विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को
Astrology Services

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

अपराजिता: छोटी-सी पहल ने कर दिया बड़ा बदलाव, जॉब छोड़ शुरु किया केमिकल रहित साबुन बनाने का स्टार्टअप

महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने की कसक ने पांच साल पहले किरणप्रीत कौर को एचआर प्रबंधक की जॉब छोड़ने को मजबूर कर दिया। खुद का कारोबार शुरू किया और आज देश म...

19 जुलाई 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

दिल्ली-एनसीआर

गुरूवार, 22 अगस्त 2019

डीयू में रातों-रात लगा दी सावरकर, बोस और भगत सिंह की मूर्ति

दिल्ली विश्वविद्यालय में डूसू अध्यक्ष की ओर से रातों-रात वीर सावरकर, सुभाष चंद्र बोस और भगत सिंह की मूर्ति स्थापित कर दी गई, जिसको लेकर विवाद खड़ा हो गया है। डूसू अध्यक्ष शक्ति सिंह का कहना है कि वह लंबे समय से मूर्ति स्थापित करने की मांग कर रहे थे, लेकिन प्रशासन उनकी मांग को अनसुना कर रहा था। मूर्ति स्थापित करने पर छात्र संगठन आइसा व एनएसयूआई ने एबीवीपी पर हमला बोला है।

डीयू से मिली जानकारी के अनुसार, डूसू अध्यक्ष किसी दूसरे कार्यक्रम के बहाने मूर्तियों को टैंट में छिपाकर लाए और आर्ट्स फैकल्टी के बाहर देर रात स्थापित करा दिया। मूर्तियों पर माल्यार्पण भी किया गया। मालूम हो कि शक्ति सिंह एबीवीपी के टिकट पर उपाध्यक्ष पद पर जीते थे, लेकिन बाद में अध्यक्ष अंकित बसोया की फर्जी डिग्री मामले में पद से हटने पर वह अध्यक्ष बने। 

बीते दिनों एक कार्यक्रम के दौरान शक्ति सिंह ने डूसू कार्यालय का नाम वीर सावरकर के नाम पर रखने की मांग भी की थी। इस संबंध डीयू प्रॉक्टर से संपर्क करने का प्रयास किया गया तो उन्होंने कॉल रिसीव नहीं की। सूत्र बताते हैं कि मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रशासन ने डूसू अध्यक्ष को मूर्तियां हटाने को कहा है। यदि ऐसा नहीं होता तो एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। खबर लिखे जाने तक मूर्तियों को नहीं हटाया गया था। ... और पढ़ें

पत्नी के सामने आया आईएएस की शादी को लेकर चौंकाने वाला खुलासा, पहुंची महिला आयोग

बिजनौर की महिला ने अपने कथित आईएएस पति की शिकायत राष्ट्रीय महिला आयोग को दी है, जिसमें पीड़िता ने दावा किया है कि पति ने धोखाधड़ी कर शादी की है। पहली पत्नी को तलाक दिए बगैर उससे दूसरा निकाह कर लिया। महिला ने आयोग के माध्यम से समाज में पत्नी का सम्मान और अधिकार दिलवाने की भी मांग रखी है। 

उत्तर प्रदेश के बिजनौर निवासी महिला सोमवार को दिल्ली स्थित राष्ट्रीय महिला आयोग मुख्यालय पहुंची और लिखित शिकायत दी। पीड़िता ने शिकायत में बताया है कि उसके माता-पिता नहीं थे।

परिजनों ने 19 अगस्त 2012 को उसकी शादी हरियाणा के कैथल में कराई थी। उत्तराखंड सरकार में महिला का पति अधिकारी है। आरोप है कि शादी के बाद अधिकारी पति कभी अपने सरकारी निवास में लेकर नहीं गए और ना ही उन्होंने कभी परिवार के अन्य सदस्यों से मिलाया।
... और पढ़ें

पांच घंटे तक न थाने का फोन उठा न थानेदार का, सीएम को ट्वीट, यूपी पुलिस के ट्विटर हैंडल से आया जवाब

पांच घंटे तक न थाने का फोन उठा न ही थानेदार का। इसके बाद एक शख्स ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और यूपी पुलिस को ट्वीट कर दिया। यूपी पुलिस के आदेश पर जब नोएडा पुलिस के ट्विटर हैंडल से एसएचओ का सीयूजी नंबर दिया तो उन्होंने भी फोन नहीं उठाया। 

बाद में ट्वीट करने वाले शख्स ने अपने केस के जांच अधिकारी का नंबर नोएडा पुलिस से लिया। मामला कोतवाली सेक्टर-20 का है। अजय भान ने सोमवार को अपने केस के संबंध में कोतवाली सेक्टर-20 के लैंडलाइन नंबर पर फोन किया। 

आरोप है कि पांच घंटे तक फोन मिलाने पर बात नहीं हो सकी। इसके बाद अजय ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व यूपी पुलिस को टैग कर शिकायत ट्वीट कर दी। इस पर यूपी पुलिस के ट्विटर हैंडल से इस मामले को देखने के लिए कहा गया। 

नोएडा पुलिस के ट्विटर हैंडल से कोतवाली सेक्टर-20 के एसएचओ का सीयूजी नंबर दिया गया। जब अजय ने कोतवाल के नंबर पर फोन किया तो वहां से भी कोई जवाब नहीं मिला। इस पर अजय ने फिर ट्वीट कर सब इंस्पेक्टर पवन कुमार का नंबर मांगा। पवन कुमार अजय भान के किसी मुकदमे के जांच अधिकारी हैं। उन्हें केस के स्टेटस के बारे में पता करना था।
  ... और पढ़ें

रविदास मंदिर मामला: प्रदर्शनकारियों ने सौ से अधिक गाड़ियां तोड़ीं, चंद्रशेखर समेत दर्जनों हिरासत में

रविदास मंदिर तोड़े जाने के विरोध मेें रामलीला मैदान में जुटे लोग बुधवार शाम तुगलकाबाद पहुंच गए। हजारों लोगों ने तोड़े गए मंदिर की ओर कूच करने की कोशिश की। पुलिस ने रोकने का प्रयास किया तो इन लोगों ने पथराव शुरू कर दिया। उग्र होती भीड़ को रोकने के लिए आखिर पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा। इसके बाद भीड़ की पुलिस से खूब झड़प हुई। भीड़ ने तुगलकाबाद इलाके में सड़क पर खड़ी गाड़ियों को तोड़ना शुरू कर दिया। 100 से अधिक गाड़ियों के शीशे तोड़ दिए गए।

ये भी पढ़ें- संत रविदास मंदिर मामला: दिल्ली की सड़कों पर भीम आर्मी का उपद्रव, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

हिंसक होती भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने हवाई फायरिंग की और आंसू गैस के गोले चलाए। इसके बाद लाठियां भांजीं गईं। बवाल के दौरान कई पुलिसकर्मियों के अलावा भीड़ में मौजूद दर्जनों लोग जख्मी हो गए। पुलिस ने देर शाम भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद समेत दर्जनों लोगों को हिरासत में ले लिया।

फिलहाल पूरे तुगलकाबाद इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। लोकल पुलिस के अलावा अतिरिक्त सुरक्षा बलों की कई कंपनियां मौके पर तैनात हैं। इससे पूर्व, प्रदर्शनकारियों की वजह से दिनभर दिल्ली के विभिन्न इलाकों में भीषण जाम के हालात रहे।

जानकारी के अनुसार, रामलीला मैदान से आठ से दस हजार लोगों की भीड़ शाम करीब पांच बजे आश्रम चौक पहुंच गई। वहां से ये लोग मथुरा रोड होते हुए कालकाजी मंदिर, गोविंदपुरी मेट्रो स्टेशन के रास्ते तुगलकाबाद एक्सटेंशन टी-प्वाइंट पर पहुंच गए। वहीं से कुछ दूरी पर पुलिस ने तारा अपार्टमेंट लाल बत्ती पर बेरीकेड लगाए हुए थे। वहां वाटर कैनन, वज्र वाहन व अन्य इंतजाम किए गए थे। पुलिस ने भीड़ से आगे न बढ़ने का आग्रह किया, लेकिन कुछ शरारती तत्वों ने पथराव शुरू कर दिया।
... और पढ़ें
भीम आर्मी चंद्रशेखर आजाद भीम आर्मी चंद्रशेखर आजाद

दिल्लीः शांत हुई यमुना, जलस्तर नीचे जाने के बाद पुराने पुल से शुरू हुई आवाजाही

दिल्ली में यमुना लगातार तीसरे दिन तक खतरे के निशान से ऊपर बहती रही, लेकिन बुधवार शाम को नदी के जलस्तर में घटाव दर्ज किया गया। जलस्तर नीचे जाने के बाद शाम करीब साढ़े छह बजे पुराने पुल को भी लोगों की आवाजाही के लिए खोल दिया गया। 

बता दें कि मंगलवार को दिनभर जलस्तर बढ़ने के बाद बुधवार सुबह से लगातार नदी का जलस्तर बढ़ रहा था। जहां मंगलवार रात 9 बजे तक यह लाल निशान पार कर 206.40 मीटर तक पहुंच गया था। वहीं बुधवार को यह अधिकतम 206.60 मीटर तक दर्ज किया गया।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने बुधवार दिन में बताया कि यमुना का जलस्तर 206.6 मीटर है और अब तक किसी भी जनहानि की खबर नहीं है। अस्थायी टेंटों का निर्माण लोगों के रहने के लिए किया गया है। एक बार पानी घट जाए तो लोग अपने घरों की ओर वापस जा सकते हैं।


खतरे का निशान 205.33 मीटर है। अगले 24 घंटे तक यमुना में उफान की आशंका बनी हुई है। यमुना खादर से अब तक 23 हजार लोगों को निकालकर अस्थायी टेंट में भेजा गया है। दिल्ली सरकार के राहत व बचाव दल स्थिति पर नजर रखे हुए हैं।

मंगलवार दोपहर तक यमुना बाजार और मजनूं का टीला तक पानी पहुंच गया था। आईएसबीटी कश्मीरी गेट के पास के तिब्बती मार्केट को एहतियातन बंद करा दिया गया। रिंग रोड तक पानी पहुंचने से रोकने के लिए मिट्टी भरे कट्टे लगाए गए हैं। वहीं, पूर्वी दिल्ली में यमुना का पानी अभी बस्तियों तक नहीं पहुंचा है, लेकिन जलस्तर बढ़ने पर कॉलोनियों में पानी घुसना तय माना जा रहा है।
 
अधिकारियों के मुताबिक, बुधवार दोपहर एक से 5 बजे के बीच जलस्तर 207.08 मीटर तक पहुंचने की आशंका है। दिल्ली सरकार के राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने बताया कि अभी हालात नियंत्रण में हैं। दिल्ली में किसी तरह का जान-माल का नुकसान नहीं हुआ है।
... और पढ़ें

बच्चे की मौत के बाद मां ने घर में छिपाया शव, पुलिस में दर्ज कराई गुमशुदगी की रिपोर्ट

ग्रेटर नोएडा के जेवर क्षेत्र के गोपालगढ़ से एक ऐसा सनसनीखेज मामला सामने आया है जिससे पूरे इलाके में दहशत का माहौल है। खबर है कि 11 अगस्त को एक आठ महीने का बच्चा लापता हो गया था जिसका शव बुधवार (21 अगस्त) को बरामद कर लिया गया है।

जानकारी के अनुसार मृतक का नाम दीपक (8 माह) है। पुलिस के अनुसार परिजनों ने बच्चे का शव अनाज की टंकी में छिपा रखा था। बाद में जब पुलिस का दबाव बढ़ने लगा तो परिजनों ने शव को घर के पीछे बिटौड़े के पास प्लास्टिक के कट्टे में ले जाकर रख दिया।

पुलिस बच्चे के मां-बाप को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है और उसका शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जब से यह खबर सामने आई है कि बच्चे के शव को उसके परिजनों ने ही अनाज की टंकी में रखा था, तब से लोग हैरान हैं।
... और पढ़ें

प्रयागराज सर्किट हाउस में अंतिम दर्शन के बाद संगम में प्रवाहित की गईं शीला दीक्षित की अस्थियां

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित की अस्थियां बुधवार को संगम में प्रवाहित कर दी गईं। प्रयागराज के सर्किट हाउस में अस्थियों के अंतिम दर्शन के बाद उन्हें संगम में विसर्जित किया गया। 

अस्थि विसर्जन में शीला दीक्षित के बेटे पूर्व सांसद संदीप दीक्षित, बहन रमा धवन और परिवार के अन्य सदस्य शामिल थे। ... और पढ़ें

घरों से लेकर श्मशान घाट तक पानी में डूबी दिल्ली, किसी ने छोड़ा आशियाना, तो कोई खतरे की कर रहा अनदेखी

बीते तीन दिनों से दिल्ली में लगातार यमुना नदी का जलस्तर बढ़ रहा है। रविवार को हथिनीकुंड से पानी छोड़े जाने के कारण इस समय दिल्ली और आसपास के कई इलाकों में यमुना नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। दिल्ली में घरों से लेकर श्मशान घाट तक पानी भर गया है जिससे जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। इस बीच हजारों लोग अपना घर छोड़ सरकारी टेंटों में शिफ्ट होने को मजबूर हो गए हैं, वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो अपना घर तब तक छोड़ने को तैयार नहीं हैं जब तक उनकी खाट के नीचे पानी न आ जाए। देखें तस्वीरें...
... और पढ़ें

बुलंदशहर: बाइक नहीं मिली तो बीच सड़क पर पत्नी को दिया तीन तलाक

तीन तलाक बिल पास हो जाने के बाद भी कई इलाकों से इसके मामले सामने आ ही रहे हैं। ताजा मामला बुलंदशहर के जहांगिराबाद का है।  यहां दहेज में बाइक की मांग पूरी नहीं होने पर पति ने सरेराह पत्नी को तीन तलाक दे दिया। 

मांग पूरी न होने के कारण गुस्साए पति ने बीच सड़क पर ही पत्नी को तीन बार तलाक बोल दिया और लोगों के सामने छोड़ कर चला गया। इसके बाद पीड़िता ने पुलिस से इसकी शिकायत की। पीड़िता की शिकायत पर पति और ससुर समेत चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।  ... और पढ़ें

पाकिस्तान की बहू बनी भारत की आरजू, हसन अली के साथ शादी की पहली तस्वीरें यहां देखें

20 अगस्त को भारत की बेटी सामिया आरजू आखिरकार एक भव्य समारोह में पाकिस्तान की बहू बन ही गई। उसकी शादी पाकिस्तानी क्रिकेटर हसन अली से दुबई में हुई। दोनों की शादी की तस्वीरें सामने आई हैं, जिसमें सामिया आरजू शादी के लाल जोड़े में बला की खूबसूरत लग रही हैं। आगे देखिए शादी की लाजवाब तस्वीरें और पढ़िए कैसे हुआ पूरा समारोह...
... और पढ़ें

मैं आकिल से प्यार करती हूं, उसे मुझसे कोई जुदा नहीं कर सकता...

मुस्लिम युवक से कोर्ट मैरिज करने वाली युवती को ढूंढ़कर परिजनों के सुपुर्द करने के लिए शहर में दो दिन से बवाल मच रहा है, लेकिन सोमवार को सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में युवती ने प्रदर्शन करने वालों को फटकार लगाई और कहा कि उसने मर्जी से शादी की है। 

वीडियो में कह रही है ‘मैं आकिल से प्यार करती हूं और उसे मुझसे कोई जुदा नहीं कर सकता’। हालांकि पुलिस ने अभी इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं की है।

फिरोजपुर झिरका निवासी युवती ने 17 अगस्त को आकिल से कोर्ट मैरिज की है। वीडियो में वह आपबीती कह रही है। वायरल वीडियो के अनुसार युवती ने कहा कि वह आकिल खान से पिछले पांच साल से प्यार करती है। 

यह भी पढ़ें: राज्यस्तरीय कबड्डी खिलाड़ी से कोच ने की अश्लीलता, कहा- साथ रेस्टोरेंट चलो, पैसे भी दूंगा

उसने ही फोन कर आकिल को बुलाया था और उस पर कोर्ट मैरिज करने का दबाव बनाया। पंजाब एंव हरियाणा हाईकोर्ट में मैरिज करने के लिए 14 अगस्त को उसी ने आवेदन किया था। युवती ने कहा कि अदालत में पहुंचे परिजनों से मिलने के लिए जज ने समय दिया था।  ... और पढ़ें

एक और बाबा पर लगा यौन शोषण का आरोप, युवती ने खोले घिनौने राज, बताया जान का खतरा

दाती महाराज और वीरेंद्र देव दीक्षित जैसे ढोंगी बाबाओं के बाद दिल्ली-एनसीआर में एक और बाबा की काली करतूतों का खुलासा हुआ है। इस ढोंगी बाबा के बारे में खुलासा तब हुआ जब एक गुमनाम चिट्ठी सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी। जानिए क्या है पूरा मामला और कौन है ये बाबा...
... और पढ़ें

डूसू चुनाव को लेकर आधिकारिक सूचना जारी, 12 सितंबर को होगा मतदान

दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) चुनाव 2019 का बिगुल बज गया है। बीते साल की तरह इस बार भी डूसू चुनाव 12 सितंबर को होंगे। डीयू रजिस्ट्रार की ओर से चुनाव को लेकर अधिकारिक सूचना जारी कर दी गई है। तिथियों की घोषणा के साथ ही अब आचार संहिता भी लागू हो गई है। चुनाव में लिंगदोह कमेटी व सुप्रीम कोर्ट की सिफारिशों का सख्ती से पालन होगा। चुनावी शंखनाद होते ही छात्र संगठन भी चुनाव को लेकर अपनी रणनीति बनाने में जुट गए हैं।

ये भी पढ़ें- डीयू में रातों-रात लगा दी सावरकर, बोस और भगत सिंह की मूर्ति

चुनावों के लिए 10 अगस्त को डीयू के केमिस्ट्री विभाग के प्रो. अशोक प्रसाद को मुख्य चुनाव अधिकारी नियुक्त किया जा चुका है। नामांकन पत्र 4 सितंबर दोपहर 3 बजे तक जमा कराए जा सकते हैं। नामांकित उम्मीदवार अपना नाम पांच सितंबर दोपहर 12 बजे तक वापिस ले सकते हैं। उम्मीदवारों की अंतिम सूची पांच सितंबर शाम पांच बजे जारी की जाएगी। इसके बाद उम्मीदवार अपना चुनाव प्रचार शुरू कर सकेंगे।

प्रशासन ने अभी मतगणना की तारीख व समय घोषित नहीं किया है। जल्द ही इसके संबंध में सूचना जारी की जाएगी। मतदान दो शिफ्टों में होगा। बीते साल की तरह दिन के कॉलेजों में वोट सुबह 8:30 बजे से 1:00 बजे तक डाले जा सकेंगे। सांध्यकालीन कॉलेजों में वोट डालने का समय शाम तीन बजे से रात 7:30 बजे तक का है।  

छात्र संगठन रणनीति बनाने में जुटे

डूसू चुनाव का शंखनाद होते ही छात्र संगठन एबीवीपी, एनएसयूआई, आईसा व अन्य छोटे संगठनों ने चुनाव को लेकर अपनी रणनीति बनानी शुरू कर दी है। जल्द ही संगठन चयन समितियों का गठन करेंगे, जिससे कि योग्य उम्मीदवारों की खोज की जा सके। संगठन ऐसे उम्मीदवारों की तलाश में हैं जो छात्र-छात्राओं के बीच में लोकप्रिय हों। खासतौर पर नए छात्र-छात्राओं पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है।

एबीवीपी एक या दो दिन में प्री इलेक्शन कैंपेन शुरू कर देगी। इस कैंपेन मेें लगभग 10 संभावित उम्मीदवारों को चुनावी समर में उतारने के लिए छात्रों से संपर्क करने के लिए भेजा जाएगा और इनकी प्रतिभा के आधार पर इनमें से ही उम्मीदवारों का चयन किया जाएगा।
... और पढ़ें

रविदास मंदिर विवाद में मोदी सरकार को घेरने की तैयारी में दलित संगठन, भारत बंद की दी चेतावनी 

देश के चार अहम राज्यों में विधानसभा चुनावों की आहट के बीच दलित संगठन संत रविदास मंदिर को तोड़े जाने के विवाद में मोदी सरकार को घेरने की तैयारी कर रहे हैं। दलित संगठनों ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर वह समय रहते संत रविदास के मंदिर को दोबारा बनाने पर कोई फैसला नहीं लेती है तो पूरे देश में भारत बंद का आयोजन किया जाएगा। वहीं, भाजपा का कहना है कि संत रविदास के मंदिर के नाम के पीछे कुछ निहित तत्व राजनीति करने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि जिस फैसले के तहत मंदिर को तोड़े जाने का आदेश दिया गया था, उस आदेश में ही मंदिर को किसी वैकल्पिक स्थान पर बनाए जाने की बात कही गई है। ऐसे में मंदिर के नाम पर कुछ दल बेवजह की राजनीति कर रहे हैं।

बुधवार को हुआ उग्र प्रदर्शन
तुगलकाबाद वन क्षेत्र में तोड़े गए संत रविदास के मंदिर को दोबारा बनवाने के लिए दलित समाज के संगठनों ने बुधवार को प्रदर्शन किया। दिल्ली के रामलीला मैदान में हुए इस प्रदर्शन में दलित समाज के अनेक संगठनों ने भागीदारी की। प्रदर्शन के दौरान कई जगहों पर हिंसक घटनाएं भी होने की खबर आई। 

दलित समाज करेगा भारत बंद
मंदिर विवाद पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए दलित नेता अशोक भारती ने कहा कि मंदिर तोड़कर सरकार ने दलितों की भावनाओं को चोट पहुंचाने का काम किया है। वे सरकार को चेतावनी देते हैं कि 26 नवंबर तक संत रविदास के मंदिर को दोबारा बनवाने पर वह फैसला लें। अगर सरकार ऐसा नहीं करती है तो इसके बाद भारत बंद का आयोजन किया जाएगा। 

फैसले में है मंदिर को बनाने की बात- दुष्यंत गौतम
संत रविदास दलित समाज संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष और भारतीय जनता पार्टी के नेता दुष्यंत गौतम ने कहा कि इस मुद्दे पर कुछ दल बेवजह राजनीति करने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि फैसले में ही मंदिर को बनाए जाने की बात लिखी गई है। दुष्यंत गौतम ने कहा कि उन्होंने इस मुद्दे पर शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी से मुलाकात की है। सरकार ने मंदिर को दोबारा बनाने का आश्वासन दिया है। ऐसे में सरकार के फैसले का इंतजार किया जाना चाहिए।   
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree