बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

महिला का जबरन धर्म परिवर्तन कर निकाह कराया, पति ने जज को दुष्कर्म के आरोप में फंसाने का बनाया दबाव

गुरुग्राम के मानेसर महिला थाना क्षेत्र में एक महिला ने अपने पति पर जबरन धर्म परिवर्तन कर निकाह करने का आरोप लगाया है। इतना ही नहीं, महिला ने अपने पति पर एक अन्य आरोप लगाया कि उनको मोहरा बना कर लोगों को दुष्कर्म के झूठे मामले में फंसाया। 

महिला की काउंसलिंग के बाद मानेसर महिला थाना पुलिस ने बुधवार को आरोपी तावडू हाजर खान (42) के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर गिरफ़्तार कर लिया। एसीपी शकुंतला के मुताबिक मामले की जांच पड़ताल की जा रही है। 

मामले के मुताबिक, 29 जून को महिला ने मानेसर महिला थाना पुलिस में सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया था। रविवार को ड्यूटी मजिस्ट्रेट के समक्ष महिला का बयान कराया गया। 

महिला के बयान के बाद उसके पति ने सोमवार को चंडीगढ़ हाईकोर्ट जाकर शिकायत तैयार कराई कि उसकी पत्नी के साथ ड्यूटी मजिस्ट्रेट ने दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। इस पूरे प्रकरण से घबराई महिला ने अपनी रिश्ते की मौसी को किसी तरह कॉल करके सारी घटना के बारे में जानकारी दी। जिसने पुलिस को इतला किया।
... और पढ़ें

गुरुग्रामः पुलिस ने तोड़ा दरवाजा तो थे 4 कुत्ते, कोई मालिक के शव पर, कोई उसके नीचे बैठा देखता रहा

जिगर के टुकड़े से की वैज्ञानिक ने हत्या की शुरुआत, फिर बेरहमी से हर सदस्य को उतारा मौत के घाट

हरियाणा पुलिस को मिली बड़ी सफलता, एक लाख रुपये का इनामी बदमाश गिरफ्तार, तीन जिलों में था खौफ

गुरुग्राम, रोहतक और झज्जर जिले की पुलिस के लिए सिरदर्द बने एक लाख रुपये के इनामी बदमाश को पुलिस ने रविवार को जुलाना के पास कच्चा बाईपास से गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार गुरुग्राम पुलिस ने हत्या, हत्या के प्रयास के आरोपी अंकित पर एक लाख रुपये का इनाम रखा था। 

रविवार को जुलाना थाना प्रभारी सुरेंद्र बागड़ी को सूचना मिली थी कि एक युवक कट्टे के साथ कच्चा बाईपास लिजवाना रोड शादीपुर पर किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में है। थाना प्रभारी ने उसे पकड़ने के लिए टीम बनाई और बताए गए स्थान पर छापा मारा। इस दौरान आरोपी पुलिस को देखकर भागने लगा। पुलिस ने उसे पकड़कर तलाशी ली तो उससे एक 32 बोर का कट्टा, दो मैगजीन और पांच कारतूस बरामद हुए।


पुलिस पूछताछ में युवक की पहचान रोहतक जिला के कुलताना गांव निवासी अंकित के रूप में हुई। डीएसपी पुष्पा खत्री ने बताया कि पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्जकर अदालत में पेश किया, जहां से आरोपी को अदालत ने एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया। इस दौरान पता लगाया जाएगा कि हथियार कहां से लिया और अन्य किन वारदातों को अंजाम दिया। इसके बारे में आरोपी से रिमांड के दौरान पूछताछ की जाएगी।
 
आरोपी पर यह केस हैं दर्ज
  • तीन जून 2018 में रोहतक के गांव रोहद निवासी जसबीर पर जान से मारने की नीयत से गोलियां चलाने के आरोप में थाना सांपला में मुकदमा दर्ज है। 
  • चार जुलाई 2018 को थाना फरूकनगर क्षेत्र के हाजिपुर निवासी नरेंद्र पर हत्या के प्रयास में गोली चलाने और शस्त्र अधिनियम के तहत केस दर्ज। 
  • 24 अगस्त 2018 को शहर थाना बहादुरगढ़ में अवैध हथियार बरामद करने और 15 जुलाई 2020 को गुरुग्राम में मनोज डागर सरपंच अलीपुरा सोहना की गोली मारकर हत्या की थी।
... और पढ़ें
एक लाख रुपये का इनामी बदमाश पुलिस गिरफ्त में। एक लाख रुपये का इनामी बदमाश पुलिस गिरफ्त में।

अवैध संबंधों के शक में मामा ने की थी भांजे की हत्या, शव को टुकड़ों में काटा, बोरी में डालकर फेंका

गुरुग्राम में पत्नी के साथ अवैध संबंधों के शक में मामा नरेश कुमार उर्फ ऑटो वाले ने अपने भांजे संदीप की हत्या कर शव दो बोरी में डालकर फेंका था। हत्या करने से पहले ऑटो वाले ने अपने भांजे संदीप को काफी अधिक शराब पिलाई थी।

रात को हत्या करने के बाद शव को दो हिस्सों में काटा और बोरी में भर दिया। अगली रात पत्नी व बच्चों के सो जाने के बाद बोरी में भरे शव को ऑटो में डालकर अशोक विहार फेज-2 के खाली प्लॉट में फेंक दिया और अपने गांव चला गया।

पुलिस ने वारदात को सुलझाते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर मंगलवार को अदालत में पेश किया। आरोपी को एक दिन के रिमांड पर लिया है। रिमांड के दौरान वारदात में प्रयुक्त ऑटो व हथियार बरामद किए जाने हैं।

सहायक पुलिस आयुक्त (अपराध-1) प्रीतपाल ने बताया कि प्रारंभिक पूछताछ में ऑटो वाले ने बताया कि दूर की रिश्तेदारी में भांजा संदीप उसके साथ ही बजघेड़ा में किराए पर रहता था। संदीप ने बजघेड़ा चौक पर वैष्णो होटल किया हुआ था।

इसमें संदीप की मामी करीब पांच साल से आठ हजार रुपये महीने पर नौकरी करती थी। ज्यादा बातचीत होने के कारण ऑटो वाले को अपनी पत्नी व भांजे के बीच अवैध संबंध होने का शक हुआ जिसके बाद उसने 13 अक्तूबर की रात को संदीप के साथ बैठकर शराब पी। 
... और पढ़ें

गृहमंत्री अमित शाह के सुरक्षाकर्मी का अपहरण कर लूटपाट, मामला दर्ज कर जांच में जुटी पुलिस

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के निवास पर तैनात एक सुरक्षाकर्मी के अपहरण का मामला सामने आया है। तीन बदमाश सुरक्षाकर्मी को गाड़ी समेत अपहरण कर झज्जर ले गए और मारपीट कर उसकी गाड़ी छीन ली।

घटना की सूचना के बाद डीसीपी दीपक सहारण समेत भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच कर बदमाशों की तलाश में जुट गया। पटौदी थाना पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के अलावा अपराध शाखा की तीन टीमें भी जांच में जुटी हुई है। 

रेवाड़ी के कोसली निवासी ऋषिराज (52) दिल्ली पुलिस में सहायक उप निरीक्षक है। वह केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के दिल्ली आवास पर सुरक्षा में तैनात है। सोमवार रात को वह अपने घर से गाड़ी में दिल्ली जा रहे थे।

पटौदी के करीब राजपुरा गांव में एक गाड़ी उनके बगल में आई, इसमें बैठे युवक ने गाड़ी के टायर की ओर इशारा करते हुए रोकने को कहा। सुरक्षाकर्मी ने गाड़ी में कुछ दिक्कत होने की आशंका पर गाड़ी रोकी, गाड़ी रुकते ही तीन बदमाश गाड़ी से उतरे व सुरक्षाकर्मी को घेर लिया।

एक ने उनके सिर पर पिस्तौल से वार किया और साथियों की मदद से पिछली सीट पर डाल दिया। बदमाशों ने सुरक्षाकर्मी के हाथ बांधकर उनके आंखों पर पट्टी बांध, अपहरण कर झज्जर की ओर ले गए। करीब एक घंटे गाड़ी में घुमाने के बाद मारपीट कर गाड़ी लेकर फरार हो गए। 

 राहगीर की मदद से सुरक्षाकर्मी ने झज्जर पुलिस को इत्तला किया। मामला पटौदी का होने के कारण उसे पटौदी लाया गया। यहां पूरे मामले की जानकारी डीसीपी मानेसर दीपक सहारण को दी गई। इसके बाद पुलिस में खलबली मच गई।

बड़ी तादाद में पुलिसकर्मी, अपराध शाखा यूनिट व इंटेलिजेंस टीमों के कर्मचारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस की टीमों को बदमाशों की तलाश कार्य में लगा दिया गया है। देर रात तक पुलिस में बदमाशों की तलाश छापेमारी कर रही थी। आसपास के जिलों में पुलिस ने अलर्ट करवा दिया है। पूरे मामले को सिर्फ लूट की आशंका से नहीं बल्कि दूसरे कोण से भी जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

गुरुग्रामः कार सवार युवक पर दर्जनभर लोगों ने चलाई गोलियां, मौके पर मौत

पुलिसकर्मी बन ठगी करने वाले ईरानी गिरोह के दो बदमाश धरे, एनसीआर में दे चुके हैं कई वारदात

गुरुग्राम में दिनदहाड़े हत्या
गुरुग्राम। पुलिसकर्मी बनकर जांच के नाम पर विदेशी नागरिकों को डराकर उनसे डॉलर ठगने वाले ईरानी गिरोह के दो बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दिल्ली-एनसीआर में कई वारदात को अंजाम दे चुके हैं। गुरुग्राम में 12 केस सामने आ चुके हैं। सहायक पुलिस आयुक्त प्रीतपाल सांगवान के मुताबिक, बदमाशों से पूछताछ की जा रही है जिसमें कई मामलों के खुलासे हो सकते हैं।

बीते 4 माह में शहर में विदेशी नागरिकों से ठगी के एक दर्जन से अधिक मामले सामने आने के बाद पुलिस भी सतर्क हो गई थी। किसी गिरोह के होने की आशंका के मद्देनजर पुलिस की कई टीमें जांच में जुटी हुई थी। पुलिस की अपराध शाखा सेक्टर-40 की टीम ने तकनीकी जानकारी के आधार पर मंगलवार को दिल्ली के लाजपत नगर से दो ईरानी नागरिकों को पकड़ा। इनकी पहचान ईरान के तेहरान निवासी तैय्यब पुत्र हुसैन (59) व अहसान पुत्र रेजा (33) के रूप में हुई। पुलिस ने आरोपियों से 987 डॉलर भी बरामद किए।

पुलिस की शुरुआती जांच में सामने आया है कि गिरोह में 12 से 14 बदमाश है, जो दिल्ली में रहकर एनसीआर के शहरों में विदेशी नागरिकों को निशाना बनाते थे। पकड़े गए बदमाश 10 नवंबर को भारत आए थे। उन्होंने 26 नवंबर को गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल में इलाज के लिए आए तुर्कीस्तानी युवक से नकली पुलिसकर्मी बनकर दो हजार डॉलर चोरी किए थे।

एसीपी क्राइम प्रीतपाल सांगवान के मुताबिक, वारदात को अंजाम देकर वापस ईरान चले जाते थे। दोनों ही आरोपी वापस जाने की ही फिराक में थे इससे पहले इन्हें दबोच लिया। आरोपियों से पूछताछ में दुभाषिए की मदद ली जा रही है। जल्द ही इस मामले में कई और मामलों के खुलासे हो सकते हैं।
... और पढ़ें

पीजी में नाबालिग एथलीट से दोस्त ने किया दुष्कर्म, प्रैक्टिस के लिए गुरुग्राम बुला की वारदात

नारनौल जिले के एक कॉलेज में पढ़ने वाली नाबालिग एथलीट से दोस्त ने प्रैक्टिस के बहाने बुलाकर दुष्कर्म किया। पुलिस ने शिकायत के आधार पर तीन अन्य के खिलाफ षड्यंत्र में साथ देने और दोस्त के खिलाफ दुष्कर्म, पॉक्सो एक्ट, आईटी एक्ट समेत अन्य धाराओं में जीरो एफआईआर दर्ज की है। वारदात गुरुग्राम में होने के कारण स्थानीय पुलिस ने केस गुरुग्राम ट्रांसफर कर दिया है।

पुलिस के अनुसार पीड़ित एथलीट (17) महेंद्रगढ़ ब्लॉक के एक कॉलेज में बीए प्रथम वर्ष की छात्रा है। शिकायत में उसने बताया कि उसकी एक लड़के से 12वीं कक्षा से जान पहचान थी और फोन पर बात होती थी। आरोपी गुरुग्राम के नेहरू स्टेडियम में कोचिंग ले रहा है। आरोप है कि 16 नवंबर को आरोपी ने उसे फोन कर कहा कि वह गुरुग्राम आ जाए। वह उसका नाम नेहरू स्टेडियम में प्रैक्टिस के लिए लिखवा देगा। 

18 नवंबर को वह परिजनों से गेम खेलने की बात कहकर गुरुग्राम गई। आरोपी युवक राजीव चौक पर उससे मिला और उसे पीजी में ले गया। पीजी में पहले से तीन लड़के मौजूद थे। वहां पर रात में वह उनके साथ रुकी। आरोपी सुबह उसे नेहरू स्टेडियम में अभ्यास के लिए ले गया। 19 नवंबर को वह वापस घर आने लगी तो आरोपियों ने उसके साथ फोटो लेकर सोशल मीडिया पर डाल दिया। 

नाबालिग एथलीट ने आरोप लगाया कि आरोपी ने उसे रात में वहीं रुकने का दबाव बनाया और जबरन शराब पिलाई। कुछ देर बाद तीनों लड़के कमरे से बाहर चले गए। आरोपी युवक कमरे में ही रहा और उससे दुष्कर्म किया। सुबह वापस घर आई तो उसकी मां राजस्थान गई हुई थी। 26 नवंबर को मां वापस आई तो उसने पूरी बात बताई। इसके बाद मां के साथ बुधवार को नारनौल महिला थाना पहुंची। शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।
... और पढ़ें

जबरन बीयर पिलाकर नाबालिग से किया दुष्कर्म, लगातार चार दिन दिया घिनौने कृत्य को अंजाम

साइबर सिटी में काम के लालच में पूर्वोत्तर की 14 वर्षीय नाबालिग को बुलाकर उसके साथ दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। आरोपियों ने चार दिन तक गुरुग्राम समेत दिल्ली में अलग-अलग जगहों पर पीड़िता को जबरदस्ती बीयर और नशीला पेय पदार्थ पिलाकर दुष्कर्म किया।

आरोप है कि दो युवतियों ने भी नाबालिग को पहुंचाने में आरोपियों की मदद की। पुलिस के अनुसार आरोपियों के चंगुल से छुड़ाने में दो युवकों ने पीड़िता की मदद की। इसके बाद वह दिल्ली स्थित मेघालय भवन में पहुंची।

इसके बाद दिल्ली के पुलिस अधिकारी बृहस्पतिवार अलसुबह पीड़िता को गुरुग्राम लेकर पहुंचे। पीड़िता  के बयान पर चार युवकों को नामजद कर उनके खिलाफ पोक्सो समेत अन्य धारा के तहत मामला दर्ज कर लिया गया।
... और पढ़ें

आगरा पुलिस ने गुरुग्राम से पकड़ा विदेशी 'नटवर लाल', कई राज्यों में फैला है ठगी का जाल

उद्यान विभाग के फूड प्रोसेसिंग अधिकारी अवध नारायण त्रिपाठी से 30 लाख 22 हजार 836 रुपये की ठगी का मास्टरमाइंड नाइजीरिया का नागरिक एंड्यू डेनियल निकला। रेंज साइबर सेल ने केस का खुलासा कर उसे गिरफ्तार कर लिया। 

वह अपनी महिला मित्र के साथ गुरुग्राम में रह रहा था। घोड़ों की शक्तिवर्धक दवाइयां अमेरिका में निर्यात कराने का झांसा देकर कई लोगों से ठगी कर चुका है। उसके गिरोह में राजस्थान और महाराष्ट्र के कई ठग हैं।

थाना हरीपर्वत के गांधी नगर निवासी अवध नारायण त्रिपाठी को उसने छह अगस्त 2018 को एसएमएस किया था। इसमें कहा था कि वह घोड़ों की बीमारियों की वैक्सीन बनाने वाली कंपनी में प्रोडक्शन मैनेजर है। इसके बाद त्रिपाठी का फोन नंबर लेकर बातचीत में कहा कि अमेरिका और जर्मनी में घोड़ों की शक्तिवर्धक दवाइयों की डिमांड है।
... और पढ़ें

गुरुग्राम: एमबीबीएस की पढ़ाई के लिए नर्स ने रची एक करोड़ की रंगदारी की साजिश

एमबीबीएस की पढ़ाई के लिए एक नर्स ने सेक्टर-14 निवासी कारोबारी से एक करोड़ की रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है। आरोपी नर्स ने एमबीबीएस की पढ़ाई करने के लिए साजिश रची थी। उसने दिल्ली निवासी अपने दोस्त मुस्तकीम खान के जरिए कारोबारी को कॉल कराकर उसे बेटे के अपहरण की धमकी दी। गुरुवार को कारोबारी के घर की रैकी के लिए आते वक्त अपराध शाखा सेक्टर-17 की टीम ने नर्स और उसके दोस्त को दबोच लिया। सहायक पुलिस आयुक्त (अपराध-10) शमशेर सिंह के मुताबिक आरोपियों से पूछताछ कर मोबाइल और सिमकार्ड की जानकारी जुटाई जा रही है। 

पुलिस के मुताबिक, मामला सोमवार का है। सेक्टर-14 निवासी बिजली के उत्पादों के कारोबारी सुनील पाहवा ने पुलिस को शिकायत दी जिसमें उन्होंने बताया कि उसे एक युवक ने कॉल करके एक करोड़ की रंगदारी मांगी, अगर रंगदारी नहीं दी गई तो उसके बेटे का अपहरण कर लिया जाएगा। कारोबारी की शिकायत पर सेक्टर-14 थाना पुलिस ने बुधवार रात को मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। इसमें पुलिस की अपराध शाखा सेक्टर-17 की टीम को भी जांच लगा दिया गया। साइबर सेल की मदद से नंबरों के आधार पर जानकारी जुटाकर कारोबारी के घर के आसपास सादे कपड़ों में पुलिसकर्मियों की तैनाती कर दी गई। 

तकनीकी सर्विलांस और अपने सूत्रों की मदद से गुरुवार सुबह इफको चौक से कॉल करने वाले युवक को दबोचा। आरोपी की पहचान मूलरूप से यूपी के संभल के गांव सुल्तानगढ़ निवासी मुस्तकिम खान के रूप में हुई जो दिल्ली सीमापुरी में किराये पर रहता है फिलहाल वह गाजियाबाद में जूस की रेहड़ी लगाता था। आरोपी से पूछताछ में उसने इस षडयंत्र का पूरा राज खोल दिया। उसने बताया कि मूलपूर से यूपी मथुरा के माट गांव निवासी युवती नसरीन उर्फ फिजा खान ने उसे रंगदारी में से 20 लाख के हिस्से का लालच देकर कॉल कराया। 

युवती फिलहाल गुड़गांव गांव में किराये पर रहकर नर्स का काम करती है। हम दोनों कारोबारी के घर की रैकी के लिए सेक्टर-14 मार्केट में मिलने वाले थे। पुलिस ने युवती को भी गिरफ्तार कर लिया। एसीपी क्राइम-1 शमशेर सिंह ने बताया कि युवती पहले कारोबारी के घर पर उसकी मां की देखभाल के लिए रह चुकी है। इसके चलते उसे कारोबारी के पारिवारिक जानकारी पूरी थी। इसी आधार पर उसने रंगदारी की योजना बनाई। आरोपियों से मोबाइल फोन व सिम बरामदगी के लिए पूछताछ की जा रही है। 

अगस्त में मां की देखभाल के लिए रही थी

गुरुग्राम पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक आरोपी युवती ने एसजीटी विश्वविद्यालय से नर्सिंग का कोर्स किया है। बीते साल अगस्त में कारोबारी के घर पर उसकी बुजुर्ग मां की तबियत खराब होने पर देखभाल के लिए उसने एक महीने तक काम किया था। कारोबारी के ठाठ बाठ देखकर युवती की नियत खराब हो गई और एमबीबीएस की पढ़ाई करने के लिए मोटी रकम के लिए कारोबारी से फिरौती की योजना तैयार की। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन