विज्ञापन

अंबाला

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

हरियाणा: कुरुक्षेत्र सांसद सैनी को काले झंडे दिखाने और हमला करने में 12 लोगों पर केस दर्ज 

हरियाणा में कुरुक्षेत्र के सांसद नायब सैनी को काले झंडे दिखाने और उनकी गाड़ी में ईंट पत्थरों से हमला करने के आरोप में पुलिस ने 12 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। घटना शुक्रवार की देर शाम को गांव कोड़वा खुर्द में हुई। इस संदर्भ में पीसीआर-22 में तैनात एएसआई ईश्वर दयाल की ओर से शिकायत दर्ज कराई गई है। 

उन्होंने बताया कि शुक्रवार को अंबाला कंट्रोल रूम से आदेश प्राप्त हुआ कि कुरुक्षेत्र के भाजपा सांसद नायब सैनी को गांव दिनारपुर अंबाला कुरुक्षेत्र सीमा से रिसीव करके उनकी पायलट ड्यूटी करनी है। जब वह अपने कर्मियों के साथ गाड़ी लेकर दिनारपुर बार्डर पहुंचे तो उनके पास सांसद सैनी के अंगरक्षक अशोक कुमार का टेलीफोन आया।

बताया कि सांसद गांव कोड़वा खुर्द में परवेश के लड़के की शादी समारोह में शामिल होने के लिए जा रहे हैं। ईश्वर दयाल के अनुसार उन्होंने उसी समय थाना शहजादपुर प्रभारी को टेलीफोन पर अवगत करा दिया और वह स्वयं गाड़ी लेकर कोड़वा खुर्द की ओर रवाना हुए।

इसके बाद सांसद सैनी सायं करीब सात बजे शादी समारोह में शामिल होकर वापस अपने निवास स्थान के लिए निकले ही थे कि कोड़वा खुर्द में बने प्रवेश द्वार के पास करीब 12 लोग काले झंडे और हाथों में डंडे लेकर सामने आ गए। आरोप है कि उक्त लोगों ने रास्ता रोककर सांसद को गालियां दीं और उनकी गाड़ी पर ईंट पत्थरों और डंडों से हमला कर दिया।

ईश्वर दयाल के अनुसार उन्होंने सूझबूझ व सावधानी से सांसद नायब सैनी का बचाव कर वहां से निकाला। इस संदर्भ में पुलिस ने परमेश्वर, बलजिन्द्र, गुरविन्द्र, गुरप्रीत, नवदीप (सभी वासी कोड़वा खुर्द) समेत 12 लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर कार्रवाई आरंभ कर दी है।
... और पढ़ें

मोहित राणा हत्याकांड: इस्तेमाल की गई कार की नंबर प्लेट थी फर्जी, मोहित को लगी 20 गोलियां 

गुरुवार को हरियाणा के अंबाला में अंबाला-जगाधरी नेशनल हाईवे पर फायरिंग कर मोहित राणा की हत्या करने के लिए इस्तेमाल की गई कार की नंबर प्लेट फर्जी थी। प्राथमिक जांच में पुलिस ने सीसीटीवी की मदद से गाड़ी के नंबर का पता लगाया और जांच करवाई तो यह बात सामने आई। वहीं पुलिस जल्द से जल्द आरोपियों को पकड़ने के लिए मुख्य रूप से सीसीटीवी फुटेज का सहारा ले रही है। वारदात में उपयोग की गई कार किस-किस रूट से आई थी और अंजाम देकर कहां-कहां से गुजरी, उन सभी रास्तों पर लगे सीसीटीवी की मदद ली जा रही है। 

बहरहाल पुलिस ने सभी रास्तों के सीसीटीवी खंगालने शुरू कर दिए हैं। वारदात के बाद आरोपी कब निकले, कहां से निकले और इस बीच वह किस-किस जगह से गुजरे होंगे, उसका रोडमैप तैयार कर पुलिस टीमें जांच कर रही हैं। वहीं पता चला है कि पुलिस के हाथ कुछ खास तरह सुबूत लगे हैं। इनके माध्यम से पुलिस फायरिंग करने वाले शूटरों की गिरफ्तारी के लिए प्रयासरत है।
 
पुलिस अधीक्षक जश्नदीप सिंह रंधावा ने हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए बाकायदा पांच टीमों का गठन किया है। इधर, वीरवार की फायरिंग में गंभीर रूप से घायल हुए मोहित राणा के साथी विशाल भोला का पीजीआई चंडीगढ़ में उपचार चल रहा है। जानकारी के अनुसार अभी उसकी हालत स्थिर है। स्थिति ठीक होने पर पुलिस की ओर से आगामी पूछताछ की जाएगी। 

बता दें कि वीरवार को डीएवी रिवर साइड स्कूल के सामने वर्ना कार पर इको स्पोर्ट्स कार में आए आरोपियों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाई थीं। इस दौरान आरोपियों ने करीब 25 राउंड फायर किए थे। फायरिंग में मोहित राणा की मौत हो गई थी और उसके दोस्त विशाल भोला की गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया था। 

काला राणा गैंग से जोड़कर जांच कर रही पुलिस

हत्या के कारणों और गुत्थी को लेकर पुलिस पूरी तरह स्पष्ट है। गत दिवस ही घटना के ढाई घंटे बाद गोल्डी बराड़ ने फेसबुक पर पोस्ट करते हुए साफ कर दिया था कि यह हत्या उसके व उसके वीर काला राणा गैंग की ओर से करवाई गई है। इसके बाद से पुलिस केवल काला राणा गैंग से मामले को जोड़कर ही जांच पड़ताल कर रही है। पुलिस को उम्मीद है कि वह जल्द आरोपियों तक पहुंच जाएगी।  
 

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा, मोहित को लगी 20 गोलियां

गुरुवार को अंबाला-जगाधरी नेशनल हाईवे पर हुए गोलीकांड में मारे गए मोहित राणा के शव का शुक्रवार को पोस्टमार्टम किया गया। डॉक्टरों के अनुसार मोहित के शरीर पर करीब 40 सुराख मिले। अंधाधुंध फायरिंग में मोहित को 20 के करीब गोलियां लगी। कुछ गोलियां शरीर के हिस्सों में फंसी हुई थी, जिन्हें डॉक्टरों की टीम ने निकाला है। डॉक्टर मेडिकल रिपोर्ट बनाकर पुलिस को सौंपेंगे। 

दूसरी ओर, गोलीकांड में गंभीर रूप से घायल विशाल भोला निवासी छावनी का चंडीगढ़ पीजीआई में उपचार चल रहा है। जानकारी के अनुसार उसकी हालत स्थिर है। उसे छह गोलियां लगी हैं। चंडीगढ़ पीजीआई के डॉक्टरों की टीम ने काफी मशक्कत के बाद इन गोलियों को शरीर से निकाला है। विशाल की हालत अभी भी चिंताजनक है। वहीं पुलिस ने मृतक मोहित राणा के भाई सुभाष राणा (मोनू) की शिकायत पर चार से पांच आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया है। 

पुलिस बल की मौजूदगी में हुआ संस्कार

छावनी के नागरिक अस्पताल में परिजनों, रिश्तेदारों सहित अन्य लोग भारी संख्या में पहुंचे थे। वहां उन्होंने हंगामा कर रोष जताया। अस्पताल से मोहित का शव लेकर परिजन गांव खेलन पहुंचे। यहां भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती में मोहित राणा का अंतिम संस्कार किया गया। 
... और पढ़ें

अंबाला में वारदात:  दिनदहाडे़ कार सवार दो युवकों को गोलियों से भूना, एक युवक की मौत, लगीं 17 गोलियां

हरियाणा के अंबाला में अंबाला-जगाधरी हाईवे स्थित डीएवी रीवर साइड स्कूल के पास बदमाशों ने कार में सवार दो युवकों पर फायरिंग कर दी। गोली लगने से दोनों युवक गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें उपचार के लिए छावनी के नागरिक अस्पताल लाया गया। यहां चिकित्सकों ने जांच के बाद गांव खेलन निवासी मोहित राणा को मृत घोषित कर दिया।

वहीं घायल छावनी निवासी विशाल भोला की बिगड़ती हालत को देखते हुए उसे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया। बताया जाता है कि यह घटना सीसीटीवी में कैद हो गई। हमले के बाद बदमाश मौके से फरार हो गए। वारदात के दौरान हाईवे पर जाम लग गया और लोगों की भीड़ जमा हो गई। मामला दो ग्रुपों की आपसी रंजिश का बताया जा रहा है।
 
जानकारी के अनुसार अंबाला-जगाधरी हाईवे स्थित डीएवी रीवर साइड स्कूल के सामने करधान मोड़ पर रोड क्रॉस करने के लिए एक वर्ना कार रुकी थी। इसी बीच एक सफेद रंग की कार में सवार बदमाशों ने वर्ना कार में सवार युवकों पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसानी शुरू कर दी। इसके बाद सभी बदमाश मौके से फरार हो गए।

फायरिंग की वारदात के बाद वहां दहशत का माहौल पैदा हो गया। कार सवार गंभीर रूप से घायल दोनों युवक तड़पने लगे। एक युवक घायल अवस्था में कार से निकलकर सड़क पर गिर गया। इस दौरान राहगीरों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस को गाड़ी की छत से लेकर अगले शीशे के बोनट के ऊपर गोलियों के खोल पड़े मिले।

वहीं चौक के पास दुकान में लगे सीसीटीवी में यह वारदात कैद हो गई। जांच एजेंसियों ने फुटेज अपने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। बताया जाता है कि वारदात के समय मोहित राणा और भोला छावनी से गांव करधान की तरफ जा रहे थे। वे करधान के मोड़ पर पहुंचे तो पहले से पीछा करते आ रहे बदमाशों ने घेरकर उन पर गोलियां बरसानी शुरू कर दी। 

मृतक को लगीं 17 गोलियां

सीआईए-2 इंचार्ज विजेंद्र ने बताया कि खेलन गांव निवासी मोहित राणा के शरीर पर करीब 17 गोलियां लगी हैं। उसके साथी भोला को भी कई गोलियां लगी हैं। उसे पीजीआई रेफर किया गया है। कारण सही पता नहीं चला कि भोला को कितनी गोली लगी है। उसकी स्थिति गंभीर बताई जा रही है।

मृतक के परिजनों ने किया हंगामा

मोहित राणा की मौत की खबर पाकर छावनी के नागरिक अस्पताल पहुंचे परिजनों ने हंगामा किया। इस दौरान वे बिना पोस्टमार्टम कराए शव घर ले जाने लगे। पुलिस व अन्य साथियों द्वारा समझाने के बाद शव को मोर्चरी में रखवा दिया गया। 

दो ग्रुपों की आपसी रंजिश से जुड़ा है मामला 

अंबाला में दिनदहाड़े फायरिंग और एक युवक की हत्या का प्रकरण दो ग्रुपों के बीच लंबे समय से चल रही आपसी रंजिश से जुड़ा है। पुलिस ने अभी पूरे मामले का खुलासा नहीं किया है। हालांकि इस वारदात को अंजाम देने वाले एक ग्रुप का नाम सामने आ चुका है, लेकिन अधिकारिक रुप से पुलिस ने इसका खुलासा नहीं किया है।

पांच टीमें गठित की : एसपी

एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा ने बताया कि गोलीकांड मामले की जांच के लिए पांच टीमें गठित की गई हैं। टीमें जांच कर रही हैं। मृतक मोहित और विशाल पर पहले भी मुकदमा दर्ज है। मामला पुरानी रंजिश व लेनदेन का लगता है। मामले में पुलिस ने कुछ लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

मोहित का लगा था अमरीका का वीजा

मृतक मोहित राणा के भाई सुभाष उर्फ मोनू ने बताया कि उसके भाई का अमरीका का वीजा लगा था। जल्द ही वह अमरीका जाने वाला था। गुरुवार को वह अपने दोस्त के साथ काम से अंबाला गया था। इस दौरान यह वारदात हो गई। वहीं पुलिस ने मोनू की शिकायत पर पांच अज्ञात युवकों के खिलाफ केस दर्ज किया है। 
... और पढ़ें

अंतरराज्यीय चोर गिरोह: स्पोर्ट्स बाइक के शौक में बने चोर, बुलेट से लेकर केटीएम करते थे चोरी, दो आरोपी काबू

बुलेट, केटीएम, पलसर सहित स्पोर्ट्स बाइक चुराने वाले अंतरराज्यीय मोटरसाइकिल चोर गिरोह के दो सदस्यों को हरियाणा के अंबाला में पुलिस ने काबू कर लिया। आरोपियों के कब्जे से पुलिस ने 22 बाइक बरामद की हैं। इनमें दो बुलेट, दो प्लसर और एक केटीएम बाइक सहित 17 अन्य बाइक शामिल हैं। पूछताछ में आरोपियों ने चोरी की 28 वारदातें कबूली हैं। 

पुलिस के मुताबिक, दुर्गानगर हाल निवासी हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी (बलदेव नगर) निवासी ठाकुर कपूर व गांव मंडोर निवासी गुरप्रीत सिंह उर्फ गुरी ने मोहाली से करीब ढाई लाख की लागत वाली केटीएम बाइक चोरी की थी। पुलिस ने इसी बाइक के साथ अंबाला में आरोपियों को दबोचा।

आरोपियों ने मोहाली, लालडू़ और डेराबस्सी सहित अन्य क्षेत्रों से करीब 10 बाइक उठाई। पूछताछ के दौरान पुलिस ने अंबाला के नौ मामले सुलझाते हुए नौ बाइक बरामद की हैं। आरोपियों ने खुलासा किया कि वे चोरी की गई अधिकतर बाइक को दोस्तों के घर पर यह कहकर खड़ी कर देते थे कि उनके घर पर जगह नहीं है। कुछ दिन बाद वह आकर ले जाएंगे। 

मास्टर चाबी से पलक झपकते खोल देते बाइक का लॉक 
आरोपी अपने साथ एक मास्टर चाबी रखते थे। जिस भी बाइक को मास्टर चाबी लगती थी वे उसे ही उठा लेते थे। पूछताछ में खुलासा हुआ है कि आरोपियों को खुद मालूम नहीं कितनी बाइक चोरी की हैं। उनके द्वारा चोरी की गई 5/6 बाइक अन्य चोर चोरी करके ले गए। एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा ने बताया कि पूछताछ के बाद दोनों आरोपियों को केंद्रीय कारागार में भेज दिया गया। पुलिस आगामी जांच के लिए दोनों को प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आएगी।  
... और पढ़ें
दो आरोपियों से बरामद चोरी की बाइकें। दो आरोपियों से बरामद चोरी की बाइकें।

अंबाला: युवक ने गुरुद्वारे से उठाई कृपाण, सीसीटीवी में कैद, सिख संगत ने तुरंत पकड़ पुलिस को सौंपा

हरियाणा के अंबाला में बुधवार की सुबह करीब 11 बजे छावनी के डिफेंस कॉलोनी के गुरुद्वारा साहिब में एक युवक ने कृपाण उठा ली। कृपाण उठाता देख वहां मौजूद संगत ने युवक को मौके पर दबोच लिया और पीटाई कर उसे लेकर पंजोखरा साहिब थाने में पहुंचे। जहां सिख संगत ने युवक के खिलाफ शिकायत देते हुए पुलिस से कार्रवाई की मांग की। वहीं, घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है।
 
पुलिस ने सिख संगत की ओर से मिली शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। शुरुआती पूछताछ में युवक ने अपना नाम अनिल कुमार पासवान और पता बिहार का बताया है। वहीं पुलिस भी मामले की गंभीरता को देखते हुए युवक से पूछताछ कर रही है। इस घटना के बाद सिख समाज की ओर से भी रोष व्यक्त किया गया है।
 
गुरुद्वारा कमेटी से दलेल सिंह और एसजीपीसी सदस्य हरपाल सिंह पाली ने कहा कि इससे पहले भी ऐसी कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं। इसके बावजूद पुलिस की ओर से कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है जो गलत है। उन्होंने इस दौरान गुरुद्वारा प्रबंधकों के साथ-साथ संगत को चौकस रहने के लिए कहा है। इनेलो के प्रदेश प्रवक्ता ओंकार सिंह ने कहा कि गुरुद्वारा साहिब में गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटना निंदनीय है। ऐसी घटनाओं से आपसी भाईचारा व सांप्रदायिक माहौल खराब होता है, इसलिए इनकी गहन जांच जरूरी है।
 
... और पढ़ें

अंबाला: खतोली के दो डेरों में नकाबपोश पांच बदमाशों ने महंतों को बंधक बनाकर की डकैती, थाने के मुलाजिम बताकर आए थे अंदर

हरियाणा के अंबाला के गांव खतोली स्थित श्री निराकारी जागृति मिशन और श्री आदि शक्ति मां ज्वाला जी के डेरों को लुटेरों ने अपना निशाना बनाया। बदमाश पंजोखरा थाने के मुलाजिम बताकर डेरों में घुसे। मंकी कैप पहने बदमाश असले, रॉड, तलवार सहित अन्य हथियारों से लैस थे।

सोमवार रात करीब एक बजकर 35 मिनट पर बदमाशों ने दोनों डेरों में डकैती की वारदात को अंजाम दिया। बदमाशों ने दोनों डेरों पर हथियारों से महंतों को पीटा और बंधक बना लिया। इसके बाद महंत व उनके शिष्यों के कान से कुंडल, सोने की अंगुठियां, नकदी और मोबाइल समेत अन्य सामान छीनने के बाद फरार हो गए। 

स्थानीय व्यक्ति ने श्री आदि शक्ति मां ज्वाला जी के डेरे का दरवाजा खोला तो महंत ने डायल 112 पर सूचना दी। पुलिस सहित अधिकारी मौके पर पहुंचे। सीआईए, सीन ऑफ क्राइम सहित सभी सुरक्षा एजेंसियां जांच में जुट गई। पंजोखरा थाने में पुलिस ने श्री निराकारी जागृति मिशन से स्वामी ज्ञान नाथ व श्री आदि शक्ति मां ज्वाला जी से महंत जसपाल मस्त गिरी की शिकायत पर मामला दर्ज किया है। 

पुलिस को दी शिकायत में स्वामी ज्ञान नाथ व महंत जसपाल मस्त गिरी ने बताया कि सोमवार की रात वह अपना काम निपटाकर आश्रम में सो रहे थे। ज्वाला जी आश्रम में दो और जागृति मिशन आश्रम में छह लोग सो रहे थे। रात को करीब एक बजकर 35 मिनट पर पांच व्यक्ति अचानक आश्रम में हथियार लेकर घुस गए।

उन्होंने बंधक बनाकर उनसे जबरदस्ती चाबी ली और अलमारी खोलकर उसमें रखी कुछ नकदी निकाल ली। बदमाशों ने मारपीट करते हुए दोनों महंतों और शिष्यों के पहने हुए कुंडल, तीन सोने की अंगुठियां, चांदी की एक चैन, एक कड़ा और सात मोबाइल फोन लेकर फरार हो गए। उन्होंने बताया कि नकदी समेत चोरी हुए समान की कीमत 65 हजार रुपये है। 
... और पढ़ें

अंबाला: पूर्व पार्षद के गोदाम से 260 ग्राम हेरोइन और 1500 नशे की गोलियां बरामद

हरियाणा के अंबाला में डेहा कॉलोनी में पुलिस की टीम पर हमला करने के मामले में गुरुवार को अंबाला कैंट पुलिस ने आरोपी पूर्व पार्षद राजेश के गोदाम पर छापामारी की। पुलिस के अनुसार गोदाम से 260 ग्राम हेरोइन और नशे की 1500 गोलियां बरामद हुईं। वहीं पुलिस टीम पर हमले के आरोप में बुधवार को गिरफ्तार पूर्व पार्षद और उसके बेटे को रिमांड पर लिया गया है। कोर्ट ने पूर्व पार्षद की पांच दिन और उसके बेटे की एक दिन की रिमांड मंजूर की है। 

घटनाक्रम के अनुसार बुधवार को हाउसिंग बोर्ड चौकी इंचार्ज एसआई बलकार सिंह अपनी टीम के साथ डेहा कॉलोनी में एनडीपीएस मामले में एक माह से फरार चल रही महिला गुड्डी को पकड़ने के लिए पहुंचे थे। गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने घेराबंदी कर आरोपी महिला को काबू कर लिया था। तभी अचानक गुड्डी के पति पूर्व पार्षद राजेश सहित परिवार के सदस्यों और अन्य लोगों ने पुलिस टीम पर पथराव कर दिया।

हमले में चौकी इंचार्ज बलकार, एसआई व दो महिला पुलिस मुलाजिम चोटिल हो गए थे, जबकि आरोपी पूर्व पार्षद राजेश और उसके बेटे को पुलिस ने काबू कर लिया था। मामले में गुरुवार को पुलिस टीम ने पूर्व पार्षद के गोदाम पर छापामारी की, जहां से 260 ग्राम हेरोइन, 1500 नशीली गोलियां बरामद हुईं। नशे की बड़ी खेप मिलने के बाद पुलिस ने अब आरोपी के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में भी मामला दर्ज किया गया है। 

दूसरी ओर मेडिकल करवाने के बाद गुरुवार को पुलिस ने पूर्व पार्षद राजेश और उसके बेटे प्रिंस को कोर्ट में पेश किया, जहां से पूर्व पार्षद का पांच दिन तो बेटे प्रिंस का एक दिन का रिमांड मंजूर हुआ है। रिमांड में पुलिस पता लगाएगी कि आखिर गोदाम से बरामद नशा कहां से आया, किसके माध्यम से आया और कहां-कहां बेचा जाता था। 

एनडीपीसी एक्ट मामले में प्रॉपर्टी अटैच करेगी पुलिस 
अंबाला कैंट थाने में प्रेसवार्ता के दौरान थाना प्रभारी नरेश ने बताया कि पूर्व पार्षद और उसकी पत्नी गुड्डी नशे के कई मामलों में संलिप्त हैं। पूर्व पार्षद ने प्राथमिक पूछताछ में बताया था कि उसने अपने गोदाम में नशा छिपाकर रखा हुआ है। मामले में अब पूर्व पार्षद की प्रॉपर्टी की छानबीन की जाएगी। साथ ही नशे के कारोबार से अर्जित संपत्ति को एनडीपीएस एक्ट के तहत जब्त किया जाएगा। 
... और पढ़ें

थाने में आत्महत्या का प्रयास: छेड़छाड़ के आरोपी ने शौचालय में जूते के फीते से लगाया फंदा, दरवाजा तोड़कर निकाला बाहर

हाउसिंग बोर्ड पुलिस द्वारा काबू किए गए आरोपी पिता पुत्र।
हरियाणा के अंबाला में छेड़छाड़, मारपीट और दुराचार के मामले में नामजद आरोपी ने बुधवार को अंबाला छावनी के थाना पड़ाव में जूते के फीते से फंदा लगाकर आत्महत्या का प्रयास किया। आनन-फानन में सिपाही ने ब्लेड से फीते को काटा और उसे प्राथमिक उपचार दिया। इसके बाद आरोपी के खिलाफ थाने में ही आत्महत्या का प्रयास करने के तहत आपराधिक मामला दर्ज कर लिया। पुलिस ने यह कार्रवाई होमगार्ड के जवान राजकुमार की शिकायत पर की। 

होमगार्ड के जवान राजकुमार ने शिकायत में बताया कि थाने में बंद आरोपी सुंदर नगर निवासी अखिल कुमार ने उसे सुबह 6 बजे शौच जाने के लिए बोला। जैसे ही शौचालय के पास पहुंचे तो आरोपी ने दरवाजा भीतर से बंद कर लिया। कुछ देर तक जब आरोपी बाहर नहीं आया तो होमगार्ड के जवान को शक हुआ तो उसने दरवाजा खटखटाया।

भीतर से कोई आवाज न आई तो वह तुरंत सीनियर अधिकारी के पास पहुंचा और उसे अपने संग लेकर आया। जहां सिपाही मनोज व होमगार्ड ने धक्का मारकर दरवाजा तोड़ा तो उनके होश उड़ गए। आरोपी ने जूते के फीते से ही फंदा लगाया हुआ था। 

17 मार्च को आरोपी के खिलाफ दर्ज हुआ था मामला 
राजकुुमार ने बताया था कि सुंदर नगर निवासी अखिल पर पहले ही 17 मार्च को थाना पड़ाव में ही केस दर्ज किया गया था। महिला का आरोप था कि उसके साथ मारपीट, छेड़छाड़ और दुराचार हुआ था। उसी आरोप में पुलिस ने आरोपी को 22 मार्च को गिरफ्तार किया था और उसे हवालात में बंद कर रखा था। सुबह 6 बजे शौच जाने के लिए बोला था। इस दौरान आरोपी ने जूते पहन रखे थे इसलिए शौचालय में कब फीते निकालकर फंदा बना लिया, पता ही नहीं चला। 
 
... और पढ़ें

अंबाला: हैंड ग्रेनेड मिलने का मामला, एसआईटी 20 सीसीटीवी फुटेज से लगाएगी बम रखने वाले का पता

हरियाणा के अंबाला में एमएम यूनिवर्सिटी के सामने खाली मैदान में झाड़ियों में मिले हैंड ग्रेनेड और एक्सप्लोसिव डिवाइस रखने वाले मामले में पुलिस को अभी तक कोई सुराग नहीं मिला है। पुलिस सीसीटीवी के आधार पर हैंड ग्रेनेड और एक्सप्लोसिव डिवाइस रखने वाले का पता लगाने का प्रयास कर रही है। इसके लिए पुलिस ने आस-पास के क्षेत्रों से करीब 20 सीसीटीवी फुटेज हासिल की है। इसमें शिक्षण संस्थान, होटल, टोल नाका व आस-पास लगते भवन और अन्य जगह शामिल है। 

इन फुटेज की जांच के लिए साइबर सैल की मदद भी ली जा रही है। इसके अलावा तथ्य ढूंढने का प्रयास किया जा रहा है। इसके अलावा पुलिस की टीम वहां के आस-पास के लोगों से पूछताछ कर रही है। वहीं पुलिस की ओर से गत दिवस ही सभी प्रमुख स्थलों, एयरफोर्स, रेलवे, आर्मी व अन्य को अलर्ट कर दिया था।

जहां मिली थी बोरी, वहां भी की जाएगी पूछताछ 
अंबाला पुलिस के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसियां भी इस मामले की गंभीरता के साथ जांच कर रही है। इस दौरान टीम की ओर से वहां भी छापामारी की जा रही है जिन क्षेत्रों के उन्हें हैंड ग्रेनेड और एक्सप्लोसिव डिवाइस के पास बोरी व थैला मिला था और बोरी व थैले पर जिनका नाम लिखा हुआ था। इससे कि कुछ तथ्य एजेंसी के हाथ लग सकें। वहीं पुलिस की ओर से लोगों से अपील की जा रही है कि अगर कोई भी संदिग्ध वस्तु उन्हें कहीं दिखाई देती है तो वह तुरंत इसके बारे में पुलिस को सूचित करें।
 
... और पढ़ें

हरियाणा: अंबाला में हैंड ग्रेनेड और एक्सप्लोसिव डिवाइस मिलने का मामला, जांच के लिए पहुंची एनआईए और एनएसजी

हरियाणा के अंबाला में अंबाला-चंडीगढ़ नेशनल हाईवे के पंजाब-हरियाणा बॉर्डर पर मिले सक्रिय हैंड ग्रेनेड और एक्सप्लोसिव डिवाइस मामले में राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसियां भी जांच में जुट गई हैं। साथ ही पंजाब पुलिस ने भी सोमवार को मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की। इस दौरान एसपी समेत अन्य स्थानीय पुलिस अधिकारी भी मौजूद रहे। 

बीते रोज हैंड ग्रेनेड और एक्सप्लोसिव डिवाइस मिलने के बाद सोमवार को एनआईए (राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण) और एनएसजी (राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड) के साथ पंजाब पुलिस की टीम अंबाला के सद्दोपुर स्थित एमएम यूनिवर्सिटी के सामने पहुंची। इस दौरान अंबाला पुलिस की टीम के सहयोग से जांच एजेंसियों ने क्षेत्र का निरीक्षण किया, जहां से रविवार को हैंड ग्रेनेड और एक्सप्लोसिव डिवाइस मिले थे।



अंबाला पुलिस टीम से स्वयं एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा ने सुरक्षा एजेंसियों को इस बारे में विस्तार से जानकारी दी। साथ ही गत दिवस मिले विस्फोटक पदार्थ को दिखाया। इसके बाद एजेंसियों के सामने ही विस्फोटक पदार्थ को नष्ट किया गया, हालांकि इससे पहले ही इसे डिफ्यूज कर दिया गया था। विदित हो कि पंजाब और हरियाणा का बॉर्डर क्षेत्र होने और बड़े स्तर पर विस्फोटक मिलने के बाद सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हैं। 
 
शिकायत के बाद विस्फोटक पदार्थ अधिनियम के तहत हुआ था मामला दर्ज 
बलदेव नगर थाने में दर्ज शिकायत में गुरप्रीत सिंह ने बताया कि वह पंजाब के तरणतारण जिले में गांव पिक्खी में रहता है और मेहनत मजदूरी का काम करता है। वह एमएम यूनिवर्सिटी में शटरिंग का काम करने के लिए आया था और शनिवार शाम करीब चार बजे यूनिवर्सिटी के मेन गेट के सामने खाली पड़ी जगह में गया था।



जीटी रोड से 50 मीटर की दूरी पर दीवार के साथ झाड़ियों के बीच में तीन अलग-अलग प्लास्टिक के डिब्बों में टेप लगे हुए पैक पड़े थे। इसके साथ ही एक एल्युमिनियम का बक्शा भी था। इस पर टेप लगी हुई थी और एक तार बाहर निकली थी। इसके पास ही एक प्लास्टिक का लिफाफा था जिस पर शामे दी हट्टी जलालाबाद और एक बोरी पर गोपाल फ्लोर मिल समराला लिखा था।

तीनों पैकेट के बारे में कॉलेज के मेन गेट पर जाकर गार्ड को सूचना दी और सामान भी गार्ड रूम में रख दिया। इसके बाद अगली सुबह अधिकारियों नें पुलिस को इस बारे में सूचना दी। शिकायत के आधार पर पुलिस ने विस्फोटक पदार्थ अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है। 
... और पढ़ें

अंबाला हैंड ग्रेनेड मामला: जांच के लिए एसआईटी गठित, आर्मी, रेलवे, एयरफोर्स सहित सभी को अलर्ट के निर्देश

हरियाणा के अंबाला में अंबाला-चंडीगढ़ हाईवे पर पंजाब के पास सद्दोपुर गांव में एमएम यूनिवर्सिटी के सामने मिले हैंड ग्रेनेड व एक्सप्लोसिव डिवाइस के मामले में राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसियों के साथ अंबाला पुलिस भी प्रमुखता के साथ जांच कर रही है। एसपी की ओर से इस मामले की गंभीरता को देखते हुए एसआईटी (विशेष जांच कमेटी) गठित कर दी है।

इसमें मुख्य रूप से एएसपी को जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसके अलावा उनके साथ डीएसपी, सीआईए और साइबर सेल की टीम काम कर रही है, जो कि जांच कर उसकी रिपोर्ट तैयार करेंगी। इतनी मात्रा में विस्फोटक पदार्थ मिलने के बाद पुलिस की ओर से आर्मी, रेलवे, एयरफोर्स व अन्य प्रमुख स्थलों के प्रमुखों को भी अलर्ट रहने के लिए कहा गया है।

वहीं अंबाला पुलिस के साथ ही राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसियां भी अपने स्तर पर इस हैंड ग्रेनेड व एक्सप्लोसिव डिवाइस मिलने की छानबीन में जुट गई है। बता दें कि गत दिवस ही एनआईए (राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण) एनएसजी (राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड) की टीमों ने क्षेत्र का निरीक्षण किया था और पूछताछ भी की थी। साथ ही टीम की ओर से लैब में भेजे गए सैंपलों का भी इंतजार है।
... और पढ़ें

अंबाला में हैंड ग्रेनेड मिलने का मामला: एक कर्मचारी को एक दिन पहले ही देख लिए थे बम, हो सकता था बड़ा हादसा

अंबाला-चंडीगढ़ नेशनल हाईवे के पास मिले तीन हैंड ग्रेनेड और एक्सप्लोसिव डिवाइस को शनिवार शाम को ही वहां निर्माणाधीन भवन में काम करने वाले कर्मचारी ने देख लिया था। इन हैंड ग्रेनेड और डिवाइस के बारे में निर्माणाधीन भवन के संबंधित कर्मचारियों और अधिकारियों को भी बता दिया गया था, परंतु हैरानी की बात यह रही कि पता होने के करीब 12 घंटे बाद यानी कि पूरी रात में पुलिस को इसकी सूचना नहीं दी गई और अगले दिन सुबह जाकर इस बारे में पुलिस को बताया गया।

पुलिस का भी कहना है कि इन हैंड ग्रेनेड और डिवाइस के कारण कोई बड़ा हादसा हो सकता था। वहीं जब पुलिस मौके पर पहुंची और पूछताछ की तो पता चला कि सभी कर्मचारियों की उस दौरान शिफ्ट बदल रही थी ऐसे में कोई भी इसे अपनी जिम्मेदारी नहीं लेना चाहता था, इसके कारण किसी ने भी पुलिस को इस बारे में नहीं बताया, अब इसके अलावा अन्य क्या कुछ कारण रहें है। पुलिस इस मामले को लेकर जांच में जुट गई है।

कार्रवाई में देरी होने पर होगी पूछताछ
जानकारी होने के बाद भी हैंड ग्रेनेड और डिवाइस की सूचना न देने को लेकर पुलिस पूरी तरह से गंभीर है। इस मामले को लेकर पुलिस की ओर से वहां सामने मौजूद भवन में कार्य कर रहे कर्मचारियों व आस-पास के लोगों से सख्ती से पूछताछ की जाएगी। इससे कि देरी से सूचना देने के बारे में पता लगाया जा सके और इससे पूर्व इस संबंध में किस-किस को जानकारी थी। इसकी भी सूचना प्राप्त की जाएगी। इसको लेकर एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा ने संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्देश जारी कर दिए हैं। 

... और पढ़ें

हरियाणा: अंबाला में शिक्षण संस्थान के पास मिले तीन हैंड ग्रेनेड और आईईडी, किए निष्क्रिय, एनआईए को भेजी सूचना

हरियाणा के अंबाला सिटी में अंबाला-चंडीगढ़ रोड पर पंजाब और हरियाणा सीमा के साथ लगते सद्दोपुर गांव की जद में रविवार को तीन सक्रिय हैंड ग्रेनेड और एक एक्सप्लोसिव डिवाइस (IED) मिलने से हड़कंप मच गया। यह हैंड ग्रेनेड और डिवाइस हाईवे से 50 मीटर अंदर खाली मैदान में झाड़ियों में पड़े हुए थे। पुलिस को इसकी सूचना एमएम यूनिवर्सिटी के पास ही काम कर रहे कर्मचारी ने दी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और तुरंत बम डिफ्यूज टीम को इसके बारे में सूचित किया गया। एसपी ने बताया कि इस बारे में एनआईए और अन्य केंद्रीय एजेंसियों को भी सूचित किया गया है।

सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची टीम सदस्यों ने पूरी सावधानी बरतते हुए तीनों हैंड ग्रेनेड और डिवाइस को डिफ्यूज किया। बमों को निष्क्रिय करने की पूरी प्रक्रिया होने के बाद मौके पर स्वयं एसपी जश्नदीप सिंह रंवाधा ने पहुंचकर निरीक्षण किया और जानकारी हासिल की।
 



पुलिस की ओर से बलदेव नगर थाना में एक्सप्लोरल एक्ट के तहत अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। एसपी ने कहा कि इसको लेकर सभी पहलुओं को देखते हुए जांच की जाएगी और जो भी इस मामले में संलिप्त होंगे उनके खिलाफ भी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। 

इससे पहले शहजादपुर में मिले थे बम
करीब एक माह पहले शहजादपुर में बेगना नदी के पास 200 से अधिक बम मिले थे। इन सभी बमों को आर्मी की मदद से निष्क्रिय किया गया था। अब हरियाणा-पंजाब सीमा के पास यह बम मिलने के कारण पुलिस भी हैरान है, क्योंकि एक माह के अंतराल में ही इतने बम मिलना, पुलिस के सामने भी कई सवाल खड़े कर रहा है, जिसकी तलाश में पुलिस जुटी हुई है।

आसपास के होटल, शिक्षण संस्थानों में भी होगी पूछताछ
जिस जगह पर हैंड ग्रेनेड और एक्सप्लोसिव डिवाइस मिले हैं उसके चारों ओर शिक्षण संस्थान, फैक्टरी व होटल हैं। वहीं साथ ही नेशनल हाईवे चल रहा है, ऐसे में अगर कोई हादसा हो जाता तो बहुत बड़ा नुकसान होना स्वाभाविक था। पुलिस की ओर से अब सभी शिक्षण संस्थानों के प्रतिनिधियों, फैक्टरी संचालकों और होटल व ढाबे वालों के पूछताछ की जाएगी। 
इसके अलावा पुलिस की ओर से इस मामले को पंजाब चुनाव से जोड़कर भी देखा जा रहा है। पिछले दिनों ही अभी पंजाब में चुनाव होकर हटे हैं और यह बम भी हरियाणा पंजाब सीमा पर ही मिले हैं। इसको लेकर पुलिस की ओर से इस मामले को लेकर पंजाब पुलिस के साथ भी चर्चा की जाएगी, जिससे कि इस संबंध में अधिक से अधिक जानकारी हासिल की जा सके।

राष्ट्र स्तरीय एजेंसियों से भी पुलिस लेगी मदद
एसपी जश्नदीप सिंह रंधावा ने कहा कि हैंड ग्रेनेड को निष्क्रिय कर दिया गया है। इस मामले की जांच को लेकर राष्ट्र सुरक्षा एजेंसियों से भी बात की जा रही है। इसके अलावा इन बमों से जुड़े कुछ सैंपल को लैब में भिजवा दिया गया है, जिससे कि इस बम में कौन का विस्फोटक पदार्थ था, इसका पता लगाया जा सके।

शुरुआती जांच में माना जा रहा है कि इसमें आरडीएक्स था, जबकि पुष्टि के लिए इन्हें जांच के लिए लैब में भेजा गया है। इसके अलावा इन बमों की वीडियोग्राफी भी पुलिस की ओर से की गई है। इससे कि यह कहां बने है इसके संबंध में भी पता लगाया जा सके। 
... और पढ़ें
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00