बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
मदर्स डे पर अपनी माता की लम्बी आयु के लिए कराएं सामूहिक महामृत्युंजय मंत्रों का पाठ
Myjyotish

मदर्स डे पर अपनी माता की लम्बी आयु के लिए कराएं सामूहिक महामृत्युंजय मंत्रों का पाठ

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

जम्मू-कश्मीर: कभी स्कूल में निभाती थीं हब्बा खातून का किरदार, उस पर किताब लिख बनाया रिकॉर्ड

कभी स्कूल में हब्बा खातून का किरदार निभाने वाली सोलिहा शब्बीर ने अपनी पुस्तक जून- दा  हार्ट ऑफ हब्बा खातून की जीवनी पर लिखी कविता को पुनर्निर्मित किया...

8 अप्रैल 2021

विज्ञापन
Digital Edition

जम्मू कश्मीर : घाटी में मिले संक्रमण के 4788 नए मामले, 60 मरीजों की गई जान

जम्मू-कश्मीर में कोरोना के मामले घटे हैं, हालांकि मौतों में जरूर उछाल आया है। प्रदेश में जहां 24 घंटे में 4788 नए मरीज पाए गए। वहीं 60 मरीजों ने कोरोना से दम तोड़ दिया। इसमें 42 मरीजों की मौत जम्मू व 18 की कश्मीर में हुई। जम्मू के जीएमसी में वित्त विभाग के विशेष सचिव वरिष्ठ केएएस अधिकारी डॉ. शमीम समेत 16 मरीजों की जान चली गई। 

नए संक्रमित मामलों में कुछ गिरावट दर्ज हुई है। प्रदेश में शनिवार को 4788 नए मामले आए। जम्मू संभाग में 1529 व कश्मीर में 3259 मामले आए हैं। वहीं 2500 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। एक्टिव मामलों की संख्या बढ़कर 46535 पर पहुंच गई है। 

जम्मू संभाग में हुई 42 मौतों में जीएमसी जम्मू में 16, जीएमसी राजोरी में दो, जीएमसी कठुआ में दो, जीएमसी डोडा में दो, बत्रा अस्पताल जम्मू में तीन, सीडी अस्पताल में दो, उधमपुर सीएच में एक, उधमपुर जिला अस्पताल में दो, नौशेरा सीएचसी में एक, किश्तवाड़ जिला अस्पताल में एक, सतवारी सैन्य अस्पताल में एक, श्री माता वैष्णो देवी नारायणा अस्पताल कटड़ा में एक व दस मरीजों की मौत घर पर हुई है। 

वहीं नए मामलों में जम्मू संभाग के जम्मू जिले में 634, उधमपुर में 181, राजोरी में 247, डोडा में 22, कठुआ में 169, सांबा में 66, किश्तवाड़ में 23, पुंछ में 82, रामबन में 63, रियासी में 42 नए मामले आए हैं। 

कश्मीर संभाग के श्रीनगर जिले में 853, बारामुला में 470, बडगाम में 444, पुलवामा में 325, कुपवाड़ा में 131, अनंतनाग में 573, बांदीपोरा में 83, गांदरबल में 55, कुलगाम में 237 और शोपियां में 88 नए मामले मिले हैं। ऐसे में कुल संक्रमित मामलों का आंकड़ा 211742 पर पहुंच गया हैं। मौतों का आंकड़ा बढ़कर 2672 हो गया हैं।
... और पढ़ें
प्रदेश में टीका अभियान... प्रदेश में टीका अभियान...

जम्मू-कश्मीर: श्रीनगर में सुरक्षा बलों पर ग्रेनेड हमला, छह जवानों समेत सात घायल

श्रीनगर के पुराने शहर में शुक्रवार की शाम आतंकियों ने सीआरपीएफ और पुलिस जवानों को निशाना बनाते हुए ग्रेनेड हमला किया। इसमें छह जवानों सहित सात लोग घायल हो गए। हमले के बाद भीड़ ने वहां से गुजर रहे सीआरपीएफ के वाहनों पर पथराव किया।

सुरक्षाबलों ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हवा में गोलियां दागी। स्थिति काबू करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले चलाने पड़े। इलाके में स्थिति तनावपूर्ण है। सुरक्षाबल हमलावरों की तलाश कर रहे हैं। घायलों में सीआरपीएफ के पांच, जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक जवान और एक नागरिक शामिल है। हालांकि आईजी विजय कुमार ने तीन ही घायलों की पुष्टि की है। 

जानकारी के अनुसार, शुक्रवार शाम लगभग साढ़े चार बजे आतंकियों ने पुराने शहर के नवाब बाजार इलाके के मुख्य चौक पर ड्यटी पर तैनात सुरक्षाबलों को निशाना बनाते हुए उन पर दूर से ग्रेनेड फेंका। यह ग्रेनेड जवानों के पास सड़क पर गिरकर फटा। इसमें सात लोग घायल हो गए।

धमाके में जम्मू-कश्मीर पुलिस के कांस्टेबल फयाज अहमद, सीआरपीएफ के हरीश कुमार समेत पांच जवान और इलाके में पोल्ट्री की दुकान चलाने वाला एक स्थानीय व्यक्ति जख्मी हो गया। सभी घायलों को अस्पताल में इलाज कराया गया।

ये भी पढ़ें-
कोरोना के कहर की कहानी: लोग बोले- ध्वस्त हो गया है पर्यटन उद्योग, अब तो ऊपर वाले का ही सहारा है    
यह भी पढ़ें- बढ़ते कोरोना संक्रमण का असर: वंदे भारत समेत ये पांच ट्रेन अगले आदेश तक रद्द
... और पढ़ें

सेना ने दोमाना में 100 बेड का कोविड अस्पताल खोला, डीआरडीओ ने शुरू किया निर्माण

सेना ने कोरोना के खिलाफ जंग में दोमाना स्थित आर्मी पब्लिक स्कूल में 100 बेड का अस्पताल स्थापित किया है। यहां ऑक्सीजन तथा कोरोना के इलाज की सभी सुविधाएं उपलब्ध हैं। उप राज्यपाल मनोज सिन्हा ने शुक्रवार को राजभवन में उत्तरी व पश्चिमी कमान के सैन्य कमांडरों के साथ बैठक कर कोरोना से लड़ाई में सेना की तैयारियों पर चर्चा की। 

बैठक में उप राज्यपाल ने दोमाना में 100 बेड के अस्पताल की क्षमता बढ़ाकर 200 करने संबंधी संभावनाएं तलाशने को कहा है। सेना के अधिकारियों ने बताया कि जम्मू-कश्मीर में सेना कोरोना को मात देने के लिए सभी तरह की तैयारियां कर रही हैं। इसके तहत पश्चिमी कमान ने दोमाना में 100 बेड का अस्पताल स्थापित किया है। इसके साथ ही कश्मीर के रंगरेथ में 250 बेड का अस्पताल संचालित है जो चिनार कोर तथा स्थानीय प्रशासन के नियंत्रण में है। 

इसके साथ ही प्रशासन की ओर से रेफर किए गए कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज सैन्य अस्पताल में भी किया जा रहा है। बैठक में एलजी ने सैन्य अधिकारियों को आश्वस्त किया कि जम्मू-कश्मीर प्रशासन सेना को कोरोना देखभाल सुविधाएं बढ़ाने में हर संभव सहायता देगा। इसमें मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर, उपकरण व ऑक्सीजन की आपूर्ति शामिल है।

इस अवसर पर उत्तरी कमान प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल वाईके जोशी, उत्तरी कमान के चीफ ऑफ स्टाफ लेफ्टिनेंट जनरल हरिमोहन अय्यर, 26 डिवीजन के जीओसी मेजर जनरल नीरज गोसाईं के अलावा सरकार के  वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।
... और पढ़ें

हैरान रह जाएंगे: वैक्सीन लगी ही नहीं सर्टिफिकेट घर पहुंच गया, इस मामले में तो हद ही हो गई

निर्माण कार्य

राहत: मई के पहले सात दिन में 58 फीसदी लोगों ने कोरोना को दी मात

जम्मू-कश्मीर में कोरोना के तेजी से बढ़ रहे संक्रमण के बीच राहत भरी खबर भी है। यहां जिस तेजी के साथ मरीज बढ़ रहे हैं उतने ही तेजी से लोग कोरोना के खिलाफ जंग भी जीत रहे हैं। मई के पहले सात दिन में 58 फीसदी लोगों ने कोरोना को मात देने में सफलता पाई है। 

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि कोरोना से निपटने के पर्याप्त इंतजाम किए जा रहे हैं। कोरोना से जंग जीतने वालों की लगातार संख्या बढ़ रही है। इसलिए बहुत अधिक घबराने की जरूरत नहीं है।

पिछले तीन दिनों से इसमें उतार-चढ़ाव हो रहा है, लेकिन यह संख्या 50 फीसदी से ऊपर ही है। सरकार की ओर से ऑक्सीजन समर्पित बेड भी बढ़ाए जा रहे हैं। अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित हो रहे हैं। स्वास्थ्य ढांचे की मजबूती के लिए लगातार प्रयास हो रहे हैं।

प्रमुख सचिव अटल डुल्लू का कहना है कि राहत की बात है कि स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या अधिक है। सभी कोविड अस्पतालों में पर्याप्त चिकित्सा सुविधा तथा ऑक्सीजन है। ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। साथ ही बेड भी उपलब्ध हैं। 
 
तिथि रिकवरी मरीज प्रतिशत
01 मई 1801 3832 46.99
02 मई 1453 3530 41.16
03 मई 1536 3733 41.14
04 मई 1878 4505 41.68
05 मई 2338 4716 49.57
06 मई 2836 4926 57.27
07 मई 2752 5443 50.56

ये भी पढ़ें-
हैरान रह जाएंगे: वैक्सीन लगी ही नहीं सर्टिफिकेट घर पहुंच गया, इस मामले में तो हद ही हो गई

ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर: लॉकडाउन के बीच बढ़े फल-सब्जियों के दाम, आम आदमी के लिए फल खरीदना मुश्किल     ... और पढ़ें

जम्मू-कश्मीर : डोडा में आतंकी ठिकाना ध्वस्त, भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद

सेना ने डोडा के चक्रआंटी में आतंकी ठिकाना ध्वस्त कर गोला बारूद बरामद किया है। जानकारी के अनुसार जिले के घट इलाके के चक्रआंटी इलाके में विशेष सूचना पर सेना और पुलिस ने संयुक्त तलाशी अभियान चलाया। 

इस दौरान आतंकी ठिकाना ध्वस्त कर काफी असलाह बरामद किया है। इसमें चार डेटोनेटर, 12 बैटरियां, 50 मीटर बिजली के तार, 1.5 वोल्टेज के छह बड़े सेल, आरडीएक्स से भरे पांच लीटर के दो बड़े प्रेशर कुकर, आरडीएक्स से भरे दो पाइप बम (पांच-पांच किलो के), काली टेप और अलग से आरडीएक्स भी बरामद हुआ है। 

सनद रहे कि डोडा जिला आंतक मुक्त घोषित है, लेकिन अभी भी कई स्थानों पर आतंकियों द्वारा छिपाया गया गोला बारूद मिलता रहता है। वीरवार को भी विशेष सूचना पर सेना और पुलिस ने संयुक्त तलाशी अभियान चला कर आतंकी ठिकाने को ध्वस्त किया है।
... और पढ़ें

कोरोना के कहर की कहानी: लोग बोले- ध्वस्त हो गया है पर्यटन उद्योग, अब तो ऊपर वाले का ही सहारा है

जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर भयावह हो गई है। संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। जम्मू और श्रीनगर के हालात बेहद चिंताजनक हैं। वहीं पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों और दिहाड़ी मजदूरों पर मुसीबत का पहाड़ टूट पड़ा है। घाटी के कई इलाकों में तो लोगों के लिए पर्यटन ही रोजी-रोटी का एक मात्र जरिया है। डल झील के पास दुकान लगाने वाले आदिल डार ने बताया कि दिन पर दिन हालात खराब होते जा रहे हैं। वहीं एक अन्य व्यक्ति ने कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते पर्यटक भी नहीं आ रहे हैं। ऐसी दशा में हम सभी के परिवारों का क्या होगा, समझ ही नहीं आ रहा है। अब तो रोटी पर भी संकट के बादल मंडरा रहे हैं। अब तो बस ऊपर वाले का ही सहारा है।

आगे की स्लाइड में पढ़िए- जम्मू-कश्मीर में कोरोना के कहर की कहानी...
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X