बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
इस दिन होगा शनि का राशि परिवर्तन, इन राशियों से हटेगी शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या
Myjyotish

इस दिन होगा शनि का राशि परिवर्तन, इन राशियों से हटेगी शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

कुल्लू: हनीट्रैप मामले में दोनों जेल कर्मी निलंबित

बहुचर्चित हनीट्रैप मामले में गैंग से सांठगांठ होने के चलते पकड़े गए कुल्लू उपजेल में तैनात दोनों कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। मामले में जेल कर्मियों के निलंबित किए जाने के बाद हड़कंप मच गया है। दोनों ही आरोपियों को पुलिस रिमांड पर लिया गया था। इस दौरान प्रारंभिक जांच में दोनों हनीट्रैप गैंग के साथ संलिप्त पाए गए हैं।  जिसके बाद एसडीएम ने प्राथमिक तौर पर उन्हें निलंबित कर दिया है।

दोनों के खिलाफ अब विभागीय जांच की तैयारी है। बकायदा एसडीएम ने दोनों आरोपियों के खिलाफ विभागीय जांच के भी आदेश जारी किए हैं। गौर रहे कि 30 मई 2021 को  हनीट्रैप गैंग के साथ दोनों जेल कर्मियों निशांत शर्मा 25 निवासी देहरा तथा सचिन 26  देहरा जिला कांगड़ा मुख्य आरोपी महिला के घर में पाए गए थे। आरोपियों ने इस दौरान शराब भी पी रखी थी। वहीं दूसरी ओर एक आरोपी सिंकदर उर्फ सुरेंद्र को 14 दिन की न्यायिक हिरासत मिली है।

 बताया जा रहा है कि हनीट्रैप गैंग सक्रिय होने के बाद एक बार फिर लोगों में डर का माहौल है।  कुल्लू जेल के अधीक्षक का कार्यभार देख रहे एसडीएम सदर डॉ. अमित गुलेरिया ने कहा कि जेल पुलिस के दोनों कर्मियों को निलंबित किया गया है। दोनों के खिलाफ विभागीय जांच के निर्देश दिए गए हैं। वहीं पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह ने कहा कि एक आरोपी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत पर भेजा गया है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। इस तरह की गतिविधियां चलाने वालों के खिलाफ पुलिस कड़ी कार्रवाई करेगी। 
... और पढ़ें

नालागढ़ गोलीकांड के आठ आरोपी गिरफ्तार, कट्टे और तलवारें बरामद

हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले के नालागढ़ के खेड़ा गांव में बीते 24 मई को हुए गोलीकांड में पुलिस ने आठ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने इनके कब्जे से दो देसी कट्टे, पांच रौंद, तलवारें, गंडासे व लोहे के पाइप, एक स्कारपियो गाड़ी व दो अन्य गाड़ियों को कब्जे में लिया है। अभी इस मामले में और आरोपियों के पकड़े जाने की उम्मीद है, जिनकी तलाश में बद्दी पुलिस उनके ठिकानों पर दबिश दे रही है। 

24 मई को दोपहर बाद खेड़ा गांव में हुए गोलीकांड में बेरछा पंचायत के खनवा गांव के सिमरन उर्फ सीमू की गोली लगने से मौत हो गई थी जबकि चार अन्य लोग गोली लगने से घायल हो गए थे। एसपी रोहित मालपानी ने बताया कि कुछ आरोपी पहले भी अन्य वारदातों में शामिल रह चुके हैं। कुछ की मादक पदार्थों के व्यापार में संलिप्तता पाई गई है। सभी आरोपियों की 29 मई को सोलन में टेस्ट आइडेंटिफिकेशन परेड कराई गई है। इस मामले में और भी आरोपी पकड़े जाने हैं, जिन्हें जल्द ही पुलिस दबोच लेगी। 

इन आरोपियों को किया गिरफ्तार
नैना देवी तहसील के हतरीपुर गांव का 25 वर्षीय विजय कुमार, पंजाब के रोपड़ जिले के नूरपुर बेदी के बालेवाल गांव का 26 वर्षीय देेविंद्र कुमार, ऊना जिले के लाल सिंगी गांव का प्रदीप, रोपड़ के घनौली गांव का गुरदीप सिंह, नालागढ़ के ढाणा गांव का 23 वर्षीय राधेश्याम, पंजाब के आनंदपुर साहिब के लखेड़ गांव का 23 वर्षीय महेंद्र पाल, रोपड़ जिले के माजरी गांव का 22 वर्षीय परविंद्र सिंह, नालागढ़ के पंजेहरा गांव का 30 वर्षीय गुरध्यान सिंह।
... और पढ़ें

हनीट्रैप मामला: दो दिन की रिमांड पर भेजे जेल विभाग के दोनों कर्मचारी

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में बहुचर्चित हनी ट्रैप मामले की आरोपी रही महिला उसके दो साथी और दो जेल विभाग के कर्मचारियों को कोर्ट में पेश किया। जहां दोनों कर्मचारियों दो दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा गया है। जबकि मामले में जमानत पर रिहा हुई महिला सहित दो महिलाओं को कोर्ट ने 12 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा है। इसके अलावा आरोपी सिकंदर को भी पुलिस रिमांड पर रखा गया है। 

  पुलिस अधीक्षक कुल्लू गौरव सिंह ने कहा कि दोहरानाला में लोगों के घर में मारपीट करने और चोरी करने के आरोप में कुल पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया था। इसमें जेल विभाग के दो कर्मचारियों का शामिल होना हैरान करने वाला है। लोग सवाल उठा रहे हैं कि हनीट्रैप केस की सरगना रही महिला के साथ जेल विभाग के कर्मी क्या कर रहे थे। अब पुलिस दोनों से पूरे प्रकरण को लेकर पूछताछ कर रही है। दोनों कर्मचारियों की विभागीय जांच करवाने और उनको सस्पेंड करने के लिए कुल्लू जेल के अधीक्षक का कार्यभार देख रहे एसडीएम कुल्लू डॉ. अमित गुलेरिया ने संबंधित विभाग को अवगत करवा दिया है। 
... और पढ़ें

नाबालिग छात्रा निकली शिशु को गोबर में फेंकने वाली, जीजा के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज

हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के उपमंडल शिलाई की शंखोली पंचायत में नवजात शिशु को गोबर के ढेर में फेंकने की गुत्थी पुलिस ने 24 घंटों के भीतर सुलझा ली है। पुलिस जांच में खुलासा हुआ है कि नवजात को फेंकने वाली लड़की नाबालिग है। वह 12वीं कक्षा की छात्रा है। पुलिस पूछताछ में लड़की ने अपने ही जीजा पर दुष्कर्म के आरोप लगाए हैं। इसके बाद पुलिस ने जीता पर दुष्कर्म और पोस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। नाबालिग के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है। 
 
नवजात शिशु को जन्म देने वाली नाबालिग 12वीं कक्षा की छात्रा है। उसने लोकलाज के भय से जन्म के तुरंत बाद नवजात शिशु को गोबर के ढेर में फेंककर इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना को अंजाम दिया। लड़की ने अपने बयान में बताया है कि उसके जीजा ने उसके साथ दुष्कर्म किया था। इसके बाद वह गर्भवती हो गई। फिलहाल, नवजात बच्ची नाहन मेडिकल कॉलेज में चिकित्सकों की देखरेख में स्वास्थ्य लाभ ले रही है।

उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है। मेडिकल सुपरिंटेंडेंट की अध्यक्षता में बैठाए गए मेडिकल बोर्ड में बच्ची की सेहत की जांच चल रही है। इसके बाद नवजात को आगामी देखरेख और पालन पोषण के लिए सिरमौर जिले की बाल कल्याण समिति के सुपुर्द किया जा सकता है। उधर, पांवटा साहिब के डीएसपी बीर बहादुर ने बताया कि नवजात को जन्म के बाद लावारिस छोड़ने पर लड़की के खिलाफ आईपीसी की धारा 317 और आरोपी जीजा के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 व पोक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है।
... और पढ़ें
एफआईआर(सांकेतिक) एफआईआर(सांकेतिक)

स्वारघाट और कुमारसैन में 16 किलो चरस के साथ तीन आरोपी दबोचे

चरस माफिया के खिलाफ पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। रामपुर के कुमारसैन और बिलासपुर के स्वारघाट में पुलिस ने 16 किलो चरस के साथ तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। स्वारघाट में एनसीबी चंडीगढ़ की टीम ने बुधवार सुबह जीप से 8 किलो और 400 ग्राम चरस के साथ दो युवकों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने चरस की खेप को पिकअप जीप के पीछे रखे सब्जी के खाली क्रेट के नीचे रखा था।

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) चंडीगढ़ की टीम ने स्वारघाट पुलिस के साथ स्वारघाट बस अड्डा चौक पर नाका लगाया था। इसी दौरान कुल्लू की तरफ से आ रही जीप को तलाशी के लिए रोका गया। जांच में चरस की खेप मिली। खाली क्रेट के नीचे से 8 किलो 400 ग्राम चरस बरामद की गई है। पूछताछ करने पर आरोपियों ने बताया कि पकड़ी गई चरस की खेप को दंदोड़ी जोत कुल्लू से लाया गया था। 

आरोपियों की पहचान गोपाल कृष्ण (20) पुत्र सुखदेव निवासी गांव चतरोड़ तहसील और थाना बल्ह जिला मंडी और संजय कुमार (40) पुत्र जय चंद गांव और डाकघर बंजार जिला कुल्लू के रूप में हुई है। पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया है कि एनसीबी चंडीगढ़ की टीम ने दो आरोपियों से जीप में ं8 किलो 400 ग्राम चरस बरामद की है। दोनों आरोपियों को एनसीबी टीम साथ लेकर गई है।

इधर, कुमारसैन पुलिस ने चरस की खेप के साथ युवक को दबोचा है। युवक से पुलिस ने 8 किलो 32 ग्राम चरस बरामद की है। आरोपी हरियाणा के करनाल जिले का रहने वाला है। युवक सरहान से पठानकोट जा रही निजी बस में चरस ले जा रहा था। पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस थाना कुमारसैन से मिली जानकारी के मुताबिक मंगलवार शाम को पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि तीन लोग एक निजी बस में चरस की खेप लेकर जा रहे हैं।

सूचना मिलते ही पुलिस ने जोगशा के पास नाका लगाया और तलाशी के लिए बस को रोका। पुलिस ने निजी बस में रखे एक थैले से 8 किलो 32 ग्राम चरस बरामद की। पुलिस ने गुरजंत सिंह, पुत्र सुखदेव सिंह, गांव समाना बाहू, तहसील और पुलिस स्टेशन निलोखेरी, जिला करनाल, हरियाणा के बैग से बरामद की। डीएसपी रामपुर चंद्रशेखर कायथ ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि युवक को चरस के साथ दबोचा है। पुलिस मामला दर्ज कर छानबीन में जुट गई है। आरोपी से पूछताछ की जा रही है। 
... और पढ़ें

कांगड़ा: इकलौते बेटे ने कुल्हाड़ी से वार कर डाली पिता की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में पुलिस थाना शाहपुर के तहत मछियाल में इकलौते बेटे ने कुल्हाड़ी से वार कर अपने पिता को मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि पिता-पुत्र में यह विवाद पैसों को लेकर हुआ था। आरोपी की पहचान सुनील कुमार (45) निवासी मछियाल के रूप में हुई है।  जानकारी के मुताबिक आरोपी सुनील कुमार की अपने पिता के साथ बहस हुई थी, जो इतनी बढ़ गई कि बेटे ने तैश में आकर अपने ही पिता कुशाल सिंह की कुल्हाड़ी से हमला कर हत्या कर दी। वारदात की सूचना मिलने पर परिवार के अन्य लोगों ने घायल को सिविल अस्पताल शाहपुर में दाखिल करवाया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

थाना शाहपुर ने आरोपी सुनील कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। एसएचओ त्रिलोचन सिंह ने बताया कि परिवार से भी पूछताछ की जाएगी। वहीं बीएमओ सिविल अस्पताल शाहपुर हरिंद्र ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए धर्मशाला भेज दिया है। कुशाल सिंह पूर्व सैनिक थे। उनकी दो बेटियां भी हैं, जिनकी शादी हो चुकी है। वहीं दूसरी ओर हत्या का आरोपी सुनील कुमार भी शादीशुदा है। आरोपी कोई कामधंधा नहीं करता था। बताया जा रहा है कि आरोपी नशे का आदी था और पैसों के लिए हर रोज परिवार के साथ झगड़ा करता था। बहरहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

चंबा में पकड़ी पक्षियों की छह कलगियां, चार गिरफ्तार

सरकार की ओर से प्रतिबंध के बावजूद पहाड़ी टोपियों पर कलगी लगाने के लिए प्रदेश में पक्षियों के शिकार का सिलसिला जारी है। खासकर मोर और राज्य पक्षी रहा मोनाल शिकारियों के निशाने पर हैं। ताजा मामला चंबा का है। यहां चंबा-पठानकोट मार्ग पर लाहडू़ बैरियर पर पुलिस ने एक कार में वन्य पक्षियों की छह कलगियां बरामद की हैं। इस मामले में एक महिला समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। चारों के खिलाफ वन्य प्राणी सुरक्षा अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया है। 

ये कलगियां देखने में मोर और मोनाल की तरह हैं। वन मंडलाधिकारी डलहौजी कमल भारती ने बताया कि कलगियों को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है। डीएसपी डलहौजी विशाल वर्मा ने बताया कि लाहड़ू बैरियर पर नाका लगाया हुआ था। जब ये चारों कार लेकर लाहडू़ पहुंचे तो इन्हें चेकिंग के लिए रोका गया। पुलिस को देख चारों के चेहरों पर डर छा गया। इससे पुलिस टीम को शक हुआ और कार की तलाशी ली।

तलाशी के दौरान वन्य पक्षियों की छह कलगियां बरामद की गईं। आरोपियों की पहचान अनिल कुमार निवासी सलूणी, हंसराज निवासी सलूणी, हंसराज निवासी किहार के रूप में हुई है। महिला कुल्लू के मलाणा की रहने वाली है। पुलिस ने उसकी पहचान को सार्वजनिक नहीं किया है। 
... और पढ़ें

मुंबई के युवक से पकड़ी एक किलो 259 ग्राम चरस

बरामद की गई कलगियां।
कोरोना कर्फ्यू की आड़ में नशे की तस्करी को अंजाम दिया जा रहा है। कुल्लू पुलिस ने भुंतर के साथ लगते सिउंड मोड़ पर मुंबई के एक युवक को एक किलो 259 ग्राम चरस के साथ पकड़ा है। आरोपी टैक्सी में सवार होकर नशे को मुंबई लेकर जाने की फिराक में था। इससे पहले ही कुल्लू पुलिस ने उसे दबोच लिया। आरोपी के खिलाफ पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने गुरुवार रात पौने एक बजे भुंतर के समीप सिउंड मोड़ पर नाका लगाया था। इस दौरान पुलिस ने सामने से आ रही एक टैक्सी को रोका। इसमें सवार महाराष्ट्र के युवक से पुलिस ने पूछताछ की।

तलाशी के दौरान आरोपी मोहम्मद अली 20, निवासी गुरदर्शन सोसाइटी, अंधेरी बेस्ट, मुंबई के कब्जे से एक किलो 259 ग्राम चरस बरामद हुई। पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह ने कहा कि आरोपी से पूछताछ चल रही है। आरोपी को कोर्ट में पेश किया जाएगा। 
... और पढ़ें

ऊना: चिट्टे के साथ पकड़े आरोपी के घर से पौने पांच किलो चरस बरामद

हिमाचल प्रदेश के ऊना में चिट्टे के साथ पकड़े आरोपी के घर से पुलिस ने चरस की बड़ी खेप बरामद की है। पुलिस ने घर से पौने पांच किलो चरस, 1.70 लाख रुपये व सोना-चांदी बरामद किया है। पुलिस मामले में छानबीन कर रही है। जानकारी के अनुसार पुलिस ने सोमवार को नंगल जरियाला में चिट्टे के साथ दो आरोपी गिरफ्तार किए थे। इनके पास से 5.64 ग्राम चिट्टा बरामद किया था। पुलिस ने जब गहनता से पूछताछ की तो मुख्य आरोपी के कुठैड़ा खैरला स्थित घर से मंगलवार सुबह नशे की खेप पकड़ी गई। जिसमें 4.846 किलोग्राम चरस, 1.70 लाख रुपये, 86 ग्राम सोना व 105 ग्राम चांदी बरामद की है।

नशे की बड़ी खेप से इस बात की पुष्टि हो रही है कि यह अपने क्षेत्र में नशे का बड़ा रैकेट चलाता है और आसपास के क्षेत्रों में भी नशे की सप्लाई का कार्य कर रहा है। पुलिस अभी इस मामले की जांच में जुटी है। इस मामले में अभी और गिरफ्तारियां हो सकती हैं। बता दें कि सोमवार को पुलिस को देखकर बाइक सवार दोनों आरोपी भागने की फिराक में थे, लेकिन पुलिस ने दोनों को दबोच लिया और आरोपी अरविंद राणा के घर दबिश देकर खेप बरामद की। डीएसपी अंब सृष्टि पांडे ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि आरोपी से पूछताछ की जा रही है। 
... और पढ़ें

बद्दी: नियमों के उल्लंघन में दवा कंपनी पर केस, बंद कराया उत्पादन

हिमाचल प्रदेश बद्दी पुलिस ने लाइसेंस के नियमों का उल्लंघन करने पर बद्दी की दवा कंपनी  के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। ड्रग विभाग ने कंपनी को कारण बताओ नोटिस जारी कर कंपनी की दवाइयों को फ्रीज कर दिया है। दवा उत्पादन भी बंद करवा दिया है। सात दिन के भीतर कंपनी से जवाब तलब किया गया है।

ड्रग विभाग ने दवा कंपनियों में जांच के लिए कमेटियों का गठन किया है। सहायक ड्रग कंट्रोलर मनीष कपूर के नेतृत्व में ड्रग इंस्पेक्टर अनूप कुमार, लवली ठाकुर, नरेंद्र ठाकुर, डॉ. कुशल व प्रोमिला ठाकुर ने बद्दी स्थित मेगनाटेक कंपनी में दबिश दी। यहां पर ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट के तहत तैयार हो रही डिप्रेशन की दवाई एटीजोलम का रिकॉर्ड जब मांगा तो कंपनी संचालक दिखाने में आनाकानी करने लगे। बद्दी पुलिस भी ड्रग विभाग की टीम के साथ मौके पर उपस्थित थी। 

ड्रग कंट्रोलर नवनीत मरवाह ने बताया कि विभाग ने कंपनी को कारण बताओ नोटिस जारी कर सात दिन के भीतर जवाब मांगा है। डीएसपी नवदीप सिंह ने बताया कि पुलिस ने कंपनी प्रबंधन के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट की धारा  22, 25, 26 व 29 तथा आईपीसी की धारा 420 व 120 की तहत मामला दर्ज कर लिया है। उन्होंने बताया कि यह अभियोग ड्रग विभाग की स्पॉट इंस्पेक्शन रिपोर्ट के आधार दर्ज किया गया है, जिसे ड्रग्स विभाग ने एनडीपीएस अधिनियम के तहत कानूनी कार्रवाई करने के लिए भेजा गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें

अवैध खनन पर हाईकोर्ट में याचिका डाली तो माफिया ने तान दी पिस्तौल

हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले के निकटवर्ती गांव नंगड़ा में अवैध खनन को लेकर हाईकोर्ट याचिका डालने वाले व्यक्ति को खनन माफिया के कुछ लोगों की ओर से धमकाने का मामला सामने आया है। याचिकाकर्ता का आरोप है कि पिस्तौल दिखाकर उसे धमकाया गया। याचिका वापस लेने का भी दबाव बनाया जा रहा है। घटना बीते माह की बताई जा रही है। याचिकाकर्ता की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

जानकारी के अनुसार नंगड़ा में माफिया की ओर से अवैध खनन करने को लेकर स्थानीय निवासी राज शर्मा ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है। मामला उच्च न्यायालय में पहुंचने के बाद विभाग ने पांच खनन लीज को सस्पेंड कर दिया है। अवैध खनन का मामला एनजीटी में भी उठाया गया है। इससे बौखलाए खनन माफिया ने याचिकाकर्ता को धमकाया है। राज शर्मा ने कहा कि माफिया के कुछ लोगों ने उन्हें पिस्तौल तानकर धमकाया है।

उन्हें तथा परिजनों को मारने की धमकी दी है। राज शर्मा लगभग 2 वर्षों से क्षेत्र में अवैध खनन को लेकर आवाज उठा रहे हैं। स्थानीय स्तर पर सुनवाई न होने पर उन्होंने हाईकोर्ट का रुख किया है। अब धमकियों से तंग आकर राज शर्मा ने एसपी ऊना को लिखित शिकायत देकर खनन माफिया के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग उठाई है। उधर, पुलिस ने याचिकाकर्ता के बयान भी कलमबद्ध किए हैं। वहीं, डीएसपी ऊना रमाकांत ने बताया कि याचिकाकर्ता की शिकायत पर आईपीसी की धारा 506, 34 के तहत मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई है।
... और पढ़ें

बरोटीवाला में चार साल के बच्चे की गला घोंटकर हत्या

बरोटीवाला थाने के तहत एक चार वर्षीय बच्चे की गला घोट कर हत्या करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने हत्या के आरोप में उत्तर प्रदेश के बरेली के एक युवक को गिरफ्तार कर लिया है। बच्चे का शव आरोपी के कमरे में बोरी में बंद मिला। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर शव पोस्टमार्टम के लिए आईजीएमसी शिमला भेज दिया है। पीड़ित परिवार और आरोपी दोनों उत्तर प्रदेश के बरेली जिले से हैं और दोनों झुग्गी-झोपड़ी में आपस में थोड़ी दूरी पर ही रहते हैं।

पुलिस के अनुसार यूपी के बरेली जिले के अंबला तहसील की महिला पिछले कुछ वर्षों से बरोटीवाला में मजदूरी का काम कर रही है। उसका चार वर्षीय बच्चा तीन दिन से लापता था। उसने पहले खुद बच्चे की तलाश की, जब नहीं मिला तो उसने बरोटीवाला थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। जिन लोगाें के साथ बच्चे को देखा गया था, पुलिस ने उनसे पूछताछ की। इसके बाद पुलिस ने शक के आधार पर बरेली के ही अंबला तहसील निवासी हुक्म सिंह (24) को हिरासत में लिया।

कड़ी पूछताछ के दौरान उसने बताया कि बच्चे का शव उसके कमरे में है। इस युवक ने अन्य युवकों के साथ बच्चे का गला घोट कर उसे बोरी में बंद कर दिया और अपने ही कमरे में कपड़ों में छिपा दिया। पुलिस को शक है कि बच्चे को मारने से पहले उसके साथ कुछ गलत हुआ है। इसलिए पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए आईजीएमसी शिमला भेज दिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस इस मामले में पोक्सो एक्ट भी लगा सकती है। उधर, डीएसपी नवदीप सिंह ने बताया कि हत्या के आरोप में एक युवक को गिरफ्तार किया है। अन्य आरोपियों को भी जल्द पकड़ा जाएगा। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद इसमें और धाराएं जुड़ सकती हैं।
... और पढ़ें

ग्रामीण बैंक का शटर तोड़कर चोरी का प्रयास, दो आरोपी गिरफ्तार

पुलिस थाना पतलीकूहल के तहत आने वाले दवाड़ा में बुधवार तड़के हिमाचल प्रदेश ग्रामीण बैंक में शातिरों ने शटर तोड़कर चोरी का प्रयास किया। लेकिन वह चोरी करने में सफल नहीं हो सके। शातिर बैंक में चोरी करने के लिए अपने साथ बेल्डिंग मशीन व सरिया लेकर आए थे। लेकिन एक स्थानीय निवासी के शोर मचाने के बाद शातिर मौके से भाग गए। चोरी की इस वारदात को अंजाम देने वाले दोनों शातिरों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सीसीटीवी कैमरे में इन दोनों की हरकत रिकॉर्ड हुई है। 

मिली जानकारी के अनुसार दवाड़ा गांव के बुजुर्ग व्यक्ति हरि सिंह रोजाना की तरह बुधवार सुबह करीब चार बजे भ्रमण के लिए घर से निकले थे। जब वह बैंक के पास पहुंचे तो उन्हें बैंक के अंदर आवाज सुनाई दी। शटर थोड़ा खुला देखा तो उन्हें महसूस हुआ कि कोई व्यक्ति बैंक में चोरी करने की कोशिश कर रहा है। इसके बाद उन्होंने चोर-चोर कह कर शोर मचाया। इसके बाद बैंक के अंदर से दो युवक भागकर बाहर निकल गए। मामले की सूचना पुलिस को दी गई।

पुलिस ने तुरंत नाकाबंदी करवाई और मौके पर पड़ी वेल्डिंग मशीन के मालिक का पता करने के लिए सभी वेल्डिंग दुकानों की छानबीन शुरू की। इस दौरान पुलिस ने पाया कि बैंक के स्ट्रांग रूम का ताला टूटा था। लॉकर को वेल्डिंग मशीन से तोड़ने की कोशिश की गई थी। लेकिन शातिर लॉकर को नहीं तोड़ सके। स्ट्रांग रूम में रखी दो अलमारी के ताले खुले हुए थे। बैंक के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे की तार कटी हुई थी। पानी की टंकी के साथ एक ताला भी काटा हुआ था। इसे काटने के लिए शातिर औजार साथ लाए थे। हालांकि कड़ी मशक्कत के बाद जब लॉकर का ताला खोला गया तो इसमें रखा 10 लाख कैश सुरक्षित पाया गया।

पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह ने कहा कि आरोपी सुंदर सिंह (21) निवासी सोनीपत, हरियाणा, इमरान (21) निवासी बागपत, उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार किया गया है। दोनों हरियाणा के लिए फरार हो चुके थे। उन्हें जिले से बाहर जाने से पहले पुलिस ने पकड़ लिया। आरोपी सुंदर दवाड़ा में पहले कुछ साल से वेल्डिंग दुकान में काम कर चुका था।  कुछ समय पहले यहां आया और उसी दुकान में उस मालिक के साथ दोबारा काम करने लगा। दो दिन पहले उसका दोस्त इमरान भी कुल्लू पहुंचा। रात में बैठकर दोनों ने शराब पीकर बैंक लूटने की योजना बनाई। आरोपियों से कड़ी पूछताछ चल रही है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन