विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
चंद्र ग्रहण में छोटा सा दान, बनाएगा धनवान : 5 जून 2020
Puja

चंद्र ग्रहण में छोटा सा दान, बनाएगा धनवान : 5 जून 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

जम्मू-कश्मीरः एलओसी पर पाकिस्तान की नापाक हरकत, जवान शहीद 

एलओसी पर पाकिस्तान की नापाक हरकत वीरवार को भी जारी रही। राजोरी जिले के सुंदरबनी सेक्टर में पाकिस्तान के स्नाइपर शॉट से सेना का एक जवान शहीद हो गया। सेना ने भी इस नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया है। इस बीच पाकिस्तान ने देर रात पुंछ जिले के कीरनी सेक्टर में भी गोलाबारी शुरू कर दी। सेना की ओर से मुंहतोड़ जवाब दिया गया है। 

सैन्य सूत्रों ने बताया कि सुंदरबनी सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से वीरवार की शाम सीजफायर का उल्लंघन करते हुए गोलाबारी शुरू कर दी गई। इस दौरान अग्रिम सैन्य चौकियों को निशाना बनाया गया। सीमा पार से स्नाइपर शॉट से जवान को निशाना बनाया गया जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे इलाज के लिए पास के अस्पताल में ले जाया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया। हालांकि, सेना की ओर से अभी इस बारे में आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है।
 
वहीं, भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) पर कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर में पाकिस्तानी रेजरों ने संघर्ष विराम का उल्लंघन कर बुधवार रात पांच घंटे तक गोलाबारी की। पूरी रात बीएसएफ की चौकियों के साथ रिहायशी इलाके को निशाना बनाया। गोलाबारी में दो मकानों को नुकसान पहुंचा है। पाकिस्तान ने बुधवार रात करीब 11 बजे गोलाबारी शुरू की जो वीरवार सुबह चार बजे तक जारी रही। 

पाकिस्तानी चिनाब रेंजर्स ने पहले बीएसएफ की चांदवा पोस्ट को निशाना बनाया। उसके बाद गांव छन्न टांडा में भी गोलियां बरसाना शुरू कर दीं। इसमें एक गोली छन्न टांडा के जोगिंदर पाल के घर में बेड पर लगी। एक घर की दीवार और कच्चे कुल्ले की छत को भी नुकसान पहुंचा है। हालांकि जानी नुकसान नहीं हुआ है। सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने भी पाकिस्तान की इस नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया।

परगवाल में सरकंडे  साफ कर रहे जवानों पर दागी गोलियां
बीएसएफ की जवाबी कार्रवाई से पाकिस्तान ने बंद की गोलीबारी
परगवाल (जम्मू)। सीमावर्ती क्षेत्र परगवाल में भी पाकिस्तान रेंजरों ने सरकंडे साफ  कर रहे सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों पर करीब दो से तीन बर्स्ट राउंड फायरिंग की। सीमा सुरक्षा बल की जवाबी कार्रवाई से फायरिंग बंद हो गई। गोलाबारी में किसी भी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है। वहीं गोलीबारी से खेतों में काम कर रहे ग्रामीण दहशत में आ गए। उनका कहना है कि जब खेती का समय होता है, पाकिस्तानी सेना गोलीबारी कर देती है।
... और पढ़ें
loc loc

श्री अमरनाथ बाबा बर्फानी की प्रथम पूजन कल, गिने-चुने लोग रहेंगे मौजूद

कोरोना संकट के कारण इस बार बाबा अमरनाथ की पहली पूजा पारंपरिक स्थल पर नहीं हो पाएगी। ज्येष्ठ पूर्णिमा पर शुक्रवार को यह पूजा जम्मू में श्री अमरनाथ यात्रा श्राइन बोर्ड के तालाब तिल्लो स्थित कार्यालय में होगी। पूजा में बाबा अमरनाथ व बुड्ढा अमरनाथ यात्री न्यास और बोर्ड के कुछ सदस्य ही शामिल होंगे। यह पूजा औपचारिक तौर पर की जाएगी। 

पिछले कुछ सालों से यह पूजा दक्षिण कश्मीर के चंदनबाड़ी में की जा रही थी। लेकिन इस साल कोरोना संक्रमण के कारण ऐसा संभव नहीं हो पाया है। सूत्रों के अनुसार बोर्ड कार्यालय में शुक्रवार सुबह 11 बजे पूजा का समय रखा गया है। इसमें सांकेतिक तौर पर कुछ सदस्य ही शामिल होंगे, जिसमें सामाजिक दूरी व अन्य कोविड गाइडलाइन का पालन किया जाएगा। बोर्ड अधिकारियों की ओर से प्रथम पूजा को लेकर कोई जानकारी सार्वजनिक नहीं की गई है। 

पारंपरिक पूजा यात्रा ट्रैक पर होती रही है, लेकिन बर्फ रहने के कारण इसे पिछले कुछ सालों से चंदनबाड़ी क्षेत्र में किया जा रहा था। अमरनाथ यात्रा को इसी माह 23 तारीख से शुरू किया जाना प्रस्तावित है। लेकिन इस बार कोविड संकट के चलते यात्रा को सीमित करते हुए आखिरी 15 दिन चलाने का प्रस्ताव है। हालांकि, अभी तक अग्रिम यात्री पंजीकरण पर कोई फैसला नहीं हो पाया है। बोर्ड की ओर से चार बार पंजीकरण की तिथि स्थगित की जा चुकी है।
... और पढ़ें

अनंतनागः प्रसव पीड़ा से तड़पती रही कोरोना संक्रमित गर्भवती, अस्पताल की गैलरी में बच्ची को दिया जन्म

बाबा बर्फानी
अनंतनाग जिले के बिजबहेड़ा में कोरोना संक्रमित एक महिला ने एक बच्ची को अस्पताल की गैलरी में जन्म दिया। परिजनों का आरोप है कि कोई भी डॉक्टर अथवा स्वास्थ्य कर्मी उसकी मदद के लिए आगे नहीं आया। इसके कारण बच्ची के शरीर में प्लेसेंटा बना रहा और बाद में उसे श्रीनगर स्थानांतरित करना पड़ा। इस बीच प्रशासन ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

उपायुक्त केके सिद्धा ने बताया कि ऐसी शिकायत मिली है। तथ्यों का पता लगाने के लिए एसडीएम को निर्देश दिया है। लेकिन प्रारंभिक जांच से कोई चिकित्सकीय लापरवाही सामने नहीं आई है। उनका कहना है कि जच्चा-बच्चा दोनों ठीक हैं और उनके परिजनों को घबराने की जरूरत नहीं है।
... और पढ़ें

223 करोड़ रुपये के कर्ज धोखाधड़ी का मामला, जम्मू-कश्मीर कोऑपरेटिव बैंक के पूर्व चेयरमैन गिरफ्तार

एंटी करप्शन ब्यूरो ने 223 करोड़ रूपये बैंक कर्ज की धोखाधड़ी मामले में जम्मू-कश्मीर स्टेट कोऑपरेटिव बैंक के पूर्व चेयरमैन मोहम्मद शफी डार को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया। मंगलवार को डार के खिलाफ एसीबी ने लुकआउट नोटिस जारी किया था। उन पर आरोप है कि उन्होंने झेलम कोऑपरेटिव हाउसिंग कॉलोनी के नाम पर हिलाल अहमद मीर को 223 करोड़ का कर्ज देने में नियमों का उल्लंघन किया है। मामले में डार की भी संलिप्तता है।

श्रीनगर में बनने वाली हाउसिंग कॉलोनी के लिए कोऑपरेटिव सोसायटी के सचिव से कर्ज देने की सिफारिश डार ने ही की थी। कॉलोनी के कोऑपरेटिव सोसायटी में पंजीकरण नहीं होने के बावजूद बिना किसी औपचारिकता के उसके लिए कर्ज जारी कर दिया गया।

आरोप है कि कॉलोनी बनाने वाले हिलाल ने डार के साथ मिलकर साजिश रची और धोखे से कर्ज ले लिया। शिकायत मिलने पर एसीबी ने डार के खिलाफ केस दर्ज किया था। केस दर्ज होने के बाद एसीबी ने डार को कई बार पूछताछ के लिए बुलाया। उनके नहीं पहुंचने पर एसीबी ने मंगलवार को लुकआउट नोटिस जारी किया था।

एसीबी ने 223 करोड़ रुपये में से 183 करोड़ रुपये बरामद कर लिए हैं। 14 मई को हिलाल को गिरफ्तार किया गया था। सूत्रों के अनुसार लुकआउट नोटिस जारी होने पर डार ने आत्मसमर्पण किया है, जबकि एसीबी का कहना है कि उन्हें कश्मीर में एक जगह से गिरफ्तार किया गया है।
... और पढ़ें

कुलगाम में आतंकियों ने पुलिस पार्टी पर किया हमला, एक नागरिक घायल, तलाशी अभियान जारी

दक्षिणी कश्मीर में कुलगाम के यारीपोरा इलाके में बाइक सवार आतंकियों ने पुलिस पार्टी पर हमला किया। इस दौरान आतंकियों ने फायरिंग की। इस फायरिंग में एक नागरिक घायल हो गया। घायल को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। साथ ही आतंकियों की तलाश में इलाके की घेराबंदी कर अभियान चलाया जा रहा है।

यह भी पढ़ेंः 
2020 में अबतक 75 आतंकी ढेर, 'कंगन' ने ठोक दी मसूद अजहर के आतंकी ताबूत में आखिरी कील!

बता दें कि घाटी में अशांति फैलाने और लोगों में दहशत पैदा करने के लिए आतंकी इस तरह की घटनाओं को अंजाम देने की कोशिशें कर रहे हैं। आतंकियों के इन्हीं नापाक मंसूबों को कुचलने के लिए हाल ही में श्रीनगर में सेना, पुलिस और नागरिक प्रशासन की कोर ग्रुप की बैठक हुई थी।

इसमें यह निर्णय लिया गया था कि घाटी में विभिन्न तंजीमों के आतंकियों का सफाया करने के साथ ही उन्हें आर्थिक मदद पहुंचाने की सप्लाई लाइन को भी काटा जाएगा। इसके लिए उनके मददगारों को चिह्नित कर उन पर शिकंजा कसा जाएगा। धरपकड़ कर आतंकी तंजीमों को मिलने वाली आर्थिक मदद को रोका जाएगा।

... और पढ़ें

ऑनलाइन स्टडी बच्चों को दे रही तनाव, मुश्किल में अभिभावक और शिक्षक, इन बातों का रखें ध्यान

कोरोना संक्रमण के बीच जम्मू-कश्मीर में ऑनलाइन स्टडी (शिक्षा) बच्चों को डिप्रेशन दे रही है। बच्चों में गुस्सा, चिड़चिड़ापन और तनाव के लक्षण बढ़े हैं। सीमित सुविधाओं में ऑनलाइन स्टडी बच्चों के साथ अभिभावकों और शिक्षकों को भी परेशान कर रही है। इस श्रेणी में जिनके पास ऑनलाइन स्टडी के स्रोत हैं या जिनके पास नहीं हैं, दोनों ही प्रभावित हो रहे हैं। अभिभावक अपने लाडलों की ऐसी कई समस्याएं लेकर मनोचिकित्सकों के पास पहुंच रहे हैं।

केस 1
जानीपुर निवासी 11 वर्षीय रोहित के स्वभाव में पिछले कई दिनों से चिड़चिड़ापन बढ़ा है। किसी चीज पर मना करने पर गुस्सा नाक पर रहता है। गैर जरूरी चीजों के लिए जिद बढ़ी है। ऑनलाइन स्टडी में घंटों मोबाइल से जुड़े रहने के कारण शारीरिक वजन भी बढ़ गया है। अनिद्रा की समस्या बढ़ी है। मां बाप उसके इस व्यवहार में आए बदलाव से परेशान हैं। उनका कहना है कि ऑनलाइन स्टडी के चलते उनका बेटा काफी देर तक मोबाइल पर ही व्यतीत करता है, जिसके बाद उसके मानसिक और शारीरिक व्यवहार में बदलाव आया है।

केस 2
गांधीनगर निवासी 9 वर्षीय रागिनी पिछले डेढ़ माह से ऑनलाइन स्टडी कर रही है। चूंकि इतने लंबे समय पर पहली बार ऑनलाइन स्टडी की गई, जिससे मोबाइल से मना करने पर उसमें गुस्सा हावी हो जाता है। कुछ समझाने पर भड़क जाती है। घरवाले उसके इस व्यवहार से परेशान हैं। उनका कहना है कि ऑनलाइन स्टडी में घंटों तक एक ही जगह पर बैठकर गतिविधियां करने से उसकी ऐसी हालत हुई है।
 
... और पढ़ें

जैश कमांडर अब्दुल के खात्मे के बाद अब्दुल्ला गाजी की बारी, आईजी बोले- सेना जल्द उसको भी मारेगी

जम्मू-कश्मीर पुलिस के कश्मीर जोन के आईजी विजय कुमार ने बताया कि सुरक्षाबलों के हाथों मारा गया पाकिस्तानी जैश कमांडर अब्दुल रहमान उर्फ फौजी वर्ष 2017 से दक्षिण कश्मीर में सक्रिय था। वह अफगानिस्तान में भी आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने में शामिल रहा है।

इसी वर्ष हिजबुल कमांडर रियाज नायकू के मारे जाने के बाद फौजी का मारा जाना एक बड़ी सफलता है। उन्होंने कहा कि हमारा अगला टारगेट अब्दुल्ला राशिद गाजी है। इससे पहले वर्ष 2019 के एक एनकाउंटर में ये बच निकला था।

यह भी पढ़ेंः 
2020 में अबतक 75 आतंकी ढेर, 'कंगन' ने ठोक दी मसूद अजहर के आतंकी ताबूत में आखिरी कील!

आईजी विजय कुमार ने बताया कि पुलवामा मे सक्रिय फौजी जैश ए मोहम्मद का आतंकी था। इसके अलावा वलीद भाई और लंबू दोनों भी जैश के आईईडी एक्सपर्ट हैं। हमारा अगला टारगेट अब्दुल्ला राशिद गाजी है, वो ज्यादा सामने नहीं आता है। वह पुलवामा के ग्रेव इलाके में सक्रिय है। सेना जल्द उसको भी मारेगी।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us