विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम
Puja

मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

प्रेमिका को पसंद थी सिल्वर बाइक, फरमाइश पूरी करने के लिए प्रेमी करने लगा ये वारदात, जानें

प्रेमिका को सिल्वर बाइक पसंद थी। उसकी इस फरमाइश को पूरी करने के लिए प्रेमी ने एक महीने में चार सिल्वर बाइक समेत छह बाइकों की चोरी को अंजाम दिया। आरोपी ने पानीपत व करनाल में बाइक चोरी की वारदातों का कबूलनामा किया। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने चोरी की 6 बाइक बरामद की। आरोपी ने उसकी पहचान अजय निवासी गुढ़ा जिला करनाल के रूप में हुई है।

सीआइए-वन टीम प्रभारी इंस्पेक्टर संदीप कुमार ने बताया कि सोमवार शाम सीआइए-वन की एक टीम मुख्य सिपाही राजेश कुमार के नेतृत्व में गश्त के दौरान सेक्टर-18 में मौजूद थी। इसी दौरान टीम को गुप्त सूचना मिली की देश बंधु गर्वनमेंट कॉलेज के पास संदिग्ध किस्म का युवक किसी आपराधिक वारदात को अंजाम देने की फिराक में धूम रहा है।
... और पढ़ें

पानीपतः रंजिशन हाली कॉलोनी के प्रधान मुर्गा व्यापारी को गोली मारी, छह लोगों के खिलाफ केस

पानीपत में वार्ड-10 की सैनी कॉलोनी में शुक्रवार की देर रात बाइक सवार छह लोगों ने मुर्गा व्यापारी को रंजिशन गोली मार कर घायल कर दिया। आरोपी वारदात को अंजाम देने के बाद मौके से फरार हो गए। घायल को उसके परिजन तुरंत बिशन स्वरूप कॉलोनी स्थित एक निजी अस्तपाल ले गए। जहां उसे भर्ती कर लिया गया। किला थाना पुलिस ने घायल की शिकायत पर 4 नामजद सहित 6 बदमाशों पर हत्या के प्रयास सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी।

पुलिस को दी शिकायत में कारूण उर्फ हारूण निवासी सैनी कॉलोनी ने बताया कि वह पोल्ट्री फार्मों से मुर्गे की खरीद कर दुकानों पर सप्लाई करता है। शुक्रवार को उसके दोस्त विकास का जन्मदिन था और वह अपने मित्रों के साथ कृष्ण पंडित के कार्यालय पर पार्टी में शामिल था। देर रात वह अपने घर जाने के लिए अपनी कार में सवार होकर अपने घर के बाहर पहुंचा, तो इसी दौरान वहां एक पल्सर बाइक सवार दो अज्ञात युवक आए। जो उसके पास रूके और किसी कालोनी का पता जानने लगे।

इसी दौरान दो बाइक और वहां आकर रूकी, बाइकों पर मुतलिब निवासी हॉली कालोनी व इसका जीजा निवासी चांदपुर, उत्तर प्रदेश, रणदीप उर्फ काला व बारू निवासी गांव उग्राखेडी जिला पानीपत आकर रूके। इससे पहले की कारूण कुछ समझ पता रणदीप ने उसे देसी पिस्तौल से गोली मार दी, गोली मुर्गा व्यापारी की छाती में लगी। इसके बाद आरोपी फरार हो गए। गोली चलने व कारूण के चिल्लाने की आवाज सुन कर कालोनी निवासी जाग गए और उनकी सूचना पर कारूण का भाई रणतेज मौके पर पहुंचा।

 
... और पढ़ें

पानीपतः पत्नी से झगड़े के बाद तीन साल के बेटे को फंदे पर लटकाया, झटके में दम तोड़ गया मासूम

पानीपत की टीडीआई कॉलोनी में रोज-रोज शिक्षक पत्नी से हो रहे झगड़े से तंग आकर व्यक्ति ने अपने तीन साल के इकलौते बेटे को रस्सी से पंखे पर फंदा पर लटका दिया। इसके बाद उसने खुद भी फंदा लगाकर आत्महत्या करने की कोशिश की। लेकिन तभी रस्सी टूट गई और वो नीचे गिर गया। इसके बाद आरोपी ने खुद ही फोन कर पुलिस को वारदात की सूचना दी।

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी को पकड़ लिया। आरोपी व्यक्ति ने अपना जुर्म कबूलते हुए सारी दास्तां पुलिस को बयान कर दी है। वहीं सामान्य अस्पताल में पत्नी के बयान पर पुलिस ने कुल 9 लोगों के खिलाफ हत्या सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज करते हुए पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों का सौंप दिया।

आरोपी प्रमोद ने पांच साल पहले कुरुक्षेत्र के समालखी गांव की रहने वाली जेबीटी शिक्षिका साक्षी से लव मैरिज की थी। साक्षी पानीपत के ही शिव नगर के सरकारी स्कूल में अध्यापिका है। बाद में वे टीडीआई पानीपत में आकर रहने लगे थे। तीन साल पहले दोनों को एक बेटा हुआ जिसका नाम यश रखा गया। समय के साथ-साथ दोनों पति-पत्नी के बीच वाद-विवाद बढ़ने लगा।
... और पढ़ें

पानीपतः लॉकडाउन के बीच दूध कारोबारी के बेटे की हत्या, मारकर शव खेत में फंदे से लटकाया

हरियाणा के पानीपत जिले में लॉकडाउन के दौरान हत्या की वारदात अंजाम दी गई। दूध कारोबारी के 22 वर्षीय छोटे बेटे को मारकर लटका दिया गया। उसके सिर पर तेजधार हथियार से वार किया गया था। परिजनों का कहना है कि हत्या करने के बाद शव को पेड़ पर लटकाया गया है। सदर थाना पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

गांव निंबरी निवासी दूध कारोबारी बजन सिंह ने बताया कि सोमवार की रात करीब 11 बजे छोटे बेटे बिजेंद्र को घर पर देखा था, जब रात 3:30 बजे नींद खुली बिजेंद्र घर पर नही मिला। बड़े बेटे राकेश को बुलाया और बिजेंद्र को कॉल मिलवाया, लेकिन फोन स्विच ऑफ मिला। तलाश शुरू की और वे लगातार कॉल भी करते रहे, लेकिन कुछ पता नही चला। सुबह सात बजे के आसपास एक रिंग गई, लेकिन फोन पिक नही हुआ। दोबारा कॉल करने फिर से फोन स्विच ऑफ मिला।

इसी दौरान गांव के सरपंच जगबीर ने कॉल करके पंचायती जमीन के खेत में बिजेंद्र के लटके होने की सूचना दी। मौके पर पहुंचे तो देखा के बेटे का शव खून से लथपथ था। उसके सिर में चोट लगी थी और उसे पेड़ के जरिए फंदे पर लटकाया गया था। उन्होंने कहा कि बेटे की हत्या करने के बाद उसे फंदे पर लटकाया है। सदर थाना पुलिस और डीएसपी बिजेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें
पानीपत में युवक की हत्या पानीपत में युवक की हत्या

पानीपतः पत्नी और दो बच्चों को लाइसेंसी पिस्तौल से गोली मारकर राशन डिपो होल्डर ने की खुदकुशी

पिता और छोटे भाई ने प्रापर्टी से बेदखल करने की धमकी दी तो परेशान डिपो होल्डर ने पत्नी, बेटी और बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी और फिर खुद को गोली मार ली। शनिवार की सुबह जब एक अन्य डिपो होल्डर पहुंचा तो अंदर से दरवाजा बंद मिला। इसके बाद उसने अनिल के पिता को इसकी सूचना दी। पिता ने पड़ोसी के छत पर चढ़कर देखा तो अंदर शव पड़े थे।

सूचना पर पहुंची पुलिस को सुसाइड नोट मिला है, जिसमें अनिल ने अपने परिवार वालों पर ही परेशान करने का आरोप लगाया है। मृतक अनिल के साले पवन कुमार निवासी गांव दहा करनाल की शिकायत पर मां अंगूरी, पिता नफे सिंह, भाई नवीन, भाई की पत्नी कविता, ममेले भाई मोहन और चचेरे भाई महिंद्र के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गयी है।

मॉडल टाउन स्थित राजनगर कालोनी निवासी डिपो होल्डर अनिल शर्मा (36) ने पत्नी और बच्चों को माथे और खुद की कनपटी में गोली मारी है। पुलिस को दी गयी शिकायत में मृतक के साले पवन कुमार ने बताया कि बहन पूनम (35) की शादी 2010 में अनिल शर्मा (36) पुत्र नफे सिंह निवासी राज नगर के साथ हुई थी। उनकी बेटी प्राची(11) और छोटा बेटा अंशु(7) है।

आरोप है कि जीजा के परिवार वाले उन्हें और बहन को मानसिक रूप से परेशान कर रहे थे।  पिता नफे सिंह ने जमीन से बेदखल करने की धमकी भी दी थी और छोटे भाई नवीन ने घर से निकालने की चेतावनी दी थी। शुक्रवार को भी सभी ने जीजा और बहन को जायदाद से बेदखल करने की बात कही थी, जिसके बाद अनिल ने तंग आकर अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से पत्नी और बेटा-बेटी की हत्या कर खुद आत्महत्या कर ली।

सूचना पर एसपी, दो डीएसपी और मॉडल टाउन पुलिस मौके पर पहुंची। चारों के शव को सामान्य अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन वहां एक्सपर्ट नहीं होने की वजह से शव को पोस्टमार्टम के लिए रोहतक रेफर किया गया, लेकिन शवों को वहां से पानीपत लौटा दिया गया। फिर सिविल अस्पताल में ही शवों का पोस्टमार्टम हुआ।  

साले की शिकायत पर पुलिस ने छह के खिलाफ धारा 302, 306, आइपीसी34, 27-54-59 के तहत केस दर्ज किया है। शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। जांच के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।
- संदीप कुमार, डीएसपी, पानीपत।
... और पढ़ें

नया तरीका: कैंटर पर लिखा- 'भारतीय डाक विभाग', पुलिस ने रुकवाया तो मिली 295 पेटी अंग्रेजी शराब

सनौली थाना पुलिस ने रविवार देर रात यमुना बार्डर के रास्ते पर स्पेशल गश्त के दौरान गोशाला के पास भारतीय डाक विभाग लिखे एक कैंटर से अंग्रेजी शराब की 295 पेटियां बरामद की हैं। पुलिस ने कैंटर और शराब को कब्जे में लेकर दो युवकों को शराब तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया है। 

पुलिस ने आरोपियों से शराब की खेप और ट्रक को कब्जे में ले लिया है। आरोपियों को कोर्ट में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया गया है। आरोपियों की पहचान सारिक पुत्र इरफान जिला बदायूं (यूपी) तथा आमिर खान पुत्र राशिद खां निवासी जिला संभल (यूपी) के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मद्य निषेध अधिनियम के तहत कार्रवाई की है।

सनौली थाना एसएचओ दीदार सिंह, एएसआई राजबीर सिंह, पुलिस अनुसंधानकर्ता राजेंद्र सिंह, ईएचसी नरेश, सिपाही शक्ति सिंह ने एसपी पानीपत के निर्देशानुसार टीम गठित की और बीती देर रात सनौली थाना गोशाला के पास हरिद्वार रोड पर नाका लगाकर वाहनों की जांच शुरू की। स्पेशल चेकिंग के दौरान वाहनों की जांच की जा रही थी।

उसी दौरान यूपी की तरफ जा रहा एक कैंटर आया। जिस पर भारतीय डाक विभाग लिखा था। पुलिस को देखकर कैंटर चालक ने अपने वाहन समेत फरार होने का प्रयास किया। वहीं पुलिस टीम ने पीछा कर कैंटर को रुकवाया। जब कैंटर की तलाशी ली तो कैंटर के अंदर 295 पेटी अंग्रेजी शराब बरामद हुई। 

पुलिस ने कैंटर और शराब को कब्जे में लेकर दोनों युवकों सारिक पुत्र इरफान जिला बदायूं और आमिर खान पुत्र राशिद खां निवासी जिला संभल (यूपी) को शराब तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया है। आरोपी शराब तस्करों के खिलाफ मद्य निषेध अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई। 

सनौली थाना एसएचओ दीदार सिंह ने बताया कि एसपी मनीषा चौधरी के निर्देशानुसार यमुना नदी के कच्चे रास्ते घाटों पर सभी वाहनों की गहनता से चेकिंग व गश्त की जा रही है। इस मामले की आगे की जांच पुलिस टीम और पानीपत जिला आबकारी एवं कराधान विभाग की आबकारी विंग के अधिकारी को सौंपी गई है। दोनों शराब तस्करों को सोमवार को न्यायिक हिरासत में पेश किया गया। जहां से दोनों आरोपियों को दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है।
... और पढ़ें

पानीपतः चोरी करने से इनकार किया तो नाबालिग की अंगुली जलाई, प्राइवेट पार्ट में डाल दिया पेन

तीन दोस्त 11 वर्षीय नाबालिग छात्र से मारपीट कर छह माह तक तीन लाख रुपये चोरी कराते रहे। जब नाबालिग ने तंग आकर चोरी करने से मना किया तो लाइटर से उसकी अंगुली जला दी और उसके प्राइवेट पार्ट में पेन डाल दिया। पीड़ित कुछ बता ना सके इसलिए उसकी वीडियो भी बना ली गई। मां ने हाथ जलने के निशान देखे तो बेटे से पूछताछ की। पहले तो बेटे ने मना किया, लेकिन जब मां ने दबाव डाला और उसके दोस्तों को बुलाया तो सब कुछ बता दिया।

मामला हरियाणा के पानीपत जिले में सेक्टर-29 थाना स्थित एक कॉलोनी का है। बुधवार को परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने छह पोक्सो एक्ट सहित तीन अन्य धाराओं में आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। परिजनों के कहने के बावजूद पुलिस ने एससी-एसटी एक्ट भी नहीं लगाया। वीरवार रात नौ बजे परिवार वाले दोबारा थाने पहुंचे। उनका आरोप है कि पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की। वहीं डीएसपी बिजेंद्र को फोन लगाया तो उन्होंने सुबह कार्रवाई करने की बात कहकर फोन काट दिया।

शुक्रवार को लोग सेक्टर थाना पहुंचे और एसएचओ का घेराव किया। मौके पर डीएसपी बिजेंद्र पहुंचे। काफी देर के हंगामे और पेट्रोल डालकर आग लगाने की धमकी के बाद पुलिस ने एससी-एसटी एक्ट की धारा भी जोड़ दी। गिरफ्तार आरोपी को न्यायालय में पेश कर पुलिस रिमांड पर लिया गया है। पीड़ित के पिता ने डीएसपी बिजेंद्र पर आरोप लगाया है कि वह आरोपियों की मदद कर रहे हैं। डीएसपी ने इसका विरोध किया तो पिता ने कहा, डीएसपी आप दलित विरोधी हो, हमें आप पर विश्वास नहीं है।
... और पढ़ें

फिल्मी अंदाज में प्रापर्टी डीलर की हत्या, पार्टनरों ने एक माह में रची प्लानिंग, पढ़ें-खौफनाक वारदात

फाइल फोटो
सुखदेव नगर से छह दिन से लापता प्रॉपर्टी डीलर नरेश शर्मा की पैसों के लेनदेन के चलते पैराडाइस कार बाजार कंपनी के मालिक सहित तीन आरोपियों ने मिलकर गला घोंटकर हत्या कर दी। पैराडाइस कंपनी के मालिक ने नरेश से 15 लाख उधार लिए थे, जिसमें से 8 लाख वह वापस कर चुके थे, लेकिन नरेश ने बकाया 7 लाख देने का भी दबाव बनाया तो उन्होंने हत्या से एक माह पहले पूरी प्लानिंग की और उसमें उन्होंने कुल दो लोगों को और जोड़ा। 

वह 6 फरवरी को बकाया पैसे देने के बहाने सेक्टर 13-17 स्थित अपने ऑफिस ले गए और वहां पर तीनों ने डीलर की गला घोंटकर हत्या की। उसके बाद डीलर की गाड़ी में उसका शव डाला और दो गाड़ियों के साथ करनाल की तरफ चल दिए। सीसीटीवी में न आए इसलिए उन्होंने पानीपत और करनाल टोल टैक्स की बजाय दूसरा रास्ता अपनाया और 6 फरवरी को ही देर रात शव को बूढ़नपुर के पास नहर में फेंका और उसके बाद सबूत मिटाने के लिए गाड़ी को भी नहर में धक्का दे दिया। वहीं, पांच दिन से लगातार आरोपियों की धरपकड़ में जुटी सीआइए टू और डिटेक्टिव टीम ने भैंसवाल चौके के पास से दबोच लिया और पुलिस पूछताछ के लिए न्यायालय में पेश कर दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है।

प्रॉपर्टी डीलर तक कैसे पहुंचे आरोपी और शव को कैसे-कैसे ले गए बूढ़नपुर
रेकी कर रहे आरोपी सुनील उर्फ निती ने प्रॉपर्टी डीलर नरेश शर्मा के ऑफिस से निकलने से करीब पांच मिनट पहले ही पुलकित और चेतन को मौके पर पहुंचकर सूचना दे दी थी। वहीं, स्काईलार्क पर जैसे ही नरेश शर्मा अपनी कार में सवार होकर पहुंचा तो पुलकित और चेतन ने नरेश शर्मा को गाड़ी रुकवाया और बचे हुए पैसे लौटाने के बहाने सेक्टर 13-17 में बने अपने ऑफिस पर ले गए। 
... और पढ़ें

ओयो के एरिया मैनेजर पानीपत में अगवा, आरोपी बोले- भाई अपहरण तै बचणा हो तै 50 हजार मंगा लै..

पानीपत के सेक्टर-13, 17 में खाना लेने गए ओयो कंपनी के एरिया मैनेजर का चार बदमाशों ने पिस्तौल के बल पर उसी की कार में अपहरण कर लिया और फिर उसके साथ मारपीट की। बदमाश गाड़ी में ही मैनेजर को चार घंटे तक घुमाते रहे और इस दौरान उसे लगातार पीटा गया। बदमाशों ने पीड़ित को अपने चंगुल से छोड़ने के लिए 50 हजार रुपये मांगे। 

इसके साथ ही बदमाशों ने कहा कि अभी 50 हजार नहीं लाए तो उसका अपहरण कर लेंगे और फिर उसके पिता से तीन लाख रुपये की फिरौती लेंगे। बदमाशों ने मैनेजर को सड़क पर चार घंटे तक घुमाया। दो बार कार से उतारा और तीसरी बार प्लेड़ी गांव में फेंककर उसकी कार, नकदी और एटीएम कार्ड लूटकर फरार हो गए। 

पुलिस को दी शिकायत में नमन विरमानी पुत्र विनोद विरमानी निवासी सेक्टर-6 ने बताया कि वह ओयो कंपनी में एरिया मैनेजर के रूप में कार्यरत है। सात जनवरी को सेक्टर 13-17 में स्थित मास्टर ढाबे पर खाना लेने के लिए गया था और कार होंडा अमेज के चारों दरवाजे खोल कर रखे थे। तभी चार युवक पैदल आए।

एक ने ड्राइवर सीट की ओर से आकर उसके मुंह में पिस्तौल डाल दी और दूसरे बदमाश बगल वाली सीट से आया और उसके सिर पर पर पिस्तौल तान दी। जिस पर उसने बराबर वाली सीट पर बैठे बदमाश को लात मारकर गिरा दिया। जिस पर ड्राइवर सीट से आए बदमाश ने उसके सिर पर पिस्तौल की बट मार दी। 
... और पढ़ें

शामली में भजन गायक, उसकी पत्नी और बेटी को मारा, पानीपत में बेटे का शव जलाया, पढ़ें कई खुलासे

अपहरण के बाद चचेरे भाई को मार डाला, फिर मांगी पांच लाख की फिरौती, ये वजह आई सामने

तहसील कैंप में 16 वर्षीय किशोर का उसके सगे ताऊ के बेटे ने पहले अपहरण किया और फिर उसकी हत्या कर फोटो स्टूडियो संचालक चाचा से पांच लाख रुपये की फिरौती मांगी। चचेरे भाई की हत्या को दो साथियों के साथ मिलकर अंजाम दिया गया। हत्या आरोपी के सिर पर सट्टा लगाने की वजह से काफी कर्ज था, जिसकी वजह से उसने अपहरण और फिरौती का प्लान बनाया था।

फिरौती की कॉल में आवाज का पता करने पर पिता ने शक के आधार पर कुछ लोगों की जानकारी पुलिस को दी। जिसके बाद पुलिस ने शक के आधार पर हत्या आरोपियों को हिरासत में लिया और पूछताछ में उसने पूरी बात कबूल कर ली। जिसके बाद किशोर का शव बरामद किया गया। पुलिस ने ताऊ के बेटे समेत हत्या में शामिल उसके दोनों दोस्तों को भी गिरफ्तार कर लिया है। मृतक किशोर एक पूर्व पार्षद का दूर के रिश्ते में भतीजा बताया जा रहा है।  

जवाहर नगर निवासी फोटो स्टूडियो मालिक योगेश बिंदल ने बताया कि उनके 16 वर्षीय बेटे कुणाल उर्फ लवीश मंगलवार की शाम साढ़े सात बजे ट्यूशन से घर लौटा था। उसके बाद वह मां मोनिका को यह कहकर निकल गया कि वह खेलने के लिए जा रहा है लेकिन वह रात नौ बजे तक भी घर नहीं लौटा। उसका फोन भी स्विच ऑफ आ रहा था। जिसके बाद पुलिस को गुमशुदगी की शिकायत दी। 
... और पढ़ें

पानीपतः छह लोगों ने किशोरी का अपहरण किया, दो महीने किया दुष्कर्म और गर्भवती भी हुई

सवा दो माह पहले एक 14 वर्षीय किशोरी का अपहरण कर लिया गया। परिजन बेटी की लिए दर दर की ठोकरे खाते रहे। पुलिस ने भी कोई सहयोग नहीं किया। आईजी के मामले में हस्तक्षेप करने के बाद पुलिस ने मामले में छानबीन की तो पता चला कि एक महिला समेत छह आरोपियों ने उसका अपहरण किया है और उसके साथ दो माह तक दुष्कर्म किया है। 

पुलिस ने किशोरी को यूपी के फर्रुखाबाद से बरामद किया है। किशोरी दो माह की गर्भवती है। एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। किशोरी का आरोप है कि पुलिस ने अदालत में उसके 164 के बयान कराने के दौरान काफी धमकाया है। शहर के एक क्षेत्र के रहने वाले व्यक्ति ने बताया कि वो मूलरूप से बिहार के मधुबनी जिले का रहने वाले हैं। वो 19 साल से पानीपत में रहकर मजदूरी करते हैं। उसकी बड़ी बेटी 14 साल की हैं। उसकी बेटी 26 सितंबर को अपनी सहेली के पास गई थी। 

उसके बाद से ही वो लापता थी। वो लगातार पुलिस के पास चक्कर काट रहे थे, लेकिन कोई उसकी सुनवाई नहीं कर रहा। कई बार चक्कर काटने के बाद पुलिस ने 27 सितंबर को मामले में अपहरण का केस तो दर्ज कर लिया, लेकिन सही कार्रवाई नहीं की। वो अपने स्तर पर भी बेटी की तलाश करते रहे। 

उन्होंने मामले की शिकायत आईजी योगेंद्र नेहरा से की। इसके बाद पुलिस हरकत में आई। पुलिस ने मंगलवार को उसकी बेटी को आरोपी नन्हा के साथ फर्रुखाबाद से बरामद किया है। आरोपी नन्हा ने अपने जीजा परमानंद, भूरा, सुनील व पड़ोसी राजकुमार के पिता ने उसकी बेटी के साथ दुष्कर्म किया है और जान से मारने की धमकी भी दी। 

उन्होंने पुलिस पर आरोप लगाया कि पुलिस ने उसकी बेटी को बरामद करने के बाद उनको सूचना तक नहीं दी और उसकी बेटी को बाल निकेतन में छोड़ दिया। पुलिस ने बयान बदलने के लिए भी प्रताड़ित किया। मेडिकल कराने पर उसकी बेटी दो माह की गर्भवती मिली। पुलिस ने अब तक मामले के एक ही आरोपी को गिरफ्तार किया है। बाकी आरोपी उनको घर में आकर जान से मारने की धमकी दे रहे हैं और मारपीट कर रहे हैं।

हमने मामले में तुरंत केस दर्ज कर लिया था। आरोपी बार-बार लोकेशन बदल रहा था। इसलिए आरोपी तक पहुंचने में समय लग गया। एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जल्द दूसरे आरोपियों को भी पकड़ लिया जाएगा। -प्रवीण कुमार, जांच अधिकारी किला पुलिस थाना
... और पढ़ें

पानीपतः बदमाशों ने घर में घुसकर की तोड़फोड़, पीड़ितों ने छिपकर बचाई जान, दो भैंसों को गोली मारी

समालखा के आखिरी छोर पर बसे गांव बुढनपुर में गांव के ही कुछ लोगों ने एक घर में घुसकर लाठी-डंडों से तोड़फोड़ की और घर से सामान उठाकर भी ले गए। पीड़ितों ने किसी तरह से घर के एक कमरे व गन्ने के खेत में छिपकर अपनी जान बचाई। आरोपी पक्ष ने दो भैंसों की भी हत्या कर दी। आरोपियों ने बाइक में आग लगा दी और कार व टैंपो के शीशे तोड़ दिए। 

 सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने केस दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी है। हमले का कारण पुरानी रंजिश बताई जा रही है। जिसमें शिकायतकर्ता के चचेरे भाई की हत्या हो गई थी। शिकायतकर्ता अमरदीप ने बताया कि 2013 में गांव में हुए झगड़े में उसके चाचा के लड़के प्रदीप का मर्डर हो गया था। हत्या के आरोप में गांव के ही तीन लोगों को उम्रकैद की सजा हुई थी और अभी वो पैरोल पर आए हुए हैं। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन