विज्ञापन

अम्बेडकरनगर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

अंबेडकरनगर: अनियंत्रित होकर दुकान में घुसा तेज रफ्तार ट्रक, कई ग्रामीण आए चपेट में, एआरटीओ वाहन फूंका

अंबेडकरनगर के जलालपुर में एक तेज रफ्तार ट्रक अनियंत्रित होकर सड़क किनारे बनी एक दुकान में घुस गया। जिसकी चपेट में कई ग्रामीण आकर जख्मी हो गए।

बताया जा रहा है कि एआरटीओ वाहन उस ट्रक का पीछा कर रहा था जिससे बचने के लिए तेज रफ्तार ट्रक अनियंत्रित हो गया। हादसे से गुस्साए ग्रामीणों ने एआरटीओ वाहन में आग लगा दी।

हादसे में एक युवक ट्रक के नीचे फंसकर गंभीर रूप से जख्मी हो गया। ट्रक को हटाने की कोशिश की जा रही है। हालांकि, बेसुध हालत में ट्रक के नीचे फंसे 22 वर्षीय सनी को किसी तरह निकाल लिया गया है। उसे जिला अस्पताल भेज दिया गया है।

उधर, घटना के बाद टैक्सी ऑटो से किसी तरह जलालपुर कोतवाली पहुंचे एआरटीओ बीडी मिश्र ने बताया कि उन्होंने जिला मुख्यालय पर संबंधित वाहन का चालान किया था। इसके बाद वह जाते समय सरकारी वाहन को टक्कर मारते हुए आगे बढ़ गया। उसकी इस हरकत पर तत्काल थानों के पुलिस कर्मियों को जानकारी दी गई। 112 टीम को भी बताया गया।

इसी बीच अनियंत्रित होकर ट्रक चालक ने पट्टी चौराहे पर वाहन को सड़क की पटरी पर मोड़ दिया जिससे हादसा हो गया। इसी बीच पीछे से मेरा वाहन पहुंचा तो ग्रामीणों ने रोक लिया और तोड़फोड़ शुरू कर दी। सरकारी चालक को पकड़ कर पीट दिया। वे सब किसी तरह वहां से निकलने में कामयाब हुए।
... और पढ़ें

अंबेडकरनगर: बसपा नेता जुरगाम मेंहदी के हत्याकांड में फरार इनामी परवेज पुलिस एनकाउंटर में ढेर

बसपा नेता जुरगाम मेंहदी और उनके चालक के बहुचर्चित दोहरे हत्याकाण्ड में फरार एक लाख के इनामी बदमाश परवेज को एसटीएफ ने गोरखपुर में हुए एनकाउंटर में ढेर कर दिया है।

लगभग डेढ़ वर्ष पहले हंसवर निवासी बसपा नेता जुरगाम जब अपने वाहन से जनपद न्यायालय पेशी पर जा रहे थे तभी रास्ते मे उन्हें घेर कर मार डाला गया था। ताबड़तोड़ फायरिंग में उनके चालक शुभनीत यादव की भी मौत हो गई थी।

कई बदमाशों को जेल भेजे जाने के बावजूद अलीगंज थानाक्षेत्र अंतर्गत मखदूमनगर मूल निवासी परवेज फरार चल रहा था। वह वैसे हंसवर थानाक्षेत्र अंतर्गत औझीपुर स्थित अपनी ससुराल में ही रहता था। फरारी के चलते उस पर एक लाख का इनाम घोषित किया गया था। इस बीच गोरखपुर में कुछ देर पहले हुए एनकाउंटर में उसे ढेर कर दिया गया।

बता दें कि जुरगाम की हत्या 18 अक्तूबर 2018 को हुई थी। मामले में कुल 29 अभियुक्त बनाए गए थे। परवेज और उसकी पत्नी रुबीना फरार चल रही। परवेज का एनकाउंटर हो गया जबकि 1 लाख की इनामी उसकी पत्नी अभी भी फरार है।
... और पढ़ें

अंबेडकरनगर: सरयू में नहाने गए चाचा भतीजे डूबे, भतीजे की मौत, दो दिन पहले ही हुई थी शादी

अंबेडकरनगर: शराब के नशे में वहशी बन गया बेटा, पिता को डंडे से पीटा फिर गला दबाकर हत्या कर दी

अकबरपुर कोतवाली क्षेत्र के लोरपुर ताजन गांव में युवक ने अपने पिता को लाठी से पीटकर मार डाला। आरोप है कि बुधवार को युवक नशे में घुत होकर घर पहुंचा था। इसी को लेकर पिता से उसका विवाद हुआ जिसके बाद युवक ने पिता को मार डाला और शव कमरे में ही बंद कर दिया। सुबह युवक की दादी वहां पहुंचीं तो कमरे का दृश्य देखकर सन्न रह गईं। 

लोरपुर ताजन गांव निवासी भरतलाल (50) का बुधवार देर रात अपने छोटे बेटे अखिलेश (35) से विवाद हो गया। पुलिस का कहना है कि अखिलेश नशे का आदी है। वह बुधवार रात भी नशे में धुत होकर घर पहुंचा था। पिता ने इसका विरोध किया तो विवाद हो गया। अखिलेश ने एक डंडे से पिता को पीटना शुरू कर दिया। जिससे भरतलाल बेसुध हो गये बाद में उनकी मौत हो गई। अखिलेश उनके कमरे का दरवाजा बाहर से बंद कर घर में ही सो गया। परिवार का कोई और सदस्य उस समय घर में नहीं था।

घटना का खुलासा तब हुआ जब भरतलाल की मां गुरुवार सुबह उनसे मिलने पहुंची। वह भरतलाल का शव पड़ा देखकर सन्न रह गईं। भरतलाल का शव खून से लथपथ पड़ा था। भरतलाल की मां के शोर मचाने पर गांव वालों ने अखिलेश को दबोच लिया। थोड़ी ही देर में अकबरपुर कोतवाल अमित सिंह टीम के साथ वहां पहुंच गये और अखिलेश को हिरासत में ले लिया। भरतलाल के साले दोस्तपुर निवासी शैलेंद्र की तहरीर पर पुलिस ने अखिलेश के विरुद्घ हत्या का केस दर्ज कर लिया। ग्रामीणों के अनुसार अखिलेश अयोध्या में रहकर निजी काम करता है। चार दिन पहले ही वह गांव पहुंचा था। जब से वह आया था, तब से पिता पुत्र के बीच किसी न किसी बात को लेकर विवाद होता रहता था। 
... और पढ़ें
मामले की जानकारी पर पहुंचे पुलिसकर्मी। मामले की जानकारी पर पहुंचे पुलिसकर्मी।

अंबेडकरनगर : भीड़ ने हिस्ट्रीशीटर को पीटकर मार डाला, युवक की पिटाई से आक्रोशित से थे ग्रामीण

युवक की पिटाई से आक्रोशित बसखारी के घेरवा मरौचा गांव के लोगों ने एक हिस्ट्रीशीटर को पीट-पीटकर मार डाला। पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर के भाई की तहरीर पर तीन नामजद व कुछ अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। तीन ग्रामीणों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। हिस्ट्रीशीटर शेरबहादुर यादव (26) के खिलाफ बसखारी के अलावा कई अन्य थानों में लूट, हत्या सहित विभिन्न धाराओं में आठ मुकदमे दर्ज थे।

जानकारी के अनुसार हंसवर थाना क्षेत्र के सेमऊर खानपुर निवासी संदीप शुक्ल शुक्रवार रात अपने रिश्तेदार दिवाकर तिवारी के यहां घेरवा मरौचा गांव जा रहा था। गांव के बाहर पुलिया पर पिपरी मरौचा निवासी हिस्ट्रीशीटर शेरबहादुर बैठा था।

आरोप है कि उसने संदीप को रोका और गाली-गलौच के बाद डंडे से पिटाई करने लगा। संदीप गुहार लगाते हुए गांव की तरफ भागा। उसे घायल देख ग्रामीणों ने मौके पर मिले शेरबहादुर को इतना पीटा कि वह मरणासन्न हो गया। इसी बीच, हिस्ट्रीशीटर के परिजन भी मौके पर पहुंच गये। उसे लेकर बसखारी सीएचसी पहुंचे जहां डॉक्टरों ने शेरबहादुर को मृत घोषित कर दिया।
... और पढ़ें

गैंगेस्टर एक्ट में कार्रवाई: माफिया खान मुबारक की 70 लाख रुपये की संपत्ति कुर्क

गैंगेस्टर एक्ट में हंसवर पुलिस ने रविवार को माफिया सरगना खान मुबारक की लगभग 70 लाख रुपये की संपत्ति को कुर्क कर लिया। उधर, जल्द ही महरुआ पुलिस माफिया अजय सिपाही की संपत्ति की भी कुर्की करने की तैयारी में है।

जनपद पुलिस ने एक बार फिर से आपराधिक तत्वों के विरुद्ध बड़ी मुहिम छेड़ दी है। बीते वर्ष करोड़ों की संपत्ति जब्त करने के साथ ही ध्वस्त कर दी गई थी। पुलिस की रिपोर्ट के आधार पर जिला मजिस्ट्रेट सैमुअल पॉल एन ने बीते दिनों गैंगेस्टर एक्ट में माफिया खान मुबारक और अजय सिपाही की संपत्ति कुर्क करने का आदेश जारी किया था।

इसी क्रम में एसडीएम टांडा बाबूराम, सीओ टांडा संतोष कुमार और एसओ विजय तिवारी ने दलबल के साथ नरायनपुर प्रीतमपुर पहुंचकर एक भूखंड और एक दुकान सहित अहाते को कुर्क कर लिया। पुलिस के अनुसार माफिया खान मुबारक ने अवैध ढंग से अर्जित धन के जरिए दूसरे के नाम से यह संपत्ति तैयार की थी। कुर्क की गई संपत्ति की कुल कीमत पुलिस के अनुसार लगभग 70 लाख रुपये है।

पुलिस की इस कार्यवाई से रविवार को गांव में हड़कंप मचा रहा। उधर, महरुआ पुलिस भी जल्द ही माफिया अजय सिपाही की संपत्ति को कुर्क करने की तैयारी में है। जल्द ही संपत्ति को कुर्क करने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। एसपी आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि गैंगेस्टर एक्ट में खान मुबारक की करीब 70 लाख रुपये की संपत्ति कुर्क की गई है।
... और पढ़ें

अंबेडकरनगर: अपहरण व दुष्कर्म मामले में न्याय के लिए थाने गई युवती से छेड़छाड़ के आरोप में एसओ लाइन हाजिर

दुष्कर्म की शिकार किशोरी के साथ थाना प्रभारी राजेसुल्तानपुर नीरज कुमार की ओर से छेड़छाड़ व अश्लील हरकत करने का गंभीर मामला सामने आया है। किशोरी की मां ने पुलिस अधिकारियों को पत्र देकर कहा कि अपहरण व दुष्कर्म के बाद उसकी पुत्री न्याय के लिए जब थाने गई तो केस दर्ज होने के बाद एसओ ने उसे कमरे में ले जाकर अश्लील हरकत की। उन्होंने शरीर के विभिन्न हिस्सों पर हाथ लगाकर छेड़छाड़ करने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई करने की मांग की। किशोरी का एक वीडियो भी सामने आया। इसमें उसने छेड़छाड़ समेत कई गंभीर आरोप लगाए। इसके बाद एसपी आलोक प्रियदर्शी ने एसओ को लाइन हाजिर करते हुए विवेचना महिला थाने स्थानांतरित कर दी। इसके साथ ही एसओ पर लगे आरोपों की विस्तृत जांच एएसपी को सौंप दी है। एसपी ने कहा कि जो भी जांच रिपोर्ट सामने आएगी, उसके अनुरूप निर्णय लिया जाएगा।

पुलिस विभाग को शर्मसार करने वाली घटना राजेसुल्तानपुर थाने में हुई है। युवक की ओर से किशोरी का अपहरण व उसके साथ दुष्कर्म किए जाने के मामले में पीड़िता की मां ने थाना प्रभारी राजेसुल्तानपुर नीरज कुमार पर सनसनीखेज आरोप लगाए हैं। आईजी अयोध्या रेंज व एसपी को दिए पत्र में किशोरी की मां ने कहा कि उसकी नाबालिग पुत्री का 10 नवंबर को बगल के गांव के एक युवक ने अपहरण कर लिया। इसके बाद उसके साथ दुष्कर्म किया। बाद में उसकी पुत्री किसी तरह युवक के चंगुल से छूटकर घर आई। इस मामले में एसपी के निर्देश पर थाने में किशोरी के अपहरण का केस दर्ज हुआ। इसी मामले में जब कार्रवाई व धारा 164 के बयान के लिए किशोरी थाने गई तो वहां एसओ ने उसके साथ अश्लील हरकत की। शिकायत में कहा गया कि थाना प्रभारी उसे एक कमरे में ले गए, जहां उन्होंने उसकी पुत्री के साथ अश्लीलता करते हुए छेड़छाड़ की। बाद में मजिस्ट्रेट के समक्ष किशोरी के बयान दर्ज कराए गए। इसमें मजिस्ट्रेट को भी थाना प्रभारी के कृत्य की जानकारी दी गई। महिला ने बताया कि पुलिस अधिकारियों से शिकायत करते हुए मामले में कार्रवाई करने की मांग की गई।

इस बीच मंगलवार शाम मामला संज्ञान में आते ही एसपी आलोक प्रियदर्शी ने एसओ राजेसुल्तानपुर नीरज कुमार को लाइन हाजिर कर दिया। जलालपुर कोतवाली प्रभारी रहे दुर्गेश मिश्र को राजेसुल्तानपुर का नया थाना प्रभारी बना दिया गया, जबकि चुनाव सेल प्रभारी रहे दीपक सिंह को जलालपुर कोतवाली का चार्ज दिया गया है। इसके साथ ही किशोरी के अपहरण व दुष्कर्म के प्रकरण की विवेचना राजेसुल्तानपुर थाने से हटाकर एसपी ने महिला थाने को सौंप दी है। एसओ पर लगे छेड़छाड़ व अश्लील हरकत करने के आरोपों की विस्तृत जांच अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार राय को सौंप दी गई है।

लाइन हाजिर कर कराई जा रही जांच
किशोरी के परिवारीजन मेरे पास शुरू में आए थे। मैंने उनके सामने ही थाने में फोन कर तत्काल केस दर्ज करवाया था। उसके बाद भी परिवार के लोग आए थे। उनका कहना था कि बयान दर्ज नहीं कराया जा रहा है। मैंने एसओ को फटकार लगाते हुए सभी प्रक्रिया पूरी कराने को कहा था। एसओ ने विलंब होने के लिए वीआईपी ड्यूटी आदि का हवाला दिया था। उस समय एक भी बार किसी ने एसओ की ओर से छेड़छाड़ करने की जानकारी नहीं दी थी। अब आरोप लगा है तो उसकी गंभीरता को देखते हुए एसओ को तत्काल लाइन हाजिर कर विस्तृत जांच कराई जा रही है। जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसे देखते हुए सभी जरूरी कार्रवाई होगी।
- आलोक प्रियदर्शी, एसपी
... और पढ़ें

अंबेडकरनगर : पूर्व मंत्री सपा नेता के पुत्र ने साथियों के साथ युवक को बनाया बंधक, पांच के खिलाफ केस दर्ज

प्रतीकात्मक तस्वीर
उधार लिए रुपये वापस मांगने पर पूर्व मंत्री गोपीनाथ वर्मा के पुत्र ने अपने चार साथियों के साथ एक युवक को बंधक बना लिया। इसके बाद उसे अपने महाविद्यालय के एक कक्ष में जमकर पीटा। इससे वह घायल हो गया। इस मामले में पुलिस ने तीन नामजद और दो अज्ञात के विरुद्ध केस दर्ज कर लिया है।

घटना अलीगंज थाना क्षेत्र की है। इब्राहिमपुर थाना क्षेत्र के पीड़ित कोल्हुआ मुकुंदपुर निवासी सचिन वर्मा के अनुसार मखदूमपुर निवासी पूर्व मंत्री सपा नेता गोपीनाथ वर्मा के पुत्र विजय ने उनसे एक लाख 69 हजार रुपये उधार लिए थे। काफी दिनों से रुपये वापस करने आनाकानी कर रहे थे। बीते दिन जब वह पैसा मांगने उनके महिला महाविद्यालय गया तो वहां विजय ने अपने साथियों के साथ कमरे में बंधक बना लिया। पिस्टल निकाल धमकाया। जमीन पर गिराकर पीटा और हाथ-पैर भी बांध दिए।

आरोप लगाया कि चाकू से पेट फाड़ने की भी धमकी दी गई। इसके बाद दोबारा रुपये न मांगने की धमकी देकर छोड़ दिया गया। पुलिस ने मामले में मुख्य आरोपी विजय के अलावा वीरेंद्र गुप्त और शंभू तिवारी को नामजद करते हुए दो अज्ञात के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। एसओ नागेंद्र सरोज ने बताया कि पिटाई में ज्यादा चोट आई है। केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश की जा रही है।
... और पढ़ें

यूपी : पिता ने की पुत्र की धारदार हथियार से हत्या, 24 घंटे छिपाए रखा शव, सास की तहरीर पर केस दर्ज

जहांगीरगंज (अंबेडकरनगर) में रिश्ते को तार-तार करते हुए एक पिता ने ही अपने पुत्र की धारदार हथियार से हत्या कर दी। इसके बाद शव को 24 घंटे तक छिपाए रखा। सोमवार देर शाम युवक की दुर्घटना में मौत होने की सूचना ग्रामीणों को दी गई। मंगलवार को सुबह खून से लथपथ युवक के शव का अंतिम संस्कार करने की तैयारी हो ही रही थी कि इसी बीच मौके पर पुलिस पहुंच गई। मृतक की सास की तहरीर पर पुलिस ने पिता के विरुद्ध हत्या करने व साक्ष्य मिटाने समेत विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

जहांगीरगंज थाना क्षेत्र के गिरैया बाजार निवासी ईश्वरदत्त यादव ने सोमवार देर शाम गांव के कुछ ग्रामीणों को बताया कि उसके पुत्र सुनील (33) की दुर्घटना में मौत हो गई है। इस पर ग्रामीण उसके घर पहुंचे तो वहां का दृश्य देखकर सन्न रह गए। मामला दुर्घटना की बजाय हत्या का प्रतीत हुआ। इस बीच मंगलवार को सुबह ईश्वरदत्त शव के अंतिम संस्कार की पूरी तैयारी कर चुका था। ग्रामीणों ने इसी दौरान जानकारी पुलिस को दी। एसओ शंभूनाथ पुलिस टीम के साथ गांव पहुंचे और शव को अभिरक्षा में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

बाद में जैतपुर थाना अंतर्गत किशुनपुर कबिरहा गांव निवासी मृतक की सास को घटना की जानकारी होते ही वह जहांगीरगंज थाने पहुंचीं और मामले में केस दर्ज करने के लिए तहरीर दी। उसने ईश्वरदत्त पर ही धारदार हथियार से पुत्र की हत्या किए जाने का आरोप लगाया। पुलिस ने तहरीर के आधार पर हत्या व साक्ष्य मिटाने समेत विभिन्न धाराओं में ईश्वरदत्त के विरुद्ध केस दर्ज कर लिया। एसओ ने बताया कि हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

बताया जाता है कि सुनील ने दो विवाह किए थे। पहली शादी जैतपुर थाना अंतर्गत किशुनपुर कबिरहा निवासी निशा से हुई थी। उसके डेढ़ वर्ष की पुत्री भी है। बाद में सुनील ने दूसरी शादी कर ली। इसके बाद निशा मायके चली गई। तब से वह वहीं रह रही थी, जबकि दूसरी पत्नी भी उसे छोड़कर चली गई थी। पिता-पुत्र में अक्सर विवाद होता रहता था। रविवार की रात को भी विवाद हुआ। इससे नाराज होकर ईश्वरदत्त ने धारदार हथियार से हमला कर सुनील की हत्या कर दी और शव पशुशाला के बगल एक कमरे में छिपा दिया। मंगलवार को सुबह वह शव का अंतिम संस्कार करने की तैयारी में था कि इसी बीच पुलिस पहुंच गई।

 
... और पढ़ें

अंबेडकरनगर: सुरक्षा व्यवस्था परखने जिला कारागार पहुंचे डीएम-एसपी, भोजन की गुणवत्ता भी परखी

सुरक्षा सहित अन्य व्यवस्थाओं को परखने के लिए मंगलवार को डीएम व एसपी भारी पुलिस फोर्स के साथ जिला जेल के औचक निरीक्षण पर पहुंचे। इस दौरान विभिन्न बैरकों की तलाशी करायी गई लेकिन जांच में कहीं से भी कोई आपत्तिजनक वस्तु नहीं मिली। न ही किसी बंदी द्वारा कारागार प्रशासन के खिलाफ कोई शिकायत दर्ज करायी गयी।

निरीक्षण के दौरान अधिकारियों ने सुरक्षा के साथ ही बंदियों को मिलने वाले भोजन की गुणवत्ता व परिसर और बैरकों की साफ सफाई व्यवस्था को भी परखा। इस दौरान जन्माष्टमी के मौके पर कैदियों व जेल स्टाफ द्वारा सजायी गई झांकी को देखने के बाद दोनों आला अफसरों ने इसकी सराहना भी की।

रुटीन निरीक्षण के तहत मंगलवार को डीएम सैमुअल पॉल एन व एसपी आलोक प्रियदर्शी ने जनपद कारागार का निरीक्षण करने पहुंचे। उन्होंने जेल अफसरों के साथ बैरकों का निरीक्षण करने के साथ ही भोजन की गुणवत्ता, साफ सफाई, महिला बैरक, अस्पताल वार्ड, अस्पताल एकलवास का जायजा भी लिया। सुरक्षा बैरक में बंद कैदियों से भी डीएम व एसपी ने बातचीत कर उनसे कारागार प्रशासन से मिलने वाली सुविधाओं के बारे में फीडबैक लिया।

डीएम ने जेल प्रशासन से समय-समय पर कैदियों के लिए रचनात्मक व सकारात्मक कार्यक्रमों का आयोजन कर इसमें उनकी भागीदारी सुनिश्चित कराने की भी सलाह दी। कहा कि बेहतर माहौल से इंसान के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाया जा सकता है। इस मौके पर जिला कारागार अधीक्षक हर्षिता मिश्रा के अलावा अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।
... और पढ़ें

अंबेडकरनगर: मुख्यमंत्री योगी पर अभद्र टिप्पणी में आरोपी पर केस दर्ज

सोशल मीडिया पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर अभद्र टिप्पणी करने के मामले करने व गलत तरीके की फोटो शेयर करने के मामले में अलीगंज पुलिस ने एक युवक के विरुद्ध केस दर्ज किया है।

थाने के उपनिरीक्षक की तहरीर पर पुलिस ने केस दर्ज कर मामले में छानबीन शुरु कर दी है। थाने में दी तहरीर में एसआई अवसाफ अली ने बताया कि क्षेत्र में भ्रमण के दौरान अलहदादपुर पहुंचने पर पता चला कि सोशल मीडिया पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के विरुद्ध गांव निवासी अब्दुल रहमान द्वारा अभद्र टिप्पणी करते हुए गलत तरीके की फोटो शेयर की गई है।

संबंधित युवक द्वारा किया गया यह कृत्य न सिर्फ निंदनीय है, बल्कि अपराधिक कृत्य है। ऐसे में अलीगंज पुलिस ने एसआई की तहरीर पर आरोपी के विरुद्ध आईटी एक्ट की धाराओं में केस दर्ज किया है। थानाध्यक्ष नागेन्द्र सरोज ने बताया कि मामले में केस दर्ज कर छानबीन की जा रही है।
... और पढ़ें

अंबेडकरनगर: 12 लाख रुपये के गांजे के साथ तीन तस्कर गिरफ्तार

जैतपुर पुलिस टीम ने बीती रात गश्त के दौरान भुजगी के पास डीसीएम से ले जाया जा रहा एक क्विंटल 500 ग्राम गांजा बरामद कर लिया। साथ ही तीन आरोपियों को डीसीएम व बाइक के साथ गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक बरामद गांजा की बाजार में कीमत लगभग 12 लाख रुपये है।

 एएसपी संजय कुमार राय ने बताया कि पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी के निर्देश पर जनपद पुलिस लगातार चेकिंग अभियान चला रही है। इस बीच रविवार रात मुखबिर की सूचना पर जैतपुर पुलिस ने घेराबंदी कर अवैध गांजा लेकर जा रहे लोगों को गिरफ्तार कर लिया। एसओ जैतपुर जयप्रकाश सिंह, उपनिरीक्षक प्रदीप कुमार सिंह, सिपाही राजेश यादव, सिपाही प्रमोद कुमार, ओमेन्द्र पटेल व हर्षित शुक्ल आदि गश्त पर थे। इस बीच टीम को मुखबिर से सूचना मिली कि एक बगैर नंबर प्लेट की डीसीएम रामगढ़ की तरफ जा रही है, मौके पर भुजगी के पास पहुंच रही है।

पुलिस ने सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर घेराबंदी की। एक व्यक्ति बाइक से डीसीएम के आगे रेकी करते हुए चल रहा था। पुलिस टीम ने रेकी कर रहे युवक को पकड़ने के साथ ही मौके पर पहुंची डीसीएम को भी रोक लिया। वाहन की तलाशी ली गई तो उसमें रखा अवैध गांजा बरामद हुआ।

इसके बाद पुलिस टीम सभी को अभिरक्षा में लेकर थाने लाई। तौल कराने पर गांजा का वजन एक क्विंटल 500 ग्राम निकला। पकड़े गए तस्करों की पहचान बाबूराम निवासी मुत्तकल्लीपुर, थाना पवई, जनपद आजमगढ़, विजय कुमार निवासी ग्राम अंबरपुर, थाना जैतपुर व उमाकांत दूबे उर्फ बजरंगी निवासी ग्राम सरैया व थाना जैतपुर के रूप में हुई। आरोपियों के पास से एक बाइक व डीसीएम भी बरामद की गई।
... और पढ़ें

अंबेडकरनगर: कलियुगी पुत्र ने बरामदे में सो रहे पिता को कुल्हाड़ी से काट डाला, परिजनों में मचा कोहराम

घर के बरामदे में सो रहे सेवानिवृत्त शिक्षक की उनके ही कलियुगी पुत्र ने दिनदहाड़े कुल्हाड़ी से गला काटकर हत्या कर दी। घटना से परिजनों में कोहराम मच गया। ग्रामीणों ने आरोपी को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने मामले में नामजद केस दर्ज कर लिया है। पुलिस के अनुसार आरोपी विक्षिप्त युवक है। नियमानुसार कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। उधर, दिनदहाड़े हुई इस जघन्य घटना से गांव में सनसनी का माहौल व्याप्त है।

कटका थाना क्षेत्र के दुल्हूपुर कला गांव में शनिवार दोपहर बाद करीब ढाई बजे उस समय अफरातफरी मच गई, जब गांव निवासी सेवानिवृत्त परिषदीय शिक्षक रामसुमेर (75) की हत्या हो जाने की खबर गांव में फैली। ग्रामीण रोने पीटने की आवाज सुनकर मौके पर पहुंचे तो देखा कि घर के बरामदे में चारपाई पर रामसुमेर का खून से लथपथ शव पड़ा है। बगल में ही खून से सनी कुल्हाड़ी लिए उनका ही पुत्र राकेश (30) खड़ा है।

ग्रामीण घटना से स्तब्ध थे तो वहीं परिजनों में रोना पीटना मचा था। ग्रामीणों ने हिम्मत कर आरोपी को कुल्हाड़ी सहित पकड़ लिया। सूचना मिलते ही कटका पुलिस मौके पर पहुंची। उसने आरोपी को कुल्हाड़ी सहित हिरासत में ले लिया। घटना को लेकर पूछताछ में कोई स्पष्ट कारण उभरकर सामने नहीं आया। पुलिस आरोपी को लेकर थाने चली गई, जबकि शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
... और पढ़ें
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00