विज्ञापन

गुरुग्राम

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

गुरुग्रामः कार सवार युवक पर दर्जनभर लोगों ने चलाई गोलियां, मौके पर मौत

पुलिसकर्मी बन ठगी करने वाले ईरानी गिरोह के दो बदमाश धरे, एनसीआर में दे चुके हैं कई वारदात

गुरुग्राम। पुलिसकर्मी बनकर जांच के नाम पर विदेशी नागरिकों को डराकर उनसे डॉलर ठगने वाले ईरानी गिरोह के दो बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दिल्ली-एनसीआर में कई वारदात को अंजाम दे चुके हैं। गुरुग्राम में 12 केस सामने आ चुके हैं। सहायक पुलिस आयुक्त प्रीतपाल सांगवान के मुताबिक, बदमाशों से पूछताछ की जा रही है जिसमें कई मामलों के खुलासे हो सकते हैं।

बीते 4 माह में शहर में विदेशी नागरिकों से ठगी के एक दर्जन से अधिक मामले सामने आने के बाद पुलिस भी सतर्क हो गई थी। किसी गिरोह के होने की आशंका के मद्देनजर पुलिस की कई टीमें जांच में जुटी हुई थी। पुलिस की अपराध शाखा सेक्टर-40 की टीम ने तकनीकी जानकारी के आधार पर मंगलवार को दिल्ली के लाजपत नगर से दो ईरानी नागरिकों को पकड़ा। इनकी पहचान ईरान के तेहरान निवासी तैय्यब पुत्र हुसैन (59) व अहसान पुत्र रेजा (33) के रूप में हुई। पुलिस ने आरोपियों से 987 डॉलर भी बरामद किए।

पुलिस की शुरुआती जांच में सामने आया है कि गिरोह में 12 से 14 बदमाश है, जो दिल्ली में रहकर एनसीआर के शहरों में विदेशी नागरिकों को निशाना बनाते थे। पकड़े गए बदमाश 10 नवंबर को भारत आए थे। उन्होंने 26 नवंबर को गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल में इलाज के लिए आए तुर्कीस्तानी युवक से नकली पुलिसकर्मी बनकर दो हजार डॉलर चोरी किए थे।

एसीपी क्राइम प्रीतपाल सांगवान के मुताबिक, वारदात को अंजाम देकर वापस ईरान चले जाते थे। दोनों ही आरोपी वापस जाने की ही फिराक में थे इससे पहले इन्हें दबोच लिया। आरोपियों से पूछताछ में दुभाषिए की मदद ली जा रही है। जल्द ही इस मामले में कई और मामलों के खुलासे हो सकते हैं।
... और पढ़ें

पीजी में नाबालिग एथलीट से दोस्त ने किया दुष्कर्म, प्रैक्टिस के लिए गुरुग्राम बुला की वारदात

नारनौल जिले के एक कॉलेज में पढ़ने वाली नाबालिग एथलीट से दोस्त ने प्रैक्टिस के बहाने बुलाकर दुष्कर्म किया। पुलिस ने शिकायत के आधार पर तीन अन्य के खिलाफ षड्यंत्र में साथ देने और दोस्त के खिलाफ दुष्कर्म, पॉक्सो एक्ट, आईटी एक्ट समेत अन्य धाराओं में जीरो एफआईआर दर्ज की है। वारदात गुरुग्राम में होने के कारण स्थानीय पुलिस ने केस गुरुग्राम ट्रांसफर कर दिया है।

पुलिस के अनुसार पीड़ित एथलीट (17) महेंद्रगढ़ ब्लॉक के एक कॉलेज में बीए प्रथम वर्ष की छात्रा है। शिकायत में उसने बताया कि उसकी एक लड़के से 12वीं कक्षा से जान पहचान थी और फोन पर बात होती थी। आरोपी गुरुग्राम के नेहरू स्टेडियम में कोचिंग ले रहा है। आरोप है कि 16 नवंबर को आरोपी ने उसे फोन कर कहा कि वह गुरुग्राम आ जाए। वह उसका नाम नेहरू स्टेडियम में प्रैक्टिस के लिए लिखवा देगा। 

18 नवंबर को वह परिजनों से गेम खेलने की बात कहकर गुरुग्राम गई। आरोपी युवक राजीव चौक पर उससे मिला और उसे पीजी में ले गया। पीजी में पहले से तीन लड़के मौजूद थे। वहां पर रात में वह उनके साथ रुकी। आरोपी सुबह उसे नेहरू स्टेडियम में अभ्यास के लिए ले गया। 19 नवंबर को वह वापस घर आने लगी तो आरोपियों ने उसके साथ फोटो लेकर सोशल मीडिया पर डाल दिया। 

नाबालिग एथलीट ने आरोप लगाया कि आरोपी ने उसे रात में वहीं रुकने का दबाव बनाया और जबरन शराब पिलाई। कुछ देर बाद तीनों लड़के कमरे से बाहर चले गए। आरोपी युवक कमरे में ही रहा और उससे दुष्कर्म किया। सुबह वापस घर आई तो उसकी मां राजस्थान गई हुई थी। 26 नवंबर को मां वापस आई तो उसने पूरी बात बताई। इसके बाद मां के साथ बुधवार को नारनौल महिला थाना पहुंची। शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।
... और पढ़ें

नौकरानी की करतूत: मर्चेंट नेवी में तैनात अधिकारी की पत्नी और बेटी को बंधक बनाकर लूटा, वारदात को ऐसे दिया अंजाम

गुरुग्राम के थाना सेक्टर-10 ए क्षेत्र में एक घरेलू सहायिका ने मर्चेंट नेवी में तैनात अधिकारी की पत्नी और उसकी बेटी को बंधक बनाकर चार अन्य लोगों की मदद से लूट की घटना को अंजाम दिया। घटना की रिपोर्ट दर्ज हो गई है लेकिन अभी तक कोई सुराग पुलिस को हाथ नहीं लगा है। 

सेक्टर-10 की रहने वाली सुमिता ने दर्ज कराई रिपोर्ट में कहा है कि कुछ महीनों से आरती नाम की एक महिला उनके घर पर काम कर रही थी। वह सुबह के समय आती थी। मंगलवार को वह शाम के करीब पांच बजे आई। उससे जूस मांगा तो उसने सुमिता और उसकी बेटी को जूस दिया। जिसे पीकर वह अर्ध बेहोश हो गए। इस दौरान आरती ने चार अन्य लोगों को बुला लिया। इन लोगों ने सुमिता और उनकी बेटी को बंधक बना लिया। विरोध करने पर मारपीट करने लगे। आरती व उसके साथ आए लोगों ने घर में रखे जेवर, 50 हजार रुपये नकद, दो मोबाइल, कीमती घड़ियां आदि लूट लिया। 

बदमाशों के जाने के बाद किसी तरह स्वयं को बंधन मुक्त करके उन्होंने अलार्म बजाया। जिसके बाद किराएदार विशाल आए और उन्हें अस्पताल ले गए। इस घटना के बाद पुलिस ने आरती व अन्य के खिलाफ जहर देने, चोरी और बंधक बनाने की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

नेपाल की रहने वाली है 
थाना प्रभारी के नवीन कुमार के अनुसार अब तक की छानबीन में सामने आया है कि आरती नेपाल की रहने वाली है। छह माह से इनके पास काम करती थी। वह कहां रहती थी। उसके बारे में भी इनको जानकारी नहीं है। सेक्टर में आते-जाते देख उसे काम पर रखा था। मामले की जांच चल रही है। जल्द ही वारदात का खुलासा किया जाएगा।
... और पढ़ें
मर्चेंट नेवी में तैनात अधिकारी का घर मर्चेंट नेवी में तैनात अधिकारी का घर

गुरुग्राम: ऑटो में सिगरेट पी रहा था बैंककर्मी, महिला ने किया विरोध तो मुंह पर मारे मुक्के, पढ़ें पूरा मामला

अपहरण के डर से ऑटो से कूदी महिला: दहलाने वाली आपबीती-गुम हो जाने से अच्छी हैं टूटी हड्डियां, हिम्मत...

महिला सुरक्षा के तमाम दावे करने के बाद भी महिलाएं गुरुग्राम में सुरक्षित नहीं हैं। रविवार दोपहर करीब 12.30 बजे सेक्टर 22 मार्केट से युवती ने पालम विहार स्थित घर जाने के लिए ऑटो लिया। ऑटो चालक ने युवती का अपहरण करने का प्रयास किया तो चालक को कई बार टोका।

चालक की बदनीयती को भांप कर युवती ने हिम्मत दिखाकर चलते ऑटो से कूद गई। युवती पैदल घर पहुंची और ट्विटर पर पूरी घटना की शिकायत सीएम हरियाणा, डीसी गुरुग्राम समेत अन्य अफसरों  से की। इसके बाद  पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। पुलिस ने युवती को थाने बुलाकर बयान दर्ज कर  लिया है।

दिल्ली की एक निजी कंपनी में काम करने वाली युवती गुरुग्राम के पालम विहार में रहती है। ट्विटर पर लिखी आपबीती के मुताबिक, वह सोमवार करीब साढ़े 12 बजे सेक्टर 22 गुरुग्राम मार्केट के ऑटो स्टैंड से एक ऑटो घर जाने के लिए किया था। उनके पास नकदी नहीं थी इसके लिए उन्होंने चालक से पेटीएम पर रुपये देने की बात कही। ऑटो चालक मान गया और वह ऑटो में बैठ गईं।
... और पढ़ें

बेटा बना जल्लाद: मां ने दोस्त को टॉयलेट जाने से मना किया तो की मारपीट, पिता पहुंचा बचाने तो पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट

गुरुग्राम में मां ने बेटे के दोस्त को आंगन में बने टॉयलेट में पेशाब करने से मना किया तो बेटे ने पहले मां को पीटा और बाद में बीचबचाव करने आए पिता को दोस्त संग मिलकर पीट-पीटकर कर मार डाला। इस दौरान सिर से अधिक रक्त स्राव होने से उनकी मौत हो गई।

फर्रुखनगर थाना पुलिस ने बड़े भाई के बयान पर छोटे भाई व उसके दोस्त के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है। हत्या का मामला दर्ज करने के बाद से दोनों फरार हैं। पुलिस के अनुसार वारदात मंगलवार देर रात करीब 1 बजे की है।

मुबारिकपुर गांव में रहने वाले कृष्ण (65) व उसके छोटे बेटे मंजीत उर्फ टीले के बीच शराब पीकर झगड़ा हो गया। मंजीत के साथ उसके चचेरे भाई राजेश और राजेश के भांजे (सोनीपत के गांव नाहरी निवासी) मोहित दहिया ने भी शराब पी रखी थी।

रात करीब सवा 12 बजे कृष्ण अपने घर आ गया था, जबकि मंजीत व मोहित पड़ोस में शराब पी रहे थे। रात करीब 1 बजे मोहित कृष्ण के घर के गेट के अंदर बने टॉयलेट में चला गया। कृष्ण की पत्नी और मंजीत की मां ने उसे टोका तो वह बाहर भागने लगा।
... और पढ़ें

हरियाणा: मानेसर के कसन गांव में देर रात हुई फायरिंग, एक की मौत, कई घायल

गुरुग्राम पुलिस (फाइल फोटो)

गुरुग्राम: एटीएम कार्ड बदलकर 30 हजार की ठगी, छानबीन में जुटी पुलिस

गुरुग्राम में एटीएम से रुपये निकालने गए फौजी के पिता से ठगी का मामला सामने आया है। रुपये निकालने में मदद करने के बहाने अज्ञात ठग ने उनका एटीएम कार्ड बदल दिया। फिर खाते से 30 हजार रुपये निकाल लिए गए। बुजुर्ग की शिकायत पर फर्रुखनगर थाना पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। पुलिस ने मामले की छानबीन के दौरान बैंक प्रबंधन से सीसीटीवी फुटेज मांगा है।

पुलिस के अनुसार गांव सैदपुर निवासी अजीत सिंह का कहना है कि उनका बेटा सतीश सीआरपीएफ में जवान है और फिलहाल असम में तैनात है। बेटे के दूर होने के चलते वह बहू को घर खर्च के लिए रुपये लेने एटीएम पर गए थे।

फर्रुखनगर स्थित केनरा बैंक के एटीएम पर गए तो वहां रुपये नहीं निकल रहे थे। तभी अंजान व्यक्ति पीछे से आकर बोला कि अंकल मैं आपकी मदद करता हूं। लेकिन उसके मदद करने पर भी रुपये नहीं निकला। युवक ने एटीएम कार्ड वापस दिया और शिकायतकर्ता घर आ गया।

बाद में मोबाइल पर मैसेज आने पर पता चला कि खाते से 30 हजार रुपये निकल गए हैं। 10-10 हजार रुपये की तीन ट्रांजेक्शन में यह ठगी हुई। एटीएम कार्ड चेक किया तो पाया कि वो किसी अन्य का था। तब शिकायतकर्ता को अहसास हुआ कि ठग ने मदद के बहाने कार्ड बदल दिया। मामले की शिकायत पुलिस को दी गई। पुलिस ने छानबीन के बाद अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।
... और पढ़ें

गुरुग्राम वहशत : चारों की हत्या के बाद फौजी ने किया थे ये काम, फिर पत्नी को कमरे में बंद कर पहुंच गया थाने

चार लोगों की हत्या के बाद रिटायर्ड फौजी बहुत ही आराम से बाथरूम में जाकर नहाया और कपड़े बदले। रोजाना की तरह वह साढ़े चार बजे पार्क पहुंचा और वहां पर गाय को दो रोटी भी खिलाईं। वापस आकर पत्नी को कमरे में बंद कर जब थाने जा रहा था उस दौरान उसके कानों में बहू के सिसकने की आवाज सुनाई दी। फिर से पुत्रवधू के पास पहुंचा और उस पर पांच वार किए। उसी के बाद दांव हाथ में लटकता हुआ लेकर थाने पहुंच गया । घर से लेकर थाने तक जाते समय तीन स्थानों पर रिटायर्ड फौजी पुलिस को सीसीटीवी कैमरो में कैद मिला है।

जिन कपड़ों कोपहन कर उसने वारदात को अंजाम दिया उन कपड़ों को पुलिस ने उसके बाथरूम से बरामद कर लिया है। जो कपड़े पहनकर वह थाने पहुंचा था उन पर भी खून के छींटे मिले हैं। जांच करने पर पुलिस को पता चला कि आरोपी के दिमाग में पुत्रवधू और किराएदार कृष्णकांत के खिलाफ काफी  गुस्सा  भरा हुआ था। 


पत्नी को कमरे में बंद कर पहुंचा थाने , बचाने का कर रही था प्रयास
 पुलिस को छानबीन के दौरान पता चला कि राव राय सिंह बहुत ही शातिर किस्म का है। वह अपनी पत्नी को पूरे मामले से बचाने का प्रयास कर रहा था। उसने पुलिस को बताया था कि जब वारदात को अंजाम दे रहा था उसकी पत्नी विमलेश व पोती को उसने कमरे में बंद कर दिया था। जब पुलिस ने उसकी पत्नी से अलग से बात की तो उसने कहानी कुछ और बताई । महिला ने चार लोगों की नृशंस हत्या में  पति का साथ देने की बात कबूल कर ली है। उसी के बयान के आधार पर पुलिस ने फौजी की पत्नी विमलेश की गिरफ्तारी की है। 

थाने पहुंचते ही बोला, कभी हम भी कुर्सी पर बैठ कर कराते थे फैसला
जब राव राय सिंह थाने पहुंचा तो पुलिस वालों ने मजाक के अंदाज में पूछा राव साहब नीचे क्यों बैठ गए। उसने तुरंत जवाब देते हुए कहा, साहब कभी हम आप के सामने बैठकर लोगों को फैसला कराते थे। आज ऐसा काम करके आए हैं कि हमें नीचे ही बैठना है। थाने में तैनात बहुत से पुलिस वाले उसे पहचानते हैं। पहले तो लोग उसकी बात पर यकीन नहीं कर रहे थे, मगर हाथ में धारदार हथियार देखकर लोगों में हड़कंप मच गया था। 

 हत्या करने का अफसोस नहीं, हवालात में खाईं चार रोटी
रिटायर्ड फौजी के चेहरे पर कोई शिकन नहीं है। उसने जो कुछ किया उसका जरा भी अफसोस नहीं है। मामले की जांच में जो पुलिस वाले लगे थे उन्होंने दिन में कुछ खाने से परहेज किया। कारण इतना वीभत्स नजारा देखकर उनका कुछ खाने का मन नहीं हो रहा था। मगर हवालात में फौजी को पहली बार में तीन रोटी दी गई थीं। बाद में उसने एक ओर रोटी मांग कर खाई।

अवैध संबंध और हत्याएं
बहरहाल, राजेन्द्रापार्क में चार लोगों की नृशंस  हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस के अनुसार इन हत्याओं का कारण किराएदार कृष्णकांत तिवारी और फौजी की पुत्रवधू सुनीता के बीच अवैध संबंध रहे हैं। इस मामले में रिटायर्ड फौजी राव राय सिंह और उसकी पत्नी विमलेश को दोषी मानकर गिरफ्तार कर लिया गया है। बुधवार को दोनों को अदालत में पेश किया गया। इनमें से विमलेश को जेल भेज दिया गया है जबकि फौजी दो दिन के रिमांड पर पुलिस हिरासत में है जिससे घटना के बारे में अन्य जानकारी जुटाने का पुलिस प्रयास कर रही है।
... और पढ़ें

गुरुग्राम : एसजीटी यूनिवर्सिटी में एमबीबीएस छात्र की गोली मार कर हत्या

एसजीटी यूनिवर्सिटी में गर्लफ्रेंड पर कमेंट करने का बदला लेने के लिए लॉ के छात्र ने शुक्रवार की दोपहर पार्किंग के पास मेडिकल के छात्र के पेट में गोली मार दी। गोली लगने से वह मौके पर गिर पड़ा। गोली की आवाज सुनते ही आसपास अफरातफरी मच गई। पार्किंग में मौजूद छात्र तथा गार्ड इधर-उधर भागने लगे। उन्हीं में से कुछ घटनास्थल पर पहुंचे। वे उसे इमरजेंसी में लेकर गए। जहां पर डाक्टरों ने अधिक रक्तस्राव होने के कारण उसे मृत घोषित कर दिया।

घटना की जानकारी मिलने के बाद डीसीपी वेस्ट सहित तमाम पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचा। पुलिस ने मौके के फिंगर प्रिंट व सीसीटीवी फुटेज अपने कब्जे मेेें लेकर जांच शुरू कर दी है। छात्र हर्ष के बयान पर लकी सहित 4 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

राजेंद्रापार्क थाना प्रभारी के अनुसार, दोपहर 12 बजकर 45 मिनट पर एसजीटी यूनिवर्सिटी परिसर स्थित पार्किंग में दिल्ली के नजफगढ़ के रहने वाले लकी ने उत्तर प्रदेश के शामली निवासी विनीत (22) को गोली मार दी। गोली उसके पेट में लगी और वह मौके पर ही गिर पड़ा। आसपास के गार्ड की ओर से सूचना देने के बाद एंबुलेंस बुला कर उसे इमरजेंसी पहुंचाया गया। जहां पर उसे मृत बताया गया। विनीत मेडिकल में चौथे साल का छात्र था। पुलिस को छानबीन के दौरान पता चला है कि एमएससी तृतीय वर्ष की छात्रा से लकी की दोस्ती थी। उसके बारे में विनीत ने कोई कमेंट कर दिया था। जिसका बदला लेने के लिए उसने वारदात को अंजाम दिया।

गोली की सूचना पर मौके पर डीसीपी वेस्ट, एसीपी उद्योग व थाना प्रभारी के साथ अन्य पुलिस अधिकारी भी पहुंच गए। डीसीपी वेस्ट का कहना है कि मृतक के परिवार वालों को सूचना दे दी गई है। वह शामली से आ रहे हैं। पुलिस अभी मामले की जांच कर रही है। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

पुलिस ने पार्किंग के पास तैनात गार्ड से की पूछताछ
पुलिस ने मौके पर तैनात गार्ड को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है। पुलिस यह जानना चाहती है कि लकी वहां पर आता रहता था या फिर वारदात को अंजाम देने के लिए बुलेट डीएल-1एस, 1972 के साथ खड़ा हुआ था। गोली मारने के बाद वह फरार हो गया।

यूनिवर्सिटी में दो छात्रों में आपसी विवाद के चलते गोली चलाने का मामला सामने आया है। इसके कारण एमबीबीएस के छात्र विनीत की मौत हो गई। पुलिस को सभी जानकारी व सीसीटीवी फुटेज उपलब्ध करा दिया गया है। आगे भी यूनिवर्सिटी की ओर से जांच में पूरा सहयोग किया जायेगा।
- रजनीश, पीआरओ, एसजीटी यूर्निवसिटी, गुरुग्राम
... और पढ़ें

गुरुग्राम: एलएलबी में दाखिला दिलाने के नाम पर 45 हजार ठगे

जयपुर के लॉ कॉलेज में एलएलबी में दाखिला दिलाने के नाम पर युवक से आरोपी ने 45 हजार रुपये ठग लिए।  युवक ने प्रवेश के बारे में पूछा, लेकिन कोई जानकारी नहीं दी। वह यूनिवर्सिटी जाकर जांच करने को कहा तो फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ। गुरुग्राम सेक्टर-14 थाना पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी।

पुलिस के अनुसार यह शिकायत सेक्टर-14 निवासी कंवल सिंह यादव ने दी है। आरोप है कि 16 मार्च 2020 को वो कल्याणी एसोसिएट्स के ऑफिस सेक्टर-14 गए थे। वहां पर अरविंद वर्मा नामक व्यक्ति मिले जिन्होंने खुद को सेक्टर-4 का निवासी बताया।

वहां पर कल्याणी एसोसिएट्स की संचालक महिला कल्याणी सचान से मिलने गए थे। युवक ने कहा कि  एलएलबी करना चाहते हैं। आरोप है कि तभी अरविंद शर्मा ने कहा कि राजस्थान जयपुर में एलएलबी में दाखिला दिला सकते हैं। साथ ही कहा कि पहले साल के परीक्षा भी आपकी इच्छा अनुसार करा दूंगा। इसके लिए प्रवेश फीस व दस्तावेज के नाम पर 45 हजार रुपये की मांग की गई।

17 मार्च को पीड़ित ने दस्तावेज व प्रवेश फॉर्म की कॉपी पीड़ित ने रुपयों के साथ महिला के जरिये अरविंद को दिए। 16 अप्रैल और 24 अप्रैल को युवक ने आरोपी से व्हाट्सएप के जरिये अपने परीक्षा के बारे में पूछा। 3 महीने बाद फिर से परीक्षा का स्टेटस पूछा। आरोपी ने कहा कि प्रवेश हो गया है लेकिन कभी इसकी कोई रसीद नहीं दी। कॉलेज या यूनिवर्सिटी का नाम तक पीड़ित को नहीं बताया गया।

फिर आरोपी ने कहा कि कोरोना के चलते उसका कॉलेज व यूनिवर्सिटी बंद है। मैनेजमेंट ने तय किया है कि सब छात्रों को अगले साल में प्रमोट कर दिया जाए। आरोपी ने कहा कि 26 दिसंबर को वह जयपुर साथ चलकर रिजल्ट दिलवाएगा। लेकिन 26, 27, 28 और 30 दिसंबर को व्हाट्सएप मेसेज किए लेकिन उसने जवाब नहीं दिया।
... और पढ़ें

लूटपाट: वारदात से थोड़ी देर पहले ही की थी बदमाशों ने रेकी, सफायर मॉल में चिकन शॉप को बनाया निशाना

गुरुग्राम के सेक्टर-49 स्थित सफायर मॉल में शुक्रवार को हथियारबंद तीन बदमाशों ने धावा बोल दिया। मॉल में चिकन शॉप के दुकानदार को पिस्टल दिखाकर नगदी व मोबाइल लूट ले गए। जाते वक्त दुकानदार व एक अन्य को दुकान में ही बंद कर भाग गए। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस व  दुकान  मालिक ने दोनों को  बाहन निकाला। पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

मूल रूप से नेपाल के रहने वाले रोशन कुमार सिक्देल ने बताया कि सफायर मॉल में उसने एक दुकान किराए पर ले रखी है। दुकान में चिकन बेची जाती है। रविवार शाम जब वह अपने साथी प्रेम बहादुर के साथ दुकान पर थे तो वहां तीन युवक आए और चिकन खरीदकर चले गए।

इसके कुछ देर बाद ही तीनों युवक दोबारा आए और पिस्टल तानकर रुपये मांगने लगे। रुपये न देने पर उन्होंने गल्ले से करीब 22 हजार रुपये  निकाल लिए और मोबाइल भी छीन लिया। इसके बाद तीनों बदमाश दुकान का शटर गिराकर दोनों  को अंदर ही बंद कर गए।

पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे दुकान मालिक सौरभ कौशिक ने उन्हें बाहर निकाला। दुकानदार की तहरीर पर मामला दर्ज कर पुलिस ने बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि मॉल  के सीसीटीवी फुटेज को खंगाला जा रहा है। आरोपी जल्द ही गिरफ्त में होंगे।
... और पढ़ें
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00