विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम
Puja

मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

मोबाइल हेल्थ टीम से दुर्व्यवहार पर चौकी प्रभारी पर केस दर्ज

हिमाचल में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच लाहौल-स्पीति में कोविड-19 के अग्रणी कर्मवीरों से दुर्व्यवहार का मामला सामने आया है। दुर्व्यवहार करने वाला खुद एक पुलिस अधिकारी है। पुलिस अधिकारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। मामला सामने आने के बाद मोबाइल हेल्थ टीम ने भविष्य में किसी भी संदिग्ध के सैंपल लेने से इंकार किया है। इससे जनजातीय जिला में कोरोना वायरस के खिलाफ चल रहे अभियान को झटका लग सकता है। 

उपायुक्त को दिए शिकायत पत्र में मोबाइल हेल्थ टीम के प्रभारी डॉ. मनोज कुमार वर्मा ने कहा कि जाहलमा पुलिस चौकी प्रभारी जिला कांगड़ा से हाल ही में लाहौल पहुंचा है। मोबाइल हेल्थ टीम के तीन लोग पुलिस अधिकारी का सैंपल लेने जाहलमा पहुंचे। पुलिस अधिकारी ने मेडिकल टीम से दुर्व्यवहार किया। पुलिस अधिकारी ने अभद्र भाषा का इस्तेमाल भी किया। उपायुक्त ने एसपी को तुरंत हस्तक्षेप के निर्देश दिए।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने उपायुक्त को स्पष्ट किया कि जब तक उक्त पुलिस अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती, उनकी टीम कोई सैंपल एकत्रित नहीं करेगी। उधर, उपायुक्त केके सरोच ने शिकायत पत्र मिलने की पुष्टि की है। पुलिस अधीक्षक राजेश धर्माणी ने कहा कि पुलिस अधिकारी को स्वेच्छा से अपना सैंपल देना चाहिए था। पुलिस अधिकारी के खिलाफ केलांग पुलिस थाना में मामला दर्ज किया गया है। 
... और पढ़ें

खनन माफिया को दबोचने उत्तराखंड पहुंची हिमाचल पुलिस पर पथराव

भंगानी में खनन रोकने गई वन विभाग की टीम पर पथराव करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार करने उत्तराखंड गई हिमाचल की पुलिस टीम पर भी पथराव किया गया। हालांकि, पुरुवाला और सिंघपुरा पुलिस की टीम ने जान पर खेल कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। वन कर्मियों की टीम पर हमले की शिकायत दर्ज होते ही पुरुवाला थाना प्रभारी विजय रघुवंशी और सिंघपुरा पुलिस चौकी प्रभारी बाला राम की टीम आरोपियों को दबोचने उत्तराखंड रवाना हो गए।

टीम में मुख्य आरक्षी अरविंद, धनवीर सिंह और तरसेम सिंह शामिल रहे।  आरोपी अपने घर से भी फरार थे। पुलिस ने आरोपियों के परिजनों से कड़ी पूछताछ की। देर रात को आरोपियों को दबोचने की कार्रवाई चलती रही। आरोपियों को बचाने के लिए आसपास के ग्रामीणों ने पुलिस टीम के वाहनों पर  ईंट और पत्थरों से हमला शुरू कर दिया। इससे वाहनों को नुकसान पहुंचा है। 

विकासनगर के एसएचओ के वाहन का पिछला शीशा पथराव से टूट गया लेकिन संयुक्त पुलिस टीम ने वन विभागीय टीम पर हमला करने वाले तीन आरोपियों को दबोच लिया। वहीं, खनन के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले ट्रैक्टर को भी कब्जे में लिया गया है।  उधर, एसएचओ पुरुवाला विजय रघुवंशी ने बताया कि लोगों ने आरोपियों को बचाने का प्रयास किया। आसपास गांव के लोगों की ओर से पथराव से पुलिस के वाहनों को ज्यादा क्षति नहीं पहुंची है।   
... और पढ़ें

हिमाचल के कुल्लू में पांच साल की बच्ची से दुष्कर्म

बाहर से ताला लगा भीतर 40 कर्मचारियों से काम करवा रहा था ज्वेलर, मामला दर्ज

हिमाचल के सोलन शहर में कर्फ्यू के बीच ज्वेलर के शोरूम में काम करने पर मालिक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। दरअसल, पुलिस अपर बाजार में गश्त पर थी। इसी बीच पुलिस को सूचना मिली कि शहर के नामी ज्वेलर ने अपना शोरूम खोला है और उसमें अंदर बड़ी तादाद में कर्मचारी काम कर रहे हैं। पुलिस मौके पर पहुंची तो शोरूम के बाहर ताला लगा था।

शोरूम मालिक के बेटे से मोबाइल पर संपर्क किया तो उसने बताया कि वह अपने निजी काम से चंडीगढ़ गया है। इस पर पुलिस ने शोरूम की जांच के लिए ताले की चाबी मंगवाई। इस दौरान एक कर्मचारी दुकान की चाबी लेकर मौके पर पहुंचा। जब शोरूम खुलवाकर चेक किया तो शोरूम के मालिक अंदर बैठे थे और करीब 40 कर्मचारी दुकान की तीनों मंजिलों में काम कर रहे थे। एएसपी सोलन डॉ. शिव कुमार शर्मा ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर आगामी जांच शुरू कर दी है। 
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

क्वारंटीन केंद्र में घुस पीट दिया टैक्सी चालक, तीन पर केस दर्ज

हिमाचल के हमीरपुर जिले के चौडू पंचायत के क्वारंटीन केंद्र में घुसकर एक युवक से मारपीट करने का मामला सामने आया है। जिस युवक को पीटा गया है, उसे 14 दिनों तक स्कूल में संगरोध किया गया है।  बताया जा रहा है कि पीड़ित संजीव कुमार पुत्र केशव चंद निवासी गांव बड़ेतर जीहण पांच दिन पूर्व लुधियाना अपनी टैक्सी लेकर सवारी छोड़ने गया था। उसी दिन घर वापस आते ही चौडू स्कूल में अन्य तीन लोगों सहित पंचायत की ओर से संगरोध कर दिया गया। गुरुवार रात करीब 11:00 बजे तीन युवक अमन, चमेल सिंह और संजीव संगरोध केंद्र के बाहर आकर गाली गलौज करने लगे।

गाली गलौज करते हुए यह तीनों स्कूल के अंदर तक पहुंच गए। जब टैक्सी चालक संजीव अपने कमरे से बाहर निकला तो तीनों ने मारपीट शुरू कर दी, जिससे उसके चेहरे व शरीर पर गहरे घाव हो गए। यह तीनों काफी देर तक संगरोध में रह रहे संजीव की पिटाई करते रहे, जिसे संगरोध किए अन्य लोगों ने बड़ी मुश्किल से बचाया। पीड़ित ने इसकी सूचना पंचायत प्रधान को दी। उसके बाद पंचायत प्रधान ने इसकी सूचना पुलिस व तहसीलदार को दी। 
पंचायत प्रधान सूरम सिंह तथा उपप्रधान मनोज कुमार ने बताया कि आरोपियों ने संगरोध केंद्र चौडू स्कूल के अंदर घुसकर टैक्सी चालक संजीव के साथ मारपीट की है। पंचायत की ओर से पुलिस थाने में मामला दर्ज करवा दिया गया है। थाना प्रभारी प्रवीण राणा ने बताया कि स्कूल में ही संजीव का मेडिकल करवा कर विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है तथा आगामी कार्रवाई की जा रही है।

कोर्ट में गवाही देने से नाराज हैं आरोपी 
बताया जा रहा है कि पूर्व में पुलिस में कोई मामला दर्ज हुआ था। मारपीट के मामले में पीड़ित ने उनके विरुद्ध गवाही दी है, जिससे खफा होकर इन तीन युवकों ने टैक्सी चालक से मारपीट की। संगरोध केंद्र के अंदर घुसकर इस तरह युवक के साथ मारपीट करना अति गंभीर मामला है, क्योंकि इसके अंजाम काफी खतरनाक हो सकते हैं। संजीव के परिजनों ने भी आरोपियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की मांग की है। 
... और पढ़ें

चार बच्चों की मां ने लगाया फंदा, सुसाइड नोट में ये लिखा

हिमाचल के कांगड़ा जिले के खनियारा में एक महिला ने फंदा लगाकर अपनी जान दे दी है। महिला ने सुसाइड नोट भी लिखा है। इसमें अपनी तीन बेटियों को छोटे भाई का ध्यान रखने और खुश रहने के बारे में लिखा है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर छानबीन शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार धर्मशाला के साथ लगते खनियारा गांव में एक नेपाली मूल की चार बच्चों की मां ने फंदा लगा लिया। महिला अपने बच्चों के साथ किराये के कमरे में रहती थी। उसका पति कुल्लू में किसी ढाबे में काम करता है।

महिला खनियारा में किसी के घर में काम कर बच्चों की देखभाल करती थी। लॉकडाउन के चलते पति कुल्लू में ही है। शनिवार सुबह महिला का शव घर के साथ पेड़ से लटका मिला। महिला की पहचान नेपाली मूल की शीला देवी (47) पति कालू राम के रूप में हुई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए जोनल अस्पताल धर्मशाला भेज दिया है। महिला अपने पीछे तीन बेटियां और एक बेटा छोड़ गई है। बेटा आठ साल का है। उधर, सदर थाना प्रभारी राजेश कुमार ने कहा कि पुलिस ने मामला दर्ज छानबीन शुरू कर दी है। महिला के पति को सूचना देकर बुला लिया है। 
... और पढ़ें

सचिवालय सैनिटाइजर खरीद मामले में अधीक्षक निलंबित

राज्य सचिवालय में तय रेट से महंगे दाम पर सैनिटाइज बेचने के मामले में हिमाचल सरकार ने सचिवालय के अधीक्षक को निलंबित कर दिया है। सचिवालय प्रशासन की विभागीय जांच के बाद कार्रवाई अमल में लाई है। सचिवालय सामान्य प्रशासन सचिव देवेश कुमार ने इसकी पुस्टि की है।  हालांकि, इस मामले में विजिलेंस जांच चल रही है।

लेकिन उससे पहले विभाग की ओर से की गई कार्रवाई में अधीक्षक की संलिप्ता को देखते हुए उसे निलंबित किया गया। उल्लेखनीय है कि सचिवालय में महंगे सैनिटाइजर की बिक्री में विजिलेंस ने  एक सरकारी ठेकेदार के खिलाफ मामला दर्ज किया। जानकारी के मुताबिक 50 रुपए के सैनिटाइजर पर 130 रुपए की मोहर लगाने के लिए आरएंडआई ब्रांच के इस अधिकारी ने सरकारी ठेकेदार पर दबाव बनाया था। अधीक्षक को जब सरकारी ठेकेदार ने 130 रुपए की मुहर लगाने के लिए इंकार कर दिया तो उसने जबरन उसे कंट्रोल रूम में बैठा कर मुहर लगाने दी।

 बीते 18 मई को विजिलेंस ने सचिवालय के मुख्य गेट से सीसीटीवी फुटेज कब्जे में ले लिया था। जिसमे पाया गया कि आरएंडआई का यह अधीक्षक और सरकारी ठेकेदार सरकारी गाड़ी में साथ आते है। उसके बाद सचिवालय प्रशासन को भी शक हुआ और विभगीय कार्रवाई शुरू की। शुक्रवार को अधीक्षक को निलंबित कर दिया है।
... और पढ़ें

शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज की छवि को धूमिल करने के आरोप में चार पर केस दर्ज

राज्य सचिवालय
शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने निजी संस्था के मालिक समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है। आरोप है कि निजी संस्था की ओर से गत दिनों सोशल मीडिया पर मंत्री की भांजी को लेकर एक अफवाह फैलाई थी कि एक शैक्षणिक संस्थान में प्रोफेसर पद पर उनकी भांजी को नियुक्त दिलाई गई। इसके अलावा इस आपत्तिजनक टिप्पणी को फेसबुक पर पोस्ट करने वाले तीन अन्य लोगों पर मामला दर्ज हुआ है। इस घटनाक्रम को लेकर मंत्री के ओएसडी ने राजधानी के थाना सदर में केस दर्ज करवाया है। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है।

  पुलिस को दी शिकायत में आरोपियों पर मंत्री की छवि को धूमिल करने को लेकर साजिश रचने के आरोप लगे हैं। पुलिस के मुताबिक मंत्री के खिलाफ एक निजी संस्था की ओर से सोशल मीडिया पर अफवाह और आपत्तिजनक टिप्पणी अपलोड की गई। वहीं, तीन लोगों ने इस खबर को पोस्ट करते हुए शिक्षामंत्री पर उनकी भांजी को एक केंद्रीय विवि में प्रोफेसर पद पर नियुक्त करने की अफवाह फैलाई गई। डीएसपी दिनेश शर्मा ने बताया कि शिक्षामंत्री के खिलाफ सोशल मीडिया पर झूटी अफवाह को लेकर आईटी एक्ट के तहत चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। सदर पुलिस मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें

कांगड़ा: ठेके से नकदी समेत 50 पेटी शराब चोरी

हिमाचल के कांगड़ा जिले के विकास खंड नगरोटा सूरियां की पंचायत वासा (गलुआ) पंचायत में देर रात को शराब ठेके में चोरी होने का मामला सामने आया है। ठेका प्रभारी होशियार सिंह ने बताया कि सेल्समैन ने सुबह साढे़ छह बजे चोरी की सूचना दी। ठेके से 12 हजार रुपये की नकदी के साथ देसी शराब की 36 पेटियां और अंग्रेजी की 14 पेटियां चोरी हुई हैं। 

बताया जा रहा है कि लॉकडाउन के चलते सेल्समैन रोजाना दो बजे ठेका बंद करके दोपहर को अपने घर चला जाता था। गुरुवार सुबह वह जैसे ही ठेके पर पहुंचा तो दुकान की कुंडी को काटकर शराब की पेटियां गायब थी। ठेके से कुछ दूरी पर दो देसी शराब की पेटियां पड़ी थी, उनमें से दो बोतलें टूट चुकी थी और बाकी बोतलें सड़क के किनारे पड़ी थी। सूचना मिलते ही चौकी प्रभारी रणजीत सिंह परमार टीम के साथ मौके पर पहुंचे।

उधर, थाना जवाली को सूचना मिलते ही डीएसपी ओंकार सिंह भी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और छानबीन शुरू कर साक्ष्य जुटाए। उन्होंने बताया बताया कि यह ठेका पहली तारीख से दूसरे ठेकेदार को आवंटित हो चुका है। पुलिस इस स्थिति में हर पहलू की गहनता से जांच कर रही और मामला संदेहास्पद भी लग रहा है। जांच के बाद ही सच्चाई सामने आएगी। शुक्रवार पूरा दिन क्षेत्र में चोरी की यह घटना चर्चाओं में बनी रही।
... और पढ़ें

पूर्व निदेशक पुलिस रिमांड पर, अब कॉल रिकॉर्ड करने वाले के सामने होगी पूछताछ

 घूस लेने के कथित ऑडियो के वायरल होने के बाद विजिलेंस के हत्थे चढ़े पूर्व स्वास्थ्य निदेशक डॉक्टर एके गुप्ता को मंगलवार को शिमला की विशेष जज वन की अदालत ने पांच दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। इसके साथ ही गुप्ता की जमानत याचिका पर सुनवाई के लिए 28 मई की तारीख तय कर दी है। पुलिस रिमांड पर भेजे जाने से पहले तक गुप्ता 21 मई को गिरफ्तार होने के बाद न्यायिक हिरासत में थे और तबीयत खराब होने की वजह से आईजीएमसी में भर्ती चल रहे थेे। सोमवार को ही अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद उन्हें कैथू जेल भेज दिया गया था। मंगलवार को उन्हें कोर्ट में पेश किया गया जहां विजिलेंस से जांच में शामिल करने के लिए पुलिस रिमांड मांगी। जिसपर कोर्ट ने पांच दिन की पुलिस रिमांड दे दी।

सूत्रों कहना है कि अब विजिलेंस गुप्ता और रिकार्डिंग करने वाले शख्स का आमना सामना कराकर दोनों से फिर से पूछताछ करेगी। इस दौरान उन्हीं सवालों को दोहराया जाएगा जिन्हें अकेले में दोनों से पूछा जा चुका है। इसके अलावा दोनों के आवाज के सैंपल भी लिए जाएंगे ताकि उन्हें रिकार्डिंग की आवाज से मिला कर सबूत के तौर पर तैयार किया जाए। इसके अलावा गुप्ता की ओर से आईजीएमसी में भर्ती एक मरीज के फोन से की गई कॉल और कथित रूप से सोलन के एक वरिष्ठ नेता की ओर से किए गए संपर्क को लेकर भी पूछताछ होगी। 
फोन पर हुई बातचीत रिकॉर्ड करने के आरोपी युवक से सोमवार को फिर पूछताछ की गई थी और इस दौरान उसके उस मोबाइल फोन कोे सीज कर फोरेंसिक लैब जुंगा भेज दिया गया था जिसमें बातचीत रिकॉर्ड किए जाने की संभावना थी।
... और पढ़ें

रोहडू में युवक की पीट-पीटकर हत्या, एक आरोपी गिरफ्तार

शिमला जिले के उपमंडल रोहड़ू के तहत छुपाड़ी में युवकों ने मारपीट के दौरान एक युवक की हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि युवकों में किसी बात को लेकर पहले नोकझोंक हुई, जो मारपीट में बदल गई। इस दौरान एक युवक को इतना घायल हो गया कि उसने अस्पताल में दम तोड़ दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि दूसरे गंभीर घायल को आईजीएमसी रेफर किया गया है। पुलिस के मुताबिक गुरुवार सुबह तीन युवक छुपाड़ी गांव के समीप देवगढ़ में आपस में झगड़ रहे थे।

प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार झगडे़ के दौरान पिकअप में सवार होकर दो युवक मौके से फरार हो गए, जबकि एक युवक घायल अवस्था में सड़क पर तड़पता रहा। गंभीर अवस्था में युवक को लोगों ने सिविल अस्पताल रोहडू पहुंचाया लेकिन, युवक की अस्पताल में लाने के कुछ देर बाद ही मौत हो गई। मृतक युवक की पहचान छुपाड़ी गांव निवासी पवन कुमार (34) के रूप में हुई है। घटना की सूचना मिलने पर डीएसपी रोहडू सुनील नेगी और एसएचओ पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। इसके बाद पुलिस ने घटना स्थल के साथ लगते क्षेत्रों और संभावित सड़कों की नाकेबंदी कर दी और आरोपियों की तलाश में जुट गई।

कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने मौके से फरार छुपाड़ी निवासी दोनों युवकों मनोज और नरेंद्र को झड़ाशली गांव में पकड़ लिया। पकडे़ गए एक युवक नरेंद्र को भी गंभीर चोटें आई हैं, जिसे सिविल अस्पताल रोहड़ू से प्राथमिक उपचार के बाद आईजीएमसी शिमला रेफर कर दिया गया।   आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 302, 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है। युवक की हत्या के आरोप में पुलिस ने नरेंद्र और मनोज को आरोपी बनाया गया है। वहीं, पुलिस ने मनोज कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। डीएसपी सुनील नेगी ने मामले की पुष्टि की है। 
... और पढ़ें

नालागढ़ में डंडे और दराती से वार कर ननद ने कर दी भाभी की हत्या

पुराना विवाद इतना बढ़ गया कि पारिवारिक नोक-झोंक एक महिला की मौत का कारण बन गई। मायके में रह रही ननद ने रविवार सुबह भाभी से हुए विवाद के बाद उसकी डंडे व हाथ में पकड़ी दराती से वार कर हत्या कर दी। दोनों महिलाएं विधवा हैं। परिवारों में आपस में पुराना विवाद है। अकसर इनके बीच नोक-झोंक होती रहती है। रविवार सुबह विवाद इतना बढ़ा कि ननद ने भाभी की हत्या कर दी।

पुलिस के अनुसार रामशहर थाना के तहत नंड पंचायत के कटली गांव में यह घटना हुई। सूचना मिलते ही रामशहर थाना प्रभारी रूप कठानिया की अगुवाई में टीम मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लिया। प्रारंभिक जांच में पाया गया कि हमलावर महिला जमना देवी (45) पत्नी स्व. ध्यान सिंह निवासी पंजैहरा तहसील नालागढ़ अपने मायके में ही रहती है।
... और पढ़ें

बीमार मां के बहाने बिजनौर से सवारियां लेकर सोलन पहुंचा टैक्सी चालक, केस दर्ज

मां की बीमारी का बहाना बनाकर उत्तर प्रदेश के बिजनौर से सवारियां ढोने वाले चालक समेत तीन लोगों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है। चालक ने अपना आधार कार्ड लगाकर कर्फ्यू पास के लिए आवेदन किया था। इसमें बिजनौर में बीमार मां को देखने जाने का जिक्र था, लेकिन चालक वहां से टैक्सी में एक महिला, उसके भाई व बेटे को लेकर सोलन पहुंच गया। तीनों की जानकारी प्रशासन को नहीं दी गई और सभी अपने फ्लैट में चल गए। नगर परिषद की टीम ने फ्लैट के बाहर होम क्वारंटीन का बोर्ड भी लगा दिया।

इसके बाद मुख्य आरक्षी मनोहर लाल टीम के साथ होम क्वारंटीन लोगों को जांचने पहुंचे तो उन्हें इस बात की जानकारी मिली। फ्लैट मालिक सलीम निवासी आकाश कांप्लेक्स वार्ड नंबर 9 ने बताया कि उसने अपनी पत्नी समरीन बच्चे पुकेज तथा साले रिजवान को नजीबाबाद जिला बिजनौर उत्तर प्रदेश से सोलन लाने के लिए पंकज मेहता निवासी कायलर की टैक्सी बुक की थी। टैक्सी मालिक ने चालक को नजीबाबाद से इसकी पत्नी साले व बेटे को लाने के लिए सोलन से भेजा। चालक इंद्रजीत 20 मई को उसके परिवार को लेकर सोलन पहुंच गया था।

20 मई को ही नगर परिषद ने इसके फ्लैट के बाहर होम क्वारंटीन का बोर्ड लगा दिया। इसके बाद पुलिस ने जब कर्फ्यू पास की जांच की तो पास में आवेदक इंद्रजीत का आधार नंबर व गाड़ी का नंबर अंकित था। सोलन से यह पास रिजवान व समरीन के साथ सोलन से नजीबाबाद जिला बिजनौर जाने के लिए बनाया गया था। उपरोक्त कर्फ्यू पास में इंद्रजीत ने सोलन से बिजनौर जाने का कारण मां के बीमार होने की बात कही है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिव कुमार शर्मा ने बताया कि भादंसं की धारा 420, 188, 269 व 34 आईपीसी मुख्य के तहत रिजवान, समरीन तथा इंद्रजीत के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन