बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
जानें बुध का मिथुन राशि में गोचर किन राशियों को देगा शुभ संकेत
Myjyotish

जानें बुध का मिथुन राशि में गोचर किन राशियों को देगा शुभ संकेत

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

कश्मीर के पंपोर में लश्कर-ए-तैयबा का मददगार गिरफ्तार, इस तरह करता था आतंकियों की मदद

कश्मीर के अवंतीपोरा में सुरक्षाबलों ने लश्कर के एक मददगार को गिरफ्तार किया है। वह पंपोर और ख्रीव इलाकों में आतंकवादियों को आश्रय, रसद और अन्य सहायता प्रदान करने में शामिल था। उसके पास से आपत्तिजनक सामग्री बरामद हुई है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

बता दें कि सुरक्षाबलों को इलाके में आतंकियों के मददगार होने की सूचना मिली थी। इसी सूचना के आधार पर अवंतीपोरा पुलिस, सेना की 50 आरआर(राष्ट्रीय राइफल्स) और सीआरपीएफ की 110वीं बटालियन ने एक ऑपरेशन चलाया। इस दौरान लश्कर-ए-तैयबा के एक आतंकवादी सहयोगी को गिरफ्तार किया।

यह भी पढ़ें-
Jammu Kashmir Pulwama Encounter: आतंकी बने बेटों से परिजनों की गुहार- अभी भी वक्त है घर लौट आ, जानिए फिर क्या हुआ..

गिरफ्तार आतंकी सहयोगी की पहचान जुनैद अल्ताफ निवासी कोनिबल पंपोर के रूप में हुई है। वह सीमा पार बैठे आतंकी कमांडरों के साथ विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से संपर्क में था। संबंधित धाराओं के तहत पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पूछताछ जारी है।

यह भी पढ़ें- Jammu Kashmir 2021 की पहली मुठभेड़ः सुरक्षाबलों ने कहा- समर्पण कर दो, पर आतंकियों ने फेंके ग्रेनेड, फिर...    
 
... और पढ़ें

कश्मीर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, हथियारों समेत जैश-ए मोहम्मद का एक आतंकी गिरफ्तार

जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा में सुरक्षाबलों ने जैश के एक आतंकी को गिरफ्तार किया है। उसके पास से हथियार व गोला-बारूद बरामद हुआ है। पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया है। गिरफ्तार किए गए आतंकी से पूछताछ जारी है।

बता दें कि सोपोर से बांदीपोरा के बीच आतंकियों की मौजूदगी की सूचना पर बांदीपोरा पुलिस और सुरक्षाबलों द्वारा एक संयुक्त नाका लगाया गया था। इस दौरान इम्तियाज अहमद खान पुत्र फैयाज अहमद खान निवासी पंजिगम बांदीपोरा को पकड़ने में सफलता मिली।

वह हाल ही में आतंकी संगठन जैश-ए मोहम्मद में शामिल हुआ था। उसके पास से एक पिस्टल, एक मैगजीन, दस कारतूस और पांच ग्रेनेड बरामद हुए हैं। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पकड़े गए आतंकी से पूछताछ की जा रही है।

यह भी पढ़ेंः
रहस्यों से भरी 'जन्नत' में जमीन के अंदर है मंदिर, बेहद खूबसूरत हैं कश्मीर के ये स्थान  

गिरफ्तार आतंकी को सोपोर और बांदीपोरा टाउन में आतंकी हमलों को अंजाम देने का काम दिया गया था। इससे पहले 26 जनवरी को उक्त आतंकवादी अंधेरे का फायदा उठाते हुए तलाशी अभियान के दौरान मौके से भागने में सफल रहा था। 

यह भी पढ़ें- Weather Today: कश्मीर में ठंड का प्रकोप जारी, भीषण बर्फबारी ने पर्यटकों को किया आकर्षित, देखिए तस्वीरें

 
... और पढ़ें

जम्मू-कश्मीर के पुंछ में मिला आतंकी ठिकाना, भारी मात्रा में हथियार-गोला बारूद बरामद

पुंछ जिले में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। तलाशी अभियान के दौरान हाडीगुडा गांव में एक आतंकी ठिकाना मिला है। जिसे नष्ट कर भारी मात्रा में हथियार व गोला-बारूद बरामद किया गया है। तलाशी अभियान अभी जारी है।

यह भी पढ़ेंः 
पाकिस्तान की 'भूमिगत साजिश', छह महीने में चौथी और अबतक 10वीं नापाक हरकत, देखिए तस्वीरें

खुफिया सूचना के आधार पर शनिवार को बीएसएफ, सेना और पुलिस की संयुक्त टीम ने इलाके में तलाशी अभियान शुरू किया था। इस दौरान जंगल में बनाया गया एक आतंकी ठिकाना मिला। जहां से सुरक्षाबलों द्वारा एक एके-47 राइफल,  एके-47 राइफल की तीन मैगजीन, 82 कारतूस, चीन निर्मित तीन पिस्टल, पिस्टल की पांच मैगजीन, 33 कारतूस, चार ग्रेनेड, एक यूजीबीएल के साथ ही अन्य आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई है। सुरक्षाबलों की संयुक्त टीम द्वारा शुरू किया गया तलाशी अभियान अभी भी जारी है।

यह भी पढ़ेंः जम्मू-कश्मीर में मिली एक और सुरंग, हीरानगर सेक्टर के पानसर में पाकिस्तान की नापाक हरकत 
... और पढ़ें

नोएडा की इस कंपनी ने लालच देकर जम्मू के लोगों से 37 लाख ठगे, क्राइम ब्रांच ने दर्ज किया केस

क्राइम ब्रांच जम्मू ने नोएडा की एक कंपनी के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। निवेशकों को लुभाने और धोखाधड़ी के आरोप में नोएडा स्थित गर्वित इनोवेटिव प्रमोटर लिमिटेड (बाइक बोट) कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की है।

आरोप है कि कंपनी ने लोगों से कहा कि वह बाइक के कारोबार में पैैसा लगाएं, उन्हें अच्छा लाभ मिलेगा। क्राइम ब्रांच ने कंपनी के हेड संजय भट्टी और अन्य निदेशकों के खिलाफ केस दर्ज कर मामले में आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

क्राइम ब्रांच जम्मू में सुरेश कुमार भट्ट एस द्वारा लिखित शिकायत दी गई। उनकी पत्नी चेतना भट्ट ने भी शिकायत की। आरोप लगाया कि उन्होंने अन्य निवेशकों के साथ मिलकर कंपनी में पैसे लगाए। उन्हें कहा गया कि उनके नाम पर बाइक रेंट और लोन पर दी गई है। जिसके लिए उन्हें हर महीने ईएमआई आएगी। इस तरह से दोनों ने मिलकर दस बाइक पर पैसा लगाया। इसके बाद 51 और बाइक पर करीब 37 लाख रुपये लगाए गए। कुछ देर के लिए तो पैसे वापस किए गए, लेकिन बाद में पैसा नहीं दिया गया।

ये भी पढ़ें-
एक था इम्तियाज: जिसे सौंपी गई थी अमरनाथ यात्रा को निशाना बनाने की जिम्मेदारी, अब सोया मौत की नींद 

कंपनी ने आश्वासन दिया कि मामले को सुलझा लिया जाएगा। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। शिकायत मिलने पर मामले की जांच शुरू की गई। आरोपियों ने शिकायतकर्ता और अन्य लोगों को अच्छे रिटर्न की आकर्षक योजनाओं के साथ पैसा लगाने के लिए प्रेरित किया, लेकिन अपने वादे को पूरा नहीं किया।

ये भी पढ़ें- एक बार फिर आतंकियों ने लिया मस्जिद का सहारा, जानिए कब-कब धर्मस्थलों में घुसे दहशतगर्द    
... और पढ़ें
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

श्रीनगरः बदामबाड़ी तोड़फोड़ मामले में पुलिस की कार्रवाई, करीब 20 शरारती तत्व गिरफ्तार

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने गुरुवार को श्रीनगर में बदामबाड़ी पार्क में 28 मार्च को एक म्यूजिकल इवेंट के दौरान तोड़फोड़ मामले में करीब 20 युवाओं को गिरफ्तार किया है। एक अधिकारी ने बताया कि पर्यटन विभाग की ओर से एक म्यूजिकल इवेंट का आयोजन किया गया था। इस दौरान काफी संख्या में लोग एकत्रित हुए थे। इस दौरान एक दर्शक की गाने की फरमाइश पूरी न किए जाने के बाद कुछ शरारती तत्वों ने स्टेज पर चढ़कर तोड़फोड़ की और हंगामा शुरू किया जो बाद में काफी बढ़ गया।

अधिकारी ने बताया कि मौके पर पुलिस से सयंम बरतते हुए स्थिति को नियंत्रण में करने की कोशिश की ताकि भगदड़ न मचे। उन्होंने बताया कि इस संदर्भ में पुलिस स्टेशन रैनावारी में एफआईआर दर्ज कर तफ्तीश शुरू की गई थी। कई वीडियो एविडेंस के आधार पर करीब 20 शरारती तत्वों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है और आगे की तफ्तीश जारी है। 
... और पढ़ें

रिश्वत का खेल: जेई बोलीं- 20 हजार दो बिजली का कनेक्शन लो, मीटर ऐसा होगा जिससे बिल भी कम आएगा

एंटी करप्शन ब्यूरो ने जम्मू के नई बस्ती इलाके में बिजली विभाग की जूनियर इंजीनियर (इलेक्ट्रिकल) को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। आरोप है कि महिला जेई ने नया कनेक्शन जारी करने की एवज में 20 हजार रुपये मांगे। आवेदक से यह भी कहा कि उसके मीटर में ऐसी व्यवस्था की जाएगी, जिससे उसका बिल भी कम आएगा। एसीबी ने महिला अधिकारी को गिरफ्तार कर उसके घर पर भी छापा मारा। मामले की छानबीन जारी है।

एसीबी को मिली शिकायत के अनुसार रानी तालाब डिग्याना में वाणिज्यिक श्रेणी में थ्री फेज कनेक्शन के लिए आवेदन किया गया था। शिकायतकर्ता के अनुसार उसने तमाम औपचारिकताएं पूरी कर ली थीं। फाइल पर बाकायदा सहायक कार्यकारी अभियंता गंग्याल ने 23 मार्च 2021 को हस्ताक्षर भी कर दिए, लेकिन महिला जेई सुषमा परिहार ने बिना रिश्वत के कनेक्शन देने से इनकार कर दिया।शिकायतकर्ता ने बताया कि उससे 20 हजार रुपये मांगे गए हैं, जिसमें यह भी कहा गया कि उसे 20 हजार देने पर जो कनेक्शन जारी होगा, उसका बिल भी कम आएगा।
... और पढ़ें

जम्मू: फंदे से लटका मिला नाबालिग लड़की का शव, इलाके में सनसनी

जम्मू में बीएसएफ पलौड़ा कैंप के आवासीय क्वार्टर में सोमवार को एक नाबालिग लड़की का शव फंदे से लटका मिला। बताया जा रहा है कि लड़की पलौड़ा में अपने ताया के घर आई थी। जब अधिक देर तक लड़की कमरे से बाहर नहीं निकली तो परिवार को शक हुआ। परिवार वालों ने कमरे के भीतर देखा तो लड़की फंदे पर लटक रही थी। लड़की मध्य प्रदेश की रहने वाली थी। 

उधर, गंग्याल क्षेत्र में भी एक व्यक्ति फंदे से लटकता पाया गया। मृतक की शिनाख्त रमा शंकर निवासी उत्तर प्रदेश के रूप में हुई है। वह हाल में गंग्याल में रह रहा है। सोमवार को वह अपने ही कमरे में फंदे पर लटका पाया गया। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए जीएमसी में भेज दिया। दोनों मामलों की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

उधमपुर: दो दिन से लापता महिला का शव नाले में मिला, परिवार ने कही ये बात

फांसी (सांकेतिक)
उधमपुर में मजालता पुलिस स्टेशन के अंतर्गत सैल गांव से संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुई महिला का शव घर से दो किलोमीटर दूर नाले से बरामद हुआ है। शव पानी में तैर रहा था। जब लोगों ने शव देखा तो तुरंत पुलिस को सूचित किया। मृतक महिला की पहचान कमला देवी (50) निवासी सैल के रूप में हुई है। पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों के हवाले कर दिया है। वहीं, संदिग्ध मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

 जानकारी अनुसार सुबह के समय पुलिस को सूचना मिली की सैल गांव में एक महिला का शव नाले में पड़ा है। सूचना के बाद तुरंत एक टीम मौके पर पहुंची और शव बाहर निकाला। उसकी पहचान कमला देवी के रूप में हुई। महिला दो दिन पहले लापता हुई थी। 

परिवार ने महिला को कई स्थानों पर तलाश किया, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला। इसके बाद परिवार ने शुक्रवार को गुमशुदगी की रिपोर्ट पुलिस स्टेशन मजालता में करवाई थी। पुलिस ने भी महिला की तलाश शुरू कर दी थी। नाले से शव बरामद हुआ तो पुलिस ने परिवार को इसकी सूचना दी। 

कुछ समय बाद परिवार के सदस्य मौके पर पहुंचे। प्राथमिक जांच पूरी करने के बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिवार के हवाले कर दिया। परिवार ने पुलिस से अपील की है कि मामले की जल्द से जल्द जांच पूरी कर पता लगाया जाए कि आखिर कमला देवी की मौत किन हालात में हुई है। वहीं पुलिस का कहना है कि मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।
... और पढ़ें

हंदवाड़ा नार्को टेरर मामला: उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा में एनआईए की बड़ी कार्रवाई

कश्मीरी नशा तस्कर मसूद पर एएनटीएफ का शिकंजा: पांच बैंक खाते सील, 54 लाख रुपये जब्त

देश और विदेश में ड्रग्स का कारोबार करने वाले एक कश्मीरी नशा तस्कर के पांच बैंक खातों को सील कर दिया गया है। इन खातों में 54 लाख रुपये जब्त किए गए हैं। आरोपी मसूद अहमद कश्मीर के बिजबिहाड़ा का रहने वाला है।

कश्मीर से बड़े स्तर पर गांजा दूसरे देशों व देश के अन्य हिस्सों में भेजा जाता था। गांजे के साथ अन्य नशे की तस्करी में भी यह आरोपी शामिल है। एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स जम्मू ने दिल्ली के स्मगलर एंड फॉरेन एक्सचेंज मैनिपुलेटर्स एक्ट फार फारच्यिर ऑफ प्रॉपर्टी एक्ट 1976 (एसएएफईएमए) के तहत कोर्ट में इस केस को पेश किया। इसमें यह साबित किया गया कि आरोपी के पांच खातों में जो पैसा है, वो नशे की तस्करी से कमाया गया है। लिहाजा इस पैसे को जब्त किया जाए। इस तरह की कार्रवाई का अधिकार एसएएफ ईएमए देता है। 

एएनटीएफ के एसपी विनय कुमार ने बताया कि इस मामले में पहले ही तीन आरोपी दबोचे जा चुके हैं। दिल्ली के रहने वाले अमित सक्सेना और सलमान खान को पकड़ा गया था। यह लोग दिल्ली से ड्रग्स लाकर जम्मू-कश्मीर में बेचते थे। जबकि एक मुख्य आरोपी जहांगीर अहमद भी पकड़ा गया है, जो जम्मू-कश्मीर से ले जाकर देश के अन्य हिस्सों में नशे की सप्लाई करता था। 

यह भी पढ़ें-
जम्मू-कश्मीर: इस तरह ऑपरेशन रूम से आतंकियों के ठिकाने तक ऑपरेशन को अंजाम देते हैं पैरा कमांडो

 
... और पढ़ें

जम्मू-कश्मीर: करोड़ों की ठगी मामले में क्राइम ब्रांच ने चार्जशीट में चार और आरोपियों के नाम जोड़े

पैसा दोगुना करने का लालच देकर लोगों से करोड़ों की ठगी करने के चार आरोपियों के खिलाफ क्राइम ब्रांच ने विशेष अदालत में दूसरा पूरक आरोप पत्र दायर किया है। क्राइम ब्रांच ने 2019 में पुंछ जिले के मेंढर के रहने वाले तारिक महमूद, मुर्तजा अहमद, इम्तियाज अहमद और अली मोहम्मद के खिलाफ केस दर्ज किया था। पहले पेश की गई चार्जशीट में छह लोगों के नाम थे। अब पेश की गई चार्जशीट में चार और लोग शामिल किए गए हैं। 

मेंढर पुलिस स्टेशन की ओर से क्राइम ब्रांच को शिकायत दी गई थी कि वह इस मामले की जांच करे। कई लोगों ने मेंढर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके साथ उक्त आरोपियों ने धोखाधड़ी की है। इस मामले में क्राइम ब्रांच आरोपियों की संपत्ति भी जब्त कर चुकी है। 

आरोपी की दिल्ली में डेढ़ करोड़ की संपत्ति, मेंढर और पुंछ में दुकानें सील की गई हैं। मुख्य आरोपी अली मोहम्मद को क्राइम ब्रांच ने सउदी अरब से गिरफ्तार किया था। वह पैसे हड़पने के बाद वहां चला गया था
... और पढ़ें

बांदीपोरा के बाद बालाकोट में आतंक पर प्रहार, आतंकी शेर अली के खुलासे के बाद गोला बारूद बरामद

कश्मीर के बांदीपोरा में शुक्रवार को आतंकियों के मददगारों की गिरफ्तारी के बाद मेंढर में सुरक्षाबलों ने आतंकवाद पर जबरदस्त प्रहार किया है। हाल ही में जम्मू हवाई अड्डे से गिरफ्तार आतंकी शेर अली से पूछताछ में हुए खुलासे के बाद बालाकोट सेक्टर में हथियार और गोला बारूद बरामद हुआ है। 

बता दें कि पुलिस और सेना की 49-आरआर(राष्ट्रीय राइफल्स) ने इलाके के जंगलों में ऑपरेशन चलाया था। इस दौरान चार ग्रेनेड, पिस्टल के 15 कारतूस और एके-47 के दस कारतूस बरामद हुए हैं। पुलिस ने संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें-
अपनी बात पर कायम रहेगा पाक? लोग बोले- ऐसा हुआ तो खुलेंगे स्कूल, पढ़ेंगे बच्चे और खेत हो जाएंगे आबाद

इससे पहले बांदीपोरा में पुलिस, सीआरपीएफ और सेना की संयुक्त टीम ने लश्कर के दो मददगारों को गिरफ्तार किया। इनके पास से गोला बारूद बरामद हुआ है। पुलिस ने संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है। दोनों से पूछताछ जारी है।

खुफिया सूचना पर बांदीपुरा पुलिस, सेना की 13-आरआर(राष्ट्रीय राइफल्स) और सीआरपीएफ की 45वीं बटालियन ने संयुक्त ऑपरेशन चलाया। इस दौरान हाजिन टाउन के बोनीखान इलाके से आतंकी संगठन लश्कर के दो मददगारों को गिरफ्तार किया। इनके कब्जे से हथियार बरामद किए। जिनमें दो हैंड ग्रेनेड और एके-47 के आठ कारतूस शामिल हैं।

इनकी पहचान गुलाम मोहिउद्दीन खान पुत्र नजीर अहमद खान निवासी परीबल हाजिन और रियाज अहमद भट पुत्र ए.बी. अहद भट निवासी बोनीखान मोहल्ला हाजिन के रूप में हुई है। प्रारंभिक पूछताछ में यह पता चला कि दोनों मददगार आतंकवादी संगठन लश्कर से जुड़े थे। सुंबल और हाजिन इलाके में लश्कर के सक्रिय आतंकवादियों को आश्रय, रसद और अन्य सहायता प्रदान कर रहे थे।

यह भी पढ़ेंः मन मोह लेगी कश्मीर की ये खूबसूरती, इन तस्वीरों को देख गुलमर्ग जाने से खुद को रोक न पाएंगे    
 
... और पढ़ें

जम्मू आईईडी मामले में पुलिस को बड़ी सफलता, अल बद्र का हुसैन भट गिरफ्तार

जम्मू बस स्टैंड से 13-14 फरवरी को बरामद आईईडी मामले में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने अल बद्र आतंकी संगठन के एक ओवरग्राउंड वर्कर को गिरफ्तार किया है, जिसकी पहचान राह हुसैन भट के रूप में हुई है। वह जम्मू में आईईडी हमले को अंजाम देने की साजिश में शामिल पाकिस्तानी हैंडलर्स के सीधे संपर्क में था। गिरफ्तार ओवरग्राउंड वर्कर से पुलिस पूछताछ कर रही है। कई बड़े खुलासे होने की संभावना भी जताई जा रही है।

बता दें कि एक छात्र के हाथ करीब सात किलो की भारी भरकम आईईडी थमाकर बड़ा धमाका करने की साजिश के लिए खासी तैयारी की गई थी। नर्सिंग की पढ़ाई कर रहे सोहेल के पास से जो आईईडी बरामद हुई, उसे तैयार करते समय पूरा ख्याल रखा गया था कि इसे लगाते समय कोई चूक न हो। आईईडी की एक तरफ उर्दूू में लिखा था ‘ये साइड दुश्मन की तरफ रखें’। यानी आईईडी को ऐसे लगाएं जिससे ज्यादा से ज्यादा नुकसान पहुंचाया जा सके।

यह भी पढ़ेंः
श्रीनगर हमले की आतंकियों को चुकानी होगी बड़ी कीमत, बैठक में बनाई गई ये रणनीति    

पाकिस्तान के इशारे पर पुलवामा हमले की दूसरी बरसी पर जम्मू को दहलाने की आतंकी साजिश पुलिस ने नाकाम कर दी थी। पाकिस्तान के आतंकी संगठन अल-बद्र ने उन्हें चार चिह्नित स्थानों में से किसी एक जगह आईईडी फिट करने का जिम्मा सौंपा था। 

यह भी पढ़ेंः कश्मीर से छपरा तक आतंक के तार, आतंकी अटैकर बाबा का एक साथी बिहार से गिरफ्तार    
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन