विज्ञापन
विज्ञापन
घर बैठें बनवाएं फ्री जन्मकुंडली और जानें भविष्य की कहानी ग्रह - नक्षत्रों की ज़ुबानी
Kundali

घर बैठें बनवाएं फ्री जन्मकुंडली और जानें भविष्य की कहानी ग्रह - नक्षत्रों की ज़ुबानी

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

दिल्लीः ऑनलाइन क्लास न कर पाने वाले बच्चों के लिए कांस्टेबल बने सहारा, मंदिर में ले रहे क्लास

दिल्ली पुलिस का एक कांस्टेबल कोरोना काल में जरूरतमंद बच्चों के लिए मदद का बड़ा हाथ बनकर सामने आया है। कांस्टेबल ने कोरोनाकाल के दौरान गरीब और जरूरतमंद...

20 अक्टूबर 2020

विज्ञापन
Digital Edition

दिल्ली में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 3882 नए मामले आए सामने, पॉजिटिविटी रेट 8.2 प्रतिशत 

दिल्ली में पिछले 24 घंटों में 3882 लोग कोरोना की चपेट में आए हैं। जबकि संक्रमण के चलते 35 लोगों की जान चली गई। राजधानी में अब तक कुल 3,44,318 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। हालांकि इसमें अब तक कुल 3,12,918 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। दिल्ली में गुरुवार को 2727 लोगों को डिस्चार्ज किया गया। राजधानी में अब तक कुल 6163 मरीजों की संक्रमण से मौत हो चुकी है। 
 


दिल्ली में अभी कुल 25237 सक्रिय मामले हैं। राजधानी में पॉजिटिविटी दर 8.2 प्रतिशत है। जबकि मृत्यु दर 1.79 प्रतिशत है। पिछले में मृत्यु दर 1.07 प्रतिशत दर्ज किया गया है। दिल्ली में अभी कुल 14979 मरीज होम आइसोलेशन में हैं। 

दिल्ली में गुरुवार को कुल 58770 जांच की गई। इसमें 16795 आरटी-पीसीआर जांच और 41975 रैपिड एंटीजन जांच शामिल हैं। राजधानी में अब तक कोरोना वायरस की कुल 42,01,310 जांच की गई हैं।  
... और पढ़ें
कोरोना वायरस (फाइल फोटो) कोरोना वायरस (फाइल फोटो)

दिल्ली दंगे, विभाजन के बाद हुई सबसे भयानक हिंसा : कोर्ट

दिल्ली की एक अदालत ने गुरुवार को कहा कि इस साल फरवरी में उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुए दंगे राजधानी में विभाजन के बाद सबसे भयानक सांप्रदायिक दंगे थे और यह ‘प्रमुख वैश्विक शक्ति बनने की आकांक्षा रखने वाले राष्ट्र की अंतरात्मा में एक घाव था।

अदालत ने आप के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन के तीन मामलों में जमानत याचिकाओं को खारिज करते हुए यह टिप्पणियां की। हुसैन पर सांप्रदायिक हिंसा के भड़काने के लिए कथित तौर पर अपने राजनीतिक दबदबे का दुरुपयोग करने का आरोप है।

अदालत ने कहा कि यह सामान्य जानकारी है कि 24 फरवरी, 2020 के दिन उत्तर पूर्वी दिल्ली के कई हिस्सें सांप्रदायिक उन्माद की चपेट में आ गए, जिसने विभाजन के दिनों में हुए नरसंहार की याद दिला दी। दंगे जल्द ही जंगल की आग की तरह राजधानी के नए भागों में फैल गये और अधिक से अधिक निर्दोष लोग इसकी चपेट में आ गए।

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश विनोद यादव ने कहा कि दिल्ली दंगे 2020 एक प्रमुख वैश्विक शक्ति बनने की आकांक्षा रखने वाले राष्ट्र की अंतरात्मा पर एक घाव है और दिल्ली में हुए ये दंगे विभाजन के बाद सबसे भयानक सांप्रदायिक दंगे थे।

अदालत ने कहा कि इतने कम समय में इतने बड़े पैमाने पर दंगे फैलाना पूर्व-नियोजित साजिश के बिना संभव नहीं है।

पहला मामला दयालपुर इलाके में हुए दंगों के दौरान हुसैन के घर की छत पर पेट्रोल बम के साथ 100 लोगों की कथित मौजूदगी और उन्हें दूसरे समुदाय से जुड़े लोगों पर बम फेंकने से जुड़ा है।

दूसरा मामला क्षेत्र में एक दुकान में लूटपाट से जुड़ा है जिसके कारण दुकान के मालिक को लगभग 20 लाख रुपये का नुकसान हुआ जबकि तीसरा मामला एक दुकान में लूटपाट और जलाने से संबंधित है जिसमें दुकान के मालिक को 17 से 18 लाख रुपये का नुकसान हुआ।

न्यायाधीश ने कहा कि यह मानने के लिए रिकॉर्ड में पर्याप्त सामग्री है कि हुसैन अपराध के स्थान पर मौजूद थे और एक विशेष समुदाय के दंगाइयों को उकसा रहे थे। न्यायाधीश ने कहा कि हुसैन के खिलाफ गंभीर प्रकृति के आरोप है।

अदालत ने कहा कि तीनों मामलों में सरकारी गवाह उसी क्षेत्र के निवासी हैं और यदि उसे जमानत पर रिहा किया गया तो हुसैन द्वारा इन गवाहों को धमकी देने या भयभीत करने की आशंका को खारिज नहीं किया जा सकता है।

हुसैन की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता केके मेनन ने दावा किया था कि कानून की मशीनरी का दुरुपयोग करके उसे परेशान करने के एकमात्र उद्देश्य के साथ पुलिस और उसके राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों द्वारा उसे इस मामले में झूठा फंसाया गया है।

विशेष लोक अभियोजक मनोज चौधरी ने कहा कि हुसैन मामलों में मुख्य साजिशकर्ता है।
... और पढ़ें

दिल्ली : सतह पर चलने वाली हवाओं के सुस्त पडने से बिगड़ा प्रदूषण स्तर, अगले दो दिन तक सुधरने के नहीं दिख रहे आसार

दिल्ली-एनसीआर की गुरुवार सुबह प्रदूषण की घनी चादर से लिपटी रही। वातावरण में फैले प्रदूषकों से सूरज की किरणें धरती तक नहीं पहुंच सकी। खराब स्तर की हवा के साथ निकली सुबह शाम होते-होते बेहद खराब स्तर में पहुंच गई।

शाम छह बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक 300 के अंक को पार कर गया। इस सीजन में यह दूसरी  बार है, जब गुणवत्ता बेहद खराब हुई है। इससे बाहर निकले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। सफर का पूर्वानुमान है कि आने वाले दो दिनों में हवा की गुणवत्ता का स्तर बेहद खराब रहेगा। इसके बाद हवा की चाल बढने से इसमें सुधार आ सकता है।

सफर का आकलन है कि गुरुवार सुबह दिल्ली की हवा की गुणवत्ता खराब स्तर में थी। बुधवार की तुलना में प्रदूषण में बढ़ोत्तरी नहीं दिख रही थी। दिन चढने के साथ सतह पर चलने वाली हवाओं की चाल थम गई। इससे प्रदूषण दिल्ली की आबोहवा में घुल गया। इससे धीरे-धीरे हवा की गुणवत्ता खराब होती गई। वायु गुणवत्ता सूचकांक सुबह 11 बजे के 250 के स्तर से बढ़कर दो बजे 280 पर पहुंच गया। वहीं, शाम 4 बजे का 24 घंटों का सूचकांक 296 हो गया।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की तरफ जारी आंकड़ों के मुताबिक, हवा की गुणवत्ता इसके बाद भी खराब होनी जारी रही। शाम छह बजे तक गुणवत्ता खराब से बेहद खराब स्तर में चली गई। सूचकांक इस दौरान 306 दर्ज किया। वैज्ञानिकों का मानना है कि मौसमी दशाओं की वजह से अभी प्रदूषण स्तर में बढ़ोत्तरी दर्ज की जाएगी। 23 और 24 अक्तूबर को दिल्ली की हवा बेहद खराब स्तर में बनी रहने का अंदेशा है।

24 घंटे में पराली का हिस्सा हुआ छह फीसदी कम
दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढने के बावजूद पराली के धुएं का हिस्सा कम रहा। बुधवार के 15 फीसदी की तुलना में गुरुवार को नौ फीसदी पराली के धुएं से हवा खराब हुई। सफर के मुताबिक, बुधवार को पंजाब, हरियाणा व पड़ोसी इलाकों में पराली जलाने के 1428 मामले रिकार्ड किए गए थे। लेकिन ऊपरी सतह में चलने वाली हवाओं की दिशा दिल्ली की तरफ न होने से धुआं दूसरी तरफ फैल गया।

दिल्ली के प्रदूषण में गुरुवार को इसका हिस्सा नौ फीसदी रिकार्ड किया गया। जबकि बुधवार को पराली जलाने के पांच सौ से कम मामले दर्ज होने के बावजूद यह 15 फीसदी था। वहीं, हवा की गुणवत्ता भी तुलनात्मक रूप से बेहतर थी। बुधवार का सूचकांक 256 रिकार्ड किया गया था।
... और पढ़ें

दिल्ली के अशोक विहार इलाके में नाबालिग के साथ दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार 

दिल्ली के अशोक विहार पुलिस थाना क्षेत्र में आठ वर्षीय बच्ची के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म का मामला सामने आया है। आरोपी पीड़िता का रिश्तेदार है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया है और आगे जांच की जा रही है।  

जानकारी के मुताबिक आठ साल की बच्ची को रेलवे लाइन के किनारे झाडियों में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। इस दौरान बच्ची के विरोध करने पर आरोपी ने उसे पीटकर अधमरा कर दिया और मृत समझकर वहां से फरार हो गया।

बच्ची के गायब होने के बाद बैचेन परिवार वालों ने उसकी तलाश शुरू की और झाडियों में बच्ची के मिलने के बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसकी हालत स्थिर बनी हुई है। आरोपी के नाम का खुलासा होते ही लोगों ने उसे इलाके से दबोच कर पुलिस के हवाले कर दिया।

बुधवार रात अशोक विहार स्थित झुग्गी में रहने वाली आठ साल की बच्ची घर से गायब हो गयी। परिवार वाले बच्ची की तलाश शुरू कर दी। करीब पौने दस बजे परिवार वालों को बच्ची खून से लथपथ हालत में रेलवे लाइन के पास झाडियों में मिली। घटना की जानकारी तुरंत पुलिस को दी गई और बच्ची को इलाज के लिए बाबू जगजीवन राम अस्पताल में भर्ती कराया।

बच्ची ने परिजनों को बताया कि पड़ोस वाले अंकल उसे बहला फुसलाकर रेलवे लाइन के किनारे स्थित झाडियों में ले जाकर दुष्कर्म किया। बच्ची के शोर मचाने पर आरोपी ने उसकी मारा पीटा और उसे मृत समझकर वहां से फरार हो गया। आरोपी के नाम का खुलासा होते ही परिवार वाले और आस पास के लोग पुलिस के साथ उसकी तलाश शुरू कर दी और देर रात इलाके से दबोच लिया। लोगों ने उसकी पिटाई कर पुलिस के हवाले कर दिया।

पुलिस ने आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म, मारपीट और पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस के मुताबिक आरोपी की उम्र 25 साल है। वह मूलत: दरभंगा बिहार का रहने वाला है और फैक्टरी में काम करता है। उधर बच्ची की हालत स्थिर हैं। उसका अस्पताल में इलाज चल रहा है।
... और पढ़ें

Air Quality Delhi: दिल्ली-एनसीआर में सांसों का संकट गहराया, छाई जहरीली धुंध की चादर

सांकेतिक तस्वीर
Delhi-NCR Pollution: दिल्ली में गुरुवार की सुबह वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 254 रहा और प्रदूषण का स्तर 'खराब' की श्रेणी में ही रहा। 

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) समेत अन्य एजेंसियों ने गुरुवार को दिल्ली की वायु गुणवत्ता में सुधार का पूर्वानुमान लगाया था लेकिन यह बुधवार की तरह गुरुवार को भी खराब की श्रेणी में ही रहा।

सीपीसीबी के अनुसार बुधवार को दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 256 था।

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की संस्था ‘सफर’ ने अपने पूर्वानुमान में कहा है कि 23 और 24 अक्टूबर को वायु की गुणवत्ता खराब से बहुत खराब के बीच रहेगी।

आज सुबह दिल्ली के आईटीओ में वायु गुणवत्ता स्तर 254 और पटपड़गंज में 246 मापा गया। यह दोनों ही खराब श्रेणी में आते हैं। राजपथ पर सुबह साइकिल से सैर करने वाले कुछ लोगों ने बताया कि, हमें साइकलिंग के वक्त सांस लेने में तकलीफ होती है। अगस्त और अब की हवा में बहुत अंतर है जो हम महसूस कर पा रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि 0 और 50 के बीच एक्यूआई को 'अच्छा', 51 और 100 के बीच 'संतोषजनक', 101 और 200 के बीच 'मध्यम', 201 और 300 के बीच 'खराब', 301 और 400 के बीच 'बहुत खराब' और 401 और 500 'गंभीर' माना जाता है।
 
... और पढ़ें

सीएम योगी ने बिना नाम लिए साधा राहुल पर निशाना, कहा- पीएफआई के लोगों से मिल रहे कांग्रेस के नेता

बुलंदशहर के सदर विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के प्रचार के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जनपद पहुंचे। भाजपा ने यहां से दिवंगत विधायक वीरेंद्र सिरोही की पत्नी ऊषा सिरोही को अपना उम्मीदवार बनाया है।

पीएफआई के लोगों से मिल रहे कांग्रेस के स्वनामधन्य नेताः योगी
सदर सीट पर होने वाले उपचुनाव में भाजपा की उम्मीदवार ऊषा सिरोही के पक्ष में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नुमाइश ग्राउंड में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। इशारों ही इशारों में उन्होंने राहुल गांधी के लिए कहा कि, कांग्रेस के स्वनामधन्य नेता केरल में देश विरोधी गतिविधियों में शामिल संस्था पीएफआई के सदस्यों से मुलाकात करते हैं।

उन्होंने कहा कि मोदी के नेतृत्व में देश नई ऊंचाइयों को छू रहा है। प्रदेश में गुंडाराज का खात्मा हो रहा है। प्रदेश के युवाओं को रोजगार मिल रहा है। प्रदेश में अब कैराना और कंधला वाली स्थिति नहीं है। अपराधी जेल जा रहे हैं या अंतिम नारे राम नाम सत्य है की तरफ जा रहे हैं।

अपराधियों की सम्पत्तियों पर बुलडोजर चल रहा है। राम मंदिर का वर्षों पुराना सपना भाजपा सरकार में पूरा हुआ। जेवर एयरपोर्ट और फिल्म सिटी से बुलंदशहर के लोगों को भी रोजगार के अवसर मिलेंगे। साथ ही दिवंगत विधायक के कार्यों की उन्होंने सराहना की।

ये नेता भी रहे मौजूद
मुख्यमंत्री के साथ ही भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा, कपिलेदव अग्रवाल, अशोक कटारिया, राज्य मंत्री अनिल शर्मा समेत सांसद और सभी छह  विधायक, क्षेत्रीय अध्यक्ष समेत अन्य लोग मौजूद रहे। इस दौरान जनपद के दिग्गज जाट नेता माने जाने वाले पूर्व मंत्री किरणपाल सिंह को मुख्यमंत्री ने पटखा पहनाकर भाजपा ज्वाइन कराई है।
... और पढ़ें

गाजियाबादः धर्म परिवर्तन मामले में अज्ञात के खिलाफ दर्ज हुआ अफवाह फैलाने का मामला

गाजियाबाद में धर्म परिवर्तन मामले में पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ अफवाह फैलाने के मामले में केस दर्ज किया है। यह केस मोंटू चंदेल ने दर्ज कराया है।

पुलिस ने बताया है कि मोंटू चंदेल ने अपनी शिकायत में कहा है कि, वाल्मीकि बस्ती में करीब 230 लोगों के धर्मांतरण की झूठी खबर कुछ लोगों और संगठनों ने फैलाई थी। पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया है और मामले की जांच कर रही है।

लोनी विधायक के अंडरवर्ल्ड वाले आरोप पर पवन बौद्ध ने दिया जवाब
लोनी के विधायक नंद किशोर गुर्जर ने इस मामले में गृहमंत्री को पत्र लिखते हुए इसमें आम आदमी पार्टी और अंडरवर्ल्ड का हाथ होने के आरोप लगाए हैं। इस आरोप के जवाब में सबसे पहले धर्मांतरण करने वाले पवन बौद्ध ने कहा कि विधायक जी मैं आपका बच्चा हूं, कोई देशद्रोही नहीं हूं। मैंने किसी से कोई फंडिंग नहीं ली है जो उन्होंने मेरे तार अंडरवर्ल्ड से जोड़ दिए। वो चाहें तो जांच भी करा सकते हैं।

मैं अपने डीएम से लेकर सभी को घर दिखा चुका हूं। क्या मैं देशद्रोही लगता हूं। जब डीएम ने पूछा कि ऐसा क्यों कर रहे हो तो हमने सारी बातें बताई और अपनी परेशानी भी उन्हें लिख कर दी है।
... और पढ़ें

26 अक्तूबर से दिल्ली की सभी 70 विधानसभाओं में शुरू होगा प्रदूषण के विरुद्ध युद्ध- रेड लाइट ऑन गाड़ी ऑफ

दिल्ली सरकार ने निर्णय लिया है कि वह सभी 70 विधानसभाओं में प्रदूषण के विरुद्ध युद्ध छेड़ेगी, यानी रेड लाइट ऑन गाड़ी ऑफ अभियान चलाएगी ताकि दिल्ली का प्रदूषण कुछ कम किया जा सकेगा।

यह बात गुरुवार को पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बताई जब वह अभियान के दूसरे दिन तिलक मार्ग-भगवान दास क्रॉसिंग के सिग्नल पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि पार्षद इस अभियान से शुक्रवार 26 अक्तूबर से जुड़ेंगे और तब सभी 70 विधानसभाओं में इस अभियान को चलाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि रेड लाइट ऑन गाड़ी ऑफ अभियान को लेकर लोगों को जागरूक करने के सिलसिले में कल वह बाराखंबा रोड के ट्रैफिक सिग्नल पर जाएंगे और लोगों को लाल बत्ती पर वाहनों को बंद करने के लिए कहेंगे। गोपाल राय ने सड़क पर उतर कर लोगों से अपने वाहनों को बंद करने की गुजारिश की।
... और पढ़ें

दिल्ली की हवा खराब, पराली के धुएं का हिस्सा 8 से बढ़कर 15 फीसदी, कल से हालात और बिगड़ने का अंदेशा

राजधानी में प्रदूषण का स्तर और खराब हो गया है। बुधवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 35 अंक बढ़ गया। हालांकि, यह अब भी खराब श्रेणी में बना हुआ है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के मुताबिक, दिल्ली में एक्यूआई 268 रहा, जो एक दिन पहले 233 था।

हवा की गुणवत्ता पर नजर रखने वाली पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की एजेंसी ‘सफर’ के मुताबिक, राजधानी में पीएम 2.5 के स्तर में पराली जलाने का योगदान 15 फीसदी का रहा। सफर का पूर्वानुमान है कि बृहस्पतिवार को दिल्ली पहुंचने वाली हवाओं की दिशा पुरवा होने से गुणवत्ता में सुधार आएगा, लेकिन अगले दिन 23 अक्तूबर को इसमें फिर से खराबी आने का अंदेशा बना हुआ है।

सफर का आकलन है कि बुधवार को सतह पर चलने वाली हवा की चाल धीमी रही। वहीं, पंजाब, हरियाणा व पड़ोसी इलाकों में मंगलवार को 849 मामले पराली के दर्ज किए गए। ट्रांसपोर्ट लेवल की हवाओं की दिशा पछुआ होने से पराली के धुएं का हिस्सा भी 8 फीसदी से बढ़कर 15 फीसदी के करीब पहुंच गया। दोनों का मिलाजुला असर हवा की गुणवत्ता पर देखा गया। 24 घंटे का सूचकांक मामूली बढ़ोतरी के साथ 268 पर चला गया।

कल से हालात और बिगड़ने का अंदेशा
सफर का पूर्वानुमान है कि बृहस्पतिवार को दिल्ली पहुंचने वाली हवाएं पुरवा होंगी। तुलनात्मक रूप से इनके साफ होने से दिल्ली की हवा में भी सुधार होगा। यह खराब स्तर के सबसे निचले पायदान पर रहेगी, लेकिन शुक्रवार से एक बार फिर हवा की गुणवत्ता खराब होगी। हवा खराब स्तर के ऊपरी पायदान पर पहुंच जाएगी। शनिवार और रविवार को इसमें बड़ा फेरबदल नहीं होगा।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X