बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

पानीपत : चार साल की मासूम की वीडियो कॉल से मचा हड़कंप, पीएनबी की मैनेजर का हाल देख सहम गया परिवार 

हरियाणा में पंजाब नेशनल बैंक की लोन मैनेजर की पानीपत में संदिग्ध हालात में मौत हो गई। सफीदों की पंजाब नेशनल बैंक की लोन मैनेजर हरप्रीत कौर ने असंध रोड स्थित बालाजी अस्पताल में दम तोड़ा। महिला के परिजनों ने पति, दो ननद, उनके पति व सास पर दहेज के लिए बेटी की हत्या करने का आरोप लगाया है। अंबाला के गांव तेपला निवासी हरप्रीत कौर (32) की शादी सफीदों निवासी प्रभप्रीत के साथ एक नवंबर 2015 को हुई थी। हरप्रीत पंजाब नेशनल बैंक में लोन मैनेजर थी, जबकि प्रभप्रीत भी केनरा बैंक में मैनेजर है। परिजनों का आरोप है कि शादी के बाद से ही हरप्रीत के पति प्रभप्रीत, सास सुखविंद्र कौर, ननद राजबीर कौर और अमनदीप कौर ने उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करना और मानसिक रूप से परेशान करना शुरू कर दिया था। गुरुवार रात परिजनों के पास हरप्रीत की चार साल की बेटी का वीडियो कॉल आया तो उन्हें बेटी की हालत पता चली।  ... और पढ़ें

पानीपत : सड़क हादसे में वायुसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी और उनकी पत्नी की मौत, ड्राइवर की हालत गंभीर

करनाल से पानीपत उपचार कराने आ रहे वायुसेना के रिटायर्ड वारंट ऑफिसर पति-पत्नी की सड़क हादसे में मौत हो गई। आरोपी ट्रक चालक ने सामने से कार में टक्कर मारी। जिस कारण बुजुर्ग दंपति समेत तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। स्थानीय लोगों ने घायलों को सामान्य अस्पताल पहुंचाया।

जहां डॉक्टर ने सेवानिवृत्त अधिकारी और ड्राइवर की हालत गंभीर देखते हुए उन्हें रेफर कर दिया। वही अधिकारी की पत्नी को मृत घोषित कर दिया। परिजनों ने सेवानिवृत्त अधिकारी को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उपचार के दौरान उनकी भी मौत हो गई। जबकि ड्राइवर की हालत गंभीर बनी है।

करनाल के गांव बला निवासी राजेंद्र ने बताया कि उनके पिता प्रताप सिंह(78) वायुसेना से वारंट ऑफिसर के पद से रिटायर्ड हैं। उनकी मां खजानी देवी (73) को अस्तमा की बीमारी थी, जिसका इलाज पानीपत के एक निजी अस्पताल में चल रहा था। पिता प्रताप सिंह बुधवार को सुबह 9:30 बजे मां खजानी देवी के साथ गांव निवासी जगबीर की गाड़ी में उपचार कराने पानीपत के लिए निकले थे। जब वह रिफाइनरी रोड पर लक्ष्मी ढाबा के पास पहुंचे तो सामने से आ रहे ट्रक चालक ने टक्कर मार दी। 

आरोपी ट्रक चालक मौके पर ट्रक छोड़कर फरार हो गया। उनके परिचित राजबीर ने उन्हें घटना की सूचना दी। सूचना मिलते ही वह मौके पर पहुंचे और घायलों को सामान्य अस्पताल लेकर गए। जहां पर डॉक्टर ने मां को मृत घोषित कर दिया। वहीं, पिता प्रताप और ड्राइवर की हालत गंभीर देख उन्हें पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया। इसके बाद उन्होंने दोनों को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां पर उपचार के दौरान पिता की भी मौत हो गई। ड्राइवर जगबीर की हालत गंभीर बनी है।

परिजनों ने बताया कि प्रताप सिंह सन 1989 में वायुसेना से वारंट ऑफिसर के पद से रिटायर हुए थे। प्रताप के चार बच्चे हैं, जिनमें तीन बेटे राजेंद्र जोगिंदर और अनिल हैं। वही सबसे छोटी एक बेटी शीला देवी है। परिजनों ने बताया कि गांव बला निवासी जगबीर के बेटे की दो साल पहले शादी हुई थी। जिसमें उसे ससुराल की तरफ से डिजायर गाड़ी दी गई। इसी गाड़ी को लेकर जगबीर प्रताप व खजानी देवी को बैठाकर पानीपत उपचार कराने के लिए ला रहा था।
... और पढ़ें

हरियाणा : 'हट जा ताऊ पाछे नै' फेम गायक विकास कुमार को मिली धमकी, शराब पीने से मना करने पर हाथापाई

हरियाणा के प्रसिद्ध गायक विकास कुमार के साथ हाथापाई करने और जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है। मामला पानीपत के जीटी रोड स्थित एमपीएम स्टोर पर बुधवार आधी रात का है। बता दें कि विकास कुमार अपने गीत हट जा ताऊ पाछे नै से प्रसिद्ध हुए थे। 

विकास ने बताया कि वह बुधवार रात 12 बजे सैंडविच लेने के लिए गए थे। वहां कुछ युवकों ने उन्हें शराब ऑफर किया। मना करने पर उन्होंने विकास को जान से मारने की धमकी दी। उन्होंने पुलिस कंट्रोल रूम में सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी युवकों को थाने लेकर गई, जहां युवकों ने माफी मांग ली। कलाकार ने बताया कि उनका समझौता हो गया है।


विकास कुमार पानीपत के मॉडल टाउन निवासी हैं। जानकारी के अनुसार, जब विकास सैंडविच लेने के लिए गए थे तो उनके साथ गनमैन भी था। वह सैंडविच लेकर चलने लगे तो एक युवक आया और खुद को फौजी बताने लगा। युवक ने कहा कि उसके बाकी साथी ऊपर बैठे हैं, जो सेल्फी लेना चाहते हैं। वह युवक के साथ ऊपर चले गए।

वहां सभी युवकों ने विकास के साथ सेल्फी ली। इसके बाद वह चलने लगे तो एक युवक ने शराब ऑफर की, लेकिन विकास ने मना कर दिया। आरोप है कि इसी बात पर दूसरे युवक ने विकास का कॉलर पकड़ लिया और उनके साथ हाथापाई करने लगा।

शोर सुनकर विकास का गनमैन और उनके साथी ऊपर पहुंचे तो आरोपियों ने उनके साथ भी हाथापाई की। इसके बाद स्टोर संचालक ने पुलिस कंट्रोल रूम में सूचना दी। सूचना मिलते ही शहर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी युवकों को हिरासत में लेकर थाने ले गई। वहां पर युवकों ने कुछ समय के बाद विकास से माफी मांग ली।
... और पढ़ें

लुटेरी दुल्हन: शादी के 24 घंटे बाद ही पैसा-जेवर लेकर भागी, दूल्हा लेने पहुंचा तो सामने आई बड़ी सच्चाई 

जींद के गांव शामलो निवासी एक युवक की शनिवार को पानीपत में विजय नगर स्थित भोला चौक निवासी लड़की से शादी हुई। दुल्हन 24 घंटे बाद रविवार रात को ही फरार हो गई। युवक ने बताया कि दुल्हन ने पूरे परिवार के खाने में नशीला पदार्थ मिलाया, जिस कारण वे बेहोश हो गए। दुल्हन देर रात गहने, नकदी और फोन लेकर फरार हो गई। सोमवार को पड़ोसियों ने आकर जगाया और उन्हें अस्पताल पहुंचाया। वह सोमवार को दुल्हन को लेने पानीपत पहुंचे तो उसके भाइयों ने लाठी से हमला कर दिया। जींद के गांव जुलाना निवासी प्रमिंद्र ने बताया कि गांव शामलो निवासी संजय उसका दोस्त है। उसकी गांव उरलाना कलां निवासी विजय से मुलाकात हुई थी। विजय का सफीदों में होटल है। विजय ने उनके सामने संजय की शादी का प्रस्ताव रखा और पानीपत के विजय नगर स्थित भोला चौक निवासी काजल उर्फ ममता से मुलाकात कराई। उसने अपनी बेटी अंजलि (19) के बारे में बताया। रिश्ता पक्का हो गया। महिला ने बेटी की शादी के खर्च के नाम पर उनसे 85 हजार रुपये ले लिए। वहीं 35 हजार रुपये की शॉपिंग की।
 
... और पढ़ें
लुटेरी दुल्हन लुटेरी दुल्हन

हरियाणा: पानीपत रिफाइनरी से सिरसा जाने के लिए निकला ऑक्सीजन से भरा टैंकर, रास्ते से हो गया गायब 

देश भर में ऑक्सीजन की किल्लत हो रही है, वहीं अब इसकी चोरी भी होने लगी है। पानीपत रिफाइनरी से सिरसा के लिए रवाना किया गया मेडिकल ग्रेड ऑक्सीजन से भरा टैंकर रास्ते में गायब हो गया। टैंकर लेकर निकले चालक का भी कोई पता नहीं है। टैंकर जीपीएस लोकेटर से भी लैस नहीं है, जिससे वह ट्रैक भी नहीं हो पाएगा। ड्रग कंट्रोलर की शिकायत पर पानीपत पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है और एक टीम गठित कर ऑक्सीजन टैंकर की तलाश की जा रही है।

बुधवार सुबह पानीपत रिफाइनरी से दिल्ली और सिरसा के अस्पतालों के लिए मेडिकल ग्रेड ऑक्सीजन से भरे टैंकर रवाना किए गए थे। सिरसा को भेजा गया टैंकर रास्ते में ही गायब हो गया। जांच में सामने आया कि रिफाइनरी से निकलने के कुछ देर बाद ही चालक का मोबाइल फोन स्विच ऑफ हो गया और उससे कोई संपर्क नहीं हो सका। आशंका जताई जा रही कि पानीपत में ही टैंकर गायब हुआ है और वारदात को पूरी प्लानिंग के साथ अंजाम दिया गया है। ड्रग कंट्रोलर विजय राजे ने बताया कि पुलिस को शिकायत देकर केस दर्ज कराया गया है। डीएसपी सतीश वत्स का कहना है कि पुलिस टीम टैंकर को खोजने में जुटी है।


बुधवार को ही रिफाइनरी से पहली खेप भेजी गई थी
पानीपत रिफाइनरी से मेडिकल ग्रेड ऑक्सीजन की आपूर्ति अस्पतालों को बुधवार से ही शुरू की गई थी। इंडियन ऑयल ने मेडिकल ग्रेड ऑक्सीजन का पहला बैच दिल्ली और फिर सिरसा रवाना किया था। इंडियन ऑयल दिल्ली, हरियाणा और पंजाब के विभिन्न अस्पतालों में 150 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति करेगा। इसके लिए पानीपत रिफाइनरी की मोनो एथिलीन ग्लाइकॉल (एमईजी) यूनिट में इस्तेमाल की जाने वाली उच्च शुद्धता की ऑक्सीजन को डायवर्ट किया गया है। इसका उपयोग मेडिकल-ग्रेड तरल ऑक्सीजन का उत्पादन करने के लिए किया जाता है।
... और पढ़ें

शर्मनाक : दहेज के लिए पत्नी पर ढाया कहर, दो बार गर्भ गिराया, तेजाब फेंकने की दी धमकी 

दहेज के लिए नेवी में तैनात एक युवक ने अपनी पत्नी पर कई जुल्म किए। मामला पानीपत के मॉडल टाउन का है। मॉडल टाउन निवासी एक डॉक्टर की बेटी ने दिल्ली निवासी नेवी अफसर पति पर शराब के नशे में मारपीट करने और दहेज प्रताड़ना के आरोप लगाए हैं। 

पीड़िता ने बताया कि उसकी शादी 2009 में दिल्ली निवासी इंडियन नेवी में तैनात विपुल मनोचा से हुई थी। शादी के बाद से ही पति ने कम दहेज लाने की बात कहकर नशे की हालत में मारपीट करनी शुरू कर दी। उसने दो लाख रुपये की मांग की। लगातार मारपीट से परेशान होकर उसने पिता से रुपये लेकर पति को दिए। कुछ दिन ठीक रखा, लेकिन दोबारा दहेज की मांग की। मॉडल टाउन थाने में दी शिकायत में पीड़िता ने बताया कि पति ने उस पर सोते समय खौलता हुआ पानी डाल दिया। धमकी दी कि अगली बार वह तेजाब डाल देगा।


पीड़िता ने बताया कि 2011 में वह गर्भवती हुई तो सास और पति ने लड़का न होने पर बच्चा गिराने की बात कही। पति की रोजाना की मारपीट के कारण गर्भपात हो गया। इसके बाद 2015 में वह दोबारा गर्भवती हुई। शराब पीकर पति ने लात-मुक्के मारे। उसने पानीपत आकर डॉक्टर को दिखाया तो पता चला कि मारपीट की वजह से फिर गर्भपात हो गया। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

एक गड्ढे पर हैवानियत : जान बचाने को भागता रहा सुपरवाइजर, दरिंदों ने तीन माह के बच्चे से छीन लिया पिता का साया

दो मकानों के सीवरेज का एक गड्ढा बनाने का विवाद सुपरवाइजर शिव कुमार की जान ले गया। हरियाणा के पानीपत के भारत नगर में सीवर कनेक्शन के विवाद में शुक्रवार को अमरुत योजना की ठेका कंपनी भूमि इंफ्रास्ट्रक्चर के सुपरवाइजर की तीन बाइक पर सवार आठ हमलावरों ने हत्या कर दी। आरोपियों ने सुपरवाइलर को पहले गोलियों से भूना और फिर कई बार चाकू से गोदकर मार डाला। सुपरवाइजर जान बचाने के लिए गली में भागता रहा लेकिन मौत ने उसका पीछा नहीं छोड़ा। सुपरवाइजर एक गली के बाद जब दूसरी गली में पहुंचा तो हमलावरों ने उसके हाथ में एक गोली मारी। वह घायल अवस्था में भागता रहा और एक किराने की दुकान के बाहर जाकर रुका तो उसके बाएं कंधे में गोली मारी गई। बचने के लिए शिव कुमार किराने की दुकान में घुसा तो हमलावर भी दुकान में घुस गए। इसके बाद हमलावरों ने चाकू से आठ से दस वार किए। लोग इकट्ठा हुए तो हमलावर फरार हो गए। मौत से पहले बनाए वीडियो में शिव कुमार ने भास्कर नामक व्यक्ति के बेटे पर हमला करने की बात कही।  
 
... और पढ़ें

इसी गड्ढे के विवाद में हत्या : सुपरवाइजर को गोली मारी फिर चाकू से गोदा, मरने से पहले बनाया वीडियो

पानीपत में सुपरवाइजर की हत्या
हरियाणा के पानीपत के भारत नगर में सीवर कनेक्शन के विवाद में शुक्रवार को दिनदहाड़े अमरुत योजना की ठेका कंपनी भूमि इंफ्रास्ट्रक्चर के सुपरवाइजर की तीन बाइक पर सवार आठ हमलावरों ने गोलियों से भूना और चाकू से गोदकर हत्या कर दी। इस वारदात को दो सगे भाइयों समेत आठ हमलावरों ने अंजाम दिया। 

यह आरोप खुद सुपरवाइजर ने मौत से पहले बनाए गए एक वीडियो में लगाया है। वीडियो में सुपरवाइजर ने आरोप लगाया कि धूप सिंह नगर निवासी भास्कर के बेटों ने हमला किया है। परिजनों ने उसे सामान्य अस्पताल पहुंचाया, जहां से उसे रोहतक पीजीआई रेफर किया गया लेकिन परिजन उसे निजी अस्पताल लेकर गए, जहां उपचार के दौरान सुपरवाइजर की मौत हो गई। किला थाना पुलिस ने मौके से तीन खोखे बरामद किए हैं।

मूलरूप से कैथल के गांव सीतामाई निवासी शिव कुमार मोहरी (28) हाल में करनाल के नानकपुर में परिवार समेत रहता था। वह पानीपत में अमरुत योजना के तहत सीवर डालने की ठेका कंपनी भूमि इंफ्रास्ट्रक्चर में सुपरवाइजर था। शुक्रवार को शिव कुमार भारत नगर में गली की पैमाइश और हिसाब कर रहा था। 
... और पढ़ें

आत्महत्या : डेढ़ माह बाद सजना था सेहरा, लाइसेंसी रिवाल्वर से खुद को उड़ाया, खुले कमरे को बंद करने गए पिता तो खुला मामला 

पानीपत के गांव जलालपुर प्रथम के सरपंच के बेटे ने शुक्रवार सुबह लाइसेंसी रिवाल्वर से कनपटी पर गोली मार ली। सरपंच पिता कमरे में गया तो बेटा जमीन पर खून से लथपथ पड़ा हुआ था। आनन फानन में पिता बेटे को निजी अस्पताल में लेकर पहुंचा, जहां उपचार के दौरान युवक ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने कमरे से रिवाल्वर को बरामद कर लिया है। पुलिस ने शव को सामान्य अस्पताल के शव गृह में रखवा दिया है। गांव जलालपुर प्रथम के निवर्तमान सरपंच रमेश कौशिक ने बताया कि उसके दो बेटे है। बड़ा बेटा सुनील और छोटा बेटा अनिल (29)। अनिल की इंसार बाजार में सरपंच कलेक्शन के नाम से रेडीमेड कपड़ों की दो दुकान है। शुक्रवार सुबह 9 बजे अनिल नहाकर दुकान पर जाने की तैयारी करने लगा। खाना खाकर अनिल छत पर बने कमरे में गया था।  ... और पढ़ें

बेरहमी : भीख मांगने से किया इंकार तो बेटी को सिगरेट से दागता है बाप, किशोरी बोली- मुझे घर नहीं जाना, चाहे नरक में डाल दो

पापा भीख मंगवाते हैं, मैं मना करती हूं तो जलती हुई सिगरेट मेरे सिगरेट में दागते हैं। मैं नरक से भी बदत्तर जिंदगी जी रही हूं। मैडम मुझे घर नहीं जाना, मुझे पढ़ाई करनी है, इसलिए मैं घर छोड़कर भाग आई, मुझे जेल में डाल दो, चाहे नरक में लेकिन मुझे घर नहीं जाना। यह शब्द रोते हुए एक 14 वर्षीय किशोरी ने सीडब्ल्यूसी की चेयरपर्सन पदमा रानी को काउंसलिंग के दौरान कहे।

सीडब्ल्यूसी चेयरपर्सन पदमा रानी ने बताया कि उन्हें गत 28 मार्च होली की रात करीब आठ बजे वार्ड 10 के पार्षद रविंद्र भाटिया से सूचना मिली थी कि करीब 14 वर्षीय एक किशोरी सेक्टर- 12 में 548 के बाहर बैठी हुई रो रही है। इसी सूचना पर उन्होंने सेक्टर 11-12 चौकी पुलिस को मौके पर भेजकर किशोरी को रेस्क्यू कराया। 

बच्ची से बातचीत करने का प्रयास किया लेकिन वह डरी थी, जिस वजह से वह बोल नहीं पाई। उन्होंने किशोरी का मेडिकल कराया और उसके बाद उझा रोड स्थित सृष्टि कल्याण समिति ओपन शेल्टर होम में भिजवा दिया। वहीं मंगलवार को बच्ची की काउंसलिंग की गई। जिसमें बच्ची ने हैरान कर देने वाले खुलासे किए हैं।
... और पढ़ें

वारदात : जमीन विवाद में हवालात में बंद थे, चाचा ने भतीजे का सिर फोड़ा, एएसआई और हवलदार सस्पेंड 

जमीन विवाद में हरियाणा के पानीपत में सेक्टर 13-17 थाना के अंदर हवालात में बंद बबैल गांव के एक व्यक्ति ने हवालात में ही अपने भतीजे का डंडा मारकर सिर फोड़ दिया और बेहोश पड़े भतीजे पर कपड़ा ढक दिया। पुलिसकर्मी युवक को जगाने गए तो मामले का खुलासा हुआ है।

पुलिसकर्मियों ने घायल को सामान्य अस्पताल पहुंचाया, जहां से उसे रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया। परिजनों ने उसे बिशन स्वरूप कॉलोनी स्थित एक निजी अस्पताल में उसे भर्ती कराया। जहां वह उपचाराधीन है। वहीं लापरवाही बरतने पर जांच अधिकारी एएसआई और हवलदार को सस्पेंड कर दिया गया है।


बबैल गांव निवासी सुनील अहलावत पुत्र राजेंद्र ने बताया कि तीन कनाल पंचायती जमीन पर तीन साल से उनका अपने चाचा बलवान के साथ विवाद चल रहा था। हाल ही में उन्होंने जमीन में सरसों की फसल काटी थी और गन्ने की बिजाई करने के लिए खेत की जुताई की थी। उसके चाचा बलवान ने सेक्टर 13-17 थाने में जमीन पर ट्रैक्टर चलाकर फसल नष्ट करने का आरोप लगाते हुए उसके छोटे भाई सुशील के खिलाफ शिकायत दी थी।

बुधवार को एएसआई अनूप ने सुशील और चाचा बलवान को थाने में बुलाया था। दोनों की ओर से रविवार तक का समय लिया गया था, लेकिन बलवान ने थाने के अंदर ही हंगामा शुरू कर दिया। इसके बाद एएसआई ने सुशील और बलवान के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उन्हें हिरासत में ले लिया। गुरुवार सुबह छह बजे बलवान ने मौके का फायदा उठाते हुए पुलिस का डंडा उठाकर सुशील के सिर पर दो बार हमला कर दिया।
... और पढ़ें

पानीपत कंकाल कांड : कैराना से मौत खरीदकर लाया था अहसान, बहाने से खुदवाया था गड्ढा 

पानीपत में एक मकान की खुदाई में मिले तीन कंकालों के मामले में सनसनीखेज खुलासे हो रहे हैं। मामले का आरोपी अहसान सैफी अपनी दूसरी पत्नी नाजनीन और उसके दो बेटों साजिद और सोहिल को मारने से पहले कैराना गया था। वहां के मेडिकल स्टोर से उसने नींद की गोलियां खरीदी। घर आकर देर रात उसने चार-चार गोलियां सभी के दूध से भरे गिलास में मिला दीं और उन्हें कमरे में सोने के लिए भेज दिया। सुबह तीनों मृत मिले। इसके बाद अहसान ने कमरा बंद कर दिया और बाहर से ताला लगाकर शव ठिकाने लगाने के लिए घर की लॉबी में गड्ढा खोदना शुरू कर दिया। वह पूरा गड्ढा नहीं खोद पाया तो एक मजदूर लेकर आया। मजदूर ने कारण पूछा तो अहसान ने कहा कि पड़ोसी पानी नहीं देते हैं, इसलिए घर में ही पानी की टंकी बनानी है। मजदूर से तीन फुट गहरा गड्ढा खुदवाया। पड़ोसियों से इस बारे में पता चलने पर सीआईए वन प्रभारी राजपाल ने अहसान की फेसबुक पर आईडी सर्च की। पड़ोसियों से उसके अकांउट की पहचान कराई, जिसके बाद उसमें से अहसान सैफी का मोबाइल नंबर मिला। पुलिस ने लोकेशन ट्रेस की तो उत्तर प्रदेश के भदोई की मिली। जिसके बाद सीआईए-1 की टीम भदोही रवाना हो गई। 
 
... और पढ़ें

महिला ने फांसी लगा जान दी, आठ साल के बेटे ने चुन्नी काटकर शव उतारा, पति बोला- तांत्रिक का था प्रभाव

पानीपत के जाटल रोड स्थित रामनगर में एक महिला ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। ट्यूशन से घर लौटे आठ वर्षीय बेटे ने कूलर पर चढ़कर चुन्नी के फंदे को चाकू से काटा। सूचना मिलते ही असंध नाका चौकी पुलिस मौके पर पहुंची और महिला के शव को सामान्य अस्पताल पहुंचाया। पति का कहना है पत्नी पर तांत्रिक का साया था, जिस वजह से वह परेशान रहती थी।

रामनगर निवासी अमरचंद ने बताया कि उसकी करीब नौ साल पहले शिल्पी (32) से शादी हुई थी। उसके दो बच्चे हैं, जिनमें बड़ा बेटा आदित्य (08) दूसरी कक्षा का छात्र है और छोटी बेटी मानवी (02) है। वह राज ओवरसीज में काम करता है, जबकि पत्नी शिल्पी गृहिणी है। वह बुधवार को सुबह आठ बजे नौकरी पर चला गया था। वहीं बेटा आदित्य भी दोपहर तीन बजे ट्यूशन चला गया था। 

शाम को पांच बजे बेटा घर लौटा तो शिल्पी रोशनदान पर चुन्नी के फंदे पर रस्सी से लटकी मिली। बेटे ने आसपास के लोगों को सूचना दी और कूलर पर चढ़कर फंदे को चाकू से काट दिया। इसके बाद मकान मालिक जसमेर ने उसे घटना की सूचना दी। वह घर पहुंचा और पुलिस को सूचना देने के बाद शव को सामान्य अस्पताल पहुंचाया। शुक्रवार को शव का पोस्टमार्टम कराया गया।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन