव द्वारा इस मामले कोई कार्रवाई नहीं की गई तो आयोग ने प्रदेश मुख्य सचिव को समन जारी कर 31 अक्टूबर को आयोग में पेश होने के आदेश दिए हैं। अगर 22 अक्तूबर तक कार्रवाई की रिपोर्ट कोर्ट में सौंप दी जाएगी तो मुख्य सचिव को व्यक्तिगत रूप से पेश होने से छूट दे दी जाएगी। ... और पढ़ें

दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे पर चार जगहों पर बनेंगे टोल प्लाजा

दिल्ली से मेरठ जाने वालोें को एक ही जगह देना होगा टोल
साहिबाबाद। एनएचएआई ने ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे की तर्ज पर दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर भी टोल टैक्स लेने की योजना बनाई है। दिल्ली से मेरठ के बीच चार जगह टोल प्लाजा बनाए जाएंगे। वाहन चालकों को इस दूरी में किसी एक ही जगह पर टोल देना होगा। दिल्ली से मेरठ के बीच में जहां पर वाहन चालक निकास करेंगे, वहीं टोल देना होगा। चार पहिये वाले वाहनों के लिए टोल की फीस न्यूनतम 35 रुपये और अधिकतम75 रुपये होगी।
एनएचएआई ने 2017 में दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे का निर्माण शुरू किया है। इस पर छह लेन सिर्फ मेरठ जाने के लिए होंगी। केवल चार जगहों पर ही प्रवेश और निकास द्वार होगा। इन चारों जगह टोल प्लाजा बनाए जाएंगे। लेन में प्रवेश के दौरान वाहन चालक पर्ची लेंगे और जिस जगह उतरेंगे वहां टोल चुकाने की पर्ची देकर बाहर निकल सकेंगे। एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर आरपी सिंह ने मंगलवार को बताया कि विभाग ने पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे की तर्ज पर टोल लेने का निर्णय लिया है। गाजियाबाद में लालकुआं के पास, ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे से दो किलोमीटर आगे, भोजपुर और मेरठ में परतापुर के पास टोल प्लाजा बनाया जाएगा। उन्होंने बताया कि दिल्ली से मेरठ के बीच वाहन चालक को सिर्फ निकासी स्थल पर ही टोल देना होगा। टोल की दरें एनएचएआई के मानकों के आधार पर तय की जाएंगी।
दिल्ली से लालकुआं के बीच एक ही जगह टोल
प्रोजेक्ट डायरेक्टर ने बताया कि दिल्ली से डासना तक 14 लेन की सड़क होगी। दिल्ली से यूपी गेट के बीच 14 लेन पर यात्री सफर कर सकेंगे। यूपी गेट से डासना के बीच 14 लेन में से छह लेन सिर्फ मेरठ के लिए होगी। टीएचए से मेरठ जाने के लिए छह लेन पर इंट्री इंदिरापुरम में काला पत्थर के पास मिलेगी। अगला इंट्री और एग्जिट प्वाइंट लालकुआं के पास होगा। जो वाहन चालक दिल्ली से लालकुआं तक की सफर करेंगे, उन्हें लालकुआं में एग्जिट प्वाइंट पर टोल फीस देनी होगी। जो लालकुआं से मेरठ के लिए चलेंगे, वह जहां भी एग्जिट करेंगे वहां टोल फीस देनी होगी। चूंकि इंट्री प्वाइंट पर ही पर्ची कटानी होगी, इसलिए एग्जिट प्वाइंट पर यह पता चल जाएगा कि वाहन चालक ने कितनी दूरी तय की है। तय दूरी के अनुसार टोल फीस लगेगी।
यहां बनेंगे टोल प्लाजा
- गाजियाबाद में लालकुआं के पास
- ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे से दो किमी आगे
- भोजपुर और मेरठ में परतापुर के पास।
यूपी गेट से लालकुआं के बीच बच सकेंगे टोल से
यूपी गेट से डासना के बीच वाहन चालक चार चार लेन की हाइवे पर भी सफर कर सकते हैं। इस दूरी में चार-चार लेन पर सफर करने वाले वाहन चालकों को कोई टोल नहीं चुकाना पडे़गा। दिल्ली से लालकुआं तक जाने वाले वाहन चालक चार लेन का उपयोग कर टोल देने से बच जाएंगे। इस दूरी में 18 अंडरपास होंगे और किसी भी अंडरपास से वाहन चालक एग्जिट कर सकते हैं। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree