विज्ञापन
विज्ञापन
आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट
Janam Kundali

आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

यूपी के इस जिले में वारदात के पांच घंटे बाद ही दारोगा ने सात बदमाशों को किया था ढेर, योगी आदित्यनाथ ने किया था सम्मानित

कुख्यात विकास दुबे की नेपाल बार्डर पर तलाश, हर दीवार पर लगाया गया 'मोस्ट वांटेड' का पोस्टर

संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता की मौत, परिजनों को सता रही है इस बात की चिंता

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले के त्रिलोकपुर थाना क्षेत्र के पलेसर गांव में विवाहिता की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। उसका शव कमरे में पाया गया। मृतका के भाई ने पति सहित चार ससुरालियों के खिलाफ दहेज हत्या का केस दर्ज कराया है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा और आगे के कार्रवाई में जुट गई।
 
जानकारी के मुताबिक, क्षेत्र के ही भनवापुर मड़हा गांव निवासी रामधनी ने दो वर्ष पूर्व अपनी 24 वर्षीय बेटी लक्ष्मी उर्फ सरिता की शादी क्षेत्र के ही पलेसर गांव निवासी कौशल के साथ की थी। आरोप है कि शादी के बाद से ही परिवार के लोग दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे। उसे मारते-पीटते थे।

बुधवार की देर रात उसकी हत्या कर दी गई। शव कमरे में मिला। दूसरे के माध्यम से घटना के बारे में मायके के लोगों को जानकारी मिली है। उन्होंने तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की ही। मिले तहरीर के आधार पर त्रिलोकपुर पुलिस ने पति समेत चार लोगों पर दहेज हत्या का केस दर्ज करके मामले की जांच शुरू कर दी है।

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। एसओ त्रिलोकपुर रणधीर कुमार मिश्र ने बताया कि मृतका के परिजनों की तहरीर पर पति कौशल, ससुर संतराम, देवर मनोज और सास के खिलाफ दहेज हत्या का केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

नेपाल तक फैला है नकली दवाओं का कारोबार, विभाग के हाथ नहीं लग पा रहे आरोपी धंधेबाज

गोरखपुर शहर के अलीनगर में बीते दिनों पकड़ी गई आठ लाख की नकली दवा के मामले में आरोपी धंधेबाज विभाग के हाथ नहीं लग सके हैं। बताया जा रहा है कि पकड़ी गई नकली दवा के अलावा शेष को धंधेबाजों ने जलाया नहीं, बल्कि उसे आसपास के मेडिकल स्टोरों पर खपा दिया। विभाग की ओर से दवाओं के सैंपल भी अब तक जांच के लिए नहीं भेजे गए हैं। नकली दवा पर अंकुश लगाने में विभाग की सुस्ती की वजह से धंधेबाज फिर से सक्रिय हो गए हैं।

जानकारी के मुताबिक, एक पखवारे पूर्व बाजार में नकली दवा आने की सूचना विभाग को मिली थी। इसमें 18 लाख रुपये की दवा बेच दी गई थीं। शेष 18 लाख रुपये की दवा लखनऊ के दुकानदार ने नकली कहकर वापस कर दी। इसी बीच भालोटिया मार्केट से इन दवाओं को गायब कर दिया गया।

विभाग ने इसमें से आठ लाख रुपये की दवा तो पकड़ ली, शेष 10 लाख की दवा छोटे मेडिकल स्टोरों पर पहुंच गई है। इन दवाओं को आसपास के मेडिकल स्टोरों पर खपा दिया गया है। इनमें सबसे अधिक दवा बड़हलगंज, भटहट, गोला, पीपीगंज, कैंपियरगंज, उरुवा बाजार, चौरीचौरा, बेलघाट जैसे जगहों पर पहुंच गई है।
... और पढ़ें
दवा (प्रतीकात्मक तस्वीर) दवा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

प्रेम-प्रसंग का राजफाश की धमकी देना युवक को पड़ा भारी, दावत पर बुलाकर दोस्तों ने बेरहमी से कर दी हत्या

उत्तर प्रदेश के सिद्धर्थनगर जिले में कई दिनों से विकास हत्याकांड का चर्चा का विषय बना हुआ था। वहीं पुलिस ने भी शुक्रवार को हत्याकांड का खुलासा करते हुए तीनों हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान कई चौकानें वाले खुलासे हुए हैं।

दोस्त के प्रेम-प्रसंग की जानकारी छिपाने के एवज में बार-बार पार्टी लेना विकास की मौत का कारण बना। दोस्त ने दो अन्य साथियों के साथ मिलकर हत्या की साजिश रची। विकास को बीयर और शराब पिलाई फिर गला दबा दिया। बेहोश होने पर गला रेतकर हत्या कर दी।

एसपी रामअभिलाष त्रिपाठी ने बताया कि 19 जनवरी को इटवा थानाक्षेत्र के निर्माणाधीन आईटीआई कॉलेज में पचमोहनी निवासी विकास की हत्या कर शव छोड़ दिया गया था। हत्या धारदार हथियार से गला रेतकर की गई थी। इस मामले में अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करके मामले की जांच में टीम लगी थी। साथ में सर्विलांस की टीम प्रयासरत थी।

इसी बीच शुक्रवार सुबह मुखबिर से सूचना मिली कि हत्याकांड से जुड़े तीन लोग सेमरी चौराहे पर स्थित बैंक के पास मौजूद हैं। मामले को संज्ञान में लेते हुए पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई। तीनों संदिग्धों से पुलिस ने पूछताछ की कोशिश की तो भागने का प्रयास किए। मगर फोर्स अधिक होने के कारण पकड़ लिए गए।

पूछताछ में इन्होंने अपनी पहचान पिंटू पाल, पंकज निवासी पचमोहनी थाना ढेबरूआ और अतुल दुबे उर्फ विपिन दुबे निवासी गनवरिया पूरब थाना इटवा बताया। पूछताछ में तीनों ने विकास की हत्या की बात स्वीकारी। केस दर्ज करके तीनों को जेल भेज दिया गया।

 
... और पढ़ें

यूपी: कमरे में सो रहे पांच लोगों को जिंदा जलाने का प्रयास, ग्रामीणों ने बचाई सबकी जान

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां कमरे में सो रहे एक परिवार के पांच सदस्यों को जलाने का प्रयास किया गया। गेट को बंद कर बाहर से पेट्रोल डालकर आग लगा दी गई।

शोर सुनकर ग्रामीणों ने आग बुझाई और गेट का ताला तोड़कर सभी को सुरक्षित बाहर निकाला। घटना इटवा थानाक्षेत्र के मैलानी गांव में रविवार देर रात हुई। पीड़ित ने पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।

क्षेत्र के मैलानी गांव निवासी रामजी के मुताबिक रविवार को खाना खाने के बाद अपने परिवार के पांच सदस्यों के साथ घर के सामने स्थित कमरे में सोया था। आरोप है कि रात करीब 12 बजे कुछ लोग आए और पेट्रोल छिड़ककर बाहर चैनल गेट में ताला लगाकर आग लगा दी।

आग और धुंआ होने के कारण लोग जगे और मदद की गुहार लगाई। शोर सुनकर पहुंचे गांववालों ने बाहर का लगा ताला तोड़कर लोगों को बाहर निकालने में मदद की। पीड़ित का यह भी आरोप है कि 7.15 और 10.10 पर मोबाइल फोन पर कॉल करके जान से मारने की धमकी भी दी गई।

उन्होंने इसके लिए पूर्व में हुए झगड़े में शामिल एक व्यक्ति पर भी इस घटना में शामिल होने की शंका जताई है। इस मामले में शिकायती पत्र देकर कार्रवाई की मांग की। इस बाबत थानाध्यक्ष इटवा वेदप्रकाश श्रीवास्तव का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है, जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

अपने शहर की खबरों से अपडेट रहने के लिए पढ़ते रहिए
amarujala.comअमर उजाला गोरखपुर के फेसबुक पेज को लाइक और फॉलो करने के लिए यहां क्लिक कर सकते हैं।

  ... और पढ़ें

नेपाल से लड़की लेकर आ रहा था मानव तस्कर, एसएसबी जवानों ने पकड़ा

सिद्धार्थनगर जिले में एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है। यहां शादी का झांसा देकर नेपाल से एक लड़की को भारत ला रहा मानव तस्कर एसएसबी 43वीं वाहिनी की सीमा चौकी ककरहवा के जवानों के हत्थे चढ़ गया। पूछताछ के बाद लड़की को नेपाल पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया। आरोपी को भी कार्रवाई के लिए नेपाल पुलिस को सौंप दिया गया।

एसएसबी 43वीं वाहिनी सीमा चौकी ककरहवा के जवान मंगलवार देर शाम गश्त पर थे। सीमा स्थित पिलर संख्या 36 के पास एक लड़का तथा एक लड़की रात के अंधेरे में आते दिखाई दिए। संदेह होने पर एसएसबी के जवानों द्वारा उन्हें रोककर अलग-अलग पूछताछ की गई।

मामला मानव तस्करी से जुड़ा निकला। लड़के ने अपना परिचय सोनू लोध निवासी सड़वा वार्ड नंबर चार थाना सुसपुरा जिला रूपनदेही दिया। उनसे बताया कि वह लड़की को शादी करने का झांसा देकर भारत में ला रहा था। जिसके बारे में लड़की को कोई जानकारी नहीं थी।

एसएसबी जवानों ने आरोपी मानव तस्कर एवं नेपाली नाबालिग लड़की को अग्रिम कार्रवाई के लिए एसएसबी एवं स्थानीय मानव सेवा संस्थान ने नेपाल पुलिस को सुपुर्द कर दिया।

पकड़ने वाली टीम में एसएसबी 43वीं वाहिनी के सीमा चौकी प्रभारी ककरहवा अमृत लाल, सहायक उपनिरीक्षक नोविन गोगोई, मुख्य आरक्षी गौरव कुमार, दिनेश कुमार पांडेय, आरक्षी आनंदी लाल शामिल रहे।
... और पढ़ें

यूपी: डकैती की साजिश रच रहे बदमाशों से मुठभेड़, छह गिरफ्तार

भारत-नेपाल सीमा।
गोरखपुर के पीपीगंज में सब्जी मंडी के पास डकैती की साजिश रच रहे छह बदमाशों को पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीम ने बुधवार सुबह में हुई मुठभेड़ में दबोच लिया। इस दौरान दो अन्य बदमाश भागने में सफल रहे।  

पकड़े गए बदमाशों ने कैंपियरगंज, पीपीगंज और सिद्धार्थनगर में चोरी की घटनाओं में शामिल होने की बात स्वीकार की है। फरार दो बदमाशों की तलाश में पुलिस टीम लगाई गई है। पुलिस ने आरोपितों के पास से तमंचा, चोरी के सामान के अलावा दो लक्जरी वाहन भी बरामद किए हैं।

 पकड़े गए आरोपितों की पहचान संतकबीरनगर के मेंहदावल के उत्तर पट्टी निवासी बलराम, मेंहदावल निवासी बुद्धिराम, संजय जायसवाल, गणेश व संदीप शुक्ला और महराजगंज के पनियरा निवासी शक्ति कुमार गौड़ के रूप में हुई है।

एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने पकड़े गए बदमाशों के बारे में प्रेस कांफ्रेंस कर जानकारी दी। एसएसपी ने बताया कि सभी बदमाश मेंहदावल, संतकबीरनगर में किराए का कमरा लेकर रहते थे। वहां से अपने लक्जरी वाहन से निकलते थे और गोदामों में चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे। बलराम और शक्ति गौड़ गिरोह के सरगना हैं। इनके पास से बरामद वाहन चोरी के हैं या नहीं, इसकी भी जांच की जा रही है।
 
... और पढ़ें

यूपी: संदिग्ध हाल में मिला नवविवाहिता का शव, हत्या की आशंका

सिद्धार्थनगर जिले के गोल्हौरा थानाक्षेत्र के एक गांव में नवविवाहिता की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। उसका शव कमरे में फंदे पर लटकता मिला। मायका पक्ष ने आरोप लगाया है कि पति और ससुराली पक्ष ने हत्या करने के बाद किसी को सूचना दिए बगैर शव को जला दिया। पुलिस ने भाई की तहरीर पर दहेज हत्या का केस दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

थानाक्षेत्र के सनफेरवा बुजुर्ग गांव निवासी सुशील उर्फ पुलाऊ का विवाह क्रांति निवासी ग्राम दलपतपुर, बलदेवनगर थाना ललिया, जनपद बलरामपुर से हुआ था। तहरीर के अनुसार विवाह के बाद से ही दोनों में अक्सर झगड़ा होता रहता था।

गांववालों के मुताबिक शुक्रवार की शाम करीब चार बजे दोनों में किसी बात को लेकर विवाद हो गया। झगड़े से नाराज क्रांति मायके जाने के लिए घर से निकल गई। वह तिवारीपुर चौराहे पर पहुंच कर वाहन का इंतजार कर रही थी तभी सुशील मौके पर पहुंच गया और उसे पीटते हुए घर ले आया। रात सात बजे कमरे में क्रांति का शव फंदे पर लटकता हुआ मिला।

भाई जयचंद का आरोप है कि सुशील और ससुरालियों ने पुलिस को सूचना देने के बजाय बहन का शव कहीं ले जाकर जला डाला।

इस बाबत एसएचओ गोल्हौरा शमशेर बहादुर ने बताया कि भाई की तहरीर पर पति सुशील और दो महिलाओं के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। क्रांति का शव तलाशा जाएगा, यदि अंतिम संस्कार किया गया है तो उसके भी सुबूत जुटाए जाएंगे।






 
... और पढ़ें

ठंड में सक्रिय हो जाते हैं ये खास गिरोह, लूटपाट के लिए बेरहमी से बहा देते हैं खून

ठंड की दस्तक के साथ ही वारदातों को अंजाम देने वाले कई गिरोह भी सक्रिय हो जाते हैं। ऐसे में एडीजी जोन ने पुलिस से सतर्क रहने और विशेष जांच अभियान चलाने को कहा है। एडीजी ने रेलवे स्टेशन और सड़क किनारे झुग्गी-झोपड़ियों में रहने वालों की विशेष रूप से जांच करने के निर्देश दिए हैं।
 
दरअसल, बावरिया व कच्छा बनियान गिरोह के बदमाश दिवाली के त्योहार से ही वारदात को अंजाम देना शुरू करते हैं। इसे देखते हुए ही एडीजी जोन ने सभी पुलिस कप्तानों को यह दिशा-निर्देश जारी किया है।

जानकारी के मुताबिक, पूर्व में जोन के कई जिलों में बावरिया व कच्छा बनियान गिरोह के बदमाशों ने कई दुस्साहसिक घटनाओं को अंजाम दिया है। बावरिया गिरोह के सदस्य दिवाली की रात से लेकर कर होलिका दहन तक अलग-अलग जगहों पर जाकर वारदातों को अंजाम देते हैं। आमतौर पर ये लूट व डकैती के दौरान घर में मौजूद सदस्यों की हत्या तक भी कर देते हैं या उन्हें गंभीर रूप से घायल कर देते हैं।  

ऐसे में एडीजी ने पुलिस को सतर्क रहने का निर्देश दिया है। उन्होंने शहर के बाहरी इलाकों की नई कॉलोनियों में खासकर गश्त बढ़ाने के निर्देश दिया है। एडीजी ने कहा कि इस तरह के लोग डेरा डालकर रहते हैं और खिलौने, कागज के फूल आदि बेचने के बहाने कॉलोनियों में जाकर पहले रेकी करते हैं और फिर घटनाओं को अंजाम देते हैं। लिहाजा खिलौने बेचने वाले, भिखारियों और घुमंतू लोगों की विशेष तलाशी ली जाए।

 
... और पढ़ें

सिद्धार्थनगर: खेत में कीचड़ से लिपटा मिला अधिवक्ता के बेटे का शव, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले के डुमरियागंज थाना क्षेत्र के सेमरी गांव के सिवान में शनिवार की देर रात एक युवक का शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। मृतक की पहचान अधिवक्ता मनबहाल लाल श्रीवास्तव के पुत्र हिमांशु श्रीवास्तव (22) केरूप में हुई। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर परिजनों को घटना की जानकारी दी।

जानकारी के मुताबिक, हिमांशु शनिवार को दिन में करीब 12 बजे घर से किसी काम के लिए निकला, जिसके बाद देर शाम तक घर नहीं आया। काफी देर तक इंतजार करने के बाद परिजनों ने खोजबीन शुरू की।

खोजबीन के दौरान पता चला कि सेमरी के एक खेत में कोई युवक गिरा पड़ा है। मौके पर पहुंचे परिजनों ने बेटे को कीचड़ में लिपटा देखा तो सन्न रह गए। घटनास्थलल पर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। किचड़ से निकालते समय हिमांशु का शरीर गर्म लगने पर उसे डुमरियागंज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया।

जहां प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉक्टर एमएम अंसारी ने उसे मृत घोषित कर दिया। उधर, परिजनों ने हिमांशु की हत्या की आशंका जाहिर की है। इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक केडी सिंह ने बताया कि मामला संज्ञान में है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है, रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा।
... और पढ़ें

यूपी: मामूली बात से नाराज हुआ कलयुगी बेटा, बूढ़े बाप को पीटकर किया घायल

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां बांसी कोतवाली क्षेत्र के कमहरिया गांव में सोमवार देर शाम जमीन के बंटवारे के लिए एक व्यक्ति ने पिता को पीटकर घायल कर दिया। पिता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

कमहरिया गांव निवासी तिलकधारी (78) का आरोप है कि बड़े बेटे वीरेंद्र ने उसे पीटा, जिससे उसके सिर और गले में गंभीर चोट लगी है। तिलकधारी अपने छोटे बेटे के साथ रहते हैं, जबकि बड़ा बेटा वीरेंद्र अलग रहता है।

आरोप है कि वीरेंद्र खेत का बंटवारा करने के लिए पिता पर अक्सर दबाव बनाता था। तिलकधारी का कहना है कि वह अपनी जिंदगी में बंटवारा नहीं करेंगे। इसी मामले में पिता-पुत्र में सोमवार को विवाद हो गया और वीरेंद्र ने उसे पीटकर घायल कर दिया।

घायल अवस्था में तिलकधारी की तहरीर पर केस दर्ज कर पुलिस ने उसे इलाज व स्वास्थ्य परीक्षण के लिए बांसी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भेज दिया। सिर में गंभीर चोटें होने के कारण चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद एक्स-रे व सीटी स्कैन के लिए जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

कोतवाल शैलेश सिंह का कहना है कि पिता तहरीर के आधार पर गली-गलौज और पीटने का मामला दर्ज कर लिया गया। रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

किशोरी से दुष्कर्म के बाद पांच दिन तक पीड़ित को थाने जाने से रोका, जानिए कैसे पहुंचा जेल

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले में खेत में गई किशोरी से गांव के ही एक दबंग ने दुष्कर्म किया। पीड़ित परिवार पुलिस तक नहीं पहुंच सके इसके लिए दबंग और उसके जान पहचान वालों ने पांच दिन तक दबाव बनाया। बुधवार को मामले की जानकारी होने पर कुछ नेताओं ने एसपी को जानकारी दी। एसपी के आदेश पर बुधवार देर रात केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार किया गया और पीड़ित किशोरी को मेडिकल परीक्षण के लिए भिजवाया।
 
घटना तीन अक्तूबर शाम सात बजे की बताई जा रही है। इटवा थानाक्षेत्र के एक गांव की अनुसूचित जाति की 13 वर्षीय लड़की खेत में गई थी। आरोप है कि इस दौरान गांव के ही एक 45 वर्षीय व्यक्ति ने किशोरी से दुष्कर्म किया। बाद में धमकी दी कि यदि किसी को कुछ बताया तो उसके परिवार वालों को जान से मार देगा। किशोरी ने घर पहुंच कर मां को आपबीती बताई।

दबंग के डर के कारण परिवार वाले थाने जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे थे। यह भी आरोप है कि इस दौरान दबंग और उसके कुछ समर्थक पीड़ित परिवार पर मामले को रफा-दफा करने का दबाव बनाते रहे। यही कारण है कि पांच दिन बीतने के बावजूद पीड़ित परिवार थाने तक नहीं पहुंच सका।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X