विज्ञापन
विज्ञापन
आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट
Janam Kundali

आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

यूपी: मासूम बेटी को गोद में लेकर ट्रेन के आगे कूदा, मासूम की कटकर मौत, पिता की बची जान

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। एक पिता अपनी बेटी को गोद में लेकर ट्रेन के आगे कूद गया। इससे मासूम की ट्रेन से कटकर मौत हो गई, वहीं पिता की जान बच गई।
गाजीपुर जिले के खानपुर थाना क्षेत्र के सिधौना बाजार स्थित रेलवे अंडरपास के पास शुक्रवार की शाम ये घटना हुई है। पिता ने बेटी के साथ आत्महत्या का प्रयास किया था, लेकिन बेटी की जान चली गई और पिता की जान बच गई। उधर घटना के बाद आसपास के लोगों की भीड़ लग गई।


सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। पति-पत्नी से सहमति लिखवाने और शव का पंचायतनामा कर परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया।
... और पढ़ें

यूपी के गाजीपुर में दो पट्टीदारों में खूनी संघर्ष, लाठी-डंडे और गोलीबारी में कई गंभीर

यूपी: होली पर किशोरी से मनबढ़ ने किया दुष्कर्म, पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया तो उठाया ये कदम

उत्तर प्रदेश के गीजापुर जिले में होली की रात किशोरी के साथ दुष्कर्म होने का मामला सामने आया है। पुलिस ने जब रिपोर्ट दर्ज नहीं की तो पीड़िता ने एसपी का दरवाजा खटखटाया। एसपी के आदेश पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी युवक को गिरफ्तार कर उसे संबंधित धाराओं में चालान कर दिया गया।

गाजीपुर जिले के गहमर थाना क्षेत्र के एक गांव की किशोरी ने आरोप लगाया कि गांव का एक दबंग(मनबढ़) युवक होली की रात उसके घर में उस समय घुस गया, जब वह सोई थी। युवक दबंगई दिखाते हुए जबरदस्ती उसे अपने घर ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया।

युवक के पिता ने शादी का आश्वासन देकर उसे घर भेज दिया। बाद में उसे धमकी देते हुए चुप रहने की धमकी दी। जब मामले की शिकायत करने थाना पहुंची तो आरोपी युवक की तरफ से कई लोग आ गए और मामले को रफा-दफा करने का दबाव बनाने लगे।
... और पढ़ें

यूपी: चाकू मारकर चचेरे भाई की हत्या, पारिवारिक विवाद में दिया वारदात को अंजाम 

गाजीपुर जिले के नोनहरा थाना क्षेत्र के फत्तेहपुर अटवा गांव में करकट (सीमेंट रूफिंग शीट)  लौटाने को लेकर दो पक्ष आपस में भिड़ गए। विवाद में चचेरे भाई की चाकू मारकर हत्या कर दी गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना के बाद दर्जनभर लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।
 
इलाके के फतेहपुर अटवा निवासी राशिद खान (25) और उसके चचेरे भाई शहबाज खान के बीच करकट लौटाने को लेकर गुरुवार की रात कहासुनी हो गई। लोगों के समझाने-बुझाने के बाद मामला शांत हो गया। इसके बाद दोनों परिवार के लोग सो गए। आज सुबह सात बजे शहबाज खान अपने मित्रों के साथ राशिद के घर पहुंचा और गाली-गलौज करने लगा।

मना करने पर शहबाज ने चचेरे भाई राशिद के पेट व सीने में ताबड़तोड़ चाकू से प्रहार कर दिया। परिजनों के शोर मचाने पर जब-तक आस-पास के लोग पहुंचते आरोपी और उसके साथी फरार हो गए। इधर, ग्रामीणों की मदद से परिजन घायल को उपचार के लिए जिला अस्पताल लेकर आए, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
... और पढ़ें
रोते-बिलखते परिजन रोते-बिलखते परिजन

यूपी के गाजीपुर में जमीन विवाद में बड़े भाई ने की छोटे की हत्या, 5 दिन पहले शव मकान में बंदकर फरार, ऐसे हुई जानकारी

गाजीपुर जिले के  नोनहरा थाना क्षेत्र के बवाड़ा गांव में पांच दिन पहले घर के बंटवारे के विवाद में बड़े और छोटे भाई में जमकर विवाद हुआ। इसके बाद बड़े ने छोटे भाई की धारदार हथियार से हत्या की और दरवाजे को बाहर से बंदकर फरार हो गया। शुक्रवार को दुर्गंध उठने के बाद ग्रामीणों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी।

पुलिस ने दरवाजे का ताला तोड़ा तो जमीन पर शव पड़ा मिला। इसकी सूचना उच्चाधिकारियों को दी गई। आनन-फानन में फारेंसिक टीम घटनास्थल पर पहुंच गई और मामले की छानबीन में जुट गई। उधर, पिता की हत्या की सूचना  मिलते ही उनकी बेटियां रोते-बिलखते घर पहुंचीं । मृतक की बड़ी बेटी की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर हत्यारोपी की तलाश शुरू कर दी।
 
बवाड़ा गांव निवासी गुप्तेश्वर सिंह उर्फ मुन्ना (45) निजी बस पर कंडेक्टर का काम करता  था । वह बीते 12 दिसंबर को घर पहुंचा। दूसरे दिन अचानक तीस साल पहले खेत बेचकर घर से फरार हो चुका बड़ा भाई मोहन सिंह आ धमका। रात में दोनों में घर के बंटवारे को लेकर कहासुनी हुई। विवाद काफी बढ़ गया, लेकिन इस बात की जानकारी किसी को नहीं हुई।

आशंका है कि उसी दिन रात में  मोहन ने छोटे भाई पर धारदार हथियार से वार कर मौत के घाट उतार दिया। साथ ही शव को घर में छोड़ बाहर से दरवाजे में ताला बंदकर फरार हो गया। पांच दिन बाद जब शव में सड़न से दुर्गंध आनी शुरू हुई, तो ग्रामीणों ने इसकी सूचना नोनहरा पुलिस को दी।
 
... और पढ़ें

गाजीपुर: टूटी सड़क ने ली मासूम छात्र की जान, ट्यूशन  पढ़कर घर लौटते समय ट्रक ने कुचला

गाजीपुर जिले के कासिमाबाद-सिधागर मार्ग पर महड़ौर गांव के पास एक अज्ञात ट्रक ने मासूम छात्र को कुचल दिया। उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। राहगीरों ने इसकी सूचना महरौड़ चट्टी पर मौजूद लोगों को दी। थोड़ी ही देर में सैकड़ों लोग मौके पर जुट गए। प्रत्क्षदर्शियों की मानें तो ट्रक के पहिए से छात्र का सिर बुरी तरह कुचल गया था। शरीर के चिथड़े इधर-उधर फैले हुए थे। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। हादसे के पीछे सड़क का जर्जर होना बताया जा रहा है।

कासिमाबाद थाने के जगदीशपुर अबिसहन निवासी मनोज सिंह पिछले कुछ सालों से महड़ौर मार्ग पर मकान बनाकर परिवार के साथ रह रहे हैं। वह घर पर रहकर खेती व पशुपालन का काम करते हैं। प्रतिदिन की तरह शुक्रवार की सुबह मनोज सिंह का आठ वर्षीय पुत्र राज साइकिल से ट्यूशन पढ़ने पड़ोस के गांव महड़ौर में गया था। वह ट्यूशन पढ़कर घर लौट रहा था।

इसी बीच घर से महज 50 मीटर की दूरी पर तहसील मुख्यालय से तेज रफ्तार आ रहे ट्रक ने राज को कुचल दिया। जिससे उसकी घटना स्थल पर ही मौत हो गई। मृतक केडी पब्लिक स्कूल कुसूम मोहम्मदपुर में कक्षा एक में पढ़ता था। हादसे के बाद लोग मौके पर जुट गए। इसी बीच परिजनों को भी इसकी जानकारी दी गई।
 
... और पढ़ें

मुख्तार अंसारी के करीबी प्रॉपर्टी डीलर पर गिरी गाज, जमीन की खरीद-फरोख्त में धोखाधड़ी पर मुकदमा दर्ज

मऊ जिले के सदर विधायक और बाहुबली मुख्तार अंसारी के करीबी प्रॉपर्टी डीलर के खिलाप गाजीपुर जिले के थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। प्रॉपर्टी डीलर गणेशदत्त मिश्र पर जमीन की खरीद-फरोख्त में धोखाधड़ी करने का का आरोप है।
गाजीपुर जिले के मरदह थाने के सुलेमापुर देवकली की कांति पांडेय पत्नी स्व. जयराम पांडेय की ओर से दर्ज कराई गई एफआईआर में आरोप लगाया गया है कि उनके पति पुलिस विभाग से रिटायर्ड होने के बाद गाजीपुर शहर में मकान बनाने की योजना बनाई। इसी सिलसिले में वह गणेश दत्त मिश्रा के संपर्क में आए।


गणेशदत्त ने प्लाटिंग की अपनी परियोजना बताकर एक प्लॉट उपलब्ध कराने की बात कही। उसके एवज में उसने करीब सवा छह लाख रुपये भी वसूल लिए और एक प्लॉट का बैनामा भी उनके नाम कर दिया। जब वह उस प्लॉट पर कब्जा लेने पहुंचे तो पता चला कि उसकी रजिस्ट्री पहले ही किसी के नाम हो चुकी है।
... और पढ़ें

गाजीपुर: रिजल्ट लेने गई छात्रा को प्रबंधक ने थमाया प्रेम पत्र, पिता की तहरीर पर प्रबंधक के खिलाफ मुकदमा दर्ज

प्रतीकात्मक तस्वीर
गाजीपुर जिले के दुल्लहपुर थाना क्षेत्र के एक विद्यालय में परीक्षा परिणाम लेने गई छात्रा को प्रबंधक ने प्रेम पत्र थमा दिया। छात्रा के पिता की तहरीर पर पुलिस ने मंगलवार को मुकदमा दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी। 

इलाके की छात्रा कक्षा नौ में पढ़ती है। वह दो नवंबर को परीक्षा परिणाम लेने विद्यालय गई थी। छात्रा के अनुसार, उसने प्रबंधक डॉ. विजय यादव से जब रिजल्ट मांगा तो उसने एक पत्र पकड़ा दिया। जब छात्रा ने पूछा कि गुरु जी यह क्या है, तो उसने प्रेम पत्र बताते हुए इसका जवाब मांगा।

इस पर छात्रा रोती हुई घर पहुंची और परिजनों को इसकी जानकारी दी। इसके बाद परिवार के सदस्य थाने पहुंचे। वहां प्रबंधक के खिलाफ तहरीर देने के साथ सीएम पोर्टल पर भी शिकायत की। सीएम पोर्टल पर शिकायत की जानकारी होते ही पुलिस ने मंगलवार को मुकदमा दर्ज कर लिया। थानाध्यक्ष जितेंद्र बहादुर सिंह ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर आरोपी प्रबंधक की तलाश शुरू कर दी गई है।  
... और पढ़ें

यूपी: मलमास के अंतिम दिन गंगा नहाने जा रही तीन महिलाओं की ट्रक से कुचलकर मौत, हादसे में चार घायल

यूपी के गाजीपुर जिले के जमानिया कोतवाली क्षेत्र के मंझरिया गांव के सामने ट्रक से कुचलकर तीन महिलाओं की मौत हो गई। जबकि चार गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसे के बाद  गुस्साए ग्रामीणों ने जमानिया-गाजीपुर मार्ग जाम कर दिया। उधर, हादसे की जानकारी मिलते ही एसडीएम सत्यप्रिय सिंह और सीओ मौके पर पहुंच गए। लेकिन ग्रामीण मौके पर डीएम-एसपी को बुलाने की जिद्द पर अड़े हुए हैं।

मंछरियां गांव निवासी ज्योतिया देवी (60), किरन (14), अंजलि यादव (16), मीरा (45), मौसम यादव(17), भागमनी (55) और राधिका देवी (50) मलमास के अंतिम दिन गंगा नहाने जा रही रही थीं। इसी दौरान तेज रफ्तार अनियंत्रित ट्रक ने ज्योतिया देवी और मीरा को कुचलते हुए अन्य पांच को भी धक्का मार दिया। हादसे में इलाज के लिए वाराणसी जा रही एक और घायल महिला ने दम तोड़ दिया।
... और पढ़ें

गाजीपुर: रात में घर से किशोरी को किया अगवा, शादी का झांसा देकर किया सामूहिक दुष्कर्म, मुकदमा

गाजीपुर जिले के नंदगंज थाना क्षेत्र के एक गांव की किशोरी का अपहरण कर दुष्कर्म करने का मामला शनिवार की देर रात प्रकाश में आया। पीड़ित परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्जकर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी। साथ ही पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए अस्पताल भेज दिया गया।         

पीड़िता के भाई ने देर शाम पुलिस को तहरीर देकर बताया कि एक अक्तूबर की रात बहन घर में सोई थी। रात में तीन युवकों ने उसे घर से अगवा कर लिया था। काफी तलाश करने के बाद वह अगले दिन दो अक्तूबर को जौनपुर जनपद के पतरही गांव में मिली थी। किशोरी ने परिजनों को आप बीती सुनाई।

उसने बताया कि एक युवक ने अपने दो साथियों के सहयोग से अगवा किया और शादी का झांसा देकर दुष्कर्म किया। थानाध्यक्ष राकेश सिंह ने बताया कि तहरीर मिली है। तीनों युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। किशोरी को मेडिकल जांच के लिए अस्पताल भेज दिया गया है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
... और पढ़ें

यूपी: मुख्तार अंसारी गैंग पर शिकंजा, मऊ विधायक  समेत 8 पर गैंगेस्टर, ठेके के विवाद में हत्या का मामला

मऊ विधायक मुख्तार अंसारी पर आजमगढ़ जनपद पुलिस ने शिकंजा कसना तेज कर दिया है। जिले के तरवां थाना क्षेत्र में हुए हत्या के एक मामले में पुलिस ने मुख्तार समेत उसके 8 सहयोगियों के खिलाफ गैंगेस्टर की कार्रवाई की है। एसपी के निर्देश पर तरवां थाने में गैंगेस्टर का मुकदमा पंजीकृत करने के साथ ही गैंगशीट खोलने की कवायद भी शुरू कर दी गई है। ताकि मुख्तार व उसके सहयोगियों पर आगे की कार्रवाई की जा सके।

दरअसल, छह फरवरी 2014 को तरवां थाना क्षेत्र के ऐराकला गांव में निर्माणाधीन एक सड़क के ठेके को लेकर मुख्तार गैंग के लोगों ने ठेकेदार राजेश सिंह निवासी अहिराबाद थाना सरायलखंसी, जिला मऊ पर 6 फरवरी 2014 को ताबड़तोड़ फायरिंग की थी। इस दौरान राजेश सिंह के दो मजदूरों राम इकबाल पुत्र मोहन निवासी सरदहा थाना मोच जिला गया बिहार तथा पांचू पुत्र रामजतन को भी गोली लगी थी।

इसमें राम इकबाल की मौत हो गई थी। घटना के बाबत ठेकेदार राजेश सिंह ने विधायक मुख्तार समेत 15 के खिलाफ तरवां थाने में नामजद मुकदमा दर्ज कराया था।

मुकदमा स्पेशल एमपी-एमएलए कोर्ट में चल रहा था, जिसमें मुख्तार के अलावा मऊ जिले के सरायलखंसी थाना क्षेत्र के कोथौली गांव निवासी हरेंद्र सिंह, अशोक सिंह, मेंहनगर के वीरपुर गांव निवासी सोहन पासी, मऊ के चिरैैयाकोट थाना क्षेत्र के मोहावापुर गांव निवासी राजन पासी, तरवां के रासेपुर निवासी झिन्नू सेठ, मेंहनगर के वीरपुर गांव निवासी श्याम बाबू पासी, मऊ के चिरैयाकोट थाना क्षेत्र के रायपुर सरसेना गांव निवासी छोटा पंकज, अनुज कन्नौजिया, मऊ के चिरैयाकोट थाना क्षेत्र के रायपुर पलिया गांव निवासी राजेंद्र पासी, जहानागंज के मोहसिल गांव निवासी हरिकेश यादव, मऊ के सराय लखंसी थाना क्षेत्र के अहिराबाद गांव निवासी राजेश उर्फ राजन सिंह, उमेश सिंह, सिहारी राजभर, अभिशेष मिश्र शामिल थे। 
 
... और पढ़ें

यूपी: मुख्तार के करीबियों के 10 शस्त्र लाइसेंस निलंबित, पुलिस ने मालखाने में कराया जमा

गाजीपुर जिला प्रशासन मऊ विधायक मुख्तार अंसारी के करीबियों, रिश्तेदारों और परिजनों पर लगातार शिकंजा कस रहा है। रविवार को विधायक के सहयोगियों और करीबियों के 10 शस्त्र लाइसेंस निलंबित कर दिए गए। इसके साथ ही शस्त्रों को कोतवाली के मालखाने में जमा करा लिया गया है।  

जिला प्रशासन की ओर से मुख्तार अंसारी गिरोह के करीबी बरबरहना निवासी मोहम्मद आजम सिद्दीकी की एक पिस्टल व एक रायफल, मोहम्मद शादाब सिद्दीकी की एक रायफल और एक पिस्टल, साकिब सिद्दीकी की एक पिस्टल एवं एक एसबीबीएल गन, निगार बेगम की एक पिस्टल, कैसर जहां की एक पिस्टल, मोहम्मद साजिद की एक पिस्टल और एक रायफल का लाइसेंस निलंबित कर दिया गया।

साथ ही शस्त्रों को कोतवाली में जमा कर लिया गया। मालूम हो कि दो अक्तूबर को मोहम्मद आजम सिद्दीकी समेत इनके परिवार के छह लोगों के सात शस्त्र लाइसेंस निलंबित करने के साथ शस्त्र मालखाने में जमा कराए गए थे। 
 
जिला और पुलिस प्रशासन की ओर से लगातार हो रही कार्रवाई से मुख्तार अंसारी के करीबियों में हड़कंप की स्थिति बनी हुई है। इस संबंध में एसपी सिटी गोपीनाथ सोनी ने बताया कि पुलिस टीम द्वारा शस्त्रों को मालखाने में जमा करा लिया गया है। 

अब तक 47 से ऊपर निलंबित हो चुके हैं शस्त्र लाइसेंस
 

जिला प्रशासन की ओर से बीते दो माह में मुख्तार अंसारी के करीबियों के 47 से ऊपर शस्त्र लाइसेंस निलंबित किए जा चुके हैं। इसे विभिन्न थानों के मालखानों में जमा भी कराया जा चुका है। इसके अलावा लगातार ऐसे लोगों की सूची भी बनाई जा रही है, जो मुख्तार गिरोह के करीबी और सहयोगी हैं। 

... और पढ़ें

यूपी: शराब पीकर पति मार रहा था पत्नी को, बेटे को नहीं हुआ बर्दाश्त पिता को मारा, हो गई मौत

करीमुद्दीनपुर थाना क्षेत्र के वीरभानपुर गांव में घरेलू विवाद में नाबालिग पुत्र ने पिता की हत्या कर शव आंगन में दफना दिया। रविवार को दुर्गंध आने पर पड़ोसियों ने  जानकारी पुलिस को दी। रात करीब दस बजे पुलिस ने शव बाहर निकाल कर कब्जे में ले लिया। आरोपी पुत्र को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

वीरभानपुर के रहने वाले रामअशीष मिश्रा (46) अक्सर शराब पीकर घर आते थे। 26 सितंबर को इसी को लेकर घर में विवाद हो गया। उस दौरान रामअशीष ने पत्नी की पिटाई कर दी थी। इससे गुस्साए नाबालिग पुत्र ने पिता की पिटाई कर दी। इससे उनकी मौत हो गई।

घटना की जानकारी किसी को न हो, इसके लिए आरोपी ने शव घर के आंगन में ही दफना दिया। रविवार रात तेज दुर्गंध उठने से पड़ोसियों को कुछ शंका हुई। उन्होंने जानकारी पुलिस को दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव बाहर निकलवाकर कब्जे में ले लिया।

थानाध्यक्ष कृष्ण कुमार सिंह ने बताया कि पारिवारिक विवाद में पुत्र ने पिता की हत्या कर दी। मामले की छानबीन की जा रही है। आरोपी को हिरासत में लिया गया है।  

 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X