विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को
Astrology Services

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

डूसू चुनाव को लेकर आधिकारिक सूचना जारी, 12 सितंबर को होगा मतदान

दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) चुनाव 2019 का बिगुल बज गया है। बीते साल की तरह इस बार भी डूसू चुनाव 12 सितंबर को होंगे।

22 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

फरीदाबाद

गुरूवार, 22 अगस्त 2019

महापौर के पुलिस भाईयों को दबंगों ने पीटा

फरीदाबाद। दबंगों ने एनआईटी-दो में महापौर के पिता और दो भाइयों के साथ मारपीट की। उनके कपड़े फाड़ दिए। इससे गुस्साएं स्थानीय दुकानदारों ने बाजार बंद कर दिया और आरोपियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। फरार आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। घटना रविवार की है।
महापौर सुमन बाला के भाई रवि की एनआईटी-दो में मोटर साइकिल सर्विस की दुकान है। रविवार शाम को दुकान पर मिस्त्री एक बाइक को ठीक कर रहा था। तभी वहां पास की एक बस्ती से तीन-चार लड़के पहुंचे और मिस्त्री से गाली-गलौच करने लगे। कुछ देर में दुकान पर महापौर का छोटा भाई रवि भी पहुंच गया। उसने लड़कों को समझाने का प्रयास किया। इतने में लड़कों ने रवि के साथ मारपीट शुरू कर दी। लड़ाई झगड़ा होते देख मौके पर महापौर के पिता भी पहुंच गए। आरोप है कि दबंगों ने उनके साथ भी हाथापाई शुरू कर दी।
रवि का बड़ा भाई मौके पर पहुंचा तो दबंगों ने उसके कपड़े फाड़ दिए और उससे भी मारपीट की। घटना को देख जैसे ही दुकानदार मौके पर पहुंचे। तो सभी आरोपी मौके से फरार हो गए। महापौर सुमन बाला ने कहा कि इलाके में कुछ लोगों की दबंगई काफी बढ़ गई है। आरोपी पहले भी कई लोगों के साथ मारपीट कर चुके हैं। कुछ दिनों पहले एक सफाई कर्मी का काम के दौरान हाथ तोड़ दिया था। उन्होंने घटना की शिकायत एनआईटी-दो नंबर पुलिस को दी। जांच अधिकारी धर्मचंद यादव ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। ... और पढ़ें

भष्ट्राचार पर मंथन के लिए जुटे समाजसेवी 17-21-56

भ्रष्टाचार पर मंथन के लिए जुटे समाजसेवी
फरीदाबाद। भ्रष्टाचार पर मंथन के लिए सेक्टर-10 राजस्थान भवन में सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसमें शहर के समाज-सेवियों, नेताओं और आरटीआई कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। कार्यक्रम में सभी ने बढ़ते भ्रष्टाचार पर अपने विचार रखे और इस पर अंकुश लगाने के उपाय बताए।
सेमिनार की अध्यक्षता समाजसेवी पदमश्री ब्रह्मदत ने की। आरटीआई कार्यकर्ता हरेंद्र ढींगड़ा ने कहा कि सरकार का आधे से ज्यादा बजट का पैसा चंद भ्रष्टाचारियों के हाथ में है। सरकार चाहे तो शहर में विकास को पंख लग सकते हैं। प्रदेश सरकार को पेट्रोल और डीजल पर लगने वाले वैट को कम करना चाहिए। सरकार की दोहरी बात बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने सरकार पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद में ईकोग्रीन कंपनी को सरकार ने करोड़ों रुपये का ठेका सौंप दिया।
फरीदाबाद और गुरुग्राम में घर-घर से कूड़ा उठाना का कार्य ईकोग्रीन कंपनी देख रही है। कंपनी के पास न तो पूरे कर्मचारी है और न संसाधन। उद्यमी नवनीत गुंबर ने कहा कि नगर निगम, बिजली निगम व अन्य विभागों में हम वर्षों तक एक अधिकारी को झेलते रहते हैं, जबकि वह हमारी समस्याओं को लगातार अनदेखा करते हैं। इसके लिए लोगों को जागरुक होने की जरुरत है। दो से तीन साल में अगर ऐसे अधिकारियों के काम में कोई सुधार नहीं हो तो सरकार से उनके तबादले की मांग करनी चाहिए।
जिससे अच्छे अधिकारियों को उनकी सही जगह मिल सके और वह शहर के विकास के लिए कार्य कर सके। इसी तरह अन्य समाजसेवियों ने अपने-अपने विचार रखे। इास अवसर पर आप नेता हरेंद्र नागर, विनोद भाटी, पार्षद दीपक चौधरी, ओपी कटारिया, आरटीआई कार्यकर्ता बलजीत कौशिक, वरुण श्योकंद सहित अनेक लोग मौजूद रहे।
-- ... और पढ़ें

रेलवे स्टेशन पर वेंडरों का होगा सत्यापन

रेलवे स्टेशन पर वेंडरों का होगा सत्यापन
फरीदाबाद। फरीदाबाद रेलवे स्टेशन परिसर में यात्रियों के सुरक्षा के और पुख्ता इंतजाम होंगे। इसके लिए रेलवे ने वेंडरों का सत्यापन कराने की मुहिम शुरू की है। वेंडरों के सत्यापन से रेलवे नकली वेंडरों पर अंकुश लगाने का प्रयास करेगा। नकली वेंडर पकड़े जाने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।फरीदाबाद रेलवे स्टेशन के अधीक्षक एके गोयल ने बताया कि रेल में सफर करते समय कई बार यात्रियों के सामान चोरी होने से लेकर जहर खुरानी, ठगी, लूट जैसी घटनाएं होती है।
इस तरह की घटनाओं में रेलवे द्वारा अधिकृत किसी वेंडर की संलप्तिता न हो, इसे सुनिश्चित करने के लिए रेलवे ने वेंडरों का सत्यापन कराना शुरू किया है। उन्होंने बताया कि कुछ स्थानों पर बिना अधिकृत वेंडर ट्रेन में जबरन घुस कर सामान बेचने का प्रयास करते हैं । इस तरह के शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए रेलवे ने सभी वेंडरों का सत्यापन कराने का फैसला किया है।
फरीदाबाद स्टेशन पर हैं करीब 35 वेंडर
मौजूदा समय में फरीदाबाद रेलवे स्टेशन परिसर में करीब 35 वेंडर हैं, जो खानपान की चीजों के साथ अन्य जरूरी सामान व किताबें बेचते हैं। इन सभी को सत्यापन फार्म दे दिए गए हैं। कुछ जरूरी जानकारी के साथ आधार व आवश्यक दस्तावेज भी सत्यापन फार्म के साथ मांगे गए हैं। इससे सत्यापन को शत प्रतिशत पूरा किया जा सके। इसमें आरपीएफ की भी मदद ली जा रही है।
रोज गुजरती है करीब 250 ट्रेन
तुगलकाबाद-पलवल-मथुरा रेलखंड पर स्थित फरीदाबाद रेलवे स्टेशन से होकर प्रतिदिन करीब 250 से अधिक ट्रेने गुजरती हैं। इनमें अधिकांश मेल व एक्सप्रेस ट्रेनें हैं। इनके अलावा अप-डाउन मिलाकर करीब 46 पैसेंजर ट्रेनें भी गुजरती हैं। इनमें रोज हजारों की संख्या में यात्री सफर करते हैं। वेंडरों के सत्यापन के बाद इन यात्रियों को सुखद व सुरक्षित सफर का अनुभव होगा। ... और पढ़ें

यमुना में उफान से ट्रेनें प्रभावित

फरीदाबाद। यमुना नगर से करीब साढ़े आठ लाख क्यूसेक पानी यमुना में छोड़े जाने के बाद हाई अलर्ट घोषित है। यमुना के जलस्तर में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। विभिन्न स्थानों पर यमुना खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गई है। इसका असर दिल्ली के लोहा पुल पर भी पड़ा है। इस पुल से होकर गुजरने वाली अधिकांश ट्रेनों को निरस्त कर दिया गया है या फिर रूट परिवर्तित कर दिया गया है। रेलवे की इस व्यवस्था से फरीदाबाद रेलवे स्टेशन से होकर गुजरने वाली आधा दर्जन शटल ट्रेनों के अलावा कुछ लंबी दूरी की मेल, एक्सप्रेस व सुपरफास्ट ट्रेनें भी प्रभावित हुई हैं।
रेलवे के मुताबिक, दिल्ली-पलवल व गाजियाबाद के बीच चलने वाली विभिन्न शटल ट्रेनों के रूट को परिवर्तित किया गया है। ये सभी ट्रेनें अब हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन से सीधे साहिबाबाद होकर गाजियाबाद पहुंचेंगी। ... और पढ़ें

कार की टक्कर में बाइक सवार दो युवकों की मौत

बल्लभगढ़। गांव सीकरी-मोहला रोड पर बुधवार देर शाम एक तेज रफ्तार कार ने सामने से आ ही बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में बाइक सवार दोनों युवकों की मौत हो गई। दुर्घटना के बाद कार चालक गाड़ी को मौके पर ही छोड़कर फरार हो गया। पुलिस ने दोनों युवकों के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए बीके सिविल अस्पताल के शवगृह में रखवा दिया है।
पुलिस के अनुसार गांव मोहला निवासी बेगराज का 24 वर्षीय बेटा अनिल अपने एक जानकार 30 वर्षीय अनिल पुत्र रमेश कुमार के साथ बुधवार शाम किसी काम से बाइक पर सवार होकर सीकरी गांव की तरफ जा रहा था। बाइक अनिल पुत्र बेगराज चला रहा था। बताया जाता है कि जब ये दोनों सीकरी गांव के पास पहुंचे तभी सामने से आ रही एक तेज रफ्तार कार ने इनकी बाइक को साइड मार दी। दुर्घटना इतनी जबरदस्त थी कि दोनों कई पलटियां खाते हुए सड़क पर गिरे। बाइक चला रहे युवक के हेलमेट पहने होने के बावजूद उसे काफी गंभीर चोटें आई। स्थानीय लोगों ने दोनों को तुरंत अस्पताल पहुंचाया, जहां जांच के बाद डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। दुर्घटना के बाद चालक कार को मौके पर ही छोड़कर फरार हो गया। पुलिस ने कार को कब्जे में ले लिया है और मामला दर्ज आरोपी की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए बीके सिविल अस्पताल के शवगृह में रखवा दिया है। ... और पढ़ें

यमुना का कहर : राहत शिविर तक पहुंचाने की कोई व्यवस्था नहीं

यमुना का कहर : राहत शिविर तक पहुंचाने की कोई व्यवस्था नहीं
फरीदाबाद। यमुना का जलस्तर बढ़ने से दिल्ली बॉर्डर से सटी फरीदाबाद की बसंत एंक्लेव कॉलोनी के घरों में पानी भर गया। जिला प्रशासन के अभी तक के प्रयास बुधवार को भी नाकाफी दिखाई दिए। इससे यहां के लोगों का गुस्सा बढ़ने लगा है। लोग अब भी सरकारी राहत शिविर के बजाए बांध पर समय काटने के लिए मजबूर हो रहे हैं।
बसंत एंक्लेव कॉलोनी में रहने वाले रामनिवास ने बताया कि कॉलोनी में यमुना का पानी भरने की सूचना मिलते ही जिला प्रशासन ने राहत व बचाव कार्य शुरू कर दिया था। जिला प्रशासन की तरफ से राहत शिविर बनाए गए हैं, लेकिन इसकी जानकारी लोगों को नहीं दी गई है। उन्होंने आरोप लगाया कि कॉलोनी को खाली कराने के बाद प्रशासन ने लोगों को राहत शिविर तक पहुंचाने की कोई व्यवस्था नहीं की। इस वजह से अधिकांश लोग आसपास रहने वाले रिश्तेदारों के यहां शिफ्ट हो गए।
खाली पड़े हैं राहत शिविर
जिला प्रशासन के द्वारा सेहतपुर व अगवानपुर गांव के सरकारी स्कूल में बनाए गए राहत शिविर से लोगों ने किनारा कर लिया है। सेहतपुर स्कूल की प्रधानाचार्य ने बताया कि स्कूल के छह कमरों में प्रभावितों को रखने की व्यवस्था की गई है। कमरे में पंखा, दरी व लाइट लगा दी गई हैं। तीन ईको टॉयलेट भी मंगाए गए हैं। यहां जरूरत के लिए सारी व्यवस्थाएं मंगलवार को ही कर दी गई थीं, मगर शिविर दूर होने के कारण कोई भी व्यक्ति यहां नहीं आया।
यमुना के जलस्तर से प्रभावित बसंतपुर एंक्लेव के लोग सेहतपुर व अगवानपुर गांव नहीं जाना चाहते हैं। उन्होंने बांध पर ही समय बिता दिया। इसे देखते हुए बांध के दूसरी तरफ अस्थायी टेंट लगाकर राहत शिविर बनाए जा रहे हैं। प्रभावितों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं होगी।
-सतवीर मान, एसडीएम, फरीदाबाद ... और पढ़ें

चालक को बंधक बना गाड़ी लूट ले गए बदमाश

फरीदाबाद। ओला कंपनी से टैक्सी बुक करवा बदमाशों ने चालक को बंधक बना गाड़ी लूट ली। बदमाश करीब एक घंटे तक चालक को गाड़ी में लेकर घूमते रहे और बाद में झाड़ियों में फेंक कर फरार हो गए। थाना सूरजकुंड पुलिस ने मारपीट और लूट का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
जामिया नगर, ओखला, दिल्ली निवासी इफ्तखार अहमद ने थाना सूरजकुंड पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह ओला कंपनी में कैब चलाता है। सोमवार रात को उसके मोबाइल पर सेक्टर-21 डी से एक बुकिंग आई। चालक ने बुकिंग करने वाले को फोन किया तो उसने उन्हें बड़खल रेलवे ओवरब्रिज के पास बुला लिया। वे वहां पहुंचे तो उन्हें तीन युवक मिले। तीनों कार में सवार हो गए। इफ्तखार जैसे ही चलने लगे तभी एक युवक ने उनकी गर्दन में कपड़ा डाल दिया।
उसके दोनों साथियों ने चालक के साथ मारपीट कर उसे पिछली सीट के नीचे डाल दिया। पुलिस के अनुसार इसके बाद तीनों चालक को लेकर काफी देर तक घूमते रहे। इस दौरान बदमाशों ने उनकी जेब में रखा मोबाइल फोन, एटीएम कार्ड और सात सौ रुपये भी निकाल लिए। रात करीब 12 बजे वह उसे सेक्टर-21सी स्थित मार्बल मार्केट के पास झाड़ियों में फेंककर गाड़ी लेकर फरार हो गए। जांच अधिकारी एएसआई नरेश कुमार के अनुसार मामला दर्ज कर पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है। ... और पढ़ें

यमुना के जलस्तर ने किया लोगों को बेघर

फरीदाबाद। यमुना का जलस्तर बढ़ने से दिल्ली से सटे फरीदाबाद की बसंत एंक्लेव कॉलोनी में मंगलवार तड़के पानी भर गया। इससे अफर्रातफरी का माहौल हो गया। बाढ़ के पानी से दस हजार से अधिक परिवार प्रभावित हुए हैं। यमुना का पानी धीरे-धीरे उनके घरों में प्रवेश कर गया। लोगों ने किसी तरह अपनी जान बचाई व सुरक्षित स्थान पर पहुंचे। ज्यादातर परिवारों ने आसपास के अन्य गांव और कॉलोनियों में किराए पर मकान लिया है।
कुछ ने अपने रिश्तेदारों के घर शरण ली है। उधर, कॉलोनी में पानी प्रवेश करने की सूचना मिलते ही पुलिस व प्रशासन की टीम भी अलर्ट हो गई। प्रशासन ने पुलिस के साथ करीब दो सौ लोगों की टीम को राहत व बचाव कार्य के लिए मुस्तैद कर दिया है। प्रशासन ने दावा किया है कि स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। जानमाल का किसी तरह का नुकसान नहीं होने दिया जाएगा।
दिल्ली बॉर्डर से सटी फरीदाबाद की बसंत एंक्लेव यमुना के डूब क्षेत्र में बसी हुई है। कॉलोनी में करीब दस हजार परिवार रहते हैं। श्रमिकों और गरीब तबके के लोगों की इस कालोनी में मंगलवार अलसुबह यमुना का पानी भरने लगा। पानी घरों के अंदर तक पहुंचा तो सोते हुए लोगों की नींद उड़ गई। इसके बाद आननफानन में लोग घरों से बाहर निकले और जो कुछ हाथ लगा उसे लेकर सुरक्षित स्थान पर चले गए। आपात स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन ने मोटर बोट भी मंगा लिए गए हैं। इसके साथ ही दुर्गा शक्ति आरएएफ की टीम को भी मुस्तैद कर दिया गया है। जल प्रभावित क्षेत्र के सभी मकानों को खाली करा लिया गया है।
आसपास के मकानों को भी खाली कराया जा रहा है। यमुना के लगातार बढ़ते जलस्तर को देखते हुए जिला प्रशासन ने बांध के किनारे आने वाले गांवों में भी अलर्ट घोषित कर दिया है। लोगों से नदी में न जाने की अपील की है। उपायुक्त प्रशासन ने कहा है कि यमुना नगर के हथिनीकुंड से छोड़ा गया पानी अगले 24 घंटे में और भयावह रूप ले सकता है। इसके कारण बांध के किनारे बसे गांव व कॉलोनियों में मुनादी करा कर लोगों से मकान जल्द खाली करने के लिए कहा है।
इन गांवों में है बाढ़ का संकट:
महावतपुर, मंझावली, ददसिया, मोटुका, भूपानी, छांयसा, किडावली, लालपुर, भस्कोला, दाधर, कांवरा, राजपुरकलां, शिकागोह, अमीरपुर, चिरसी, तिलोरी खादर, मौजाबाद, नचौली, दुंगारपुर, फूलेरा, कबूलपुर पट्टी मेहताब, मोहना, साहुपुरा, लतीफपुर, शाहजहांपुर, फज्जूपुर, चांदपुर, अकबरपुर, मौजाबाद, गढ़ीबेगमपुर, दलेलगढ़ समेत करीब तीन दर्जन गांवों पर खतरा मंडरा रहा है। ... और पढ़ें

डीसीपी आत्महत्या मामला : निलंबित इंस्पेक्टर को जेल भेजा

फरीदबाद मंझावली में बढ़ा यमुना का जल स्तर ।
फरीदाबाद। डीसीपी विक्रम कपूर आत्महत्या मामले में निलंबित निरीक्षक अब्दुल शहीद को पुलिस ने रिमांड समाप्त होने पर मंगलवार दोपहर अदालत में पेश किया। अदालत ने दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद आरोपी को 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। इस दौरान बचाव पक्ष के वकीलों ने पुलिस पर थर्ड डिग्री का प्रयोग करने का आरोप लगाते हुए आरोपी की दोबारा मेडिकल जांच करवाने की मांग की, जिसे अदालत ने खारिज कर दिया।
डीसीपी विक्रम कपूर ने 14 अगस्त को सुबह अपने सरकारी आवास पर गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। जांच के दौरान पुलिस ने मौके से एक सुसाइड नोट बरामद किया था, जिसमें उन्होंने लिखा था कि मैं इंस्पेक्टर अब्दुल शहीद की वजह से ऐसा कर रहा हूं। अब्दुल मुझे ब्लैकमेल कर रहा था। इस मामले में पुलिस ने भूपानी थाना प्रभारी निरीक्षक अब्दुल शहीद को घटना वाले दिन ही हिरासत में ले लिया था।
पूछताछ के बाद उसे 15 अगस्त शाम को गिरफ्तार कर पुलिस ने अगले दिन उसे अदालत में पेश कर चार दिन के रिमांड पर लिया था। पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि मुजेसर थाने में दर्ज हत्या के प्रयास के एक मामले में उसके भांजे अरशद का नाम है। इसके अलावा उसकी एक महिला मित्र का अपने ससुराल में संपत्ति विवाद चल रहा है और उसने इसकी शिकायत डीसीपी एनआईटी के कार्यालय में दे रखी थी।
अब्दुल शहीद डीसीपी पर उन दोनों मामलों में उनके पक्ष में फैसला देने का दबाव दे रहा था। मंगलवार को रिमांड समाप्त होने पर पुलिस ने उसे अदालत में पेश किया। वकीलों ने अदालत में बताया कि पूछताछ के दौरान पुलिस ने उनके मुव्वकिल पर थर्ड डिग्री इस्तेमाल की है और उनका दोबारा एमएलआर की तरह मेडिकल करवाया जाए। साथ ही पुलिस ने उन्हें उनके मुव्वकिल से मिलने भी नहीं दिया। इस पर अदालत ने बचाव पक्ष को अदालत में ही अपने मुव्वकिल से मिलने और बातचीत की इजाजत दी। मगर दोबारा मेडिकल करवाने की मांग को खारिज कर दिया। अदालत ने अब्दुल शहीद को तीन सितंबर तक न्यायिक हिरासत में नीमका जेल भेज दिया।
सतीश की अग्रिम जमानत याचिका खारिज
आरोपी पत्रकार सतीश ने अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश राजेश गर्ग की अदालत में अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी। सतीश पर आरोप है कि उसने अब्दुल शहीद के साथ मिलकर डीसीपी के खिलाफ गलत खबरें छापी थीं। मंगलवार को याचिका पर दोनों पक्ष के वकीलों ने बहस की थी, जिस पर अदालत ने उस पर अपना निर्णय सुरक्षित रख लिया था। दोपहर बाद अदालत ने याचिका पर निर्णय देते हुए उसे खारिज कर दिया।
तीन दिन से हो रही थी पूछताछ
रिमांड के दौरान पहले स्थानीय स्तर पर पुलिस अब्दुल शहीद से पूछताछ कर रही थी। रविवार को पुलिस महानिदेशक मनोज यादव ने पुलिस महानिरीक्षक अमिताभ सिंह ढिल्लो के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया था। रविवार दोपहर को ही आईजी अमिताभ सिंह ढिल्लो के अलावा एसआईटी में शामिल पानीपत के डीएसपी राजेश फोगाट व गुरुग्राम से इंस्पेक्टर नरेंद्र चौहान फरीदाबाद पहुंच गए थे। पिछले तीन दिन से एसआईटी अब्दुल शहीद से कड़ाई से पूछताछ कर रही थी। इस दौरान एसआईटी ने डीसीपी के निवास पर रहने वाले कर्मचारियों से भी पूछताछ की थी। ... और पढ़ें

पुलिसकर्मी बन बुजुर्ग महिलाओं से ठगे जेवर

फरीदाबाद। पुलिसकर्मी बनकर ठग एक बार फिर बुजुर्ग महिलाओं के जेवर उतरवा ले गए। बाइक सवार ठगों ने सोमवार को अलग-अलग स्थानों पर तीन महिलाओं को अपना निशाना बनाया। इनमें एक वारदात सेक्टर-15, दूसरी सेक्टर-29 और तीसरी सेक्टर-37 में हुई। पुलिस ने तीनों मामले दर्ज कर इनकी जांच शुरू कर दी है। सोमवार दोपहर बाद हुई ताबड़तोड़ तीन वारदात से एक बार फिर पुलिस के दावों की पोल खुल गई। जिले में क्राइम ब्रांच की सभी टीमें इन बदमाशों की तलाश कर रही हैं। पुलिस पिछले कुछ समय से इन ठगों को जल्द पकड़ने का दावा करती आ रही है, मगर सफल नहीं हो पा रही।
पहली घटना :
सेक्टर-29 में ट्यूशन से बच्चे को लेने जा रही एक वृद्धा से बाइक सवार दो युवक पुलिसकर्मी बनकर सोने की चूड़ी व चेन उतरवाकर फरार हो गए। सेक्टर-29 जादू नाथ एंक्लेव निवासी गगन मल्होत्रा ने सेक्टर-28 चौकी पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उनकी मां 64 वर्षीय चंद्र मोहनी सोमवार दोपहर बाद पोते को ट्यूशन से लेने जा रहीं थीं। जब वे घर से कुछ दूरी पर पहुंची तो मोटरसाइकिल सवार दो युवक वहां आए। उन्होंने अपने आप को पुलिसकर्मी बताते हुए कहा कि लूट की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। इसलिए आप अपने जेवर उतार लें। उन्होंने महिला के हाथों में पहनीं सोने की दो चूड़ियां और गले में पहनी चेन उतरवा ली और उसे कागज में लपेट कर दे दिए। घर पहुंचकर महिला ने अखबार खोली तो उसमें नकली आभूषण थे। महिला ने सारी बात परिजनों को बताई और फिर उन्होंने चौकी पहुंच कर शिकायत दर्ज कराई।
दूसरी घटना :
दूसरी घटना सेक्टर-37 निवासी 59 वर्षीय लता कपूर के साथ हुई। लता कपूर के बेटे संजीव ने बताया कि सोमवार शाम को करीब 4.30 बजे उनकी मां किसी काम से मार्केट जा रहीं थीं। रास्ते में बाइक सवार दो युवकों ने उन्हें रोक लिया और खुद को पुलिसकर्मी बताया। उन्होंने लता से कहा कि लूटपाट की घटनाएं हो रहीं हैं और आप सोने के जेवर पहन कर घूम रहीं हैं। उन्होंने महिला से कहा कि वे अपने जेवर उतारकर रख लें। ठगों ने उनके जेवर लेकर उन्हें कागज में लपेट कर देने की बात कही। घर आकर महिला ने पैकेट खोलकर देखा तो उसमें तीन नकली चूड़ियां थीं। उन्होंने पुलिस कंट्रोलरूम में फोन कर घटना की जानकारी दी और मामला दर्ज करवाया।
तीसरी घटना :
तीसरी वारदात सेक्टर-15 निवासी 55 वर्षीय संध्या अदलक्खा के साथ हुई। संध्या अदलक्खा की बेटी पूजा ने बताया कि रोज की तरह शाम करीब 5.40 बजे उनकी मां दूध लेने जा रहीं थीं। जब वे सेक्टर-15ए स्थित खाली मैदान में पहुंची तो दो युवक उनके पास आए और कहा कि आगे महिला पुलिस खड़ी है। लूट की घटना हो गई और वह भी अपने जेवर उतारकर बैग में रख लें। इस दौरान एक अन्य युवक आया तो उन कथित पुलिसकर्मियों ने उसकी भी अंगूठी और चेन उतरवा दी। दो युवकों ने महिला की सोने की चूड़ियां उतरवाकर उनके बैग में रख दी और चले गए। उनके जाने के बाद महिला ने बैग खोलकर देखा तो उसमें सोने की नकली चूड़ियां थीं। सेंट्रल थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। ... और पढ़ें

हरियाणा की सामिया आज बन जाएगी पाक क्रिकेटर हसन अली की दुल्हनिया, कई खिलाड़ी होंगे बराती

मेवात की फ्लाइट इंजीनियर बेटी सामिया आरजू और पाकिस्तान क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज हसन अली मंगलवार को शादी के बंधन में बंधने जा रहे हैं। दोनों परिवारों में खुशी की लहर है। दोनों परिवारों के सदस्य निकाह में शामिल होने के लिए दुबई पहुंच गए हैं।

सामिया के पिता और रिटायर्ड बीडीपीओ लियाकत अली द्वारा शादी के लिए छपवाए गए कार्ड के अनुसार दुबई की ऐटलांटिस दी पाम होटल एवं रिसोर्ट, जुबेरा पार्क में मंगलवार को निकाह शाम 6 बजे होगी।

सामिया आरजू के भाई अकबर अली ने बताया कि उनके अलावा निकाह में पिता लियाकत अली, भाई सरताज, मां, बहन शबनम और उनके बच्चे, बहन बिलकिस, जीजा अलताफ हुसैन, बहन केसर के अलावा बंटवारे के समय पाकिस्तान गए परिवार के सदस्य एवं पाकिस्तान रेलवे बोर्ड के चेयरमैन रहे सरदार तुफैल के बेटे सरदार रहीश अहमद व सरदार अजमत खां शामिल हो रहे हैं। वहीं भारत और पाकिस्तान से निकाह में कई अन्य क्रिकेटर भी शामिल हो रहे हैं।



1947 में देश के बंटवारे के बाद भले ही दोनों देश अलग-अलग हो गए हैं लेकिन मेवात और पाकिस्तान में रहने वाले मेवातियों के रिश्ते आज भी हो रहे हैं। पाकिस्तान में मेवात से दर्जन भर रिश्ते बन चुके हैं। 

अकबर अली ने बताया कि सामिया की पहले जेट एयर वेज में नौकरी लगी थी, करीब तीन साल से एयर अमिरात में फ्लाइट इंजीनियर के पद पर कार्यरत हैं। सरदार तुफैल उर्फ खान बहादुर और पिता लियाकल अली के दादा सगे भाई थे। जो फिलहाल पाकिस्तान के कसूर जिले के कच्ची कोठी नईयाकी में रहते हैं। इस शादी के रिश्ते में राशिद तुफैल और उनके परिवार ने अहम भूमिका निभाई है।
... और पढ़ें

फरीदाबाद डीसीपी आत्महत्या मामला- आरोपी इंस्पेक्टर को अदालत ने न्यायिक हिरासत में भेजा

दिल्ली से सटे फरीदाबाद के डीसीपी आईपीएस विक्रम कपूर की आत्महत्या के मामले में चार दिन की रिमांड खत्म होने के बाद मंगलवार को आरोपी इंस्पेक्टर अब्दुल को अदालत में पेश किया गया। अदालत ने मामले की सुनवाई करते हुए आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेजने के आदेश दिए। 

गौरतलब है कि 14 अगस्त को फरीदाबाद के डीसीपी विक्रम कपूर ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। शुरुआत में यह पता नहीं चल रहा था कि उन्होंने ऐसा बड़ा कदम क्यों उठाया, लेकिन सुसाइड नोट ने केस में बड़ा खुलासा किया। सुसाइड नोट में उन्होंने मौत के पीछे अपने ही किसी करीबी को जिम्मेदार ठहराया था। इसके बाद से ही पूरे पुलिस महकमे में खलबली मच गई थी।

सुसाइड नोट में उन्होंने अपने ही विभाग के एक इंस्पेक्टर और एक अन्य शख्स पर आरोप लगाया था। डीसीपी कपूर ने अपने सुसाइड नोट में इंस्पेक्टर अब्दुल शहीद को अपनी मौत का जिम्मेदार बताया था, साथ ही उन्होंने एक अन्य शख्स को भी अपनी मौत का जिम्मेदार बताते हुए दोनों पर ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया था।

इसके बाद से ही पुलिस ने इंस्पेक्टर शहीद व अन्य शख्स के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने की धारा में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी।

यह भी पढ़ें -फरीदाबाद डीसीपी की आत्महत्या के पीछे हो सकता है उन्हीं का करीबी, सुसाइड नोट कर रहा इशारा

... और पढ़ें

मुसलिम लड़के से शादी करने पर बवाल, लोगों ने लगाया जाम, पुलिस ने किया लाठी चार्ज 

शहर के मुसलिम लड़के से एक हिंदू लड़की के शादी का लोगों ने जमकर विरोध किया। फिरोजपुर में सोमवार को दिनभर जाम की स्थिति रही। पुलिस के समझाने पर लोगों ने जाम हटा लिया था लेकिन शाम लगभग पांच बजे गुस्साये लोगों ने दोबारा गुरुग्राम-अलवर नेशनल हाइवे पर अंबेडकर चौक के समीप जाम लगा दिया। जाम की सूचना मिलने पर झिरका थाना प्रबंधक पुलिस कर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे और जाम लगाने वाले युवाओं को समझाया लेकिन लोग नहीं माने। लोगों ने कहा कि जब तक लड़की हमें नहीं मिलेगी तब तक जाम नहीं हटाया जाएगा। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। 

ये भी पढ़ें- तीन ड्रग तस्कर गिरफ्तार, भारी मात्रा में अवैध सामान बरामद

पुलिस के लाठी चार्ज करने के बाद युवाओ ने भी पुलिस पर पथराव किया, जिसमें दो पुलिसकर्मियों को चोट लग गई।
शहर की लड़की से मुस्लिम युवा द्वारा प्रेम विवाह के विरोध में सुबह से ही नेशनल हाइवे पर जाम लगाया गया था। आक्रोशित शहर के युवा पुलिस से लड़की को तुरंत उन्हें सौंपने की जिद पर अड़े हुए थे।

भारी फोर्स के पहुंचने पर एक बार तो युवाओ ने सड़क से जाम हटा लिया लेकिन पुलिस फोर्स मौके से वापिस लौटने के बाद शहर के युवाओं ने दूबारा सड़क पर जाम लगा दिया। जाम की सूचना पर झिरका थाना प्रबंधक आए और युवाओं को जाम हटाने के लिए समझाया, लेकिन गुस्साए युवाओं ने पुलिस से साफ कहा कि जब तक लड़की हमें नहीं मिलेगी तब तक सड़क से जाम नही हटाया जाएगा।

इस सूचना पर पुन्हाना डी एस पी अशोक कुमार भी भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। डी एस पी अशोक कुमार के आदेश पर पुलिस ने जाम लगाने वाले युवाओं पर लाठी चार्ज कर दिया। जवाब में युवाओं ने भी पुलिस पर पथराव कर दिया, जिसमें महेश व रामकरण दो पुलिसकर्मियों को चोट लग गई।

पुलिस ने सभी जाम लगाने वाले युवाओं को तीतर- बितर कर दिया। उसके बाद सड़क पर सुचारू रूप से यातायात शुरू कराया गया। शहर पुलिस चौकी प्रभारी जगदीश कुमार ने बताया की जाम लगाने वालो की वीडियोग्राफी कराई गई है। पुलिस के उच्चाधिकारियों के आदेश पर कार्यवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

करंट लगने सहायक लाइनमैन की मौत, साथी घायल

फरीदाबाद। संजय गांधी मेमोरियल नगर में रविवार रात लाइन में फॉल्ट आने पर काम कर रहे एक सहायक लाइनमैन हरगोविंद की करंट लगने से मौत हो गई, जबकि उनका साथी विजय झटका लगने से दूर जा गिरा। विजय को अस्पताल ले जाया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें छुट्टी दे दी गई। सोमवार को सहायक लाइनमैन हरगोविंद के शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया गया। गांव भैंडोली, हसनपुर निवासी 35 वर्षीय हरगोबिंद एनआईटी तीन स्थित बिजली दफ्तर में बतौर सहायक लाइनमैन कार्यरत था।
बिजली निगम में वह अनुबंध के तहत काम कर रहा था। रविवार रात एसजीएम नगर में ए-2 फीडर का जंपर टूट गया था। शिकायत मिलने पर सहायक लाइनमैन हरगोबिंद व उसका साथी विजय जंपर जोड़ने के लिए पहुंच गए। जिस समय हरगोबिंद ने लाइन बंद करने के लिए स्विच बंद करने का प्रयास किया, मगर लाइन नहीं कट सकी। इसी बीच स्विच का बोल्ट निकल जाने से उसका पाइप 11 केवी तार को छू गया। हरगोविंद ने उस समय लोहे का पाइप अपने हाथ में पकड़ा हुआ था।
इससे उसे जोरदार झटका लगा और वह अचेत होकर गिर पड़ा। इस दौरान उसका हाथ पास में खड़े सहायक लाइन मैन विजय से छू गया। करंट का झटका लगने से विजय भी दूर सड़क पर जा गिरा। इससे वह भी घायल हो गया। वहां खड़े लोगों ने दोनों को तुरंत अस्पताल पहुंचाया, जहां डाक्टरों ने हरगोबिंद को मृत घोषित कर दिया, जबकि विजय को उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई। सोमवार को पुलिस ने हरगोविंद के शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree