विज्ञापन

पीलीभीत

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

खेत में खून मिलने पर गोकशी का मचा शोर, नहीं मिले अवशेष

बरखेड़ा /पीलीभीत। खेत में खून मिलने के बाद कुरैइया ताल्लुके फूटाकुआं गांव में गोकशी का शोर मच गया। काफी तलाशने के बाद भी अवशेष नहीं मिले। कुछ लोगों ने अवशेष देखे जाने की बात कही, लेकिन जब उनसे पुलिस ने संपर्क साधा तो उन्होंन इनकार कर दिया। ऐसे में मामला पूरी तरह से स्पष्ट नहीं हो सका। पुलिस को शरारत का भी अंदेशा है, लेकिन उस दिशा में भी साक्ष्य नहीं मिले हैं। फिलहाल पड़ताल की जा रही है, अभी कोई कानूनी कार्रवाई नहीं हुई है।
बरखेड़ा थाना क्षेत्र के कुरैइया ताल्लुके फूटाकुआं गांव निवासी किसान तौलेराम के खेत में धान की फसल है। बुधवार सुबह उनके खेत में चकरोड के पास खून पड़ा मिला। पड़ोस में ही भाई भगवानदास के खेत में गोबर था। इस पर गांव में गोकशी का शोर मच गया। सूचना मिलने पर एसओ आलोक मिश्र पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और जानकारी की। आसपास काफी तलाशा लेकिन अवशेष नहीं मिल सके। कुछ ग्रामीण पहले अवशेष देखे जाने की बात कहते रहे लेकिन जब उनसे पूछताछ हुई तो उन्होंने इंकार कर दिया। एसओ बरखेड़ा ने बताया कि प्रथम दृष्टया जांच करने पर मामला गोकशी का प्रतीत नहीं हो रहा है। अभी सीधे तौर पर शरारत भी नहीं कही जा सकती। इस गांव से पहले भी झूठी सूचनाएं आती रही हैं। पुलिस पड़ताल कर रही है।

सरेंडर करने आए गोमांस तस्कर को दबोचा
पीलीभीत। एक माह से फरार चल रहे शातिर गोमांस तस्कर को बरखेड़ा पुलिस ने कचहरी तिराहे से धर दबोचा। उसके न्यायालय में सरेंडर करने की सूचना मिलने पर पुलिस टीम उसकी घेराबंदी में पहले से जुट गई थी। थाने लेलाकर पूछताछ करने के बाद आरोपी को जेल भेज दिया है।
15 जून की रात कस्बा बरखेड़ा में गोवंशीय पशुओं के अवशेष मिले थे। इस मामले में पुलिस को बीसलपुर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला हबीबुल्ला खां शुमाली निवासी गोमांस तस्कर भोला उर्फ राजू पुत्र नत्थू खां की तलाश थी। उसकी धरपकड़ के लिए कई बार दबिश दी गई, लेकिन वह हत्थे नहीं चढ़ा। मंगलवार को उसके कोर्ट में सरेंडर करने की सूचना पुलिस को मिली। इस पर पुलिस ने कचहरी के आसपास घेराबंदी कर दी। जिरौनिया पुलिस चौकी प्रभारी संजीव तोमर की अगुवाई में पुलिस बल लगा रहा और आरोपी भोला को धर दबोचा। उसको गिरफ्तार करने के बाद पुलिस थाना बरखेड़ा ले आई। एसओ आलोक मिश्र ने बताया कि आरोपी शातिर गोमांस तस्कर है। उस पर बीसलपुर, बिलसंडा, बरखेड़ा, निगोही शाहजहांपुर करीब करीब 16 मुकदमे दर्ज हैं। अभी बरखेड़ा के अलावा बीसलपुर के दो, बिलसंडा के एक गोकशी के मामले में वह वांछित था। उसको जेल भेज दिया है।

गोहत्या कर लाया जा रहा मांस बरामद
पूरनपुर। गोहत्या कर लाए जा रहे करीब एक क्विंटल मांस को पुलिस ने बरामद कर लिया, लेकिन मांस ला रहे चारों आरोपी पुलिस के सामने से भाग गए। कोतवाली पुलिस ने दरोगा अब्दुल शमीद की ओर से चारों आरोपियों के खिलाफ गोहत्या की रिपोर्ट दर्ज की है।
पुलिस ने सूचना पर नगर के एक धार्मिक स्थल के समीप छापेमारी की। छापेमारी में गोहत्या कर लाया जा रहा करीब एक क्विंटल मांस बरामद किया। आरोपी पुलिस देखकर मौके से भागने मेें सफल हो गए। कोतवाली पुलिस ने दरोगा अब्दुल शमीद की ओर से नगर के मोहल्ला लाइनपार निवासी नाजिम, अफजाल और दो अन्य के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। इंस्पेक्टर आरके कश्यप ने बताया कि बरामद मांस का पशु चिकित्साधिकारी से परीक्षण करवाने के बाद नष्ट करवा दिया गया। उन्होंने बताया कि शीघ्र ही गोहत्यारों को गिरफ्तार कर कोर्ट के लिए चालान करवाया जाएगा।
... और पढ़ें

बेकाबू टेंपो 12 फुट गहरी खाई में पलटा, पांच घायल

बरखेड़ा /पीलीभीत। बरखेड़ा-नवाबगंज मार्ग पर देवहा नदी पुल के पास सवारियों भरा टेंपो अनियंत्रित होकर 12 फुट गहरी खाई में पलट गया। हादसे में टेंपो सवार पांच लोग घायल हो गए। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने घायलों को सीएचसी भिजवाया। वहां से प्राथमिक इलाज के बाद सभी को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है।
हादसा बुधवार दोपहर करीब एक बजे हुआ। बरखेड़ा से सवारियां लेकर एक टेंपो नवाबगंज के लिए रवाना हुआ। इसमें करीब दस लोग सवार थे। नवाबगंज मार्ग पर देवहा नदी पुल के नजदीक पहुंचते ही टेंपो अनियंत्रित होकर खाई में पलट गया। हादसे में टेंपो सवार सखौला (न्यूरिया) निवासी 35 वर्षीय सत्यपाल, उनकी पत्नी 32 वर्षीय तारावती, पुरानी पीलीभीत (सदर कोतवाली) निवासी 25 वर्षीय अनीता पत्नी रामकिशन, उनकी सास त्रिवेणी देवी पत्नी बाबूराम और तीन माह की बेटी गुड़िया घायल हो गई, जबकि अन्य पांच को मामूली चोट आईं। इसकी सूचना मिलने पर यूपी 100 और बरखेड़ा पुलिस मौके पर पहुंची। आनन-फानन में घायलों को सीएचसी भिजवाया गया। यहां से उन्हें जिला अस्पताल रेफर कर दिया है।
... और पढ़ें

विवाहिता से दुष्कर्म, विरोध करने पर पीटा

बीसलपुर। मोहल्ला हबीबुल्ल्ला खां शुमाली के एक युवक ने बुधवार को अपने घर में एक विवाहिता से दुष्कर्म किया। विरोध करने पर उसकी पिटाई भी की। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।
कोतवाली क्षेत्र के एक गांव की विवाहिता ने बताया कि बुधवार दोपहर वह दवा लेने बीसलपुर आई थी। सरकारी अस्पताल के गेट पर उसे एक परिचित युवक मिल गया। वह उसे चाय पिलाने के बहाने घर ले गया। आरोप है कि घर पहुंचकर युवक ने दरवाजा अंदर से बंद कर लिया और विवाहिता से दुष्कर्म किया। विरोध करने पर उसकी लातघूंसों से पिटाई कर दी। बाद में विवाहिता ने कोतवाली में तहरीर दी। एसएसआई इख्त्यिार हुसैन ने बताया कि विवाहिता की तहरीर पर दुष्कर्म और मारपीट करने के आरोप में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। आरोपी मोहल्ला हबीबुल्ला खां निवासी अवनीश वर्मा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। विवाहिता को मेडिकल परीक्षण के लिए जिला अस्पताल भेजा गया है। ब्यूरो
... और पढ़ें

पीलीभीत: बदमाशों ने सौ का नोट देकर भराया पसाच रुपये का पेट्रोल, फिर सेल्समैन से ऐसे लूटे 82 हजार

पीलीभीत में बाइक सवार दो बदमाशों ने शनिवार शाम दो सेल्समैनों को घायल कर पेट्रोल पंप से 82 हजार रुपये लूटे लिए। वारदात को अंजाम देकर लुटेरे भाग गए। सूचना मिलने पर एएसपी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। खुलासे के लिए टीमें लगाई गई हैं। लेकिन अभी तक कोई हाथ नहीं लगा है।

जहानाबाद थाना क्षेत्र के गांव भानडांडी स्थित इंशा किसान सेवा केंद्र के नाम से संचालित इंडियन ऑयल के पेट्रोल पंप पर गांव में बिंदुआ निवासी सुरेश कुमार सेल्समैन है। शनिवार शाम करीब साढ़े पांच बजे दो बाइक सवार बदमाश अपनी अपाचे बाइक पेट्रोल पंप के बाहर सड़क पर खड़ी कर बोतल में पेट्रोल लेने आए थे। उन्होंने बोतल में 50 रुपये का पेट्रोल मांगा। पेट्रोल लेने के बाद सौ रुपये का नोट दिया। इस पर सेल्समैन ने अपने बैग से 50 रुपये निकाल कर वापस करने लगा।
... और पढ़ें
जांच करती पुलिस जांच करती पुलिस

पीलीभीत:  तालाब से मिट्टी लेने जा रहा था सात साल का बच्चा, युवक ने खेत में ले जाकर किया कुकर्म

पीलीभीत: पत्नियां करती थीं रेकी, पति दोस्तों के साथ बंद घरों को बनाते थे निशाना, चार गिरफ्तार, तीन फरार

शहर में पिछले दिनों गोदावरी स्टेट कॉलोनी में एक अधिवक्ता के बंद घर से लाखों की चोरी हुई थी। पुलिस ने घटना की रिपोर्ट दर्जकर खुलासे के प्रयास शुरू किए थे। शुक्रवार को सुबह सात बजे मुखबिर की सूचना पर महिला समेत चार लोगों को पुलिस ने दबोच लिया। तीन अन्य फरार हो गए।

सदर कोतवाली पुलिस ने सुबह सात बजे मुखबिर की सूचना पर वनकटी रोड पर पुष्प कॉलेज के पास से एक महिला समेत चार लोगों को हिरासत में लिया। पूछताछ में उन्होंने चोरी की घटनाओं को स्वीकार लिया। कोतवाल अशोक पाल ने बताया कि उधमसिंह नगर के कस्बा खटीमा में इस्लाम नगर का अकील उसकी पत्नी सिम्मी, बरेली के मोहल्ला शेरगढ़ निवासी दीपक उसकी पत्नी किरण, शहर से सटे गांव नौगवा पकड़िया निवासी राजा उर्फ इरफान, जीशान, खटीमा के मोहल्ला इस्लाम नगर निवासी अशरफ चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे।
... और पढ़ें

पीलीभीत: छात्रा और असिस्टेंट प्रोफेसर के बीच हुए वार्तालाप की होगी फॉरेसिंक जांच, रिकॉर्डिंग भेजी जाएगी मुरादाबाद लैब

शहर के एक महिला डिग्री कॉलेज की छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में पुलिस छात्रा और असिस्टेंट प्रोफेसर के बीच हुए वार्तालाप की फॉरेंसिंक जांच कराएगी। पुलिस का कहना है कि पीड़िता और आरोपी के बीच फोन पर बातचीत हुई है। उसकी ऑडियो रिकॉर्डिंग साक्ष्य बनेगी। वाइस रिकॉर्डिंग मिलने के बाद फॉरेंसिंक जांच के लिए मुरादाबाद भेजी जाएगी। छात्रा ने दुष्कर्म करने और सेक्स रैकेट चलाने का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

सदर कोतवाली पुलिस ने छात्रा की तहरीर के आधार पर 21 नवंबर को रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी की गिरफ्तारी को तीन टीमें लगाई थीं। 26 नवंबर को देर शाम पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर आरोपी असिस्टेंट प्रोफेसर कामरान आलम खान को शहर के ईदगाह रेलवे क्रॉसिंग से गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद 27 नवंबर को न्यायालय ने उसे जेल भेज दिया।

मामले की विवेचना सदर कोतवाली के एसएसआई सदाकत अली कर रहे थे। पीड़िता की शिकायत पर एसपी ने विवेचक को बदलकर कोतवाल अशोक पाल को विवेचना दे दी। नए विवेचक ने संबंधित छात्राओं, कॉलेज स्टाफ समेत कई लोगों के बयान लिए। आरोपी के कक्षों की तलाशी ली। पीड़िता से मिले साक्ष्य की जांच की जा रही है।

विवेचक/कोतवाल अशोक कुमार ने बताया कि मामले की जांच गंभीरता से की जा रही है। पीड़ित ने प्रोफेसर से वार्ता की वाइस रिकॉर्डिंग देने की बात कही है। मगर अभी तक नहीं मिली है। वाइस रिकॉर्डिंग मिलने के बाद फॉरेंसिक जांच के लिए मुरादाबाद लैब भेजी जाएगी। इसके बाद जांच रिपोर्ट आने के बाद विवेचना रिपोर्ट न्याय में प्रस्तुत कर दी जाएगी।
... और पढ़ें

पीलीभीत: किसान से छह लाख की रिश्वत मांगने पर दरोगा और दो सिपाही निलंबित, आईजी के आदेश पर कार्रवाई

सामूहिक दुष्कर्म का मामला।
किसान से छह लाख रुपये की रिश्वत मांगने और भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे एसएसआई रामगोपाल और दो सिपाहियों लेखपाल और मोनू कुमार को जांच के बाद पुलिस अधीक्षक ने निलंबित कर दिया। आईजी ने इनके खिलाफ आई शिकायत पर शाहजहांपुर के सीओ से जांच कराई थी।

माधोटांडा थाना क्षेत्र के गांव पंचपेड़ा में किसान गुरुदयाल सिंह ने बताया कि उन्होंने खेत में खड़े 35 पेड़ों को काटने के लिए वन विभाग से अनुमति ली थी। तीन दिसंबर को पेड़ कटवाने के बाद जेसीबी से जड़ों को निकलवा रहे थे। कुछ जड़ें बची थीं। इसी दौरान करीब नौ बजे थाने के एसएसआई रामगोपाल, सिपाही लेखपाल और सिपाही मोनू कुमार कुछ अन्य लोगों के साथ खेत पर पहुंचे। साथ में आए लोगों को वनकर्मी बताया था।

शिकायत के अनुसार, पुलिस ने अनुमति से ज्यादा पेड़ काटने का आरोप लगाया। इस पर मौके से पेड़ों की गिनती करने की बात कही गई। मगर पुलिस ने नहीं सुना। जेसीबी चालक को हिरासत में लेकर जेसीबी और ट्रैक्टर ट्रॉली अपने कब्जे में लेकर थाने ले जाने लगे। रास्ते में बिहारी पुल के पास पुलिस ने छह लाख की रिश्वत मांगी।
... और पढ़ें

भंडाफोड़: महिला डिग्री कॉलेज का प्रोफेसर चला रहा था सेक्स रैकेट, छात्रा ने किया खुलासा

पीलीभीत शहर के प्रतिष्ठित राजकीय महिला महाविद्यालय का प्रोफेसर छात्राओं को फंसाकर सेक्स रैकट चला रहा है। रविवार को एक छात्रा ने पुलिस को तहरीर देकर इसकी शिकायत की। देर रात रिपोर्ट दर्जकर जांच शुरू कर दी गई है। 

प्रोफेसर एक दिन के अवकाश का प्रार्थना पत्र कॉलेज में छोड़कर चला गया है। कार्यवाहक प्राचार्य ने मामले की जानकारी उच्चाधिकारियों को पत्र भेजकर दी है।
नकटादाना चौराहा स्थित प्रतिष्ठित महिला महाविद्यालय में गणित विभाग में प्रोफेसर कामरान आलम खान 2016 में स्थानांतरण होकर आया था। आरोप है कि प्रोफेसर कॉलेज की छात्राओं को फंसाकर अपने कमरे पर ले जाता था और नशीला पदार्थ खिलाकर अश्लील हरकत करने के साथ ही अवैध संबंध बनाता था। 

इसके बाद छात्राओं को बाहर भी भेजा जाता है। शहर की आवास विकास कॉलोनी के एक युवक ने 20 नवंबर को इस संबंध में कॉलेज प्रशासन को फोन पर जानकारी दी। इसके बाद भी कॉलेज प्रबंधन की ओर से कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया। 

रविवार को छात्रा ने इस संबंध में सदर कोतवाली में तहरीर देकर मामले का खुलासा किया है। पुलिस ने रिपोर्ट दर्जकर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने सोमवार को कॉलेज पहुंचकर जानकारी जुटाई और आरोपी से फोन पर बात की।
... और पढ़ें

फर्जी शस्त्र लाइसेंस बनाने वाला गैंग बेनकाब, पांच गिरफ्तार

फर्जी शस्त्र लाइसेंस बनाकर असलहों की खरीद-फरोख्त कराने वाले गिरोह का खुलासा कर गाजियाबाद पुलिस ने शाहजहांपुर के ग्राम प्रधान सहित पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। मंगलवार को डीएम अजय शंकर पांडेय व एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने कलक्ट्रेट सभागार में प्रेसवार्ता कर गिरोह के राजफाश की जानकारी दी।

डीएम ने बताया कि हाल ही में शाहजहांपुर जिले के एक शस्त्र लाइसेंस का गाजियाबाद में ट्रांसफर के लिए आवेदन आया था। जांच में यूनिक आईडी मैच नहीं हुई और पता चला कि उक्त यूनिक आईडी पर कोई शस्त्र लाइसेंस जारी नहीं है। उन्होंने डीएम शाहजहांपुर को चिट्ठी लिखते हुए गाजियाबाद कप्तान को जांच कराने की संस्तुति की। जांच में लाइसेंस फर्जी निकला और गिरोह की परतें खुलती चली गईं।

गन हाउस संचालक है सरगना
एसएसपी ने बताया कि कविनगर पुलिस ने फुरकान पुत्र अब्दुल वहीद निवासी बिहारीपुरा कमला हॉल वाली गली लाल क्वार्टर के सामने थाना विजयनगर, संजय गर्ग पुत्र राजपाल गर्ग निवासी ए-3, सेक्टर-12 प्रताप विहार थाना विजयनगर, विनोद पुऊत्र तेजराम सिंह निवासी मकान नंबर-64 सर्वोदय नगर थाना विजयनगर, हरिशंकर अवस्थी पुत्र राजकुमार निवासी मोहल्ला कोट थाना खुटार जिला शाहजहांपुर व सदानंद शर्मा पुत्र रामाधार शर्मा निवासी अनाथा थाना पुआया जिला शाहजहांपुर को गिरफ्तार किया गया है। हरिशंकर अवस्थी गन हाउस संचालक और गिरोह का सरगना है, जबकि सदानंद उसका सहयोगी व मौजूदा ग्राम प्रधान है।
... और पढ़ें

पीलीभीत: दरिंदगी के बाद छात्रा की हत्या, शक के घेरे में दोस्त, दस प्रेम पत्र और मोबाइल खोल सकता है कई राज

यूपी में पीलीभीत के बरखेड़ा में दरिंदगी के बाद छात्रा की हत्या मामले में उसका दोस्त ही मुख्य आरोपी हो सकता है। छात्रा से उसकी डेढ़ साल से दोस्ती थी। छात्रा लगातार उसके संपर्क में थी। पिछले दो महीने से वह छात्रा पर दूसरे से संबंध होने का शक करने लगा था। छात्रा उससे दूरी भी बनाने लगी थी। इससे उसका शक गहरा गया और घटना वाले दिन रास्ते में रोककर बातचीत करने के लिए खेत में ले गया और उसे मार डाला। इसके बाद वह चुपचाप घर चला गया। पुलिस ने उसके घर से दस प्रेम पत्र, मोबाइल में बातचीत के संदेश और सीसीटीवी फुटेज को आधार बनाया है। 

सूत्रों का कहना है कि उसके प्रेम पत्र, मोबाइल फोन के संदेश मिले तो उस पर शक गहरा गया। मोबाइल फोन की जांच की गई तो उसमें कुछ ऐसे संदेश मिले, जिसमें लगातार छात्रा से बातचीत सामने आई। पुलिस के अनुसार प्रेम पत्र और मोबाइल के संदेश को आधार बनाकर किशोर से पूछताछ की गई तो वह टूट गया। 

सूत्रों का कहना है कि छात्रा के पास जो मोबाइल फोन था वह उसके पिता का बताया जा रहा है, जिसमें संदेश भेजने के बाद छात्रा उसे डिलीट कर देती थी। वहीं दो महीने पहले उसके दोस्त को पता चला कि वह किसी दूसरे युवक के संपर्क में है। कई बार उससे पूछा तो वह इनकार करती रही। घटना वाले दिन रास्ते में उसे रोककर खेत में ले गया जहां उससे पूछा तो उसने थप्पड़ मार दिया। इस पर गुस्से में आकर उसे मारा पीटा और गला कस कर हत्या कर दी और घर चला गया। इस संबंध में जल्द ही पुलिस खुलासा कर सकती है।
... और पढ़ें

अब पिपरा भगु गांव में मिले गोवंश के अवशेष

पीलीभीत। अधिकारियों की सख्ती के बावजूद जिले में गोकशी थमने का नाम नहीं ले रही है। लगातार इससे जुड़े मामले सामने आ रहे हैं। अब शहर से सटे पिपरा भगु गांव में गन्ने के खेत में गोवंशीय अवशेष मिलने के बाद खलबली मच गई है। सूचना पर सीओ सिटी, सुनगढ़ी पुलिस के साथ मौके पर पहुंची और जानकारी जुटाई। अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस छानबीन में जुट गई है। हालांकि अभी कोई सुराग नहीं मिल सका है।
जिला मुख्यालय से करीब पांच किलोमीटर दूर सुनगढ़ी थाना क्षेत्र के पिपरा भगु गांव में असम हाईवे से महज 100 मीटर दूर गन्ने के खेत में बृहस्पतिवार सुबह गोवंश के अवशेष पड़े मिले। ग्रामीणों ने अवशेष पड़े देखे तो गोकशी का शोर मच गया। भीड़ जमा हो गई। सूचना पुलिस को दी गई। कुछ ही देर में सीओ सिटी धर्म सिंह मार्छाल, इंस्पेक्टर सुनगढ़ी सत्यप्रकाश सिंह, पूरनपुर गेट चौकी प्रभारी जवाहर पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। मौका मुआयना करने के दौरान तीन खेतों में अवशेष मिले। ग्रामीणों से पुलिस ने जानकारी की, लेकिन कोई भी इस संबंध में जानकारी नहीं दे सका। इसके बाद पुलिस ने पशु चिकित्सक को बुलाकर अवशेषों को परीक्षण के बाद दफन करा दिया। ग्रामीणों का कहना है कि इससे पहले उनके गांव में कभी गोकशी का मामला सामने नहीं आया है। उन्होंने घटना पर नाराजगी जताते हुए आरोपियों पर शिकंजा कसने की मांग की। पुलिस ने उनको सख्त कार्रवाई का भरोसा दिलाया।

कहीं पर तो हो रही चूक
बीते माह गोकशी की घटनाएं बढ़ने पर एसपी मनोज कुमार सोनकर ने इंस्पेक्टर समेत पांच पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की थी। इसके बाद घटनाओं में कमी आई थी। अब कुछ दिनों से फिर से घटनाएं सामने आ रही हैं। ऐसे में कहना गलत नहीं होगा कि कहीं न कहीं बरती गई ढील तस्करों के लिए अभयदान साबित हो रही है।

गोकशी की हाल ही में हुई घटनाएं - 19 अप्रैल को गजरौला के बांसबोझ में बाग में मिले थे अवशेष
- 03 जून को जहानाबाद के परेवावैश्य गांव में 1.20 क्विंटल गोमांस और औजार हुए थे बरामद
- 16 जून को बरखेड़ा के मोहल्ला काहरान में मिले थे अवशेष
- 19 जून को बंद स्लाटर हाउस और भूरे खां में मिले थे अवशेष और खालें
- 20 जून को सुनगढ़ी क्षेत्र के चिड़ियादाह गांव में सात गोवंश के मिले थे अवशेष
- 23 जून को बीसलपुर के ग्यासपुर मोहल्ले में एक मकान से पांच क्विंटल गोमांस और औजार हुए थे बरामद
- 25 जून को बरखेड़ा के गाजीपुर कुंडा में खेत में मिले थे गोवंश के अवशेष
- पूरनपुर में आए दिन सामने आते हैं मामले
- 28 जून को पूरनपुर में शेरपुर सिमरिया मार्ग पर नहर के नजदीक मिले थे अवशेष
- 10 जुलाई को पूरनपुर के शेरपुरकलां निवासी मुख्तयार के खेत में मिले थे गोवंश के अवशेष और खालें
- 13 जुलाई को कोतवाली क्षेत्र के बिलगवां में मिले गोवंश के अवशेष
- 15 जुलाई को जहानाबाद के परेवा वैश्य में दो घरों में पकड़ी गई गोकशी

गोकशी की घटनाओं को लेकर लगातार कार्रवाई की जा रही है। गोमांस तस्करों की धरपकड़ कराई जा रही है। उन पर गैंगस्टर, गुंडा एक्ट से लेकर रासुका की कार्रवाई हो रही है। सुनगढ़ी में हुई घटना में भी मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। तस्करों का पता लगाकर सख्त से सख्त कार्रवाई होगी।
- मनोज कुमार सोनकर, एसपी

दूसरे दिन भी पुलिस के हत्थे नहीं चढ़े गोमांस तस्कर
बीसलपुर। कोतवाली पुलिस पर जानलेवा हमला कर भागने वाले पांचों गोमांस तस्कर अब तक पुलिस की पकड़ से बाहर हैं। इनमें से चार के खिलाफ पहले भी गाय काटने के मामले में रिपोर्ट दर्ज हो चुकी है।
कोतवाली पुलिस ने 16 जुलाई को देर रात गांव रसायाखानपुर निवासी मंगल खां के यूकेलिप्टस के बाग में छापा मारा था। पुलिस को देखकर गोमांस तस्करों ने फायर झोंक दिया था, इसमें पुलिस पार्टी बाल बाल बच गई थी। पुलिस ने घेराबंदी कर छह में से एक तस्कर को पकड़ लिया था, जबकि पांच भाग गए थे। एसएसआई इख्त्यिार हुसैन ने कोतवाली में मांस तस्करों के विरुद्ध पुलिस पार्टी पर जानलेवा हमला करने, गोहत्या करने, और शस्त्र अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज की थी। रिपोर्ट में गांव रसायाखानपुर निवासी तौफीक, कयूम, गांव मीरपुरवाहनपुर निवासी इलियास, शरीफ, शकील और जाने आलम को नामजद किया गया था। पुलिस ने मौके से गिरफ्तार तौफीक को जेल भेज दिया था। फायरिंग कर भागे बाकी तस्कर अब तक पुलिस की पकड़ से बाहर हैं। पुलिस बुधवार रात फरार मांस तस्करों की तलाश में कई जगह दबिश भी दी, लेकिन कामयाबी नहीं मिली।
... और पढ़ें

अपहरण और सामूहिक दुष्कर्म का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

बीसलपुर। कोतवाली पुलिस ने विवाहिता के अपहरण और उससे सामूहिक दुष्कर्म के मामले के मामले में नामजद मुख्य आरोपी को गुरुवार को बिलसंडा नहर तिराहे से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी की गिरफ्तारी के बाद विवाहिता के पिता ने राष्ट्रपति से की गई सपरिवार इच्छा मृत्यु की अनुमति देने की मांग वापस ले ली है।
नगर की एक विवाहिता का आठ जून को कुछ लोगों ने अपहरण कर लिया था। विवाहिता 10 जून को किसी तरह अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छूट आई थी। इस मामले में विवाहिता के पिता की ओर से 12 जून को कोतवाली में अपहरण और सामूहिक दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज की गई थी। रिपोर्ट में थाना बिलसंडा क्षेत्र के गांव घुंघौरा निवासी अर्जुन, लालाराम और बदायूं के थाना दातागंज क्षेत्र के गांव जयपालपुर निवासी संजीव को नामजद किया गया था। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया तो विवाहिता के पिता ने 15 जुलाई को राष्ट्रपति को पत्र भेजकर इच्छामृत्यु की मांग की थी। इसके बाद सक्रिय हुई पुलिस ने गुरुवार को नगर के बिलसंडा नहर तिराहे से मुख्य आरोपी गांव घुघौंरा निवासी अर्जुन को गिरफ्तार कर लिया। एसएसआई इखित्यार हुसैन ने बताया कि अर्जुन को जेल भेज दिया गया है। बाकी दोनों आरोपियों की तलाश की जा रही है। ब्यूरो
... और पढ़ें
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00